शनिवार, 15 फ़रवरी 2020

450 बीघा जमीन को कराया कब्जा-मुक्त

अनुप धीमान 


सहारनपुर। तहसील सहारनपुर के अब तक के सबसे बड़े अतिक्रमण विरोधी अभियान में आज सिंचाई विभाग की लगभग 450 बीघा बहुमूल्य भूमि को अवैध कब्जों से मुक्त कराया गया। एसडीएम सदर अनिल कुमार सिंह द्वारा अवगत कराया गया कि ग्राम ग्राम दतौली रांघड़ के खसरा संख्या 454,ग्राम नजीबपुरा के खसरा संख्या 57 तथा ग्राम सुल्तानपुर के खसरा संख्या 110,120 व 124 में सिंचाई विभाग की लगभग 75 एकड़ अर्थात 450 बीघा भूमि है। यह भूमि ग्राम सुल्तानपुर के इंद्रजीत, पलटू, सतपाल, धर्मपाल, नाथीराम, राजकुमार, विजयपाल, अतर सिंह, अमन, सुरेश, त्रिलोकचंद व गुलाब आदि को पट्टे पर दी गई थी। इन पट्टों की अवधि वर्ष 2015 में ही समाप्त हो चुकी थी लेकिन पट्टेदार जमीन पर फसल बोते रहे। सिंचाई विभाग द्वारा इन्हें कई बार फसल हटाने की चेतावनी दी गई तथा बेदखली के नोटिस भी जारी किए गए परंतु ये बार बार फसल बो लेते थे तथा हटाने का प्रयास करने पर परिवार की महिलाओं को आगे कर देते थे। कई बार सिंचाई विभाग के कर्मचारियों के साथ अभद्रता व मारपीट भी की गई। इस बार आयुक्त सहारनपुर मण्डल द्वारा इस भूमि को खाली कराने की जिम्मेदारी एसडीएम सदर को दी गई। एसडीएम सदर आज राजस्व विभाग, सिंचाई विभाग एवं वन विभाग के अधिकारियों व कर्मचारियों को साथ लेकर भारी पुलिस बल,महिला पुलिस बल व पीएसी के साथ मौके पर पहुँचे तथा जेसीबी व 10 ट्रैक्टर लेकर जमीन खाली कराने की कार्यवाही की गई।कब्जाधारियों द्वारा हल्के फुल्के विरोध के सरकारी अमले के सामने समर्पण कर दिया गया। इसके बाद पूरी जमीन को जोतकर खाली करा लिया गया तथा सिंचाई विभाग तथा वन विभाग को दखल दे दिया गया। इस भूमि का बाजार मूल्य लगभग 25 करोड़ रुपये है। 
एसडीएम द्वारा अवगत कराया कि आयुक्त महोदय द्वारा इस भूमि पर गाजियाबाद की तरह सिटी फॉरेस्ट विकसित करने की योजना बनाई गई है जिसे विकसित करने की जिम्मेदारी श्री वी के जैन वन संरक्षक को दी गई है। सिटी फॉरेस्ट के अंतर्गत फलदार व छायादार पेड़ लगाकर इसे हरे भरे वन तथा पिकनिक स्पॉट के रूप में विकसित किया जाएगा। सिटी फारेस्ट में कृत्रिम झील,साइकिल ट्रैक,बच्चों के झूले,ओपन जिम तथा अन्य मनोरंजन तथा स्वास्थ्यप्रद सुविधाएं भी सुलभ होंगी। यह भूमि नहर से लगी होने के कारण वाटर स्पोर्ट्स शुरू करने पर भी विचार किया जा रहा है। सिटी फॉरेस्ट के विकास का कार्य वन विभाग द्वारा किया जाएगा,अतः आज के अभियान में वन विभाग के अधिकारी भी सम्मिलित रहे। आज के अभियान का नेतृत्व एसडीएम सदर अनिल कुमार सिंह,डीएफओ श्री विजय सिंह,अधिशासी अभियंता सिंचाई श्री जलज शर्मा व मुनेन्द्र सिंह प्रभारी निरीक्षक कोतवाली देहात द्वारा किया गया। इसके अतिरिक्त संजीव वर्मा, एसडीओ सिंचाई, श्री अरुण फॉरेस्ट रेंजर, संजीव कपिल,राजेश कश्यप, नेपाल सिंह, गुफरान अहमद,सतेंद्र कुमार लेखपाल,सिंचाई विभाग व वन विभाग का स्टाफ तथा थाना कोतवाली देहात का पुलिस बल उपस्थित रहे।


