सोमवार, 14 मार्च 2022

'आप' ने दूसरे प्रदेश में भी पूर्ण बहुमत से सरकार बनाई

'आप' ने दूसरे प्रदेश में भी पूर्ण बहुमत से सरकार बनाई 

राणा ओबरॉय     
चंडीगढ़। राजनीति के इतिहास में आप पहली क्षेत्रीय पार्टी है‌। जिसने किसी दूसरे प्रदेश में भी पूर्ण बहुमत से सरकार बनाई है। अभी हाल ही में पंजाब में स्वीप करने के बाद आप पार्टी के संयोजक का फोकस दूसरे प्रदेशों पर हो गया है। पंजाब जीत का सीधा असर पंजाब के साथ लगते प्रदेशो में होगा। दिल्ली से बाहर निकलकर पंजाब में पूर्ण बहुमत की सरकार बनाने वाली आम आदमी पार्टी की निगाह अब हरियाणा पर है। केजरीवाल जानते हैं, कई पार्टीयो के दुखी नेता अपना राजनीतिक भविष्य तलाश रहे हैं। पंजाब की कुर्सी अपने साथी भगवंत मान को सौंपने के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के सुप्रीमो अरविंद केजरीवाल बुलन्द हौंसले के कारण हरियाणा के साथ-साथ हिमाचल प्रदेश में भी पार्टी का जनाधार बढ़ाने के लिए काम करेंगे। 
पंजाब में हुए सियासी बदलाव के बाद न केवल हरियाणा की अफसरशाही, बल्कि दूसरे दलों के असंतुष्ट नेता भी अब आम आदमी पार्टी के करीब आने की जुगत भिड़ा रही है। एमपी, डा. सुशील गुप्ता ने हालांकि, पार्टी की गतिविधियों को चालू रखने की कोशिश की है। लेकिन वह जनता से अपना सीधा कनेक्शन नहीं जोड़ पाए। पंजाब चुनाव के अप्रत्याशित नतीजों के बाद राज्य में एक बार फिर आम आदमी पार्टी की राजनीतिक गतिविधियों को उड़ान मिलने की उम्मीद है। पार्टी का अगले कुछ माह के भीतर होने वाले शहरी निकाय चुनाव अपने सिंबल झाड़ू पर लड़ने का ऐलान इस बात का संकेत है कि अरविंद केजरीवाल अब अपने गृह राज्य हरियाणा को लेकर काफी गंभीर हैं। ऐसा भी हो सकता है कि प्रदेश की जनता वर्तमान मुख्यमंत्री को त्याग कर केजरीवाल को प्रदेश में लाने का मन न बना ले।

ईपीएफ निदेशालय में 'सीबीआई' ने छापामारी की

ईपीएफ निदेशालय में 'सीबीआई' ने छापामारी की  

श्रीराम मौर्य          

शिमला। ईपीएफ ऑफिस में सीबीआई की टीम ने छापामारी की है। कसुम्पटी स्थित ईपीएफ निदेशालय में सीबीआई ने रेड मारी है। जानकारी के अनुसार, सीबीआई के अधिकारी रिकॉर्ड अपने साथ ले गए हैं। प्राइवेट संस्थाओं और कॉन्ट्रैक्टरों के तहत काम करने वाले कर्मचारियों के ईपीएफओ खातों से छेड़छाड़ का अंदेशा है। बताया जा रहा है कि सीबीआई ने सोमवार शाम कसुम्पटी स्थित ईपीएफओ के दफ्तर में जाकर वहां एक बड़े अधिकारी से बात की और पूछताछ करने के बाद अपने साथ 5 से अधिक फाइलें लेकर गई है। टीम फिलहाल जांच की जा रही है।

राजधानी शिमला में जहां एक तरफ विधानसभा का सत्र चला हुआ है और विधानसभा का घेराव हो रहा था। वहीं, दूसरी तरफ ईपीएफ के दफ्तर में सीबीआई के रेड से हड़कंप मच गया है। बताया जा रहा है कि इस रेड से ईपीएफ के दफ्तर में हड़कंप मच गया। सीबीआई की टीम शाम को दफ्तर में पहुंची और सीधे बड़े अधिकारी के कमरे में जाकर पूछताछ करने लगी और उनसे जांच संबंधित फाइलें लेकर चली गई। सीबीआई की रेड किस संबंध में थी, अभी यह जानकारी प्राप्त नहीं हुई है।लेकिन ईपीएफ में हुई गड़बड़ियों को लेकर यह जांच की जा रही है। बताया जा रहा है कि लोगों की शिकायतों के बाद सीबीआई ने वहां रेड की थी।

'होली' पर्व को सकुशल सम्पन्न कराने के दृष्टिगत बैठक

'होली' पर्व को सकुशल सम्पन्न कराने के दृष्टिगत बैठक  

बृजेश केसरवानी       
प्रयागराज। जनपद में होली सकुशल सम्पन्न कराने हेतु जिलाधिकारी संजय कुमार खत्री एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय कुमार ने होली पर्व को सकुशल सम्पन्न कराने के दृष्टिगत सोमवार को संगम सभागार में बैठक की। उन्होंने सभी उपजिलाधिकारी एवं पुलिस उपाधीक्षक को होली के दृष्टिगत अपने-अपने क्षेत्रों का निरीक्षण करने के लिए कहा है। उन्होंने बिजली विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया है कि मार्गों पर जो भी तार जर्जर है, पोल तथा ट्रांसफार्मर खराब है, उन्हे तत्काल बदल दे।
उन्होंने आबकारी विभाग को निर्देशित किया है कि संयुक्त टीम बनाकर छापेमारी आदि की कार्यवाही सुनिश्चित करें। कहीं पर भी अवैध शराब आदि की बिक्री नहीं होनी चाहिए। उन्होंने नगर निगम के अधिकारियों को निर्देशित किया कि शहर में साफ-सफाई, छिड़काव तथा पानी आदि की व्यवस्था दुरूस्त करा ली जाये तथा नगर पंचायतों के अधिशाषी अधिकारी भी ये सुनिश्चित कर लें कि साफ-सफाई, पानी आदि की समुचित व्यवस्था सुनिश्चित रहे। उन्होंने अभिहित अधिकारी (फूड आफिसर) को निर्देशित किया है कि त्यौहारों के समय खाद्य पदार्थों पर विशेष निगरानी रखे, किसी भी दशा में मिलावटी खाद्य पदार्थ की बिक्री न होने पाये, मिलावटी खाद्य-पदार्थों की बिक्री करने वालो पर कड़ी कार्यवाही की जाये। 
जिलाधिकारी ने निर्देशित किया है कि बिना अनुमति के डीजे न चलाया जाये तथा मानक के अनुसार ही डीजे का संचालन सुनिश्चित किया जाये। उन्होंने मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देशित किया है कि होली के दृष्टिगत सभी अस्पतालों में डाॅक्टर, एम्बुलेंस तथा दवाओं की उपलब्धता सुनिश्चित रहें।

सामाजिक कार्यकर्ता के चित्र पर पुष्प अर्पित: सीएम

सामाजिक कार्यकर्ता के चित्र पर पुष्प अर्पित: सीएम    

दुष्यंत टीकम        
रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सोमवार को रायपुर जिले की तिल्दा तहसील के अंतर्गत ग्राम खौलीडबरी पहुंचकर वरिष्ठ सामाजिक कार्यकर्ता स्वर्गीय श्री मण्डल दास गिलहरे के दशगात्र कार्यक्रम में शामिल हुए। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने श्री गिलहरे के चित्र पर पुष्प अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजली अर्पित की और शोकसंतप्त परिवार के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त की। 
इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने श्री मंण्डलदास के देहावसान को अपूरर्णीय क्षति बताते हुए कहा कि वे सीधे-साधे, सरल और लोकप्रिय व्यक्ति थे। उन्होंने सामाजिक क्षेत्र में काफी काम किया है। इस दौरान धरसींवा विधायक,अनिता योगेन्द्र शर्मा, खनिज विकास निगम के अध्यक्ष गिरीश देवांगन और स्वर्गीय श्री मण्डल दास गिलहरे के सुपुत्र खरोरा नगर पंचायत में पार्षद सुरेन्द्र गिलहरे,हेमलाल गिलहरे,पुन्नाराम गिलहरे एवं राजेन्द्र गिलहरे सहित परिवारजन एवं बड़ी संख्या में ग्रामीण मौजूद थे।

