मंगलवार, 15 जून 2021

गाजियाबाद: 24 घंटे में 18 नए कोरोना संक्रमित मिलें

अश्वनी उपाध्याय         

गाजियाबाद। 24 घंटों की अवधि में गाज़ियाबाद में 18 नए मरीज मिले और 19 को डिस्चार्ज किया गया। जिलें में 1 मरीज की मृत्यु दर्ज की गई और अब 243 सक्रिय मरीज हैं।

गौतम बुद्ध नगर में 15 नए मरीज मिले और 22 को डिस्चार्ज किया गया। जनपद में अब 169 सक्रिय मरीज हैं।

मेरठ जिले में 19 नए मरीज मिले और 46 को डिस्चार्ज किया गया। जनपद में 3 मरीज की मृत्यु दर्ज की गई और अब 262 सक्रिय मरीज हैं।

बुलंदशहर जिले में 8 नए मरीज मिले और 29 को डिस्चार्ज किया गया। जनपद में अब 150 सक्रिय मरीज हैं।


डीएम सुजीत ने अलवारा झील का निरीक्षण किया

जिलाधिकारी ने अलवारा झील का किया निरीक्षण
कौशाम्बी। जिलाधिकारी सुजीत कुमार ने मंगलवार को अलवारा झील का निरीक्षण किया। निरीक्षण में उन्होंने झील को देखा एवं उसके किनारे-किनारे वृक्षों का रोपण कराने तथा झील का सौन्दर्यीकरण कराये जाने का निर्देश प्रभागीय वनाधिकारी को दिया है। जिलाधिकारी ने बाढ़ के समय झील के पानी निकासी के लिए भवनसुरी से यमुना नदी तक नाले का निर्माण मनरेगा से कराये जाने का निर्देश खण्ड विकास अधिकारी सरसवां को दिया है। उन्होने झील के आस-पास साफ-सफाई कराये जाने एवं उसे आकर्षक बनाये जाने का भी निर्देश दिया है। इस अवसर पर उपजिलाधिकारी मंझनपुर राजेश चन्द्रा, तहसीलदार, परियोजना निदेशक, खण्ड विकास अधिकारी सरसवां सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित रहे।
उज्ज्वल केशरवानी

तमाम देश चुप्पी साधे हुए हैं, कब नींद से जागोगे

सत्येंद्र पंवार            
गाजियाबाद। बहुत जनों का दुश्मन कांग्रेस, सपा, बसपा, बीजेपी, आम आदमी पार्टी देश की व्यवस्था बिगाड़ने के लिए कार्यरत है। कोई सबूत देने की जरूरत नहीं क्योंकि सब भारतीयों के सामने हैं। बहुजन मुक्ति पार्टी के प्रदेश मीडिया प्रभारी एवं मेरठ मंडल अध्यक्ष आर डी गादरे ने जन जागरण अभियान के तहत लोगों को जागरूक करते हुए कहा कि हम लोग बुरी तरीके से षड्यंत्र में फंसे हुए हैं। माइनॉरिटी को बुरी तरह षड्यंत्र कार्यों ने फंसा रखा है और उनके षड्यंत्रो का जाल आए दिन नए रूप से सुना बुना जा रहा है। तीन परसेंट के यहूदी ब्राह्मणों ने देश को बेच डाला और 80% पर काबिज है, लेकिन पूरा तमाम देश चुप्पी साधे हुए हैं और कब जागोगे, बाहर निकलो। भारतवासियों जंग लड़ो इन बेईमानों से अन्यथा आने वाली नस्लें हमें कोसेगी, कि हमारे बाप-दादाओं ने हमें गुलाम बना कर रह गए और खुद आजादी में जियें। लेकिन, मैं कहता हूं कि यह आजादी भी झूठी है। हमें एक आजादी की ओर लड़ाई लड़नी होगी और वह तीन परसेंट ब्राह्मणवाद, मनुवाद, पूंजीवाद और मनुस्मृति के खिलाफ खड़ा होना होगा। एक क्रांति, एक आंदोलन, एक प्रयास और करना होगा। लाशों के ढेर देखकर भी ना सुधरें, तो कब सुधरेंगे। कोरोना व ऑक्सीजन की कमी जबरदस्त षड्यंत्र था और है।
करोना अर्थात सर्दी-खांसी, जुखाम-बुखार सामान्य फ्लू बिमारी हैं। आज से नहीं सदियों से चला आ रहा है। इससे डरने वाला व्यक्ति वह संविधान और समाज की रक्षा कभी नहीं कर सकता, क्योंकि यह सब षड्यंत्र रचा गया है। भारत देश को गुलाम बनाए रखने के लिए वर्तमान में जो मर रहे हैं वह डर और भय की वजह से  मर रहे हैं और कुछ को जबरन मारा जा रहा है। 2022 और 2024 के बाद ब्राम्हण वादी शक्तियां पूर्ण रूप से हमेशा के लिए ईवीएम मशीन के माध्यम से सत्ता हासिल करें लेगी तो भारत में फिर कितनी मौत होगी ? निरंतर लगातार फिर कोई गिनती भी नहीं गिन पाएगा ? इसलिए डर और भय को निकालिए और जमीनी हकीकत पर समाज में लोगों को जागरूक करने का सिस्टम बनाइए और जागरूक करिए। 
आंदोलन को चला कर ईवीएम मशीन को बंद कराईये,रोकिए। नहीं तो सभी संगठन और पार्टी तो नष्ट होगी ही उसके साथ में समाज को भी नष्ट कर दोगे। सभी संगठन और पार्टी के लोग गजब हो आप सभी एससी, एसटी, ओबीसी  माइनॉरिटी के संगठन पार्टी के  सभी सुप्रीमो लोग एक तरफ ब्राह्मणवाद के विपरीत आंदोलन चला रहे हो कि  सिर्फ नाटक कर रहे हो और दूसरी तरफ ब्राह्मणवाद के द्वारा बनाये गये षड्यंत्र में फस कर उसका साथ देना यह कौन सी गुलामी है और सोचो हजारों साल से ब्राह्मणवाद आपके पक्ष में कोई सही कार्य किया है सोच समझ कर बताना हो सकता है। हमारी बात आप लोगों को समझ में नहीं आयेगा लेकिन जब समय बीत जाएगा तब एहसास होगा लेकिन तब तक देश अनन्त दुरीयो तक गुलाम होने का रास्ता साफ हो जाएगा जय भीम! जय मूलनिवासी! जन जाग्रति हेतु एड मुकेश कुमार प्रदेश उपाध्यक्ष एवं पश्चिमांचल जोन प्रभारी गाजियाबाद जिला प्रभारी एड रामोतार महानगर अध्यक्ष अनिल मकवाना जिलाध्यक्ष एड सुभाष चन्द मुखी मोदीनगर विधान सभा प्रभारी विजय कश्यप मदनलाल वीरभान बाल्मीकि एड आवेश अहमद राजेन्द्र प्रसाद मौर्य कमल कान्त शहजाद अलवी मेहरवान सैफी राजू रंजन प्रसाद आसिफ अन्सारी सुरेश गौतम राम शरण गौतम  सुनील सैनी हरीश कश्यप कलीमुल्लाह सैफी हाजी अतीक अहमद रंगरेज़ आदि मौजूद रहे।

बंगाल: चुनाव खत्म, राजनीतिक हलचल लगातार जारी

राणा ओबराय             
कोलकाता। पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव खत्म होने के बाद भी राजनीतिक हलचल लगातार जारी है। सबसे ज्यादा मुश्किल इस वक्त भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के खेमे में है। जहां नेता लगातार साथ छोड़ रहे हैं। इस सबके बीच बीते दिन पार्टी के नेता शुभेंदु अधिकारी की अगुवाई में पार्टी के विधायकों ने राज्यपाल जगदीप धनखड़ से मुलाकात की और राज्य में चुनाव बाद हुई हिंसा का मसला उठाया। हालांकि, इस मुलाकात के दौरान बीजेपी के करीब दो दर्जन विधायक गायब रहे, जिसके बाद अटकलें तेज हो गई हैं। राज्यपाल के साथ सुवेंदु की बैठक से गायब रहे 24 भाजपा विधायक विधानसभा में बीजेपी के नेता शुभेंदु अधिकारी सोमवार को भारतीय जनता पार्टी के 50 विधायकों के साथ राज्यपाल से मिले। 

लेकिन इस वक्त पश्चिम बंगाल विधानसभा में बीजेपी के 75 विधायक हैं यानी 25 विधायक शुभेंदु अधिकारी के इस शक्ति प्रदर्शन में शामिल नहीं रहे। जो विधायक नहीं पहुंचे उनमें से ज्यादातर उत्तर बंगाल से आते हैं। यहीं पर सवाल उठने लगा कि क्या नदारद विधायक टीएमसी में शामिल होने की मंशा रखते हैं। क्योंकि पिछले कई दिनों से और खासतौर पर मुकुल रॉय के टीएमसी में शामिल होने के बाद से अटकलें बढ़ गई हैं कि बीजेपी के कई विधायक टीएमसी में शामिल हो सकते हैं। जब इसको लेकर शुभेंदु अधिकारी से सवाल हुआ तो उन्होंने कहा कि इसमें सभी लोगों को नहीं बुलाया था। 2021 विधानसभा चुनाव के दौरान बड़ी भूमिका में नजर आने वाले मुकुल रॉय ने अब भारतीय जनता पार्टी का साथ छोड़ दिया है। 

बीते दिनों ही वह ममता बनर्जी की मौजूदगी में वापस टीएमसी में शामिल हो गए। टीएमसी ने इसका इनाम भी दिया और मुकुल रॉय को राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बना दिया गया। अब इस तरह के कयास लगाए जा रहे हैं कि बीजेपी के कई नेता वापस टीएमसी में जा सकते हैं। इनमें राजीब बनर्जी का नाम सबसे आगे चल रहा है। जो चुनाव से पहले ही टीएमसी छोड़ बीजेपी में आए थे। लगातार पार्टी छोड़ रहे नेताओं को लेकर बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष ने भी बयान दिया है। दिलीप घोष का कहना है कि बीजेपी में रहने के लिए त्याग करना होगा। जिन्हें सिर्फ सत्ता चाहिए वो लोग जा सकते हैं।

