रविवार, 11 जून 2023

महिलाएं 'सुंदरकांड' का पाठ करें, रामायण को पढ़ें 

महिलाएं 'सुंदरकांड' का पाठ करें, रामायण को पढ़ें 

इकबाल अंसारी 

हैदराबाद। तेलंगाना की राज्यपाल तमिलिसाई सौंदरराजन ने रविवार को कहा कि गर्भवती महिलाएं मानसिक और शारीरिक रूप से स्वस्थ बच्चे पैदा करने के लिए 'सुंदरकांड' का पाठ करें और उन्हें रामायण जैसे महाकाव्यों को भी पढ़ना चाहिए। सौंदरराजन ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) से जुड़े एक संगठन के 'गर्भ संस्कार' कार्यक्रम की शुरुआत करते हुए यह टिप्पणी की। वह स्त्री रोग विशेषज्ञ और भ्रूण चिकित्सक भी हैं।

संवर्धिनी न्यास द्वारा तैयार किए गए 'गर्भ संस्कार' कार्यक्रम के तहत, संगठन से जुड़े डॉक्टर गर्भवती माताओं को "वैज्ञानिक और पारंपरिक" उपायों के बारे में बतायेंगे ताकि वे "संस्कारी और देशभक्त" बच्चों को जन्म दे सकें। ऑनलाइन माध्यम से जारी किए 'गर्भ संस्कार' मॉड्यूल के अनुसार इन उपायों में भगवद गीता जैसे धार्मिक ग्रंथों का पाठ करना, संस्कृत मंत्रों का जाप करना और योगाभ्यास शामिल होगा।

यह प्रक्रिया गर्भाधान से पहले से प्रसव के चरण तक शुरू होगी और तब तक जारी रहेगी जब तक कि बच्चा दो साल का नहीं हो जाता। इसके अनुसार कार्यक्रम के दौरान गर्भवती महिलाओं के परिवार के सदस्यों का भी मार्गदर्शन किया जाएगा। संवर्धिनी न्यास, राष्ट्र सेविका समिति की एक शाखा है। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सौंदरराजन ने 'गर्भ संस्कार' कार्यक्रम मॉड्यूल विकसित करने में संवर्धिनी न्यास के प्रयासों की सराहना की और कहा कि गर्भावस्था के प्रति इस "वैज्ञानिक और समग्र दृष्टिकोण" के कार्यान्वयन से "निश्चित रूप से" सकारात्मक परिणाम मिलेंगे।

उन्होंने कहा, “गांवों में, हमने गर्भवती महिलाओं को रामायण, महाभारत और अन्य महाकाव्यों के साथ-साथ अच्छी कहानियां पढ़ते देखा है। खासकर तमिलनाडु में ऐसी मान्यता है कि गर्भवती महिलाओं को कम्ब रामायण के सुंदरकांड का पाठ करना चाहिए।” राज्यपाल ने कहा कि गर्भावस्था के दौरान "सुंदरकांड" का पाठ करना "बच्चों के लिए बहुत अच्छा" होगा। "सुंदरकांड" "रामायण" का एक अध्याय है।

संगठन के एक वरिष्ठ पदाधिकारी के अनुसार, 'गर्भ संस्कार' कार्यक्रम को पूरे देश में संवर्धिनी न्यास से जुड़े डॉक्टरों द्वारा लागू किया जाएगा। संवर्धिनी न्यास के एक पदाधिकारी ने शनिवार को ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया था, “इस उद्देश्य के लिए हमने देश को पांच क्षेत्रों में बांटा है और हर क्षेत्र में 10 चिकित्सकों का दल होगा जो इस कार्यक्रम को लागू करेगा।’’ 

तहसीलदार की गिरफ्तारी 'पुलिस' के लिए सर दर्द 

तहसीलदार की गिरफ्तारी 'पुलिस' के लिए सर दर्द 

मनोज रुंगटा 

रुद्रपुर। यौन शोषण के मामलें में आरोपी तहसीलदार पर दर्ज मुकदमा में तहसीलदार की गिरफ्तारी पुलिस के लिए सर दर्द बन गया है। जहां पुलिस मोबाइल का लोकेशन ट्रेस कर गिरफ्तारी के फिराक में है। वही, तहसीलदार कोर्ट मे आत्म समर्पण अब देखना है कि जीत पुलिस की गिरफ्तारी कर होती है या तहसीलदार की कोर्ट में आत्म समर्पण कर बताते चलें, कि योन शोषण के मामलें में तहसीलदार अभय राज पर रुद्रपुर कोतवाली में दुष्कर्म मारपीट व भ्रूण हत्या के आरोप मे मुकदमा पंजीकृत है।

