सोमवार, 10 अगस्त 2020

मंत्री का ताइवान दौरा, चीन को गुस्सा आया

वाशिंगटन डीसी/ बीजिंग। अमरीकी स्वास्थ्य मंत्री ताइवान दौरे पर हैं और यह चीन को ग़ुस्सा करने के लिए काफ़ी था। चीन ताइवान को वन चाइना पॉलिसी के तहत अपना हिस्सा मानता है और वो चाहता है कि कोई भी देश ताइवान के साथ स्वतंत्र द्विपक्षीय संबंध ना विकसित करे। रविवार को ताइवान पहुंचे अमरीकी स्वास्थ्य मंत्री एलेक्स अज़ार ने कोरोना महामारी से सफलतापूर्वक निपटने की ताइवान की कोशिशों की तारीफ़ की है। ताइवान के दौरे पर गए एलेक्स अज़ार ने सोमवार को ताइपे में राष्ट्रपति साइ इंग-वेन से मुलाक़ात की और कहा कि कोरोना के ख़िलाफ़ लडाई में अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का समर्थन ताइवान के साथ है। बीते चार दशकों में एलेक्स पहले ऐसे अमरीकी उच्च आला अधिकारी हैं जो ताइवान के दौरे पर गए हैं। हालांकि इस दौरे से अमरीका और चीन के रिश्तों के बीच आई दरार और थोड़ी गहरी हो गई है। ताइवान पर अपना अधिकार बताने वाले चीन ने एलेक्स के दौरे की आलोचना की है और कहा है कि इसके बुरे परिणाम होंगे।       


यूपीः डिप्टी सीएम की तबीयत बिगड़ी

बृजेश केसरवानी


आगरा। डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा की तबियत बिगड़ी। कोविड-19 समीक्षा बैठक करने के दौरान तबीयत बिगड़ी।आनन -फानन में अधिकारियों ने बुलाई मेडिकल टीम।


डिप्टी सीएम की नाक से निकला खून- सूत्र। फिलहाल डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ठीक हैं। सर्किट हाउस में समीक्षा बैठक चल रही थी।     


पीड़ित परिजनों को सांत्वना देने पहुंचे 'आप'

अतुल त्यागी


हापुड़। आम आदमी पाटीँ टीम हापुड़ ने मेरठ मेडिकल अस्पताल पहुँचकर गढ़मुक्तेश्वर के एक गांव में हुए दुष्कर्म की पीड़ित बच्ची के माता-पिता से मिलकर सांत्वना दी व साहस बँधाया और डॉक्टरों से बच्ची के स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ली, बच्ची की हालत अभी नाजुक बनी हुई है। भगवान बच्ची को जल्द स्वस्थ करें डाक्टर अन्सार खांन सफवान राजपुत, हाशिम, जफर आदि लोग उपस्थित थे।             


दुष्कर्म के विरोध में एसपी ऑफिस का घेराव

अतुल त्यागी


6 साल की मासूम बच्ची के साथ हुए दुष्कर्म को लेकर कांग्रेसियों ने एसपी कार्यालय का घेराव किया।


कांग्रेसियों ने बच्ची को न्याय दिलाने और आरोपियों की जल्द से जल्द गिरफ्तारी की मांग की। अगर दोषियों को जल्द से जल्द नहीं पकड़ा गया तो कांग्रेस दोबारा आंदोलन करेगी-गजराज सिंह


हापुड़। सोमवार को राष्ट्रीय महासचिव व उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी की प्रभारी श्रीमती प्रियंका गांधी और उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अजय कुमार “लल्लू जी के निर्देशानुसार जिला व शहर कांग्रेस कमेटी के पदाधिकरियों व कार्यकर्ताओं ने दिल्ली रोड स्थित एस.पी.कार्यालय पर गढ़मुक्तेश्वर में 6 साल की मासूम बच्ची के साथ हुए दुष्कर्म को लेकर जोरदार धरना प्रदर्शन किया। कांग्रेसियों ने पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने के लिए एस.पी.कार्यालय का घेराव भी किया। मासूम बच्ची पर हुए दुष्कर्म के प्रति कोंगेसियो ने अपना रोष प्रकट किया।
पूर्व विधायक गजराज सिंह ने कहा कि गढ़मुक्तेश्वर में 6 साल की मासूम बच्ची के साथ दरिंदो ने जो दुष्कर्म किया है वह बेहद ही निंदनीय घटना है। उत्तर प्रदेश सरकार प्रदेश में अपराध पर लगाम लगाने में निरंतर विफल हो रही है। योगी सरकार में चौतरफा अपराधियों का बोलबाला है साथ ही प्रदेश में अपराध का ग्राफ चरम सीमा पर पहुंच चुका है।
जिलाध्यक्ष मिथुन त्यागी व शहर अध्यक्ष अभिषेक गोयल ने संयुक्त रूप से मांग की है कि 6 साल की मासूम बच्ची के साथ जिन दरिंदो ने दुष्कर्म किया है। उनकी जल्द से जल्द गिरफ्तारी हो,साथ ही पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने के लिए दोषियों पर कड़ी से कड़ी कार्यवाही की जाएं। अगर प्रदेश सरकार और पुलिस प्रशासन दोषियों को पकड़ने के लिए उचित कार्यवाही नहीं करती है तो कांग्रेस पार्टी पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने के लिए दोबारा आंदोलन करेगी।
धरना प्रदर्शन में उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष वीरेंद्र कुमार गुड्डू उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रदेश महासचिव बदरुद्दीन कुरैशी,पूर्व प्रदेश महासचिव विजय कुमार गोयल जी,पूर्व पीसीसी सदस्य सत्य नारायण अग्रवाल जी, विधि प्रकोष्ठ प्रदेश महासचिव सेंसर पाल सिंह,कुसुम लता जी,जितेंद्र सिंह जी,जिला महासचिव डॉ.शोएब,निखिल वत्स,सेवादल के वरिष्ठ उपाध्यक्ष अंकित शर्मा,जावेद चौधरी,सविता गौतम जी,कोषाध्यक्ष विक्की शर्मा,सभासद नरेश भाटी,विनोद कुमार,मोहम्मद परवेज,अमित सैनी,मनोज शर्मा जी,अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ शहर कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष रिजवान कुरैशी,अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ जिला कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष निसार खान,धर्मेन्द्र कश्यप, सेवादल महासचिव अनूप कुमार कर्दम,जिला सचिव यशपाल सिंह,एहतेशाम कुरैशी,अरुण चौधरी आदि लोग उपस्थित रहे।                       


राष्ट्रीय सैनिक संस्था ने मनाया शोक

अतुल त्यागी


हापुड़ डीएम के पिता के निधन पर राष्ट्रीय सैनिक संस्था ने जताया शोक
हापुड़। राष्ट्रीय सैनिक संस्था जिला ईकाई हापुड़ के तत्वावधान में श्रीराम वाटिका में हापुड़ जनपद की जिलाधिकारी अदिति सिंह के पिता एवं भारत सरकार से सेवानिवृत्त पूर्व सचिव धनंजय कुमार सिंह के निधन पर उनके चित्र पर पुष्प अर्पित कर व दो मिनट का मौन रख दिवंगत आत्मा की शांति के लिए प्राथना कर भावभीनी श्रद्धांजलि दी गई। इस अवसर पर राष्ट्रीय सैनिक संस्था के पश्चिमी उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष चौधरी मनवीर सिंह पश्चिमी उत्तर प्रदेश की महिला ब्रिगेड की अध्यक्ष सुमन त्यागी हापुड़ जनपद के जिला अध्यक्ष ज्ञानेंद्र त्यागी, जिला कोषाध्यक्ष मुकेश प्रजापति, जिला उपाध्यक्ष मुकेश त्यागी, जिला प्रवक्ता हाक्मीन अली, मन्सूरी सोनू त्यागी व दिवाकर त्यागी मौजूद रहे।           


