बुधवार, 3 नवंबर 2021

पटाखों के मामलें में आरोपी को गिरफ्तार किया

पटाखों के मामलें में आरोपी को गिरफ्तार किया
गोपीचंद        
बागपत। बालैनी क्षेत्र के बुढ़सैनी गाँव में शनिवार की रात पकड़े गए लाखो रुपये के पटाखों के मामले में पुलिस ने 1 आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। फरार 2 आरोपियों की तलाश में पुलिस लगी हुई है।
शनिवार की रात सीओ युवराज सिंह और बालैनी पुलिस ने बुढ़सैनी गाँव मे छापा मारकर एक घर मे रखे लाखो रुपये कीमत के 13 कुंटल पटाखे पकड़े थे और मकान मालिक को गिरफ्तार कर लिया था। रविवार को पुलिस ने कार्यवाही करते हुए मकान मालिक राहुल पुत्र जगदीश को जेल भेज दिया। और फरार दो आरोपियों रियासत और जयप्रकाश की तलाश में पुलिस लगी हुई है। एसओ रामनिवास ने बताया कि फरार आरोपियों की तलाश की जा रही है। क्षेत्र में कही भी अवैध रूप से पटाखों का कारोबार नही होने दिया जाएगा।
साक्षरता व जागरूकता के लिए किया आयोजन
गोपीचंद        
बागपत। जिला बागपत, बड़ौत नगर में दीपावली के अवसर दीपोत्सव मेले में ऑल इंडिया सैनी सेवा समाज से सम्बन्धता व संरक्षण प्राप्त कल्याण भारती सेवा संस्थान के द्वारा भारत अम्रत महोत्सव कार्यक्रम के चलते मेले में कैम्प लगाकर विधिक साक्षरता व जागरूकता के लिए किया आयोजन। कैम्प में संस्थान की और से क्योर फाउंडेशन शास्त्री नगर मेरठ द्वारा निर्मित होम्योपैथिक इम्युनिटी बूस्टर का धर्मार्थ सेवा में बड़ौत नगर के वरिष्ठ नागरिक संगठन के पदाधिकारियों और आमजन के उत्तम स्वास्थ्य हेतु किया निशुल्क वितरण। 

वृद्धजनों के बीच मिठाई का वितरण किया गया
विजय कुमार      
कौशांबी। जनपद मुख्यालय के ओसा स्थित वृद्ध जनआश्रम में महिला उत्थान एवं जागृति संस्थान की तरफ से वृद्धजनों के बीच फल और मिठाई का वितरण किया गया है। 
वृद्धजन आश्रम में फल और मिठाई का वितरण करने के बाद टीम के सदस्य महामाया विद्यालय के आसपास की गरीब बस्तियों में पहुंचे और घर-घर उन्होंने मिठाई फल का वितरण किया है। इस मौके पर अंजना मिश्रा, निधि त्रिपाठी, अलका त्रिपाठी, निशा नीलम यादव सहित तमाम लोग मौजूद रहे।

पहाड़ी क्षेत्रों में ठंड का असर दिखने लगा

पहाड़ी क्षेत्रों में ठंड का असर दिखने लगा

दुष्यंत टीकम     रायपुर। छत्तीसगढ़ में अब पारा गिरने लगा है। पहाड़ी क्षेत्रों में ठंड का असर दिखने लगा है। संभावना जताई जा रही है कि दिवाली के बाद प्रदेश में कड़ाके के ठंड पड़ सकती है। आपको बता दें कि मौसम विभाग ने 6 नवंबर तक बारिश के आसार जताया है। आज भी राजधानी रायपुर में बादल छाए रहे हैं। आउटर में कोहरा छाया रहा है। वहीं लोगों को गुलाबी ठंड का एहसास हो रहा है। प्रदेश के एक दो स्थानों में हल्की बूंदाबादी के आसार है। वहीं दीपावली त्यौहार के बाद प्रदेश में तापमान में अच्छी-खासी गिरावट होगी।

संयुक्त संचालक कोष व लेखा को नोटिस जारी 

दुष्यंत टीकम     बिलासपुर। पुलिस सहायक निरीक्षक को आदेश के बावजूद नया पे ग्रेड नहीं देने पर दायर अवमानना याचिका पर हाईकोर्ट ने जगदलपुर के संयुक्त संचालक कोष व लेखा को नोटिस जारी कर जवाब दाखिल करने कहा है। याचिकाकर्ता एएसआई गोमा मिश्रा दंतेवाड़ा एसपी कार्यालय मे पदस्थ हैं।

कि 2019 में उन्हें 4200 रुपये पे ग्रेड के अनुसार वेतन दिया जाना था लेकिन 2800 रुपये के पे ग्रेड पर दिया जा रहा है। जिले में पदस्थ उनके समतुल्य अन्य पुलिस अधिकारियों को 4200 रुपये के स्केल पर ही वेतन दिया जा रहा है लेकिन उसके साथ भेदभाव किया गया है। हाईकोर्ट ने प्रकरण की सुनवाई के बाद पुलिस अधीक्षक को आदेश दिया कि उसके प्रकरण का 60 दिन के भीतर निराकरण करे।

इस पर संयुक्त संचालक ने नियमों का हवाला देते हुए नया वेतनमान देने से इंकार कर दिया। इसके बाद हाईकोर्ट में अवमानना याचिका दायर की गई।

हवाई क्षेत्र के इस्तेमाल की मंजूरी देने से इनकार  

श्रीनगर। पाकिस्तान ने मंगलवार को ‘गो फर्स्ट’ की श्रीनगर-शारजाह उड़ान के लिए अपने हवाई क्षेत्र का इस्तेमाल करने की मंजूरी देने से इनकार कर दिया। इस उड़ान का उद्घाटन केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने पिछले महीने घाटी की अपनी यात्रा के दौरान किया था। सरकारी अधिकारियों ने बुधवार को कहा कि पाकिस्तान के इस इनकार के कारण उड़ान को एक लंबा रास्ता तय करना पड़ा और संयुक्त अरब अमीरात में अपने गंतव्य तक पहुंचने के लिए गुजरात से होकर गुजरना पड़ा।

‘गो फर्स्ट’, जिसे पहले गोएयर के नाम से जाना जाता था, ने 23 अक्टूबर से श्रीनगर और शारजाह के बीच सीधी उड़ानों की शुरुआत की थी। अधिकारियों के मुताबिक, 31 अक्टूबर तक गोएयर की श्रीनगर-शारजाह उड़ान पाकिस्तान के हवाई क्षेत्र से गुजर रही थी। उन्होंने कहा कि हालांकि, पाकिस्तान ने मंगलवार को उड़ान को अपने हवाई क्षेत्र से गुजरने की अनुमति नहीं दी, और इसलिए इस उड़ान को एक लंबा रास्ता तय करना पड़ा और गुजरात से होकर जाना पड़ा।

शिकायत के मामले में गूगल से जांच करने को कहा 

अकांशु उपाध्याय     नई दिल्ली। दिल्ली उच्च न्यायालय ने वेब यातायात को एक अन्य वेबसाइट पर भेजे जाने की शिकायत के मामले में गूगल से जांच करने को कहा है। अदालत ने कहा कि विज्ञापन ‘बोलने की आजादी’ का हिस्सा है। लेकिन यह किसी कंपनी स्वामी के ट्रेडमार्क के मूल्य पर नहीं किया जा सकता और यह भ्रामक इश्तहार के समान है। उच्च न्यायालय ने कहा कि विज्ञापन के माध्यम से राजस्व अर्जित करने वाली गूगल उसके विज्ञापनदाताओं की त्रुटियों के लिए उतनी ही जिम्मेदार है। जो अपने फायदे के लिए ट्रेडमार्क स्वामी की साख को भुना रहे हैं।

