शुक्रवार, 24 जनवरी 2020

मंत्री ने प्रतिभागियों को किया सम्मानित

राणा ओबराय

हरियाणा के मंत्री ओमप्रकाश यादव ने पीजीआई चंडीगढ़ में ब्लड डोनेशन कैम्प के अवसर पर प्रतिभागियों को किया सम्मानित

चण्डीगढ़। पीजीआई चंडीगढ़ के सुरक्षा विभाग द्वारा 17वें ब्लड डोनेशन कैंप के अवसर पर हरियाणा के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्यमंत्री ओम प्रकाश यादव ने मुख्य अतिथि के तौर पर शिरकत की। मंत्री ओमप्रकाश यादव के   कार्यक्रम में पहुंचने पर पीजीआई के निदेशक जगत राम, उपनिदेशक कुमार गौरव धवन व कार्यक्रम के मुख्य आयोजक पीसी शर्मा ने पुष्पगुच्छ देकर उनका स्वागत किया। इस  लोगी  योगी  देखोगी अवसर पर मंत्री ओमप्रकाश यादव ने ब्लड डोनेशन कैंप के प्रतिभागियों का हौसला बढ़ाया और उनको इनाम बांटे। मंत्री    ओम प्रकाश यादव ने कहा ब्लड डोनेशन कैंप जैसे कार्यक्रम करना बहुत ही प्रशंसनीय कार्य है। क्योंकि ऐसे कार्यक्रम से लोगों की जान बचाई जाती है। उन्होंने रक्तदान प्रतिभागियों के पास जाकर उनकी हौसला बढ़ाई भी करी। कार्यक्रम के अंत में निदेशक, उपनिदेशक व मुख्य सुरक्षा अधिकारी ने मुख्यातिथि ओम प्रकाश यादव को समृति चिन्ह देकर सम्मानित किया।


अभिनेत्रियां देह व्यापार के काले धंधे में लिप्त

राणा ओबराय

फ़िल्म अभिनेत्रियां क्यों शामिल हो रही हैं जिस्मफरोसन के धन्दे में?

नई दिल्ली। अब तो फ़िल्म अभिनेत्रियां भी देह व्यापार के काले धंधे में लिप्त हो रही हैं|मायानगरी मुंबई से आयेदिन अभिनेत्रियों के जिस्मफरोशी के धंधे में शामिल होने की खबरें आ रही हैं|जहां, एक बार फिर दो अभिनेत्रियां गिरफ्तार की गई हैं|ये अभिनेत्रियां जिस्मफरोशी के धंधे को अंजाम दे रही थीं| पुलिस ने एक होटल में छापेमारी कर दोनों अभिनेत्रियों को गिरफ्तार किया है|पुलिस ने बताया कि दोनों मूल तौर पर तुर्केमिनिस्तान की रहने वाली हैं और मुंबई में रहकर फिल्मों में छोटे-मोटे रोल किया करती हैं|ये दोनों एक रात का एक लाख रुपये तक चार्ज करती थीं|
पुलिस को खबर मिली थी कि शहर के इंपीरियल होटल में सेक्स का धंधा फल फूल रहा है जिसमें अभिनेत्रियां शामिल हैं|पुलिस ने जब होटल में छापा मारा तो वहां से दो युवतियों को गिरफ्तार किया जो पेशे से एक्ट्रेस हैं|पुलिस ने इनके 2 एजेंट को भी गिरफ्तार किया है जो इनके लिए ग्राहक लाने का काम करते थे।


आर्थिक सुरक्षा प्रदान करने की अनूठी पहल

राणा ओबराय

प्रदेश का हर परिवार समृद्ध और सुरक्षित हो, हमारी सरकार निरंतर कार्यरत

चण्डीगढ़। प्रदेश का हर परिवार समृद्ध और सुरक्षित हो, इस ओर हमारी सरकार निरंतर कार्यरत है। देश में अपनी तरह की पहली सामाजिक एवं आर्थिक सुरक्षा प्रदान करने की अनूठी पहल
‘मुख्यमंत्री परिवार समृद्धि योजना’ में उन परिवारों को सालाना ₹6,000 की आर्थिक सहायता, जीवन बीमा, दुर्घटना बीमा एवं पेंशन का लाभ मिलेगा, जिनकी सालाना आय ₹1,80,000 से कम है व 2 हेक्टेयर तक भूमि है।
आज चंडीगढ़ में इस योजना की समीक्षा बैठक की। यह योजना सभी वर्गों का कल्याण करने में कारगर सिद्ध होगी।


हजीला को प्रधानमंत्री 'राष्ट्रीय बाल पुरस्कार'

भोपाल। मध्यप्रदेश की रिया जैन और सुदिप्ति हजेला को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल पुरस्कार 2020 से सम्मानित किया गया है। राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविन्द ने राष्ट्रपति भवन में आयोजित कार्यक्रम में कला एवं संस्कृति के क्षेत्र में भोपाल की रिया जैन को पुरस्कार प्रदान किया। रिया ने चित्रकला के क्षेत्र में राष्ट्रीय, अंतर्राष्ट्रीय और राज्य स्तर पर उत्कृष्ट प्रतिभा का प्रदर्शन कर अनेक कीर्तिमान रचे हैं। इसी तरह खेल के क्षेत्र में इन्दौर की सुदिप्ती हजेला को कठिन अश्वारोहण खेल में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने के लिये सम्मानित किया गया है। उल्लेखनीय है कि ये पुरस्कार अलग-अलग क्षेत्रों में 5 से 18 वर्ष आयु के बच्चों को उनकी विशेष प्रतिभा के लिए प्रदान किए जाते हैं। पुरस्कार में विजेताओं को मैडल, प्रशस्ति पत्र, एक लाख रुपए धनराशि तथा प्रमाण पत्र प्रदान किए जाते हैं।


गलन भरी सर्दी का सिलसिला जारी

शीतलहर की चपेट में रहे कई इलाके


लखनऊ। एएनएस उत्तर प्रदेश के विभिन्न मण्डलों में गलन भरी सर्दी का सिलसिला जारी है। आंचलिक मौसम केन्द्र की रिपोर्ट के मुताबिक पिछले 24 घंटों के दौरान राज्य में कुछ स्थानों पर शीतलहर चली। पछुआ हवा चलने से गलन महसूस की गयी। इस दौरान राज्य के कानपुर, झांसी और आगरा मण्डलों में दिन का तापमान सामान्य से काफी कम रहा। हालांकि इसी अवधि में गोरखपुर, फैजाबाद और लखनऊ मण्डलों में रात के तापमान में बढ़ोतरी दर्ज की गयी। पिछले 24 घंटों के दौरान बहराइच राज्य का सबसे ठंडा स्थान रहा, जहां न्यूनतम तापमान 5.8 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। राजधानी लखनऊ और आसपास के इलाकों में आज सुबह से ही खिली धूप से लोगों को सर्दी से राहत मिली। जगह—जगह लोग छतों पर धूप सेंकते नजर आये। अगले 24 घंटों के दौरान प्रदेश में मौसम आमतौर पर सूखा रहने का अनुमान है। कुछ स्थानों पर सुबह कोहरा गिर सकता है।


जोर पकड़ेगा कांग्रेस का धरना-प्रदर्शन

फरवरी से जोर पकड़ेगा कांग्रेस का आंदोलन


लखनऊ। एएनएस उत्तर प्रदेश में अपनी खोयी जमीन वापस पाने की जद्दोजहद में लगी कांग्रेस किसानों की विभिन्न समस्याओं को लेकर अगले महीने से पूरे राज्य में व्यापक आंदोलन शुरू करेगी। प्रदेश कांग्रेस के उच्च पदस्थ सूत्रों ने बताया कि पार्टी आगामी फरवरी माह से किसानों से जुड़ी समस्याओं को लेकर चरणबद्ध तरीके से 'किसान बचाओ अभियान' शुरू करेगी। यह मुहिम करीब तीन महीने तक चलेगी। इस आंदोलन के तहत होने वाली पांच विशाल रैलियों में पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा की केन्द्रीय भूमिका होगी।
उन्होंने बताया कि पहले चरण के तहत फरवरी में पार्टी कार्यकर्ता हर गांव में जाकर किसानों से बाकायदा फार्म भरवाएंगे। उस फार्म में किसानों से पूछकर यह जानकारी भरी जाएगी कि उन्हें उपज का सही दाम मिल रहा है, या नहीं। उन्हें खाद, पानी, बीज, बिजली इत्यादि ठीक ढंग से मिल रही है या नहीं। उनका बकाया गन्ना मूल्य दिया गया या नहीं, क्या वे कर्ज से परेशान हैं और उनकी अन्य क्या समस्याएं हैं। सूत्रों ने बताया कि दूसरे चरण में प्रदेश के हर ब्लॉक में नुक्कड़ सभाएं की जाएंगी। उसके बाद तहसील मुख्यालयों और जिला मुख्यालयों पर किसानों की समस्याओं को लेकर पदयात्राएं निकाली जाएंगी। उन्होंने बताया कि तीसरे चरण में सांगठनिक लिहाज से उपयुक्त चार—पांच जिलों में विशाल रैलियां आयोजित की जाएंगी। इसमें प्रियंका गांधी की अहम भूमिका होगी। इन रैलियों में पार्टी के शीर्ष नेतृत्व के भी शामिल होने की सम्भावना है। सूत्रों ने बताया कि आंदोलन के तहत पार्टी आवारा पशुओं की समस्या को लेकर पूरे प्रदेश में अभियान शुरू करेगी। इसके अलावा प्रदेश में गन्ना किसानों के बकाया मूल्य भुगतान के लिये भी आंदोलन की रणनीति तय की गयी है। साथ ही पूर्वांचल में धान की खरीद में बिचौलियों की घुसपैठ को लेकर भी कांग्रेस किसानों के बीच जाएगी। उन्होंने बताया कि पार्टी किसानों के लिये बिजली की दरें आधी करने और पूर्ण कर्जमाफी को लेकर भी सड़कों पर उतरेगी।


योगी ने 13 अधिकारी को किया निलंबित

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 13 अधिकारियों को किया निलंबित, विभागीय जांच का भी आदेश मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में यूपी सरकार भ्रष्टाचार के प्रति जीरो टॉलरेंस नीति पर कार्य कर रही है बदायूं कोषागार में स्टाम्प मैनुअल का अनुपालन न करने एवं कार्य में शिथिलता के आरोप में सरकार की बड़ी कार्रवाई मुख्यमंत्री सर्वहित किसान बीमा योजना का क्लेम देने में आनाकानी करने वाली बीमा कंपनियों के विरुद्ध जांच के आदेश


लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश सरकार भ्रष्टाचार के प्रति जीरो टॉलरेंस की नीति पर निरंतर कार्य कर रही है। शुक्रवार को इस दिशा में बड़ी कार्रवाई करते हुए मुख्यमंत्री ने बदायूं कोषागार में स्टाम्प मैनुअल का अनुपालन न करने एवं कार्य में शिथिलता के आरोप में 13 अधिकारियों को निलंबित कर विभागीय जांच के आदेश दिए हैं। वहीं, किसानों को बीमा क्लेम देने में आनाकानी करने वाली बीमा कंपनियों के खिलाफ भी जांच के आदेश दिए गए हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा बदायूं कोषागार में कार्यरत 3 वरिष्ठ कोषाधिकारियों को 5 करोड़ रुपए के गबन के आरोप में निलंबित कर जांच के आदेश दिए गए हैं। उक्त प्रकरण में ही तहसीलदार स्तर के 10 अधिकारियों को भी निलंबित कर उनके खिलाफ विभागीय जांच के आदेश दिए गए हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बीमा कंपनियों द्वारा क्लेम न दिए जाने की शिकायतों को गंभीरता से लिया है। मुख्यमंत्री सर्वहित किसान बीमा योजना का क्लेम देने में बीमा कंपनी की शिकायत को मुख्यमंत्री ने गंभीरता से लेते हुए बीमा कंपनी के विरुद्ध जांच के आदेश दिए हैं। बाराबंकी में बड़ी संख्या में किसानों को बीमा क्लेम देने में आनाकानी की शिकायतें आ रही थीं। इसे देखते हुए मुख्यमंत्री ने यह आदेश जारी किया है। मुख्ममंत्री ने विकास कार्यों के लिए धनराशि जारी करने के आदेश दिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जनपद कासगंज के अलीपुर बड़वारा एवं सहसवान (बदायूं) के मध्य गंगा नदी पर सेतु के पहुंच मार्ग एवं सुरक्षात्मक कार्य निर्माण के लिए 174.97 करोड़ रुपए जारी करने के आदेश दिए हैं। इसके निर्माण से क्षेत्रीय जनता को आवगमन में सुविधा मिलेगी। इसके साथ ही जनपद बस्ती कलेक्ट्रेट के अनावासीय भवनों के निर्माण कार्य के लिए प्रायोजना की सम्पूर्ण पुनरीक्षित लागत 16 करोड़ रुपए पर प्रशासकीय एवं वित्तीय अनुमोदन प्रदान करते हुए 6.56 करोड़ रुपए अवमुक्त करने के आदेश दिए हैं।


वित्तीय-संकट से झूजती सरकार का आदेश

पंजाब वित्तिय संकट से जूझती पंजाब सरकार ने जारी किए आदेश
पंजाब में बजट कंट्रोल सिस्टम लागू