भाजपा समर्पित वीरेंद्र को कोषाध्यक्ष की कमान सौंपी

राणा ओबराय              
चंडीगढ। भाजपा प्रदेशाध्यक्ष ओपी धनखड़ ने भाजपा समर्पित कार्यकर्ता वीरेंद्र गर्ग को प्रदेश सह कोषाध्यक्ष की कमान सौंपी है। पूर्व में मीडिया विभाग देख रहे गर्ग ने अपने दायित्व को बड़ी ईमानदारी व मेहनत के साथ निर्वहन करते हुए शिखर तक पहुंचाया था। अब पुनः प्रदेश अध्यक्ष धनखड़ ने गर्ग के पूर्व के किये कार्य को देखते हुए उन्हें प्रदेश भाजपा के सह कोषाध्यक्ष की महत्वपूर्ण जिम्मेदारी सौंपी है। 
अपनी नियुक्ति पर गर्ग ने कहा प्रदेश संगठन ने मुझ पर विश्वास करते हुए जो जिम्मेदारी सौंपी है। उसको मैं पूरी निष्ठा व ईमानदारी से निभाउंगा। इस अवसर पर वीरेंद्र गर्ग ने विशेष रूप से हरियाणा भाजपा अध्यक्ष ओमप्रकाश धनखड़, मुख्यमंत्री मनोहरलाल केंद्रीय राज्य मंत्री रतन लाल कटारिया, हरियाणा स्पीकर ज्ञान चंद गुप्ता सहित पार्टी संगठन के शीर्ष नेतृत्व का हार्दिक धन्यवाद व आभार प्रकट किया।

सीबीआई जांच कराएं जाने की मांग, पत्रकार अड़े

बृजेश केसरवानी          
प्रयागराज। प्रतापगढ़ में एबीपी नेटवर्क के संवाददाता सुलभ श्रीवास्तव की संदिग्ध मौत की एसआईटी या फिर सीबीआई जांच कराए जाने की मांग को लेकर मीडिया कर्मियों व आम नागरिकों की आवाज लगातार बुलंद होती जा रही है। इस मामले में मीडिया कर्मियों का गुस्सा लगातार बढ़ता जा रहा है। प्रयागराज के मीडिया कर्मियों ने मामले की निष्पक्ष व पारदर्शी मांग को लेकर आज सड़कों पर उतर कर प्रदर्शन किया और काली पट्टी बांधकर मौन रहते हुए अपना विरोध जताया। प्रदर्शन में शामिल मीडिया कर्मियों का कहना है कि जब परिवार और प्रतापगढ़ के नागरिकों को स्थानीय पुलिस पर कोई भरोसा ही नहीं है, तो फिर ऐसी जांच का कोई औचित्य नहीं है। 
प्रयागराज के मीडिया कर्मियों ने सुलभ श्रीवास्तव की संदिग्ध मौत की जांच एसआईटी या फिर सीबीआई से कराए जाने की मांग की है तो साथ ही उनके परिवार को आर्थिक मदद देने और पत्नी को सरकारी नौकरी दिए जाने की मांग की है। प्रदर्शन में शामिल प्रयागराज के मीडिया कर्मियों का कहना है। जब तक यह मांगे पूरी नहीं होंगी। तब तक उनका यह आंदोलन जारी रहेगा।

अध्यक्ष के नेतृत्व में स्वास्थ्य केंद्र का निरीक्षण किया

बृजेश केसरवानी          
प्रयागराज। भाजपा महानगर अध्यक्ष गणेश केसरवानी के निर्देश पर मंडल अध्यक्ष संजय कुशवाहा एवं मंडल प्रभारी ओमप्रकाश गौतम के नेतृत्व में नीम सराय नगरीय स्वास्थ्य केंद्र का निरीक्षण किया गया और डॉक्टर श्रृद्धा यादव से मुलाकात करके वहा की मूलभूत सुविधाओ के विषय की जानकारी प्राप्त की गई।
इस अवसर पर मुख्य रूप से उपस्थित रहे अनुसूचित जाति मोर्चा के महानगर अध्यक्ष कविराज, मंडल  अध्यक्ष संजय कुशवाहा, ओमप्रकाश गौतम, सतेन्द्र शर्मा शिवाकांत पांडेय, केशव लाल मिश्रा, आदित्य तिवारी उपस्थित रहे।

नशीली पार्टी अपने शबाब पर थी, पुलिस की छापेमारी

कविता गर्ग   

मुंबई। एक अपकमिंग बॉलीवुड एक्‍ट्रेस को गिरफ्तार किया गया है । ये एक्‍ट्रेस अपने जन्मदिन पर ड्रग्स के साथ पार्टी कर रही थी, पार्टी जब अपने शबाब पर थी, तभी पुलिस ने छापा मार दिया। पुलिस को किसी ने इस पार्टी के बारे में खुफिया तौर पर खबर दे दी थी। इस सूचना के आधार पर पुलिस की टीम ने देर रात होटल में छापा मारा, अभिनेत्री को उसके कुछ और दोस्तों के साथ गिरफ्तार कर लिया गया है। एक्‍ट्रेस की पहचान नाइरा नेहल शाह के रूप में हुई है।

मामला मुंबई के सांताक्रुज पुलिस थाना इलाके का है, यहां एक फाइव स्टार होटल में बॉलीवुड अभिनेत्री नेहल शाह अपना जन्मदिन मना रही थी । पुलिस ने रविवार मिडनाइट में इस पार्टी का भंडाफोड़ किया । एक पुलिस अधिकारी ने मामले में जानकारी देते हुए बताया कि, रविवार देर रात करीब तीन बजे एक फाइव स्टार होटल में रेड की गई । यहां बॉलीवुड में छोटे मोटे रोल करने वाली अभिनेत्री और उसके साथी को ड्रग्स का सेवन करते हुए रंगे हाथ गिरफ्तार किया गया।

सांताक्रुज पुलिस ने मामले में एनडीपीएस एक्ट के तहत केस दर्ज किया है। सांताक्रुज पुलिस के वरिष्ठ अधिकरी ज्ञानेश्वर गनोरे को किसी ने गुप्ता सूचना दी थी कि एक बॉलीवुड अभिनेत्री पांच सितारा होटल में अपने दोस्तों के साथ पार्टी कर रही है, जिसमें ड्रग्स का इस्तेमाल किया जा रहा है। इसी सूचना के आधार पर मुंबई पुलिस फाइव स्टार होटल पहुंची और बॉलीवुड एक्ट्रेस को रंगे हाथों पकड़ लिया गया ।

पुलिस के मुताबिक, अभिनेत्री नेहल शाह होटल के एक रूम में चरस का इस्तेमाल भी कर रही थी। पुलिस ने यहां छापेमारी के दौरान अभिनेत्री नेहल और उसके दोस्त आशिक हुसैन को गिरफ्तार कर लिया । दोनों ही वहां पर चरस का सेवन करते हुए पकड़े गए । दोनों को सोमवार को कोर्ट में पेश किया, जहां कोर्ट ने उन दोनों को जमानत पर रिहा कर दिया। पुलिस मामले में इनके कनेक्‍शन तलाश रही है, आपको बता दें नाइरा नेहल शाह दो तेलगु फिल्मों में भी काम कर चुकी है।

मां और नाबालिग बेटी के साथ तीन ने गैंगरेप किया

अतीक अहमद    

मुरादाबाद। उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद के थाना बिलारी कोतवाली इलाके से एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। जहां पर एक महिला और उसकी नाबालिग 11 साल की बेटी के साथ तीन दबंगों ने गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया। बताया जा रहा है कि इन बदमाशों ने तमंचे की नोक पर महिला के पति के हाथ-पैर बांधे और उसके सामने ही उसकी पत्नी और नाबालिग बेटी के साथ गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया। साथ ही शिकायत करने पर जान से मारने की धमकी देते हुए फरार हो गए।

वहीं इस मामले पर पीड़ित बच्ची ने बताया कि जब वो लोग रात में घर के आंगन में सो रहे थे तो कुछ लोग मेरी मम्मी और पापा को अंदर ले गए। फिर मुझे पकड़ लिया और मेरे साथ बदतमीजी करने लगे। उन सब ने मिलकर मुझे, मम्मी और पापा को खूब मारा। जब वो मेरे सामने आएंगे तो मैं उन्हें पहचान लूंगी। पापा को तखत से बांध दिया फिर तीनों ने हमारे साथ बदतमीजी की।

इसके बाद हम सब थान गए दारोगा ने पापा को बोला कि तू झूठ बोल रहा है। मैं अलग बैठी रही मुझसे किसी ने कोई बात नहीं की। इसके अलावा पीड़ित महिला ने बताया कि उसके पति को जमकर मारा पीटा और उनके हाथ पैर बांध दिए। इसके बाद मेरे सामने मेरी बेटी के साथ रेप किया और फिर मेरे साथ। इस दौरान मेरी नाबालिग बेटी चिल्लाती रही। लेकिन उस पर इन बदमाशों को बिल्कुल भी तरस नहीं आया।

बताया जा रहा है कि जब इस गैंगरेप की घटना की शिकायत पीड़ित परिवार ने थाना कोतवाली बिलारी पुलिस से की तो उनकी कहीं, कोई सुनवाई नहीं हुई। फिर पीड़ित परिवार ने पुलिस के आला अधिकारियों से मदद की गुहार लगाई। इसके बाद ही आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज हो सका। पुलिस ने गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है और अन्य की तलाश जारी है। पीड़ित परिवार दबंगों के खौफ से काफी डरा हुआ है।

वहीं इस मामले में सीओ बिलारी देश दीपक ने बताया कि थाना बिलारी के देव पुर नगला में एक व्यक्ति ने तहरीर दी है कि जिसमें उसने बताया है कि बीते शनिवार और रविवार की मध्य रात्रि में 12 बजे से 1:30 बजे के बीच में तीन अज्ञात व्यक्तियों ने उसकी पत्नी और 11 साल की बेटी के साथ गैंगरेप किया। इस संबंध में थाना बिलारी पर तहरीर के आधार पर मुक़दमा पंजीकृत कर लिया गया है। इस संबंध में एक अभियुक्त की गिरफ्तारी कर ली गई है अन्य अभियुक्तों की गिरफ्तारी शीघ्र की जाएगी।