जिलाधिकारी के संस्तुति पर प्रदेश सरकार ने तहसीलदार अभयराज को निलंबित करते हुए आफिस से अटैच कर दिया है। जहां तहसीलदार अपने आवास में ताला बंद कर फरार चल रहे हैं। वहीं, पुलिस नोटिस उनके दरवाजे पर नोटिस चस्पा करा दी है, जिसको लेकर पुलिस गिरफ्तारी के चक्कर में है। लेकिन, अभी तक पुलिस आरोपी तहसीलदार की गिरफ्तार नहीं कर पाई।

चहल ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 7 साल पूरे किए

चहल ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 7 साल पूरे किए

मोमीन मलिक 

नई दिल्ली। भारतीय स्पिनर युजवेंद्र चहल, जिन्होंने रविवार (11 जून) को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अपने सात साल पूरे कर लिए। युजवेंद्र चहल ने पूर्व कप्तान एमएस धोनी, विराट कोहली और मौजूदा कप्तान रोहित शर्मा के प्रति आभार व्यक्त किया। चहल ने 2016 में जिम्बाब्वे दौरे पर धोनी की कप्तानी में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में पदार्पण किया था। तब से, उन्होंने खुद को व्हाइट-बॉल क्रिकेट में भारत के लिए अग्रणी स्पिनरों में से एक के रूप में स्थापित किया। उन्होंने 72 एकदिवसीय और 75 टी20 मैच खेले, जिसमें क्रमश: 121 और 91 विकेट लिए।

रविवार को लेग स्पिनर ने सोशल मीडिया पर अपनी यात्रा के दौरान धोनी, कोहली और रोहित को अपना गुरु और प्रेरणा बताया। चहल ने एक ट्वीट में कहा, इसी दिन 7 साल पहले मुझे भारतीय क्रिकेट टीम के लिए गेंदबाजी करने के लिए माही भाई से अपनी पहली कैप मिली थी। तब से मेरा जीवन कुछ और नहीं बल्कि जीतने की भावना के साथ भारत को गौरवान्वित करने की यात्रा है। मैं निश्चित रूप से खुशकिस्मत हूं कि मैं अपने 3 मेंटॉर और सभी की प्रेरणा के साथ खेला हूं। फाइनल पर रोजर बिन्नी, उन्होंने कहा, माही भाई, विराट कोहली और रोहित शर्मा, मैदान पर और बाहर सर्वश्रेष्ठ मार्गदर्शन के साथ।

मैंने हमेशा अपने लक्ष्यों के लिए काम किया है और ऐसा करना जारी रखूंगा क्योंकि हमारे पास तोड़ने के लिए और अधिक रिकॉर्ड हैं। इसलिए मेरे दिल में बहुत गर्व और सम्मान है। मैं ईश्वर, अपने गुरुओं और अपने सहयोगियों के प्रति आभारी होने की अपनी भावना व्यक्त करना चाहता हूं। आज का दिन विशेष है और कई और विशेष दिन आएंगे। 32 वर्षीय स्पिनर का राजस्थान रॉयल्स के लिए आईपीएल 2023 सीजन शानदार रहा था। वह 20.57 की औसत से 21 विकेट लेकर अपनी टीम के लिए सबसे अधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज के रूप में उभरे और सीजन के लिए पर्पल कैप सूची में पांचवें गेंदबाज थे।

संस्थापक अध्यक्ष लालू का 76वां जन्मदिन मनाया

संस्थापक अध्यक्ष लालू का 76वां जन्मदिन मनाया

अविनाश श्रीवास्तव 

पटना। बिहार में भीषण गर्मी से बेपरवाह राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने रविवार को पार्टी संस्थापक अध्यक्ष लालू प्रसाद का 76वां जन्मदिन मनाया। पार्टी के संस्थापक अध्यक्ष के जन्मदिन के अवसर पर यहां अनुयायियों और परिवार के सदस्यों की उपस्थिति में 76 पाउंड वजन का एक विशाल केक काटा गया।