 अमित शर्मा


चंडीगढ़। गंभीर वित्तीय संकट का सामना कर रही पंजाब सरकार ने सरकारी खजाने के लिए बजट कंट्रोल सिस्टम लागू कर दिया है। इसके साथ ही, सरकारी व अर्द्ध सरकारी संस्थानों की कार्यप्रणाली के खर्च में कुछ ओर कटौती करने के नए आदेश जारी किए गए हैं। जनवरी के पहले हफ्ते में, राज्य में नए विकास कार्य शुरू करने और विभागों के खर्च में 20 फीसदी कटौती करने के आदेश जारी करने के बाद पंजाब सरकार ने अब सरकारी कांफ्रेंस, सेमिनार, वर्कशाप के आयोजन में किफायत बरतने, विदेशों में प्रदर्शनियां लगाने पर पूर्णता रोक लगाने के साथ-साथ फाइव स्टार अथवा महंगे होटलों में हर तरह के समारोहों के आयोजन, विदेशों में स्टडी टूर पर भी रोक लगा दी है। वित्त विभाग की ओर से राज्य के सभी विभाग प्रमुखों, डिवीजनों के कमिश्नरों, डीसी को भेजे पत्र में कहा गया है कि सरकार के वित्तीय साधनों के मद्देनजर वित्त विभाग द्वारा बजट उपबंध के खर्चों में किफायत बरतने की जरूरत महसूस की जा रही है। इसके तहत तय किया गया है, कि राज्य में की जाने वाली कांफ्रेंस, सेमिनार, वर्कशाप करने संबंधी खर्च में पूरी किफायत बरती जाए। केवल वही कांफ्रेंस, सेमिनार, वर्कशाप ही कराई जाएं, जो बहुत जरूरी हों। विदेशों में प्रदर्शनियां लगाने पर पूरी पाबंदी लगाई गई है। लेकिन व्यापार को बढ़ावा देने से संबंधी प्रदर्शनियां मुख्यमंत्री की अनुमति से ही लगाई जाएं। इसके अलावा, फाइव स्टार या इससे बड़े स्तर के होटलों में मीटिंग, कांफ्रेंस, वर्कशाप, सेमिनार आदि पर पूरी तरह रोक लगा दी गई है। अन्य राज्यों या विदेशों में सरकारी खर्च पर स्टडी टूर, कांफ्रेंस, वर्कशाप, सेमिनार पर भी पूरी तरह रोक लगा दी गई है। और केवल उसी स्थिति में अनुमति दी जाएगी, जब ऐसे कार्यक्रमों का आयोजन स्पांसरशिप से किया जाएगा।सरकारी खर्च से यह कार्यक्रम आयोजित नहीं किया जाएंगा  में यह भी साफ कर दिया गया है कि उपरोक्त आदेश सरकारी व गैर सरकार संस्थानों, बोर्ड, पीएसयू, आयोग, सोसाइटियों पर भी लागू होंगे। विभागों के प्रबंधकीय सचिव, विभाग प्रमुख और दफ्तरों के इंचार्ज अपने-अपने विभाग के तहत आने वाले संस्थानों में उक्त आदेश का पालन कराने के लिए जिम्मेदार होंगे। लापरवाही बरतने वाले अधिकारी के खिलाफ पंजाब सिविल सेवा (सजा व अपील) 1970 के तहत सजा देने के लिए अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी।
वित्त विभाग ने सरकारी व अर्द्घसरकारी संस्थानों, बोर्डो, आयोगों, सोसाइटियों के लिए उपरोक्त आदेश जारी करने के साथ ही राज्य के लेखा व खजाना निदेशक और सभी जिला खजाना अधिकारियों को भी हिदायत जारी की है कि सरकार ने राज्य के खजानों में बजट कंट्रोल सिस्टम लागू कर दिया गया है, इसलिए उपरोक्त खर्चों में किफायत बरतने के उपाय को लागू करने के लिए विभागों द्वारा ऐसे कार्यक्त्रस्मों के जो भी बिल खजाने में पेश किए जाएं, उनकी मंजूरी निर्धारित किए गए बजट-कट के अनुसार की जाए। इसके साथ ही वित्त शाखाओं के सभी सुपरिटेंडेंट से कहा गया है। कि अगर किसी विभाग द्वारा उक्त आदेशों का उल्लंघन किया जाता है।तो संबंधित जिम्मेदार अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई का प्रस्ताव पेश किया जाए। दरअसल, वित्त विभाग ने यह भी माना है कि विभागों द्वारा जो भी खर्च किए जाते हैं, उनकी रसीद कम जेनरेट की जा रही हैं।
वेतन, पेंशन और ब्याज अदायगी पर सारा जोर
जनवरी के पहले हफ्ते में, वित्त विभाग की बजट शाखा-1 द्वारा राज्य से सभी विभाग प्रमुखों, सभी डिवीजनों के कमिश्नरों और डिप्टी सपीकरकमिश्नरों को भेजे पत्र में कहा गया था कि सभी विभागों के लिए वेतन, पेंशन, बिजली के बिल और कर्ज की अदायगी को छोड़कर बाकी सभी तरह के खर्च मे कटौती की है।


पीआरवी ने घायलों को पहुंचाया अस्पताल


पीआरवी 45 सराहनीय कार्य
अमानीगंज। गदुरही मार्ग पर भीषण सड़क दुर्घटना में तीन लोगों की हालत गंभीर मोटर साइकिल सवार अनियंत्रित होकर सड़क पर लगे बोड से भिड़े घटना में सड़क किनारे पर बैठी दो महिलाओं को भी लगी चोट।
खण्डासा थाना क्षेत्र के रामनगर बाजार में हुई सड़क र्दुघटना में रुदौली कोतवाली के बरावां गाँव निवासी तीन लोगों को गंभीर चोटें आई है। सूचना पर पहुँच कर पीआरवी 45 ने घायलों को सीएचसी खण्डासा पहुंचाया। जबकि एक घंटे बाद तक ऐमबुलेंस का वाहन नहीं पहुंच सका। सभी घायल गदुरही बाजार से अमानीगंज की तरफ एक ही मोटर साइकिल पर जा रहे थे शराब के नशे में होने से वाहन अनियंत्रित होकर बोड से लड़ गये घायलों की हालत गंभीर बनी हुई है। प्रभारी चिकित्सा अधिकारी खण्डासा संतोष कुमार ने बताया कि सभी घायलों की हालत चिंता जनक है और सब को जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया घायलों मे एक का नाम जगन्नाथ बताया गया है।


आक्रोशित पीड़ित किसानों ने शुरू किया धरना

कालपी। भूमि का अधिग्रहण हो जाने के बाद भी राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के अधिकारियों ने कालपी खास मौजे के भूस्वामियों को प्रति कर की अदायगी नहीं की है। इससे आक्रोशित पीड़ितों ने एम.एस.वी इंटर कॉलेज कालपी के समीप राष्ट्रीय राजमार्ग हाईवे किनारे स्थित 23 जनवरी से टेंट लगाकर धरना शुरू कर दिया है। शुक्रवार को लगातार दूसरे दिन फोरलेन सड़क चौड़ीकरण परियोजना प्रभावित मुआवजे की मांग को लेकर हाइवे किनारे धरने में बैठें रहे। धरनास्थल में क्रमिक अनशन चल रहे आंदोलनकारियों ने चेतावनी दी है कि हमारी जायज मांगो को पूरा नहीं किया गया तो हम लोगों का आंदोलन निरंतर चलता रहेगा। धरना स्थल पर खूबेलाल, अब्दुल गनी, सैयद मेहराज, मो.अहमद, रईस, डॉ. अय्यूब, अरविंद राठौर, सलीम अंसारी, इस्तियाक, हेमचन्द्र कोष्टा, नरेंद्र सिंह गौतम, नन्दलाल, विमल आदि पीड़ितों के द्वारा अनशन किया जा रहा है।


बेटी है तो मां, बहन, बहू और पत्नी है

कानपुर। न्यू सिटी पब्लिक इंटर कॉलेज प्रतापपुरहरी सिंहपुर कानपुर में राष्ट्रीय बालिका दिवस मनाया गया। न्यू सिटी पब्लिक इंटर कॉलेज प्रतापपुरहरी सिंहपुर कानपुर की प्रधानाचार्या श्रीमती गीता कुशवाहा ने बताया कि लड़कियों के प्रति होने वाले भेदभाव को दूर करने,परिवार तथा समाज में जागरूकता फैलाने के उद्देश्य से यह दिवस मनाया जाता है।राष्ट्रीय बालिका दिवस 2008 से मनाया जाता है।बेटियों के खिलाफ होने वाले भेदभाव की मानसिकता में जागरूकता लाई जाती है। बालिकाओं के अधिकारों के प्रति जागरूकता ,असमानता के प्रति जागरूकता,शिक्षा एवं स्वास्थ्य की जागरूकता उत्पन्न की जाती है। इस अवसर पर कालेज के प्रबंधक श्री पी एल कुशवाहा ने कहा कि अपनी बेटियों को अच्छे संस्कार दो।उनको रानी लक्ष्मीबाई बनाओ।गलत बातों का वह विरोध करें।बेटी है तो मां है।बेटी है तो बीवी है। बेटी है तो बहन है।बेटी है तो वह बहू है। बेटी है तो वह पापा का अभिमान है। कॉलेज में वाद विवाद प्रतियोगिता का आयोजन किया गया और प्रधानाचार्य गीता कुशवाहा द्वारा बच्चों को पुरस्कार भी दिए गये।


स्वास्थ्य मिशन के तहत सीएससी का निरीक्षण

नई दिल्ली। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के डॉक्टर विकास सिंघल ने शुक्रवार को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कालपी का निरीक्षण किया। उन्होंने इमरजेंसी, ओपीडी के साथ ही अभिलेखों को भी खंगाला। उन्होंने सबसे पहले इमरजेंसी देखी। वहां तैनात डाक्टर और फार्मासिस्ट से पूछताछ की। उसके बाद इमरजेंसी में मौजूद दवाओं का निरीक्षण किया। अभिलेखों को देखकर असंतोष जताया और एएनएम विमला, रचना दुबे, गायत्री आदि को निर्देश दिया कि अभिलेखों में तरीके से प्रविष्टियां अंकित की जाएं। निरीक्षण के दौरान सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के चिकित्साधीक्षक डॉ. समीर प्रधान उपस्थित रहे।


दुर्लभ जन्मजात बीमारी की सफल सर्जरी

नई दिल्ली। दिल्ली के फोर्टिस अस्पताल के चिकित्सकों ने दिल की एक दुर्लभ एवं जन्मजात बीमारी के साथ जन्में एक माह के शिशु के दिल की सर्जरी की है जो ‘अनोमलस काेरोनरी आर्टरी फ्राॅम द पल्मोनरी आर्टरी(एएलसीएपीए) से पीड़ित था और यह बीमारी प्रति तीन लाख बच्चों में से एक बच्चे को होती है। दिल से जुड़े जन्मजात दोष (सीएचडी) को ब्लैंड व्हाइट गारलैंड सिंड्रोम भी कहा जाता है। इस बीमारी में दिल की मांसपेशियों को रक्त पहुंचाने वाली बाईं कोरोनरी आर्टरी एओरटा के बजाय पल्मोनरी आर्टरी से शुरूआत होती है और दिल की मांसपेशियों को रक्त की आपूर्ति करने वाली रक्त वाहिका अपनी सामान्य स्थिति में नहीं जुड़ी होती है। इस टीम का नेतृत्व सीटीवीएस के निदेशक एवं प्रमुख चिकित्सक दिनेश कुमार मित्तल और पीडिएट्रिक कार्डियोलाॅजी के वरिष्ठ सलाहकार डाॅ़ गौरव गर्ग ने किया। सर्जरी के बाद बच्चे काे एक दिन के लिए वेंटीलेटर पर रखा गया। डाॅ़ मित्तल ने कहा, नवजात बच्चे की सर्जरी काफी जटिल काम था क्योंकि अंग बहुत छोटे होते हैं। और सबसे बड़ी बात यह थी कि बच्चे का दिल का फंक्शन बहुत कम था लेकिन बच्चे का रिस्पांस अच्छा था। ऑपरेशन के अगले दिन वेंटीलेटर हटा दिया गया तथा आठवें दिन उसे अस्पताल से छुट्टी दे दी गई।


एससी ने अनुच्छेद 370 पर फैसला रखा सुरक्षित

नई दिल्ली। उच्चतम न्यायालय ने जम्मू-कश्मीर से संबंधित अनुच्छेद 370 को निरस्त करने को चुनौती देने वाली याचिकाओं को वृहद पीठ के सुपुर्द करने या ना करने के मामले में गुरुवार को फैसला सुरक्षित रख लिया। न्यायमूर्ति एन वी रमन की अध्यक्षता वाली पांच सदस्यीय संविधान पीठ ने याचिकाकर्ताओं और केंद्र सरकार की दलीलें सुनने के बाद फैसला सुरक्षित रख लिया।याचिकाकर्ताओं की ओर से दिनेश द्विवेदी, राजीव धवन एवम् संजय पारिख ने दलीलें दी, जबकि एटॉर्नी जनरल के के वेणुगोपाल ने केंद्र सरकार का पक्ष रखा।इससे पहले सुनवाई की शुरुआत करते हुए वेणुगोपाल ने दलील दी कि अलगाववादी वहां जनमत संग्रह का मुद्दा उठाते आए हैं क्योंकि वह जम्मू कश्मीर को अलग संप्रभु राज्य बनाना चाहते थे। उन्होंने कहा कि महाराजा हरि सिंह ने भारत की मदद इसलिए मांगी थी क्योंकि वहां विद्रोही घुस चुके थे। वहां पर आपराधिक घटनाएं हुईं और आंकड़े बताते हैं कि अलगाववादियों को पाकिस्तान से ट्रेनिंग दी गई ताकि यहां बर्बादी की जा सके। एटॉर्नी जनरल ने कहा कि जनमत संग्रह कोई स्थायी समाधान नहीं था। उन्होंने संविधान पीठ के समक्ष एक-एक कर ऐतिहासिक घटनाक्रम का ब्योरा दिया। साथ ही कश्मीर का भारत में विलय और जम्मू कश्मीर संविधान सभा के गठन के बारे में विस्तार से बताया। गौरतलब है कि केद्र सरकार ने पिछले साल 5 अगस्त को जम्मू कश्मीर को दो भाग में बांटने और अनुच्छेद 370 हटाने का फैसला किया था। इस फैसले के खिलाफ याचिका दायर हैं, जिनपर सुनवाई हो रही है। इससे पहले याचिकाकर्ताओं में से एक की ओर से पेश अधिवक्ता डॉ. राजीव धवन ने कहा 'पहली बार भारत के संविधान के अनुच्छेद-370 का उपयोग करते हुए एक राज्य को एक केंद्र शासित प्रदेश का दर्जा दिया गया। यदि वे (केंद्र) एक राज्य के लिए ऐसा करते हैं। वे इसे किसी भी राज्य के लिए कर सकते हैं।'


