शनिवार, 10 सितंबर 2022

स्वास्थ्य: शरीर के लिए बेहद फायदेमंद हैं 'सिंघाड़ा'

स्वास्थ्य: शरीर के लिए बेहद फायदेमंद हैं 'सिंघाड़ा'

सरस्वती उपाध्याय 

सिंघाड़े फाइबर, पोटेशियम, मैंगनीज और कई अन्य पोषक तत्वों से भरपूर होते है, जो आपके शरीर के लिए बेहद फायदेमंद होते हैं। ये एक सीजनल फल हैं, जिसका मौसम अब काफी नजदीर हैं। रिपोर्ट्स की मानें तो कच्चा सिंघाड़ा खाने से पाइल्स के कारण हो रही ब्लीडिंग और दर्द को कम करने में मदद मिल सकती हैं। इसके अलावा ये प्रेग्नेंसी में मां और बच्चे दोनों के लिए फायदेमंद होते हैं।

सिंघाड़े के फायदे...

1) हार्ट हेल्थ के लिए फायदेमंद...
हाई ब्लड प्रेशर से हार्ट हेल्थ का खतरा बढ़ जाता है, लेकिन सिंघाड़ा ब्लड प्रेशर को कम करने में बहुत मदद करता है। सिंघाड़ा पोटेशियम से भरपूर होता है, इसलिए यह सोडियम के इफेक्ट को कम करता है, जिससे ब्लड प्रेशर कम होता है। ये खराब कोलेस्ट्रॉल के लेवल को भी कम करता है। ऐसे में ये हार्ट के लिए एक अच्छा फल है।

2) स्ट्रेस कम...
ये विटामिन बी6 से भरपूर होता है, जो स्ट्रेस को कम करने और आपके मूड को बेहतर बनाने के लिए जाना जाता है। इसके अलावा ये आपकी नींद की क्वालिटी में सुधार करता है।

3) कम करता है कैंसर का खतरा...
इसमें काफी एंटीऑक्सीडेंट होते हैं, जो आपके शरीर में फ्री रेडिकल्स से लड़ने में मदद कर सकते हैं। इसके अलावा जर्नल ऑफ फूड साइंस में प्रकाशित एक अध्ययन से यह भी पता चलता है कि सिंघाड़ों में मौजूद एंटीऑक्सिडेंट फ्री रेडिकल्स के प्रभाव को कम कर सकते हैं, जिससे कैंसर का खतरा कम हो जाता है।

4) वजन घटाने में मददगार...
इसमें कैलोरी की मात्रा कम होती है और फाइबर की मात्रा ज्यादा ऐसे में ये वजन घटाने के लिए अच्छा हो सकता है। फाइबर को पचने में थोड़ा समय लगता है, इसलिए यह आपको लंबे समय तक भरा हुआ रखता है। यह भी पढ़ें:Weight loss: फटाफट वजन घटाने के लिए छोड़ दिया है तेल? जानिए क्या कहते हैं एक्सपर्ट

5) न्यूट्रिएंट की होती है भरपूर मात्रा...
अगर आप स्ट्रिक्ट लो कैलोरी डायट पर हैं तो आप सिंघाड़ों को डायट में शामिल कर सकते हैं। 100 ग्राम सिंघाड़े में केवल 97 कैलोरी होती है और फैट भी काफी कम होता है। इसके अलावा यह फाइबर, पोटेशियम, मैंगनीज और कई अन्य पोषक तत्वों से भी भरपूर होता है जो आपके शरीर के लिए फायदेमंद होते हैं।

न्यूट्रिशियनिस्ट ने भी बताए इसके लाजवाब फायदे...
हेल्थ के लिए सिंघाड़े काफी ज्यादा फायदेमंद होते हैं। इसनें पोषक तत्वों की भरपूर मात्रा होती हैं। न्यूट्रिशियनिस्ट लवनीत ने अपने हालिया इंस्टाग्राम पोस्ट में सिंघाड़ों के फायदों के बारे में बताया है। 

हार्ट हेल्थ- पोटेशियम से भरपूर सिंघाड़े हाई ब्लडप्रेशर और स्ट्रोक जैसे हार्ट की परेशानी के जोखिम वाले कारकों को कम करता हैं। इसके अलावा इसमें पोटेशियम की मात्रा होती है जो ब्लडप्रेशर को कम करने में मदद कर सकते हैं ऐसे में ये दिल की बीमारियों के खतरे को कम कर सकते हैं।

ट्यूमर ग्रोथ को स्लो करता है – इसमें फेरुलिक एसिड नामक एक एंटीऑक्सिडेंट होता है। कुछ रिपोर्ट्स कहती हैं कि फेरुलिक एसिड कैंसर कोशिकाओं के विकास को कम करने या स्लो करने में मदद कर सकती है।

सूजन – सिंघाड़ों में फाईसेटिन, डायोस्मेटिन, ल्यूटोलिन और टेक्टोरिजिनिन सहित एंटीऑक्सिडेंट होते हैं, जो डेड सेल्स की मरम्मत और सूजन को कम करने में मदद कर सकते हैं।