कौशाम्बी: संभ्रांत नागरिकों के साथ बैठक आयोजित

कौशाम्बी: संभ्रांत नागरिकों के साथ बैठक आयोजित    

सुशील केसरवानी      
कौशाम्बी। जिलाधिकारी सुजीत कुमार की अध्यक्षता में सोमवार को कलेक्ट्रेट स्थित सम्राट उदयन सभागार में होली एवं शबे बरात के त्यौहार को शान्तिपूर्ण एवं सकुशल ढंग से मनाये जाने हेतु जनपद के संभ्रांत नागरिकों के साथ बैठक आयोजित की गयी। बैठक में जिलाधिकारी ने होली के मद्देनजर जनपद में शान्ति व्यवस्था बनाये रखने हेतु संबधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा निदेर्श दिये उन्होने जनपद के संवेदनशील स्थलों पर कड़ी नजर बनाये रखने एवं आसामाजिक तत्वों से सख्ती से निपटने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिये है। 
उन्होने कहा कि होली पर्व पर आसामाजिक तत्वों के द्वारा अफवाह फैलाने वालों के विरूद्ध कड़ी से कड़ी कारर्वाई की जायेगी। जिलाधिकारी ने कहा कि 17 और 18 मार्च को होली का त्यौहार पूरे जनपद में शान्ति और सौहार्द के साथ मनाया जायेगा। जिलाधिकारी ने सभी उप जिलाधिकारियों, पुलिस क्षेत्राधिकारियों एवं थानाध्यक्षों को अपने-अपने क्षेत्रों में भ्रमणशील रहकर होली पर्व पर शान्ति व्यवस्था बनाये रखने का निदेर्श दिया है। 
उन्होने होलिका दहन वाले स्थानों की साफ-सफाई कराने का निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिया है। उन्हेाने ढीले, लटकते एवं जजर्र विद्युत तारों को तत्काल ठीक कराये जाने का निर्देश अधिशासी अभियंता विद्युत को दिया है। उन्होने पानी की टंकियों के पाइप के लीकेज को तत्काल ठीक कराये जाने का निर्देश अधिशासी अभियंता जल निगम को दिया है जिलाधिकारी ने कहा है कि नवीन व विवादित स्थल पर होलिका दहन का प्रयास नहीं किया जायेगा। शरारती तत्वों द्वारा होलिका में छप्पर गुमटी/लकड़ी आदि डालते हुए पाये जाने वालों के विरूद्ध कड़ी कारर्वाई की जायेगी। उन्होने कहा कि होलिका का दहन समय से ही किया जाय तथा धार्मिक उन्माद फैलाने वालों पर भी कड़ी नजर रखी जाये। किसी के धार्मिक भावनाओं को ठेस न पहुंचाई जाये ऐसे लोगों के मकान व घरों पर रंग व कीचड़ न फेंके जायें जो दूसरे सम्प्रदाय से तालुक रखते हैं। महिलाओं से अश्लील हरकत करने वालों के विरूद्ध कड़ी कारर्वाई की जायेगी इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी जयचन्द्र पाण्डेय, अपर पुलिस अधीक्षक समर बहादुर, सभी उप जिलाधिकारीगण, सभी पुलिस क्षेत्राधिकारीगण, जिला आबकारी अधिकारी, अधिशासी अभियंता, विद्युत, सभी थाने के थानाध्यक्ष, जनपद के सम्भ्रान्त नागरिकगणों के साथ-साथ सम्बन्धित अधिकारीगण उपस्थित रहे।

बच्चों ने स्कूल के अंतिम दिन, गुलाल उड़ाकर बधाई दीं

बच्चों ने स्कूल के अंतिम दिन, गुलाल उड़ाकर बधाई दीं  

सुनील पुरी        
फतेहपुर। रंगों के त्योहार होली के अवसर पर विद्यालय में होने वाले अवकाश व होली की खुशियां, बच्चों ने स्कूल के अंतिम दिन अबीर व गुलाल उड़ाकर एक-दूसरे को बधाई देकर मनाई। सोमवार को शहर के सिविल लाइन स्थित लिल्स बगिया पटेल इंटर कालेज में होली के अवकाश की घोषणा होते ही बच्चे खुशी से झूम उठे। कक्षाओं के समाप्ति के बाद छात्र छात्राओं, शिक्षक शिक्षिकाओं व स्टाफ के बीच जमकर अबीर व गुलाल उड़ाए। साथ ही फिल्मी धुन संगीत पर जमकर थिरकते हुए त्योहार से पहले ही माहौल को रंग बिरंगे रंग से रंगीन कर दिया।
शिक्षक शिक्षिकाओं ने एक दूसरे को होली के रंग से रंग दिया। वहीं बच्चों ने एक दूसरे को अबीर व गुलाल लगाकर होली की खुशियां मनाई व पर्व की बधाई दी। बच्चों ने अपने अपने टीचरों के चेहरे पर गुलाल लगाया। जवाब में शिक्षकों ने भी बच्चों को गुलाल लगाकर घर पर सुरक्षित तरीके से होली मनाने की जानकारी दी। उन्होने सिंथेटिक रंगों से परहेज़ करने व रासायनिक रंगों से बचने की भी सलाह दी। इस मौके पर प्रधानाचार्य जितेंद्र सिंह, आशुकांत प्रजापति, प्रदीप कुमार, सेजल भारती, विवेक कुमार आदि रहे।

एक्ट्रेस उर्फी ने इंस्टाग्राम हैंडल पर वीडियो शेयर की

एक्ट्रेस उर्फी ने इंस्टाग्राम हैंडल पर वीडियो शेयर की   

कविता गर्ग      
मुंबई। एक्ट्रेस उर्फी जावेद अपने फैशन सेंस को लेकर सुर्खियों में रहती हैं‌। ऐसा कोई दिन नहीं होता, जब वह किसी अतरंगी ड्रेस में नजर न आए। इस बीच उर्फी जावेद का एक नया वीडियो वायरल हो रहा है। जिसमें उनका कातिलाना अवतार देखकर किसी के भी होश उड़ जाएंगे‌‌।
दरअसल, खुद उर्फी जावेद ने अपनी एक वीडियो इंस्टाग्राम हैंडल पर शेयर की है। वीडियो में देखा जा सकता है कि खुले घुंघराले बालों में हरे रंग की फ्लोरल बिकिनी पहने उर्फी डांस करती नजर आ रही हैं‌। अपने कर्वी फिगर को फ्लॉन्ट करते हुए उर्फी इठलाती हुई नजर आ रही हैं।

6,400 करोड़ के 'बिजली बिल' माफ करने की घोषणा

6,400 करोड़ के 'बिजली बिल' माफ करने की घोषणा 

मनोज सिंह ठाकुर 
भोपाल। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज विधानसभा में कोरोना संकट काल में स्थगित किए गए करीब 88 लाख लोगों के लगभग 6,400 करोड़ रुपए के बिजली बिल माफ करने की घोषणा की। चौहान आज विधानसभा के बजट सत्र के दौरान राज्यपाल के अभिभाषण पर कृतज्ञता ज्ञापन प्रस्ताव पर चर्चा का जवाब दे रहे थे। इसके साथ ही करीब दो घंटे के अपने संबोधन में विधायक निधि दो करोड़ रुपए से बढ़ाकर तीन करोड़ किए जाने और राज्य में अति लोकप्रिय लाड़ली लक्ष्मी योजना के बाद अब ‘लाड़ली लक्ष्मी योजना – 2’ लाए जाने की भी घोषणा की।
अपने संबोधन में चौहान ने कहा कि कोरोना के संकट काल में ये बिजली बिल स्थगित किए गए थे, लेकिन अब करीब 6400 करोड़ रुपए की राशि के 88 लाख बिजली बिल माफ किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि लगभग 48 लाख किसान अब तक करीब बिजली बिल के तौर पर 189 करोड़ रुपए जमा कर चुके हैं। इस राशि को समायोजित किया जाएगा। इसी दौरान मुख्यमंत्री ने विधायक निधि की राशि दो करोड़ से बढ़ाकर 3 करोड़ रुपए करने और विधायकों की स्वेच्छानुदान राशि बढ़ाकर 50 लाख रुपए किए जाने की भी घोषणा की।अपने संबोधन में सीएम ने अनुसूचित जाति-जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग, किसानों, महिलाओं और विभिन्न गरीब वर्गों से संबंधित राज्य शासन की विभिन्न योजनाओं के बारे में विस्तार से बताया। इसी क्रम में मुख्यमंत्री ने ‘लाड़ली लक्ष्मी – 2’ योजना शुरु करने की भी घोषणा की। उन्होंने कहा कि इसका मुख्य उद्देश्य लाड़ली लक्ष्मियों की उच्च शिक्षा पर जोर रहेगा। उन्होंने बताया कि राज्य में लाड़ली लक्ष्मियों की संख्या करीब 41 लाख हो चुकी हैं।
अपने संबोधन की शुरुआत में ही मुख्यमंत्री ने नेता प्रतिपक्ष कमलनाथ की सदन में गैर-मौजूदगी का जिक्र किया। उन्होंने कहा कि ऐसा पहली बार हो रहा है कि कृतज्ञता ज्ञापन प्रस्ताव पर नेता प्रतिपक्ष ने चर्चा में हिस्सा नहीं लिया। उन्होंने कहा कि उन्हें उम्मीद थी कि नेता प्रतिपक्ष आज सदन में आएंगे।
मुख्यमंत्री के संबोधन के बाद विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम ने कृतज्ञता ज्ञापन प्रस्ताव को ध्वनिमत से पारित कराया। ये प्रस्ताव सात मार्च को पेश किया गया था। अध्यक्ष गौतम ने कहा कि इस प्रस्ताव पर करीब साढ़े चार घंटे की चर्चा हो चुकी है। सदन में मुख्यमंत्री के संबोधन के पहले प्रश्नकाल चला, जिसके बाद पहले से निर्धारित समयानुसार मुख्यमंत्री ने अपना जवाब दिया। कृतज्ञता ज्ञापन प्रस्ताव पारित होने के बाद अध्यक्ष गौतम ने सदन की कार्यवाही कल सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित कर दी।