अदालत ने कहा कि गूगल की नीति के अनुसार वे कीवर्ड के रूप में ट्रेडमार्क के उपयोग की जांच करते हैं। लेकिन यह केवल यूरोपीय संघ तक सीमित है और भारत में इसका पालन नहीं किया जाता। उच्च न्यायालय ने गूगल इंडिया लिमिटेड और गूगल एलएलसी को वादी अग्रवाल पैकर्स एंड मूवर्स लिमिटेड की किसी भी शिकायत की जांच करने का निर्देश दिया। कंपनी ने आरोप लगाया है कि कीवर्ड के रूप में उनके ट्रेडमार्क का इस्तेमाल किया जा रहा है। जिससे वादी की वेबसाइट से विज्ञापनदाता की वेबसाइट पर ले जाया जाता है। न्यायमूर्ति वी कामेश्वर राव ने 137 पन्नों के आदेश में कहा, ”इस बारे में कोई विवाद नहीं हो सकता कि विज्ञापन बोलने की स्वतंत्रता का हिस्सा हैं। लेकिन निश्चित रूप से बोलने की आजादी किसी ट्रेडमार्क स्वामी के ट्रेडमार्क की कीमत पर नहीं हो सकती और यह भ्रामक विज्ञापन के समान है।”


कांग्रेसी नेताओं के ऐलनाबाद सीट को हराया

राणा ओबराय       चंडीगढ़। कांग्रेस गुटबाजी ऐलनाबाद विधानसभा उपचुनाव में देखने को साफ मिली। शैलजा गुट के छोड़ किसी भी बड़े कांग्रेस नेता ने कांग्रेस प्रत्याशी को जिताने के लिए कोई मेहनत नही करी, या यें कहे, कि कांग्रेसी नेताओं के अहम ने ही ऐलनाबाद सीट को हरा दिया। यदि कांग्रेस मिलकर चुनाव लड़ती तो भविष्य में होने वाले चुनाव के परिणाम कुछ औऱ ही होते। इसी गुटबाजी के बीच ऐलनाबाद उप चुनाव की हार कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष कुमारी सैलजा के लिए बहुत बड़ा झटका है। क्योंकि कांग्रेस प्रत्याशी पवन बेनीवाल को सैलजा ने ही पार्टी जॉइन करवाकर टिकट दिलवाया था। अब उनके लिए चिंतन का समय है कि वह इन परिस्थितियों में कैसे पार्टी को मजबूत करेंगी। 
बरौदा उप चुनाव में भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने अपना शो दिखाया और पार्टी की झोली में सीट डाल दी। ऐसा ही कुछ सैलजा यहां करना चहती थीं। लेकिन वह इसमें चूक गईं। सिरसा कुमारी सैलजा का अपने क्षेत्र है। सिरसा संसदीय सीट के प्रभुवाला उनका पैतृक गांव है। इस संसदीय सीट से वह सांसद रही हैं। सैलजा के पिता स्व. दलबीर केंद्रीय मंत्री भी रहे हैं। वह यहां से 1957 और 62 में जीतने के बाद उप सिचांई मंत्री रहे। 70 से 73 तक केंद्रीय पेट्रोलियम राज्यमंत्री बने। 1983 से 84 में कोयला मंत्री भी रहे। पार्टी संगठन में भी उन्होंने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। हरियाणा कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष और कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव भी रहे। कुमारी सैलजा यहां से सांसद रही हैं। सैलजा 1991 और 1996 में यहां जीत चुकी हैं। वह भी केंद्र में नरसिम्हा राव सरकार में राज्य मंत्री रहीं। 2004 में उन्होंने यहां से जीत हासिल की थी। उस समय भी उन्हें केंद्र में मंत्री पद मिला। बाद में कुमारी सैलजा 2009 में अंबाला संसदीय सीट से चुनाव लड़कर केंद्रीय मंत्री बनीं। कांग्रेस की सबसे बड़ी कमाजोरी रही कि उसका अपना संगठन ही नहीं है। दोनों सीनियर नेताओं में कोई तालमेल नहीं है। सेलजा की संगठन पर कोई पकड़ नहीं है। जिनकी संगठन पर पकड़ है। उनके साथ सैलजा तालमेल नहीं बैठा पा रही हैं। इसलिए अहम की लड़ाई में कांग्रेस का बंटाधार हो रहा है। राजनीतिक विश्लेषक वीरेंद्र सिंह का मानना है कि पंजाब की तरह हरियाणा में भी केंद्रीय नेतृत्व को कठोर और ठोस निर्णय लेना पड़ेगा। अन्यथा कांग्रेस के लिए आने वाले दिन संकटभरे हो सकते हैं। दयाल सिंह कॉलेज के पूर्व प्रिंसिपल और हरियाणा की राजनीतिक के अच्छे जानकार डॉ. रामजी लाल ने कहा कि कांग्रेस ने जिस तरह से ऐन मौके पर उम्मीदवर बदला, यह उनकी पहली हार थी। भाजपा से आए पवन बेनीवाल को टिकट देकर अपने कार्यकर्ताओं को निराश किया। इससे कहीं न कहीं भरत बेनीवाल का मनोबल टूटा। साथ ही कांग्रेस कार्यकर्ताओं में भी अच्छा संदेश नहीं गया। 
पूरे चुनाव में कांग्रेस कार्यकर्ता निष्क्रिय रहे। इसलिए कांग्रेस अब इस स्थिति में है। बहरहाल कांग्रेस को अब चिंतन और मनन करने की जरूरत है। क्योंकि कांग्रेस न तो किसान आंदोलन को भुना पाई, न महंगाई को न ही लोगों के गुस्से को। यह पूरी तरह से कांग्रेस की विफलता है। और इसके लिए कुमारी सैलजा की भूमिका पर सवाल उठ रहे हैं। हालांकि जिम्मेदारी से भूपेंद्र हुड्डा भी मुक्त नहीं हो सके। क्योंकि वह न सिर्फ विपक्ष के नेता है। बल्कि खुद को जाट नेता के तौर पर स्थापित करते भी नजर आते हैं। ऐसी स्थिति में ऐलनाबाद सीट पर उनकी जातिगत पकड़ में कोई मजबूती नहीं दिखी।

नाबालिग से बलात्कार, मृत्यु दण्ड की सजा

नाबालिग से बलात्कार, मृत्यु दण्ड की सजा 
हरिओम उपाध्याय        
बहराइच। उत्तर प्रदेश में बहराइच की एक अदालत ने नाबालिग से बलात्कार व हत्या के मामले में मुख्य आरोपी को मृत्यु दण्ड की सजा सुनाई है जबकि उसके साथी को 20 वर्ष के कारावास की सजा से दण्डित किया। साथ ही मुख्य आरोपी पर 40 हजार व सहअभियुक्त पर 10 हजार का अर्थदण्ड भी लगाया है।
जिला शासकीय अधिवक्ता पाक्सो एक्ट संत प्रताप सिंह ने बुधवार को बताया कि 10 अप्रैल को बौण्डी थाना क्षेत्र के रेहुआ खास मे परचून की दुकान बंद कराकर घर भेजने के बहाने घरेलू ट्रैक्टर चालक फूल चन्द्र कनौजिया ने 12 वर्षीय बालिका को दुकान से कुछ दूर रास्ते मे तालाब के किनारे हवस का शिकार बनाया और भेद खुलने के डर से अपने साथी रोशन लाल पुत्र दुलारे के सहयोग से बालिका की गला दबाकर हत्या कर दी एवं शव को तालाब किनारे फेंककर फरार हो गया था। तालाब किनारे बालिका का शव मिलने के बाद क्षेत्रीय पुलिस ने शव को कब्जे मे लेकर अन्त्य परीक्षण हेतु भेजा और बालिका के साथ रेप की पुष्टि हुई।
पुलिस ने इस मामले में आईपीसी की धारा-364, 376(3), 302, 120(बी) व पाक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू की तो घरेलू ट्रैक्टर चालक फूल चन्द्र कनौजिया व उसके साथी रोशन लाल का नाम रेप व जघन्य हत्याकाण्ड में सामने आया। पुलिस ने दोनो आरोपियो को गिरफ्तार कर कोर्ट मे पेश किया और न्यायिक हिरासत मे जेल भेज दिया। पुलिस ने डाक्टरी जांच रिपोर्ट के साथ न्यायालय मे आरोप पत्र दाखिल किया। अपर सत्र न्यायाधीश फास्ट ट्रैक कोर्ट प्रथम पाक्सो एक्ट नितिन पाण्डेय ने रेप व हत्या के सनसनीखेज मामले मे विचारण के उपरान्त महज 6 माह के अन्तराल में आरोपियो को दोषी पाया।
न्यायाधीश ने रेप व हत्या के मामले मेे मुख्य आरोपी को फूल चन्द्र कनौजिया को मृत्यु दण्ड की सजा सुनाई और सिर्फ हत्या के मामले मे दोषी पाये जाने पर उसके साथी रोशन लाल को 20 वर्ष के कारावास की सजा से दण्डित किया।