बुजुर्गों की पिटाई करने वाले दो और गिरफ्तार किए

अश्वनी उपाध्याय   
गाजियाबाद। सोशल मीडिया पर बुज़ुर्ग के साथ मारपीट व अभद्रता के वायरल वीडियो के संबंध में जांच करने पर पाया कि पीड़ित अब्दुल समद दिनांक 5 जून को बुलंदशहर से बेहटा, लोनी बॉर्डर आया था। जहां से एक अन्य व्यक्ति के साथ मुख्य आरोपी परवेश गुज्जर के घर बंथला,लोनी गया था। परवेश के घर पर कुछ समय में अन्य लड़के कल्लू, पोली, आरिफ, आदिल व मुशाहिद आदि आ गए और परवेश के साथ मिलकर उसके साथ मारपीट शुरु कर दी। उनके अनुसार अब्दुल समद ताबीज बनाने का काम करता है, उसके दिए ताबीज से उनके परिवार पर उल्टा असर हुआ। इस वजह से उन्होंने ये कृत्य किया है। अब्दुल समद और प्रवेश ,आदिल ,कल्लू आदि लड़के एक दूसरे से पूर्व से ही परिचित थे। क्योंकि अब्दुल समद द्वारा गांव में कई लोग को ताबीज दिए गए थे। प्रकरण में पंजीकृत अभियोग में समुचित धाराओं की वृद्धि करते हुए पूर्व मे ही मुख्य अभियुक्त परवेश गुज्जर की गिरफ्तारी की जा चुकी है। मंगलवार को अन्य दो अभियुक्तों कल्लू व आदिल की गिरफ्तारी की गयी है। अन्य अभियुक्तो की भी शीघ्र गिरफ्तारी कर विधिक कार्यवाही सुनिश्चित की जाएगी।

आप का जनसंपर्क अभियान, राशन वितरण किया

अश्वनी उपाध्याय   
गाजियाबाद। लोनी विधानसभा क्षेत्र में कई जगह पर पहुंचकर आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ जिला उपाध्यक्ष शिव बाबू पाठक ने पश्चिमी करावल नगर एवं लोनी विधानसभा क्षेत्र के विभिन्न स्थानों पर पहुंचकर कोविड-19 के बारे में आमजन को जागरूक किया एवं मास्क लगाने के लिए प्रेरित किया। अनावश्यक रूप से घरों से बाहर न निकलने की अपील की। उन्होंने मकान मालिकों से कहा कि किरायेदारों का किराया वैश्विक महामारी के दौरान माफ कर दें। 2 महीने का किराया अवश्य माफ होना चाहिए। आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ जिला उपाध्यक्ष शिव बाबू पाठक ने पार्टी के अन्य पदाधिकारी एवं कार्यकर्ताओं सीमा भारद्वाज, वरिष्ठ कार्यकर्ता अनिल शर्मा, वरिष्ठ जिला उपाध्यक्ष भावना विष्ट के साथ क्षेत्र के विभिन्न स्थानों पर पहुंचकर गरीब बेसहारा जनों को राशन भी वितरण किया। पार्टी के वरिष्ठ पदाधिकारियों ने कहा कि कोरोना अभी समाप्त नहीं हुआ है। इसलिए सभी लोग मास्क लगाएं एवं 2 गज की दूरी आपस में बनाए रखें। यही महामारी से बचाव का मूल मंत्र है और स्वच्छता कायम रखना भी आवश्यक है। 

खास: 86 अस्पतालों में आग बुझाने के इंतजाम अधूरे

अश्वनी उपाध्याय   
गाजियाबाद। कोरोना महामारी की दूसरी लहर में मनमाना शुल्क वसूलने के बाद निजी एवं सरकारी अस्पतालों के संचालक मरीजों की जान से भी खिलवाड़ कर रहे हैं। अग्निशमन विभाग द्वारा किए गए निरीक्षण में पता चला है कि 86 अस्पतालों में आग बुझाने के इंतजाम अधूरे हैं। विभाग ने 112 सरकारी एवं निजी अस्पतालों का निरीक्षण किया। निरीक्षण के तहत केवल 26 अस्पतालों में आग बुझाने के इंतजाम पूरे मिले। शेष के खिलाफ सख्त कार्रवाई की तैयारी शुरू है। इनमें जिला एमएमजी अस्पताल, जिला संयुक्त अस्पताल व संतोष अस्पताल भी शामिल हैं। ग्रामीण क्षेत्रों के एक दर्जन प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में भी आग बुझाने के इंतजाम अधूरे मिले हैं।जिस निजी अस्पतालों में इंतजाम अधूरे
आस्था हास्पिटल प्रताप विहार, आनंद हास्पिटल लालकुआं, सुशीला मल्टीस्पेशियलिटी हास्पिटल पटेलगनर, आलोकी अस्पताल प्रतापविहार, हेल्थ केयर नंदग्राम, नंदग्राम नर्सिंग होम नंदग्राम, शगुप्ता नर्सिंग होम घूकना, कंसल हास्पिटल सेवानगर मेरठ रोड़, पल्लिएटिव केयर गोविदपुरम, वर्धमान हास्पिटल सेक्टर-23 संजयनगर, विनायक हास्पिटल गुलधर, जिदल मेडिकल सेंटर पटेलनगर थर्ड, एपेक्स हेल्थ केयर राजनगर एक्सटेंशन, सर्वोदय हास्पिटल कविनगर औद्योगिक क्षेत्र, पल्मानिक राजनगर, उत्तम हास्पिटल सेक्टर-9 विजयनगर, ओजस हास्पिटल राजेंद्र नगर, श्रेया हास्पिटल शालीमार गार्डन, वर्धमान नर्सिंग होम शालीमार गार्डन, स्पर्श मल्टी, स्पेशियलिटी हास्पिटल शालीमार गार्डन, परख हास्पिटल विक्रम एंक्लेव शालीमार गार्डन, गेटवेल हास्पिटल शालीमार गार्डन, राज नर्सिंग होम शालीमार गार्डन, नंदलाल हास्पिटल गरिमा गार्डन, शिवकृष्ण मेडिकेयर, अंबे हास्पिटल लाजपतनगर, साहिबाबाद मेडिकेयर सेंटर, गुप्ता नर्सिंग होम लाजपतनगर, आशीर्वाद आर्थोपेडिक सेंटर नवीन पार्क, संजीवनी नर्सिंग होम श्याम पार्क, नवजीवन मदर चाइल्ड, राजेंद्र नर्सिंग होम राजेंद्र नगर, वात्सल्य मेडिकेयर, न्यू विजन आइ हास्पिटल राजेंद्रनगर, ब्लेसिग हास्पिटल नेहरूनगर, संतोष सुदर्शन भाटिया मोड, शंकर हास्पिटल लालकुआं, संतोष हास्पिटल अंबेडकर रोड पुराना बस अड्डा, एडवांस लाइफ केयर मेरठ रोड, रामशरण गर्ग इंडो-जर्मन हास्पिटल काजीपुरा, गार्गी हास्पिटल राजनगर, संजीवनी हास्पिटल विजयनगर, रिलायबल हास्पिटल प्रतापविहार, कैलास हास्पिटल मेरठ रोड, अटलांटा हास्पिटल वसुंधरा, प्रेमधर्म हास्पिटल वसुंधरा, चंद्रलक्ष्मी हास्पिटल वैशाली, पारस हास्पिटल वैशाली, जीएमएस हास्पिटल मुरादनगर, रूरल इंसटीटयूट आफ मेडिकल साइंस रावली रोड मुरादनगर, पीजीएम हास्पिटल मुरादनगर, शकुंतला देवी हास्पिटल मोदीनगर, विद्यावती मेमोरियल हास्पिटल मोदीनगर, प्रियदर्शी हास्पिटल मोदीनगर, जीवन हास्पिटल मोदीनगर, दुबे नर्सिंग होम मोदीनगर, लोकप्रिय हास्पिटल मोदीनगर, शिवम हास्पिटल मोदीनगर, आशीर्वाद हास्पिटल मोदीनगर, सर्वोदय अस्पताल मोदीनगर, परमेश्वरी नर्सिंग होम मोदीनगर, नवजीवन नर्सिंग होम मोदीनगर, जशलोक हास्पिटल मोदीनगर, सिटी केयर हास्पिटल निवाड़ी। 

क्या कहते हैं अधिकारी

सुनील कुमार सिंह, मुख्य अग्निशमन अधिकारी ने बताया कि जिले के कोविड और नान कोविड अस्पतालों का निरीक्षण करने पर पाया गया कि कई अस्पतालों में आग बुझाने के इंतजाम मानकों के अनुरूप नहीं हैं। किसी भी अप्रिय घटना की संभावना से बचने के लिए अग्निशमन सुरक्षा व्यवस्था पूर्ण कराकर सदैव कार्यशील रखना अनिवार्य है। सीएमओ को निरीक्षण रिपोर्ट भेजकर कड़ी कार्रवाई करने का अनुरोध किया गया है।

डॉ.एन के गुप्ता,सीएमओ ने बताया कि मुख्य अग्निशमन अधिकारी द्वारा निरीक्षण के बाद रिपोर्ट भेजी है। रिपोर्ट के आधार पर आग बुझाने के ठोस इंतजाम न करने वाले निजी अस्पतालों के पंजीकरण निरस्त करने की कार्रवाई की जाएगी। जरूरत पड़ने पर सुसंगत धाराओं के तहत एफआइआर दर्ज कराई जाएगी। सरकारी अस्पतालों के प्रबंधन के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी। आग बुझाने के इंतजाम न किया जाना मरीजों की जान के साथ खिलवाड़ हैं।