प्रवेश परीक्षा, जेईई मेन 2022 की तारीखों में बदलाव

प्रवेश परीक्षा, जेईई मेन 2022 की तारीखों में बदलाव 

अकांशु उपाध्याय         

नई दिल्ली। जेईई मेन परीक्षा में शामिल होने वाले अभ्यार्थियों के लिए एक बड़ी खबर है। दरअसल नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने संयुक्त प्रवेश परीक्षा, जेईई मेन 2022 की तारीखों में बदलाव किया है। बता दें जेईई मेन परीक्षा, जो पहले 16 अप्रैल को निर्धारित की गई थी, अब वह 21 अप्रैल से आयोजित की जाएगी। छात्र -छात्राएं एनटीए की आधिकारिक वेबसाइट nta.ac.in पर पर विस्तृत शेड्यूल देख सकते हैं। शैक्षणिक वर्ष 2022-23 के लिए जेईई (मुख्य) – 2021 सत्र – 1 के लिए रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया चल रही हैै।

इस बीच, जेईई (मेन) – 2022 के सत्र 1 की तारीखों में बदलाव की मांग छात्रों द्वारा लगातार की जा रही थी। जिसके लिए उन्होंने सोशल साइट पर भी एक मुहिम छेड़ रखी थी। छात्रों का कहना था कि बोर्ड परीक्षा की तारीखें जेईई (मेन) – 2022 सत्र 1 से क्लैश कर रही हैं। ऐसे में छात्र-छात्राओं की मांग के चलते राष्ट्रीय परीक्षण एजेंसी ने जेईई (मुख्य) –2022 सत्र 1 की तारीखों में बदलाव किया है। नए शेड्यूल के अनुसार जेईई मेन 2022 परीक्षा 21 अप्रैल, 24, 25, 29 और 1 मई को आयोजित की जाएगी।

बता दें अभ्यर्थी अप्रैल 2022 के दूसरे सप्ताह से एडमिट कार्ड डाउनलोड करना शुरू कर सकते हैं। वहीं उम्मीदवार अधिक जानकारी व अपडेट के लिए एनटीए की आधिकारिक वेबसाइट www.nta.ac.in और jeemain.nta.nic.in को देखते रहें। साथ ही जेईई (मेन) – 2022 से संबंधित अधिक जानकारी के लिए उम्मीदवार 011- 40759000/011-69227700 पर संपर्क कर सकते हैं या jeemain@nta.ac.in पर ईमेल कर सकते हैं।

ट्रेड्समैन के पदों पर भर्ती, नोटिफिकेशन जारी किया

ट्रेड्समैन के पदों पर भर्ती, नोटिफिकेशन जारी किया   

अकांशु उपाध्याय         
नई दिल्ली। अगर आप भी भारतीय नौसेना में शामिल होकर देश की सेवा करना चाहते हैं तो यह आपके लिए एक अच्छा मौका हो सकता है। दरअसल भारतीय नौसेना ने ट्रेड्समैन के पदों पर भर्ती के लिए नोटिफिकेशन जारी किया गया है। इस भर्ती के अंतर्गत 1531 पदों पर नियुक्ति की जाएगी। इच्छुक उम्मीदवार इन पदों पर आवेदन करने के लिए आधिकारिक वेबसाइट joinindiannavy.gov.in को देख सकते है।
ट्रेड्समैन के पदों के लिए चयनित उम्मीदवारों को मैट्रिक्स लेवल 2 के तहत 19,900 से 63,299 रुपये प्रति माह वेतन प्रदान किया जाएगा। इस भर्ती के अंतर्गत इन पदों पर आवेदन की प्रक्रिया 22 मार्च से शुरू की जाएगी। 
इच्छुक उम्मीदवार 22 मार्च तक इस भर्ती के लिए आवेदन कर सकते हैं। भारतीय नौसेना में ट्रेड्समैन के पद पर आवेदन करने के इच्छुक उम्मीदवारों की उम्र 18 से लेकर 25 वर्ष के बीच में होनी चाहिए साथ ही आरक्षित वर्ग के उम्मीदवारों को सरकार के नियमानुसार अधिकतम आयु सीमा में विशेष छूट प्रदान की जाएगी।भारतीय नौसेना भर्ती के लिए उम्मीदवारों को किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड या संस्थान से 10वीं पास होना चाहिए। आवेदन करने के लिए उम्मीदवारों को अंग्रेजी भाषा का ज्ञान भी होना चाहिए, साथ में उनके पास औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (आईटीआई) से प्रमाण पत्र होना भी आवश्यक है।

एमपी: बसपा नेता की पिटाई का वीडियो वायरल हुआ

एमपी: बसपा नेता की पिटाई का वीडियो वायरल हुआ 

मनोज सिंह ठाकुर      

राजगढ़। राजगढ़ जिले में बसपा नेता की पिटाई का वीडियो वायरल हो रहा है। वीडियो में बसपा नेता को भीड़ ने घेर रखा है और एक महिला चप्पलों से पिटाई करती नजर आ रही है। हालांकि पुलिस के पास किसी ने भी मामले की शिकायत नहीं की है, जिसके चलते अब तक मामले में कोई कार्रवाई नहीं की गई।जानकारी के अनुसार वायरल वीडियो राजगढ़ जिले के ब्यावरा स्थित मुलतानपुरा का है। यहां बहुजन समाज पार्टी के एक नेता की कुछ लोगों ने पिटाई की, वहीं एक महिला ने भी उनकी चप्पल से पिटाई की। मामले पर एसपी राजगढ़ प्रदीप शर्मा ने ऐसी किसी भी घटना की जानकारी से इंकार किया है। उनका कहना है कि घटना का कोई शिकायतकर्ता नहीं आया है।फिलहाल इसे पारिवारिक झगड़े का मामला माना जा रहा है। बताया जा रहा है कि नेताजी और महिला की पिटाई करने वाले लोग आपस में रिश्तेदार हैं, जो किसी कार्यक्रम में आमंत्रण में बुलाए जाने पर बीच सड़क में झगड़ रहे थे। इसी को लेकर विवाद हुआ था। विवाद बड़ा तो वे आपस में मारपीट में उतर आए और नेताजी की पिटाई कर दी।

चीन में कोविड-19 के मामलों पर चिंता व्यक्त: सीएम

चीन में कोविड-19 के मामलों पर चिंता व्यक्त: सीएम   

नरेश राघानी     

जयपुर। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने चीन में कोविड-19 के तेजी से बढ़ते मामलों पर सोमवार को चिंता व्यक्त की और केंद्र सरकार से चीन से आवागमन नियंत्रित करने पर विचार करने का सुझाव दिया। गहलोत ने ट्वीट किया, ”चीन में संक्रमण के मामलों में तेजी से इजाफा हुआ है। दुनियाभर में संक्रमण के मामले कम हो रहे हैं, ऐसे में चीन में मामले बढ़ना चिंताजनक है, क्योंकि दो साल पहले कोरोना वायरस से संक्रमण की शुरुआत भी यहीं से हुई थी। 

उन्होंने कहा कि, केंद्र सरकार को चीन के हालात को देखकर वहां से आवागमन नियंत्रित करने पर विचार करना चाहिए। पूर्व में आई संक्रमण की तीनों लहरों से सबक लेकर कोई लापरवाही नहीं बरती जानी चाहिए। चीन में कोरोना वायरस के अत्यधिक संक्रामक ओमीक्रोन स्वरूप के मामले बढ़ते जा रहे हैं और सोमवार को मुख्य भूभाग के कई शहरों में संक्रमण के 1,337 मामले सामने आए। 

महायुद्ध: आयोजित वार्ता में मध्यस्थता करेगा इजराइल

महायुद्ध: आयोजित वार्ता में मध्यस्थता करेगा इजराइल  

सुनील श्रीवास्तव       

कीव/मास्को। रूस और यूक्रेन का युद्ध दिन-ब-दिन बढ़ता जा रहा है। तमाम अंतरराष्ट्रीय प्रयासों के बावजूद यह युद्ध थमने का नाम नहीं ले रहा। इस बीच यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की का एक बड़ा बयान सामने आया है। उन्होंने कहा है कि यूक्रेन-रूस के महायुद्ध के समाधान के लिए आयोजित वार्ता में इजराइल मध्यस्थता करने जा रहा है। बता दें कि यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की ने इजरायल के पीएम नफ्ताली बैनेट से मध्यस्थता करने का आग्रह किया था। जिसके बाद इजरायल के पीएम ने इस आग्रह को स्वीकार करते हुए इस वार्ता में मध्यस्थता करने का निर्णय लिया है।

जहां एक ओर पूरी दुनिया के शक्तिशाली देश यूक्रेन और रूस के बीच समझौता कराने के प्रयास में लगे हुए हैं, वहीं दूसरी ओर रूस का रवैया लगातार आक्रामक होता जा रहा है। लगभग पूरे यूक्रेन के अलग-अलग स्थानों पर लगातार रुस के द्वारा बमबारी की जा रही है। हवाई के साथ साथ जमीनी हमले करके भी रूस की सेना लगातार यूक्रेन में कब्जा करते जा रही है। इसी कड़ी में आज सुमी ओब्लास्ट के ओख्तिरका में रुस ने फिर से बम बरसा दीए जिसमें 3 लोगों की मौत हो गई।