धोखाधड़ी के मामले में विधायक को जेल

लखनऊ। शामली के  समाजवादी पार्टी के पश्चिमी उत्तर प्रदेश में मजबूत नेता माने जाने वाले नाहिद हसन की मुश्किलें काफी बढ़ गई है। शामली से समाजवादी पार्टी के विधायक नाहिद हसन को धोखाधड़ी के मामले में जेल भेजा गया है। फास्ट ट्रैक कोर्ट ने समाजवादी पार्टी के विधायक की जमानत खारिज कर दी। इसके बाद नाहिद हसन को जेल भेजा गया है। जमीन के बैनामे में धोखाधड़ी के मामले में नाहिद हसन आज फास्ट ट्रैक कोर्ट में पेश हुए थे। नाहिद को इलाहाबाद हाईकोर्ट से अंतरिम जमानत मिली थी। इनके खिलाफ जमीन की खरीद-फरोख्त में लाखों की धोखाधड़ी का मामला चल रहा था। इनको एक हफ्ते पहले ही अंतरिम जमानत मिली थी। इसके बाद स्थाई जमानत के लिए फास्ट ट्रैक कोर्ट में शुक्रवार को सुनवाई हुई। इससे पहले अंतरिम जमानत मिलने पर विधायक नाहिद हसन ने कहा था कि न्याय की जीत हुई है। इस मामले में सपा विधायक चौधरी नाहिद हसन के खिलाफ कोर्ट से गिरफ्तारी वारंट जारी हुआ था। जिला न्यायालय से अंतरिम जमानत अर्जी खारिज होने के बाद उन्होंने हाईकोर्ट की शरण ली थी। हाईकोर्ट से एक माह के अंदर निचली अदालत में पेश होने के आदेश दिए गए थे। विधायक ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर कर निचली अदालत में पेश होने के लिए एक माह का समय और मांगा था। सुप्रीम कोर्ट ने विधायक नाहिद हसन को एक माह का समय और दे दिया था। कस्बा कैराना निवासी मोहम्मद अली ने जनवरी 2018 को कोतवाली में विधायक चौधरी नाहिद हसन व उनकी मां पूर्व सांसद तबस्सुम बेगम सहित नौ आरोपियों के खिलाफ जमीन के बैनामे में 80 लाख 87 हजार की धोखाधड़ी करने के आरोप में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। मुकदमे की विवेचना क्राइम ब्रांच के इंस्पेक्टर छोटे सिंह को दी गई थी।


हीरे के नमूने को दुर्लभ रूप देने की तैयारी

नई दिल्ली। मशहूर फैशन ब्रांड लूई वीटॉन हीरे की एक दुर्लभ और असाधारण नमूने को एक नया रूप देने के लिए पूरी तरह से तैयार है। इस 1758 कैरेट के हीरे का नाम सेवेलो डायमंड है, सेत्स्वाना भाषा में जिसका अर्थ 'दुर्लभ खोज' है। यह हीरा ल्यूकारा डायमंड कॉर्प (हीरे की खोज और खनन कंपनी) के सौ प्रतिशत स्वामित्व वाली कारोवे खदान से मिला है जो बोत्सवाना में स्थित है। यह अब तक ढूंढ़ा गया दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा अपरिष्कृत हीरा है और बोत्सवाना से बाहर निकला सबसे बड़ा हीरा है। पेरिस में 21 जनवरी को की गई घोषणा के मुताबिक, ल्यूकारा डायमंड कॉर्पोरेशन और एचबी कंपनी (बेल्जियम के शहर एंटवर्प में हीरा निर्माण कंपनी) के साथ मिलकर अब तक ढूंढ़ा गया दुनिया का सबसे दूसरा बड़ा अपरिष्कृत हीरा अब अपना रूप बदलने के लिए पूरी तरह से तैयार है। बता दें, दुनिया का सबसे बड़ा हीरा कलिनन हीरा है जो 3106 कैरेट का है। इसका पता 1905 में दक्षिण अफ्रीका में लगाया गया था। यह अभी ब्रिटेन राजघरानों के शाही संग्रह में शोभायमान है।सेवेलो की गुणवत्ता, इसकी संरचना इत्यादि के बारे में पूरी जानकारी हासिल करने में अभी अगले कुछ और महीनों का वक्त लगेगा। यह न केवल अपने आकार के लिए बल्कि अपने रंग और गठन के दृष्टिकोण से भी शानदार है। इसके ऊपर कार्बन की एक पतली सी परत है जो अपने अंदर दो अरब साल के प्राचीन इतिहास को समेटे हुए हैं। एचबी कंपनी के साथ लुई विटॉन इस दिशा में गहराई से काम कर रहा है। इसकी वास्तविक क्षमता का आकलन करने के लिए कंपनी द्वारा नवीनतम स्कैनिंग और तकनीक का इस्तेमाल किया जा रहा है और इसके साथ ही आने वाले समय में इसे किस तरह का आकार और रूप दिया जाएगा इस बारे में भी योजनाएं बनाई जा रही हैं।


नमामि गंगेः घाटों की सफाई में बड़ा घोटाला

लखनऊ। कानपुर में नमामि गंगे की तरफ से घाटों की सफाई के लिए दिए गए कर्मचारियों की नियुक्ति को लेकर बड़ा घोटाला सामने आया है। भाजपा के विधायक अभिजीत सिंह सांगा ने इस मामले में जिलाधिकारी से शिकायत की थी, अब इसमें जांच के आदेश दिए गए हैं।
विधायक की तरफ से की गई शिकायत के अनुसार अकेले बिठूर घाट की सफाई के लिए महीने में 25 लाख की राशि खर्च की जा रही है। छोटे से घाट की सफाई के लिए 61 सफाई कर्मचारी नियुक्त किए गए हैं। इस मामले का खुलासा तब हुआ जब इन्हीं में से एक सफाई कर्मचारी जयवीर की इलाज के अभाव में मौत हो गई। सांगा ने अपने शिकायती पत्र में बताया है कि जयवीर का सफाई कर्मचारी के नाम पर नियुक्ति के लिए 30 हजार रुपये रिश्वत के तौर पर लिया गया। सफाई का ठेका लेने वाली कंपनी विशाल प्रोटेक्शन फोर्स के ठेकेदार की ओर से लिया गया था। बृहस्पतिवार को विधायक सांगा के साथ प्रेस वार्ता में आई मृतक सफाई कर्मचारी जयवीर की पत्नी ने बताया कि उसके पति से पैसे लेकर नौकरी तो दी गई लेकिन कहा था हर महीने सात हजार रूपये मिलेंगे पर वो सिर्फ पांच हजार रुपये ही दे रहे थे।
वह भी तीन महीने तक ही दिया फिर उसे नौकरी से निकाल दिया। इस मामले में विधायक सांगा ने आरोप लगाया कि ठेकेदार और उनके गुर्गों की तरफ से मृतक की पत्नी और परिवार को भी धमकी दी जा रही है। देर शाम इस मामले को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जिला प्रशासन से इस संबंध में पूरी जांच कर रिपोर्ट भेजने को कहा है।


कोरोना वायरस ने भारतीय नर्स को लपका

नई दिल्ली। चीन से निकले जानलेवा वुहान कोरोना वायरस ने पहले भारतीय को अपना शिकार बना लिया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक केरल की रहने वाली नर्स को वुहान कोरोनावायरस संक्रमण के साथ दुबई के एक अस्पताल में दाखिल किया गया है। ये जानलेवा वायरस दुनिया के कई देशों में प्रवेश कर चुका है। अमेरिका, जापान और थाईलैंड के बाद अब वुहान कोरोनावायरस संक्रमण के केस सिंगापुर और वियतनाम से भी कंफर्म हो चुके हैं। 25 भारतीय फंसे वुहान शहर में सरकार की ओर से मिले जानकारी के मुताबिक चीन के वुहान शहर में लगभग 25 भारतीय फंसे हैं।
ये वही शहर है जहां से पूरी दुनिया में वुहान कोरोनावायरस फैलना शुरू हुआ है। संक्रमण का खतरा देखते हुए चीनी सरकार ने वुहान शहर से यातायात के सभी माध्यमों पर रोक लगा दी है। इसी वजह से ये 25 छात्र भी शहर में ही फंस गए हैं। हालांकि भारतीय दूतावास इन्हें शहर से निकालने के कोशिश कर रहा है। दो भारतीयों को मुंबई में रोका गया वुहान शहर से मुंबई पहुंचे पांच भारतीयों में से दो यात्रियों को संक्रमण के खतरे के बाद मुंबई एयरपोर्ट पर रोक लिया गया है। इन दोनों यात्रियों में संक्रमण के लक्षण दिखे हैं। फिलहाल इन दोनो यात्रियों को मुंबई के ही कस्तूरबा अस्पताल में निगरानी के लिए रखा गया है। जानिए क्यों इस वायरस से घबरा गए हैं सारे देश, अब तक हो चुकी है 9 लोगों की मौत
बहुत बड़ा है खतरा विभिन्न देशों के वैज्ञानिकों का कहना है कि अगर संक्रमण अन्य देशों मे फैला तो उसको रोकना मुश्किल हो जाएगा। मौजूदा हालात में अभी तक वुहान कोरोनावायरस से लड़ने के लिए कोई दवा मौजूद नहीं है।
क्यों है सभी देश चिंतित अमेरिका समेत दुनिया के सभी देश इस वायरस से परेशान हैं। दरअसल चीन के नागरिक अपने नए साल के जश्न के लिए पूरी दुनिया में घूमने निकलते हैं। अनुमान है कि इस साल चीन से लगभग 70 लाख लोग पूरी दुनिया में छुट्टी मनाने के लिए जाएंगे। ऐसे समय में नए वायरस के संक्रमण का खतरा और बढ़ गया है। हालांकि अमेरिका, इंग्लैंड, जापान और भारत समेत सभी देशों ने अपने एयरपोर्ट्स को हाई अलर्ट में रखते हुए जांच शुरू कर दिया है। लेकिन फिर भी हेल्थ एक्सपर्ट बताते हैं कि मौजूदा स्क्रीनिंग भी इस वायरस को देश में घुसने से नहीं रोक सकते।


त्रिलोकी नाथ


जेवीएम में सोरेन सरकार से समर्थन लिया वापिस

रांची। झारखंड विकास मोर्चा (जेवीएम) ने झारखंड की सोरेन सरकार से समर्थन वापस ले लिया है। पार्टी ने शुक्रवार को आरोप लगाया कि कांग्रेस उनके दो विधायकों को अपने पाले में लेने की कोशिश कर रही है। गुरुवार को विधायक प्रदीप यादव और बंधु तिर्की ने कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात की थी। जेवीएम ने सरकार से समर्थन तब वापस लिया है जब इस बात की चर्चा हो रही है कि उसका बीजेपी में विलय हो सकता है। जेवीएम के दोनों विधायक इसका विरोध कर रहे हैं। बाबूलाल मरांडी और दोनों विधायक के बीच मनमुटाव चल रहा था, जिसके वजह से मरांडी ने बंधु तिर्की को तो पार्टी से भी निकाल दिया।


डीएम टीम बनाकर कर सकते हैं, कार्रवाई

सचिन विशोरिया


साहिबाबाद। डीपीएस पब्लिक स्कूल साहिबाबाद द्वारा सरकारी भूमि पर कब्जे के मामले में आज उप जिलाधिकारी अपनी टीम बनाकर कर सकते हैं बड़ी कार्रवाई सरकारी भूमि कब्जाने के मामले में स्कूल प्रबंधक पर हो सकता है मुकदमा दर्ज यहां आपको बताते चलें कि डीपीएस पब्लिक स्कूल वही है स्कूल है जो लोनी की सीमा में होने के बाद भी अपने आपको साहिबाबाद दर्शाता है इस मामले पर पहले भी विवाद हो चुका है पुर्व विधायक मदन भैय्या इस मामले में पहले भी शिकायत पत्र जारी कर चुके हैं बताया जा रहा है कि एक शिकायतकर्ता के द्वारा खसरा नंबर 306 सरकारी भूमि दर्ज होने के बाद भी डीपीएस पब्लिक स्कूल में अपने दीवार में दबाया प्रशासन से लगाई गुहार।