बल पर आत्मविश्वास नहीं बढ़ायाः सिंह

नई दिल्ली। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने ‘आत्मनिर्भर भारत अभियान’ को आत्मविश्वास बढ़ाने का विजन बताते हुए आज कहा कि दूसरों के बल पर निर्भर रहकर कभी भी आत्मविश्वास नहीं बढ़ाया जा सकता। राजनाथ सिंह ने यहां रक्षा उत्पादन विभाग, सार्वजनिक क्षेत्र के रक्षा उपक्रमों और आयुध निर्माणियों द्वारा मिलकर शुरू किये जा रहे आत्मनिर्भर सप्ताह के उद्घाटन के मौके पर कहा कि इन गतिविधियों से रक्षा उत्पादन को बढावा मिलेगा। रक्षा मंत्री ने कहा ,“ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का ‘आत्मनिर्भर भारत अभियान’ का विजन इस महामारी के कठिन समय में, न केवल आर्थिक विकास के लिहाज से महत्वपूर्ण है, बल्कि उससे कहीं अधिक हमारे आत्मविश्वास को बढ़ाने का विजन है। दूसरों के बल पर निर्भर रहकर कभी भी अपना आत्मविश्वास नहीं बनाया जा सकता है।


उसके लिए स्वयं का आत्मनिर्भर होना ही एकमात्र रास्ता है। ” उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी ने इसके लिए पांच सूत्रों पर आधारित इच्छा , समावेश, निवेश , ढांचागत सुविधा और नवाचार का रास्ता सुझाया है। रक्षा क्षेत्र में आत्मनिर्भर होना केवल रक्षा ही नहीं, बल्कि नागरिक समाज के लिए भी बहुत फायदेमंद हो सकता है। उन्होंने कहा यदि हम अपने सभी साजो-सामान देश में ही निर्मित करने में सक्षम होते हैं, तो पूंजी का एक बड़ा हिस्सा बचा सकते हैं जिसका उपयोग रक्षा उद्योग से जुड़ी लगभग 7,000 लघु इकाईयों को बढ़ावा देने में किया जा सकता है।         


योगी ने पार्टी के नेता पर रासुका लगाया

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की सरकार ने पीस पार्टी के अध्यक्ष डॉ. अयूब के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) लगा दिया है। अयूब को कम से कम 12 महीने तक जमानत नहीं मिलेगी। उन्हें एक समाचार पत्र में विवादित व अपमानजनक सामग्री वाला विज्ञापन छपवाने के आरोप में 1 अगस्त को गोरखपुर से गिरफ्तार किया गया था। उनके खिलाफ लखनऊ के हजरतगंज पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज की गई थी। अयूब पीस पार्टी के संस्थापक हैं और 2012 में विधानसभा के लिए चुने गए थे। वह अब लखनऊ जेल में हैं।                       


मंत्री ने गलत बिलों की जांच का आदेश दिया

लखनऊ। ऊर्जा मंत्री श्रीकान्त शर्मा ने सोमवार को लखनऊ, कानपुर, झांसी व चित्रकूट मंडल के जनपदों की विद्युत आपूर्ति की वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से समीक्षा की। गलत रीडिंग पर बिलिंग की शिकायतों पर उन्होंने ऐसे सभी मामलों की जांच के निर्देश दिए। यह भी कहा कि ऐसे सभी जनपदों जहां शटडाउन के कारण आपूर्ति प्रभावित हुई हो वहां अतिरिक्त समय में बिजली देकर रोस्टर का अनुपालन करायें। शासन की मंशा के अनुरूप ही बिजली की आपूर्ति की जाए।           


संकट के बीच सोनिया का कार्यकाल खत्म

नई दिल्ली। सोनिया गांधी का कांग्रेस अंतरिम अध्यक्ष के तौर पर एक साल सोमवार को पूरा हो गया है। ज्योतिरादित्य सिंधिया और सचिन पायलट के हाई प्रोफाइल विद्रोह के बीच सोनिया का दूसरा कार्यकाल पूरा हुआ है। मध्य प्रदेश और राजस्थान के बाद, पार्टी पंजाब में भी एक समस्या का सामना कर रही है, जहां दो सांसदों ने मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। अपने दूसरे कार्यकाल में सोनिया गांधी अस्वस्थता के साथ-साथ पार्टी के भीतर के झगड़ों से भी जूझती रही हैं। वह ज्योतिरादित्य सिंधिया को पार्टी को तोड़ने और भाजपा में शामिल होने से रोकने में असमर्थ रहीं, जिसके कारण मध्य प्रदेश में कांग्रेस की सरकार गिर गई। सोनिया दो गुटों के बीच हस्तक्षेप करके मुसीबत को टालने में असफल रहीं। यही हाल राजस्थान में भी देखने को मिला, जहां पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के खिलाफ बागी तेवर दिखाए, जिससे सरकार पर संकट आ गया। वहां भी कांग्रेस नेतृत्व कमजोर रहा और दोनों गुटों के बीच शांति कायम नहीं कर सका।
तीसरा राज्य, जहां कांग्रेस समस्याओं से जूझ रही है, वह है पंजाब। पार्टी दरार को कम करने की कोशिश कर रही है।सोनिया गांधी का दूसरा कार्यकाल उनके बेटे राहुल गांधी के पार्टी अध्यक्ष के पद से इस्तीफा देने के बाद शुरू हुआ और कांग्रेस कमेटी को सोनिया गांधी को छोड़कर कोई अन्य विकल्प नहीं मिला। अगस्त 2019 से ही एक तरफ पार्टी भाजपा से लड़ रही है, वहीं दूसरी ओर उसे अपने आंतरिक कलह से भी जूझना पड़ रहा है। संगठन के कामकाज में टीम राहुल गांधी के हस्तक्षेप पर भी नाराजगी है।


कांग्रेस के राज्यसभा सांसदों की 30 जुलाई की बैठक में नेतृत्व के मुद्दे पर चर्चा हुई और इस दौरान कई नेताओं ने मांग की कि राहुल गांधी को पार्टी अध्यक्ष के रूप में वापस लाया जाना चाहिए। कुछ नेताओं द्वारा चुनावी हार के कारणों पर पार्टी को आत्मविश्लेष्ण करने की मांग को लेकर विवाद खड़ा हो गया, जिसके लिए राहुल गांधी के करीबी नेताओं ने संप्रग शासन पर सवाल उठाए, जिसके बाद सोशल मीडिया पर जंग छिड़ गई। वरिष्ठ नेताओं को हस्तक्षेप करना पड़ा और उन्होंने कहा कि उन्हें सोशल मीडिया पर टिप्पणी करने से बचना चाहिए।


कांग्रेस प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि बेशक अंतरिम अध्यक्ष के रूप में सोनिया गांधी का एक साल का कार्यकाल सोमवार को पूरा हो जाएगा, मगर इसका अर्थ यह नहीं कि पार्टी में कोई वैक्यूम हो जाएगा। पार्टी के संविधान में ऐसा कोई प्रावधान नहीं हैं और न ही राजनीति में ऐसा होता हैं। सिंघवी ने कहा कि सोनिया गांधी कांग्रेस की अध्यक्ष हैं और तब तक इस पद पर रहेंगी, जब तक पार्टी अपने संविधान के हिसाब से किसी को अध्यक्ष निर्वाचित नहीं कर लेती।         