आईपीओ लॉन्च करने के लिए 12 मई तक का समय

आईपीओ लॉन्च करने के लिए 12 मई तक का समय 

अकांशु उपाध्याय        
नई दिल्ली। सरकार के पास बाजार नियामक भारतीय प्रतिभूति विनिमय बोर्ड (सेबी) के पास नए कागजात दाखिल किए बिना आईपीओ लॉन्च करने के लिए 12 मई तक का समय है। समाचार चैनल एनडीटीवी ने सूत्रों का हवाला देते हुए बताया कि भारतीय जीवन बीमा निगम (एलआईसी) की प्रारंभिक सार्वजनिक पेशकश के माध्यम से शेयर बिक्री में अगले वित्तीय वर्ष में देरी हो सकती है, क्योंकि बाजार में उतार-चढ़ाव के कारण रूस-यूक्रेन युद्ध छिड़ा हुआ है। रिपोर्ट में कहा गया है कि सरकार के पास बाजार नियामक भारतीय प्रतिभूति विनिमय बोर्ड (सेबी) के पास नए कागजात दाखिल किए बिना आईपीओ लॉन्च करने के लिए 12 मई तक का समय है, लेकिन रूस के यूक्रेन पर आक्रमण के बाद वैश्विक बाजारों में मंदी को देखते हुए आईपीओ अप्रैल में भी आने की संभावना नहीं है।
सरकार इस आईपीओ से 78,000 करोड़ रुपये के अपने संशोधित विनिवेश लक्ष्य को पूरा करने की योजना बना रही थी। निवेश और लोक संपत्ति प्रबंधन विभाग (दीपम) के आंकड़ों के मुताबिक, सरकार को अब तक 12,029 करोड़ रुपये की विनिवेश प्राप्तियां मिली हैं। 78,000 करोड़ रुपये के संशोधित अनुमान को देखते हुए सरकार अभी भी अपने संशोधित अनुमान से लगभग 66,000 करोड़ रुपये कम कर रही है।
एलआईसी भारत की सबसे बड़ी बीमा कंपनी है, जिसकी कम बीमा पैठ वाले देश में कुल और नए प्रीमियम दोनों में 65 प्रतिशत बाजार हिस्सेदारी है। इसमें व्यक्तिगत एजेंटों (1.35 मिलियन) की एक महत्वपूर्ण संख्या है, जो 30 सितंबर, 2021 को भारत में सभी व्यक्तिगत एजेंटों का 55 प्रतिशत है। यह भारत का सबसे बड़ा संस्थागत निवेशक भी है, जिसमें सूचीबद्ध शेयरों में 4 प्रतिशत हिस्सेदारी है। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई)।
मैकडॉनल्ड्स टू नेटफ्लिक्स, ब्रांड्स जिन्होंने रूस में परिचालन निलंबित कर दिया है।
एलआईसी आईपीओ को सेबी से मिली हरी झंडी, लेकिन सरकार अगले वित्तीय वर्ष तक देरी कर सकती है।

27 मार्च से फिर शुरू होगीं 'अंतरराष्ट्रीय उड़ानें'

27 मार्च से फिर शुरू होगीं 'अंतरराष्ट्रीय उड़ानें' 

अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। अंतरराष्ट्रीय उड़ानें दो साल पहले 23 मार्च, 2020 को कोविड -19 महामारी के बीच निलंबित कर दी गई थीं, और तब से अंतराल पर हैं।
27 मार्च से अंतरराष्ट्रीय उड़ानें फिर से शुरू होंगी।
लोकलसर्किल के एक सर्वेक्षण के अनुसार, पूरे यूरोप और एशिया में कोविड -19 मामलों में वृद्धि के बीच, भारत में कई नागरिक 27 मार्च से अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को फिर से शुरू करने के खिलाफ हैं। सर्वेक्षण में 294 भारतीय जिलों में रहने वाले 12,618 नागरिकों से प्रतिक्रियाएं मिलीं।
दो साल के कोविड अंतराल के बाद 27 मार्च से अंतरराष्ट्रीय उड़ानें शुरू होंगी। हालांकि भारत अंतरराष्ट्रीय उड़ानें फिर से शुरू कर रहा है, हांगकांग, चीन, वियतनाम, जर्मनी, फ्रांस और नीदरलैंड जैसे कई देशों में ओमाइक्रोन मामलों के बीए 2 संस्करण के बीए 2.2 सबलाइन में नाटकीय वृद्धि देखी जा रही है। सर्वेक्षण के कम से कम 73 प्रतिशत उत्तरदाता 27 मार्च से शुरू होने वाली अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को फिर से शुरू करने के खिलाफ हैं। इस बीच, 25 प्रतिशत उत्तरदाताओं ने उड़ानें फिर से शुरू करने के सरकार के फैसले से सहमति व्यक्त की, जबकि 41 प्रतिशत उत्तरदाताओं ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय उड़ानें उन लोगों से शुरू होनी चाहिए। जिन देशों में टीपीआर 2 फीसदी से कम है। टीपीआर या परीक्षण सकारात्मकता दर डब्ल्यूएचओ द्वारा महामारी के लिए दैनिक सकारात्मकता दर के लिए निर्धारित सीमा है। यदि टीपीआर 5 प्रतिशत को पार कर जाता है, तो यह माना जाता है कि महामारी नियंत्रण से बाहर है।
सर्वेक्षण में 18 प्रतिशत उत्तरदाताओं ने अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को स्थगित करने का सुझाव दिया, जबकि 2 प्रतिशत की राय नहीं थी। विशेष रूप से, 44 प्रतिशत उत्तरदाता टियर I शहरों से थे, 35 प्रतिशत टियर II से और 21 प्रतिशत उत्तरदाता क्रमशः टियर III टियर IV और ग्रामीण जिलों से थे।
अंतरराष्ट्रीय उड़ानें दो साल पहले 23 मार्च, 2020 को कोविड -19 महामारी के बीच निलंबित कर दी गई थीं, और तब से अंतराल पर हैं।

राहत: कृपाण के साथ सफर कर सकेंगे सिख यात्री

राहत: कृपाण के साथ सफर कर सकेंगे सिख यात्री 

अकांशु उपाध्याय       

नई दिल्ली। नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने स‍िख यात्रियों को व‍िमान यात्रा पर बड़ी राहत दी है। अब सिख यात्री कृपाण के साथ सफर कर सकेंगे। इसके लिए नागरिक उड्डयन मंत्रालय की तरफ से द‍िशा-न‍िर्देश जारी किए गए हैं। मंत्रालय की तरफ से जारी द‍िशा-न‍िर्देशों में कृपाण के ब्लेड की लंबाई 15.24 सेंटीमीटर से अधिक नहीं होनी चाह‍िए, साथ ही कृपाण की कुल लंबाई 22.86 सेंटीमीटर से ज्‍यादा नहीं होनी चाह‍िए। मंत्रालय ने कहा है कि स‍िख यात्रियों को यह परमिशन केवल घरेलू टर्मिनलों से संचालित होने वाले भारतीय विमानों में यात्रा करने के ल‍िए मिली है।

मंत्रालय ने एक संशोधित आदेश में अपने पुराने आदेश में ल‍िखे हुए उस ह‍िस्‍से को हटा दिया है, जिसमें कहा गया था कि किसी भी घरेलू या अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के टर्मिनल पर किसी भी कर्मचारी को व्यक्तिगत रूप से कृपाण ले जाने की अनुमति नहीं दी जाएगी। भाजपा नेता मनजिंदर सिरसा ने भी स‍िखों को मिली इस राहत पर ट्वीट किया है। उन्‍होंने ट्वीट करते हुए कहा, ‘स‍िख यात्रियों और कर्मियों को ड्यूटी के दौरान हवाई सफर में कृपाण ले जाने की पाबंदी हटा दी है। स‍िख कर्मी और यात्री अब कृपाण को भारतीय एयरपोर्ट पर ले जा सकते हैं।’ उन्‍होंने इसके ल‍िए पीएम नरेंद्र मोदी और केंद्रीय नाग‍र‍िक उड्डयन मंत्री ज्‍योत‍िराद‍ित्‍य स‍िंध‍िया को तुरंत कार्रवाई के ल‍िए धन्‍यवाद भी द‍िया।

गिरावट: 52,712 रुपए प्रति 10 ग्राम पर आया सोना

गिरावट: 52,712 रुपए प्रति 10 ग्राम पर आया सोना   

अकांशु उपाध्याय     
नई दिल्ली। सोना और चांदी खरीदने की सोच रहे हैं तो देर न करें। सोमवार को फिर से दाम में गिरावट हुई है। एमसीएक्स पर सोना वायदा 0.3% गिरकर 52,712 रुपए प्रति 10 ग्राम पर आ गया। बता दे कि अगस्त 2022 के बाद के उच्चतम स्तर 56,200 रुपए के करीब 55,558 रुपए पर पहुंच गई थीं। आपको जानकर खुशी होगी कि चांदी के दाम में भी कमी आई हैं।
एमसीएक्स पर चांदी 0.6% गिरकर 69970 रुपये प्रति किलोग्राम पर आ गई। उल्लेखनीय है कि पिछले हफ्ते सोने की दरें में तेजी देखी गई थी। वहीं इस हफ्ते दाम कम होने से लोगों को बड़ी राहत मिली है।
दरअसल, रूस-यूक्रेन जंग के बीच वैश्विक बाजार में बिकवाली दिख रही है। अगर वैश्विक बाजारों पर नजर डालें तो आज सोने की कीमतें कम हुई है क्योंकि रेट हाइक की उम्मीदों के चलते अमेरिकी ट्रेजरी यील्ड तेजी देखने को मिली।
गौरतलब है कि भारत में सोने का आयात चालू वित्त वर्ष के पहले 11 माह यानी अप्रैल-फरवरी में 73 फीसदी बढ़कर 45.1 अरब डॉलर पर पहुंच गया है। बढ़ती मांग के चलते सोने का आयात बढ़ा है। इससे पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में सोने का आयात 26.11 अरब डॉलर रहा था।