'राष्ट्रगान' देश का मान, कार्यक्रम आयोजित

अश्वनी उपाध्याय


गाजियाबाद। दैनिकजागरण के द्वारा जिला गाजियाबाद में 26 स्थानों पर 26 राष्ट्रगान देश का मान कार्यक्रम आयोजन किया जा रहा है, आप सभी को मुझे यह सूचना देते हुए बड़ा हर्ष हो रहा है पहली बार ऐसा कार्यक्रम 26 जनवरी पर दैनिकजागरण कर रहा है। राष्ट्रगान, देश का मान।
का कार्यक्रमों की श्रंखला मे दैनिक जागरण ने 26स्थानों मे एक स्थान रामेश्वर पार्क के डी ब्लाक के श्री रामलीला मैदान को चुना मै लोनी क्षेत्र के निवासियों की तरफ से दैनिक जागरण का कोटि कोटि धन्यवाद करता हूँ तथा आप सभी से 26 जनवरी को प्रातः साढ़े सात बजे डी ब्लाक पार्क मे पहुँचने का अनुरोध करता हूँ  यहाँ पर अनेक स्कूली बच्चों द्वारा देशभक्ति के मनोरंजक कार्यक्रम भी होगे। आप सभी से पुनः निवेदन है कि ध्वज रोहण के कार्यक्रम मे पहुँचकर हमे अनुग्रहीत करें। मैं तो आ रहा हूं आप भी आ रहे हैं ना जरूर आना ऐसे कार्यक्रम मैं आप सबका पहुंचना जरूरी है।


परवाह नहीं तो लागू करें, सीएए-एनपीआर

अमित शाह पर प्रशांत किशोर का पलटवार- परवाह नहीं तो लागू करें CAA-NRC की क्रोनोलॉजी


नई दिल्ली। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और विपक्षी नेताओं के बीच इन दिनों नागरिकता संशोधन एक्ट के मसले पर आर-पार की लड़ाई जारी है। इस बीच सहयोगी जदयू नेता प्रशांत किशोर ने बुधवार को अमित शाह के बयान पर पलटवार किया और कहा कि वे विरोध की परवाह नहीं करते तो CAA, NRC को लागू करें अमित शाह पर प्रशांत किशोर का पलटवार- परवाह नहीं तो लागू करें CAA-NRC की क्रोनोलॉजीप्रशांत किशोर ने सरकार पर साधा निशाना CAA के मुद्दे पर प्रशांत किशोर का हमला‘नागरिक की असहमति खारिज करना ताकत नहीं’अमित शाह ने लखनऊ रैली में दिया था बयान नागरिकता संशोधन एक्ट के मसले पर जनता दल (यू) के उपाध्यक्ष और राजनीतिक रणनीतिकार प्रशांत किशोर लगातार मोर्चा खोले हुए हैं। बुधवार को एक बार फिर प्रशांत किशोर ने ट्विटर के जरिए इस मसले पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह पर निशाना साधा और कहा कि वो विरोध की परवाह नहीं करते तो CAA, NRC लागू करने पर आगे बढ़ें।बता दें कि मंगलवार को ही अमित शाह ने चुनौती दी थी कि केंद्र सरकार CAA पर बिल्कुल भी पीछे नहीं हटेगी। जदयू नेता प्रशांत किशोर ने बुधवार को ट्वीट कर लिखा, ‘नागरिकों की असहमति को खारिज करना किसी भी सरकार की ताकत को नहीं दर्शाता है। अमित शाह जी, अगर आप CAA, NRC का विरोध करने वालों की फिक्र नहीं करते हैं तो फिर आप इस कानून पर आगे क्यों नहीं बढ़ते हैं। आप कानून को उसी तरह लागू करें जैसे की आपने देश को इसकी क्रोनोलॉजी समझाई थी। 4,643 लोग इस बारे में बात कर रहे हैं पीके लगातार कर रहे हैं विरोध बता दें कि भले ही जदयू ने राज्यसभा, लोकसभा में इस कानून के पक्ष में मतदान किया हो लेकिन प्रशांत किशोर लगातार इसपर अलग राय रख रहे हैं। उन्होंने ट्विटर से ही इस कानून के खिलाफ मोर्चा खोला, अपनी पार्टी के पक्ष पर भी सवाल खड़े किए और अन्य विपक्षी दलों से इस कानून के खिलाफ आवाज़ बुलंद करने को कहा। प्रशांत किशोर के लगातार विरोध के बाद ही बिहार में नीतीश कुमार ने ऐलान किया था, उनके राज्य में नेशनल रजिस्टर फॉर सिटिजन लागू नहीं होगा। इसके अलावा उन्होंने विधानसभा में CAA पर चर्चा करने की भी वकालत की थी।


सपा ने जार्जटाउन में मनाई कर्पूरी जयंती

सादगी की मिशाल थे कर्पूरी ठाकुर


प्रयागराज l बिहार प्रांत के पूर्व मुख्यमंत्री, महान समाजवादी चिन्तक, नेता स्व. कर्पूरी ठाकुर की जयन्ती आज समाजवादीपार्टी के जिला कार्यालय जॉर्ज टाउन में मनाई गई l सपा के नि वर्तमान जिला अध्यक्ष कृष्णमूर्ति सिंह ने कार्यक्रम की अध्यक्षता एवं संचालन दूध नाथ पटेल ने किया l  पार्टी के नेताओं एवं कार्यकर्ताओं ने कर्पूरी ठाकुर के चित्र पर माल्यार्पण कर श्रध्दांजलि अर्पित करते हुए उनके पदचिन्हों पर चलने का संकल्प दोहराया l
 इस अवसर पर कृष्णमूर्ति सिंह ने कहा कि आज युवाओं को ऐसे चरित्र वान नेता के इतिहास को पढ़ कर सीख लेनी चाहिए l सैयद इफ्तिखार हुसैन ने कहा कि कर्पूरी ठाकुर जी जैसे गरीब, किसान परिवार में जन्मे व्यक्ति के संघर्ष से प्रेरणा लेकर हर जोर जुल्म के खिलाफ समाजवादियों को आगे बढ़ना होगा l सपा के वरिष्ठ नेता और श्री राजेंद्र सिंह पटेल ने कहा कि बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री कर्पूरी ठाकुर बिहार प्रांत के अति पिछड़े, गरीब परिवार में सन 1924 में आज ही की तारीख को जन्मे थे l उनके पिता का नाम श्री गोकुल ठाकुर था जो कि बाल काटने के पुश्तैनी काम कर परिवार का भरण पोषण करते थे l वह जीवन पर्यंत, संघर्ष और सादगी की मिशाल थे l उन्होंने ईमानदारी के साथ संघर्ष कर अपनी पहचान देश के बड़े नेताओं में बनायी है l आज की पीढ़ी को उनके व्यक्तित्व और कृतित्व से प्रेरणा लेनी चाहिए l इस अवसर पर सर्व श्री कृष्णमूर्ति सिंह, सैयद इफ्तिखार हुसैन, राजेन्द्र सिंह पटेल, नरेंद्र सिंह, दूधनाथ पटेल, योगेश यादव, महबूब उस्मानी, राजेश शर्मा, शोभनाथ शर्मा, अनिल यादव, दान बहादुर मधुर,  मो अस्करी, नाटे चौधरी,संतलाल वर्मा, दिनेश यादव राकेश सिंह, हृदय मौर्य, रवींद्र यादव, मो. गौस, मोइन हबीबी, आर. एन. यादव, कुलदीप यादव, आदि नेतागण मौजूद थे l


दान बहादुर सिंह मधुर प्रवीन


रेलवेः फरवरी तक कैंसिल हुई कोई ट्रेन

रेल से यात्रा करने वालों के लिए बड़ी खबर, फरवरी तक कैंसिंल हुईं कई ट्रेनें, पंजाब की कई रेलगाड़ियां भी शामिल 


अमित शर्मा


नई दिल्ली। ट्रेन में यात्रा करने वाले यात्रियों के लिए बड़ी खबर है। रेलवे ने काफी संख्‍या में ट्रेनों को फरवरी तक रद्द कर दिया है। दरअसल रेलवे ने दिसंबर से जनवरी तक रद्द ट्रेनों को अब मार्च से चलाने का फैसला किया है। कोहरे के कारण इन ट्रेनों को 29 फरवरी तक रद्द किया गया है। इसके साथ ही रेलवे की ओर से विभिन्न स्टेशनों के बीच निर्माण कार्य भी किया जा रहा है। इसके लिए ब्लॉक लेकर कार्य किया जा रहा है। ब्लॉक के चलते भी ट्रेनों को कैंसिल करना पड़ता है। ऐसे में सर्दी में यात्रियों को और परेशानी उठानी पड़ सकती है। ये ट्रेन रहेंगी रद ट्रेन संख्या 14606 जम्मू तवी- हरिद्वार एक्सप्रेस अब 23 फरवरी तक रद्द रहेगी। ट्रेन संख्या 14605 हरिद्वार- जम्मू तवी एक्सप्रेस 24 फरवरी तक रद्द रहेगी। ट्रेन संख्या 14616 अमृतसर-लालकुआं एक्सप्रेस और 14524 अम्बाला-बरौनी एक्सप्रेस 29 फरवरी तक रद्द रहेगी। ट्रेन नंबर 04523 बरौनी-अंबाला एक्सप्रेस अब 27 फरवरी तक रद्द रहेगी। ट्रेन संख्या 22424 अमृतसर-गोरखपुर एक्सप्रेस 23 फरवरी तक और 22423 गोरखपुर-अमृतसर एक्सप्रेस 24 फरवरी तक रद्द रहेगी।
इसके साथ ही ट्रेन संख्या 14218 चंडीगढ़-प्रयाग एक्सप्रेस 29 फरवरी तक और 14217 प्रयाग-चंडीगढ़ एक्सप्रेस 1 मार्च तक रद्द रहेगी। ट्रेन संख्या 14618 अमृतसर-बनमनखी एक्सप्रेस 29 फरवरी तक और 14617 बनमनखी-अमृतसर एक्सप्रेस 2 मार्च तक नहीं चलेगी। ट्रेन नंबर 13152 जम्मू तवी- कोलकाता एक्सप्रेस 2 मार्च तक और ट्रेन संख्या 13151 कोलकाता-जम्मू तवी एक्सप्रेस 29 फरवरी तक नहीं चलेगी।
इसके अलावा, ट्रेन नंबर 14674 अमृतसर-जयनगर एक्सप्रेस 28 फरवरी तक रद्द रहेगी। ट्रेन संख्या 13006 अमृतसर-हावड़ा मेल 2 मार्च और 13005 हावड़ा-अमृतसर मेल हावड़ा 29 फरवरी तक रद्द रहेगी। ट्रेन नंबर 13008 श्री गंगानगर- हावड़ा एक्सप्रेस 1 मार्च और 13007 हावड़ा-श्री गंगानगर एक्सप्रेस 28 फरवरी तक रद्द रहेगी। 15212 अमृतसर-दरभंगा एक्सप्रेस 28 फरवरी तक, 15211 दरभंगा-अमृतसर एक्सप्रेस 26 फरवरी और 13308 फिरोजपुर-धनबाद एक्सप्रेस 29 फरवरी तक रद्द रहेगी।


कोई फर्क नहीं, 5 साल नाटी डालेंगेः ठाकुर

अगले 5 साल भी हम ही नाटी डालेंगे, हमें फ़र्क नहीं पड़ता: सीएम


अमित शर्मा


शिमला। कांग्रेस पर निशाना साधते हुए जयराम ठाकुर ने कहा कि नाटी तो मैं डालूंगा ही आपने डालनी है तो हमारे साथ आइये। नाटी कोई मुद्दा नहीं है यह हमारा डांस है और मैं खेत पहाड़ियां हूं इसलिए नाटी तो मैं डालूंगा ही। चाहे किसी को आपत्ति हो या न हो। मुझे इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता। हम खुद को नाटी से अलग नहीं कर सकते। तंज कसते हुए जयराम ठाकुर ने कहा कि अभी हम सिर्फ 5 साल नाटी नहीं डालेंगे बल्कि इसके बाद 5 साल फिर नाटी डालेंगे। जिस तरह से विरोधी सब देख रहे हैं वैसे ही देखते रहेंगे। कांग्रेस के जो कुछ लोग इन्वेस्टर मीट को लेकर लोगों को बरगलाने वाले बयान बाजी मीडिया में कर रहे हैं। मैं उनसे पूछना चाहता हूं कि छत्तीसगढ़ और राजस्थान में जो कांग्रेस पार्टी ने इन्वेस्टर मीट की है उसके बारे में उनका क्या विचार है। अब तो पंजाब सरकार ने भी जिस तरह से हिमाचल में मीट हुई है उसी तरह की मीट करवाने का मन बना लिया है। इसके लिए वह हिमाचल में हुए मीट की आंकड़े जुटाएं जा रहे हैं। मैं उन्हें भी न्योता देना चाहता हूं अगर उनके पास प्रदेश के युवाओं को रोजगार देने के लिए कोई प्रपोजल है तो वो भी लेकर आए हम उनके साथ में पूरा सहयोग करेंगे। सरकारी तंत्र में हर किसी को नौकरी मिल जाना आज के दौर में संभव नहीं है, इसलिए हम हिमाचल में प्रयास कर रहे हैं कि ज्यादा से ज्यादा निजी क्षेत्रों में अच्छी नौकरियां हमारे युवाओं को मिले ताकि वह आराम से अपने जीवन बसर कर सकें। मंत्री पर सरकार मेहरबान! IPH मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर के जन्मदिन पर मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर धर्मपुर पहुंचे। यहां उन्होंने मंत्री को बधाई देने के साथ-साथ कई घोषणाएं भी की। मंत्री औऱ उनके बेटे रजत की पीठ थपथपाते हुए जयराम ठाकुर ने कहा कि महेंद्र सिंह ने अलग-लग दलों से चुनाव लड़कर गिनीज़ बुक में नाम दर्ज करवाया है। अपने भाषण में उन्होंने स्पष्ट किया कि महेंद्र सिंह ठाकुर प्रदेश में बेहतरीन काम कर रहे हैं औऱ उन्हें हमेशा अपने क्षेत्र की चिंता रहती है। महेंद्र सिंह ठाकुर जैसा नेता कहीं नहीं मिल सकता। उनके बेटे और युवा मोर्चा के महामंत्री रजत ठाकुर की तारीफ करते हुए जयराम ठाकुर ने कहा कि वे भी अपने क्षेत्र में बेहतरीन काम कर रहे हैं। कांग्रेस पार्टी के मसलों को जनता के बीच लेकर जाएं। जो बरगलाने का प्रयास किया जा रहा है उसे जनता के सामने साफ किया जाए। मुख्यमंत्री की ये तारीफ़ एक ओर से IPH मंत्री औऱ उनके बेटे का बचाव करने वाला था। महिला कर्मचारियों के साथ बदसलूकी पर जो वीडियो वायरल हुआ था उसमें मंत्री का बेटा रजत सरेआम धोंस दिखाता पकड़ा गया था। इसके साथ ही और भी कई मामलों में मंत्री के बेटे पर सवाल उठते रहे हैं। लेकिन सरकार ने पहले भी कोई कार्रवाई करने के बजाय उन्हें क्लीन चिट्ट दी थी औऱ अब एक बार फ़िर मुख्यमंत्री ने उनकी चढाई की है।