भाजपा छोड़कर 300 ने आरएलडी की सदस्यता ली

अलीगढ़। पीजरी पैंठ धरना स्थल पर अहेरिया समाज के करीब 300 लोगों ने भाजपा छोड़ राष्ट्रीय लोक दल की सदस्यता ली। मंगलवार को अलीगढ़ गोंडा रोड पीजरी पैंठ पर किसान आंदोलन के समर्थन में चल रहे अनिश्चितकालीन धरने पर आकर अहेरिया समाज के लोगों ने भाजपा छोड़ राष्ट्रीय लोक दल की सदस्यता ली। वहीं किसान एकता जिंदाबाद राष्ट्रीय लोकदल जिंदाबाद किसान मसीहा चौधरी चरण सिंह अमर रहे चौधरी अजीत सिंह अमर रहे राकेश टिकैत जिंदाबाद जयंत चौधरी जिंदाबाद किसान गरीब मजदूर एकता जिंदाबाद के नारे लगाए। पीजरी पैंठ पर मौजूद सभी गांव व क्षेत्र वासियों ने कहा 2022 के चुनाव में हम सभी राष्ट्रीय लोकदल का साथ देंगे गांव पीजरी नागरी के अहेरीया (वहेलिया) समाज को राष्ट्रीय लोक दल की सदस्यता अब्दुल्ला शेरवानी जिला प्रभारी शामली चौधरी राम बहादुर सिंह पूर्व जिला अध्यक्ष राष्ट्रीय लोक दल चौधरी सत्यवीर सिंह  सत्तो पूर्व युवा प्रदेश महासचिव पश्चिमी उत्तर प्रदेश वीरपाल सिंह पूर्व ब्लाक प्रमुख गोंडा ऋषि पाल सिंह चौधरी अशोक फौजदार आदि पार्टी के वरिष्ठ कार्यकर्ता व पदाधिकारियों ने करीब 300 लोगों को राष्ट्रीय लोक दल की सदस्यता दिलाई। वही अहेरिया समाज के प्रेमपाल सिंह एक्स इंजीनियर pwd ने वादा किया कि अलीगढ़ हाथरस, बुलंदशर आदि जिलों के अपने सभी समाज को राष्ट्रीय लोक दल से जोड़ने का काम करूंगा। वहीं राष्ट्रीय लोकदल अलीगढ़ के पूर्व जिलाध्यक्ष राम बहादुर सिंह ने अहेरिया समाज से वादा किया कि आपके समाज के साथ हमारा राष्ट्रीय लोकदल 24 घंटे कंधे से कंधा मिलाकर साथ देंगा। धरना स्थल पर संचालन चौधरी राम वीर सिंह पूर्व अध्यक्ष किसान मोर्चा व अध्यक्षता हरिओम सिंह पूर्व प्रधान अहेरिया नेकी मोजूद रहे।
वही, चौधरी सतवीर सिंह सत्तो ने कहा हमारा अनिश्चितकालीन धरना किसानों की मांगें मनवाने तक जारी रहेगा। सदस्यता ग्रहण करते समय चौधरी विजेंद्र सिंह अजय कुमार ऋषि पाल सिंह सुभाष सिंह राकेश कुमार पूर्व प्रधान नयावास राम वीर सिंह अहेरीया एक्स मैनेजर एसबीआई ननूआ सिंह आकाश चौधरी रिंकू सिसोदिया एडवोकेट राकेश पाल सिंह अहेरिया  गजाधर सिंह अहेरिया राम चरण सिंह अहेरिया रामकिशन सिंह अहेरिया बुद्धसेन अहेरिया विजय सिंह अहेरिया बनी सिंह बनवारी सिंह अहेरिया पन्नालाल अहेरिया विनोद कुमार पप्पू सिंह रामेश्वर मंगूअहेरिया राजू अहेरिया सोनू कुमार अहेरिया बबलू अहेरिया अजूआ शर्मा  सहित सैकड़ों की संख्या में अहेरिया समाज मौजूद रहा।

सभा में सैकड़ों लोगों ने आरएलडी की सदस्यता ली

बुलन्द शहर। सैंकड़ों दलित समाज के लोगों ने आज राष्ट्रीय लोक दल की सदस्यता ली। आज मंगलवार को राष्ट्रीय लोक दल बुलंदशहर के तत्वाधान में सदस्यता ग्रहण अभियान के तहत एक कार्यक्रम का आयोजन पार्टी जिला मुख्यालय बुलंदशहर पर किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता जिला अध्यक्ष अरुण चौधरी राष्ट्रीय लोक दल व संचालन योगेंद्र सिंह लोधी क्षेत्रीय उपाध्यक्ष ने किया। बहुजन समाज पार्टी के पूर्व मंडल कोऑर्डिनेटर श्री हुकम सिंह जी व श्रीमती मोनिका जी व सैकड़ों साथियों प्रधान व बीडीसी और गजेंद्र सिंह जी को पार्टी की सदस्यता दिलाई गई कार्यक्रम के मुख्य अतिथि माननीय श्री यशवीर सिंह चौधरी क्षेत्रीय अध्यक्ष पश्चिमी उत्तर प्रदेश राष्ट्रीय लोक दल ने सभी को राष्ट्रीय लोक दल की सदस्यता दिलाई चौधरी यशवीर सिंह जी ने बताया कि राष्ट्रीय लोकदल गरीब मजदूर किसान की लड़ने वाली पार्टी है केंद्र सरकार की किसान विरोधी नीतियों के खिलाफ चल रहे दिल्ली आंदोलन को तब तक खत्म नहीं किया जाएगा जब तक सरकार इन तीनों काले कानूनों को वापस नहीं लेती ।
2022 में आने वाले विधानसभा के आम चुनाव में बीजेपी का सफाया होगा और सुबे में राष्ट्रीय लोकदल के बिना सरकार नहीं बनेगी पार्टी की सदस्यता ग्रहण करने के बाद हुकम सिंह जी ने कहा कि उत्तर प्रदेश में तेजी से मा०जयंत चौधरी जी के नेतृत्व में युवाओं किसान मजदूर पार्टी से जुड़ कर माननीय जयंत चौधरी जी के नेतृत्व वाली सरकार बनाएंगे  एससी एसटी प्रकोष्ठ के क्षेत्रीय अध्यक्ष डॉ सुशील कुमार जी ने कहा कि बाबा भीमराव अंबेडकर और चौधरी चरण सिंह साहब के विचारधारा एक थी और अब दोनों विचारधाराओं के लोग एकजुट हो गए हैं अब सूबे में माननीय जयंत चौधरी जी का राज होगा यह दलित समाज और मा ०चौधरी चरण सिंह जी का किसान मजदूर समाज एकजुट हो चला है।अरुण चौधरी जिला अध्यक्ष जी ने कहा कि आज जनपद बुलंदशहर में बाबा अंबेडकर और माननीय चौधरी चरण सिंह साहब की विचारधारा एक एक हो चुकी है और इसका संदेश संपूर्ण भारतवर्ष में जाएगा इस विचारधारा को आगे बढ़ाने का काम राष्ट्रीय लोक दल का प्रत्येक कार्यकर्ता और पदाधिकारी करेंगे। पूर्व विधायक दिलनवाज खान ने कहा कि अब समान विचारधारा वाले लोग एकजुट होते जा रहे हैं और यह तानाशाह और किसान विरोधी सरकार को हटाने का संकल्प युवाओं ने तथा सभी किसान मजदूरों ने लिया है और शीघ्र ही भाजपा की सरकार सुबे से समाप्त हो जाएगी ।
अंत में सदस्यता अभियान में चौधरी वीरेंद्र सिंह लोर पूर्व प्रदेश महासचिव ,चौधरी बिजेंद्र सिंह पूर्व जिला अध्यक्ष, अनु चौधरी क्षेत्रीय महासचिव पश्चिमी उत्तर प्रदेश राष्ट्रीय लोक दल, नवेद मियां क्षेत्रीय सचिव राष्ट्रीय लोकदल ,नरेश प्रधान क्षेत्रीय सचिव राष्ट्रीय लोकदल  श्रीमती सविता सिंह पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष जिला पंचायत सदस्य, डॉक्टर मांगेराम सूर्यवंशी जिला पंचायत सदस्य ,श्री तालेवर सिंह जिला पंचायत सदस्य ,सुनील चरोरा जिला पंचायत सदस्य, श्री सतवीर सिंह दीवान जी, गजेंद्र सिंह जाटव, हुकम सिंह जाटव, ओमवीर सिंह मालिक चौधरी जगबीर सिंह रामपाल सिंह प्रधान दरियापुर श्री सत्यभान प्रधान लोहरा कपिल कुमार बीडीसी भीमसेन बीडीसी राकेश बीडीसी सहित सैकड़ों नेताओं ने अपने विचार रखकर राष्ट्रीय लोक दल में आए सभी कार्यकर्ताओं का स्वागत किया। अरुण चौधरी जी जिला अध्यक्ष राष्ट्रीय लोक दल ने सभी राष्ट्रीय लोक दल में आए अन्य दलों के दलित समाज से आए पदाधिकारी और कार्यकर्ताओं का राष्ट्रीय लोक दल का पटका पहना कर स्वागत किया।

'द्यूत क्रीड़ा' का 154 साल पुराना कानून खत्म होगा

हरिओम उपाध्याय   
लखनऊ। प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार जुआ केंद्र चलाने, जुआ खेलने, ऑनलाइन जुआ खेलने और सट्टा लगाने जैसी गतिविधियों को रोकने के लिए नया कानून लाने जा रही है। राज्य में 'द्यूत क्रीड़ा' को लेकर लागू 154 साल पुराना कानून खत्म करके नया कानून बनाया जाएगा। इसके तहत कड़े दंड का प्रावधान किया जा रहा है। राज्य विधि आयोग के चेयरमैन जस्टिस एएन मित्तल ने इस संबंध में 'उत्तर प्रदेश सार्वजनिक द्यूत निवारण विधेयक' का प्रारूप राज्य सरकार को सौंपा है। इसमें उन्होंने सजा और अर्थ दंड बढ़ाने की सिफारिश की है। शासन स्तर पर इसकी समीक्षा की जाएगी। इसके उपरांत प्रदेश में यह कानून लागू किया जाएगा।
मुख्यमंत्री को लिखे पत्र में जस्टिस मित्तल ने कहा है कि उत्तर प्रदेश में तत्कालीन अंग्रेज शासन का बनाया गया सार्वजनिक द्यूत क्रीड़ा अधिनियम 1867 (public gambling act 1867) प्रभावी है। इसमें समय-समय पर अनेक संशोधन भी किए गए हैं। बावजूद इसके अब भी यह अधिनियम ऑनलाइन जुआ गतिविधियों को रोकने में सक्षम नहीं है। 154 वर्ष पुराने इस अधिनियम को केंद्र सरकार ने समाप्त करने का निर्णय लिया है। इसी क्रम में उत्तर प्रदेश सरकार से यह अपेक्षा की गई है कि वह भी अपने राज्य में इस विषय पर अलग से कानून बनाए।

सार्वजनिक स्थानों पर जुआ खेलने पर एक साल की होगी सजा 
जस्टिस मित्तल ने ईटीवी भारत से बातचीत करते हुए बताया कि पुराना कानून 1867 का है। केंद्र सरकार 154 साल पुराने इस कानून को खत्म करने जा रही है। कुछ राज्यों ने इस विषय पर अपना कानून बना दिया है। उत्तर प्रदेश ने अभी तक इस विषय पर कोई कानून नहीं बनाया है। पूरे विषय पर हमने अध्ययन करके ऑनलाइन जुआ को रोकने को शामिल किया है। वर्तमान सजा को बढ़ाने का भी प्रस्ताव रखा है। इसमें सट्टा भी लगाने से रोकने की व्यवस्था दी गई है।

तैयार प्रारुप के अनुसार सजा में इजाफा किया गया है। पहले सार्वजनिक जुआ घर चलाने पर एक साल की सजा और 500 रुपये जुर्माना था। इसे बढ़ाकर तीन साल की सजा और जुर्माना किया गया है। इसी तरह से सार्वजनिक स्थल पर जुआ खेलते हुए पकड़े जाने पर पहले तीन महीने की सजा और 100 रुपये जुर्माना था। इसे बढ़ाकर एक साल की सजा और पांच हजार रुपये जुर्माना किया गया है। इसका प्रारूप राज्य सरकार को सौंप दिया गया है। शासन स्तर पर समीक्षा करने के बाद राज्य सरकार इसे लाएगी।