एजेंसी नासा की तकनीक, मिलेंगे 30 हजार डॉलर्स

एजेंसी नासा की तकनीक, मिलेंगे 30 हजार डॉलर्स  

अखिलेश पांडेय       
वाशिंगटन डीसी। मंगल ग्रह पर जीवन है या नहीं। इस बात की खोज बेहद जोर-शोर से कई सालों से चल रही है। दुनिया भर के कई देश और उनके वैज्ञानिक इस काम में लगे हैं। लेकिन अब अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने आम लोगों के लिए एक प्रतियोगिता रखी है। जिसमें डेटा एनालिसिस करके यह बताना होगा कि मंगल ग्रह पर जीवन था या नहीं होगा या नहीं है या नहीं। अगर आप इस काम में सफल होते हैं। आपकी तकनीक नासा को पसंद आती है, तो आपको मिलेंगे 30 हजार डॉलर्स यानी करीब 23 लाख रुपये।
इस प्रतियोगिता को कराने में नासा की मदद कर रहा है क्राउड सोर्सिंग प्लेटफॉर्म हीरोएक्स  इस कॉन्टेस्ट में शामिल होने की आखिरी तारीख है 18 अप्रैल 2022. आप अपनी एलिजिबिलिटी यानी अहर्ता को इस लिंक पर क्लिक करके देख सकते हैं। साथ ही आप इसकी पूरी जानकारी हीरोएक्स चैलेंज पेज पर जाकर देख सकते हैं।
इस प्रतियोगिता का मकसद है एक ऐसा टूल विकसित करना जो खुद-ब-खुद मंगल पर घूम रहे नासा के पर्सिवरेंस और क्यूरियोसिटी रोवर्स के स्पेक्ट्रोमीटर के डेटा को एनालाइज कर सके।  इन दोनों रोवर्स के स्पेक्ट्रोमीटर मंगल ग्रह के पत्थरों और उनके अंदर मौजूद जैविक पदार्थों की जांच करते हैं‌।उनका डेटा नीचे धरती पर भेजते हैं। अब इन डेटा के एनालिसिस के लिए आपको टूल बनाना है।
ऐसा माना जाता है और कुछ ऐसे सबूत भी मिले हैं कि मंगल ग्रह पर कभी जीवन था। वहां तरल पानी भी था। हालांकि जीवन को लेकर पुख्ता नहीं कहा जा सकता। लेकिन इसी बात की जांच करने के लिए तो मंगल ग्रह पर रोवर भेजे गए हैं। अब नासा और यूरोपियन स्पेस एजेंसी मिलकर मंगल ग्रह से सैंपल लाने का मिशन करने जा रही है। ताकि धरती पर उसका विश्लेषण किया जा सके। जीवन की खोज या उससे जुड़े सबूतों की जांच हो सके। 
नासा चाहता है दुनियाभर के लोग इस प्रतियोगिता में शामिल हों। ताकि दुनिया में मौजूद बेहतरीन डेटा एनालिस्ट या बुद्धिमान लोग उनकी मदद करके मंगल ग्रह पर जीवन के राज को खोल सके। ये पता कर सकें कि क्या भविष्य में भी मंगल ग्रह पर जीवन संभव है।

बिहार विधानसभा के बजट सत्र में हंगामा, फटकार

बिहार विधानसभा के बजट सत्र में हंगामा, फटकार   

अविनाश श्रीवास्तव    
पटना। बिहार विधानसभा के बजट सत्र में सोमवार को बड़ा हंगामा हो गया है। सदन की कार्यवाही शुरू होते ही भाजपा विधायक संजय सरावगी ने लखीसराय में पुलिस कार्यवाही को लेकर सवाल पूछा। इस वक्त सीएम नीतीश कुमार अपने चैंबर में थे। मामला उठते ही वो बेहद नाराज हो गए। गुस्से में सदन में आए और हंगामा करने वालों को जमकर फटकार लगा दी। सीएम ने स्पीकर विजय सिन्हा को भी नहीं छोड़ा। कहा कि आप संविधान का खुलेआम उल्लंघन कर रहे हैं। इस तरह से सदन नहीं चलेगा। एक ही मामले को रोज-रोज उठाने का कोई मतलब नहीं है।
इस दौरान सीएम और स्पीकर के बीच जमकर बहस हुई। नीतीश कुमार ने कहा-‘ इस मामले में विशेषाधिकार समिति जो रिपोर्ट पेश करेगी हम उस पर जरूर विचार करेंगे। किसी तरह का भ्रम है तो बातचीत की जाएगी। देखेंगे कि कौन सा पक्ष सही है। सिस्टम संविधान से चलता है। किसी भी क्राइम की रिपोर्ट कोर्ट में जाती है, सदन में नहीं। कृपा करके ज्यादा मत करिए। जो चीज पर जिसका अधिकार है, उसको करने दीजिए। हमारी सरकार न किसी को बचाती है और ना किसी को फंसाती है।’

बुजुर्ग महिलाओं को 'रोडवेज' की बसों में फ्री यात्रा

बुजुर्ग महिलाओं को 'रोडवेज' की बसों में फ्री यात्रा  

संदीप मिश्र 
लखनऊ। यूपी विधानसभा चुनाव में बहुमत लेकर योगी आदित्यनाथ, फिर से यूपी की सत्ता काबिज हो रहे हैं। ऐसे में फिर से मुख्यमंत्री पद को संभालने से पहले ही संकलप पत्र में किए वादों को धरातल पर उतारने की कवायद शुरू कर दी है। बता दें कि योगी ने चुनाव से पहले वादा किया था कि सत्ता में वापसी के बाद 60 से ऊपर की बुजुर्ग महिलाओं को रोडवेज की बसों में फ्री यात्रा की सुविधा मिलेगी। जिसके चलते अब बुजुर्ग महिलाओं को रोडवेज की बसों में फ्री यात्रा कराने की कार्रवाई शुरू कर दी है।
योजना को धरातली रूप देने के लिए सभी क्षेत्रीय प्रबंधकों को निर्देशित किया गया है कि वे प्रतिदिन ऐसी महिलाओं का डाटा तैयार करें जिनकी उम्र 60 से अधिक है। यह रिपोर्ट सोमवार 11 बजे तक सौंपनी है। इस योजना के तहत बुजुर्ग महिलाओं को न सिर्फ साधारण सेवा बल्कि एसे बसों, जैसे- जनरथ, वॉल्वो और स्कैनिया में भी फ्री यात्रा की सुविधा होगी। इतना ही नहीं बुजुर्ग महिलाओं को बस अड्डों पर भी विशेष सहूलियतें दिए जाने की योजना है। विभाग ने बुजुर्ग महिलाओं को मुफ्त में सफर करवाने के लिए शासन से 99 रुपये प्रतिमाह के हिसाब से प्रतिपूर्ति का सुझाव दिया है। 99 रुपए जमा करने पर महीने भर फ्री यात्रा का सुझाव दिया गया है।
प्रमुख सचिव परिवहन राजेश कुमार सिंह ने गत शुक्रवार को अफसरों के साथ बैठक कर बुजुर्ग महिलाओं को फ्री यात्रा करवाने का निर्देश दिया था। इसके बाद प्रधान प्रबंधक (संचालन) ने क्षेत्रीय प्रबंधकों को एक सर्वे करवाने का निर्देश दिया था, ताकि यह पता चल सके कि रोजाना कितनी बुजुर्ग महिलाएं रोडवेज की बसों में सफर करती हैं। इसके अलावा समाज कल्याण विभाग से भी पेंशनर्स की सूची मांगी गई है।

16 मार्च से 12-14 साल के बच्चों का वैक्सीनेशन होगा

16 मार्च से 12-14 साल के बच्चों का वैक्सीनेशन होगा 

अकांशु उपाध्याय    
नई दिल्ली। कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने जानकारी देते हुए बताया कि 16 मार्च से 12-14 साल के बच्चों का वैक्सीनेशन शुरू होने जा रहा है। इसके साथ ही 60 साल से ऊपर के सभी लोग अब बूस्टर डोज लगवा सकेंगे।
भारत में अभी तक हेल्थ केयर वर्कर्स, फ्रंट लाइन वर्कर्स और 60 प्लस जिन्हें कोई कोमोरबीडिटी हैं, उनको ही वैक्सीन की बूस्टर डोज लगाई जा रही थी। इस फैसले के बाद अब 60 साल से ऊपर के सभी लोग बूस्टर डोज लगवा सकेंगे।
स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने ट्वीट कर कहा कि, बच्चे सुरक्षित तो देश सुरक्षित। उन्होंने आगे लिखा कि मुझे बताते हुए खुशी है की 16 मार्च से 12 से 14 साल के बच्चों का कोविड टीकाकरण शुरू हो रहा है। साथ ही 60 से अधिक उम्र के सभी लोग अब प्रिकॉशन डोज लगवा पाएंगे। उन्होंने बच्चों और बुजुर्गों से कोरोना वैक्सीन लगवाने की भी अपील की है।
बता दें कि देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 2,503 नए मामले सामने आए हैं, 27 लोगों की मौत हुई है। वहीं 4 हजार 377 लोग स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हुए है। अब तक कुल 42,441,449 लोग ठीक हो चुके हैं। एक्टिव मामलों की संख्या 36 हजार 168 है।

कोरोना से अब तक कुल 5 लाख 15 हजार 877 लोग कोरोना से जान गंवा चुके है। देश में वैक्सीन की अब तक 180 करोड़ 19 लाख 45 हजार 779 डोज दी जा चुकी है।स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने ट्वीट कर कहा कि, बच्चे सुरक्षित तो देश सुरक्षित। उन्होंने आगे लिखा कि मुझे बताते हुए खुशी है की 16 मार्च से 12 से 14 साल के बच्चों का कोविड टीकाकरण शुरू हो रहा है। साथ ही 60 से अधिक उम्र के सभी लोग अब प्रिकॉशन डोज लगवा पाएंगे। उन्होंने बच्चों और बुजुर्गों से कोरोना वैक्सीन लगवाने की भी अपील की है।