पटना के कई हिस्सों में राजद कार्यकर्ताओं द्वारा गरीबों को भोजन करवाया गया। इस अवसर की विशिष्टता राजद के अब प्रदेश में सत्ता में होने एवं पार्टी सुप्रीमो के शहर में रहने के कारण और भी बढ़ गई। क्योंकि, पिछले कई वर्षों से जेल की सजा और खराब स्वास्थ्य ने उन्हें अपने जन्मदिन पर अपने लोगों से दूर रखा था। बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यहां दस सर्कुलर रोड स्थित अपनी पत्नी राबड़ी देवी को आवंटित सरकारी बंगले में रह रहे हैं। वहां आधी रात को ही उस समय जश्न शुरू हो गया था जब उनके छोटे बेटे तेजस्वी यादव सहित परिवार के सदस्यों से घिरे हुए उन्होंने छोटा सा केक काटा। तेजस्वी यादव राज्य के उपमुख्यमंत्री हैं। राजद सुप्रीमो की पुत्री रोहिणी आचार्य इस अवसर पर मौजूद थीं।

उन्होंने पिछले साल अपने पिता को अपनी एक किडनी दान किया। इस अवसर पर लालू के बड़े बेटे और बिहार सरकार में मंत्री तेज प्रताप यादव ने अपने पसंदीदा देवता भगवान कृष्ण से जुड़े उत्तर प्रदेश के एक शहर बरसाना में दिन बिताने का फैसला किया। तेज प्रताप ने ट्विटर पर लालू के साथ एक वीडियो कॉल पर बातचीत का एक क्लिप साझा किया है जिसमें उन्होंने उन्हें जन्मदिन की बधाई दी।

राजद प्रमुख के जन्मदिन के अवसर पर उन्हें कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे, तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एम के स्टालिन और झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने शुभकामनाएं दी हैं। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राजद सुप्रीमो को उनके जन्मदिन की बधायी एवं शुभकामना देते हुए उनके स्वस्थ एवं सुदीर्घ जीवन की कामना की है। कुमार की पार्टी जनता दल यूनाइटेड (जदयू) के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह लालू को उनके जन्मदिन की बधाई देने के लिए दस सर्कुलर रोड पहुंचे थे।

29 महाविद्यालयों में संकाय खोलने का प्रस्ताव

29 महाविद्यालयों में संकाय खोलने का प्रस्ताव

नरेश राघानी 

जयपुर। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रदेश के 29 राजकीय महाविद्यालयों में विभिन्न विषयों से संबंधित नवीन संकाय खोलने के प्रस्ताव को मंजूरी प्रदान की है। गहलोत ने साथ ही नवीन संकायों के लिए आवश्यक नवीन पदों के सृजन एवं वित्तीय प्रावधान को भी मंजूरी प्रदान की है। प्रदेश के 22 सह-शिक्षा महाविद्यालयों एवं छह कन्या महाविद्यालयों में कला, विज्ञान एवं वाणिज्य से संबंधित नवीन संकाय खोले जाएंगे। नवीन संकायों के संचालन के लिए सहायक आचार्य के 131, प्रयोगशाला सहायक के 52, प्रयोगशाला वाहक के 52 सहित कुल 235 पदों का सृजन किया जाएगा।

इसके लिए 33.26 करोड़ रुपए का वित्तीय प्रावधान रखा गया है। साथ ही उदयपुर स्थित राजकीय महाविद्यालय, मावली को राजनीति विज्ञान विषय में स्नातकोत्तर स्तर पर क्रमोन्नत किया जाएगा। यहां स्नातक स्तर पर विज्ञान एवं वाणिज्य संकाय खोले जाएंगे।

नवीन संकायों के लिए सहायक आचार्य के 10, प्रयोगशाला सहायक के 4, प्रयोगशाला वाहक के 4 पद सहित कुल 18 नवीन पद सृजित होंगे। इसके लिए लगभग 2.55 करोड़ रुपए की वित्तीय मंजूरी भी दी गई है।  गहलोत की इस स्वीकृति से प्रदेश में शिक्षा क्षेत्र का विकास होगा। विद्यार्थियों को अपने पसंदीदा विषय का अध्ययन नजदीक ही करने के अवसर मिलेंगे।