शिवरात्रि पूजा से मिलेगी दोषों से मुक्ति

शिवरात्रि के दिन शिवपूजा से मिलेगी ग्रह दोषो से मुक्ति 


अरविंद सिसौदिया। 


नानौता। 21 फरवरी को महाशिवरात्रि पर्व पूरे देशभर में धूमधाम के साथ मनाया जाएगा। इस बार की महाशिवरात्रि की विशेष बात यह है कि 117 वर्ष बाद शनि और शुक्र का दुर्लभ योग बन रहा है। जिसके चलते इस योग में शिवपूजा करने से कई ग्रहों के दोषों से मुक्ति मिल सकती है। 
देशभर में महाशिवरात्रि पर्व फाल्गुन मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी तिथी को मनाया जाता है। इस बार दुर्लभ संयोग होने के चलते शिवभक्तों में काफी उत्साह देखने को मिल रहा है। जिलेभर के शिवमंदिरोंमें भी इसकी तैयारियां शुरू कर दी गई है। मंदिरों की साज-सज्जा के साथ अनुष्ठान के लिए सामग्री जुटाई जा रही है। मंदिरों पर मेलों का आयोजन होगा, जिसकी रूपरेखा तैयार की गई है। 28 वर्ष बाद बनेगा विषयोग - 
इस वर्ष शनि ने 23 जनवरी को मकर राशि में प्रवेश किया है। इस बार शिवरात्रि पर शनि के साथ चन्द्र भी रहेगा। शनि-चन्द्र की युति के चलते विष योग बन रहा है। इससे पूर्व यह योग 28 वर्ष पूर्व 2 मार्च 1992 को बना था। कुंडली में शनि और चंद्र योग के दोष दूर करने केलिए शिवपूजा करने की सलाह दी जाती है। बुधआदित्य और सर्प योग भी बनेगा - 
21 फरवरी को बुध और सूर्य कुंभ राशि में एक साथ रहेंगे। इसके चलते बुध आदित्य योग बनेगा तो वहीं इसी दिन सभी ग्रह राहु-केतू के मध्य रहेंगे। जिसके चलते सर्पयोग भी बनेगा। जिसके चलते यह शिवरात्रि विशेष रहेगी। 
117 वर्ष पूर्व बना था दुर्लभ योग - पं राजेश शास्त्री के अनुसार इस वर्ष शिवरात्रि पर शनि अपनी स्वंय की राशि मकर में और शुक्र ग्रह अपनी उच्च राशि मीन में रहेगा। यह एक दुर्लभ योग होगा। इससे पूर्व यह योग 25 फरवरी 1903 में बना था। इस वर्ष गुरू भी अपनी स्वराशि धनु में स्थित है। इस योग में शिवपूजा करने पर शनि गुरू, शुक्र के दोषों से मुक्ति मिलेगी। इसी दिन स्वार्थ सिद्वी योग भी रहेगा। साधना के लिए शिवरात्रि यानि सिद्वरात्रि - 
ज्योतिषशास्त्र में साधना के लिए तीन रात्रि विशेष बताई गई हैं। इनमें शरद पूर्णिमा को मोहरात्रि, दीपावली की कालरात्रि तथा शिवरात्रि को सिद्वरात्रि कहा गया है। इस बार शिवरात्रि पर चन्द्र-शनि की मकर मंयुति के साथ शश योग भी बन रहा है।


'बाप-बेटे की हत्या' से इलाके में सनसनी

सहरसा। बिहार में बढ़ते अपराध के सामने इन दिनों पुलिस बेबस नजर आ रही हैं। इस वक्त एक बड़ी खबर सामने आ रही है सहरसा से जहां अपराधियों ने एक बड़ी वारदात को अंजाम दिया है। अपराधियों ने पिता-पुत्र को गोली मार दी है। मर्डर से इलाके में सनसनी फ़ैल गई है। पुलिस हत्या की छानबीन में जुटी हुई है। वारदात सहरसा जिले के बसनही थाना इलाके की है। जहां मोतीबारी गांव के पास अपराधियों ने देर शाम एक बड़ी वारदात को अंजाम दिया। क्रिमिनलों ने बाप-बेटे को गोली मार दी। जिसके कारण पिता की मौके पर ही मौत हो गई।जबकि बेटा गंभीर रूप से जख्मी बताया जा रहा है। घायल बेटे को इलाज के लिए नजदीकी अस्पताल में नंभर्ती कराया गया है। उसकी हालत गंभीर बनी हुई है। घटना को लेकर मिली जानकारी के मुताबिक बाप-बेटे घर लौट रहे थे। इस दौरान पहले से घात लगाए बैठे अपराधियों ने उन्हें गोली मर दी।  मिलते ही फ़ौरन मौके पर पहुंची पुलिस मामले की छानबीन में जुटी हुई है। थानाध्यक्ष ने बताया कि डेड बॉडी को पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेजा गया है। मामले की तफ्तीश जारी है।


गिरिराज को 'राष्ट्रीय अध्यक्ष' का सम्मन

नई दिल्ली। बयानों को लेकर अक्सर सुर्खियों में रहने वाले गिरिराज सिंह को इस बार बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष द्वारा समन जारी किया गया है। हाल ही में कई विवादित बयान देने वाले गिरिराज सिंह को भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष जेपी नड्डा ने तलब किया है। समाचार एजेंसी एएनआई ने इस बात की जानकारी दी है कि बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने हाल ही में दिए गए विवादित बयानों को लेकर गिरिराज सिंह को समन जारी किया। बता दें कि दिल्ली चुनाव के वक्त गिरिराज सिंह ने शाहीन बाग को लेकर कहा था कि यह शाहीन बाग़ अब सिर्फ आंदोलन नहीं रह गया है यहां सुसाइड बॉम्बर का जत्था बनाया जा रहा है। केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने ट्वीट करके कहाथा कि यह शाहीन बाग़ अब सिर्फ आंदोलन नही रह गया है यहां सुसाइड बॉम्बर का जत्था बनाया जा रहा है। देश की राजधानी में देश के खिलाफ साजिश हो रही है। उन्होंने कहा कि शाहीन बाग में एक महिला का बच्चा ठंड में मर जाता है और वो महिला कहती है कि मेरा बेटा शहीद हुआ। ये सुसाइड बॉम्ब नहीं तो और क्या है। अगर भारत को बचाना है तो ये सुसाइड बॉम्ब, खिलाफत आंदोलन 2 से देश को सजल करना होगा। उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में सीएए के समर्थन कार्यक्रम में एक कार्यक्रम में केन्द्रीय मत्स्य और डेयरी मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा था कि देवबंद आतंकवाद की गंगोत्री है। हाफिज सईद समेत बड़े-बड़े आतंकवादी, ये सारे यहीं से निकलते हैं।गिरिराज सिंह ने कहा, ‘मैंने एक बार कहा था कि ये देवबंद आतंकवाद की गंगोत्री है। सारे बड़े-बड़े दुनिया में जो भी पैदा हुए आतंकवादी, चाहे हाफिज सईद का मामला हो, ये सारे के सारे लोग यहीं से निकलते हैं।