भारत: पेट्रोल-डीजल की कीमत में बढ़ोतरी पर चर्चा

भारत: पेट्रोल-डीजल की कीमत में बढ़ोतरी पर चर्चा  

अखिलेश पांडेय 
कीव/मास्को/नई दिल्ली। रूस-यूक्रेन के युद्ध को लेकर कच्‍चे तेल की कीमत में भारी इजाफा हुआ है। इसके बाद भारत में पेट्रोल-डीजल की कीमत मेें बढ़ोतरी पर चर्चा चल रही है। लोगों का कहना है कि वर्तमान में ही इसकी कीमत अधिक है। इसमें और वृद्धि होने से उनका जीना मुहाल हो जाएगा। इस बीच पेट्रोल-डीजल की कीमत को लेकर पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने लोकसभा में 14 मार्च को बड़ी बात कही।मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ग्राहक को राहत देने के लिए 4 नवंबर 2021 को पेट्रोल और डीज़ल के दाम कम किए हैं। हमने और भी कदम उठाए। लेकिन 9 राज्यों ने इसके दाम कम नहीं किए।

मंत्री ने कहा कि मेरे पास यूएसए, कनाडा, जर्मनी, यूके, फ्रांस, स्पेन, श्रीलंका और भारत के तुलनात्मक डेटा हैं। इन सभी देशों में इस प्रतिनिधि अवधि के दौरान पेट्रोल की कीमत में 50%, 55%, 58%, 55% की वृद्धि हुई है। भारत में केवल 5% बढ़ा है।

पश्चिमी देशों के प्रतिबंध, निर्णय को नहीं बदल सकते

पश्चिमी देशों के प्रतिबंध, निर्णय को नहीं बदल सकते   

सुनील श्रीवास्तव 
मास्को। रूस ने कहा है कि वह अमेरिका और यूरोपीय देशों से रूस के खिलाफ लगायी गयी पाबंदियों को हटाने के लिए नहीं कहेगा और पश्चिमी देशों के प्रतिबंध हमारे निर्णय को नहीं बदल सकते हैं।
रूस के उप विदेश मंत्री सर्गेई वर्शिनिन ने इज़वेस्टिया अखबार को दिए साक्षात्कार में कहा, "प्रतिबंध हमारा निर्णय नहीं है। वे अमेरिका और उसके इशारे पर चलने वाले देशों के द्वारा लगाए जा रहे हैं। ये लोग रूस पर दबाव डालना चाहते हैं, हमारी अर्थव्यवस्था और रूस के आम नागरिकों को बहुत कठिन स्थिति में डालते हैं। वे ऐसा रूस के संप्रभु राजनीतिक निर्णयों के लिए सजा देने हेतु कर रहे हैं।"
उन्होंने जोर देकर कहा कि एक दबाव उपकरण होने के नाते रूस पर लगाए गए पश्चिमी देशों के प्रतिबंध वैध नहीं हैं और इसका कोई नतीजा नहीं निकलेगा। उन्होंने कहा, "हम इन प्रतिबंधों को हटाने के लिए नहीं कहेंगे। हम बस अपनी खुद की अर्थव्यवस्था और स्वतंत्र रूप से विकास करने की हमारी क्षमता को विकसित करेंगे, जो हमारे दोस्तों और समान विचारधारा वाले लोगों पर निर्भर है।"
उल्लेखनीय है कि यूक्रेन में रूस के विशेष सैन्य अभियान के जवाब में पश्चिमी देशों ने रूस के खिलाफ एक व्यापक प्रतिबंध अभियान शुरू किया है। इस प्रतिबंधों में कई रूसी अधिकारियों, संस्थाओं, मीडिया, वित्तीय संस्थानों और हवाई क्षेत्र को बंद करने जैसे प्रतिबंधात्मक उपाय शामिल हैं।

फिल्म 'रन-वे 34' का मोशन पोस्टर रिलीज किया

फिल्म 'रन-वे 34' का मोशन पोस्टर रिलीज किया    

कविता गर्ग     

मुंबई। बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन और सिंघम स्टार अजय देवगन की आने वाली फिल्म रन-वे 34 का मोशन पोस्टर रिलीज कर दिया गया है। अमिताभ बच्चन और अजय देवगन इन दिनों अपनी आने वाली फिल्म रन-वे 34 को लेकर चर्चा में बने हुए हैं। इस थ्रिलर फिल्म में अजय देवगन पायलट के किरदार में नजर आने वाले हैं। फिल्म निर्माता ने फिल्म के दो मोशन पोस्टर रिलीज किए हैं, जिसमें अजय देवगन और अमिताभ बच्चन अपने-अपने किरदारों के साथ शानदार डॉयलॉग्स बोल रहे हैं।

पहले मोशन पोस्टर को अजय देवगन ने अपने इंस्टाग्राम पर साझा किया है। इस मोशन पोस्टर में अजय वॉयस-ओवर में कहते हैं, हर हादसे के दो पहलू होते हैं। क्या हुआ और कैसे हुआ, इस क्या हुआ और कैसे हुआ के बीच में जो दयार है सच वहीं छुपा हुआ है। इस पोस्टर को इंस्टाग्राम पर शेयर कर उन्होंने लिखा, ब्रेस फॉर इंपैक्ट साथ ही उन्होंने फिल्म की रिलीज डेट के बारे भी जानकारी दी है। यह फिल्म 29 अप्रैल को सिनेमाघरों में रिलीज होगी।वहीं, दूसरे मोशन पोस्टर में अमिताभ बच्चन पायलट पर यात्रियों की सुरक्षा को खतरे में डालने को लेकर सवाल कर रहे हैं। मोशन पोस्टर में अमिताभ कहते हैं कि, अगर, मगर, लेकिन, शायद आपने 150 यात्रियों की सलामती इन चार शब्दों पर छोड़ दी।

गौरतलब है कि रन-वे 34 इमोशनल और हाई ओक्टेन थ्रिलर फिल्म है। यह फिल्म साल 2015 में दोहा से कोच्चि रहे विमान में हुई घटना पर आधारित है। इस फिल्म में अमिताभ बच्चन और अजय देवगन के अलावा रकुल प्रीत सिंह और बोमन ईरानी भी अहम भूमिका में नजर आने वाले हैं।

चीन: रासायनिक संयंत्र में आग लगने से 7 की मौंत

चीन: रासायनिक संयंत्र में आग लगने से 7 की मौंत 

अखिलेश पांडेय    

बीजिंग। उत्तरी चीन के मंगोलिया स्वायत्त क्षेत्र में सोमवार तड़के एक रासायनिक संयंत्र में आग लगने से कम से कम सात लोगों की मौत हो गई। शिन्हुआ न्यूज एजेंसी के मुताबिक आग बाओटौ शहर के होंडलॉन जिले में स्थित संयंत्र में सोमवार तड़के करीब 2:08 बजे लगी। करीब एक घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पा लिया गया। एजेंसी के मुताबिक 6:40 बजे राहत एवं बचाव कार्य समाप्त हो गया तथा इस दौरान सात लोगों का शव बरामद हुआ। दुर्घटना के कारणों की जांच की जा रही है। 

एजेंसी के मुताबिक 6:40 बजे राहत एवं बचाव कार्य समाप्त हो गया तथा इस दौरान सात लोगों का शव बरामद हुआ। दुर्घटना के कारणों की जांच की जा रही है।

एजेंसी के मुताबिक 6:40 बजे राहत एवं बचाव कार्य समाप्त हो गया तथा इस दौरान सात लोगों का शव बरामद हुआ। दुर्घटना के कारणों की जांच की जा रही है।