भारत: एक दिन में कोरोना के 140 नए मामलें 

भारत: एक दिन में कोरोना के 140 नए मामलें 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। भारत में एक दिन में कोरोना वायरस संक्रमण के 140 नए मामलें सामने आने के बाद देश में अभी तक संक्रमित हुए लोगों की संख्या बढ़कर 4,49,92,788 करोड़ हो गई है। वहीं, उपचाराधीन मरीजों की संख्या 2,501 से घटकर 2,450 रह गई है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से रविवार सुबह आठ बजे जारी अद्यतन आंकड़ों के मुताबिक, कोविड-19 से तीन और मरीजों की मौत के बाद देश में कोरोना वायरस संक्रमण से जान गंवाने वाले लोगों की कुल संख्या बढ़कर 5,31,891 हो गई है। इनमें वह एक व्यक्ति भी शामिल है, जिसका नाम संक्रमण से मौत के आंकड़ों का पुन:मिलान करते हुए केरल ने वैश्विक महामारी से दम तोड़ने वाले मरीजों की सूची में जोड़ा है।

अद्यतन आंकड़ों के अनुसार, देश में अभी 2,450 लोगों का कोरोना वायरस संक्रमण का इलाज चल रहा है। उपचाराधीन मरीजों की यह संख्या कुल मामलों का 0.01 प्रतिशत है। वहीं, भारत में मरीजों के ठीक होने की राष्ट्रीय दर 98.81 फीसदी दर्ज की गई है। आंकड़ों के मुताबिक, देश में अभी तक कुल 4,44,58,447 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं, जबकि कोविड-19 से मृत्यु दर 1.18 प्रतिशत है। स्वास्थ्य मंत्रालय की वेबसाइट के अनुसार, भारत में राष्ट्रव्यापी टीकाकरण अभियान के तहत अभी तक कोविड-19 रोधी टीकों की 2,20,67,30,614 खुराक दी जा चुकी हैं।

गौरतलब है कि भारत में सात अगस्त 2020 को कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या 20 लाख, 23 अगस्त 2020 को 30 लाख और पांच सितंबर 2020 को 40 लाख से अधिक हो गई थी। संक्रमण के कुल मामले 16 सितंबर 2020 को 50 लाख, 28 सितंबर 2020 को 60 लाख, 11 अक्टूबर 2020 को 70 लाख, 29 अक्टूबर 2020 को 80 लाख और 20 नवंबर को 90 लाख के पार चले गए थे।

देश में 19 दिसंबर 2020 को ये मामले एक करोड़ से अधिक हो गए थे। चार मई 2021 को संक्रमितों की संख्या दो करोड़ और 23 जून 2021 को तीन करोड़ के पार पहुंच गई थी। पिछले साल 25 जनवरी को संक्रमण के कुल मामले चार करोड़ के पार चले गए थे। 

ट्रक चालक के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की गई 

ट्रक चालक के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की गई 

कविता गर्ग 

मुंबई। सड़क दुर्घटना का शिकार होने के एक दिन बाद टीवी अभिनेत्री रूबीना दिलैक ने रविवार को कहा कि वह ठीक हैं और ''लापरवाह'' ट्रक चालक के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की गई है। रूबीना के पति अभिनेता अभिनव शुक्ला ने शनिवार को उनके सड़क दुर्घटना में शिकार होने की जानकारी ट्विटर पर साझा की थी। अभिनेत्री की कार को एक ट्रक ने टक्कर मार दी थी। रूबीना ने ट्वीट कर अपने स्वास्थ्य की जानकारी दी है।

रूबीना ने ट्वीट किया, ‘‘ दुर्घटना की वजह से मेरे सिर और कमर में चोट आई है, जिसकी वजह से मैं सदमें थी, लेकिन हमने चिकित्सा जांच करवाई और अब सब कुछ ठीक है, चिंता की कोई बात नहीं है। लापरवाह ट्रक चालक के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की गयी है। लेकिन नुकसान हो चुका है, मैं आप सभी लोगों से सड़क पर ध्यान से गाड़ी चलाने का आग्रह करती हूं। नियम हमारी सुरक्षा के लिए बनाए गए हैं, इसलिए उनका पालन करें। ’’ 

कंपनियों ने शेयरों में 2,400 करोड़ रुपये लगाए

कंपनियों ने शेयरों में 2,400 करोड़ रुपये लगाए

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। म्यूचुअल फंड कंपनियों ने पिछले महीने यानी मई में शेयरों में 2,400 करोड़ रुपये लगाए हैं। इससे पहले अप्रैल में उन्होंने शेयरों से निकासी की थी। सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) की वृद्धि के मजबूत आंकड़ों, मुद्रास्फीति के नियंत्रित स्तर पर आने तथा अर्थव्यवस्था में तरलता का स्तर संतुलित होने के बीच म्यूचुअल फंड शेयरों में निवेश कर रहे हैं।