पुलिसकर्मियों ने अगवा कर रेप किया

प्रशांत शर्मा


गोरखपुर। दो सिपाहियों ने बृहस्पतिवार रात एक युवती को गोरखनाथ इलाके से अगवा कर रेलवे स्टेशन के पास स्थित कमरे में ले जाकर सामूहिक दुष्कर्म किया। जब युवती ने घर जाने देने की बात की तो दोनों ने उसे बुरी तरह पीटा। आखिरकार रात करीब एक बजे आरोपितों ने उसे 600 रुपये देकर छोड़ा। युवती ऑटो से किसी तरह घर पहुंची और परिवार को आपबीती बताई।


शरीर पर काफी चोट लगी होने से घरवाले शुक्रवार देर शाम उसे इलाज के लिए जिला अस्पताल लाए। तब घटना का खुलासा हुआ। इस सूचना से पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। आनन फानन में सीओ कोतवाली वीपी सिंह महिला कर्मियों के साथ अस्पताल पहुंच गए। पीड़िता का बयान दर्ज करने के साथ ही मेडिकल भी कराया जा रहा है। हालांकि, पुलिस घटना को संदिग्ध भी बता रही है।


जानकारी के मुताबिक, शाहपुर इलाके की रहने वाली 24 वर्षीय युवती चार भाई-बहनों में छोटी है। वह ट्यूशन पढ़ाती है। बृहस्पतिवार को वह मां के साथ बहन के घर गई थी। युवती के मुताबिक दीदी के घर कुछ विवाद हो गया, जिससे वह घर से चल पड़ी। पीछे से मां भी आ रही थी। इसी दौरान दो सिपाही आए और बोले कि तुम धंधा करती हो।


इनकार करने पर उन्होंने जबरन बाइक पर बैठा लिया। मां के पीछे आने की बात कहने पर वह गाली देने लगे। इसके बाद रेलवे स्टेशन के पास स्थित एक कमरे में ले गए। वहां दोनों ने दुष्कर्म किया। जब उसने घर जाने देने की बात कही तो दोनों उसे बुरी तरह पीटने लगे। बाद में रात करीब एक बजे 600 रुपये देकर जाने को कहा। युवती ने जब कहा कि घर कैसे जाएगी, तो वह फिर गाली देने लगे और भगा दिया।


एसएसपी डॉ. सुनील कुमार गुप्ता ने कहा कि सीओ कोतवाली को घटना की जांच के लिए भेजा गया है। युवती को बताए गए कमरे पर ले जाया जाएगा, यदि वह होटल निकला तो किसके नाम बुक था और कौन-कौन आया, इसका पता लगाकर कार्रवाई की जाएगी।


वायरस के क़हर की संख्या 1500 से पार

बीजिंग (एजेंसी)। चीन में कोरोना वायरस अपना कहर बरपा रहा है। जिसके कारण चीन में लोगों की मौत का आंकड़ा तेजी से बढ़ते जा रहा है। जारी ताजा आंकड़ों के अनुसार कोरोना वायरस संक्रमण के कारण चीन में मरने वालों की संख्या 1500 से अधिक हो चुकी है।  इस संक्रमण के कुल मामलों की संख्या बढ़कर 66 हजार से अधिक हो गई है। इस संक्रमण से सर्वाधिक प्रभावित हुबेई प्रांत के लोग हुए है। चीन के वुहान शहर से शुरू हुआ कोरोना वायरस अब दुनिया के कई शहरों तक पहुंच चुका है।


सपा नेतृत्व ने निकाली सिलेंडर शव-यात्रा

प्रयागराज। समाजवादी पार्टी के महानगर सचिव राजेश यादव के नेतृत्व में सिलेंडर शवयात्रा शांतिपूर्ण तरीके से कीडगंज से उठकर सतीश शाह चौराहा होते हुए कोठा परचा राम भवन सुलाकी चौराहा बहादुरगंज लोकनाथ होते हुए चौक घंटाघर पर समाप्त हुआ। समापन करते हुए सपाइयों ने कहा की अगर जल्द से जल्द गैस के बढ़े हुए दाम वापस नहीं होते है तो समाजवादी नगर कार्यकर्ता अनशन करेंगे यात्रा में सर्वश्री पूर्व पार्षद रेखा उपाध्याय महेश निषाद बृजेश केसरवानी राजेश यादव विकास यादव बालाजी पंकज साहू दिनेश प्रजापति अभिषेक यादव प्रधान नितिन दिलीप यादव त्रिलोकी नाथ सोनकर संदीप पटेल श्यामू यादव रूपनाथ यादव सौरभ यादव रामा सौरव यादव कालीबाड़ी शिवाकांत यादव हरि भान यादव सोनू सोनकर मुकेश यादव अंकित विश्वकर्मा सुधीर सिंह बंटी यादव चंदू दिनेश यादव हिमांशु मिश्रा मोहम्मद वैस रितेश जयसवाल टिंकू पांडे गोपाल साहू अमन गुप्ता विजय महतो एवं अन्य कार्यकर्ता शामिल थे।        