बालों के लिए बेहतरीन- सिंघाड़े बालों के स्वास्थ्य में सुधार करते हैं क्योंकि इनमें जरूरी पोषक तत्व होते हैं जो बालों के लिए फायदेमंद होते हैं। 

तीर्थ स्थलों की पदयात्रा पर निकले नौजवान, स्वागत

तीर्थ स्थलों की पदयात्रा पर निकले नौजवान, स्वागत 


अखिल भारतीय हिंदू शक्ति दल ने 11000 हजार किलोमीटर से अधिक की पद यात्रा पर निकले नौजवानों का किया मुजफ्फरनगर में स्वागत

भानु प्रताप उपाध्याय 

मुजफ्फरनगर। शनिवार को अखिल भारतीय हिंदू शक्ति दल मुजफ्फरनगर के पदाधिकारियों ने 11000 किलोमीटर से अधिक की तीर्थ स्थलों की पदयात्रा पर निकले मेरठ जनपद की मवाना तहसील के गांव ततिना के नौजवानों आयुष ठाकुर आकाश एवं दीपक का फूल मालाओं से स्वागत किया एवं उनका मिष्ठान खिलाकर मुंह मीठा कराया। आयुष ठाकुर एवं आकाश नाम के दो नौजवान, जिन्होंने 1 अगस्त को मवाना कस्बे के एक गांव से उत्तर प्रदेश के सभी तीर्थ स्थलों की पैदल यात्रा कराने की अपनी यात्रा शुरू की थी, आज यह युवक वेदा बद्रीनाथ केदारनाथ गंगोत्री यमुनोत्री की पैदल यात्रा पूर्ण कर मुजफ्फरनगर जनपद में पहुंचे। दीपक नाम का तीसरा नौजवान इनके साथ मोटरसाइकिल पर चल रहा है।

मुजफ्फरनगर के कंपनी बाग वाटिका मैं अखिल भारतीय हिंदू शक्ति दल के पदाधिकारियों ने इन दोनों नौजवानों का गर्मजोशी से माल्यार्पण कर स्वागत किया एवं उनकी हौसला अफजाई की। मुजफ्फरनगर के आगे अब यह नौजवान 9 ज्योतिर्लिंगों की यात्रा पूर्ण करेंगे। यह यात्रा 11000 किलोमीटर से अधिक होने की संभावना है। अनुमान है कि इस यात्रा को पूर्ण करने में तकरीबन 1 वर्ष का समय इन नौजवानों को लगेगा। अखिल भारतीय हिंदू शक्ति दल के पदाधिकारियों ने इन युवकों की सुखद यात्रा के लिए शुभकामनाएं दी। अखिल भारतीय हिंदू शक्ति दल की ओर से अरुण प्रताप सिंह, डॉक्टर संजीव शर्मा ,हेमंत ग्रोवर, पवन मित्तल रमेश पांचाल सतीश मलिक ,पंकज ठाकुर, अभिनव कुमार ,विजय कुमार,  नितिन पुंडीर. अमन सिंह, विहान सिंह, गौरव सिंह, अंकित कुमार ,सुमित कुमार. गोलू चौहान,राजीव पुंडीर ,धर्म सिंह , सनी सागर एवं मनोज चौहान आदि पदाधिकारी उपस्थित रहे।

इनामी नक्सली ने पत्नी के साथ आत्मसमर्पण किया 

इनामी नक्सली ने पत्नी के साथ आत्मसमर्पण किया 

दुष्यंत टीकम 

बीजापुर। जिले में 10 लाख के इनामी नक्सली लालू मोडियामी ने पत्नी के साथ आत्मसमर्पण किया है। लालू मोडियामी झारखंड रीजनल कमेटी का सदस्य था। बीजापुर के पेद्दा कोरमा का रहने वाला लालू साल 2009 में गंगालूर एरिया कमेटी में पीएलजीए सदस्य के रूप में भर्ती हुआ था। इसके बाद संगठन में उसे 2010 में पदोन्नत कर दिया गया। फिर 2014 में वो सीसीएम सुधाकर का अंगरक्षक बना। अप्रैल 2015 में संगठन ने उसे बिहार-झारखंड कैडर में गतिविधियों को संचालित करने की जिम्मेदारी दी। जिसके बाद 2018 में उसे झारखंड रीजनल कमेटी का सदस्य नियुक्त किया गया। 2021 तक संगठन में सक्रिय रहते हुए लालू मोडियामी छत्तीसगढ़ समेत बिहार-झारखंड में हुई कई नक्सली घटनाओं में शामिल रहा।

लालू मोडियामी ने नक्सली संगठन छोड़ने के पीछे प्रेम प्रसंग और ओहदे को लेकर भेदभावपूर्ण नीति को जिम्मेदार बताया। डीआईजी कमलोचन कश्यप, बीजापुर एसपी आंजनेय वार्ष्णेय के समक्ष उसने सरेंडर कर दिया। लालू को 10,000 रुपये की प्रोत्साहन राशि दी गई, साथ ही पुनर्वास नीति का लाभ देने की बात अधिकारियों ने कही है।

इन नक्सली घटनाओं में रहा शामिल...