'एसओजी' की टीम द्वारा मुखबिर तंत्र को सक्रिय किया

'एसओजी' की टीम द्वारा मुखबिर तंत्र को सक्रिय किया 

पंकज कपूर     
रुद्रपुर। पुलिस उप महानिरीक्षक/वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जनपद ऊधमसिंहनगर द्वारा ए.ओ.जी ऊधमसिंहनगर को जनपद में अवैध अस्लाहों की निर्माण एंव तस्करी करने वाले लोगों के विरुद्ध प्रभावी कार्यवाही करने हेतु दिशा-निर्देश दिये गये थे। पुलिस अधीक्षक नगर रुद्रपुर , पुलिस अधीक्षक काशीपुर व पुलिस उपाधीक्षक ऑपरेशन अमित कुमार व परवेज अली ऊधम सिंह सनगर के निर्देशन एंव पर्वेक्षण में एस.ओ.जी उ.सिंह नगर की टीम द्वारा सुरागरसी-पतारसी हुए मुखबिर तंत्र को सक्रिय किया गया। मुखबिर द्वारा ग्राम आर्यनगर थाना गदरपुर क्षेत्र में अवैध असलाहों की फैक्ट्रियां कुख्यात असलाह तस्कर दर्शन सिंह के गिरोह द्वारा बनाने एंव उक्त असलाहों की रुद्रपुर, गदरपुर, दिनेशपुर, हल्द्वानी, रामपुर आदि स्थानों पर विक्रय / तस्करी करने की सूचना दी गई।
सूचना पर कार्यवाही करते हुए एस०ओ०जी० टीम द्वारा उक्त सूचना की तस्दीकी की गई सूचना की पुष्टि होने पर एस0ओ0जी0 प्रभारी द्वारा 03 टीमें गठित की गई। पहली टीम एस०ओ०जी० प्रभारी के नेतृत्व में व दुसरी टीम गौवंश प्रभारी उ0नि0 तेज सिंह के नेतृत्व में, व तीसरी टीम उ0नि0 रमेश चन्द बेलवाल व उ0नि0 राहुल राठी के नेतृत्व में थाना गदरपुर की गठित की गई। उक्त टीमों द्वारा दिनांक- 12/3/22 की देर रात्रि गदरपुर थाना क्षेत्र के आर्यनगर वन विभाग चौकी के पास से सोमदेव के खेत के किनारे जंगल के पास पाखड के पेड़ के नीचे छापेमारी कर मौके से अभियुक्तगण क्रमशः 1 दर्शन सिंह पुत्र इन्दर सिंह निवासी गुलाब का मजरा केलाखेडा उ0सिंह नगर उम्र 65 वर्ष 2- मेहर सिंह पुत्र स्व0 जीवन सिंह निवासी उपरोक्त उम्र 64 वर्ष 3- महेन्द्र सिंह पुत्र मेहर सिंह निवासी उपरोक्त उम्र 25 वर्ष को अवैध अस्लाहो की फैक्ट्री चलाने व अवैध असलाह बनाने के उपकरण मय 10 अदद तैयार अवैध तमंचे क्रमशः 12 बोर के 02 अदद तमंचे, 315 बोर के 05 अदद व 32 बोर के 03 अदद, मय 02 अदद मोटर साइकिल के साथ गिरफ्तार किया गया। 
अभियुक्तगणों द्वारा पूछताछ में बताया गया कि हमारे इस गिरोह का सरगना दर्शन सिंह पुत्र इन्दर सिंह उपरोक्त है जो अवैध असलाहों के निर्माण में पूर्व में 05 बार जेल जा चुका है जिसे अवैध असलाहों के निर्माण में महारथ हासिल है जिसके साथ पकडे गये दोनों अभियुक्तगण के अलावा धर्मेन्द्र सिंह, काका,गुरनाम सिंह,धीर सिंह, फूला सिंह उर्फ गुरमीत सिंह निवासीगण – कलकत्ती गदरपुर उ0सिं0 नगर भी उक्त अवैध असलाहों की फैक्ट्री में पाटर्नर हैं तथा उक्त सभी अभियुक्तगण अवैध असलह बनाने व बेचने का कार्य काफी समय से कर रहे हैं तथा असलाहों को बनाकर रामपुर रुद्रपुर, किच्छा, हल्द्वानी, कालाढुंगी,बाजपुर आदि क्षेत्रों में 5000/- रुपये प्रति तमंचे एंव 15 हजार रुपये प्रति बन्दूक के हिसाब से अवैध असलाहों की बिक्री करते हैं। पुलिस की संयुक्त दबिश से अन्य अभियुक्तगण पीछे जंगल की तरफ भाग गये।

भारत-बांग्लादेश जैसे देशों के लिए परिवर्तन का मौका

भारत-बांग्लादेश जैसे देशों के लिए परिवर्तन का मौका 

अकांशु उपाध्याय     
नई दिल्ली। जलवायु परिवर्तन पर संयुक्त राष्ट्र की ताज़ा रिपोर्ट रिलीज़ हो चुकी है और यह रिपोर्ट बेहद खास है। ख़ास इसलिए क्योंकि इसमें साफ़ तौर पर वैश्विक स्तर पर बढ़ते कार्बन एमिशन और उसकी वजह से बदलती जलवायु का मानवता पर हो रहे असर का ज़िक्र है।
रिपोर्ट से पता चलता है कि भारत के कुछ शहर, जैसे सूरत, भुवनेश्वर और इंदौर शहरी स्तर पर एडाप्टेशन योजना बना चुके हैं। लेकिन उनका एडाप्टेशन प्लान एक ही खतरे पर केंद्रित हैं। उदाहरण के लिए इंदौर केवल पानी की कमी को देखता है। उन्हें हाइब्रिड और मल्टी सेक्टोरिअल यानी एक नहीं अनेक पहलूओं पर केन्द्रित करने की ज़रूरत है। रिपोर्ट के लेखकों में से एक, डॉ अरोमर रेवी के अनुसार भारत और बांग्लादेश जैसे देशों के लिए इस दिशा में परिवर्तन लाने के लिए एक छोटा-सा मौका है। जिसका अगर वक़्त रहते फायदा नहीं उठाया तो दोनों ही देशों कि जलवायु समस्या बढ़ेगी।
उदाहरण के लिए वो कहते हैं कि हमें उड़ीसा में तूफानों के प्रति प्रतिरोधी साफ़ बिजली प्रणालियों की आवश्यकता है। जो तूफ़ान आने पर घंटो बिजली बंद रहने के बजे तूफ़ान के फौरन बाद बिजली की सप्लाई चालू कर दें।

फर्जी सर्टिफिकेट बनवाने पर आदेश दे सकता हैं एससी

फर्जी सर्टिफिकेट बनवाने पर आदेश दे सकता हैं एससी 

अकांशु उपाध्याय    
नई दिल्ली। कोरोना अनुग्रह राशि पाने के लिए फर्जी मेडिकल सर्टिफिकेट बनवाने वालों पर सुप्रीम कोर्ट जल्द जांच के आदेश दे सकता है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि अगर लोग नहीं मानते हैं तो वह सीएजी द्वारा इसकी जांच का आदेश दे सकता है। बता दें सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को फर्जी मेडिकल सर्टिफिकेट के आधार पर कोरोना के कारण मौत के लिए 50,000 रुपये की अनुग्रह राशि प्राप्त करने के अपने आदेश के दुरुपयोग पर चिंता व्यक्त की है।
सुप्रीम कोर्ट ने संकेत दिया कि अगर लोग इस फर्जीवाड़ा से बाज नहीं आए तो वह सीएजी द्वारा इसकी जांच का आदेश दे सकता है। वहीं सुप्रीम कोर्ट ने फर्जी कोरोना मृत्यु प्रमाण पत्र पर अंकुश लगाने के लिए सुझाव मांगा है। बता दें कि केंद्र की ओर से सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने फर्जी कोरोना प्रमाणपत्र या नकली दावों का मुद्दा उठाया था। उन्होंने पीठ से कहा कि कोर्ट के आदेश के अनुसार फिलहाल डाक्टरों द्वारा जारी मृत्यु प्रमाण पत्र के आधार पर ही यह अनुग्रह राशि दी जा रही है।

उन्होंने कहा कि इससे कई लोग कोर्ट के आदेश का नाजायज फायदा उठा रहे हैं और डॉक्टर को पैसे देकर फर्जी प्रमाणपत्र बनवा रहे हैं। बता दें इससे पहले सात मार्च को भी इस पर सुनवाई हुई थी और इस दौरान न्यायमूर्ति एम.आर. शाह और न्यायमूर्ति बी.वी. नागरत्ना की पीठ ने चिंता जताई थी। पीठ ने कहा था कि मुआवजे की मांग करने वाले दावों के लिए कुछ समय-सीमा होनी चाहिए। पीठ ने कहा कि यह चिंता की बात है कि डॉक्टरों की ओर से कोरोना मृतकों के फर्जी प्रमाणपत्र दिए जा रहे हैं। यह बहुत गंभीर बात है और इस पर जितनी जल्द हो सके समाधान की जरूरत है।

6.7 तीव्रता का भूकंप, इंडोनेशिया-फिलीपींस हिलाया

6.7 तीव्रता का भूकंप, इंडोनेशिया-फिलीपींस हिलाया  

अखिलेश पांडेय    
जकार्ता। 6.7 तीव्रता के भूकंप ने इंडोनेशिया, फिलीपींस को हिलाकर रख दिया, सुनामी का खतरा नही।
इंडोनेशियाई मौसम विज्ञान और भूभौतिकी एजेंसी ने कहा कि भूकंप प्रांत के कई हिस्सों में महसूस किया गया था। लेकिन सुनामी का कोई खतरा नहीं था। यह भोर से ठीक पहले हुआ था और उत्तरी सुमात्रा प्रांत के एक जिले, दक्षिण नियास से लगभग 161 किलोमीटर दक्षिण-पूर्व में केंद्रित था।
पश्चिमी इंडोनेशिया और फिलीपीन की राजधानी क्षेत्र में सोमवार को जोरदार, उथले पानी के भूकंपों ने झकझोर दिया, लेकिन तत्काल कोई गंभीर क्षति की सूचना नहीं मिली और सुनामी की कोई चेतावनी जारी नहीं की गई।
यूएस जियोलॉजिकल सर्वे ने कहा कि इंडोनेशिया में, पश्चिम सुमात्रा प्रांत के एक कस्बे परियामन से लगभग 169 किलोमीटर पश्चिम में 16 किलोमीटर की गहराई में 6.7 तीव्रता का भूकंप आया।
इंडोनेशियाई मौसम विज्ञान और भूभौतिकी एजेंसी ने कहा कि भूकंप प्रांत के कई हिस्सों में महसूस किया गया था लेकिन सुनामी का कोई खतरा नहीं था। यह भोर से ठीक पहले हुआ था और उत्तरी सुमात्रा प्रांत के एक जिले, दक्षिण नियास से लगभग 161 किलोमीटर दक्षिण-पूर्व में केंद्रित था।फिलीपीन की राजधानी क्षेत्र और बाहरी प्रांतों के कुछ हिस्सों में 6.4 तीव्रता का भूकंप आया, लेकिन किसी के हताहत होने की खबर नहीं है, फिलीपीन इंस्टीट्यूट ऑफ ज्वालामुखी और भूकंप विज्ञान ने कहा।
फिलीपीन संस्थान ने कहा कि अपतटीय भूकंप मनीला ट्रेंच के साथ आंदोलन द्वारा शुरू किया गया था और इसका केंद्र ऑक्सिडेंटल मिंडोरो प्रांत में लुबांग द्वीप से लगभग 110 किलोमीटर पश्चिम में था, जो मनीला के दक्षिण में स्थित है। इसकी गहराई करीब 28 किलोमीटर थी।
इंडोनेशिया और फिलीपींस प्रशांत महासागर के चारों ओर भूकंपीय दोषों की एक पंक्ति “रिंग ऑफ फायर” के साथ स्थित हैं और अक्सर भूकंप और ज्वालामुखी विस्फोट से प्रभावित होते हैं।
पिछले महीने इंडोनेशिया के पश्चिम सुमात्रा प्रांत में आए 6.2 भूकंप ने कम से कम 16 लोगों की जान ले ली और 400 से अधिक घायल हो गए। भूकंप के झटके से हजारों घर और अन्य इमारतें क्षतिग्रस्त हो गईं, जो मलेशिया और सिंगापुर तक महसूस किए गए थे।