रुद्रपुर में फिर फूटा कोरोना बम

मनीष कश्यप


रुद्रपुर। ट्रांजिट कैंप में पहले दौर की सैंपलिंग में 65 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले है। आपको बता दे की ट्रांजिट कैंप क्षेत्र में लगातार कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ता देख आज स्वास्थ्य विभाग एवं जिला प्रशासन द्वारा सैंपलिंग अभियान छेड़ दिया गया। जिसके अंतर्गत स्वास्थ्य विभाग ने  सैंपलिंग को लेकर ट्रांजिट कैंप को 7 सेक्टर में बांटा है। जिसमें पहले दिन आज वार्ड नंबर 4 की 9 गलियों से सैंपल लिए गए जिसमें रैपिड टेस्ट में 65 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।जिसके बाद स्वास्थ्य विभाग एवं कैंप वासियों में हड़कंप मचा हुआ है बताया जा रहा है कि ट्रांजिट कैंप में कोरोना टेस्ट में हर पांचवा आदमी पॉजिटिव निकल रहा है बात करी जाए हर पांचवें व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव आने की तो औद्योगिक इकाइयां लगने के बाद से सिडकुल से नजदीक होने के कारण जनसंख्या  अधिक  संख्या में या निवास करती है । जिस कारण जनसंख्या घनत्व अधिक होने से कम्युनिटी ट्रांसमिशन से तेजी से फैल रहा है कोरोना पॉजिटिव। हम भी आपसे अपील करते हैं कि मास्क एवं सैनिटाइजर उपयोग करते रहें एवं सामाजिक दूरी बनाए रखें।           


बरेली में संक्रमितों की संख्या-108

बरेली। जिले में दिनों दिन कोरोना संक्रमण का खतरा गंभीर होता जा रहा है। लगातार सामने आ रहे संक्रमण के मामले चिंता का सबब बने हुए हैं। सोमवार शाम तक 108 लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हो चुकी है। जिला सर्विलांस अधिकारी डा.अशोक कुमार ने बताया कि एंटीजेन और ट्रू नॉट की रिपोर्ट में 108 लोग पॉजिटिव पाए गए हैं जबकि अभी आईवीआरआई और निजी लैब की रिपोर्ट का इंतजार है। संक्रमितों की संख्या अभी बढ़ सकती है।


बांग्लादेश का स्पिनर कोरोना पॉजिटिव

ढाका। बांग्लादेश के स्पिनर मशरफ हुसैन कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं और इस समय वे अपने घर में क्वारंटीन हैं। उनसे पहले उनके पिता इस वायरस से संक्रमित पाए गए थे। द डेलीस्टार ने हुसैन के हवाले से लिखा, “मेरे पिता पहले कोविड-19 से संक्रमित पाए गए थे और उन्हें सीएमएच अस्पताल में भर्ती कराया गया था। इसके बाद मुझे भी कुछ लक्षण दिखे और मैं भी कोरोना पॉजिटिव निकला। मेरा स्वास्थ अभी तक ठीक है और मैंने अपने आप को घर में आइसोलेट कर रखा है।” उन्होंने कहा, “मेरी पत्नी और बच्चों का टेस्ट हालांकि निगेटिव आया है और वह इस समय मेरी पत्नी के माता-पिता के यहां रह रहे हैं।” 38 साल के इस खिलाड़ी को पिछले साल ब्रेन ट्यूमर हुआ था और उनका चार महीने तक इसका ईलाज भी चला था। बीमारी से निपटने के बाद वह घरेलू क्रिकेट में वापसी की कोशिश कर रहे थे। उन्होंने अभी तक बांग्लादेश के लिए पांच वनडे खेले हैं और चार विकेट लिए हैं। उन्होंने 2008 में चटगांव में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पदार्पण किया था। हुसैन ने अपना आखिरी वनडे ढाका में 2016 में इंग्लैंड के खिलाफ खेला था।         


उप राज्यपाल ने राष्ट्रपति से की मुलाकात

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के नए उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने अपने कार्यभार संभालने के तीन दिन बाद सोमवार को राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद और उप-राष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू से मुलाकात की। मनोज सिन्हा के पद संभालने के बाद दोनों के साथ यह पहली बैठक है। शुक्रवार को सिन्हा ने जीसी मुर्मू के स्थान पर केंद्रशासित प्रदेश के राजभवन में दूसरे उपराज्यपाल के रूप में शपथ ली, जिन्हें भारत के नियंत्रक और महालेखा परीक्षक (सीएजी) ने नियुक्त किया गया है। शपथग्रहण समारोह के बाद पत्रकारों से बात करते हुए सिन्हा ने कहा कि उनका मिशन जम्मू और कश्मीर में विकास और शांति सुनिश्चित करना है। गुरुवार को भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता मनोज सिंहा को जम्मू-कश्मीर का उपराज्यपाल नियुक्त किया गया।           


जिलाधिकारी ने की जनता से अपील

नई दिल्ली। जिला अधिकारी श्रीमती रंजना राजगुरू ने आम लोगों से अपील की है कि सभी लोग दो गज की दूरी, मास्क अनिवार्य व समय-समय पर सेनेटाइज एवं अपने हाथों को अच्छी तरह से साफ रखे ताकि कोरोना संक्रमण से बचा जा सकें। उन्होने कहा कि सभी के सहयोग से ही इस संक्रमण से बचा जा सकता है, इस लिये प्रत्येक व्यक्ति को स्वंय ही जागरूक होना होगा। उन्होने कहा कि सभी के प्रयासो से कोरोना संक्रमण को रोका जा सकता है। उन्होने सभी लोगो से अनुरोध किया है कि मास्क के माध्य से नांक व मुंह को अच्छी तरह से ढकें व अपना स्वंय का ध्यान रखे। उन्होने कहा कि मास्क नही पहनने पर आवश्यक कार्यवाही अमल में लायी जायेगी। उन्होने कहा कि आज सभी देश के डाक्टर व वैज्ञनिक कोरोना की दवाई की खोज में लगे हैं उम्मीद जताई है कि कुछ समय में कोविड-19 संक्रमण की दवाई मिल सकती है। उन्होने छोटे-बडे व्यवसायिक, प्रष्ठिानों, रेडी, ठेली वालो से अपील की है कि वे ग्राहको को मास्क व दो गज की दूरी की अहमियत से लोगों का समझाये। उन्होने कहा कि किसी भी गली मोहल्ले में कोरोना जैसे संक्रमण की आहट संज्ञान में आती है तो वे तत्काल उसकी सूचना जनपद में स्थापित कोविड-19 कन्ट्रोल रूम नम्बर 05944-250250 अथव पुलिस हैल्प लाईन नं0-112 पर दे सकते है। उन्होने सभी नगर निकायो को अपने-अपने क्षेत्र में लोगों को कोविड-19 संक्रमण के बारे में लाउडस्पीकर के माध्यम से जागरूक करने के भी निर्देश दिये है। जिलाधिकारी ने कहा है कि मंडियो में अत्यधिक भीड होने से संक्रमण फैलने का खतरा ज्यादा उत्पन्न हो सकता है, जिस हेतु उन्होने सब्जी के स्थानों को दूर-दूर बनाये जाने, ग्रहको के लिये सर्कल बनाने, मंडियो में प्रवेश करने से पहले मास्क व सेनेटाइजर, मंडी समितियो द्वारा मंडियो को सेनेटाइज करने व उप जिलाधिकारियो के साथ मंडी समिति सचिवो को मंडियो में संयुक्त रूप से छापे मारना, लाउडस्पीकर के माध्यम से लोगों को कोरोना संक्रमण के प्रति जागरूक करना व नियमों का पालन न करने पर समय-समय पर अभियान चालान करने के निर्देश दिये गये थे। जिलाधिकारी ने उक्त कार्यवाही को न काफी बताते हुये सख्ती से उक्त निर्देशो का पालन करने के निर्देश दिये है।


स्कूल-कॉलेज खोलने पर होगी चर्चा

हरिओम उपाध्याय


नई दिल्ली। मानव संसाधन विकास मामलों से संबंधित संसदीय समिति सोमवार को देशभर के स्कूल और कॉलेजों को खोले जाने की तैयारियों पर चर्चा करेगी। मानव संसाधन विकास मंत्रालय का नाम बदलकर अब केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय कर दिया गया है। इस संसदीय समिति के अध्यक्ष राज्यसभा सांसद विनय सहस्रबुद्धे हैं। सोमवार को आयोजित की जा रही इस संसदीय समिति की बैठक का एजेंडा कोविड-19 महामारी के दौरान स्कूलों और उच्च व तकनीकी शिक्षा क्षेत्र की तैयारी पर चर्चा करना है। शिक्षा मंत्रालय की यह संसदीय समिति की दिल्ली में आयोजित बैठक के दौरान इस विषय पर गौर करेगी कि स्कूल-कॉलेज खोलने को लेकर क्या स्थिति है।