रिपोर्ट- बृजेश केसरवानी


निर्दलीय विधायकों का खट्टर को समर्थन

राणा ओबराय

हरियाणा के निर्दलीय विधायकों ने बिना पैसा लिए खट्टर सरकार को दिया है समर्थन, हुड्डा सरकार में खरीदे जाते थे आजाद विधायक


सिरसा- चंडीगढ़। बिजली मंत्री चौधरी रणजीत सिंह बजट पर चर्चा करने के लिए बुलाए गए प्री बजट सत्र को लेकर की गई पहल की सराहना की है और कहा कि यह मुख्यमंत्री की अनोखी पहल है। उन्होंने कहा कि इस चर्चा में विधायक अपना अपना सुझाव रख सकेंगे। साथ ही उन्होंने कहा कि बजट सत्र लंबा होने से विधायकों को अपने अपने क्षेत्र की समस्याओं को उठाने का मौका मिलेगा। बिजली मंत्री चौधरी रणजीत सिंह अपने आवास पर आज मीडिया से रूबरू हो रहे थे।
उन्होंने कांग्रेस नेता दीपेंद्र हुड्डा द्वारा निर्दलीयों को लेकर दिए गए बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि जो निर्दलीयों की बैसाखी पर चल रही सरकार गिरने का दावा कर रहे हैं, उनके शासन में निर्दलीयों को पैसों से खरीदा जाता था। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की सोच है कि केवल निर्दलीयों को कैसे से ही काबू किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस शासन में विधायक खरीदे करते थे। उन्होंने कहा सभी निर्दलीय विधायकों ने अपने सिद्धांतों की वजह से बिना कोई रिश्वत लिए मौजूदा सरकार को समर्थन दे रखा है। सरकार के 100 दिन पूरे होने पर उन्होंने कहा कि सरकार सही दिशा में काम कर रही है और लोगों को भरोसा है कि सरकार उनके लिए काम कर रही है। साथियों की 100 दिन के शासनकाल में कई महत्वपूर्ण फैसले मौजूदा सरकार ने लिए हैं। बिजली चोरी रोकने के लिए आयोजित बिजली पंचायतों को लेकर उन्होंने कहा कि इसके सकारात्मक परिणाम सामने आ रहे हैं। उन्होंने कहा कि सही समय पर बिजली बिल भरने वालों के लिए मुख्यमंत्री द्वारा प्रोत्साहित करने के लिए नई घोषणा की जा सकती है। रानिया में डार्क डॉन को लेकर पूछे गए सवाल पर उन्होंने कहा कि सरकार इस मसले को लेकर गंभीर है और वो इस पर काम कर रहे हैं और सरकार इसका हल निकालने का प्रयास कर रही है।


लापताः बालक की कुँए में तैरती लाश

कोरबा। रामपुर चौकी अंतर्गत आरामशीन क्षेत्र से 4 दिन पूर्व लापता हुए 8 वर्षीय बालक की लाश स्थानीय कुएं से बरामद की गई है। मामले में परिजनों ने हत्या का संदेह जाहिर किया है। पुलिस द्वारा मर्ग कायम कर विवेचना की जा रही है।
आरामशीन मोहल्ला निवासी अभिषेक साहू 8 वर्ष पिछले 4 दिन से लापता था, परिजन उसकी खोजबीन में जुटे हुए थे। रामपुर चौकी पुलिस को भी गुमशुदगी की सूचना दी गई थी। परिजनों व शुभचिंतकों से भी बालक के संबंध में पतासाजी की जा रही थी। इसी बीच लापता बालक अभिषेक साहू के खोजबीन के दौरान शनिवार की सुबह आरा मशीन क्षेत्र के एक कुएं में उसकी लाश मिली। बालक का शव कुएं में देखे जाने की सूचना जल्द ही आसपास में फैल गई और इसके साथ मौके पर काफी संख्या में लोगों की भीड़ लग गई। रामपुर चौकी प्रभारी राजेश चंद्रवंशी स्टाफ के साथ यहां पहुंचे। इसके बाद मृतक का शव कुएं से बाहर निकाला गया। पंचनामा और परिजनों के बयान के साथ शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया। मृतक के परिजनों ने इस बात की आशंका जताई है कि अभिषेक की हत्या करने के बाद उसे कुएं में फेंक दिया गया ताकि मामले को सामान्य घटना से जोड़ा जा सके। पुलिस ने संदिग्ध मौत का मामला दर्ज कर लिया है। शव परीक्षण रिपोर्ट में तथ्यों का खुलासा हो सकेगा। इसके आधार पर आगे पुलिस इस मामले की विस्तृत जांच करेगी।