आनंद राठी वेल्थ के उप-मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) फिरोज अजीज ने कहा, सकारात्मक वृहद आंकड़ों तथा निफ्टी में शेयर मूल्य उचित स्तर पर होने के बीच आगे हम शेयरों में म्यूचुअल फंड निवेश में बढ़ोतरी देख सकते हैं। मोतीलाल ओसवाल एएमसी के मुख्य कारोबार अधिकारी अखिल चतुर्वेदी ने कहा, स्थिर जीडीपी वृद्धि, कम मुद्रास्फीति, निवेशक-अनुकूल नीतियों और उभरती अर्थव्यवस्थाओं के प्रति वैश्विक बाजार की धारणा से शेयरों में विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों और म्यूचुअल फंड का निवेश बढ़ रहा है।

भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) के आंकड़ों के अनुसार, म्यूचुअल फंड कंपनियों ने मई में शेयरों में शुद्ध रूप से 2,446 करोड़ रुपये का निवेश किया, जबकि अप्रैल में उन्होंने 4,533 करोड़ रुपये की निकासी की थी। हालांकि, म्यूचुअल फंड और एफपीआई के निवेश में काफी अंतर है।

मई में एफपीआई ने शेयरों में 43,838 करोड़ रुपये का निवेश किया है, जो म्यूचुअल फंड की तुलना में काफी अधिक है। अप्रैल में भी एफपीआई ने शेयरों में 11,631 करोड़ रुपये डाले थे। बाजार विशेषज्ञों का मानना ​​है कि निवेश के रुख में यह अस्थायी बदलाव भारतीय बाजार के लिए काफी सकारात्मक है। 

₹1367 करोड़ की पूर्ण परियोजनाओं का उद्घाटन 

₹1367 करोड़ की पूर्ण परियोजनाओं का उद्घाटन 

इकबाल अंसारी 

सलेम। तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एम. के. स्टालिन ने रविवार को राज्य के सलेम जिले में 1367 करोड़ रुपये की पूर्ण परियोजनाओं का उद्घाटन किया और अनुमानित 236 करोड़ रुपये की नयी परियोजनाओं की आधारशिला रखी। राज्य की पूर्ववर्ती अन्नाद्रमुक सरकार पर निशाना साधते हुए, स्टालिन ने उसके वित्तीय प्रबंधन को आडे़ हाथ लिया और उस पर केंद्र की सभी पाबंदियों’’ का "आँख बंद करके" समर्थन करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि राज्य ने जीएसटी के कारण अपना अधिकार खो दिया था।

उन्होंने यहां एक सरकारी कार्यक्रम में कहा, इसीलिए हमें आज पर्याप्त धन नहीं मिल रहा, वित्तीय संकट से जूझ रहे हैं क्योंकि (अन्नाद्रमुक सरकार) ने (केंद्र की) यूडीएवाई योजना पर हस्ताक्षर किए हैं, इसलिए बिजली दरों में संशोधन करने की मजबूरी है। स्टालिन ने कहा कि उनकी सरकार को लोगों पर बोझ डाले बिना राज्य के वित्तीय प्रबंधन को बेहतर करना है।

उन्होंने कहा कि सत्तारूढ़ द्रविड़ मुन्नेत्र कषगम (द्रमुक) ने अब राजस्व घाटा कम कर दिया है, यहां तक कि नयी योजनाएं शुरू की जा रही हैं। स्टालिन ने कहा कि यह सरकार कोष की कमी का हवाला देते हुए नए उपक्रमों को लागू करने से पीछे नहीं हटी है।

सरकारी विज्ञप्ति में कहा गया कि इससे पहले, मुख्यमंत्री ने पुनर्निर्मित बस स्टैंड, बहुमंजिला पार्किंग स्थल, स्कूलों में अतिरिक्त कक्षाओं, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों के लिए नयी इमारतों, नयी सड़कों सहित कई पूर्ण परियोजनाओं का उद्घाटन किया। स्टालिन ने अनुमानित 236 करोड़ रुपये की 331 परियोजनाओं की आधारशिला भी रखी। मुख्यमंत्री ने राज्य की राजधानी चेन्नई से लगभग 300 किलोमीटर दूर स्थित इस जिले के पेरारिगनार अन्ना पार्क में द्रमुक के दिवंगत अध्यक्ष एवं राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री एम. करुणानिधि की 16 फुट ऊंची प्रतिमा का अनावरण भी किया। 