दरअसल, सरकार को मिले फीडबैक के मुताबिक, फिलहाल अधिकांश अभिभावक नहीं चाहते कि अभी स्कूल खोले जाएं। अभिभावकों के सबसे बड़े राष्ट्रीय संगठन ‘ऑल इंडिया पेरेंट्स एसोसिएशन’ के अध्यक्ष अशोक अग्रवाल ने कहा, “हमने शिक्षा मंत्रालय एवं प्रधानमंत्री के समक्ष मुख्य रूप से तीन विषय रखे हैं। इनमें सबसे महत्वपूर्ण विषय यह है कि जब तक कोरोना पर पूरी तरह से काबू नहीं पा लिया जाता, तब तक स्कूल नहीं खुलने चाहिए।” अभिभावक चाहते हैं कि इस वर्ष स्कूलों में पूरे शैक्षणिक सत्र को ही जीरो सत्र माना जाए। इस मांग को लेकर कई अभिभावकों ने सहमति जताई है। दरअसल, केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय ने सभी राज्यों से कहा है कि वे स्कूल खोले जाने के विषय पर अभिभावकों की राय जानने की कोशिश करें।


अशोक अग्रवाल ने कहा, “प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक के अलावा देशभर के सभी मुख्यमंत्रियों को हमने ऐसे ही पत्र लिखे हैं। अभिभावकों के इस संघ ने सरकारों से मांग की है कि इस शैक्षणिक सत्र को जीरो एकेडमिक ईयर घोषित घोषित किया जाए। सभी छात्रों को अगली कक्षा में प्रमोट किया जाए। अगले वर्ष का पाठ्यक्रम इस तरह से मॉडिफाई किया जाए कि छात्र उसे समझ सके और अपनी पढ़ाई कर सके।”             


विश्व में तेजी से फैल रहा है 'कोरोना'

अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली। विश्व में महामारी बन चुके कोरोना के खिलाफ चल रही जंग में दुनिया भर में चल रहे शोध में स्पष्ट हो चुका है कि कोरोना से लड़ाई में रेमडेसिवीर के नतीजे सबसे अधिक संतोषजनक हैं और वह लाखों लोगों की जान बचाने में कारगर साबित हुई है। ये ही कारण है कि इन दिनों इसकी मांग जबरदस्त है और यह आसानी से उपलब्ध नहीं हो पा रही है। जिसको लेकर मरीज और तीमारदार परेशान हैं।


लेकिन अब यह दवा अब नेहरू नगर स्थित यशोदा अस्पताल में उपलब्ध है और आसानी से आप यहां से यह दवा ले सकते हैं। कोवि़ड 19  से पीड़ित गंभीर मरीजो के इलाज के लिए रेमडेसिवीर दावा को चिकित्सीय परीक्षणों में बेहद प्रभावी माना जा चुका है। रेमडेसिवीर दवा सीधे वायरस पर हमला करती है। यह न्यूक्लियोटाइड एनालॉग की तरह आरएनए और डीएनए के चार बिल्डिंग ब्लॉक्स में से एक एडेनोसिन को हटाकर खुद को चुपके से वायरस के जीनोम में शामिल कर लेती है और फिर उसकी संचालन प्रक्रिया में शार्ट सर्किट से उसे नष्ट कर देती है। शहर में दवा की कमी के कारण मरीजों को हो रही दिक्कतों को मद्देनजर रखते हुए यशोदा हॉस्पिटल की फार्मेसी ने इस दवा को रियायती दरों पर आम जनमानस के लिए उपलब्ध करा दिया है।


कैसे प्राप्त की जा सकती है यह दावा


इस दवा को प्राप्त करने के लिए मरीजों को डॉक्टर का प्रेस्किप्शन, आधार कार्ड की कॉपी एवम कोविड-19 की रिपोर्ट की कॉपी प्रदान करनी पड़ेगी।                    


प्रियंका गांधी ने योगी पर बोला हमला

लखनऊ। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा उत्तर प्रदेश में बेरोजगारी की समस्या को लेकर लगातार योगी सरकार पर हमला बोल रही हैं। इसी कड़ी में सोमवार को प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर यूपी सरकार से सवाल पूछा है। प्रियंका ने कहा कि यूपी में हर साल साइन होते हैं, लेकिन धरातल पर कुछ नहीं उतरता है।


प्रियंका गांधी वाड्रा की ओर से ट्वीट किया गया कि हर साल इन्वेस्टर्स समिट में MoU साइन होते हैं। करोड़ों लगाकर इन समिट में ये काम कागजी शेर बनने के लिए किया जाता है। उप्र में भयंकर बेरोजगारी है और आर्थिक तंगी की वजह से आत्महत्या कर रहे हैं। सरकार को ये बताना चाहिए कितने MoU धरातल पर उतरे? कितने युवाओं को रोजगार मिला?इससे पहले शनिवार को कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा था कि उत्तर प्रदेश में कोरोना और क्रा इम दोनों ही आउट ऑफ कंट्रोल है। प्रियंका गांधी वाड्रा ने ट्वीट किया, “उत्तर प्रदेश में जंगलराज फैलता जा रहा है, क्राइम और कोरोना कंट्रोल से बाहर है। बुलंदशहर में धर्मेन्द्र चौधरी जी का 8 दिन पहले अपहरण हुआ था, कल उनकी लाश मिली। कानपुर, गोरखपुर, बुलंदशहर, हर घटना में कानून व्यवस्था की सुस्ती है और जंगलराज के लक्षण हैं। पता नहीं सरकार कब तक सोएगी? “हर साल इन्वेस्टर्स समिट में MoU साइन होते हैं। करोड़ों लगाकर इन समिट में ये काम कागजी शेर बनने के लिए किया जाता है। उप्र में भयंकर बेरोजगारी है और आर्थिक तंगी की वजह से आत्महत्या कर रहे हैं। सरकार को ये बताना चाहिए कितने मो0 यू धरातल पर उतरे? कितने युवाओं को रोजगार मिला?


गाजियाबाद में स्वच्छता अभियान चलाया

अश्वनी उपाध्याय


गाजियाबाद। जिला प्रशासन के अनुसार रविवार को गाज़ियाबाद में एक विशेष स्वच्छता अभियान चलाया गया। इस अभियान के अंतर्गत शहर में जलभराव, स्वच्छ पेयजल की व्यवस्था के साथ फॉगिंग कराने पर जोर दिया गया। विशेष स्वच्छता अभियान की निगरानी के लिए जिले में नोडल अधिकारी सेंथिल पांडियन सी एवं गन्ना विकास विभाग के विशेष सचिव शिव सहाय अवस्थी कर रहे थे। समस्त ग्राम पंचायतों में स्वच्छता कार्यक्रम को सफल बनाने के उद्देश्य जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय के नेतृत्व में तथा मुख्य विकास अधिकारी अस्मिता लाल के निर्देशन में सभी ग्राम पंचायतों में स्वच्छता कार्यक्रम को प्रमुखता के साथ संचालित किया गया। जिलाधिकारी गाजियाबाद अजय शंकर पांडेय के नेतृत्व में स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण के अंतर्गत गंदगी मुक्त भारत अभियान संचालित किया गया। पंचायत राज विभाग के अधिकारियों, कर्मचारियों एवं स्वच्छता टीम के द्वारा ग्रामीणों को स्वच्छ भारत बनाने की प्रेरणा देने के उद्देश्य से स्वच्छता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण अंतर्गत 15 अगस्त तक साप्ताहिक गंदगी मुक्त भारत अभियान संचालित किया जा रहा है। इसी क्रम में रविवार को 161 ग्राम पंचायतों में सिंगल यूज प्लास्टिक का एकत्रीकरण एवं पृथक्कीकरण का अभियान चलाया जाएगा। जिला परामर्शदाता स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण पंचायती राज विभाग मोहम्मद फारूक के द्वारा भी क्षेत्रों में भ्रमण किया गया। उधर, नगर आयुक्त डॉ. दिनेश चंद्र सिंह ने बताया कि इस अभियान के अंतर्गत मोहन नगर जोन एवं कविनगर जोन में साफ-सफाई व्यवस्था का औचक निरीक्षण किया गया।