स्कूटी पर शराब का अवैध परिवहन, अरेस्ट किया
दुष्यंत टीकम         
रायगढ़। थाना प्रभारी कोसीर उप निरीक्षक जयमंगल निषाद के नेतृत्व में कोसीर पुलिस द्वारा क्षेत्र में अवैध रूप से महुआ शराब की सप्लाई करने वाले आरोपी को स्कूटी पर शराब का अवैध परिवहन करते पकड़ा गया। जिसके बाद पुलिस टीम आरोपी के घर पर जाकर रेड किया गया। आरोपी के कब्जे से 55 लीटर महुआ शराब की बरामदगी हुई है।आरोपी पर आबकारी एक्ट की कार्यवाही कर रिमांड पर भेजा गया है । पुलिस अधीक्षक श्री अभिषेक मीना के दिशा निर्देशन एवं एसडीओपी सारंगढ़ प्रभात पटेल के मार्गदर्शन पर कोसीर पुलिस क्षेत्र में अवैध शराब की बिक्री करने वालों पर कार्यवाही करने मुखबिर लगाकर रखा गया है, सूचनाओं पर कार्यवाही की जा रही है ।
इसी क्रम में दिनांक 02.11.2021 को थाना प्रभारी कोसीर उप निरीक्षक जयमंगल पटेल को मुखबिर से सूचना मिला कि ग्राम कुम्हारी का लालजी जांगडे घर में महुआ शराब बनाता है और उसका भाई लक्ष्मण कुमार जांगडे मोटर सायकल से आसपास क्षेत्र में सफ्लाई करता है। सूचना पर पुलिस पार्टी कार्यवाही के लिये रवाना होकर ग्राम कुम्हारी पहुंची, लक्ष्मण जांगडे को उसके घर के सामने एक नीला रंग की स्कुटी मेस्ट्रो सीजी 13 UF- 9448 में एक सफेद प्लास्टिक बोरी थैला में 5 लीटर क्षमता पीला रंग की जरीकेन में भरा दो जरीकेन में 10 लीटर महुआ शराब के साथ पकड़ा गया।
जिससे पूछताछ कर आरोपी के मकान की तलाशी लिया गया , मकान में एक 20 लीटर एवं 5 लीटर क्षमता की पांच जरीकेन में भरा हुआ 45 लीटर महुआ शराब एवं दो बण्डल सफेद पन्नी (अग्रेजी में महाराजा लिखा) हुआ, पैकिंग मशीन एवं महुआ फुल लाहन (पास) एल्युमिनियम का दो नग बडा गंज बरामद हुआ जिसका विधिवत बरामदगी पंचनामा बनाया गया है । इस प्रकार आरोपी से *लक्ष्मण कुमार जांगडे पिता छेदीलाल जांगडे उम्र 25 वर्ष साकिन कुम्हारी थाना कोसीर* से कुल 55 लीटर महुआ शराब कीमती 5,500 रूपये का एवं स्कुटी मेस्ट्रो एवं शराब बनाने का पात्र एवं पैकेजिंग का सामान जप्त किया गया है। आरोपी पर धारा 34(2),59(क) आबकारी एक्ट की कार्रवाई कर रिमांड पर भेजा गया है।

'अंतिम: द फाइनल ट्रूथ' का दूसरा गाना रिलीज

'अंतिम: द फाइनल ट्रूथ' का दूसरा गाना रिलीज
कविता गर्ग    
मुंबई। बॉलीवुड के दबंग स्टार सलमान खान और आयुष शर्मा की फिल्म 'अंतिम: द फाइनल ट्रूथ' का दूसरा गाना 'भाई का बर्थडे' रिलीज हो गया है।
सलमान खान-आयुष शर्मा की फिल्म 'अंतिम: द फाइनल ट्रूथ' का दूसरा गाना 'भाई का बर्थडे' रिलीज कर दिया गया है। 'भाई का बर्थडे' के वीडियो में आयुष शर्मा फिल्म में अपने भाई (डॉन) जन्मदिन मनाते नजर आ रहे हैं। फिल्म में पुलिस की भूमिका निभाने वाले सलमान खान डांस पार्टी का गेट क्रैश करते हुए भांगड़ा करते हुए दिखाई दे रहे हैं। इस गाने को हितेश मोदक ने कम्पोज किया है और साजिद खान ने गाया है। गाने के लिरिक्स नितिन रायकर ने लिखे हैं और मुदस्सर खान ने कोरियॉग्राफ किया है।
गौरतलब है कि महेश मांजरेकर निर्देशित 'अंतिम' में सलमान और आयुष शर्मा भी लीड रोल में हैं। फिल्म में सलमान पुलिस वाले और आयुष गैंगस्टर के किरदार में नजर आने वाले हैं। 'अंतिम' मराठी फिल्म 'मुलशी पैटर्न' की हिन्दी रीमेक है। इसे देशभर में पांच भाषाओं हिन्दी, तमिल, तेलुगु, कन्नड़ और उड़िया में रिलीज किया जाएगा। यह फिल्म 'सलमान खान फिल्म्स' द्वारा प्रस्तुत और सलमा खान द्वारा निर्मित है।

फिल्म 'आरआरआर' का टीजर रिलीज किया
कविता गर्ग    
मुंबई। दक्षिण भारतीय फिल्मों के सुपरस्टार रामचरण और जूनियर एनटीआर की आने वाली फिल्म आरआरआर का टीजर रिलीज कर दिया गया है।
एसएस राजामौली के निर्देशन में बन रही फिल्म 'आरआरआर' में जूनियर एनटीआर, राम चरण, आलिया भट्ट और अजय देवगन की मुख्य भूमिका है। फिल्म का टीजर रिलीज कर दिया गया है। टीजर में राम चरण और जूनियर एनटीआर को सुपरहीरो के रूप में प्रस्तुत किया गया है।
फिल्म समीक्षक तरण आदर्श ने सोशल मीडिया पर 'आरआरआर' का टीजर शेयर कर लिखा, "राजामौली ने फिल्म 'आआरआर' की दुनिया को एक झलक दिखाई। इसके आश्चर्यजनक दृश्य आपको चौंका देंगे। फिल्म का निर्देशन महान कथाकार राजामौली द्वारा किया गया है।" फिल्म आरआरआर 07 जनवरी 2022 को रिलीज होगी।

'भाजपा' को माफ नहीं करेगी जनता: प्रियंका

'भाजपा' को माफ नहीं करेगी जनता: प्रियंका
हरिओम उपाध्याय       
लखनऊ। कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव एवं उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी ने भाजपा को करारा जवाब देते हुए कहा है कि त्यौहार का समय है। लेकिन मंहगाई से जनता परेशान है। जनता भाजपा को माफ नहीं करेगी।
प्रियंका गांधी ने कहा है कि त्यौहार का समय है। महंगाई से आमजन परेशान हैं। भाजपा सरकार की लूट वाली सोच ने त्यौहार से पहले महंगाई कम करने की बजाय गैस सिलेंडर, पेट्रोल-डीजल, तेल, सब्जी के दाम आसमान पर पहुंचा दिए। उन्होंने उत्तर प्रदेश में होने वाले चुनाव को लेकर कहा कि चुनाव के समय भाजपा 1-2रू घटाकर जनता के बीच जाएगी, तब उसे करारा जवाब मिलेगा। 