23 हजार फीट ऊपर 'विमान' का इंजन फैल

23 हजार फीट की ऊंचाई पर खराब हुआ इंडिगो विमान का इंजन, यात्रियों की सांसें अटकी


मुंबई। हैदराबाद जा रहा इंडिगो का एक विमान बुधवार रात इंजन में खराबी आने के बाद मुंबई वापस लौट आया। अचानक इंजन बंद होने से हजारों फीट की ऊंचाई पर विमान यात्रियों की सांसें अटक गईं। विमान ए320 नियो का प्रैट ऐंड विटनी इंजन (पीडब्ल्यू) इंजन उड़ान के बीच में ही बंद हो गया, जिसकी वजह से इंडिगो की विमान 6E-5384 के उड़ान भरने के एक घंटे के भीतर ही उसे आपात लैंडिंग करनी पड़ी। सुरक्षित लैंडिंग के बाद मुसाफिरों ने राहत की सांस ली।
बताया जा रहा है कि विमान जब 23 हजार फीट की ऊंचाई पर था तो इसके एक इंजन में तेज आवाज के साथ कॉमन हाइ वाइब्रेशन शुरू हो गया जिसके बाद इसे बंद करना पड़ा। इसके बाद एक इंजन ही सहायता से ही पायलट ने विमान को मुंबई में रात 1 बजकर 39 मिनट में सुरक्षित लैंड कराया। बता दें कि पिछले दो साल में इंडियो नियो के पीडब्ल्यू इंजन में खराबी का 22वां मामला सामने आया है।
मामले की जांच करने वाले एक शख्स ने बताया, ‘ग्राउंड निरीक्षण के दौरान इंजन नंबर 1 का लो प्रेशर टरबाइन नंबर 3 खराब पाया गया, यह 4006 घंटे तक उड़ान भर चुका था। विमान को दूसरे मॉडिफाइड इंजन के जरिए सुरक्षित उतारा गया, जिसने 1198 घंटे तक उड़ान भरी थी।’ इंडिगो प्रवक्ता ने बताया कि फ्लाइट नंबर 6E-5384 (A320) में 95 यात्री थे। घटना की पुष्टि करते हुए उन्होंने बताया कि तकनीकी खराबी आने के बाद विमान को निरीक्षण के लिए रखा गया है। यात्रियों को दूसरे विमान से भेजा गया
सूत्र ने बताया, ‘हैदराबाद-मुंबई मार्ग पर चलने वाली इंडिगो की उड़ान 6ई-5384 की गुरुवार सुबह मुंबई हवाई अड्डे पर इमर्जेसी लैंडिंग हुई। विमान के इंजन में से एक के बंद होने के बाद उसे वापस शहर लाया गया।’ उन्होंने बताया कि हैदराबाद के लिए उड़ान भरने के एक घंटे से भी कम समय के भीतर विमान हवाई अड्डे पर वापस लौट आया। सभी यात्रियों को दूसरे विमान से हैदराबाद के लिए रवाना किया गया। 


हादसे में एमबीबीएस के 3 छात्रों की मौत

जालंधर हादसे में एमबीबीएस के तीन छात्रों के मौत, रिजल्ट आने के बाद जश्न मनाने जा रहे थे


अमित शर्मा


जालंधर। दिल्ली नेशनल हाईवे पर परागपुर जीटी रोड पर देर रात 11:30 पर हुए दर्दनाक हादसे में जालंधर स्थित पिम्स मेडिकल कॉलेज में एमबीबीएस कर रहे 3 छात्रों की मौत हो गई। तीनों बुलेट मोटरसाइकिल पर सवार होकर नेशनल हाईवे पर हाई स्पीड पर जा रहे थे कि मोटरसाइकिल बेकाबू हो गई। पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम कर परिवार वालों को सौंप दिया है।
मृतकों की पहचान हरकुलदीप सिंह निवासी बटाला, तेजपाल सिंह निवासी भटिंडा और विनीत कुमार निवासी पटियाला के रूप में हुई है। सूत्रों के मुताबिक तीनों ने एमबीबीएस की दूसरे वर्ष की परीक्षा पास की थी और इस खुशी को सेलिब्रेट करने के लिए जालंधर से फगवाड़ा की तरफ निकले थे, लेकिन रास्ते में उनके साथ ये खौफनाक हादसा हो गया। तीनों हवेली रेस्तरां में खाना खाने जा रहे थे। घटना रात को 11:30 के आसपास सैफरन माल के निकट घटी और उस समय अंधेरा व हाईवे खाली होने के कारण किसी को पता नहीं चल सका कि घटना कैसे हुई? तीनों जख्मी हालत पर सड़के पर खून से लथपथ पड़े थे। एसीपी हरसिमरत छेतरा का कहना है कि ऐसी आशंका है कि तीनों हाईस्पीड पर राष्ट्रीय राजमार्ग पर ट्रिप्पल राइडिंग पर जा रहे थे कि छोटे-छोटे गड्डे से उनकी बाइक निकली और जंप होने के बाद बेकाबू होकर साइड में लोहे की रेलिंग से जा टकराई। जिसके बाद तीनों के सिर लोहे से टकराये और उनकी मौत हो गई। तीनों विद्यार्थियों के साथी भी आगे चल रहे थे, जो कुछ देर बाद अपने साथियों को वापस देखने आए तो पता चला कि उनकी बाइक दुर्घटनाग्रस्त हो गई है। तीनों छात्र की पहचान होने के बाद पुलिस ने उनके परिवार वालों को सूचना दी और रात को ही परिजन जालंधर पहुंचे। बुधवार को तीनों का पोस्टमार्टम सिविल अस्पताल से करवाकर शव उनके परिवार वालों को सौंप दिये गए हैं। एक साथ हुआ पोस्टमार्टम, परिवारों में मचा कोहराम
 हरकुलदीप सिंह के पिता प्रोफेसर बलविंदर सिंह बटाला पॉलिटेक्निक कॉलेज में पढ़ाते हैं। उनका रो-रोकर बुरा हाल था। वह सिविल अस्पताल के मोर्चरी के बाहर खड़े थे और अंदर बेटे का पोस्टमार्टम हो रहा था। बलविंदर सिंह कहते हैं कि हरकुलदीप सिंह शुरू से ही पढ़ाई में अव्वल था और हमेशा सकारात्मक सोच वाला था। रोते हुए कहते हैं कि मेरी तो बुढ़ापे की लाठी टूट गई। वहीं तेजपाल सिंह के पिता अजीत सिंह एलआईसी बठिंडा में हैं। तेजपाल सिंह निवासी शहीद जरनैल सिंह गुरु नानकपुर बठिंडा का रहने वाला है और जालंधर में एमबीबीएस का विद्यार्थी था। पिता अजीत सिंह व उनके रिश्तेदार अस्पताल में रो रहे थे कि उनका होनहार लाडला छोड़कर चला गया। विनीत कुमार जैन पुत्र कमल कुमार जैन घग्गा पांतड़ा पटियाला का रहने वाला था। उसके पिता कमल जैन शैलर चलाते हैं और उनका इलाके में खासा रसूख है। अस्पताल में माहौल गमगीन था।


बर्फबारी से रास्ते खोलने में आई दिक्कत

स्पीति उपमंडल में बाधित मार्ग खोले गए  बर्फबारी काफी ज्यादा होने की वजह से रास्ते खोलने में शुरू में दिक्कतें पेश आई  एसडीएम जीवन नेगी 


लाहुल। भारी बर्फबारी के बाद लाहौल स्पीति के काजा उपमंडल में बाधित मार्गो को खोलने का कार्य तीव्र गति से प्रशासन ने शुरू कर दिया है। सुमदो से पोह मैदान तक 1 फुट बर्फ पोह से सिचलिंग तक 25 फुट, काजा से मोरंग  तक 35 फुट , क्याटो से लोसर तक 4 फुट, काजा से किब्बर चिचिम  तक 3 फुट बर्फबारी हुई है ।जबकि लोक निर्माण विभाग केअधिशाषी अभियंता  के अनुसार अभी तक काजा से की ,किब्बर- चिचिम तक सड़क खोल दी गई है। इसके साथ ही काजा से  हिक्कम तक, शिचलिंग से डंखर तक और शिचलिग से माने तक भी सड़क बहाल कर दी गई है । हिक्कम से कोमिक तक मार्ग शीघ्र खोल दिया जाएगा । इसके साथ ही अतरगु से  सगनम मार्ग तथा लिदाग डेमुल मार्ग जल्द खुल जाएगा।इस मार्ग पर दो डोजर तीन जेसीबी काम कर रही है। बी आर ओ ने अबतक एनएच5 सुमदो  से झुंडी नाला तथा लोसर  से फलदार मैदान खोल दिया है। एसडीएम जीवन सिंह नेगी ने कहा कि बर्फबारी काफी हो गई थी। इस वजह से  रास्ते खोलने में शुरू में दिक्कतें पेश आई लेकिन अब अधिकांश मार्ग खोल दिए गए हैं ।कृषि एवं जनजातीय प्रौद्योगिकी मंत्री डॉ राम लाल मारकंडा ने कहा स्पीति क्षेत्र में भारी बर्फबारी के कारण कई सड़क मार्ग बंद हो गए थे । लेकिन जिला प्रशासन ने तुरंत इन्हे खोल दिया है।  इसके साथ ही कई मार्गों पर अभी भी बर्फ पड़ी है, जिन्हें खोलने का कार्य तीव्र गति से प्रशासन कर रहा है। बीआरओ और लोक निर्माण विभाग संयुक्त रूप से बाधित मार्गो को खोलने के लिए कार्य कर रहे हैं। स्पीति मंडल में कुछ ट्रांसफार्मर भारी बर्फबारी के कारण काम नहीं कर पा रहे थे, जिनमें से कुछ को ठीक करके सुचारू कर दिया गया है पिन वैली मुद  गांव की विद्युत आपूर्ति अब बहाल हो चुकी है । इसके साथ ही राहत कार्यों का अपडेट पल-पल प्रशासन से लिया जा रहा है।


नहर में गिरी कार, पति-पत्नी की मौत

मातम में बदली शादी की खुशियां, नहर में गिरी कार, पति-पत्नी की मौत, साला लापता


अमित शर्मा


फरीदकोट। तलवंडी भाई के गांव कैलाश और कबरवच्छा के पास एक कार अनियंत्रित होकर राजस्थान फीडर नहर में गिर गई। हादसे में कार में सवार दंपती की मौत हो गई। एक व्यक्ति नहर में बह गया। गोताखोर तीसरे व्यक्ति की तलाश में जुटे हैं। सूचना पर थाना घल्लखुर्द पुलिस घटनास्थल पर पहुंची। दोनों शवों को कब्जे में लेकर कार्रवाई शुरू कर दी गई है। यह घटना बुधवार देर शाम घटी है। पुलिस के मुताबिक गांव मोरांवाली (फरीदकोट) निवासी मनदीप सिंह किसी शादी समारोह में गांव शकूर शामिल होने आया था। बुधवार देर शाम गांव शकूर से लौटते समय अपनी पत्नी किरणदीप कौर और साले जतिंदर सिंह निवासी शकूर को कार में बैठाकर फरीदकोट लौट रहा था। जैसे ही गांव कबरवच्छा और गांव कैलाश के बीच राजस्थान फीडर नहर के नजदीक पहुंचा कि कार अचानक अनियंत्रित होकर नहर में गिर गई। कार को नहर में गिरते हुए गांव कैलाश के खेतों में काम कर रहे किसानों ने देख लिया। किसानों ने शोर मचाना शुरू कर दिया। गांव से लोग एकत्र होकर घटनास्थल पहुंच गए और पुलिस को सूचित किया। क्रेन मंगवाकर नहर के अंदर से कार निकालने का प्रयास किया। पानी का बहाव तेज होने के कारण देर रात कार को नहर से बाहर निकाला गया। 
तलवंडी भाई के गांव कैलाश और कबरवच्छा के पास एक कार अनियंत्रित होकर राजस्थान फीडर नहर में गिर गई। हादसे में कार में सवार दंपती की मौत हो गई। एक व्यक्ति नहर में बह गया। गोताखोर तीसरे व्यक्ति की तलाश में जुटे हैं। सूचना पर थाना घल्लखुर्द पुलिस घटनास्थल पर पहुंची। दोनों शवों को कब्जे में लेकर कार्रवाई शुरू कर दी गई है। यह घटना बुधवार देर शाम घटी है। पुलिस के मुताबिक गांव मोरांवाली (फरीदकोट) निवासी मनदीप सिंह किसी शादी समारोह में गांव शकूर शामिल होने आया था। बुधवार देर शाम गांव शकूर से लौटते समय अपनी पत्नी किरणदीप कौर और साले जतिंदर सिंह निवासी शकूर को कार में बैठाकर फरीदकोट लौट रहा था। जैसे ही गांव कबरवच्छा और गांव कैलाश के बीच राजस्थान फीडर नहर के नजदीक पहुंचा कि कार अचानक अनियंत्रित होकर नहर में गिर गई। कार को नहर में गिरते हुए गांव कैलाश के खेतों में काम कर रहे किसानों ने देख लिया। किसानों ने शोर मचाना शुरू कर दिया। गांव से लोग एकत्र होकर घटनास्थल पहुंच गए और पुलिस को सूचित किया। क्रेन मंगवाकर नहर के अंदर से कार निकालने का प्रयास किया। पानी का बहाव तेज होने के कारण देर रात कार को नहर से बाहर निकाला गया।