वर्ष 2010 में रेड्डी के जंगलों में पुलिस और माओवादियों के बीच मुठभेड़ की घटना में शामिल‌‌।
वर्ष 2013 में डीआरजी की पार्टी पर हिरोली के जंगलों में पुलिस पार्टी पर हमले की घटना में शामिल।
वर्ष 2015 में बीआरसी क्षेत्र अन्तर्गत जिला गढ़वा झारखंड व छत्तीसगढ़ के सीमावर्ती क्षेत्र में पुलिस-नक्सली के बीच मुठभेड़ में शामिल।
वर्ष 2016 में बीआरसी क्षेत्र अन्तर्गत जिला लातेहार झारखंड के हेनार गांव के जंगल में पुलिस-नक्सली मुठभेड़ की घटना में शामिल।
वर्ष 2017 में बीआरसी क्षेत्र के मगध जोन, जेआरसी क्षेत्र के ग्राम रेला, पराल, बोरोये के पहाडी जंगल में पुलिस -माओवादी मुठभेड़ में शामिल। इसमें 3 पुलिस के जवान घायल हुए थे
वर्ष 2017 में जेआरसी क्षेत्र के पट्टूंग पहाड़ में पुलिस और माओवादियों के बीच मुठभेड़ विस्फोट में शामिल, जिसमें पुलिस के 02 जवान घायल।
वर्ष 2017 में जेआरसी क्षेत्र के ग्राम सरजूनबुरू के जंगल पहाड़ में पुलिस और नक्सलियों की बीच मुठभेड़ की घटना में शामिल।
वर्ष 2017 में बीआरसी क्षेत्र अन्तर्गत कोयासंघ जोन क्षेत्र के कोयलनदी व बूढ़ानदी के बीच पुलिस और नक्सलियों के बीच हुए मुठभेड़ में शामिल।
वर्ष 2019 में जेआरसी क्षेत्रान्तर्गत सीरियाबेडा-मारदीरी के बीच पुलिस और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ में शामिल।
वर्ष 2020 में जेआरसी क्षेत्र के ग्राम लतासिखा रोड पर पुलिस पार्टी को नुकसान पहुंचाने के लिए आईईडी लगाकर विस्फोट करने की घटना में शामिल।
अगस्त 2021 में जेआरसी क्षेत्र के सरजंमभूरू के जंगल में पुलिस और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ में शामिल।
नवम्बर 2021 में जिला पश्चिम सिंहभूम के पुलिस पार्टी पर ग्राम तुम्बाका व रेंगड़ा के पास एम्बुश लगाकर हमला करने की घटना में शामिल।

चार्ल्स तृतीय को ब्रिटेन का नया 'सम्राट' घोषित किया 

चार्ल्स तृतीय को ब्रिटेन का नया 'सम्राट' घोषित किया 

अखिलेश पांडेय 

लंदन चार्ल्स तृतीय को शनिवार को 700 सदस्यीय परिग्रहण परिषद द्वारा सेंट जेम्स पैलेस में एक आधिकारिक समारोह में औपचारिक रूप से ब्रिटेन का नया सम्राट घोषित किया गया। ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय का गुरुवार को निधन के बाद बाद चार्ल्स तृतीय देश के नए राजा बन गए थे। महारानी एलिजाबेथ के बाद आधिकारिक रूप से आज ब्रिटेन को अपना नया सम्राट मिल गया है।

बीबीसी ने उद्घोषणा के हवाले से कहा कि प्रिंस चार्ल्स फिलिप आर्थर जॉर्ज अब चार्ल्स तृतीय हैं। पेनी मोर्डेंट ने महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के निधन की घोषणा के बाद प्रिंस चार्ल्स के राजा बनने की उद्घोषणा की थी। घोषणा पर हस्ताक्षर प्रिंस विलियम के सामने हुआ जबकि प्रधानमंत्री लिज़ ट्रस और आर्कबिशप जस्टिन वेल्बी भी इस मौके पर मौजूद थे। ब्रिटेन के नए सम्राट की ताजपोशी के समय सात पूर्व प्रधानमंत्री में गॉर्डन ब्राउन, डेविड कैमरन, बोरिस जॉनसन और थेरेसा मे भी शामिल थे जो नए राजा की घोषणा को पढ़कर सुनाते समय वहां मौजूद थे।

परिग्रहण परिषद एक समूह है, जिसमें शाही परिवार के सदस्य, प्रधानमंत्री और अन्य वरिष्ठ राजनेता और कैंटरबरी के आर्कबिशप शामिल हैं। बीबीसी ने कहा कि परिषद नए सम्राट की घोषणा करने के लिए संप्रभु के आधिकारिक निवास सेंट जेम्स पैलेस में इकट्ठा होती है। ब्रिटेन के लंदन में सेंट जेम्स पैलेस में परिग्रहण परिषद और प्रधान उद्घोषणा करते हुए किंग चार्ल्स तृतीय ने कहा कि मेरी प्यारी मां और रानी के निधन की घोषणा करना मेरा लिए अत्यंत दुखद है। मुझे पता है कि हम सभी की अपूरणीय क्षति हुई है और आप इस क्षति में मेरे साथ कितनी गहरी सहानुभूति रखते हैं।