'लखीमपुर किसान स्मृति दिवस' मनाएं, अपील
हरिओम उपाध्याय     
लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने ट्वीट करते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश के समस्त निवासियों, किसानों के शुभचिंतकों और सपा व अन्य सहयोगी पार्टियों से अपील है कि आज 'लखीमपुर किसान स्मृति दिवस' मनाएं। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि उत्तर प्रदेश के बागपत में कर्ज़ में डूबे किसान द्वारा आत्महत्या की घटना अत्यंत हृदय विदारक थी। भाजपा के राज में किसानों के ऐसे हालात सरकार के सभी झूठों का पर्दाफाश क रही हैं। आखिर कब तक यह सब सहेगा प्रदेश का किसान।
उपचुनाव में 'भाजपा' के खिलाफ गया मत
नरेश राघानी       
अजमेर। राजस्थान के पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने कहा है कि देशभर में हुए उपचुनाव में मत भाजपा के खिलाफ गया है।
पायलट ने आज जयपुर से सोजत जाते समय अजमेर के घूघरा स्थित अशोक उद्यान में मीडिया से बातचीत में यह बात कही। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने पेट्रोल डीजल, रसोई गैस एवं महंगाई के जरिए देश की जो व्यवस्था चौपट की है उसे जनता ने समझ लिया है और भाजपा के खिलाफ मतदान किया है। जिसके परिणाम सभी के सामने है।
उन्होंने कहा कि देश में अब केंद्र सरकार और भाजपा के खिलाफ हवा बन चली है। कांग्रेस की एकमात्र संगठित पार्टी है जो भाजपा को शिकस्त दे सकती है। राजस्थान में धरियावद और वल्लभगढ़ उपचुनाव भी पायलट ने खुशी जाहिर करते हुए कहा कि यह कांग्रेस संगठन के साथ उसके नेता सोनिया गांधी एवं राहुल गांधी में जन विश्वास का प्रतीक है। उन्होंने कहा कि आमजन, किसान, बेरोजगार सभी के साथ भाजपा छलावा कर रही है जिसके कारण उनकी छवि में गिरावट आई है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में अब विधानसभा चुनाव में चौबीस महीनों का समय शेष है और मुझे विश्वास है कि राज्य में एकबार फिर कांग्रेस की सरकार बनेगी। प्रदेश में भाजपा को चुनौती देने के लिए कांग्रेस कार्यकर्ता पूरी तरह तैयार है।


 

पीएम नफ्ताली बेनेट से मुलाकात हुई: मोदी

पीएम नफ्ताली बेनेट से मुलाकात हुई: मोदी
अशीष श्रीवास्तव      
जेरूशलम। इजरायल गये पीएम नरेन्द्र मोदी की वहां के पीएम नफ्ताली बेनेट से मुलाकात हुई। इसके बाद बैठक भी हुई। इस दौरान इजरायज के पीएम ने प्रधानमंत्री मोदी को अपनी पार्टी ज्वाइन करने का ऑफर भी दिया।
ग्लासगो में सीओपी 26 जलवायु शिखर सम्मेलन में इधर पहली मुलाकात में पीएम मोदी ने इजरायल के पीएम नफ्ताली संग दोनों देशों के द्विपक्षीय सम्बंधों की समीक्षा की। इस दौरान दोनों प्रधानमंत्रियों ने उच्च-प्रौधोगिकी एवं नवाचार के क्षेत्रों में सहयोग बढ़ाने के बारे में विचारों को एक-दूसरे से शेयर भी किया। इसी दौरान पीएम नफ्ताली ने भारत और इजरायल के पुख्ता सम्बंधों के लिये प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का शुक्रिया भी अदा किया और कहा कि आप इजरायल में बहुत लोकप्रिय हैं, आप मेरी पार्टी में शामिल हो जाईये। इतना कहने के बाद पीएम मोदी ने स्माइल पास की। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बैठक में कहा कि भारत के लोग इजरायल के संग सम्बंधों को गहराई से महत्व देते हैं। उन्होंने कहा कि दोनों देशों को मिलकर सम्बंधों को और मजबूत बनाना चाहिए।

अस्पताल में हुए घातक हमले की निंदा की 
काबुल। संयुक्त राष्ट्र ने अफगानिस्तान की राजधानी काबुल के एक अस्पताल में हुए घातक हमले की निंदा की है। जिसमें कम से कम 25 लोगों की मौत हो गई है और लगभग 50 अन्य घायल हुए हैं। अफगानिस्तान में संयुक्त राष्ट्र सहायता मिशन (यूएनएएमए) ने कहा है कि जिन लोगों ने भी यह हमला किया है, उन्हें इसकी जिम्मेदारी लेनी चाहिए।
यूएनएएमए ने ट्वीट किया, ”संयुक्त राष्ट्र काबुल के अस्पताल में हुए भयावह हमले की निंदा करता है। चिकित्सा कर्मियों और इलाज करा रहे नागरिकों को निशाना बनाकर किया गया हमला मानवाधिकारों और अंतरराष्ट्रीय मानवीय कानून का उल्लंघन हैं। इसके लिए जिम्मेदार लोगों को हिसाब देने की जरूरत है।”
मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक, देश के सबसे बड़े सैनय अस्पताल में मंगलवार को हुए दो भीषण विस्फोटों में कम से कम 25 लोगों की मौत हो गई है और करीब 50 अन्य घायल हो गए है। विस्फोट के बाद बंदूकधारियों ने अंधाधुंध गोलीबारी भी की। तालिबान के प्रवक्ता जबीहुल्ला मुजाहिद ने हमले के लिए इस्लामिक स्टेट-खुरासान (आईएस-के) को जिम्मेदार ठहराया है। तालिबान के एक अन्य अधिकारी के अनुसार, हमलावरों को मार गिराया गया है।

कोलंबिया: भूस्खलन के कारण 6 लोगों की मौंत
बोगोटा। कोलंबिया के नारिनो में भूस्खलन के कारण कम से कम छह लोगों की मौत हो गई, 11 घायल हो गए और 20 लापता हो गए। सिविल डिफेंस एजेंसी ने मंगलवार को यह जानकारी दी। एजेंसी ने टि्वटर पर कहा, “हमारे स्वयंसेवक लापता लोगों की तलाश में सहायता कर रहे हैं।” अधिकारियों के अनुसार पिछले कुछ दिनों में भारी बारिश के कारण भूस्खलन हुआ। बारिश के कारण बचाव अभियान में रूकावटें आई। सिविल डिफेंस, रेड क्रॉस, पुलिस और अग्निशमन विभाग के सदस्य बचाव प्रयास में भाग ले रहे हैं।


ऐतिहासिक महत्व को मान्यता, प्रस्ताव पेश किया 
वाशिंगटन डीसी। भारतीय मूल के अमेरिकी सांसद राजा कृष्णमूर्ति ने रोशनी के त्योहार दिवाली के धार्मिक और ऐतिहासिक महत्व को मान्यता देने वाले एक प्रस्ताव को अमेरिकी कांग्रेस में पेश किया है। कृष्णमूर्ति ने प्रतिनिधि सभा में प्रस्ताव पेश करने के बाद कहा कि अमेरिका और दुनिया भर में बसे सिखों, जैनियों और हिंदुओं के लिए दिवाली आभार जताने के साथ अंधकार पर प्रकाश की विजय और बुराई पर अच्छाई की जीत का उत्सव है।
उन्होंने कहा कि दिवाली के ऐतिहासिक और धार्मिक महत्व को स्वीकार करने वाला यह प्रस्ताव इस महत्वपूर्ण अवसर पर भारतवंशी अमेरिकियों और दुनिया भर में प्रवासी भारतीयों के प्रति गहरा सम्मान व्यक्त करता है। कृष्णमूर्ति ने कहा कि दीपावली के विशाल धार्मिक, सांस्कृतिक और ऐतिहासिक महत्व को मान्यता देने के लिए इस द्विदलीय प्रस्ताव को पेश करते हुए मुझे गर्व हो रहा है। महामारी के दौरान एक और दिवाली मनाते हुए मुझे उम्मीद है कि हम देखेंगे कि दुनिया में अंधकार पर प्रकाश हावी हो रहा है। अपने-अपने घरों में प्रियजनों के साथ दीप जलाकर दिवाली मनाने के लिए एकत्रित होने वाले परिवारों के लिए मैं सुरक्षित और प्रसन्नता से भरी दिवाली की कामना करना चाहता हूं और सभी के लिए अच्छे स्वास्थ्य और शांति की प्रार्थना करता हूं। सांसद कैरोलिन बी मैलोनी ने ट्वीट किया। दीपावली स्टाम्प की पांचवीं वर्षगांठ की शुभकामनाएं।