सपाइयों ने चलाया जागरूकता अभियान, मास्क बांटे

सपाइयों ने व्यापारियों से किया अपील मास्क नहीं तो सामान नहीं   कोरोना  विरुद्ध चलाया जागरूकता अभियान
बृजेश केसरवानी   
प्रयागराज। समाजवादी व्यापार सभा संगठन के प्रदेश उपाध्यक्ष दुर्गा प्रसाद गुप्ता की अगुवाई में स्थान मुट्ठीगंज लइया मंडी गाजीगंज मंडी खटाई मंडी व्यापारियों से जनसंपर्क कर कोरोना के विरुद्ध जन जागरण अभियान चलाया और मास्क व सेनेटाइजर वितरण कर व्यापारियों से अपील किया कि मास्क लगाए हुए व्यक्ति को ही सामान बेचे। 2 गज दूरी  है जरूरी मूल मंत्र याद कर ले तो कोरोना से  अपने आप को बचाव और अपने परिवार को सुरक्षित रखो।
जन जागरण अभियान में प्रदेश सचिव विजय गुप्ता प्रदेश कार्यकारिणी राजेश गुप्ता जिला अध्यक्ष सुरेंद्र कुमार केसरवानी महानगर अध्यक्ष शिव शंकर केसरवानी महामंत्री  नंदा निषाद पंकज गुप्ता अशोक गुप्ता दिनेश पाठक राजेंद्र प्रसाद बाबा जी सौरव श्रीवास्तव आशुतोष निषाद आदि व्यापारी उपस्थित रहे।

बसपा के 5 विधायकों ने सपा से जुडऩे के संकेत दिए

संदीप मिश्र   
लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी (बसपा) से हाल के महीनों में निलंबित कम से कम पांच विधायकों ने मंगलवार को समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव से मुलाकात की और सपा में शामिल होने के संकेत दिए। जौनपुर के मुंगरा बादशाहपुर से विधायक सुषमा पटेल ने से कहा, ”सपा प्रमुख अखिलेश यादव के साथ 15-20 मिनट तक चली बैठक में आगामी विधानसभा चुनावों पर चर्चा हुई और मुलाकात अच्छी रही।”उनके अगले कदम के बारे में पूछे जाने पर सुषमा पटेल ने कहा, “व्यक्तिगत रूप से मैंने समाजवादी पार्टी में शामिल होने का मन बना लिया है।” 
वर्तमान में 403 सदस्यीय राज्य विधानसभा में बसपा के 18 विधायक हैं। उनसे जब पूछा गया कि बसपा के निलंबित विधायकों ने अखिलेश यादव से मिलने का फैसला क्यों किया तो सुषमा पटेल ने कहा, “हमें अक्टूबर 2020 में राज्यसभा चुनाव के दौरान निलंबित कर दिया गया था और हमें स्पष्ट रूप से बसपा के झंडे और बैनर का उपयोग नहीं करने और किसी भी कार्यक्रम, पार्टी की बैठक में शामिल नहीं होने के लिए कहा गया था। राज्यसभा चुनाव के समय बसपा ने कोई व्हिप जारी नहीं किया था, न ही हम क्रॉस वोटिंग में शामिल थे। हमें बिना किसी आधार के निलंबित कर दिया गया था। हमें इसलिये निलंबित कर दिया गया था, क्योंकि हम अखिलेश यादव से मिलने गए थे।”उन्होंने कहा, “अब, हमें विकल्प तलाशना है। इसलिए हम अखिलेश यादव से मिलने गये थे। अब हमारा बसपा से कोई लेना-देना नहीं है।” सुषमा पटेल के अलावा सपा प्रमुख से मिलने वाले अन्य विधायकों में में असलम राएनी, मुस्तफा सिद्दीकी, हाकिमलाल बिंद और हरगोविंद भार्गव शमिल हैं।

गौरतलब है कि अक्टूबर 2020 में बसपा के सात विधायकों को पार्टी अध्यक्ष मायावती ने निलंबित कर दिया था। उन पर राज्यसभा चुनाव में पार्टी के आधिकारिक उम्मीदवार रामजी गौतम के नामांकन का विरोध करने का आरोप लगा था। निलंबित किये जाने वाले विधायकों में चौधरी असलम अलीर, हरगोविंद भार्गव, मोहम्मद मुस्तफा सिद्दीकी, हाकिमलाल बिंद, मोहम्मद असलम राएनी, सुषमा पटेल और वंदना सिंह शामिल थीं।

सैनिक बलिदान राष्ट्र की स्मृति में सदैव अंकित रहेगा

अकांशु उपाध्याय   
नई दिल्ली। सेना प्रमुख जनरल एम एम नरवणे ने पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी में ‘‘अप्रत्याशित’’ चीनी आक्रामकता का सामना करते हुए देश की क्षेत्रीय अखंडता की खातिर एक साल पहले अपने प्राण न्यौछावर कर देने वाले 20 जवानों की बहादुरी की मंगलवार को प्रशंसा की। सेना ने घातक झड़पों की पहली बरसी पर कहा कि जवानों का अत्यधिक ऊंचाई वाले ‘‘सबसे कठिन’’ इलाके में दुश्मन से लड़ते हुए दिया गया यह सर्वोच्च बलिदान राष्ट्र की स्मृति में ‘‘सदैव अंकित’’ रहेगा।सेना ने ट्वीट किया, ‘‘जनरल एमएम नरवणे और भारतीय सेना के सभी रैंक के अधिकारी देश की क्षेत्रीय अखंडता और संप्रभुता की रक्षा करते हुए लद्दाख की गलवान घाटी में सर्वोच्च बलिदान देने वाले बहादुरों को श्रद्धांजलि देते हैं। उनकी वीरता राष्ट्र की स्मृति में ‘‘सदैव अंकित’’ रहेगी।’’ गलवान घाटी में चीनी सैनिकों के साथ पिछले साल 15 जून को भीषण झड़प में 20 भारतीय सैनिक शहीद हो गए थे, जिसके बाद पूर्वी लद्दाख में संघर्ष के बिंदुओं पर दोनों सेनाओं ने बल और भारी हथियार तैनात किए थे।
चीन ने फरवरी में आधिकारिक तौर पर स्वीकार किया था कि भारतीय सेना के साथ संघर्ष में पांच चीनी सैन्य अधिकारी और जवान मारे गए थे, हालांकि व्यापक रूप से यह माना जाता है कि मरने वालों की संख्या अधिक थी। सेना की लेह स्थित 14 कोर ने भी हिंसक झड़पों की पहली बरसी पर ‘‘गलवान में शहीद हुए बहादुरों’’ को श्रद्धांजलि दी। इस कोर को ‘फायर एंड फ्यूरी कोर’ के नाम से जाना जाता है।

सेना ने कहा, ‘‘20 भारतीय सैनिकों ने अप्रत्याशित चीनी आक्रमण का सामना करते हुए हमारी भूमि की रक्षा के लिए अपने प्राण न्यौछावर कर दिए और पीएलए (जनमुक्ति सेना) को भारी नुकसान पहुंचाया।’’ ‘फायर एंड फ्यूरी कोर’ के कार्यवाहक जनरल ऑफिसर कमांडिंग मेजर जनरल आकाश कौशिक ने प्रतिष्ठित लेह युद्ध स्मारक पर माल्यार्पण करके शहीद नायकों को श्रद्धांजलि अर्पित की। लद्दाख क्षेत्र में चीन के साथ लगती वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) की सुरक्षा की जिम्मेदारी 14 कोर की है। सेना ने एक बयान में कहा, ‘‘देश उन वीर सैनिकों का हमेशा आभारी रहेगा, जिन्होंने अत्यधिक ऊंचाई वाले सबसे कठिन इलाकों में लड़ाई लड़ी और राष्ट्र की सेवा के लिए सर्वोच्च बलिदान दिया।’’

20 जवानों की शहादत से जुड़े हालात स्पष्ट नहीं

अकांशु उपाध्याय   
नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने गलवान घाटी में चीन के सैनिकों के साथ झड़प में 20 भारतीय जवानों की शहादत की पहली बरसी पर मंगलवार को कहा कि एक वर्ष का समय गुजरने के बाद भी इस घटना से जुड़े हालात को लेकर स्पष्टता नहीं है तथा सरकार देश को विश्वास में ले और यह सुनिश्चित करे कि उसके कदम देश के जवानों की प्रतिबद्धता के अनुकूल रहे हैं।सोनिया ने जवानों के बलिदान को याद किया और यह दावा किया कि सैनिकों के पीछे हटाने का जो समझौता चीन के साथ हुआ है उससे भारत का नुकसान दिखाई पड़ता है। उन्होंने एक बयान में कहा, ”14-15 जून, 2020 की रात को चीन की पीएलए के साथ हुई झड़प को एक साल पूरा हो गया है।
इसमें बिहार रेजीमेंट के हमारे 20 जवानों की जान चली गई थी। कांग्रेस हमारे जवानों के सर्वोच्च बलिदान को याद करने में राष्ट्र के साथ शामिल है।” उनके मुताबिक, इसका बहुत ही धैर्य का साथ इंतजार किया गया कि सरकार सामने आएगी और देश को उन हालात के बारे में सूचित करेगी जिनमें यह अप्रत्याशित घटना घटी तथा वह लोगों को विश्वास दिलाएगी की हमारे जवानों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा।

सोनिया ने कहा, ”अब कांग्रेस पार्टी अपनी इस चिंता को फिर से प्रकट करती है कि अब तक कोई स्पष्टता नहीं है और इस विषय पर प्रधानमंत्री का आखिरी वक्तव्य पिछले साल आया था कि कोई घुसपैठ नहीं हुई।” उन्होंने यह भी कहा, ”हमने प्रधानमंत्री के बयान के संदर्भ में बार बार ब्यौरा मांगा और अप्रैल, 2020 से पूर्व की यथास्थिति बहाल करने की दिशा में हुई प्रगति का विवरण भी मांगा। चीन के साथ सेनाओं को पीछे हटाने का जो समझौता हुआ है, उससे लगता है कि यह अब तक भारत के लिए पूरी तरह नुकसानदेह रहा है।” सोनिया ने कहा, ”कांग्रेस पार्टी आग्रह करती है कि सरकार देश को विश्वास में ले और यह सुनिश्चित करे कि उसके कदम हमारे उन जवानों की प्रतिबद्धता के अनुकूल हैं जो मुस्तैदी के साथ हमारी सीमाओं की रक्षा कर रहे हैं।