मोहाली में समय से पहले फैल गई, सनसनी

मोहाली पिता के रिवाल्वर से बेटे ने खुद को उड़ाया, मां की मौत के बाद डिप्रेशन में था


मोहाली। फेज-10 में गुरुवार को उस समय सनसनी फैल गई, जब एक लड़के ने घर पर ही अपने पिता की रिवाल्वर से अपने सिर पर गोली चलाकर जान दे दी। मृतक की पहचान 17 साल के हरदात सिंह के रूप में हुई है। वह सेक्टर-27 स्थित सेंट जोंस स्कूल में 12वीं कक्षा की पढ़ाई कर रहा था। सूचना पर पहुंची पुलिस ने मृतक के शव को सिविल अस्पताल की मार्चरी में रखवा दिया है। वहीं, रिवाल्वर को कब्जे में ले लिया है। शुक्रवार को शव का पोस्टमार्टम करवाकर उसके परिजनों को सौंप दिया जाएगा। थाना फेज-11 की पुलिस ने इस मामले में फिलहाल 174 के तहत कार्रवाई की है। यह घटना फेज-10 के मकान नंबर-517 में शाम 4 बजे की है। पुलिस के मुताबिक जब यह घटना हुई तो उस समय घर पर उसकी सौतेली मां थी। गोली की आवाज सुन उसकी मां भागी और जब उसने देखा तो हरदात का खून से लथपथ शव पड़ा हुआ था और उसके हाथ में रिवाल्वर था। मां की सूचना पर तुरंत पुलिस ने मौके पर पहुंचकर वारदात में इस्तेमाल की गई रिवाल्वर कब्जे में ले ली जो कि उसके पिता की लाइसेंसी है। पुलिस ने पूरे घटनास्थल से सैंपल लेकर आस-पास रहने वाले लोगों से भी पूछताछ की है, ताकि मामले की सच्चाई का पता चल सके। वॉशरूम में जाकर चलाई गोली
हरदात के परिवार के सदस्यों ने पुलिस को बताया कि वह अपने स्कूल से घर लौटा था और 4 बजे वॉशरूम में गया। इसके बाद दरवाजा अंदर से बंद कर लिया। वह रिवाल्वर को अंदर छुपाकर ले गया था। फिर खुद के सिर में गोली मार ली और हरदात की मौके पर ही मौत हो गई। लगा जैसे गीजर में ब्लास्ट हुआ
हरदात की मां ने पुलिस को बताया कि जब उसने गोली चलाकर जान दी थी तो बड़ी जोर से धमाका हुआ। उन्हें ऐसे लगा मानो वॉशरूम में  गीजर फट गया हो। लेकिन हरदात ने अंदर से दरवाजा नहीं खोला। उन्होंने काफी शोर मचाया और फिर अपने पति को फोन किया और पुलिस कंट्रोल रूम को भी सूचित किया। मां की मौत के बाद से डिप्रेशन में था
थाना फेज-11 के एसएचओ कुलवीर सिंह ने बताया कि मृतक का परिवार मूलरूप से बठिंडा का रहने वाला है। उसकी मां की बचपन में ही मौत हो गई थी। उसी समय से वह परेशान रहता था और घर में ज्यादा किसी से बात नहीं करता था। उसके पिता ने दूसरी शादी कर ली थी और उसके पिता दूसरी पत्नी को और उसे मोहाली में ले आए थे। अच्छी शिक्षा देने बठिंडा से आए थे मोहाली मृतक के पिता ने पुलिस को बताया कि बठिंडा से मोहाली में बच्चे को अच्छी शिक्षा देने के लिए लाए थे। अपना बिजनेस यहीं पर सेट कर लिया। चडीगढ़ के नामी कॉन्वेंट स्कूल में दाखिला दिलवाया, ताकि उसका मन पढ़ाई में लग जाए और अपनी मां की मौत का सदमा उसके दिमाग से दूर हो जाए। लेकिन ऐसा नहीं हुआ और बेटे की मौत ने उनका सब कुछ बर्बाद कर दिया है।


एयरपोर्ट पर वायरस को लेकर 'अलर्ट जारी'

मोहाली और अमृतसर एयरपोर्ट पर वायरस को लेकर अलर्ट जारी


अमित शर्मा


चंडीगढ़। पंजाब के स्वास्थ्य विभाग द्वारा मोहाली और अमृतसर एयरपोर्ट पर कोरोना वायरस को लेकर अलर्ट जारी किया गया है, और साथ ही स्वास्थ्य अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं, कि दोनों हवाई अड्डों पर यात्रियों की स्पेशल स्क्रीनिंग शुरू की जाए। जिला सरकार ने केंद्र सरकार द्वारा एडवाइजरी जारी किए जाने के बाद यह कार्रवाई शुरू की है। स्वास्थ्य अधिकारियों को इन हवाई अड्डों पर यात्रियों की स्पैशल स्क्रीनिंग करने के निर्देश दिए गए हैं। और इसकी प्रतिदिन की रिपोर्ट ‘स्टेट सरवीलैंस यूनिट’ को भेजने के लिए कहा गया है। यदि मोहाली इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर संदिग्ध मरीजों को अस्पतालों में भर्ती करने की जरूरत पड़ती है, तो उन्हें पटियाला के सरकारी मैडीकल कालेज और अस्पताल में भर्ती किया जाएगा, जबकि अमृतसर के राजासांसी अंतर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट पर संदिग्ध मरीजों का इलाज जी.एम.सी.एच. अमृतसर में किया जाएगा।


'याचिका' को तत्कालीन राष्ट्रपति ने करा खारिज

नई दिल्ली। अमरोहा के शबनम,सलीम की फांसी की सजा का मामलाअब के बार फिर से गरमा गया है, जब देश में निर्भया के दोषियों को सजा की बात हो रही हो तब। सजा के खिलाफ पुनर्विचार याचिका पर सुनवाई के लिए भेजी दया याचिका को तत्कालीन राष्ट्रपति ने खारिज कर दिया था। प्रणब मुखर्जी ने शबनम की याचिका खारिज कर दी थी।सलीम की दया याचिका भी खारिज कर दी थी। अमरोहा में 2008 में प्रेमी के साथ मिलकर शबनम ने 7 हत्याएं की थी। इन हत्यारों ने पुरे परिवार में किसी नहीं को नहीं बख्सा था। अगर शबनम को फांसी हुई तो देश में पहली महिला को फांसी लगेगी। क्या है पूरी कहानी शबनम यानी कि वह पार्क चीज जिसे देख हर किसी को मोहब्बत हो जाती है जी हां शबनम को हिंदी में ओस या तुषार कहते हैं। उर्दू में उसको शबनम कहते हैं। लेकिन ऐसे खूबसूरत नाम को आज अमरोहा के बावन खेड़ी गांव में कोई याद करना नहीं चाहता है जब शबनम का नाम जेहन में आता है एक-एक कर साथ लाते हैं सामने खड़ी नजर आती हैं। अमरोहा के बावन खेड़ी गांव में अब किसी बेटी का नाम शबनम नहीं रखा जाता वह यूं ही नहीं इसका एक बहुत बड़ा कारण है इस कारण के पीछे 10 साल पहले प्रेम में अंधी हो चुकी इसी गांव की शबनम ने अपने प्रेमी सलीम के साथ मिलकर परिवार के 7 लोगों का गला रेत दिया इन सब की मौके पर ही मौत हो गई थी। इस घटना की चर्चा उत्तर प्रदेश ही नहीं बल्कि पूरे देश में हुई थी एक दशक पुराने हत्याकांड को याद कर आज भी गांव के लोग सिहर उठते हैं इसलिए अब कोई भी अपनी बेटी का नाम इस गांव में शबनम नहीं रखता है जिन्होंने रखा भी था। उन्होंने अब अपनी बेटी का नाम बदल लिया है। जिला मुख्यालय से महज 20 किलोमीटर दूर हसनपुर थाना क्षेत्र के बावन खेड़ी गांव में 14 15 अप्रैल की रात उस समय हड़कंप मच गया जब एक ही परिवार के 7 लोगों की गला रेत कर हत्या कर दी गई इस घर में सिर्फ एक 25 वर्षीय लड़की बची थी जिसका नाम था शबनम। घटना का अंदाजा इसी से लगा लीजिए कि तत्कालीन मुख्यमंत्री मायावती अगले ही दिन गांव पहुंच गई थी और जल्द ही अधिकारियों को इस घटना के खुलासे करने के निर्देश जारी किए थे।शबनम ने सलीम के साथ मिलकर अपने पूरे परिवार का सफाया कर दिया उस समय शबनम 7 सप्ताह की गर्भवती भी थी। शुरूआत में उसने यह दलील देकर खुद को बचाने की कोशिश की कि लुटेरों ने उसके परिवार पर हमला कर दिया था और बाथरूम में होने की वजह से वह बच निकलने में कामयाब रही लेकिन परिवार में सुख वही एकमात्र जिंदा बची थी। इसलिए पुलिस का शक उस पर गहरा गया और उसकी कॉल डिटेल खंगाल ई गई तो सारा सच सामने आ गया। शबनम और सलीम को 2 साल बाद अमरोहा की सत्र अदालत ने मौत की सजा सुनाई निचली अदालत के फैसले के बाद इस मामले को इलाहाबाद हाईकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट ने भी मोहर लगा दिए सब नम पिछले करीब 10 साल से 8 माह के बच्चे सहित सात लोगों की हत्या के मामले में मुरादाबाद जेल में बंद है। जब उसका प्रेमी सलीम आगरा सेंट्रल जेल में बंद है। शबनम और सलीम का बेटा अब करीब 10 साल का हो चुका है जिसका लालन-पालन बुलंदशहर के पत्रकार उस्मान सैफी और उनकी पत्नी वंदना करती हैं। उस्मान शबनम के कॉलेज में ही पढ़ते थे और उनसे 2 साल जूनियर थे उन्हें जब इस घटना के बारे में पता चला तो उन्होंने बच्चे की जिम्मेदारी लेने का फैसला किया। उस्मान का कहना है कि वह और शबनम अक्सर एक साथ बस में जाते थे एक बार फीस भरने के लिए जब उनके पास पैसे नहीं थे तो शबनम ने उनकी फीस भरने में मदद की थी। शबनम की उम्र अब 35 साल हो गई है और घटना को 10 साल से अधिक समय गुजर चुका है। लेकिन लोग आज भी खौफनाक वारदात को भूले नहीं है शबनम के घर के सामने रहने वाले इंतजार अली कहते हैं उस घटना के बाद बावन खेड़ी के किसी भी घर में शबनम नाम की लड़की ने जन्म नहीं दिया आज भी अपनी बेटियों को शबनम नाम देने से डरते हैं कि कहीं घटना की पुनरावृत्ति ना हो जाए फिलहाल शबनम और सलीम को फांसी दी जाएगी या नहीं इस पर इसी महीने सुप्रीम कोर्ट से फैसला आने वाला है। दोनों ने राष्ट्रपति के पास दया याचिका दाखिल की थी लेकिन इस जघन्य अपराध को देखते हुए राष्ट्रपति ने उनकी दया याचिका खारिज कर दी थी। अब एक बार फिर उन्होंने सुप्रीम कोर्ट में पुनर्विचार याचिका दायर की है। इसी महीने सुनवाई होनी है इस घटना पर फांसी की सजा बरकरार रहती है। तो शबनम देश की पहली महिला होगी जिसे फांसी की दी जाएगी अब सबकी इस मामले पर निगाह टिकी हुई है।आखिर 7 लोगों को जान से मारने वाली शबनम को सरकार फांसी कब देगी और इस गांव को शबनम नाम से कब निजात मिलेगी।


न्यूजीलैंड को छह विकेट से करारी मात

ऑकलैंड। आज से शुरू हुए भारत और न्यूजीलैंड के बीच पहला मुकाबला ऑकलैंड में खेला गया। इस पहले इंटरनेशनल टी 20 मुकाबले में भारत ने शानदार प्रदर्शन करते हुए न्यूजीलैंड को छह विकेट से करारी मात दी है। इस पूरे पारी के हीरो रहे श्रेयस अय्यर ने महज 29 गेंद में नाबाद 58 रन बनाये. इसे पहले 203 रनो का पीछा करने उतरी भारतीय तरफ से मजबूत शुरुआत करते हुए केएल राहुल ने 27 गेंदों मेतूफ़ानी 59 रन और कप्तान कोहली ने 32 गेंदों में 45 रन बनाये।
आज का दिन बॉलर्स के लिए कुछ ख़ास नहीं रहा। टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने उतरी भारतीय टीम के गेंदबाजों की जमकर धुलाई हुई। न्यूजीलैंड की तरफ से ओपनर कॉलिन मुनरो 42 गेंदों में 59 रन, रॉस टेलर ने 27 गेंदों में 54 और कीवी कप्तान केन विलियम्सन ने 26 बॉल का सामना करते हुए 51 रन बनाये थे। इस तरह उन्होंने भारत के सामने 204 रनो का लक्ष्य रखा था। लेकिन भारतीय तीन ने इस लक्ष्य को चार विकेट खोकर 19वें ओवर की आखिरी गेंद में ही हासिल कर लिया।