5 से 11 वर्ष के बच्चों को वैक्सीन देने की अनुमति 
वाशिंगटन डीसी। अमेरिका के स्वास्थ्य अधिकारियों ने ‘फाइज़र’ के कोविड-19 रोधी टीके की बच्चों के मुताबिक तैयार खुराक 5 से 11 वर्ष के बच्चों को देने की मंगलवार को अनुमति दे दी। खाद्य एवं औषधि प्रशासन (एफडीए) ने 5 से 11 वर्ष की आयु के बच्चों को टीके की खुराक देने की अनुमति पहले ही दे दी थी। यह खुराक वयस्कों और किशोरों को दी जाने वाली खुराक की एक तिहाई है। लेकिन एफडीए द्वारा स्वीकृत टीके किसे दिए जाएं इसकी औपचारिक अनुशंसा रोग नियंत्रण एवं रोकथाम केन्द्र (सीडीसी) करता है।
एक सलाहकार पैनल के सर्वसम्मति से ‘फाइज़र’ के टीके की खुराक 2.8 करोड़ बच्चों को दिए जाने का फैसला करने के कुछ ही घंटों बाद सीडीसी की निदेशक डॉ. रोशेल वेलेंस्की ने उक्त घोषणा की। इस फैसले के साथ ही पहली बार अमेरिका में 12 वर्ष से कम उम्र के बच्चों को कोविड-19 रोधी टीके लग पाएंगे।
वेलेंस्की ने मंगलवार रात को एक बयान में कहा, ”एक मां होने के नाते, मैं सभी अभिभावकों को कहना चाहती हूं कि वे बाल विशेषज्ञों, स्कूल की नर्स या स्थानीय चिकित्सकों से टीके के बारे में और जानकारी लें तथा बच्चों के टीकाकरण के महत्व को समझें।” अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन ने इसे एक महत्वपूर्ण फैसला बताया। उन्होंने एक बयान में कहा, ” इससे अभिभावकों की उनके बच्चों को लेकर कई महीनों से बनी चिंता खत्म हो गई। यह वायरस से निपटने की दिशा में हमारे देश के लिए एक महत्वपूर्ण कदम है।

निदेशक विलियम बर्न्स से मुलाकात की: पैत्रुशेव
मॉस्को। रूस के एक शीर्ष सुरक्षा अधिकारी ने मंगलवार को अमेरिका की खुफिया एजेंसी सेंट्रल इंटेलिजेंस एजेंसी (सीआईए) के प्रमुख से मुलाकात की। रूस और अमेरिका में तनाव के बीच दोनों अधिकारियों की यह दुर्लभ मुलाकात है। क्रेमलिन (रूस का राष्ट्रपति कार्यालय) की शक्तिशाली सुरक्षा परिषद के मंत्री निकोलई पैत्रुशेव के कार्यालय ने एक बयान में बताया कि अमेरिका-रूस संबंधों पर चर्चा करने के लिए पैत्रुशेव ने मॉस्को में सीआईए निदेशक विलियम बर्न्स से मुलाकात की।
इस मुलाकात के बारे में कोई और विवरण नहीं दिया गया। अमेरिका में राष्ट्रपति चुनावों में रूस के कथित हस्तक्षेप और 2014 में यूक्रेन के क्रीमिया प्रायद्वीप को उसके द्वारा अपने अधिकार में लेने, पूर्वी यूक्रेन में अलगाववादी विद्रोह को समर्थन देने, हैकिंग के जरिए हमलों और अन्य अड़चनों के कारण दोनों देशों के बीच संबंध खराब हो गए हैं।
अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन और रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने दोनों देशों के बीच संबंधों को अधिक स्थिर बनाने के प्रयास में जिनेवा में जून में शिखर सम्मेलन आयोजित किया था। दोनों नेता निरंतर असहमति के क्षेत्रों को ध्यान में रखते हुए हथियार नियंत्रण और साइबर सुरक्षा पर विमर्श शुरू करने पर सहमत हुए। लंबे समय से पुतिन के करीबी सहयोगी रहे पैत्रुशेव को रूस के सबसे प्रभावशाली अधिकारियों में से एक माना जाता है।
मंगलवार को डिजिटल तरीके से आयोजित एक पैनल में रूस के उप विदेश मंत्री सर्गेई रयाबकोव ने जिक्र किया कि अमेरिका-रूस जब शीत युद्ध के चरम पर थे उसकी तुलना में आज दोनों देशों के संबंध में अधिक तनाव आ गया है, उन्होंने इस तनाव को कम करने के लिए त्वरित कदम उठाने का आह्वान किया।
चीन में अपनी सेवाएं बंद करने का ऐलान किया
हांगकांग। ‘याहू इंक.’ ने बढ़ती हुई चुनौतीपूर्ण स्थितियों का हवाला देते हुए मंगलवार को चीन में अपनी सेवाएं बंद करने का ऐलान किया। यह फैसला काफी हद तक प्रतीकात्मक है, क्योंकि कम्पनी की कई सेवाओं को चीन की ‘डिजिटल सेंसरशिप’ द्वारा पहले ही बंद कर दिया गया था। हाल में चीन सरकार ने घरेलू बड़ी कम्पनियों सहित कई प्रौद्योगिकी कम्पनियों पर अपने नियंत्रण का विस्तार करने के लिए कदम उठाए हैं।
ऐसा माना जा रहा है कि संभवत: ‘याहू’ ने इसी वजह से यह फैसला किया है। कम्पनी ने एक बयान में कहा, ”चीन में व्यापार करने और कानूनी संबंधी पहलुओं के तेजी से चुनौतीपूर्ण होने के कारण, एक नवंबर से याहू की सेवाएं चीन में उपलब्ध नहीं होंगी।” कम्पनी ने कहा कि वह ”उपयोगकर्ताओं के अधिकारों और एक स्वतंत्र एवं मुक्त इंटरनेट सेवाओं के लिए प्रतिबद्ध है।” अमेरिका और चीन सरकार के बीच प्रौद्योगिकी तथा व्यापार को लेकर जारी गतिरोध के बीच कम्पनी ने यह कदम उठाया है।
गौरतलब है कि ‘गूगल’ ने कई साल पहले चीन में अपनी सेवाएं बंद कर दी थीं, जबकि ‘माइक्रोसॉफ्ट’ के पेशेवर नेटवर्किंग मंच ‘लिंक्डइन’ ने पिछले महीने कहा था कि वह अपनी चीन की साइट को बंद कर देगा, इसकी जगह एक ‘जॉब बोर्ड’ स्थापित करेगा। ‘याहू’, एक अमेरिकी एवं वैश्विक इंटरनेट सेवा कम्पनी है। याहू का चीन से जाने का फैसला ऐसे वक्त में आया है जब चीन में निजी सूचना संरक्षण कानून लागू हो गया है।
चीन का यह कानून निर्धारित करता है कि देश में काम करने वाली कंपनियों को अधिकारियों के अनुरोध पर निश्चित रूप से डाटा सौंपना होगा, जिससे पश्चिमी कम्पनियों के लिए चीन में काम करना मुश्किल हो गया क्योंकि उन्हें चीन की मांगों को पूरा करने के लिए दबाव का सामना करना पड़ सकता है। याहू को 2007 में अमेरिका के सांसदों से कड़ी आलोचना झेलनी पड़ी थी जब उसने चीन में विरोध की आवाज बुलंद करने वाले दो चीनी असंतुष्टों का डाटा सौंप दिया था, जो अंततः उनके कारावास का कारण बना।