क्या है असलियत


अब तक तो हमने आपको सुनाई जिला सूचना विभाग द्वारा सुनाई गई कहानी।  वास्तविकता यह है कि गाज़ियाबाद के ज़्यादातर इलाकों में गंदगी के अंबार लगे पड़े हैं।  राज नगर एक्सटेंशन, बुलंदशहर रोड इंडस्ट्रियल, इंदिरापुरम के खाली प्लाटों पर खुद नगर निगम के कर्मचारी गंदगी डाल कर भाग जाते हैं।  बहुत से इलाकों में सुनसान सड़कों के किनारे भी कूड़ा डाला जा रहा है। ऐसे में क्या आप जिला प्रशासन के इस अभियान को सफल मानेंगे?       


गाजियाबाद में टीकाकरण अभियान शुरू

अश्वनी उपाध्याय


गाजियाबाद। जनपद में बच्चों की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने को विटामिन ए और निमोनिया से बचाव के लिए न्यूमोकॉकल कंजूगेट वैक्सीन देने के लिए आज से अभियान शुरू हो गया है। बता दें कि न्यूमोकॉकल कंजूगेट वैक्सीन को जनपद में पहली बार नियमित टीकाकरण अभियान में शामिल किया जा रहा है। न्यूमोकॉकल कंजेंवगेट वैक्सीन (पीसीवी) शिशुओं को न सिर्फ निमोनिया बल्कि सेप्सिस (खून का इंफेक्शन), बैक्टीरीयल मेनिनजाइटिस (दिमागी बुखार) से भी बचाएगा। इस वैक्सीन को लेकर स्वास्थ्य कर्मियों को जिला स्तर से लेकर सीएचसी-पीएचसी स्तर तक ट्रेनिंग दी जा चुकी है। जिला प्रतिरक्षण अधिकारी ने बताया पीसीवी हर बच्चे को डेढ़ माह, साढ़े तीन माह और नौ माह की आयु होने पर दिया जाएगा। नौ माह पर दी जाने वाली बूस्टर खुराक होगी। जनपद को वैक्सीन की आपूर्ति मिल चुकी है। इस टीके के बाद निमोनिया से होने वाली शिशु मृत्यु दर में निश्चित तौर पर कमी आएगी। जनपद में करीब एक लाख बच्चों को यह वैक्सीन दी जाएगी। उन्होंने बताया अभी तक इस वैक्सीन को प्रदेश के 19 जिलों में नियमित टीकाकरण में दिया जा रहा था लेकिन अब इसे बाकी 56 जनपदों में भी शुरू किया जा रहा है। बाजार में यह वैक्सीन करीब तीन हजार रूपए की है, स्वास्थ्य विभाग इसे निशुल्क बच्चों को देगा। डीआईओ ने बताया निमोनिया बीमारी एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में खांसने और छींकने से फैलती है। यह बैक्टीरिया पांच साल से छोटे बच्चों, खासकर दो साल से छोटे बच्चों, कम प्रतिरोधक क्षमता वाले बच्चों एवं वृद्धों को बीमार कर सकता है।


भुगतान करने पर सवालिया निशान लगाया

अश्वनी उपाध्याय


गाज़ियाबाद। जनपद में राज नगर से निगम पार्षद एवं भाजपा के वरिष्ठ नेता राजेंद्र त्यागी ने पिछले दिनों शासन द्वारा एक एलईडी कंपनी को तय रकम से दो गुने से अधिक भुगतान करने पर सवालिया निशान लगाया है। इस मसले पर उन्होंने पत्रकारों से वार्ता में बताया कि जिस एलईडी कंपनी को शासन ने भुगतान किया है उसे 2018 में ही नगर निगम के सदन ने ब्लैक लिस्ट कर दिया था। इस मामले में शासन के वरिष्ठ अधिकारियों के दबाव में संबंधित कंपनी को भुगतान करने के लिए जांच के बाद संस्तुति की थी। इसके बावजूद संस्तुति से अधिक रकम भुगतान करने के मामले की जांच कराने की मांग की गई है।दरअसल नगर निगम ने कुछ वर्ष पूर्व ऊर्जा की बचत के लिए एक कंपनी को पूरे शहर में एलईडी लाइट लगाने का ठेका दिया गया था। मैसर्स व्हाईट प्लाकार्ड लिमिटेड नाम की इस कंपनी को यह ठेका जनवरी 2016 में दिया गया था। इस कंपनी के बारे में शिकायत मिली थी कि जितनी एलईडी लाईटें लगाने का दावा किया गया था वह मौके पर नहीं लगी थी। कंपनी को 50,214 लाइटें लगानी थीं, जबकि कंपनी अपने द्वारा 48,113 नग लाइटें लगाना दर्शाया था। इस मामले में बवाल होने पर प्रकाश निरीक्षकों से सत्यापन कराने पर पता चला कि कंपनी ने केवल 42,966 एलईडी लाइटें लगाई हैं। इस मामले की और बारीकी से जांच करने पता चला कि कंपनी ने नई लाईटें लगाने के बदले में स्टोर में केवल 35,388 पुरानी लाइटें जमा कराई थीं। इस मामले में अनियमितता पाए जाने पर कंपनी को नगर निगम बोर्ड की बैठक में 27 अगस्त 2018 को काली सूची में डाल दिया था। भाजपा पार्षद राजेन्द्र त्यागी ने बताया कि काली सूची में जाने के बाद भी कंपनी ने 2017 से 2019 के बीच कुल बिजली के बचत का 75 फीसदी हिस्सा भुगतान के लिए निगम के सामने रखा। निगम ने बारीकी से जांच के बाद शासन के दबाव में संबंधित कंपनी को 3 करोड़ 37 लाख रुपये भुगतान करने की संस्तुत की। बावजूद इसके शासन द्वारा संबंधित कंपनी को करीब 8 करोड़ 97 लाख का भुगतान कर दिया। यह निर्धारित रकम से दोगुनी से अधिक है।ऐसे में संबंधित फर्म को आर्थिक लाभ तो पहुंचाया गया लेकिन नगर निगम के हितों का ख्याल नहीं रखा गया। निगम पार्षद राजेंद्र त्यागी ने कहा कि निगम के पैसे को शासन ने दबाव में संबंधित फर्म को भुगतान कर दिया लेकिन इसका आर्थिक नुकसान निगम को होगा। इस मामले की जांच निष्पक्ष एजेंसी से कराने की मांग रखी है।         


यातायात पुलिस ने एडवाइजरी जारी की

अश्वनी उपाध्याय


गाजियाबाद। स्वतंत्रता दिवस के मद्दे नजर गाज़ियाबाद यातायात पुलिस ने एड्वाइजरी जारी कर दी है।  इन दिशानिर्देशों के अनुसार ड्रेस रिहर्सल के दौरान 12/ 13 अगस्त की रात 12 बजे से सुबह 11 बजे तक गाज़ियाबाद-दिल्ली बार्डर बंद रहेंगे।  इसी प्रकार 14/15 अगस्त की रात 12 बजे से सुबह 11 बजे तक भी बार्डर बंद रहेगा। इस दौरान यातायात में निम्न प्रकार डायवर्जन किया गया है।