निष्ठाः भूखे गोवंश, मरने के कगार पर

अतुल त्यागी जिला प्रभारी, प्रवीण कुमार रिपोर्टर पिलखुआ


हापुड़। योगी सरकार के गोवंशों की दुर्दशा समय पर चारा नहीं मिलने पर गोवंश मरने की कगार पर गोवंशों की देखभाल करनेवाले कर्मचारी का नहीं मिला कई महिनों से वेतन। आपको बता दें मामला जनपद हापुड़ के कोतवाली बाबूगढ़ क्षेत्र के गांव विगास का है जहां 32 गोवंशो  में से मात्र 17 गोवंश बच्चे हैं बाकी सब भूखे और बीमार रहने की वजह से मर चुके हैं अभी भी कई गोवंश मरने की कगार पर जिससे परेशान ग्रामीणों ने अब हल्ला बोल दिया है ग्रामीणों ने दिया गौशाला के नाम पर ठगाई करा। स्थानीय ग्रामीणों का कहना यह गौशाला नहीं मृत साला है 32 गोवंशों में से केवल 17 ही गोवंश बचे है बाकी सब मर चुके हैं गोवंशों को देखने के लिए डॉक्टरों की टीम भी नहीं उपस्थित। खाने को चारा भी नहीं मौके पर ग्रामीणों का कहना गोवंशो को मुख्यमंत्री जी को छुड़वा देना चाहिए यहां बंधक बने रहने से तो गोवंश दिन पर दिन मरने की कगार पर दिखाई दे रहे हैं जिससे गांव वालों को दुख होता है। स्थानीय अधिकारी भी देखने के लिए तैयार नहीं है कई महीनों से गोवंशो की देखभाल करने के लिए लगाए गए कर्मचारी का वेतन नहीं मिला है ग्रामीण भी परेशान नहीं देखी जाती गोवंश की दुर्दशा।


टीचर पर अश्लीलता, वशीकरण का आरोप

राणा ओबराय


सरकारी स्कूल की प्रिंसिपल ने महिला टीचर पर बच्चों को अश्लील वीडियो दिखाने व वंशीकरण करने का लगाया आरोप

पंचकुला। पंचकूला के सकेतड़ी गांव के सरकारी स्कूल में महिला टीचर पर बच्चों को अश्लील वीडियो दिखाने और बच्चों को कुछ खिलाकर वंशीकरण में करने का आरोप उसी स्कूल की प्रिंसिपल ने लगाए है। इन आरोपों के बाद स्कूल के छात्रों ने प्रिंसिपल के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। स्कूल की प्रिंसिपल सुदेश सिंह ने सांइस टीचर पूजा चौधरी पर आरोप लगाए थे और कहा था कि पूजा चौधरी बच्चों को लेपटॉप पर अश्लील वीडियो दिखाती है और बच्चों को वंशीकरण में किया हुआ है। साथ ही कहा की महिला साइंस टीचर द्वारा बच्चों को खिड़की बंद करके लैपटॉप से गलत वीडियो दिखाई जाते हैं। इस घटना के बाद स्कूल के छात्रों ने स्कूल प्रिंसिपल के आरोपों का विरोध किया। स्कूल के छात्रों का कहना है कि उनकी साइंस टीचर ना केवल उन्हें सुबह 8:00 बजे विशेष रूप से एक्स्ट्रा क्लास में पढ़ाती है। बल्कि लैपटॉप के जरिए साइंस के विभिन्न पहलुओं को नई टेक्नोलॉजी के साथ उन्हें समझाती हैं। जो उन्हें आसानी से समझ आ जाते हैं।साथ ही सभी छात्रों ने एक सुर में साइंस टीचर पूजा चौधरी के पढ़ाने की शैली का समर्थन करते हुए कहा की प्रिंसिपल द्वारा लगाए गए सभी आरोप झूठे हैं। यहां तक कि प्रिंसिपल सुदेश सिंह ने कक्षा नौवीं व दसवीं के छात्र छात्राओं को उनका रोल नंबर काट देने की धमकी तक दी थी। छात्रों का कहना है कि प्रिंसिपल उन्हें पिछले कुछ दिनों से साइंस टीचर पूजा चौधरी के खिलाफ गलत गलत बातें बोलकर भड़काने की कोशिश कर रही थी। वहीं इस मामले में साइंस टीचर पूजा चौधरी ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि वह इन बच्चों को एक अच्छी शिक्षा देने के लिए टेक्नोलॉजी का सहारा लेती है। ना केवल वह बल्कि स्कूल के अन्य टीचर भी लैपटॉप के जरिए आए दिन बच्चों को पढ़ाते रहे हैं। मामले में विवाद बढ़ने पर डिप्टी डीईओ भी मौके पर पहुंची और दोनों पक्षों से बात करने के साथ मामले की जांच में जुट गई। वहीं स्थानीय पुलिस भी मौके पर पहुंची और मा्मले को शांत करवाया।