संक्रमण: देश में डेंगू का प्रकोप तेजी से बढ़ा

संक्रमण: देश में डेंगू का प्रकोप तेजी से बढ़ा
अकांशु उपाध्याय               
नई दिल्ली। डेंगू का प्रकोप अब तेजी से बढ़ रहा है। हालात यह हो चुके है कि कई राज्यों में डेंगू को रोक पाना मुश्किल काम हो रहा है। जब राज्य स्तर से बात बनती दिखाई नहीं दी तो केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने टीमें भेजना शुरू कर दी। फिलहाल सबसे ज्यादा बुरे हालातों वाले नौ राज्यों में टीमों को रवाना किया गया है। साथ ही इन नौ राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के प्रमुख सचिवों को पत्र भी भेजा गया है। जिसमें केंद्र ने दल भेजने की बात कही है।
जानकारी के मुताबिक केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय से भेजी गई यह टीमें राज्य की टीम को तकनीकि मार्गदर्शन प्रदान करेगी। जिससे डेंगू के बढ़ते प्रकोप को रोका जा सके। इस दल में राष्ट्रीय रोग नियंत्रण केंद्र व मच्छर जनित रोग नियंत्रण कार्यक्रम के अधिकारी शामिल हैं। यह टीमें जल्द ही प्रदेशों में पहुंचकर डेंगू की रोकथाम के लिए राज्य की टीमों को ट्रेनिंग देना शुरू कर देंगी।
कौन-कौन से राज्यों में भेजी गई टीमें?
केंद्र सरकार ने विशेषज्ञ टीम के लिए ऐसे राज्यों का चुनाव किया है, जहां पर डेंगू काबू से बाहर हो रहा है। इन राज्यों में हरियाणा, पंजाब, केरल, राजस्थान, तमिलनाडु, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, दिल्ली, जम्मू व कश्मीर शामिल हैं। इन सभी जगह डेंगू के काफी मामले सामने आ रहे हैं।
नौ राज्यों के आलावा यहां भी निगरानी की जरूरत
नौ राज्यों में भले ही हालात खराब हो मगर इसके अलावा भी कई राज्य ऐसे है जहां हालात बिगड़ने कगार पर है। अक्टूबर में महाराष्ट्र के पुणे में 168 डेंगू के मामले सामने आए। जबकि सितंबर में 192 मरीजों की पुष्टि हुई थी। वहीं चंडीगढ़ में अब तक 33 लोग डेंगू से अपनी जान गंवा चुके हैं। उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में 1000 से ज्यादा मरीजों की पुष्टि हुई है। जिसकी वजह से यहां के भी हालात बेकाबू होते नजर आ रहे है।

भारत: संक्रमितों की संख्या-3,43,08,140 हुईं
अकांशु उपाध्याय        
नई दिल्ली। भारत में पिछले 24 घंटे में कोविड-19 के 11,903 नए मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 3,43,08,140 हो गई। वहीं, उपचाराधीन मरीजों की संख्या घटकर 1,51,209 हो गई, जो 252 दिन में सबसे कम है। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से बुधवार सुबह आठ बजे जारी किए गए अद्यतन आंकड़ों के अनुसार, संक्रमण से 311 और लोगों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 4,59,191 हो गई। देश में लगातार 26 दिनों से कोविड-19 के दैनिक मामले 20 हजार से कम हैं और 129 दिन से 50 हजार से कम नए दैनिक मामले सामने आ रहे हैं। उपचाराधीन मरीजों की संख्या भी घटकर 1,51,209 हो गई है, जो कुल मामलों का 0.44 प्रतिशत है। यह दर मार्च 2020 के बाद से सबसे कम है। पिछले 24 घंटे में उपचाराधीन मरीजों की संख्या में 2,567 की कमी दर्ज की गई है। मरीजों के ठीक होने की राष्ट्रीय दर 98.22 प्रतिशत है, जो मार्च 2020 के बाद से सर्वाधिक है।
आंकड़ों के अनुसार, अभी तक कुल 3,36,97,740 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं, जबकि मृत्यु दर 1.34 प्रतिशत है। दैनिक संक्रमण दर 1.11 प्रतिशत है, जो पिछले 30 दिनों से दो प्रतिशत से कम है। वहीं, साप्ताहिक संक्रमण दर 1.18 प्रतिशत है, जो पिछले 40 दिन से दो प्रतिशत से कम बनी हुई है।

राष्ट्रव्यापी टीकाकरण मुहिम के तहत अभी तक कोविड-19 रोधी टीकों की 107.29 करोड़ से अधिक खुराक दी जा चुकी हैं। देश में पिछले साल सात अगस्त को संक्रमितों की संख्या 20 लाख, 23 अगस्त को 30 लाख और पांच सितंबर को 40 लाख से अधिक हो गई थी।

जिलाधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की
अकांशु उपाध्याय         
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज 40 से अधिक जिलों के जिलाधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की। पीएम मोदी ने जिन जिलों में कम संख्या में लोगों का कोविड-19 रोधी टीकाकरण हुआ है वहां के जिलाधिकारियों से बात की। बता दें कि वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से हो रही इस बैठक में उन जिलों के अधिकारी शामिल हैं जहां पर 50 फीसदी से भी कम पात्र लाभार्थियों को टीके की पहली खुराक मिली है और दूसरी खुराक लगवाने वाले लोगों की संख्या भी जहां पर कम है।
प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से बताया गया कि ये 40 जिले झारखंड, मणिपुर, नगालैंड, अरूणाचल प्रदेश, महाराष्ट्र और मेघालय समेत अन्य राज्यों से हैं। प्रधानमंत्री मोदी ने  जी20 और सीओपी26 बैठकों में शामिल होकर विदेश से लौटने के तुरंत बाद सह बैठक की है। टीकाकरण के दायरे और रफ्तार दोनों बढ़ाने की जरूरत पर जोर देते हुए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने हाल में कहा था कि देश में 10.34 करोड़ से अधिक संख्या में ऐसे लोग हैं जिन्होंने निर्धारित तारीख के बाद भी कोविड रोधी टीके की दूसरी खुराक नहीं ली है।
वहीं, प्रधानमंत्री ने समीक्षा बैठक में जिलाधिकारियों से कहा कि अब तक जिन्हें टीका नहीं लगा है उन्हें इसकी पहली खुराक देना सुनिश्चित करें लेकिन दूसरी खुराक देने पर भी उतना ही ध्यान दें। अब तक आप, लोगों को टीकाकरण केंद्रों तक ले जाने के लिए काम कर रहे थे, अब समय आ गया है कि टीका घर-घर पहुंचाया जाए।