बांग्लादेश के 4 सदस्यों को भोपाल से गिरफ्तार किया

बांग्लादेश के 4 सदस्यों को भोपाल से गिरफ्तार किया   

मनोज सिंह ठाकुर      
भोपाल। मध्य प्रदेश के भोपाल में बांग्लादेश आतंकी समूह के 4 सदस्य गिरफ्तार राज्य के गृह मंत्री ने कहा कि प्रतिबंधित जमात-उल-मुजाहिदीन बांग्लादेश के चार कथित सदस्यों को भोपाल से गिरफ्तार किया गया है और उनके कब्जे से जिहादी साहित्य और इलेक्ट्रॉनिक उपकरण जब्त किए गए हैं।

राज्य के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने सोमवार को कहा कि प्रतिबंधित जमात-उल-मुजाहिदीन बांग्लादेश (जेएमबी) के चार कथित सदस्यों को मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल से गिरफ्तार किया गया है। उनके कब्जे से जिहादी साहित्य और इलेक्ट्रॉनिक उपकरण जब्त किए गए हैं, मिश्रा ने कहा कि बिहार में बोधगया विस्फोट में उनकी संलिप्तता पाए जाने के बाद 2019 से भारत में संगठन जम्मू-कश्मीर पुलिस ने पुलवामा में 4 आतंकवादी सहयोगियों को गिरफ्तार किया, जैश-ए-मोहम्मद के मॉड्यूल का भंडाफोड़।पुलिस सूत्रों ने कहा कि गिरफ्तारियां ऐशबाग के एक पुलिस थाने। से करीब 200 मीटर की दूरी पर और जिले के एक अन्य इलाके से की गईं।

पश्चिमी देशों के खिलाफ प्रतिबंधों की घोषणा: रूस

पश्चिमी देशों के खिलाफ प्रतिबंधों की घोषणा: रूस   

अखिलेश पांडेय   
कीव/मास्को। रूस जल्द ही पश्चिमी देशों के खिलाफ प्रतिबंधों की घोषणा करेगा। रूस के विदेश मंत्री सर्गेई रियाबकोव ने कहा है कि सूची तैयार है और जल्द ही उसे सार्वजनिक किया जाएगा। मीडिया से बातचीत में रियाबकोव ने कहा कि ऐसा कोई संकेत नहीं है कि यूक्रेन पर अमेरिका बातचीत करने की तैयारी में है। उन्होंने यूक्रेन को हथियार देने के लिए अमेरिका को चेतावनी भी दी। उन्होंने कहा कि ये हथियार रूसी सेना के लिए वैध लक्ष्य बन जाएंगे।
आपको बता दें कि रूस ने पिछले महीने की 24 तारीख को यूक्रेन के खिलाफ सैन्य कार्रवाई शुरू की थी और फिलहाल, इसके बंद होने की कोई संभावना भी नहीं दिखाई दे रही है।
रूस के खिलाफ हेट स्पीच की नीति में बदलाव का फेसबुक ने किया बचाव।
न्यूज एजेंसी रायटर के मुताबिक, यूक्रेन पर हमले के बाद फेसबुक पर रूस के खिलाफ ‘रूसी आक्रमणकारियों को मौत’ जैसे शब्द लिखने और हेट स्पीच को लेकर इसकी मूल कंपनी मेटा ने अपनी नीति में बदलाव का बचाव किया है। मेटा ने कहा है कि यूक्रेन पर रूसी हमले के कारण हमने अस्थायी रूप से राजनीतिक अभिव्यक्ति के लिए कुछ नियमों में ढील दी है। कंपनी ने कहा है कि हम ऐसा इसलिए कर रहे हैं कि हमने महसूस किया है कि इस केस में ‘रूसी सैनिकों’ का इस्तेमाल रूसी सेना के लिए एक प्राक्सी के रूप में किया जा रहा है।हेट स्पीच पालिसी रूसियों पर हमले को प्रतिबंधित करती है। इसको लेकर रूस ने मेटा के खिलाफ आपराधिक मामला शुरू किया है। रूसी अभियोजकों ने अदालत से मेटा को चरमपंथी संगठन घोषित करने की मांग की है। रूसी संचार नियामक ने मेटा के इंस्टाग्राम प्लेटफार्म को भी 14 मार्च से प्रतिबंधित करने की घोषणा की है।

8 तक चलेगा संसद के बजट सत्र का दूसरा चरण

8 तक चलेगा संसद के बजट सत्र का दूसरा चरण    

अकांशु उपाध्याय   
नई दिल्ली। संसद के बजट सत्र का दूसरा चरण आज से शुरू हो रहा है, जो 8 अप्रैल तक चलेगा। लोकसभा और राज्यसभा की बैठक सामान्य रूप से सुबह 11 बजे से शाम 6 बजे तक चलेगी। इस दौरान सदन की 19 बैठक होंगी। पहले चरण के दौरान, कोविड महामारी की तीसरी लहर के कारण, दोनो सदनों ने शिफ्ट में काम किया था। यह फैसला देश में कोविड संक्रमण में कमी को देखते हुए लिया गया है। दोनो सदन अपने चैम्बर और दीर्घाओं का उपयोग जारी रखेंगे। 
इस बार राज्य सभा को कामकाज निपटाने कि लिये 19 घंटे का अतिरिक्त समय मिलेगा। एक महीने के अवकाश के बाद बजट सत्र सत्र के दूसरे चरण में दोफिर शुरू हो रहा है। इस अवधि में विभाग संबद्ध संसदीय स्थायी समितियों विभाग ने विभिन्न मंत्रालयों और विभागों की अनुदान मांगों की समीक्षा की जायगी । राज्य सभा के सभापति एम. वैकैया नायडू आज सदन में राज्यसभा की 8 स्थायी समितियों के कामकाज का विवरण देंगे।
बजट सत्र का पहला चरण दोनों सदनों की संयुक्त बैठक में राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद के अभिभाषण के साथ 31 जनवरी को शुरू हुआ था। केन्‍द्रीय वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारामन आज संसद में केन्द्रशासित प्रदेश जम्‍मू कश्‍मीर का वर्ष 2022-23 का बजट पेश करेंगी। बजट पर चर्चा तथा जम्‍मू कश्‍मीर के लिए पूरक मांगों पर चर्चा और मतदान भी लोकसभा के आज के कामकाज में सूचीबद्ध है। इसके अलावा लोकसभा में आज संविधान (अनुसूचित जनजाति) आदेश संशोधन विधेयक -2022 प्रस्‍तुत किया जाएगा। केन्‍द्रीय जनजातीय कार्य मंत्री अर्जुन मुंडा विधेयक पेश करेंगे। इसके जरिये त्रिपुरा के संदर्भ में अनुसूचित जनजातियों की सूची में कुछ समुदायों को शामिल करने के लिए संविधान (अनुसूचित जनजाति) आदेश, 1950 में संशोधन प्रस्‍तावित है। राज्‍यसभा में आज संविधान (अनुसूचित जाति और जनजाति) आदेश संशोधन विधेयक 2022 पेश किया जाना है। सदन में पूर्वोत्‍तर क्षेत्र विकास मंत्रालय के काम‍काज पर भी चर्चा होगी।

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण     

1. अंक-157, (वर्ष-05)
2. मंगलवार, मार्च 15, 2022
3. शक-1984, फाल्गुन, शुक्ल-पक्ष, तिथि-द्वादशी, विक्रमी सवंत-2078।
4. सूर्योदय प्रातः 07:04, सूर्यास्त: 06:24।
5. न्‍यूनतम तापमान- 12 डी.सै., अधिकतम-33+ डी सै.।उत्तर भारत में बरसात की संभावना।
6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु, (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102
http://www.universalexpress.page/
www.universalexpress.in
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745 
                 (सर्वाधिकार सुरक्षित)

सेंट्रल पीस कमेटी की बैठक का आयोजन: डीएम 

सेंट्रल पीस कमेटी की बैठक का आयोजन: डीएम  हरिशंकर त्रिपाठी  देवरिया। जिलाधिकारी जितेंद्र प्रताप सिंह की अध्यक्षता में दशहरा, ईद...