उत्तर-पूर्व की ओर बढ़ा 'बिपारजॉय' तूफान 

उत्तर-पूर्व की ओर बढ़ा 'बिपारजॉय' तूफान 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। पूर्वी मध्य अरब सागर के ऊपर बना शक्तिशाली चक्रवाती तूफान बिपारजॉय पिछले छ: घंटों के दौरान नौ किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार के साथ उत्तर-पूर्व की ओर बढ़ा है और बेहद विध्वंसक चक्रवात में बदल गया है। भारतीय मौसम विभाग(आईएमडी) ने रविवार को जारी एक बुलेटिन में कहा, “शक्तिशाली चक्रवाती तूफान आज सुबह 05:30 घंटे पहले उसी क्षेत्र अक्षांश 17.9 ° उत्तर और देशांतर 67.4 ° पूर्व, मुंबई से लगभग 580 किमी पश्चिम-दक्षिण पश्चिम, 480 किलोमीटर दक्षिण-पश्चिम , पोरबंदर के दक्षिण-पश्चिम में, देवभूमि द्वारका से 530 किमी दक्षिण-दक्षिण पश्चिम में, नलिया से 610 किमी दक्षिण-दक्षिण पश्चिम में और कराची (पाकिस्तान) से 780 किमी दक्षिण में था।

इसके 14 जून की सुबह तक लगभग उत्तर की ओर बढ़ने की संभावना है। फिर उत्तर-पूर्व की ओर बढ़ते हुए सौराष्ट्र और कच्छ साथ ही लगते हुए पाकिस्तान के तटीय इलाकों मांडवी (गुजरात) तथा कराची (पाकिस्तान) से गुजरेगा। इसके बाद 15 जून को 125 से 135 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार के 150 किलोमीटर प्रतिघंटा में बदल कर एक भीषण चक्रवाती तूफान में बदलने की आशंका है। इस जबरदस्त चक्रवाती तूफान के कारण गुजरात में भारी बारिश होने की चेतावनी जारी की गई। इस क्रम में 14 जून को गुजरात के कच्छ, देवभूमि द्वारका, पोरबंदर, जामनगर, राजकोट, जूनागढ़ और मोरबी जिलों में भारी वर्षा की चेतावनी है। जबकि कच्छ, देवभूमि द्वारका, पोरबंदर साथ ही सौराष्ट्र और कच्छ के जामनगर,राजकोट, जूनागढ़ और मोरबी जिले में अलग-अलग स्थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा के साथ अधिकांश स्थानों पर हल्की से मध्यम वर्षा होने के आसार हैं।

कच्छ, देवभूमि द्वारका और जामनगर में कुछ स्थानों पर 15 जून को भारी से बहुत भारी वर्षा और अलग-अलग स्थानों पर अत्यधिक भारी वर्षा साथ ही पोरबंदर, राजकोट, मोरबी और जूनागढ़ में कुछ स्थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा होने का अनुमान है। इतना ही नहीं 15 जून को सौराष्ट्र और उत्तर गुजरात क्षेत्र के शेष जिलों में भारी बारिश होने का अनुमान है।

पूर्व मध्य और इससे सटे पश्चिम मध्य और पूर्वोत्तर अरब सागर में आज 160-175 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से लेकर 195 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल रही हैं और कल 150-165 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से लेकर 185 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलने का अनुमान है। बुलेटिन मे कहा गया कि कच्छ , देवभूमि द्वारका, पाेरबंदर, जामनगर और मोरबी जिलों में चेतावनी है। जिस समय यह तूफान जमीन से टकरायेगा उस समय इन जिलों के निचले इलाकों में दो मीटर ऊंची ज्वारीय लहरें उठने की आशंका है।  

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण


1. अंक-241, (वर्ष-06)

2. सोमवार, जून 12, 2023

3. शक-1944, आषाढ़, कृष्ण-पक्ष, तिथि- नवमी, विक्रमी सवंत-2079‌‌।

4. सूर्योदय प्रातः 05:45, सूर्यास्त: 06:55। 

5. न्‍यूनतम तापमान- 25 डी.सै., अधिकतम- 43+ डी.सै.।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है। 

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु  (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसैन पंवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102। 

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

(सर्वाधिकार सुरक्षित)

'बुंदेलखंड' को निवेश का नया गंतव्य बनाया

'बुंदेलखंड' को निवेश का नया गंतव्य बनाया  संदीप मिश्र  लखनऊ। कभी पिछड़े क्षेत्र के रूप में पहचान रखने वाले बुंदेलखंड को योगी सरकार न...