सुरक्षा बलों के हितों को सर्वोपरि महत्व दिया 
अकांशु उपाध्याय       
नई दिल्ली। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने मंगलवार को कहा कि केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल (सीएपीएफ) को देश की सुरक्षा का ध्यान रखना चाहिए, मोदी सरकार उनके परिवारों की देखभाल करेगी। उन्होंने यहां राष्ट्रीय स्तर पर ‘आयुष्मान सीएपीएफ’ योजना स्वास्थ्य कार्ड का शुभारंभ करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हमेशा सुरक्षा बलों के हितों को सर्वोपरि महत्व दिया है और उनके कल्याण के लिए कई कदम उठाए हैं। मंत्रालय के अधिकारियों के अनुसार, इस योजना को गृह मंत्रालय के तहत सात केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों के सभी सेवारत कर्मियों और उनके आश्रितों को कवर करने के लिए डिजाइन किया गया है।
इस योजना के तहत 35,58,773 सुरक्षा कर्मियों को यह कार्ड दिया जाएगा। सीएपीएफ कर्मी और उनके परिवार अब आयुष्मान भारत पीएम-जेएवाई या सीजीएचएस के तहत सूचीबद्ध सभी अस्पतालों में कैशलेस इन-पेशेंट और आउट पेशेंट स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ उठा सकेंगे।यह योजना गृह मंत्रालय (एमएचए) और स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय (एमओएचएफडब्ल्यू) और राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण (एनएचए) की एक संयुक्त पहल है। इस योजना के तहत एनएसजी के 32,972 जवानों, असम राइफल्स के 2,35,132, आईटीबीपी के 3,33,243, एसएसबी के 2,54,573, सीआईएसएफ के 4,66,927, बीएसएफ के 10,48,928, सीआरपीएफ के 11,86,998 जवानों को सुविधा दी जाएगी।
गृहमंत्री ने एक कार्मिक को आयुष्मान कार्ड सौंपकर योजना का शुभारंभ किया। उन्होंने एनएसजी कर्मियों को वितरण के लिए एनएसजी महानिदेशक को ‘आयुष्मान सीएपीएफ’ योजना के स्वास्थ्य कार्ड भी सौंपे।मंगलवार से सभी सीएपीएफ में स्वास्थ्य कार्ड वितरण किया जाएगा और वितरित किए गए काडरें की संख्या दैनिक आधार पर गृह मंत्रालय (एमएचए) की वेबसाइट पर प्रदर्शित की जाएगी। लगभग 35 लाख काडरें का वितरण दिसंबर, 2021 तक पूरा कर लिया जाएगा। शाह ने सभी सीएपीएफ कर्मियों और उनके आश्रितों को स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करने के लिए 23 जनवरी, 2021 को असम में पायलट आधार पर ‘आयुष्मान सीएपीएफ’ योजना शुरू की थी।
‘आजादी का अमृत महोत्सव’ के उत्सव के एक भाग के रूप में यह निर्णय लिया गया कि स्वास्थ्य कार्ड बनाने की प्रक्रिया को तेज किया गया है और अब दिसंबर, 2021 तक सभी 35 लाख कार्ड बल कर्मियों और उनके परिवार के सदस्यों को वितरित किए जाएंगे। सीएपीएफ के लिए आयुष्मान योजना का अखिल भारतीय रोल आउट सभी सेवारत सीएपीएफ कर्मियों और उनके आश्रितों को देश में कहीं भी एबी पीएम-जेएवाई और सीजीएचएस पैनलबद्ध अस्पतालों में स्वास्थ्य सेवाओं तक सहज पहुंच प्रदान करेगा।

क्रिकेटर मिताली राज को पुरस्कार के लिए चुना 
अकांशु उपाध्याय    
नई दिल्ली। ओलंपिक चैंपियन नीरज चोपड़ा को भारत सरकार खेल के सबसे बड़े सम्मान से नवाजने जा रही है। सिर्फ नीरज चोपड़ा ही नहीं बल्कि ओलंपिक रजत पदक विजेता पहलवान रवि दहिया का नाम भी इस लिस्ट में शामिल हैं। महिला क्रिकेटर मिताली राज को भी पुरस्कार के लिए चुना गया है।
वहीं अर्जुन पुरस्कार विजेताओं में अधिकतर पैरालंपिक खेलों में रजत पदक विजेता हैं। इनमें क्रिकेटर शिखर धवन भी शामिल हैं।आपको बता दें कि भारत सरकार के खेल एवं युवा मंत्रालय ने मंगलवार को 12 खिलाड़ियों के नामों की घोषणा की है, जिन्हें साल 2021 के मेजर ध्यानचंद खेल रत्न पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा।
खेल मंत्रालय के अनुसार, ‘भारत के राष्ट्रपति पुरस्कार विजेताओं को 13 नवंबर, 2021 (शनिवार) को दोपहर बाद चार बजकर 30 मिनट से राष्ट्रपति भवन के दरबार हॉल में विशेष रूप से आयोजित समारोह में पुरस्कार प्रदान करेंगे।’ यह समारोह पिछले साल कोविड-19 महामारी के कारण ऑनलाइन आयोजित किया गया था। द्रोणाचार्य पुरस्कार के लिए कुल 10 कोचों का चयन किया गया है।

हिंदू धर्म में 'दिपावली' पर्व बहुत महत्वपूर्ण

हिंदू धर्म में 'दिपावली' पर्व बहुत महत्वपूर्ण
अकांशु उपाध्याय                
हिन्दू धर्म में दिपावली बहुत ही महत्वपूर्ण पर्व माना गया है। यह दिवाली एक दिन का त्योहार नहीं है, इस त्योहार के साथ पांच त्योहार मनाए जाते हैं तब दीवाली पूरी होती है। धनतेरस दिपावली का पहला दिन माना जाता है। इसके बाद नरक चतुर्दशी फिर दिपावली, गोवर्धन पूजा और आखिरी में भैयादूज का त्योहार मनाया जाता है। हर त्योहार की अलग-अलग मान्यता है और इससे जुड़ी विशेषताएं और लाभ भी अलग हैं।
धनतेरस 2 नवंबर, मंगलवार को मनाई जाएंगी। मान्यता है इस इस दिन आयुर्वेद के जनक भगवान धन्वंतरि समुद्र मंथन से अमृत कलश लेकर प्रगट हो हुए थे। इसी कारण से हर वर्ष धनतेरस पर बर्तन खरीदने की परंपरा निभाई जाती है। कहा जाता है जो भी व्यक्ति धनतेरस के दिन सोने-चांदी, बर्तन, जमीन-जायजाद की शुभ खरीदारी करता है उसमें तेरह गुना की बढ़ोत्तरी होती है।
इस साल नरक चतुर्दशी का त्योहार 3 नवंबर बुधवार को मनाया जाएगा है। यह धनतेरस के बाद मनाया जाता है। नरक चतुर्दशी कार्तिक माह के कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी तिथि को मनाया जाता है। नरक चतुर्दशी को नरक चौदस, रूप चौदस और रूप चतुर्दशी के नाम से भी जाना जाता है। दिवाली से पहले मनाए जाने के कारण इसे छोटी दिवाली भी कहा जाता है। इस दिन मृत्यु के देवता यमराज की पूजा होती है। घर के कोनों में दीपक जलाकर अकाल मृत्यु से मुक्ति की कामना की जाती है।
अभयंगा स्नान मुहूर्त 05.40 सुबह से 06.03 सुबह तक
प्रकाशोत्सव का पर्व दिवाली इस साल 4 नवंबर को मनाया जाएगा। हिंदू पंचांग के अनुसार कार्तिक महीने की अमावस्या तिथि के दिन प्रदोष काल होने पर दिवाली पर महालक्ष्मी पूजन करने का विधान है। दिवाली पर घरों को रोशनी से सजाया जाता है। दिपावली की शाम को शुभ मुहूर्त में माता लक्ष्मी, भगवान गणेश, मां सरस्वती और धन के देवता कुबेर की पूजा-आराधना होती है। मान्यता के मुताबिक दिवाली की रात माता लक्ष्मी पृथ्वी पर आती हैं और घर-घर जाकर ये देखती हैं किसका घर साफ है और किसके यहां पर विधिविधान से पूजा हो रही है।