गोद में बैठाकर दूध पिलाती है डीएम

भोपाल। राजगढ़ थप्पड़ कांड भाजपा के लिए बड़ा  मुद्दा बन चुका है। लगातार इस मामले को लेकर विरोध रपदर्शन जारी है। भाजपा राजगढ़ में विरोध प्रदर्शन में हिस्सा लेने पहुंचे पूर्व राज्य मंत्री बद्री लाल यादव ने सभी हदे पार करते हुए महिला कलेक्टर पर अभद्र टिप्पणी कर दी। बद्री लाल यादव ने कहा कि कलेक्टर कांग्रेस कार्यकर्ताओं को गोद में बिठाकर दूध पिलाती है और हमें तमाचा मारती है।  यह उनका दोहरा रवैया है।


बतादें राजगढ़ में CAA के समर्थन में आयोजित भाजपा की रैली में एक भाजपा कार्यकर्त्ता को थप्पड़ मारने से चर्चा में आई राजगढ़ कलेक्टर निधि निवेदिता को भाजपा नेता ने ये अभद्र बातें कही है। आईएएस एसोसिएशन ने इस महिला अधिकारी के खिलाफ की गई टिप्पणी की भर्त्सना की है। आईएएस एसोसिएशन के अध्यक्ष ICP केसरी ने ट्वीट कर उनके बयानों की निंदा की।


13 वर्षीय मां,10 वर्षीय प्रेमी बनेगा पिता

रूस। प्रेग्नेंट होने के बाद एक 13 साल की लड़की की कहना है कि गर्भ में पल रहे बच्चे का पिता उसका 10 साल का प्रेमी है। लड़की ने बताया है कि वह करीब एक साल पहले लड़के से मिली थी और पहली नजर में प्यार हो गया। डरिया और इवान नाम के कपल रूस के Zheleznogorsk शहर के रहने वाले हैं। एक टीवी शो में दोनों बच्चों ने हिस्सा लिया और अपने रिलेशनशिप से जुड़े तमाम सवालों के जवाब दिए। The Rossiya 1 चैनल के शो ‘Father at 10 ?’ में इनकी कहानी दिखाई गई है।


हालांकि, इवान की जांच करने वाले डॉक्टर इवगिनी ग्रेकोव का कहना है कि वह स्पर्म प्रॉड्यूस करने के लिए काफी कम मैच्योर है, वह बच्चे का पिता नहीं हो सकता। लेकिन लड़की इस बात से इनकार करती है कि उसका कोई और पार्टनर था। एक साइक्लॉजिस्ट ने लड़की की बात पर भरोसा जताया है।


द सन के मुताबिक, पैरेंट्स की सहमति से दोनों बच्चे टीवी शो में शामिल हुए। पैरेंट्स ने बच्चों की मेडिकल जांच की भी अनुमति दी थी। इस कपल को लेकर स्थानीय समाज में गंभीर बहस छिड़ गई है। 8 हफ्ते की प्रेग्नेंट डरिया और उनकी मां बच्चे को रखना चाहती हैं। डरिया की 35 साल की मां एलेना ने कहा कि उनकी बेटी ने खुद रिश्ता कबूल किया था।


वहीं, लड़का इवान की मां को भी लगता है कि बेटा सच बोल रहा है कि वह बच्चे का पिता है। उन्होंने कहा कि मैं समझती हूं कि उसे खुद इस बात का अहसास नहीं होगा कि क्या हुआ है। वह महज बच्चा है, भले ही खुद को बड़ा समझता है। डरिया ने कहा कि वह और उसका बॉयफ्रेंड एक दूसरे का पूरा ख्याल रखते हैं। दोनों ने सोशल मीडिया पर खुद को मैरिड भी लिख रखा है। हालांकि, इस कपल को स्थानीय समाज में लोगों के गुस्से का सामना करना पड़ रहा है।


सीएए के विरोध में 500 ने भाजपा छोड़ी

नई दिल्ली। मध्य प्रदेश भारतीय जनता पार्टी (BJP) के अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के नेता, नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Act) और एनआरसी (NRC) को लेकर नाराज हैं। यही वजह है कि पिछले कुछ दिनों में पार्टी के अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के दो वरिष्ठ पदाधिकारियों ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। एक तरफ बीजेपी जहां सीएए पर फैले 'भ्रम' को दूर करने के लिए देशव्यापी अभियान चला रही है, वहीं पार्टी के भीतर ही नेताओं में एक मत नहीं दिख रहा है। एमपी (Madhya Pradesh) में तो आलम यह है कि पिछले कुछ हफ्तों में 100 से ज्यादा पदाधिकारियों और 500 से अधिक कार्यकर्ताओं ने भाजपा से इस्तीफा दे दिया है। इन सभी इस्तीफों की वजह CAA और NRC ही बताई जा रही है।


 रिपोर्ट के मुताबिक, सीएए के मुद्दे पर खंडवा और खरगोन जिले में सबसे अधिक इस्तीफे दिए गए हैं। इस कारण पार्टी ने अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के प्रदेश प्रवक्ता जावेद बेग को बर्खास्त कर दिया है। बेग ने कहा कि पिछले दिनों पार्टी ने CAA और NRC पर बैठक की। इसमें न तो अल्पसंख्यक मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष रशीद अंसारी आए और न ही राज्य प्रभारी सनव्वर पटेल। यहां तक कि जिलाध्यक्ष मो. एजाज भी बैठक में शामिल नहीं हुए। इसी बीच सनव्वर पटेल ने जावेद बेग को पार्टी की गाइडलाइन न मानने को लेकर बर्खास्त कर दिया। बेग ने कहा, 'हम भाजपा के अनुशासित कार्यकर्ता रहे हैं। तीन तलाक का मसला हो या बाबरी मस्जिद-राम मंदिर का मामला, हम लोगों ने हमेशा पार्टी के निर्देशों का पालन किया।' लेकिन बेग ने जब जामिया मिल्लिया इस्लामिया और JNU की घटना को लेकर सोशल मीडिया पर पोस्ट शेयर किया तो उन्हें पार्टी से निकाल दिया गया।


खुलकर विरोध कर रहे हैं नेता
भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के उपाध्यक्ष आदिल खान ने नागरिकता कानून को सीधे तौर पर गलत करार दिया है। उन्होंने कहा, 'इस कानून से शरणार्थियों को पहले ही नागरिकता दी जाती रही है, फिर इसमें जानबूझकर धर्म को क्यों जोड़ा जा रहा है।' खान ने सवाल उठाया, 'मॉब लिंचिंग जैसी घटनाएं हमारे देश में भी हुई हैं। ऐसे में जब पड़ोसी देशों के अल्पसंख्यकों पर जुल्म की बात उठती हैं, तो हम कैसे कह सकते हैं कि अपने देश में अल्पसंख्यक समुदाय के साथ ऐसा नहीं हो रहा है। खान ने कहा कि CAA और NRC सिर्फ मुस्लिमों के खिलाफ ही नहीं है, बल्कि यह गरीब लोगों के खिलाफ लाया गया है। आदिल खान ने बताया कि इस मामले को लेकर अकेले भोपाल (Bhopal) में ही 50 से अधिक ऐसे पार्टी पदाधिकारियों ने भाजपा से इस्तीफा दिया है, जो पिछले 15-20 साल से पार्टी की सेवा कर रहे थे।


खरगोन से 500 ने छोड़ी पार्टी
प्रदेश के खरगोन जिले में इस मुद्दे को लेकर सबसे ज्यादा पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं ने भाजपा से इस्तीफा दिया है। यहां के नेता तस्लीम खान ने कहा, 'हम CAA और NRC को लेकर अपने समुदाय के लोगों के साथ नजरें नहीं मिला पा रहे हैं। हम भाजपा के साथ देशसेवा की भावना से जुड़े थे, लेकिन इस तरह का कानून लाए जाने के बाद हमारे पास कोई जवाब नहीं है।' तस्लीम खान ने बताया कि खरगोन जिले 173 पदाधिकारियों और 500 कार्यकर्ताओं ने बीती 9 जनवरी को अल्पसंख्यक मोर्चा से इस्तीफा दे दिया। खान ने आरोप लगाया कि हमारे समुदाय को लेकर बीजेपी के वरिष्ठ नेताओं की आपत्तिजनक और कई बार निजी टिप्पणियों को हम लोगों ने नजरअंदाज किया, लेकिन CAA और NRC जैसे कानून हमारी सहनशीलता की सीमा से परे हैं। खान ने बताया कि हरदा और देवास जिले में भी पार्टी के कई नेता व कार्यकर्ता इस्तीफा देने वाले हैं।


हादसे के शिकार, 2 परिवारों की पहचान

अरविंद दुबे


काठमांडू। नेपाल में हादसे का शिकार हुए केरल के दो परिवारों की पहचान उजागर हो गई है। होटल के कमरे में केरोसीन हीटर के कारण दम घुटने से जिन 8 लोगों की मौत हुई थी, वो बचपन के दो दोस्तों के परिवार थे। मृतकों में दोनों की पत्नियां और चार मासूम बच्चे शामिल हैं। हादसे की खबर तो मंगलवार को आ गई थी, लेकिन दोनों परिवारों की तस्वीर जिसने देखी, खुद को भावुक होने से रोक नहीं सका। ये परिवार थे, प्रवीण के. नायर और रणजीत कुमार के। दोनों ऑटोमोबाइल इंजीनियर थे और बचपन से दोस्त हैं। दोनों परिवार साथ में नेपाल घुमने गए थे और काठमांडु से 50 किमी दूर एक रिसॉर्ट में ठहरे थे। यहीं एक कमरे में आठों के शव मिले थे। परिवार का एक मासूम जिंदा बच गया तो दूसरे कमरे में सोया था।
मृतकों के नाम: प्रवीण के. नायर (39), पत्नी सरन्या (34), तीन बच्चे श्रीभद्र (9), अर्चा (8) और अभिनव (7), रणजीत कुमार (39), पत्नी इंदू लक्ष्मी (34) और बेटा वैभव (2)।
प्रवीण तिरुवनंतपुरम से तो रणजीत कोझिकोड के रहने वाले थे। उनके साथ रणजीत का बड़ा बेटा माधव (7) भी था, लेकिन वो एवरेस्ट पेनोरामा रिसॉर्ट के दूसरे कमरे में सोया था। प्रवीण दुबई में काम कर रहे थे, जबकि उनकी पत्नी सरन्या एम. फार्मा कर रही थीं। अभी परिवार कोच्चि में रह रहा था।
जैसे ही खबर आई, काट दी केबल की लाइन
तिरुवनंतपुरम में प्रवीण के माता-पिता रहते हैं। उनके रिश्तेदारों ने बताया कि जैसे ही यह खबर वहां पहुंची, उन्होंने टीवी की केबल लाइन काट दी, क्योंकि उनके पिता को कुछ दिन पहले ही हार्ट अटैक आया है। प्रवीण के परिवार के लिए एक और झटका यह रहा कि शुरू में खबर आई थी कि उनका एक बेटा जिंदा बच गया है, लेकिन बाद में पता चला कि वह रणजीत का बेटा है।
प्रवीण ने वादा किया था, 29 को लौट आऊंगा
प्रवीण के रिश्तेदार ए. दिनेश ने बताया कि वह 29 जनवरी को केरल लौटने वाला था और उसने वादा किया था कि वह उस दिन स्थानीय मंदिर में होने वाले उत्सव में हिस्सा लेगा। वहीं रणजीत ने कोझिकोड में हाल ही में अपनी आईटी कंपनी खेली थी।


अधिग्रहण के खिलाफ, किसानो की समाधि

जयपुर। राजस्थान के दौसा जिले में सरकारी नीति से नाराज करीब एक सौ किसान भू समाधि लगाकर बैठे हुए हैं। इन किसानों के साथ बीजेपी के राज्यसभा सांसद करोड़ी लाल मीणा ने भी अपने-अपने खेतों में करीब तीन-तीन फीट गहरे खोदे हुए गड्ढों में बैठकर समाधि लगाई हुई है। बताया गया कि मुंबई एक्सप्रेस वे के लिए दी जाने वाली जमीन का उचित मुआवजा नहीं मिलने से नाराज किसानों ने इस तरह से आंदोलन करने का निर्णय लिया था।