सोरेन की प्रतिमा पर माल्यार्पण, श्रद्धा सुमन अर्पित 

सोरेन की प्रतिमा पर माल्यार्पण, श्रद्धा सुमन अर्पित 

इकबाल अंसारी 

रांची। झारखंड के मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन एवं पूर्व मुख्यमंत्री तथा राज्यसभा सांसद दिशोम गुरु शिबू सोरेन आज स्व. दुर्गा सोरेन की जयंती के अवसर पर लोवाडीह, रांची स्थित दुर्गा सोरेन स्मारक पहुंचे। वहां उन्होंने अलग झारखंड राज्य आंदोलन के प्रणेता दुर्गा सोरेन की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर उन्हें श्रद्धा सुमन अर्पित किया। इस अवसर पर मंत्री जगरनाथ महतो, राज्यसभा सांसद महुआ माजी, विधायक सीता सोरेन एवं अन्य ने भी दुर्गा सोरेन की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि अलग झारखंड राज्य आंदोलन में यहां के वीर सपूत निर्मल महतो, बिनोद बिहारी महतो सहित हजारों आदिवासी- मूल वासियों ने अहम भूमिका निभाई । इन महान विभूतियों ने जल, जंगल, जमीन एवं अलग झारखंड राज्य की परिकल्पना को पूरा करने का काम कर दिखाया है। यह हम सभी के लिए गौरव की बात है। अलग राज्य के लंबे संघर्ष में कई अगुआ साथी, मार्गदर्शक, पिता तुल्य एवं बड़े भाई समान वीर शहीदों ने अपना घर-द्वार छोड़कर इस राज्य के लिए सर्वस्व समर्पित किया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि मुझे ऐसा लगता है कि झारखंड के जनमानस के बीच से जितने आंदोलनकारी निकल कर आए हैं तथा उन्होंने जिस तरह अपने आप को इस राज्य के लिए समर्पित किया है, यह हर किसी के लिए प्रेरणा स्रोत है। मुख्यमंत्री श्री सोरेन ने कहा कि यहां के वीर सपूतों के लंबे संघर्ष के बाद अलग झारखंड राज्य हमें मिला, परंतु राज्य गठन के 20 वर्ष पूरे होने के बाद भी जो विकास और उन्नति का सपना हमारे पूर्वजों ने देखा था, वह टूटता और बिखरता नजर आया है।

राहुल की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ पर सिंधिया का बयान 

राहुल की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ पर सिंधिया का बयान 

मनोज सिंह ठाकुर 

ग्वालियर। केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने राहुल गांधी की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ पर बड़ा बयान दिया है। सिंधिया ने कहा कि जो कांग्रेस अपने आप को नहीं जोड़ पाई है, वह कांग्रेस भारत जोड़ने की कोशिश कर रही है। जबकि इसके विपरीत प्रधानमंत्री के नेतृत्व में दिल्ली में हुआ कार्यक्रम राजपथ को कर्तव्य पथ में तब्दील किया है।

केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि पीएम मोदी की एक ही मंशा है। मंत्री-संत्री सहित एक एक व्यक्ति अपने आप को देश की सेवा के लिए पूर्ण रूप से झोंक पाए। जन मन को टटोलते हुए जन मन की आशाओं और आकांक्षाओं पर पूर्ण रुप से खरा उतरे। ऐसे में भारत के अमृत काल से शताब्दी काल के सफर में हम हर दिन नई ऊंचाइयों को छू रहे हैं। पीएम मोदी ने पहले दिन ही कहा था कि वह प्रधानमंत्री नहीं प्रधान जनसेवक है। उन्हीं के बताए हुए कदमों पर हम सभी चल रहे हैं।

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि पीएम मोदी के जन्मदिन पर श्योपुर में आ रहे चेतो को लेकर कहा कि एक इतिहास देश में रचा जा रहा है. यह अतिशयोक्ति नहीं होगी। चीतों का विस्थापन करना एक आसान कार्य नहीं है। विश्व में बहुत बिरले ऐसे सफल विस्थापन हो पाए हैं। जिसकी शुभ शुरुआत भारत में की जा रही है, हमें गर्व है। इसकी शुरुआत कूनो पालपुर क्षेत्र में होने जा रही है। यह क्षेत्र पहले भी वन्य प्राणियों के लिए सदैव से ही जाना जाता रहा है। इस क्षेत्र में पहले भी चीता हुआ करते थे। चीते के हिसाब से पूरा पर्यावरण तैयार किया गया है। पीएम के आगमन को लेकर सभी तैयारियां चल रही है।

किसानों को 3501 करोड़ रुपये की राशि मंजूर की 

किसानों को 3501 करोड़ रुपये की राशि मंजूर की 

कविता गर्ग 

मुंबई महाराष्ट्र सरकार ने राज्य के विभिन्न हिस्सों में पिछले तीन महीने के दौरान भीषण वर्षा और बाढ़ से फसलों को हुए नुकसान को झेलने वाले किसानों को राहत देने के लिए मुआवजे के रूप में 3501 करोड़ रुपये की राशि मंजूर की है। एक अधिकारी ने शनिवार को यह जानकारी दी। राज्य सरकार की ओर से बृहस्पतिवार को जारी आदेश के अनुसार असिंचित फसलों के नुकसान के लिए 13,600 रुपये प्रति हेक्टेयर, सिंचित फसलों के लिए 27,000 रुपये प्रति हेक्टेयर और बारहमासी फसलों के लिए 36,000 रुपये प्रति हेक्टेयर का मुआवजा दिया जाएगा।