भारी वाहनों और व्यावसायिक वाहनों (ट्रक, कैंटर, बसें, मिनी बसें, टाटा 407 आदि) गाज़ियाबाद से दिल्ली की सीमा में प्रवेश नहीं कर सकेंगे। यात्री बसें जो यूपी गेट से दिल्ली की तरफ जाती हैं, मोहन नगर की तरफ डायवर्ट कर दी जाएंगी। इन बसों को दिल्ली में प्रवेश नहीं मिलेगा। जो यात्री बसे सीमपुरी-अप्सरा बार्डर से दिल्ली में प्रवेश करती हैं, उन्हें मोहन नगर से वापस कर दिया जाएगा। ये बसें भी दिल्ली में प्रवेश नहीं कर सकेंगी। तुलसी निकेतन बार्डर की ओर से दिल्ली में प्रवेश करने वाले सभी भारी/व्यावसायिक वाहनों और यात्री बसों को भौपुरा यू टर्न से वापस कर दिया जाएगा। लोनी बार्डर से दिल्ली में प्रवेश करने वाले सभी भारी वाहनों, व्यावसायिक वाहनों और यात्री बसों को लोनी तिराहे से बागपत की ओर डायवर्ट कर दिया जाएगा।


डीएलएफ़ पुश्ता की ओर से भी दिल्ली में समस्त भारी/व्यावसायिक वाहनों और यात्री बसों के प्रवेश पर पाबंदी रहेगी।


उत्तराखंडः संक्रमित संख्या में आई तेजी

देहरादून। अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान एम्स ऋषिकेश में पिछले 24 घंटे में विभिन्न गंभीर रोगों से ग्रसित दो कोविड पॉजिटिव पेशेंट की मौत हो गई। उत्तराखंड में अगस्त के महीने में कोरोना संक्रमितों की मौत का आंकड़ा तेजी से बढ़ा है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी बुलेटिन के अनुसार प्रदेश में 31 जुलाई तक 80 लोगों की मौत हुई थी। वहीं 9 अगस्त को जारी रिपोर्ट तक 125 तक आंकड़ा पहुँच गया। यानि अगस्त माह में इन 10 दिनों में ही 45 से अधिक लोगों की जान गई है। इसके अलावा 26 लोगों की कोविड सेंपल रिपोर्ट पॉजिटिव आई है, इनमें 12 स्थानीय लोग भी शामिल हैं। संस्थान की ओर से इस बाबत स्टेट सर्विलांस ऑफिसर को सूचित कर दिया गया है।


एम्स के जनसंपर्क अधिकारी हरीश मोहन थपलियाल ने बताया कि ज्वालापुर, हरिद्वार निवासी 75 वर्षीय व्यक्ति जो कि गले में दर्द, खांसी, बुखार व सांस लेने की तकलीफ की शिकायत पर बीती 8 अगस्त को एम्स इमरजेंसी में आया था, जिसका कोविड सेंपल लिया गया जो कि पॉजिटिव पाए जाने पर उसे कोविड वार्ड में भर्ती किया गया था। जहां रविवार की देर रात उक्त मरीज की उपचार के दौरान मौत हो गई।


दूसरा मामला बिजनौर का है। मोहल्ला चासरी, बिजनौर उत्तरप्रदेश निवासी 30 वर्षीया महिला जो कि सड़क दुर्घटना में घायल होने पर बीते माह 19 जुलाई को एम्स इमरजेंसी में आई थी। महिला के सिर में गहरी चोट थी,जिसका कोविड सेंपल पॉजिटिव पाया गया था। कोविड वार्ड में भर्ती उक्त महिला की रविवार मध्यरात्रि में उपचार के दौरान मौत हो गई।


इसके अलावा 26 मरीजों की रिपोर्ट को​विड पॉजिटिव आई है। दयानंद मार्ग चंद्रेश्वरनगर,ऋषिकेश निवासी 25 वर्षीय पुरुष जो कि बीती 8 अगस्त को एम्स की ओपीडी में आया था। जिसे बुखार, खांसी व सांस लेने में दिक्कत आदि शिकायत थी, इसकी सेंपल रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर उसे नजदीकी सीसीसी सेंटर में भर्ती होने को कहा गया है।


दूसरा मामला हरिधाम कॉलोनी, हनुमान मंदिर गुमानीवाला निवासी 25 वर्षीय पुरुष जो कि बुखार, शरीर में दर्द व सांस लेने में तकलीफ की शिकायत पर बीती 5 अगस्त को एम्स इमरजेंसी में आया था। जिसका एम्स में लिया गया सेंपल कोविड पॉजिटिव पाए जाने पर उसे कोविड वार्ड में भर्ती कर दिया गया।


इसके अलावा चंद्रेश्वरनगर ऋषिकेश निवासी एक 27 वर्षीय महिला, एक 28 वर्षीय महिला व एक 9 वर्षीय किशोरी का एम्स ओपीडी में 8 अगस्त को लिया गया सेंपल पॉजिटिव आया है। साथ ही चंद्रेश्वरनगर ऋषिकेश निवासी एक 12 वर्षीय किशोर, 11 वर्षीया किशोरी, 35 वर्षीय पुरुष, 30 वर्षीय पुरुष व एक अन्य 11 वर्षीय किशोरी का बीते शनिवार को लिया गया सेंपल कोविड पॉजिटिव पाया गया है।


चंद्रेश्वनगर की ही रहने वाली 60 साल की महिला व 8 वर्षीय किशोर का भी 8 अगस्त को एम्स में लिया गया कोविड सेंपल पॉजिटिव पाया गया है, लिहाजा उक्त सभी लोगों को नजदीकी कोविड केयर सेंटर में भर्ती होने को कहा गया है। गौरतलब है कि चंद्रेश्वरनगर क्षेत्र के रहने वाले उक्त सभी 10 लोग इसी क्षेत्र के एक ही कोविड पॉजिटिव व्यक्ति के प्राइमरी कांटेक्ट में आकर कोरोना संक्रमित हुए हैं। ज्वालापुर, हरिद्वार निवासी 48 वर्षीय पुरुष का 8 अगस्त एम्स ओपीडी में लिया गया कोविड सेंपल पॉजिटिव पाया गया है,जिसे सीसीसी सेंटर में भर्ती होने कहा गया है। गौरतलब है कि उक्त व्यक्ति अपने कोविड संक्रमित पिता के प्राइमरी कांटेक्ट में रहा है, उक्त व्यक्ति के कोविड संक्रमित पिता की उपचार के दौरान मौत हो चुकी है। सिविल लाईन, रामपुर उत्तरप्रदेश निवासी एक 35 वर्षीय महिला जो कि एम्स में भर्ती अपने कोविड पॉजिटिव पति की अटेंडेंट हैं। महिला का बीते शनिवार को कोविड सेंपल लिया गया, जिसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।


डोभालवाला, देहरादून निवासी 45 वर्षीय पुरुष जो कि एम्स में भर्ती एक अन्य मरीज का अटेंडेंड है,जिसका शनिवार को ओपीडी में लिया गया कोविड सेंपल पॉजिटिव आया है, साथ ही शांतिकृपाल आश्रम, रवाली महदूद निवासी 43 वर्षीय पुरुष जो कि बीती 8 अगस्त को बुखार व सांस लेने में तकलीफ की शिकायत पर एम्स इमरजेंसी में आया था,जिसका कोविड सेंपल पॉजिटिव पाए जाने पर उसे कोविड वार्ड में भर्ती किया गया है। टीचर कॉलोनी, देवबंद सहारनपुर यूपी निवासी 53 वर्षीय पुरुष जो कि बीते शनिवार को बुखार, खांसी व सांस लेने में दिक्कत होने पर एम्स इमरजेंसी में आया था, जिसका सेंपल पॉजिटिव आने पर उसे कोविड वार्ड में भर्ती कर दिया गया। गुण गुरपुर, हरिद्वार निवासी 50 वर्षीय पुरुष जो ​कि एम्स में भर्ती एक अन्य मरीज का अटेंडेंट है, कोविड पॉजिटिव पाया गया है, जबकि एक अन्य मूसीपुर, बिजनौर निवासी 55 वर्षीया महिला जो कि बीती 8 अगस्त को इमरजेंसी में आई थी, उक्त महिला को खांसी व सांस लेने में तकलीफ की शिकायत पर उसका कोविड सेंपल लिया गया,जिसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर उसे कोविड वार्ड में भर्ती किया गया।