आईएएफ ने इलेक्ट्रॉनिक उपकरण के लिए ऑर्डर दिया

अकांशु उपाध्याय                
नई दिल्ली। भारतीय वायुसेना (आईएएफ) ने कोच्चि के स्टार्टअप ‘आलअबाउट इनोवेशन’ को उसके एक उस इलेक्ट्रॉनिक उपकरण के लिए ऑर्डर दिया। जो कोरोना वायरस के वायुजनित प्रसार को रोक सकता है और इस महामारी के वायरल लोड को ”99 प्रतिशत तक” कम कर सकता है। सोमवार को जारी एक बयान में यह जानकारी दी गई है। स्टार्टअप द्वारा जारी बयान में कहा गया है, ”आईएएफ ने कुछ ‘वुल्फ एयरमास्क (इलेक्ट्रॉनिक उपकरण) खरीदे हैं और इन्हें नई दिल्ली स्थित आईएएफ के कार्यालय में लगाया जायेगा।” इसमें कहा गया है कि प्रत्येक उपकरण भारतीय वायुसेना के नई दिल्ली कार्यालय में 1,000 वर्ग फुट के क्षेत्र को कवर करेगा। 
इसमें कहा गया है कि भारतीय नौसेना के साथ-साथ विभिन्न राज्यों ने भी इन उपकरणों के लिए आलअबाउट इनोवेशन से संपर्क किया है।बयान में कहा गया है, ”यह सार्स सीओवी2 वायरस के खिलाफ परीक्षण किया गया एकमात्र उपकरण भी है। इसका आरजीसीबी (राजीव गांधी जैव प्रौद्योगिकी केंद्र) में परीक्षण किया गया था। उनका निष्कर्ष यह है कि वुल्फ एयरमास्क एकमात्र उपकरण है जो कोविड के वायरल लोड को 99.9 प्रतिशत तक कम कर सकता है।

लॉकडाउन की पाबंदियों को 1 हफ्ते तक बढ़ाया गया

राणा ओबराय                 
चंडीगढ़। हरियाणा में महामारी अलर्ट, सुरक्षित हरियाणा यानि लॉकडाउन की पाबंदियों को एक हफ्ते के लिए आगे बढ़ा दिया है। कोरोना महामारी के लिए हरियाणा सरकार की तरफ से नई गाइंडलाइन के मुताबिक स्कूलों, कोचिंग संस्थानों और कॉलेजों को अगले आदेशों तक बंद रखा जाएगा। इधर प्रदेश में 15 जून को स्कूलों को छुट्टियां खत्म हो रही थी। राज्य में शिक्षा विभाग की तरफ से ग्रीष्मकालीन अवकाश घोषित किया था। अब स्कूलों में फिर से छुट्टियां आगे बढ़ा दी गई है। अब 30 जून तक छुट्टियां आगे बढ़ाई गई है। इसकी जानकारी शिक्षामंत्री कंवरपाल गुर्जर ने दी। 
प्रदेश में स्कूली बच्चे अवसर एप व एजुसेट के जरिये अपनी पढाई की शुरुआत कर देंगे। इधर शिक्षामंत्री ने पहली से लेकर आठवीं तक के बच्चों की पढाई के लिए किताबों के पैसे खातों में भेजने का ऐलान कर दिया है इसके अलावा किताबों को आगे की कक्षा के छात्रों को देने के निर्देश भी दिये हैं। स्कूलों में फिलहाल रोटेशन के हिसाब से 50 फीसदी स्टाफ ड्यूटी पर आ रहा है। प्रदेश में 22 अप्रैल से 31 मई तक ग्रीष्मकालीन अवकाश घोषित किया गया था, लेकिन कोरोना संक्रमण के चलते इसे 15 जून तक बढ़ाया गया था, लेकिन अब इसे 30 जून तक आगे बढ़ा दिया है। स्कूलों में अब बुधवार से हिंदी और इंग्लिशन मीडियम के छात्रों को अलग अलग माध्यम से शिक्षा दिये जाने की तैयारी है। इंग्लिश के लिए स्वयं प्रभा के 12 चैनल रखे गए हैं, वहीं इस बार खास बात यह भी है कि शिक्षक सप्ताह में एक दिन बच्चों को अभिभावकों से फीडबैक भी लेंगे।

विश्वविद्यालय में सेमेस्टर परीक्षाओं का मूल्यांकन शुरू

संदीप मिश्र              
बरेली। एमजेपी रुहेलखंड विश्वविद्यालय में मंगलवार से सेमेस्टर परीक्षाओं का मूल्यांकन शुरू हो जाएगा। सबसे पहले एलएलबी की परीक्षाओं की कापियां जांची जाएंगी। कापियों के मूल्यांकन के लिए 70 शिक्षकों को परीक्षा केंद्र पर बुलाया गया है। पहले दिन कितने शिक्षक आते हैं इसको लेकर संशय बना हुआ है। क्योंकि 15 जून तक ग्रीष्मकालीन अवकाश भी चल रहा है।विश्वविद्यालय की एलएलबी, बीए एलएलबी, बीसीए, बीबीए, बीटेक, पैरा मेडिकल समेत अन्य सेमेस्टर पाठ्यक्रमों की परीक्षाएं मार्च माह में हुई थीं। कोरोना के चलते कुछ पाठ्यक्रमों की परीक्षाएं नहीं हो सकी थीं। उसके बाद से मूल्यांकन भी अटक गया था। 
करीब दो महीने बाद 15 जून से मूल्यांकन शुरू हो रहा है। मूल्यांकन से कुछ दिनों पहले परीक्षा भवन की सफाई करायी गई थी।परीक्षा केंद्र के समन्वयक प्रो. एके सिंह ने बताया कि मंगलवार से एलएलबी की परीक्षाओं का मूल्यांकन किया जाएगा। मूल्यांकन के लिए 70 शिक्षकों को बुलाया गया है। एलएलबी के प्रथम, तृतीय और पंचम और बीए एलएलबी के प्रथम, तृतीय, पंचम, सप्तम और नवम सेमेस्टर की कापियां जांची जाएंगी। उसके बाद बीबीए, बीसीए, पैरामेडिकल व अन्य परीक्षाओं का मूल्यांकन शुरू होगा।
विधि संकायाध्यक्ष डा. अमित सिंह ने बताया कि कापियों के मूल्यांकन के बाद एलएलबी के षष्टम और बीएएलएलबी के दशम सेमेस्टर की परीक्षाएं आयोजित करायी जाएंगी। यह परीक्षाएं मुख्य परीक्षाओं के कुछ दिनों बाद शुरू होंगी। जल्द ही इनकी भी तैयारी शुरू कर दी जाएगी। सभी परीक्षाओं के मूल्यांकन के बाद अन्य सेमेस्टर के अंक निर्धारित किए जाएंगे।
इग्नू (इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय) ने परीक्षा फार्म जमा करने की अंतिम तिथि 30 जून तक बढ़ा दी है। इस संबंध में 14 जून को सूचना भी जारी कर दी है। इसके अलावा इग्नू ने ऑनलाइन या भौतिक रूप से असाइनमेंट और प्रोजेक्ट भी जून माह तक जमा करने की तिथि बढ़ा दी है। इससे पहले प्रोजेक्ट जमा करने की अंतिम तिथि 15 जून निर्धारित की गई थी।

गुजरात: लव जिहाद एक्ट, धर्म परिवर्तन अपराध

हरिओम उपाध्याय   
गांधीनगर। अब गुजरात में भी शादी के लिए जबरन धर्म परिवर्तन कराना एक बड़ा अपराध होगा। गुजरात में आज से लव जिहाद एक्ट लागू हो गया है। इसे राज्यपाल की मंजूरी के बाद राज्य सरकार ने इसके क्रियान्वयन की अधिसूचना जारी कर दी है। इसका उल्लंघन करने पर सात साल तक की सजा और तीन लाख रुपये तक के जुर्माने का प्रावधान है। 
 दरअसल, गुजरात सरकार ने धर्मांतरण रोकने के लिए बजट सत्र के दौरान विधानसभा में धर्म स्वातंत्र्य (धार्मिक स्वतंत्रता) विधेयक संशोधन-2021 पारित किया था। यह संशोधन गुजरात फ्रीडम ऑफ रिलिजन एक्ट-2003 में किया गया है। इस विधेयक को राज्य के गृह राज्य मंत्री प्रदीप सिंह जडेजा ने गुजरात विधानसभा में पेश किया था। राज्यपाल आचार्य देववर्त की मंजूरी के बाद सरकार ने आज धर्म की स्वतंत्रता सुधार अधिनियम-2021के क्रियान्वयन की अधिसूचना जारी कर दी है।  
गुजरात विधानसभा ने प्रलोभन, जबरदस्ती, गलत बयानी या किसी अन्य धोखाधड़ी के माध्यम से धर्मांतरण के मामलों में दंड और दंड का प्रावधान करने के लिए धर्म की स्वतंत्रता अधिनियम 2003 में संशोधन किया। इस प्रकार यह पूरा सुधार लव जिहाद की गतिविधि को रोकने के लिए है। इस काूनन के तहत गुजरात में पांच साल तक की सजा और दो लाख रुपये तक के जुर्माने का प्रावधान किया गया है, जबकि नाबालिग के साथ अपराध करने पर सात साल तक और तीन लाख रुपये तक के जुर्माने का प्रावधान है। इसके साथ ही अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति की महिलाओं के खिलाफ होने वाले अपराधों के लिए सात साल की सजा का प्रावधान है।
लव जिहाद के मामले में कुछ लोगों को अपराध करने में मदद करने वालों के खिलाफ भी कानूनी कार्रवाई की जाएगी| कुछ मामलों में यह एक गैर-जमानती अपराध भी बन जाएगा। एक विशेष प्रावधान यह भी किया गया है कि पुलिस उपाधीक्षक के पद से नीचे का अधिकारी इसकी जांच नहीं कर सकता है। नई धारा 4 में किसी व्यक्ति की शादी कराकर उसका धर्म परिवर्तन करने या उसकी शादी कराने में मदद करने के एकमात्र उद्देश्य के संबंध में सजा का प्रावधान है। यदि अपराध विवाह की संस्था और संगठन के लिए किया गया अपराध साबित होता है तो गैर-कानूनी धर्मांतरण एक गैर-जमानती अपराध होगा। इस कानून के तहत पीड़ित का रक्त संबंधी भी पुलिस के पास शिकायत दर्ज कराने के लिए अधिकृत किया गया है।
 इस संबंध में राज्य के गृह मंत्री प्रदीपसिंह जडेजा ने कहा कि लव जिहाद के अलावा क्लीनिकल एस्टैब्लिशमेंट (रजिस्ट्रेशन एंड रेगुलेशन) बिल को भी मंजूरी मिल गई है। उल्लेखनीय है कि शादी के नाम पर धोखधड़ी कर लोगों के धर्मांतरण करने से रोकने के लिए उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश सरकारें भी इस तरह का लव जिहाद विरोधी कानून बना चुकी हैं।