इसमें कहा गया है कि इस साल जून से अगस्त के बीच राज्य के कुछ हिस्सों में आई बाढ़ और भारी बारिश के कारण किसानों की फसल नष्ट हुई। मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने पहले घोषणा की थी कि उनकी सरकार बाढ़ प्रभावित व्यक्तियों के लिए मुआवजे में वृद्धि करेगी और कैबिनेट ने प्रस्ताव को भी मंजूरी दे दी थी। तदनुसार, वर्षा प्रभावित किसानों को 3,501 करोड़ रुपये मिलेंगे, जिसमें राज्य आपदा प्रतिक्रिया कोष (एसडीआरएफ) और राज्य सरकार का योगदान शामिल है।

विपक्षियों का नाम लिए बिना हमला बोला: यादव 

विपक्षियों का नाम लिए बिना हमला बोला: यादव 

संदीप मिश्र 

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने विपक्षियों का नाम लिए बिना बड़ा हमला बोला है। उन्होंने सपा का विरोध करने वाले राजनीतिक दलों को भारतीय जनता पार्टी का लाउडस्पीकर बताते हुए कहा है कि सत्ताधारी दल अनाप-शनाप बातें कहलवा रही है। अखिलेश यादव ने ट्वीट किया- “24 के चुनाव में अपने ख़िलाफ़ जनता के आक्रोश व जनहित में काम करनेवाले दलों की एकजुटता देखकर, बीजेपी बौखला गयी है। इसीलिए अपने लाउडस्पीकर दलों से अनाप-शनाप बातें कहलवा रही है…इन लाउडस्पीकरों का माइक कहीं और है।”

सपा नेता ने कहा- “जनता को धोखा देनेवाली बीजेपी और उसके नालबद्ध दलों को जनता सबक़ सिखाएगी।” अखिलेश यादव की यह टिप्पणी ऐसे वक्त में आई है, जब बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती ने उन पर बीजेपी से सांठगांठ करने का आरोप लगाया है। बसपा चीफ मायावती ने ट्वीट कर कहा- सपा मुखिया अपनी इसी प्रकार की जनविरोधी कमियों को छिपाने के लिए दूसरों के खिलाफ अक्सर अनर्गल व बचकानी बयानबाजी आदि करके व करवाकर लोगों का ध्यान बांटने का प्रयास करते रहते हैं, जिससे लोगों व देश की अन्य विपक्षी पार्टियों को भी सपा से सावधान रहने की ज़रूरत है।

पूर्व सीएम ने कहा- सपा यूपी में अपना जनाधार खोती जा रही है, जिसके लिए उसका अपना कृत्य ही मुख्य कारण है। परिवार, पार्टी व इनके गठबंधन में आपसी झगड़े, खींचतान तथा आपराधिक तत्वों से इनकी खुली सांठगांठ व जेल मिलान आदि की खबरें मीडिया में आमचर्चाओं में है तो फिर लोगों में निराशा क्यों न हो? उन्होंने कहा- साथ ही, सपा की बीजेपी के साथ अन्दरुनी मिलीभगत किसी से छिपी नहीं है और यही खास वजह है कि सपा के मुख्य विपक्षी पार्टी होने पर बीजेपी सरकार को यहाँ वाकओवर मिला हुआ है व सरकार को अपनी मनमानी करने की छूट है। इससे आमजनता व खासकर मुस्लिम समाज का जीवन त्रस्त व उनमें काफी बेचैनी है।

इससे पहले ओम प्रकाश राजभर ने अखिलेश यादव पर जुबानी हमला करते हुए कहा था, “वो अपने ही मुख्यमंत्री बन लें, दूसरे को क्या मुख्यमंत्री बनाएंगे। चार बार सरकार बनी, तब क्या किसी दूसरे को कभी मौका दिया। वह अपने विधायकों की चिंता करें दूसरे को छोड़ दें। राष्ट्रपति चुनाव में उन्होंने देख लिया आगे अभी देखते रहें। वह अपनी सुरक्षा खुद करें, दूसरों की सुरक्षा करना छोड़ दें। केशव प्रसाद मौर्य का कहीं जाने का सवाल ही नहीं उठता है।''