नगीना, बिजनौर निवासी 30 वर्षीय पुरुष जो कि बीते रविवार को छाती में दर्द, उल्टी व सांस लेने में तकलीफ की शिकायत पर इमरजेंसी में आया,जिसकी रिपोर्ट कोविड पॉजिटिव आने पर उसे भर्ती किया गया है। सहारनपुर, यूपी निवासी 49 वर्षीय महिला जो कि 8 अगस्त को सांस लेने में तकलीफ होने पर इमरजेंसी में आई थी,जिसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है, उसे कोविड वार्ड में भर्ती किया गया है। ईमानजयी, सहारनपुर निवासी 52 वर्षीय पुरुष जो कि सांस लेने में तकलीफ होने पर 8 अगस्त को इमरजेंसी में आया था, उसे पॉजिटिव पाए जाने कोविड वार्ड में भर्ती किया गया है। रुड़की, हरिद्वार की 58 साल की महिला जो कि 9 अगस्त को इमरजेंसी में आई थी, जिसका सांस लेने में तकलीफ व गले में दर्द की शिकायत पर कोविड सेंपल किया गया,पॉजिटिव पाए जाने पर उसे कोविड वार्ड में भर्ती किया गया।


इसके अलावा ज्वालापुर, हरिद्वार निवासी 56 वर्षीय पुरुष सांस लेने में तकलीफ, गले में दर्द की शिकायत पर बीते रविवार को इमरजेंसी में आया,जिसका सेंपल पॉजिटिव आने पर उसे कोविड वार्ड में भर्ती किया गया। कैथल, संभल हरियाणा निवासी 43 साल की महिला जो कि यहां भर्ती एक अन्य मरीज की अटेंडेंट है, 8 अगस्त को महिला का लिया गया सेंपल पॉजिटिव पाया गया है। धामपुर, बिजनौर यूपी निवासी 55 वर्षीय महिला जिसका एम्स में ब्रेस्ट कैंसर का उपचार चल रहा है, जो कि8 अगस्त को फॉलोअप के लिए एम्स में आई थी। जहां इसका कोविड सेंपल लिया गया जो कि पॉजिटिव पाया गया है। कोविड पॉजिटिव इस महिला के बाबत एम्स की ओर से मुख्य चिकित्सा अधिकारी बिजनौर को सूचित कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि उक्त सभी कोविड पॉजिटिव रोगियों के बाबत स्टेट सर्विलांस ऑफिसर को अवगत करा दिया गया है।         


नेपाल में भी राम मंदिर बनाने का प्लान

काठमांडू। नेपाल में जारी राजनितिक संकट के बीच प्रधानमंत्री के पी शर्मा ओली कुछ ना कुछ ऐसा बयान दे देते हैं जिससे वे चर्चा में आ जाते हैं। इस बार उन्होंने अपने देश में भगवान राम का भव्य मंदिर निर्माण करवाने की बात कह दी है। यदि आपको याद हो तो इससे पहले उन्होंने राम का जन्मस्थान नेपाल में होने का दावा किया था। नेपाल की सरकारी समाचार एजेंसी राष्ट्रीय समाचार समिति की मानें तो प्रधानमंत्री ओली ने फोन करके ठोरी और माडी के स्थानीय जनप्रतिनिधियों को काठमांडू बुलाकर भगवान श्रीराम की जन्मभूमि पर भव्य मंदिर बनाने के लिए सभी आवश्यक तैयारी करने का निर्देश दे डाला। प्रधानमंत्री ओली ने ठोरी के पास स्थित माडी नगरपालिका का नाम बदलकर अयोध्यापुरी रखने का आदेश भी दिया है। यही नहीं वहां के आसपास के स्थानों का अधिग्रहण कर अयोध्या के रूप में विकसित करने की योजना ओली बना रहे हैं। उनका प्लान राम के जन्मस्थान पर भव्य राम मंदिर का निर्माण और राम-सीता और लक्ष्मण की बड़ी प्रतिमा स्थापित करने का है। राष्ट्रीय समाचार समिति के अनुसार प्रधानमंत्री ओली ने इस दशहरे में नवमी के अवसर पर भूमि पूजन करने का निर्णय लिया है। इसके बाद मंदिर निर्माण का काम शुरू हो जाएगा। मंदिर निर्माण के लिए नेपाल सरकार की तरफ से आर्थिक सहयोग करने का आश्वासन भी दिया गया है। प्रधानमंत्री ओली ने कहा है कि अयोध्यापुरी के साथ ही रामायण से जुड़े आसपास के क्षेत्रों को भी विकसित करने का काम किया जाएगा।


ओली का दावा : कुछ दिन पहले नेपाली प्रधानमंत्री ओली ने नेपाल के ठोरी के पास रहे अयोध्यापुरी में भगवान राम का जन्मस्थान होने का दावा किया था जिसकी चर्चा मीडिया में बहुत जोरों पर हुई थी। उन्होंने कहा था कि राम का असली जन्मस्थान नेपाल है। भारत सांस्कृतिक अतिक्रमण करते हुए गलत तथ्य के आधार पर उत्तर प्रदेश के अयोध्या को राम का असली जन्मस्थान बताने पर तुला हुआ है। भारत में हुआ था विरोध : प्रधानमंत्री ओली के उक्त बयान का भारत के साथ-साथ खुद उनके देश में भी जबरदस्त विरोध हुआ था। नेपाल में आम जनता ने भी ओली के बयान को अटपटा बताया था। खुद ओली की पार्टी के नेता भी उनके बयान का विरोध करते नजर आये थे।

देवघरः गैस ने ली 6 लोगों की जान

देवघर। देवघर के देवीपुर प्रखंड में सुबह नवनिर्मित सेप्टिक टैंक में दम घुटने से मकान मालिक समेत 6 लोगों की मौत हो गई है। मृतकों में जमींदार का भाई भी मौजूद है। साथ ही, मरने वाले 4 मजदूरों में एक ही परिवार के 3 लोग, पिता और 2 बेटे मौजूद थे। जहां पता चला कि ब्रजेश चंद बर्णवाल द्वारा देवीपुर मेन मार्केट के पास एक नया सेप्टिक टैंक बनाया जा रहा था। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, रविवार की सुबह, एक मजदूर पहले केंद्र खोलने के लिए टैंक में उतरा। लंबे समय तक बाहर नहीं आने के बाद, एक अन्य मजदूर भी टैंक में उतरा लेकिन इस बार भी वह वापस नहीं आया। इसके अलावा, दो अन्य कार्यकर्ता भी एक-एक करके अंदर गए। मकान मालिक और उसका भाई टैंक में उतरे, ताकि उनके बाहर न आने पर कार्रवाई की जा सके।