आहः बस-माजदा की भिड़ंत, दो की मौत

जुगून तंबोली


रतनपुर। शनिवार को पेंड्रा मार्ग में दर्दनाक सड़क हादसे ने एक पूरे परिवार को बिखेर कर रख दिया। शनिवार दोपहर करीब 2.30 बजे रतनपुर पेंड्रा मार्ग पर बस और माजदा के बीच हुए इस जबरदस्त भिड़ंत में माजदा चालक सहित एक अन्य की मौत हो गई। जबकि चालक के साथी की हालत बेहद गंभीर बनी हुई है। तो वही यात्री बस में सवार यात्रियों को भी बड़ी संख्या में चोटे आई है। मिली जानकारी के अनुसार शनिवार दोपहर रतनपुर से पेंड्रा जाने वाले सड़क मार्ग पर केंदा छतौना के पास बिलासपुर की तरफ से आ रही जयसवाल सर्विस की बस केंदा की ओर से आ रही माजदा में टक्कर हो गई। आमने सामने हुई इस भिड़न्त में माजदा का सामने कैबिन पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया। तो वही जयसवाल सर्विस की लाल बस पलट गई। जिससे करीब डेढ़ दर्जन यात्रियों को गंभीर चोटें आई है।घटना के तुंरत बाद 112 कि मदद से सभी घायलों को स्वास्थ्य केंद्र रतनपुर लाया गया। जहाँ इस हादसे में मानिकपुर केंदा निवासी माजदा चालक रज्जू टेकाम,अमोल सिंह मरकाम को डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। तो वही मानिकपुर केंदा निवासी सूरज सिंह टेकाम की हालत गंभीर बनी हुई है। बताया जा रहा है की माजदा वाहन स्वामी व चालक रज्जू टेकाम अपने परिवार के साथ किसी काम से अपने गांव मानिकपुर केंदा से बिलासपुर की ओर जा रहा था। इसी बीच इस सड़क हादसे ने रज्जू टेकाम के भरे पूरे परिवार को अस्त व्यस्त कर दिया।


पीएम करेंगे पंडित जी की मूर्ति का अनावरण

प्रशांत कुमार


चंदौली। भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 16 फरवरी को सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार दोपहर 1 बजे उत्तर प्रदेश के जनपद चंदौली में पडाव होगा। जनपद में स्थित पंडित दीनदयाल उपाध्याय की 63 फीट लंबी मूर्ति का अनावरण करने के पश्चात ,लोकार्पण करेंगे। जिसके बाद लोगों को संबोधित करेंगे। पीएम कुल 1 घंटे जनपद में रहेंगे। इसी के तहत एक दिन पूर्व आज शाम प्रदेश के मुखिया ने लोकार्पण स्थल पहुंचकर तैयारियों का जायजा लेते हुए सुरक्षा व्यवस्था को ध्यान में रखते हुए अधिकारियों से बातचीत की और अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिये।


कमजोर-आमदनी (समसामयिक)

 एक नया सर्वेक्षण सामने आया है कि आर्थिक स्थिति, कीमतों और पारिवारिक आमदनी को लेकर लोगों का रुख पिछले साल की तुलना में कमजोर है| अर्थव्यवस्था में कमजोरी के मौजूदा दौर से उबरने के लिए उपभोग में बढ़ोतरी करना बहुत जरूरी है, लेकिन ऐसा कर पाना एक बड़ी चुनौती से कम नहीं  है| रिजर्व बैंक के ताज़ा सर्वे के मुताबिक उपभोक्ताओं की मनोदशा निराशा से ग्रस्त है और हालत यह कि यह निराशा मार्च, २०१५ के बाद से सबसे उच्च स्तर पर है| निराशा का यह सूचकांक जनवरी में ८३.७ तक आ गया है| सरकार को सोचन चाहिए | 
 
इसमें १००  की संख्या निराशा व आशा के बीच के विभाजन को इंगित करती है|  देश के १३  बड़े शहरों के परिवारों के सर्वेक्षण के आधार पर बैंकों का कहना है कि आर्थिक स्थिति, कीमतों और पारिवारिक आमदनी को लेकर लोगों का रुख पिछले साल की तुलना में कमजोर है तथा वे जरूरी चीजों के अलावा अन्य खरीद पर कम खर्च कर रहे हैं| इसका नकारात्मक असर उत्पादन पर भी पड़ा है और कंपनियां इसमें कटौती कर रही हैं|  केंद्रीय बैंक के एक अन्य सर्वेक्षण में बताया गया है कि कंपनियों की क्षमता के उपयोग का स्तर गिर कर ६९.१ प्रतिशत रह गया है, जो पिछले साल अप्रैल-जून की अवधि में ७३.६ प्रतिशत था| इसका मतलब यह है कि वास्तविक उत्पादन और संभावित उत्पादन के बीच दरार बढ़ती जा रही है|  
 
यह सब इस बात को प्रमाणित करती है कि कुल मिला कर हमारी अर्थव्यवस्था के विस्तार की गति २००९  के बाद सबसे कम है| इन आंकड़ों के साथ अगर बचत में कमी को भी रख लें, तो अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने और उसे तेज गति देने से जुड़ी आशाएं कुछ कमजोर पड़ती दिखाई दे रही  हैं| इस संदर्भ में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा पेश बजट बेहद अहम हो जाता है और उसमे कोई दिशा नहीं सूझती है |
 
आयकर दरों में कटौती और चुकौती के लिए दो विकल्प देने जैसे उपायों से आगामी वित्त वर्ष में उपभोग बढ़ाने में मदद मिल सकती है, क्योंकि तब लोगों के हाथ में नकदी की मात्रा बढ़ने की उम्मीद है, जिसे वे बाजार में खर्च कर सकेंगे, पर यह भी देखना होगा कि आयकर की निचली श्रेणियों में से कितने लोग नया विकल्प चुनते हैं, जिसमें बचत पर छूट नहीं मिलेगी| खर्च करने लायक नकदी कम होने का सीधा असर उपभोक्ता वस्तुओं के बाजार पर पड़ा है| 
 