राजभर के नेतृत्व में थाना समाधान दिवस का आयोजन

राजभर के नेतृत्व में थाना समाधान दिवस का आयोजन 

हरिशंकर त्रिपाठी 

देवरिया। शनिवार को थाना ऐकौना में थानाध्यक्ष श्री बी बी राजभर के नेतृत्व में थाना समाधान दिवस का आयोजन किया गया, जिसमें कानूनगो नारायणपुर औराई श्री दुर्गेश श्रीवास्तव तथा कानूनगों पचलड़ी परमा यादव अपने राजस्व टीम लेखपाल देवेन्द्र त्रिपाठी, अरविन्द आदि सभी राजस्व कर्मी के साथ उपस्थित थे। किसी सक्षम अधिकारी के उपस्थित न होने के सवाल पर राजस्व अधिकारी कानूनगों दुर्गेश श्रीवास्तव ने बताया कि नायब तहसीलदार रुद्रपुर को आना था लेकिन सरकारी काम से लखनऊ जाने के कारण वे समाधान दिवस में नहीं आ सके।

थाना समाधान दिवस में कुल तीन आवेदन आएं, जिनमें से एक के निस्तारण हेतू थानाध्यक्ष श्री बी बी राजभर ने पूरे राजस्व टीम को निस्तारण के लिए मौके पर भेज दिया तथा अन्य मामले को जिम्मेदारों को सौप निष्पक्षता के साथ निस्तारण का आदेश दिया। थाना समाधान दिवस में दरोगा धर्मेन्द्र कुमार, दरोगा सुधाकर विक्रम सिंह, दरोगा रामराज सिंह ,कान्सटेबल उपेन्द्र, चौकीदार तजीम्मुल तथा महिला कांस्टेबल उपस्थित रहें।

राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ की समन्वय बैठक, चर्चा 

राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ की समन्वय बैठक, चर्चा 

दुष्यंत टीकम 

रायपुर। राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ की समन्वय बैठक शुरू हो गई है। बता दें कि छत्तीसगढ़ में पहली बार आरएसएस की समन्वय बैठक हो रही है। संघ प्रमुख मोहन भागवत बैठक ले रहे हैं। जिसमें विभिन्न सामाजिक मुद्दों पर चर्चा होगी।

इस बैठक में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगतप्रकाश नड्डा, राष्ट्रीय संगठन महामंत्री बीएल संतोष, सहित संघ के राष्ट्रीय पदाधिकारी भी शामिल हैं। तीन दिनों तक चलने वाली इस बैठक में 36 अनुसांगिक संगठनों के 250 पदाधिकारी भी शामिल होंगे।

देश को कमजोर प्रधानमंत्री की जरूरत: औवेसी 

देश को कमजोर प्रधानमंत्री की जरूरत: औवेसी 

अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने प्रधानमंत्री पद को लेकर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि देश को कमजोर प्रधानमंत्री की जरूरत है। विधानसभा चुनाव की तैयारियों को लेकर गुजरात पहुंचे असदुद्दीन ओवैसी ने केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधा है। ओवैसी ने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा कि चीन हमारी जमीन पर बैठा है तो प्रधानमंत्री जवाब नहीं देते। जब पूछते हैं कि उद्योगपतियों का क्यों कर्ज माफ कर दिया गया तो वह कहते हैं कि सिस्टम मुझे काम नहीं करने देता। 300 से ज्यादा उनके पास सांसद हैं। पंडित नेहरू के बाद यदि कोई पावरफुल पीएम है दूसरी बार तो, उसके बाद भी वह सिस्टम की बात करते हैं।

ओवैसी ने कहा, इसलिए मेरा मानना है कि देश में कमजोर प्रधानमंत्री की जरूरत है। ताकतवर तो देख लिए, अब कमजोर चाहिए, ताकि वह कमजोरों की मदद कर सके। ताकतवर ताकतवर की मदद कर रहा है। वह कमजोर को तो देख ही नहीं रहा। मैं चाहता हूं देश में खिचड़ी सरकार बने क्योकिं गुजरात, हैदराबाद और उत्तर प्रदेश की खिचड़ी मुख्तलिफ होती है। बता दें कि गुजरात में जल्द ही विधानसभा चुनाव होने जे रहे है। इसे लेकर बीजेपी, कांग्रेस, आम आदमी पार्टी समेत सभी पार्टियों ने एड़ी चोटी का जोर लगाना शुरू कर दिया है। वहीं असदुद्दीन ओवैसी भी अब चुनावी मैदान में कूद गए है।

देवगन की फिल्म 'थैंक गॉड' का ट्रेलर रिलीज: मुंबई 

देवगन की फिल्म 'थैंक गॉड' का ट्रेलर रिलीज: मुंबई 

कविता गर्ग 

मुंबई। बॉलीवुड के सिंघम स्टार अजय देवगन की आने वाली फिल्म 'थैंक गॉड' का ट्रेलर रिलीज हो गया है। फिल्म 'थैंक गॉड' में अजय देवगन, सिद्धार्थ मल्होत्रा और रकुल प्रीत की मुख्य भूमिका है। फिल्म 'थैंक गॉड' का ट्रेलर रिलीज हो गया है। ट्रेलर में देखा जा सकता है कि अजय देवगन, भगवान चित्रगुप्त का किरदार निभा रहे हैं।ट्रेलर के शुरुआत में दिखाया जाता है कि सिद्धार्थ मल्होत्रा की कार एक्सीडेंट में मौत हो जाती है और वह यमलोक पहुंच जाता है।