महाराष्ट्र में पहली कक्षा से बारहवीं तक के स्कूल खुलें

कविता गर्ग                    
मुंबई। महाराष्ट्र में आज से पहली से बारहवीं तक के स्कूल खुल गए हैं। ऑनलाइन विद्यार्थियों को पढ़ाया जा रहा है। लेकिन किताबों की कमी बनी हुई है। महाराष्ट्र पाठ्यपुस्तक निर्मिति व पाठ्यक्रम संशोधन मंडल (बालभारती) की ओर से अभी किताबों का वितरण होने में विलंब हो रहा है। बालभारती की ओर से बताया गया है कि कोरोना के कारण लगाए गए प्रतिबंधों की वजह से किताबों के वितरण पर असर पड़ा है। जल्द ही किताबों का वितरण सामान्य हो जाएगा।
 बालभारतीे अनुसार लॉकडाउन के कारण निजी वितरकों की दुकानें बड़े पैमाने पर बंद थीं। इस वजह से पुस्तकों की कमी आई। हालांकि पहली से बारहवीं तक की सभी माध्यम की किताबें पीडीएफ के रूप में ऑनलाइन उपलब्ध कराई गई हैं। अब तक नौंवी से बारहवीं तक की 1करोड़ 32 लाख किताबें छप गई हैं। राज्य के नौ डिपो में किताबें उपलब्ध हैं। मांग के अनुसार कई डिपो में किताबों का वितरण किया जा रहा है। इसीतरह पहली से आठवीं तक की 3 करोड़ 85 लाख पुस्तकें भी छपकर तैयार हैं। अभी डेढ़ करोड़ पुस्तकों की छपाई बाकी है। राज्य के कई स्कूल एक दिन पहले यानी 14 जून से ही खुल गए हैं। कुछ दिनों पहले स्कूली शिक्षा विभाग ने नए शैक्षणिक वर्ष के लिए परिपत्र जारी किया था। उसमें विदर्भ को छोड़कर राज्य के अन्य शहरों के स्कूलों को 14 जून से खोलने का उल्लेख था। इसके बाद इसमें संशोधन करके 15 जून से स्कूल शुरू करने की सूचना दी गई थी। हालांकि कई स्कूलों ने पहली सूचना के आधार पर एक दिन पहले 14 जून से पढ़ाई की शुरुआत कर दी है। इसमें अंग्रेजी माध्यम के स्कूलों की संख्या ज्यादा है।
 कोरोना संक्रमण को देखते हुए फिलहाल ऑनलाइन पढ़ाई शुरू की गई है। अभी तक स्कूल प्रबंधन को पढ़ाई ऑनलाइन या ऑफलाइन कराने के संबंध में शिक्षा विभाग की ओर से कोई सूचना नहीं दी गई है। पिछले शैक्षणिक वर्ष में विलंब से पढ़ाई शुरू होने के कारण पहली से बारहवीं तक के पाठ्यक्रम कम कर दिए गए थे। इस शैक्षणिक वर्ष में पढ़ाई का नियोजन किस प्रकार होगा, इसकी प्रतिक्षा स्कूलों को है। अब स्कूलों को शिक्षा विभाग के टाइम टेबल का इंतजार है। टाइम टेबल मिलते ही स्कूलों के कामकाज का नियमित शुरू हो जाएगा।

3 आरोपियों को जमानत देने का आदेश दिया: एचसी

अकांशु उपाध्याय            

नई दिल्ली। दिल्ली हाईकोर्ट ने दिल्ली हिंसा के मामले में यूएपीए के तहत जेल में बंद आसिफ इकबाल तान्हा, देवांगन कलीता और नताशा नरवाल को नियमित जमानत दे दी है। जस्टिस सिद्धार्थ मृदुल और जस्टिस अजय जयराम भांभानी की बेंच ने नियमित जमानत देने का आदेश दिया। कोर्ट ने कहा कि दिल्ली पुलिस ने इस मामले में चार्जशीट दाखिल कर दी है। इस मामले में 740 गवाह हैं। इन गवाहों में स्वतंत्र गवाहों के अलावा सुरक्षित गवाह, पुलिस गवाह इत्यादि शामिल हैं। ऐसे में इन आरोपितों को इन 740 गवाहों की गवाही खत्म होने तक जेल के अंदर नहीं रखा जा सकता है। कोरोना के वर्तमान समय में जब कोर्ट का प्रभावी काम बिल्कुल ठप हो गया है। कोर्ट क्या उस समय तक का इंतजार करे जब तक कि आरोपितों के मामले का जल्दी ट्रायल पूरा नहीं हो जाता है।

कोर्ट ने तीनों आरोपितों को पचास-पचास हजार रुपये के निजी और दो स्थानीय जमानतियों के आधार पर जमानत देने का आदेश दिया है। कोर्ट ने तीनों को अपना पासपोर्ट सरेंडर करने का आदेश दिया। कोर्ट ने कहा कि तीनों आरोपित वैसा कोई काम नहीं करेंगे, जिससे केस प्रभावित हो। आसिफ इकबाल तान्हा जामिया यूनिवर्सिटी का छात्र है। उसे मई 2020 में दिल्ली हिंसा के मामले में गिरफ्तार किया गया था। नताशा नरवाल और देवांगन कलीता पिंजरा तोड़ संगठन की सदस्य हैं। दोनों को मई 2020 में गिरफ्तार किया गया था। तीनों पर दिल्ली में हिंसा भड़काने का आरोप है।

दंगों में साजिश रचने के मामले में दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने अब तक 18 लोगों को आरोपित बनाया है। जिन लोगों को आरोपित बनाया गया है उनमें ताहिर हुसैन, सफूरा जरगर, उमर खालिदखालिद सैफीइशरत जहांमीरान हैदरगुलफिशाशफा उर रहमानआसिफ इकबाल तान्हाशादाब अहमदतसलीम अहमदसलीम मलिकमोहम्मद सलीम खानअतहर खानशरजील इमामफैजान खाननताशा नरवाल और देवांगन कलीता शामिल हैं। सफूरा जरगर को पहले ही मानवीय आधार पर जमानत मिल चुकी है।

अनियमितता के मामले की जांच कराये जाने की मांग

नरेश राघानी             

जयपुर। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने केन्द्र सरकार से अयोध्या में कथित राममंदिर जमीन खरीद में अनियमितता के मामले की जांच कराये जाने की मांग की हैं। गहलोत ने सोशल मीडिया के जरिए यह मांग करते हुए कहा कि केन्द्र सरकार को अविलंब इस मामले की जांच करानी चाहिए जिससे लोगों की आस्था एवं विश्वास बना रहे एवं देशवासियों की आस्था के साथ खिलवाड़ के दोषियों को सजा मिल सके। उन्होंने कहा कि राजस्थान की जनता ने आस्था के साथ राम मंदिर निर्माण में देशभर में सर्वाधिक योगदान दिया था। लेकिन निर्माण कार्य की शुरुआत में ही चन्दे के गबन की खबरों से आमजन की आस्था डिग गई है। कोई विश्वास नहीं कर पा रहा है कि मिनटों में कैसे जमीन का दाम दो करोड़ रुपये से 18 करोड़ रुपये हो गया।

संभावित तीसरी लहर से बचाव के लिए तैयारी शुरू की

हरिओम उपाध्याय               

लखनऊ। बच्चों के लिये खतरनाक मानी जा रही कोरोना की संभावित तीसरी लहर से बचाव के लिये उत्तर प्रदेश सरकार ने एहतियात के तौर पर अभी से तैयारी शुरू कर दी है। इसी कड़ी में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को दवा किट के वाहनो को सभी 75 जिलों के लिये रवाना किया। दवा किट शून्य से एक साल, एक से पांच साल और छह से 12 साल के बच्चों के लिये अलग अलग है। जिसमें बुखार के लिये पैरासिटामाल सिरप अथवा गोलियां, मल्टीविटामिन सिरप अथवा गोली और ओआरएस वगैरह शामिल है। छह से 12 साल के बच्चों को संक्रमण की दशा में एविरवैक्टिम टैबलेट छह मिग्री की गोलियाें को दवा किट में शामिल किया गया है।

स्वास्थ्य विभाग ने इस बारे में पैम्पलेट भी वितरित किये है। जिसमें संक्रमण के लक्षणों की पहचान के बारे में लिखा है। जैसे बच्चे का लगातार रोना, खाने पीने से मना करना, 100 डिग्री सेल्सियस से अधिक बुखार आना, दस्त लगना आदि शामिल है। सरकार ने संक्रमण के संभावित खतरे से निपटने के लिये हर जिले में बच्चों के लिये अलग से वार्ड और आईसीयू की भी व्यवस्था की है। सरकार ने 75 जिलों में कुल 50 लाख किट भेजी जायेंगी। अभी 17 लाख किट जिलों को भेजी गई हैं जबकि बाद में 33 लाख दवाओं की किट और भेजी जाएंगी। मुख्यमंत्री ने हरी झंडी दिखा कर दवा किट के वाहनो को रवाना किया। उन्होने कहा कि बेहतर टीम प्रबंधन की बदौलत सरकार कोरोना की पहली और दूसरी लहर से निपटने में सफल रही है। अब सरकार की तैयारी संभावित तीसरी लहर से लड़ने की है। इसके लिये हर मेडिकल कॉलेज तथा जिला अस्पतालों में बच्चों के आइसीयू (पीकू) वार्ड तेजी से स्थापित हो रहे हैं।

उन्होने आगाह किया कि दूसरी लहर का प्रकोप राज्य में कम हुआ है, मगर वायरस अभी गया नहीं है। इस लिये लोगों को सामाजिक दूरी बनाये रखने के साथ साथ मास्क का प्रयोग करना अनिवार्य है और बार बार हाथ धोना चाहिये। उन्होने कहा कि संक्रमण की रोकथाम में निगरानी समितियाें का काम सराहनीय रहा है वहीं आंगनबाड़ी और आशाओं ने ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों को वैक्सीनेशन के लिये जागरूक करने की दिशा में अच्छा काम किया है। इस मौके पर उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा, चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश कुमार खन्ना, चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री जय प्रताप सिंह के अलावा मुख्य सचिव आरके तिवारी तथा अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद मौजूद थे।