कई वर्षों से यह सेक्टर अर्थव्यवस्था के सबसे तेज विस्तार के क्षेत्रों में रहा है, लेकिन जहां इसकी वृद्धि दर २०१८  में १३.५ प्रतिशत थी, वह २०१९  में घट कर ९.७ प्रतिशत रह गयी थी|  कुछ श्रेणियों में तो यह गिरावट बेहद गंभीर रही है | चालू वित्त वर्ष में इसके और कम होने की आशंका है|  इस क्षेत्र में ग्रामीण मांग का हिस्सा बाजार का एक-तिहाई है और बहुत समय से उसकी बढ़ोतरी शहरी इलाकों से अधिक दर से होती रही थी, लेकिन खेती से होनेवाली आमदनी घटने और ग्रामीण संकट का प्रभावी समाधान न हो पाने की वजह से उसमें लगातार कमी आ रही है| सरकार और वित्त विशेषग्य कोई नया विकल्प भी नहीं सुझा प् रहे हैं |बजट में किसानों को प्राथमिकता दी गयी ह,परन्तु  हमें इसके नतीजों का इंतजार करना पड़ेगा और करना भी चाहिए| कृषि तो हमारी आर्थिक व्यवस्था की रीढ़ है , रोजगार, आमदनी और खर्च का हिसाब एक-दूसरे से जुड़ा हुआ है| ऐसे में सरकार और कारोबारी जगत को तालमेल के साथ आगे बढ़ना चाहिए| मंदी का राग ज्यादा दिन नहीं चलेगा कुछ करना होगा और जल्दी करना होगा।


राकेश दुबे


स्कूल वैन में आग, चार बच्चे जिंदा जले

राजेश शर्मा


संगरूर। पंजाब में बेहद दर्दनाक घटना सामने आई है जहाँ एक स्कूल की वैन में अचानक आग लग गई। जिसमें 4 स्कूली बच्चे ज़िंदा जल गए है। मृतक बच्चों की उम्र 5-6 साल की बताई जा रही है। घटना पंजाब के संगरूर इलाके के लोंगोवाल की है जहाँ छुट्टी के बाद स्कूल के बच्चों को ले जाकर वैन को अचानक रास्ते में आग लग गई। जिसमें बच्चों की दर्दनाक मौत हो गई। मौके पर राहगीरों ने कई बच्चों को ज़िंदा बाहर निकाल लिया पर कई मासूम ज़िंदा जले।


भाजपाः कई राज्यों के अध्यक्षों को बदला

BJP ने किया कई राज्यों के अध्यक्षों में किए फेरबदल
    


नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी ने कई राज्यों के अपने अध्यक्षों में फेरबदल किया है। बीजेपी अध्यक्ष जे पी नड्डा ने मध्य प्रदेश, सिक्किम और केरल के मौजूदा बीजेपी अध्यक्ष को हटाकर दुसरे लोगों को कमान सौंपीं है। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने राकेश सिंह के स्थान पर विष्णु दत्त शर्मा को मध्यप्रदेश भाजपा का अध्यक्ष नियुक्त किया है जो राकेश सिंह की जगह लेंगे। शर्मा खजुराहो से भाजपा सांसद हैं। वह वर्तमान में वे भाजपा के प्रदेश महामंत्री हैं। इसके अलावा भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने दल बहादुर चौहान को सिक्किम राज्य अध्यक्ष और के सुरेंद्रन को केरल भाजपा अध्यक्ष नियुक्त किया है। वहीं, दल बहादुर चौहान को सिक्किम बीजेपी का अध्यक्ष बनाया गया है। के. सुरेंद्रन को केरल बीजेपी का अध्यक्ष बनाया गया है। बता दें कि विष्णु दत्त शर्मा 2013 में भाजपा में शामिल हुए थे। वह वर्तमान में मध्यप्रदेश भाजपा के महामंत्री हैं। वह 1986 से ही विद्यार्थी परिषद् में सक्रिय हैं। 1993-94 में उन्हें मध्य भारत का प्रदेश संगठन मंत्री बनाया गया था। 2007-2014 के बीच उन्होंने मध्यक्षेत्र (मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़) के क्षेत्रीय संगठन मंत्री का कार्यभार संभाला था। 2007-09 में उन्होंने राष्ट्रीय महामंत्री की जिम्मेदारी संभाली थी।


लालू से मिले शत्रुघ्न, लिया हाल-चाल

रांंची । शनिवार को राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष और चारा घोटाला मामले में सजायाफ्ता लालू प्रसाद से मुलाकात का दिन है। रिम्स अस्पताल में इलाजरत राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद से मिलने आज फ़िल्म अभिनेता और पूर्व सांसद शत्रुध्न सिन्हा पहुंचे है। दोनो ही नेताओ के बीच वर्तमान राजनीतिक घटनाक्रम को लेकर सियासी मंथन भी होने के कयास लगाए जा रहे है। वही इसी साल होनेवाले विधानसभा चुनाव के तैयारियों को लेकर दोनो नेताओ के बीच गुप्तगु होने की संभावना है। हलाकि तमाम अटकलों पर विराम लगाते हुए पूर्व सांसद शत्रुघ्न सिन्हा उर्फ बिहारी बाबू ने कहा है कि लालू प्रसाद हमारे पारिवारिक मित्र है तथा उनका हाल जानने वह आज रिम्स पहुंचे है। रिम्स अस्पताल के पेइंग वार्ड में भर्ती लालू प्रसाद से मुलाकात के बाद पूर्व सांसद ने कोई राजनीतिक चर्चा नही की है।