यहां चित्रगुप्त बने अजय देवगन उनके स्वागत करते है और उनके साथ गेम खेलना शुरू करते है। यहीं ये शुरू होता है, कॉमेडी और इमोशन का खेल। फिल्म 'थैंक गॉड' दीवाली के मौके पर 25 अक्टूबर को रिलीज होगी। फिल्म में रकुल प्रीत सिंह एक पुलिस ऑफिसर का किरदार निभा रही है।

भाजपा ने पूर्व सीएम देव को उम्मीदवार बनाया 

भाजपा ने पूर्व सीएम देव को उम्मीदवार बनाया 

अकांशु उपाध्याय/विमलेश यादव 

नई दिल्ली/अगरतला। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने त्रिपुरा की एक राज्यसभा सीट के उपचुनाव में राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री विप्लव देव को उम्मीदवार बनाया है। पार्टी के महासचिव अरुण सिंह ने मध्य रात्रि को एक विज्ञप्ति में यह जानकारी दी कि भाजपा की केंद्रीय चुनाव समिति ने त्रिपुरा की एक राज्यसभा सीट के उपचुनाव में विप्लव देव को उम्मीदवार बनाने का निर्णय लिया है। देव त्रिपुरा में भाजपा के पहले मुख्यमंत्री रहे हैं। उन्हें पार्टी में हरियाणा का प्रभार भी दिया गया है।

बच्चों को प्री-मैट्रिक व पोस्ट-मैट्रिक स्कॉलरशिप मिलेगी 

बच्चों को प्री-मैट्रिक व पोस्ट-मैट्रिक स्कॉलरशिप मिलेगी 

नरेश राघानी 

जयपुर राजस्थान के अधिस्वीकृत पत्रकारों के बच्चों को प्री-मैट्रिक एवं पोस्ट-मैट्रिक स्कॉलरशिप मिलेगी। मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने इस संबंध में सूचना एवं जनसंपर्क विभाग द्वारा तैयार अधिसूचना को मंजूरी प्रदान की है।

पोस्ट मैट्रिक में 13,500 रूपए तक की छात्रवृत्ति...

पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप योजना के तहत उच्च शिक्षा संस्थानों में अध्ययनरत अधिस्वीकृत पत्रकारों के बच्चों को स्कॉलरशिप दी जाएगी। इसमें हॉस्टलर्स को 4,000 से 13,500 रूपए तक तथा डे स्कॉलर्स को 2,500 से 7,000 रूपए तक का प्रावधान है। पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप योजना को चार वर्गों में बांटा गया है। स्नातक एवं स्नातकोत्तर स्तर के प्रोफेशनल डिग्री कोर्सेज के लिए हॉस्टलर्स को 13,500 रूपए व डे स्कॉलर्स को 7,000 रूपए की स्कॉलरशिप दी जाएगी। विभिन्न प्रोफेशनल कोर्सेज जिनमें डिग्री व डिप्लोमा सर्टिफिकेट मिलता हो, में अध्ययनरत हॉस्टलर्स को 9,500 रूपए व डे स्कॉलर्स को 6,500 रूपए की स्कॉलरशिप मिलेगी। वहीं, 10वीं कक्षा के बाद किए जाने वाले विभिन्न नॉन डिग्री कोर्सेज के लिए हॉस्टलर्स को 4,000 रूपए व डे स्कॉलर्स को 2,500 रूपए की वार्षिक छात्रवृत्ति तथा अन्य स्नातक व स्नातकोत्तर कोर्सेज कर रहे हॉस्टलर्स के लिए 6,000 रूपए व डे स्कॉलर्स के लिए 3,000 रूपए की स्कॉलरशिप का प्रावधान किया गया है।

6 से 10वीं तक के विद्यार्थियों को प्री-मैट्रिक स्कॉलरशिप...

प्री-मैट्रिक स्कॉलरशिप के अंर्तगत अधिस्वीकृत पत्रकारों के कक्षा 6 से 10वीं में अध्ययनरत बच्चों को स्कॉलरशिप मिलेगी। इसमें एक वर्ष में अधिकतम 10 माह लगभग 1000 रूपए (100 रूपए प्रतिमाह) की प्री-मैट्रिक स्कॉलरशिप दी जाएगी। उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री ने बजट 2022-23 में समाज को जागरूक करने में पत्रकारों की महत्ती भूमिका को ध्यान में रखते हुए उन्हें सामाजिक सुरक्षा उपलब्ध कराने की दिशा में पत्रकारों के बच्चों हेतु स्कॉलरशिप देने की घोषणा की थी। इसकी क्रियान्विति में राजस्थान पत्रकार एवं साहित्यकार कल्याण कोष से पत्रकारों के बच्चों को स्कॉलरशिप देने के लिए स्वीकृति प्रदान की है।

सीएम ने लंपी वायरस को लेकर समीक्षा बैठक की

सीएम ने लंपी वायरस को लेकर समीक्षा बैठक की

मनोज सिंह ठाकुर 

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने लंपी वायरस को लेकर प्रदेश की स्थिति को लेकर समीक्षा बैठक की। इसमें प्रदेश में अधिकारियों को पशुओं की मृत्यु ना हो सुनिश्चित करने को कहा गया है। बीमारी से प्रभावित जिलों से लगे में अतिरिक्त सावधानी बरतने की आवश्यकता पर जोर दिया। साथ ही अन्य राज्यों से आ रहे पशुओं पर प्रतिबंध लगाने की बात कही। सीएम ने अधिक से अधिक पशुओं के टीकाकरण सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। साथ ही पशु पालकों की मदद के लिए हेल्पलाइन नंबर जारी करने को कहा है।