शरणार्थियों को नागरिकता, याचिका पर सुनवाई टली

अकांशु उपाध्याय           
नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने अफगानिस्तान, पाकिस्तान, बांग्लादेश से आए गैर-मुस्लिम शरणार्थियों को नागरिकता देने के खिलाफ दायर याचिका पर सुनवाई दो हफ़्ते के लिए टाल दी है। सुनवाई के दौरान याचिकाकर्ता इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग (आईयूएमएल) के वकील ने केंद्र के हलफनामे पर जवाब देने के लिए और समय देने की मांग की, जिसके बाद कोर्ट ने सुनवाई टाल दी। याचिका में केंद्र सरकार के उस नोटिफिकेशन को चुनौती दी गई है।
जिसमें सरकार ने पांच राज्यों के कुछ जिलों में शरणार्थियों को नागरिकता के लिए आवेदन करने की इजाजत दी है। केंद्र सरकार का कहना है कि नागरिकता 1955 के क़ानून के आधार पर दी जा रही है। इसका नागरिकता संशोधन कानून से कोई संबंध नहीं है।
 केन्द्र के 28 मई को जारी नोटिफिकेशन के मुताबिक गुजरात, राजस्थान, छत्तीसगढ़, हरियाणा, पंजाब के 13 जिलों के कलेक्टर को गैर मुस्लिम शरणार्थियों (हिंदू, सिख, जैन, बौद्ध, पारसी, ईसाई शामिल) को नागरिकता के लिए अर्जी स्वीकारने की इजाज़त दी थी। 2016 में 16 जिलों में ये इजाज़त दी गई थी।

इंस्टाग्राम व फेसबुक को नोटिस जारी किया: याचिका

अकांशु उपाध्याय                
नई दिल्ली। दिल्ली हाईकोर्ट ने इंस्टाग्राम पर हिंदू देवी-देवताओं के बारे में आपत्तिजनक पोस्ट के खिलाफ दायर याचिका पर केंद्र सरकार, इंस्टाग्राम और फेसबुक को नोटिस जारी किया है। जस्टिस रेखा पल्ली की वेकेशन बेंच ने 16 अगस्त तक जवाब दाखिल करने का निर्देश दिया है। यह याचिका वकील आदित्य सिंह देशवाल ने दायर की है। याचिकाकर्ता की ओर से वकील जी तुषार राव और आयुष सक्सेना ने कहा कि इंस्टाग्राम पर हिंदू देवी-देवताओं के बारे में आपत्तिजनक पोस्ट डाली गई हैं। इंस्टाग्राम पर कार्टून और ग्राफिक्स के जरिये देवी-देवताओं पर अश्लील सामग्री डाली गई है। इन पोस्ट को तुरंत हटाने का दिशा-निर्देश जारी किया जाए। 
याचिका में कहा गया है कि इंस्टाग्राम आईटी रुल्स का पालन कर रहा है कि नहीं अभी इसकी भी पड़ताल नहीं हो पाई है। याचिका में मांग की गई है कि आईटी रुल्स का पालन करना सुनिश्चित किया जाए। सुनवाई के दौरान इंस्टाग्राम और उसकी पैरेंट कंपनी फेसबुक की ओर से पेश वरिष्ठ वकील मुकुल रोहतगी ने कहा कि उन्होंने हिंदू देवी-देवताओं के आपत्तिजनक कंटेंट हटा दिए हैं। रोहतगी ने कहा कि इंस्टाग्राम ने नए आईटी रुल्स के मुताबिक ग्रीवांस अफसर की नियुक्ति की है और वही व्यक्ति फेसबुक का भी ग्रीवांस अफसर है। तब याचिकाकर्ता ने कहा कि एक ही व्यक्ति कैसे दो अलग-अलग सोशल मीडिया इंटरमीडियरी का ग्रीवांस अफसर कैसे हो सकता है।

यूपी में शराब माफियाओं का आतंक छिपा नहीं: बसपा

हरिओम उपाध्याय                    

लखनऊ। प्रतापगढ़ मे हुई पत्रकार की मौत के मामले अब तमाम राजनैतिक दल निष्पक्ष जांच की मांग कर रहे है। बहुजन समाज पार्टी की प्रमुख मायावती ने मंगलवार को सरकार से मांग की कि प्रतापगढ़ जिले में कथित दुर्घटना में एक पत्रकार की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत के मामले की अविलम्ब, निष्पक्ष व विश्वसनीय जांच कराकर वह दोषियों को सख्त सजा दिलवाना सुनिश्चित करे। मायावती ने मंगलवार को ट्वीट किया, यूपी में शराब माफियाओं आदि का आतंक किसी से भी छिपा हुआ नहीं है। जिनके काले कारनामों को उजागर करने पर ताजा घटना में प्रतापगढ़ जिले के टीवी पत्रकार की नृशंस हत्या अति-दुःखद है। सरकार घटना की अविलम्ब, निष्पक्ष व विश्वसनीय जांच कराकर दोषियों को सख्त सजा सुनिश्चित करे, बीएसपी की यह मांग है।

गौरतलब हैं कि प्रतापगढ़ जिले के कोतवाली नगर क्षेत्र में रविवार देर रात एक निजी समाचार चैनल के संवाददाता की मोटरसाइकिल के कथित रूप से खंभे से टकराने से संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी। इस मामले में अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया गया है। संवाददाता सुलभ श्रीवास्तव (42) ने शराब माफिया के विरुद्ध खबर चलाने के बाद गत 12 जून को प्रयागराज जोन के अपर पुलिस महानिदेशक को पत्र लिखकर जान-माल की सुरक्षा की मांग की थी।कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी और समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव पहले ही इस मामले की उच्च स्तरीय जांच की मांग कर चुके हैं।

हिंसक गतिविधियों से बचने का आह्वान: इजरायल

येरुशलम। संयुक्त राष्ट्र के विशेष राजदूत टोर वेनसलैंडने चेतावनी दी है कि इजरायली यहूदियों और फिलिस्तीनियों के बीच तनाव फिर से बढ़ रहे हैं। जिससे सांप्रदायिक संघर्ष के एक नये दौर की शुरुआत हो सकती है। मध्य-पूर्व शांति प्रक्रिया के लिये संयुक्त राष्ट्र के विशेष समन्वयक वेनसलैंड ने सोमवार को यह बयान दिया। उन्होंने ट्वीट कर कहा, "ऐसे समय में जब संयुक्त राष्ट्र और मिस्र संघर्षविराम को मजबूत करने के काम में सक्रिय हैं, तब यरूशलेम में फिर से तनाव बढ़ रहे हैं।" उन्होंने सभी पक्षों से किसी भी तरह की हिंसक गतिविधियों से बचने का आह्वान किया। टोर वेनसलैंड ने कहा, "मैं सभी संबंधित पक्षों से जिम्मेदार तरीके से कार्य करने का आग्रह करता हूं ताकि संघर्ष के एक और दौर को शुरू होने से रोका जा सके।"

पेट्रोल-डीजल की कीमतों में कोई बदलाव नहीं किया

अकांशु उपाध्याय           

नई दिल्ली। पेट्रोल-डीजल की कीमतों में मंगलवार को कोई बदलाव नहीं किया गया। इससे पहले सोमवार को इनके दाम बढ़कर नये रिकॉर्ड स्तर पर पहुँच गये थे।अग्रणी तेल विपणन कंपनी इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन के अनुसार, दिल्ली में पेट्रोल 96.41 रुपये और डीजल 87.28 रुपये प्रति लीटर पर स्थिर रहा।

कीमतों में बढ़ोतरी का मौजूदा क्रम 04 मई को शुरू हुआ था। दिल्ली में मई महीने के दौरान पेट्रोल 3.83 रुपये और डीजल 4.42 रुपये महंगा हुआ था। जून में अब तक पेट्रोल की कीमत 2.18 रुपये और डीजल की कीमत 2.13 रुपये बढ़ चुकी है। अन्य शहरों में भी दोनों ईंधनों के दाम में कोई बदलाव नहीं किया गया। मुंबई में पेट्रोल की कीमत 102.58 रुपये और डीजल की कीमत 94.70 रुपये प्रति लीटर रही। चेन्नई में एक लीटर पेट्रोल 97.69 रुपये का और एक लीटर डीजल 291.92 रुपये का बिका। कोलकाता में पेट्रोल की कीमत 96.34 रुपये और डीजल की 90.12 रुपये प्रति लीटर पर स्थिर रही। पेट्रोल-डीजल के मूल्यों की रोजाना समीक्षा होती है और उसके आधार पर हर दिन सुबह छह बजे से नयी कीमतें लागू की जाती हैं।

रेस्तरां के ‘बार’ में नहीं परोसी जाएंगीं शराब, आदेश

अकांशु उपाध्याय               
नई दिल्ली। दिल्ली के आबकारी विभाग ने स्पष्ट किया है कि अभी राष्ट्रीय राजधानी में होटल, क्लब और रेस्तरां के ‘बार’ में शराब नहीं परोसी जाएगी। कोविड-19 के मामले कम होने के बाद राष्ट्रीय राजधानी में शराब की दुकानें और रेस्तरानों को दोबारा खोल दिया गया है। देश में संक्रमण की दूसरी लहर के दौरान अप्रैल में इन्हें बंद कर दिया गया था। दिल्ली के आबकारी विभाग ने सोमवार को एक बयान में स्पष्ट किया, ‘‘ अगले आदेश तक होटल, क्लब और रेस्तरां में ‘बार’ बंद रहेंगे।’’

आदेश में कहा गया कि बाजारों, मॉल और बाजार परिसरों (नियंत्रण क्षेत्रों के बाहर) में सभी शराब की दुकानों को सुबह 10 से रात आठ बजे के बीच खोलने की अनुमति है। शहर में शराब की दुकानें छह जून को दोबारा खुलीं थी। अधिकारी ने बताया कि दिल्ली सरकार के सोमवार से रेस्तरां खोलने की अनुमति देने के बाद, होटल, क्लब और रेस्तरां में ‘बार’ खोलने के संबंध में कई सवाल पूछे जा रहे थे। जिसके बाद यह स्पष्टीकरण दिया गया।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

1. अंक-304 (साल-02)
2. बुधवार, जून 16, 2021
3. शक-1984, ज्येठ, शुक्ल-पक्ष, तिथि-सप्तमी, विक्रमी सवंत-2078।
4. सूर्योदय प्रातः 05:43, सूर्यास्त 07:15।
5. न्‍यूनतम तापमान -20 डी.सै., अधिकतम-39+ डी.सै.।
6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110
http://www.universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745  
                     (सर्वाधिकार सुरक्षित) 

संपर्क करने की अनिच्छा से परेशान हुआ पाकिस्तान

इस्‍लामाबाद/ वाशिंगटन डीसी।  अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन की प्रधानमंत्री इमरान खान से टेलीफोन पर संपर्क करने की अनिच्छा से पाकिस्‍तान परेशा...