फुटबॉल टूर्नामेंट के नॉकआउट में जगह बनाईं
मोहम्मद रियाज       
बर्लिन। बायर्न म्यूनिख और युवेंटस ने बड़ी जीत दर्ज करके मंगलवार को यूएफा चैंपियन्स लीग फुटबॉल टूर्नामेंट के नॉकआउट चरण में जगह बनायी। रॉबर्ट लेवानडोवस्की की हैट्रिक की मदद से बायर्न म्यूनिख ने बेनफिका को 5-2 से हराकर अंतिम 16 में प्रवेश किया। पोलैंड के स्टार लेवानडोवस्की एक पेनल्टी चूक भी गये थे लेकिन इसके बावजूद वह चैंपियन्स लीग में अपने 100वें मैच में हैट्रिक बनाने में सफल रहे।
युवेंटस ने जेनिट सेंट पीटर्सबर्ग को 4-2 से हराकर नॉकआउट चरण में अपनी जगह सुरक्षित की। बायर्न और म्यूनिख अंतिम 16 में जगह बनाने वाली पहली टीमें हैं। क्रिस्टियानो रोनाल्डो के दो गोल की मदद से मैनचेस्टर यूनाईटेड ने अटलांटा के खिलाफ मैच 2-2 से ड्रा खेला। उन्होंने अब तक प्रत्येक मैच में गोल किया है।

शुक्ल-पक्ष की तिथि को मनाया जाता है भैया दूज
मोमिन मलिक      भैया दूज दीपावली के दूसरे दिन कार्तिक मास के शुक्ल-पक्ष की द्वितीय तिथि को मनाया जाता है। पौराणिक कथाओं के अनुसार इस दिन भाई की लंबी उम्र के लिए यमराज की पूजा अर्चना का भी विशेष महत्व है। हिंदु पंचांग के अनुसार इस साल भाईदूज का पावन पर्व 6 नवंबर 2021 दिन शनिवार को है। ज्योतिषशास्त्र के अनुसार इस साल भाई को तिलक करने का शुभ मुहूर्त दोपहर 1:10 से 3:21 बजे तक है। यानि शुभ मुहूर्त की कुल अवधि 2 घंटे 11 मिनट तक है।
भाई दूज का भी विशेष महत्व होता है। इस दिन बहनें अपने भाई को तिलक लगाती हैं। इस दिन भाई की लंबी उम्र और उज्जवल भविष्य के लिए पहले पूजा की थाली, फल, फूल, दीपक, अक्षत, मिठाई, सुपारी आदि चीजों से सजाना लें। इसके बाद घी का दीपक जलाकर भाई की आरती करें और शुभ मुहूर्त देखकर तिलक लगाएं। तिलक लगाने के बाद भाई को पान, मिठाई आदि चीज खिलाएं।
तिलक और आरती के बाद भाई को अपनी बहन की रक्षा का संकल्प लेना चाहिए और उन्हें उपहार गिफ्ट करें। पौराणिक कथाओं के अनुसार भाईदूज के अवसर पर जब बहनें भाई को तिलक लगाती हैं तो भाई के जीवन पर आने वाले हर प्रकार के संकट का नाश हो जाता है और उसके जीवन में सुख समृद्धि की प्राप्ति होती है। तथा इस दिन बहन के घर भोजन करने से विशेष फल की प्राप्ति होती है। भाईदूज को लेकर एक पौराणिक कथा काफी प्रचलित है। पौराणिक कथाओं के अनुसार सूर्य देव और उनकी पत्नी संज्ञा को संतान की प्राप्ति हुई, पुत्र का नाम यम और पुत्री का नाम यमुना था। संज्ञा भगवान सूर्यदेव का तप सहन नहीं कर पाती थी, ऐसे में वह अपनी छाया उत्पन्न कर पुत्र और पुत्री को उसे सौंपकर मायके चली गई। छाया को अपनी संतानों से कोई मोह नहीं था, लेकिन भाई-बहन में आपस में बहुत प्रेम था। यमुना शादी के बाद हमेशा भाई को भोजन पर अपने घर बुलाया करती थी, लेकिन व्यस्तता के कारण यमराज यमुना की बात को टाल दिया करते थे। क्योंकि उन्हें अपने कार्य से इतना समय नहीं मिल पाता था कि वह अपनी बहन के यहां भोजन के लिए जा सकें। लेकिन बहन के काफी जिद के बाद वह कार्तिक शुक्ल पक्ष की द्वितीया को यमुना से मिलने उनके घर पहुंचे।

खेल: जीत के लिये तीन सेट तक जूझना पड़ा
पेरिस। एक साल में चारों ग्रैंडस्लैम जीतने का रिकार्ड बनाने से चूकने के बाद पहली बार किसी प्रतियोगिता में खेल रहे नोवाक जोकोविच को पेरिस मास्टर्स टेनिस टूर्नामेंट के दूसरे दौर में जीत के लिये तीन सेट तक जूझना पड़ा। विश्व के नंबर एक खिलाड़ी जोकोविच ने शुरू में कुछ गलतियां की लेकिन आखिर में वह हंगरी के मार्टन फुकसोविच को 6-2, 4-6, 6-3 से हराने में सफल रहे। इस मैच में किसी भी समय जोकोविच अपनी लय में नजर नहीं आये। जोकोविच को दूसरा सेट गंवाने के बाद तीसरे सेट के शुरू में भी संघर्ष करना पड़ा लेकिन फुकसोविच का बैकहैंड शॉट बाहर मार देने से वह 4-2 से बढ़त हासिल करने में सफल रहे। उन्होंने दूसरे मैच प्वाइंट पर फोरहैंड विनर पर मैच अपने नाम किया। शीर्ष वरीयता प्राप्त सर्बियाई खिलाड़ी ने रिकार्ड पांच बार पेरिस मास्टर्स का खिताब जीता है। उन्होंने और राफेल नडाल ने रिकार्ड 36 मास्टर्स 1000 खिताब जीते हैं जो रोजर फेडरर से आठ अधिक हैं। जोकोविच के पास यहां खिताब जीतकर यह रिकार्ड अकेले अपने नाम पर करने का मौका है। जोकोविच सितंबर में यूएस ओपन के फाइनल में दानिल मेदवेदेव से हारने के कारण कैलेंडर ग्रैंडस्लैम पूरा नहीं कर पाये थे। इस बीच फेलिक्स ऑगर अलियासिमे ने पहले दौर में इटली के क्वालीफायर जियानलुका मैगर को 4-6, 6-4, 6-1 से हराकर एटीपी फाइनल्स में जगह बनाने की अपनी उम्मीद बरकरार रखी। जोकोविच, मेदवेदेव, स्टेफनोस सिटसिपास, अलेक्सांद्र जेवरेव, आंद्रे रुबलेव और माटेओ बेरेटिनी पहले ही एटीपी फाइनल्स के लिये क्वालीफाई कर चुके हैं। ऑगर अलियासिम, कैस्पर रुड, यानिक सिनर, ह्यूबर्ट हर्काज़ और कैमरन नोरी शीर्ष आठ खिलाड़ियों के इस टूर्नामेंट में जगह बनाने की दौड़ की बने हुए हैं। अमेरिकी खिलाड़ी रीली ओपेल्का, टॉमी पॉल और टेलर फ्रिट्ज तथा रूस के करेन खाचानोव, स्पेन के कार्लोस अल्काराज़ और आस्ट्रेलिया के जेम्स डकवर्थ ने भी दूसरे दौर में प्रवेश कर लिया है।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

1. अंक-16 (वर्ष-05)
2. ब्रहस्पतिवार, नवंबर 4, 2021
3. शक-1984, मार्गशीर्ष, कृष्ण-पक्ष, तिथि- चतुर्दशी, विक्रमी सवंत-2078।
4. सूर्योदय प्रातः 06:30, सूर्यास्त 05:48।
5. न्‍यूनतम तापमान -16 डी.सै., अधिकतम-28+ डी.सै.। 
6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक शिवाशुं व राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110
http://www.universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745  
                     (सर्वाधिकार सुरक्षित)

कौशांबी: डीएम ने संशोधन के सम्बन्ध में बैठक की

कौशांबी: डीएम ने संशोधन के सम्बन्ध में बैठक की राजकुमार              कौशाम्बी। जिलाधिकारी सुजीत कुमार द्वारा सम्राट उदयन सभागार में राजनैतिक...