मिली जानकारी के अनुसार जिले के किसान जमीन अधिग्रहण (Land acquisition) के बदले 4 गुना मुआवजे की मांग को लेकर पिछले 7 माह से आंदोलन कर रहे हैं। इन किसानों ने जिला प्रशासन से लेकर प्रदेश के मुख्य सचिव तक ही नहीं बल्कि सीएम तक से गुहार लगाई लेकिन उनकी समस्या का समाधान नहीं हुआ। किसानों ने बताया है कि दौसा कलेक्टर से लेकर प्रदेश के मुख्य सचिव और सीएम को ज्ञापन भी सौंपा चुके हैं। तमाम प्रयासों से हारने के बाद सरकारी नीति से नाराज करीब एक सौ किसानों ने दौसा के लाड़ली का बास गांव में कमर तक की गहराई के गड्ढे खोदकर उसमें रहने का एलान कर दिया है। बता दें कि यह सत्याग्रह प्रदेश किसान संघर्ष समिति के संयोजक हिम्मत सिंह गुर्जर और बीजेपी सांसद किरोड़ी लाल मीणा के नेतृत्व में किया जा रहा है। इस मसले पर जानकारी देते हुए हिम्मत सिंह गुर्जर ने बताया कि किसान संघर्ष समिति के आह्वान पर शुरू हुआ ये जमीन सत्याग्रह उस वक्त तक जारी रखा जाएगा जब तक सरकार किसानों की मांग पर कोई सकारात्मक फैसला नहीं कर लेती।


चीनः हेल्थ-कमीशन ने लगाया आपातकाल

चीन में Coronavirus ने अब तक ली 25 की जान, 800 आए चपेट में


बीजिंग। चीन में घातक कोरोना वायरस ( Corona virus)से अब तक 25 लोगों की जान जा चुकी है और करीब 800 से अधिक लोग इसकी चपेट में है। कोरोना वायरस के कहर को देखते हुए विश्व स्वास्थ्य संगठन ( World Health Organization) ने चीन में इमरजेंसी की घोषणा कर दी है पर अभी अंतरराष्ट्रीय सार्वजनिक स्वास्थ्य आपात स्थिति की घोषणा नहीं की गई है।


चीन के हेल्थ कमीशन ( Health Commission of China) ने कहा है कि इस वायरस के अब तक 830 मामले सामने आए हैं , जबकि पिछले कल तक 25 लोगों की मौत हो चुकी है। अधिकतर मामले तीन के वुहान शहर में पाए गए हैं। वायरस के प्रसार को देखते हुए कई शहरों में आवाजाही पर पूरी तरह से रोक लगा दी गई है। यह वायरस अन्य कई देशों में भी फैल गया है। जिसके मद्देनजर कई देशों में चीन की यात्रा के लिए अपने देश के नागरिकों को अलर्ट जारी किया है। यह वायरसों का एक बड़ा समूह है जो जानवरों में आम है। अमेरिका के सेंटर फॉर डिसीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन के अनुसार कोरोना वायरस जानवरों से मनुष्य तक पहुंच जाता है। अब एक नया चीन का कोरोना वायरस सार्स वायरस की तरह है, जिसने सेंकड़ों को संक्रमित कर दिया है। कोरोना वायरस जानवरों के साथ मानव संपर्क से फैल सकता है।


बालाजी मेहंदीपुर के दर्शन के खास नियम

मनीष शर्मा


मेहंदीपुर। जगह-जगह बजरंग बली के विशाल मंदिर है इनमे से एक राजस्थान में मेहंदीपुर बालाजी एक प्रसिद्ध तीर्थस्थल है। यह तीर्थ हनुमानजी के भक्तों के लिए एक प्रसिद्ध तीर्थ स्थल है।यह तीर्थस्थल राजस्थान के दौसा जिले में स्थित है। यहां भगवान के दर्शन एवं अपनी मनोकामनाओं के लिए दूर-दूर से श्रद्धालु आते हैं।


यहाँ तीन देवों की प्रधानता है- श्री बालाजी महाराज, श्री प्रेतराज सरकार और श्री कोतवाल (भैरव)। इनके प्रकट होने से लेकर अब तक बारह महंत इस स्थान पर सेवा-पूजा कर चुके हैं और अब तक इस स्थान के दो महंत इस समय भी विद्यमान हैं। सर्व गणेशपुरी महाराज (भूतपूर्व सेवक) किशोरपुरी जी महाराज (वर्तमान सेवक)। यहाँ के उत्थान का युग श्री गणेशपुरी महाराज के समय से प्रारम्भ हुआ और अब दिन-प्रतिदिन बढ़ता ही जा रहा है। प्रधान मंदिर का निर्माण इन्हीं के समय में हुआ। इस प्रकार इनका सेवाकाल श्री बालाजी घाटा मेंहदीपुर के इतिहास का स्वर्ण युग कहलाएगा।


'मीसा कानून 2008' को किया खत्म

सुनील पटेल


रायपुर। प्रदेश के कांग्रेस प्रवक्ता विकास तिवारी ने कहा मेरे द्वारा मीसा कानून 2008 की मांग पर खत्म कर दिया गया है। इसके लिए मैं मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का आभार व्यक्त किया। प्रवक्ता ने ये भी कहां की उन्होंने लगातार मीसा बंदियों पर ख़र्चा की जाने वाली लाखों-करोड़ो रुपयों की राशि वितरण पर रोक लगाने एवं मीसा कानून 2008 को तत्काल खत्म करने के लिए प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से मांग की थी। कांग्रेस प्रवक्ता विकास तिवारी ने बताया कि तत्कालीन भाजपा की रमन सरकार द्वारा भाजपा और आरएसएस के नेताओं को खुश करने के लिए और अपना नंबर बढ़ाने के लिए वर्ष 2008 में कानून बनाकर मीसा बंदियों को राशि प्रदान करने का आदेश पारित किया था। जिसे सम्मान निधि कहा जाता था प्रदेश के उन भाजपा और आरएसएस के नेताओं का चयन करके जिनका न तो देश की आजादी की लड़ाई से कोई वास्ता था न तो कोई भी क्रांतिकारी वाला काम इनके द्वारा किया गया था फिर भी उन्हें मीसाबंदी घोषित किया गया और 25000 रुपए प्रति व्यक्ति से अधिक की राशि इन पर राजकीय कोष से खर्च किया जाता था।


जिसका सीधा असर प्रदेश की जनता की गाढ़ी कमाई का दुरुपयोग पूर्व मुख्यमंत्री डॉक्टर रमन सिंह के द्वारा अपनी राजनीति भाजपा और आरएसएस के नेताओं के सामने चमकाने के लिये किया जाता था। कांग्रेस प्रवक्ता विकास तिवारी ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि इन सम्मान निधियों में जो राशि खर्च की जाती थी उन्हें अब प्रदेश के बेरोजगार युवाओं आदिवासी क्षेत्रों में रहने वाले प्रतिभाओं पर खर्च किया जाना चाहिए ताकि उनका भविष्य उज्जवल हो सके।


स्कूलो में मिलेगी संविधान की जानकारी

रुपेश टंडन


रायपुर। प्रदेश के सभी शैक्षणिक संस्थाओं में अब हर सोमवार को प्रार्थना के बाद संविधान से संबंधित विभन्न मुद्दो पर चर्चा की जाएगी। राज्य शासन के स्कूल शिक्षा विभाग ने आज इस संबंध में आदेश जारी करते हुए प्रदेश के सभी संभाग के आयुक्त और जिला कलेक्टरों को आवश्यक निर्देश दिए है। जारी निर्देश के अनुसार माह के प्रथम सप्ताह में संविधान की प्रस्तावना पर चर्चा होगी वहीं दूसरे सप्ताह में संविधान में उल्लेखित मौलिक अधिकार, तीसरे सप्ताह में मौलिक कर्तव्य और चौथे सप्ताह में राज्य के नीति निदेशक तत्व पर चर्चा आयोजित की जाएगी।


गौरतलब है कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ विधानसभा के शीतकालीन सत्र के दूसरे दिन संविधान दिवस के अवसर पर यह घोषणा की थी कि प्रदेश के शैक्षणिक संस्थाओं में छात्र-छात्राओं को संविधान की जानकारी देने के लिए प्रत्येक सोमवार को कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे ताकि बच्चों को इसकी समुचित जानकारी हो सके।


केंद्र सरकार को पत्र लिखकर मांगी रॉयल्टी

रुपेश टंडन


रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ में संचालित कोयला खदानों से निकाले गये कोयले की 4140.21 करोड़ रूपये एडिशनल लेवी की राशि यथाशीघ्र उपलब्ध कराने की मांग की है। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने केन्द्रीय कोयला खान एवं संसदीय कार्यमंत्री प्रहलाद जोशी को भेजे गये पत्र में भारतीय संविधान में उल्लेखित प्रावधानों, खनिज अधिनियम और माननीय उच्चतम न्यायालय द्वारा इस संबंध में पारित आदेश अनुसार खनिज पर राज्य सरकार के स्वामित्व होने तथा खनिजों पर राज्य सरकार द्वारा रॉयल्टी, लेव्ही एवं अन्य कर वसूलने के प्रावधान का उल्लेख करते हुए राज्य हित में एडिशनल लेव्ही की राशि लगभग चार हजार 140.61 करोड़ रूपये राज्य हित में यथाशीघ्र राज्य सरकार को उपलब्ध कराने का आग्रह किया है।


मुख्यमंत्री ने पत्र में माननीय उच्चतम न्यायालय द्वारा छत्तीसगढ़ राज्य में संचालित कोल ब्लॉक से निकाले गये और निकाले जाने वाले कोयले की एडिशनल रॉयल्टी की राशि को राज्य सरकार को देय होना चाहिए संबंधी पारित आदेश का भी उल्लेख किया है। साथ ही छत्तीसगढ़ सरकार को रॉयल्टी देने के संबंध में कोयला मंत्रालय भारत सरकार को पिछले पांच सालों में भेजे गये पत्रों का भी उल्लेख किया है। मुख्यमंत्री ने पत्र में लिखा है कि छत्तीसगढ़ से आठ कोल आबंटियों द्वारा 295 रूपये प्रति मीट्रिक टन की दर से एडिशनल लेव्ही की राशि भारत सरकार के कोल मंत्रालय के पास जमा की गई है।


इनमें जायसवाल निको लिमिटेड द्वारा 112.35 करोड़ रूपये, जिंदल पावर लिमिटेड द्वारा 1185.20 करोड़ रूपये, जिंदल स्टील एंड पावर लिमिटेड द्वारा 2082.23 करोड़ रूपये, मोनेट इस्पात लिमिटेड द्वारा 238.09 करोड़ रूपये, प्रकाश इण्डस्ट्रीज लिमिटेड द्वारा 234.22 करोड़ रूपये, आरएपीएल (सारडा एनर्जी लिमिटेड) 142.63 करोड़ रूपये और राजस्थान राज्य विद्युत उत्पादन निगम लिमिटेड द्वारा 145.49 करोड़ रूपये की एडिशनल लेव्ही जमा की गई है। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने इन संस्थानों द्वारा जमा की गई राशि को छत्तीसगढ़ सरकार को उपलब्ध कराने की कार्रवाई करने का आग्रह किया है।


घर में आग लगने से दो बच्चे जिंदा जले

असम : गुवाहाटी में दर्दनाक हादसा…घर में आग लगने से एक ही परिवार के 2 बच्चों की मौत ।


चंद्रवती वर्मा 


गुवाहाटी। असम के गुवाहाटी में गुरुवार को आग लगने की वजह से एक ही परिवार के दो बच्चों की झुलसकर मौत हो गई। यह हादसा वशिष्ठपुर इलाके में हुई जब बीएसएनएल कार्यालय के पास एक घर में आग लगी। यह हादसा तब हुआ जब बच्चों के माता-पिता घर में मौजूद नहीं थे।


स्थानीय लोगों के मुताबिक मारे गए बच्चों की उम्र सात और चार वर्ष है। सात वर्षीय इबान गोस्वामी और उसका चार वर्षीय भाई ईशान गोस्वामी की मौत आग लगने की वजह से हो गई। हादसे के वक्त दोनों भाई पहली मंजिल पर खेल रहे थे। घर में अभिभावकों में से कोई न होने की वजह से उन्हें बाहर तक नहीं निकाला जा सका। स्थानीय लोगों ने दावा किया कि घटना की सूचना पाने के बाद भी दमकल विभाग की टीम सही समय से नहीं पहुंची, जिसकी वजह से आग घर पर सही वक्त पर काबू नहीं पाया जा सका। दमकलकर्मी अगर सही वक्त पर पहुंचते तो शायद बच्चों को जान से हाथ न धोना पड़ता।


हादसे की वजह स्पष्ट नहींः स्थानीय लोगों ने कहा जब दमकलकर्मी घटनास्थल पर पहुंचे तब पूरा घर आग की जद में आ गया था। घर में आग किस वजह से लगी, यह अभी तक साफ नहीं हो सका है। पुलिस ने शवों को अपने कब्जे में ले लिया है। स्थानीय लोगों से पुलिस ने पूछताछ भी की। पुलिस हर एंगल से मामले की छानबीन कर रही है। घटना के विस्तृत ब्यौरे की प्रतीक्षा है।


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

यूनिवर्सल एक्सप्रेस    (हिंदी-दैनिक)


जनवरी 25, 2020, RNI.No.UPHIN/2014/57254


1. अंक-168 (साल-01)
2. शनिवार, जनवरी 25, 2020
3. शक-1941, माघ - शुक्ल पक्ष, तिथि- प्रतिपदा, संवत 2076


4. सूर्योदय प्रातः 07:04,सूर्यास्त 05:52
5. न्‍यूनतम तापमान -6 डी.सै.,अधिकतम-19+ डी.सै., कोहरे की संभावना।


6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा।
7. स्वामी, प्रकाशक, मुद्रक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित।


8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102


9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.,201102


https://universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
cont.:-935030275
 (सर्वाधिकार सुरक्षित)


 


सैन्य गठजोड़ ने क्षेत्र पर सवालों को जन्म दिया

बीजिंग/ वाशिंगटन डीसी। चीन के खिलाफ अमेरिका, ब्रिटेन और ऑस्ट्रेलिया के नए सैन्य गठजोड़ ने प्रशांत महासागर क्षेत्र को लेकर ने सवालों को जन्म ...