प्रदेश में रतलाम, उज्जैन, मंदसौर, नीमच, बैतूल, इंदौर और खण्डवा में लंपी वायरस की पुष्टि हुई है। धार, बुरहानपुर, झाबुआ में पशुओं में इस बीमारी के लक्षणों की सूचना मिली है। प्रदेश के दस जिलों में सरकारी आकड़ों के अनुसार 2171 पशु इस बीमारी से प्रभावित हुए है। जिनमें से 1717 पशु के स्वास्थ्य में सुधार हुआ है। अब तक 77 हजार 534 पशुओं का टीकाकरण किया जा चुका है।

लंपी स्किन बीमारी पशुओं की एक वायरस बीमारी है। यह बीमारी जूनोटिक नहीं है। यानी पशुओं से मनुष्य में नहीं फैलती है। इससे प्रभावित अधिकतर पशु दो से तीन सप्ताह में स्वस्थ हो जाते है। लेकिन दुध उत्पादन में कमी कई सप्ताह बनी रहती है। इसमें मृत्यु दर 1 प्रतिशत रहती है। इसकी संक्रामकता 10 से 20 प्रतिशत है। लंपी वायरस से प्रभावित पशु को बुखार आता है। इसके पूरे शरीर में गांठ, नरम छाले पड़ जाते है। मुंह से लार निकलती है। यह पशुओं में एक दूसरे के संपर्क में आने से फैलता है। यह मच्छर-मक्सी से भी फैलती है। लंपी स्किन की बीमारी जुलाई 2019 में एशिया में सबसे पहले बांग्लोदश में सामने आई। इसी साल पश्चिम बंगाल, ओडिशा में इसके केस मिले। इस साल अंडमान-निकोबार समेत पश्चिम और उत्तरी राज्यों में फैली। मध्य प्रदेश में इसके गुजरात, राजस्थान और छत्तीसगढ़ से आने की बात बताई जा रही है।

पूरे देश में 1221 यूनियन गोल्ड लोन प्वाइंट बनाएं 

पूरे देश में 1221 यूनियन गोल्ड लोन प्वाइंट बनाएं 

अकांशु उपाध्याय/अविनाश श्रीवास्तव 

नई दिल्ली/समस्तीपुर। यूनियन बैंक ऑफ इंडिया (यूबीआई) के केन्द्रीय कार्यालय, मुम्बई के महाप्रबंधक (गोल्ड लोन वर्टिकल) अमरेन्द्र कुमार ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आत्मनिर्भर भारत के संकल्प को पूरा करने के लिए बिहार समेत पूरे देश में 1221 यूनियन गोल्ड लोन प्वाइंट बनाएं गए हैं, जिसके माध्यम से बैंक ग्राहकों को न्यूनतम ब्याज दर पर गोल्ड लोन देगा।

अमरेन्द्र कुमार ने शनिवार को यहां पत्रकारों से बातचीत करते हुए बताया कि भारत आज चौथे औद्योगिक क्रांति के दौर से गुजर रहा है। उन्होंने बताया औद्योगिक क्रांति को बढ़ावा देने के लिए बैंक कारोबारियों को आर्थिक मदद देने की योजना तैयार की है। गोल्ड ऋण के तहत मार्च 2023 तक 75 हजार करोड़ का ऋण देने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। लोगों को आर्थिक स्वावलंबी बनाने के लिए देश मे सवा लाख करोड़ का ऋण मुहैया कराया गया है। इस अवसर पर बैंक के क्षेत्र प्रमुख समीर कुमार सांई, रांची अंचल के महाप्रबंधक ज्ञान रंजन सारंगी, बैंक के अग्रणी जिला प्रबंधक पी. के. सिंह एवं उप क्षेत्र प्रमुख अंजनी कुमार समेत अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 


1. अंक-337, (वर्ष-05)

2. रविवार, सितंबर 11, 2022

3. शक-1944, आश्विन, कृष्ण-पक्ष, तिथि-प्रतिपदा, विक्रमी सवंत-2079।

4. सूर्योदय प्रातः 05:51, सूर्यास्त: 06:56। 

5. न्‍यूनतम तापमान- 28 डी.सै., अधिकतम-35+ डी.सै.। उत्तरभारत में बरसात की संभावना। 

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है। 

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु,(विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसेन पवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी। 

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27,प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102। 

9. पंजीकृत कार्यालयः263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

 (सर्वाधिकार सुरक्षित)

एससी ने सभी महिलाओं को 'गर्भपात' का हक दिया 

एससी ने सभी महिलाओं को 'गर्भपात' का हक दिया  अकांशु उपाध्याय  नई दिल्ली। गुरुवार को देश की सबसे बड़ी अदालत सुप्रीम कोर्...