जिसके बाद ग्रामीण इस मामले से अवगत हुए। घटना की जानकारी ग्रामीणों ने पुलिस को दी। जेसीबी की मदद से पुलिस ने टैंक को तोड़ा और बेहोशी में फंसे सभी 6 लोगों को टैंक से बाहर निकाल दिया गया है। उन्हें एम्बुलेंस द्वारा सदर अस्पताल लाया गया, जहाँ डॉक्टरों ने सभी को मृत घोषित कर दिया। इस दुर्घटना की सूचना मिलते ही उपायुक्त कमलेश्वर प्रसाद भी सदर अस्पताल पहुंचे और परिजनों, पुलिस अधिकारियों और डॉक्टरों से जानकारी ली। डीसी ने घटना को दुखद बताया और सरकारी प्रावधान के अनुसार मारे गए लोगों के परिवारों को सहायता प्रदान करने की घोषणा की। मृतकों के नाम: हादसे में मरने वालों में गोविंद मांझी और उनके बेटे बबलू मांझी और देवीपुर थाना क्षेत्र के कोल्हड़िया गांव के लालू मांझी शामिल हैं, इसके अलावा विरहा कट्टा के एक अन्य मजदूर लीलु मुर्मू भी शामिल हैं। घटना में मालिक ब्रजेश चंद बर्णवाल और उनके भाई मिथिलेश चंद बर्णवाल भी मारे गए हैं।           


भारत के लिए रूपरेखा पेश करेंगे 'पीएम'

नई दिल्ली। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने रविवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 15 अगस्त को लाल किले की प्राचीर से राष्ट्र को अपने संबोधन में, आत्मनिर्भर भारत के लिए एक नया रोडमैप पेश करेंगे। रक्षा मंत्री ने कहा कि मोदी के आत्मनिर्भर भारत की पहल के कार्यान्वयन के लिए सरकार के विभिन्न विभाग और मंत्रालय गंभीरता से काम कर रहे हैं और यह महात्मा गांधी के स्वदेशी पर जोर देने के लिए एक नया आयाम देने का प्रयास है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, सिंह ने स्वतंत्रता सेनानी और क्रांतिकारी उधम सिंह को श्रद्धांजलि देने के लिए आयोजित एक ऑनलाइन कार्यक्रम में यह बात कही। आत्मनिर्भरता की पहल के बारे में बात करते हुए, उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस महामारी ने दिखाया है कि यदि कोई देश आत्मनिर्भर नहीं है, तो वह अपनी संप्रभुता का प्रभावी ढंग से बचाव करने में सक्षम नहीं हो सकता है।


रक्षा मंत्री ने कहा, "हमारी सरकार ने किसी भी कीमत पर भारत के स्वाभिमान और संप्रभुता को नुकसान नहीं पहुंचने दिया है। सिंह ने कहा," स्वतंत्रता दिवस पर लाल किले की प्राचीर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने संबोधन में देश के सामने पेश करेंगे। एक आत्मनिर्भर भारत के लिए एक नई रूपरेखा। उन्होंने रक्षा मंत्रालय के 101 सैन्य हथियारों और उपकरणों के आयात पर प्रतिबंध लगाने के फैसले का उल्लेख करते हुए कहा कि रक्षा उत्पादन में आत्मनिर्भरता को प्रोत्साहित करने के लिए बड़े और कठोर निर्णय लिए जा रहे हैं। रक्षा मंत्री ने कहा कि अब भारत में बड़े हथियार सिस्टम बनाए जाएंगे और देश रक्षा विनिर्माण का केंद्र बनने के लिए उन्हें निर्यात करने की संभावना तलाशेंगे। घरेलू रक्षा उद्योग को बढ़ावा देने के लिए एक महत्वपूर्ण पहल में, रक्षा मंत्री ने रविवार सुबह 2024 तक 101 हथियारों और सैन्य उपकरणों के आयात पर स्थगन की घोषणा की। इनमें हल्के लड़ाकू हेलीकॉप्टर, कार्गो विमान, पारंपरिक पनडुब्बी और क्रूज मिसाइल शामिल हैं।            


विस्फोट में मरने वालों की संख्या-200

बेरूत। बेरूत के बंदरगाह पर पिछले हफ्ते हुए विस्फोटों में मरने वालों की संख्या बढ़कर 200 हो गई है। इसकी जानकारी सोमवार लेबनान की राजधानी के गवर्नर मारवान अबाउद ने दी। बीबीसी की रिपोर्ट के मुताबिक, अबाउद ने कहा कि दर्जनों लोग अभी भी लापता हैं, उनमें से कई विदेशी कर्मचारी हैं, जबकि घायलों की संख्या 7,000 से अधिक हो गई है।


इस बीच सेना ने विस्फोटों का केंद्र बंदरगाह पर अपने खोज, बचाव अभियान को बंद कर दिया है। नए आंकड़े दो दिन बाद सामने आए हैं, क्योंकि सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे लोगों से पुलिस की झड़प हो गई थी। इस मामले में एक कैबिनेट मंत्री और कई सांसदों ने अपना इस्तीफा दे दिया, जिसके बावजूद लोगों का रोष शांत नहीं हुआ। लोगों ने नेताओं पर राजनीति मिली भगत और कुप्रबंधन का आरोप लगाया है।           

कैरोलिना में 5.1 तीव्रता का भूकंप आया

रैलीघ। उत्तर कैरोलिना में 5.1 तीव्रता का भूकंप आया। यह सौ साल में ऐसा पहली बार है कि जब यहां पर भूकंप के इतने तेज झटके महसूस किए गए। ग्रीनविले में नेशनल वेदर सर्विस के अनुसार इस झटके के कुछ घंटे पहले ही एक छोटा झटका आया था।


अभी तक इसमें किसी के घायल होने की कोई खबर सामने नहीं आई है। हालांकि स्पार्टा में कुछ इमारतों को नुकसान पहुंचा है। सड़कों में दरारें देखी गईं। वहीं मार्केट में सामान को नीचे गिरे पड़े दिखाई दिए। सोशल मीडिया पर ऐसी कई तस्वीरें सामने आईं हैं, जहां पर कई दुकानों को नुकसान भी पहुंचा। एक प्रत्यक्षदर्शी ने बताया कि वे घर के पास ही खड़े थे। जब उन्होंने कुछ जानवरों के झुंड को भागते देखा। उन्होंने बताया कि एक मिनट भी नहीं बीता था कि धरती में कंपन महसूस होने लगी। केरल बेकर ने कह कि इस दौरान घरों से बाहर निकल आए। गौरतलब है कि बीते एक हफ्ते में तूफान और फिर भूकंप जैसे आपदाएं देखने को मिल रहीं हैं। हाल में आया भूकंप वर्जीनिया, दक्षिण कैरोलिना तथा टेनेसी में भी एहसास किया गया। इससे पहले, राज्य में 1916 में 5.5 तीव्रता का भूकंप आया था।           


पूर्व राष्ट्रपति की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव

नई दिल्ली। भारत के पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी कोरोना पॉजिटिव पाये गए हैं। उनकी कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।


प्रणब मुखर्जी ने खुद ट्वीट कर इसकी जानकारी दी। उन्होंने लिखा कि मैं कोरोना वायरस पॉजिटिव पाया गया हूं। पिछले एक हफ्ते में जो भी लोग मेरे संपर्क में आए हैं, मैं उनसे अपील करता हूं कि वो सभी टेस्ट करवाएं और आइसोलेट हो जाए।


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

यूनिवर्सल एक्सप्रेस   (हिंदी-दैनिक)


 अगस्त 11, 2020, RNI.No.UPHIN/2014/57254


1. अंक-362 (साल-01)
2. मंगलवार, अगस्त 11, 2020
3. शक-1943, भाद्रपद, कृष्ण-पक्ष, तिथि-षष्टी, विक्रमी संवत 2077।


4. सूर्योदय प्रातः 05:15,सूर्यास्त 07:15


5. न्‍यूनतम तापमान 27+ डी.सै.,अधिकतम-39+ डी.सै.। आद्रता बनी रहेगी।


6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7. स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहींं है।


8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।


9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.,201102


www.universalexpress.in


https://universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :-935030275


(सर्वाधिकार सुरक्षित)                     


5 मिनट के अंदर गोल करके कैडिज को जीत दिलाईं

मैड्रिड। कैडिज ने सेल्टा विगो को 2-1 से हराकर स्पेनिश फुटबॉल लीग ला लिगा में हार का क्रम तोड़कर वर्तमान सत्र में अपनी पहली जीत दर्ज की। एंथन...