रेलवे का एक ही जवाब, फंड नहीं है

आकाशुं उपाध्याय


नई दिल्ली। रेलवे के तमाम कांट्रेक्टर्स/सप्लायर्स पिछले कुछ महीनों से अत्यधिक परेशान हैं, क्योंकि पिछले कुछ महीनों से उनके बिलों का भुगतान रेल प्रशासन द्वारा नहीं किया जा रहा है। इससे कांट्रेक्टर और सप्लायर न तो अपनी देनदारी चुका पा रहे हैं और न ही अपने कर्मचारियों के वेतन का भुगतान कर पा रहे हैं।


कई कांट्रेक्टरों और सप्लायरों ने कानाफूसी.कॉम को फोन करके अपनी आपबीती सुनाई। उनका कहना था कि कई महीनों से उनके फाइनल बिलों का भुगतान रेलवे ने नहीं किया है। एक सप्लायर ने यह भी कहा कि उसने पिछले साल जुलाई में कुछ मेडिकल इंस्ट्रूमेंट्स की सप्लाई का अपना करीब 35-36 लाख का बिल पश्चिम रेलवे को सब्मिट किया था, जिसका भुगतान आज तक नहीं किया गया है। उक्त सप्लायर का यह भी कहना था कि इतने लंबे समय तक बिल रोककर रखा जाता है, तब भी उस पर रेलवे द्वारा कोई व्याज नहीं दिया जाता है।


उल्लेखनीय है कि प्रत्येक टेंडर या सप्लाई ऑर्डर जारी करने से पहले ही निर्धारित मात्रा में संबंधित अधिकारियों द्वारा अपना कमीशन कांट्रेक्टर या सप्लायर से एडवांस में ले लिया जाता है। तथापि समय पर बिल भुगतान की जिम्मेदारी कोई अधिकारी नहीं लेता है। यही स्थिति टेंडर जारी करने वाले विभाग से लेकर लेखा विभाग तक समान रूप से लागू है। रेल अधिकारियों का सिर्फ एक ही जवाब है कि फंड नहीं है।


उन्होंने बताया कि अब यह हालत है कि कोई अधिकारी काम करने के लिए भी दबाव नहीं बना रहा है, इसके चलते रेलवे के लगभग सभी काम ठप पड़ गए हैं। कांट्रेक्टर्स का यह भी कहना है कि जो काम पूरे हो जाते हैं, और जिनका फाइनल बिल सब्मिट हो जाता है अथवा फाइनल भुगतान भी हो जाता है, उन कार्यों के लिए जमा कराई गई ईएमडी, सिक्योरिटी डिपॉजिट और बैंक गारंटी भी रेलवे द्वारा समय से नहीं लौटाई जाती है। इन्हें लौटाने में भी सालों लगा दिए जाते हैं। यही नहीं, यह वापस लेने के लिए भी कांट्रेक्टर्स और सप्लायर्स को अलग से दस्तूरी देनी पड़ती है।


मुंबई सेंट्रल डिवीजन, पश्चिम रेलवे के तमाम कांट्रेक्टर्स और सप्लायर्स ने 31 जनवरी को बाकायदा एक पत्र लिखकर मंडल रेल प्रबंधक (डीआरएम) को वर्क एक्जीक्यूशन में आने वाली परेशानियों और लंबे समय से बिलों का भुगतान न होने से अवगत कराया है।


एनआईए को भीमा कोरेगांव हिंसा की जांच

मुंबई। महाराष्ट्र की गठबंधन सरकार में शामिल दलों के बीच सामंजस्य में कमी फिर सामने आई है। शिवसेना के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने एक ऐसा कदम उठाया है जिसका शिवसेना के सहयोगी दल राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के प्रमुख शरद पवार ने मुखरता से विरोध किया था। पिछले महीने महाराष्ट्र सरकार ने भीमा कोरेगांव हिंसा (Bhima-Koregaon Violence) की जांच राष्ट्रीय जांच एजेंसी को सौंपे जाने का विरोध किया था। लेकिन अब मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने इसकी मंजूरी दे दी है। हालांकि महाराष्ट्र सरकार के इस कदम को एनसीपी प्रमुख शरद पवारने गलत बताया है।


राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) प्रमुख शरद पवार ने पिछले माह आरोप लगाया था कि केंद्र ने भंडाफोड़ होने के डर से भीमा-कोरेगांव हिंसा मामले की जांच एनआईए को सौंपी है। पवार ने कहा था कि अन्याय के खिलाफ बोलना नक्सलवाद नहीं है। उन्होंने ने कहा था कि ” मेरे खयाल से सरकार को डर है कि उसका भांडा फूट जाएगा। इसलिए (मामले को एनआईए को सौंपने का) फैसला किया गया है।” पवार ने एल्गार परिषद मामले में कार्यकर्ताओं के खिलाफ पुणे पुलिस की कार्रवाई की जांच कराने के लिए सेवानिवृत न्यायाधीश के नेतृत्व में विशेष जांच दल गठित करने की मांग की थी।


कुपोषण पर पोषण वाटिका करेगी वार

सुपोषण वाटिका की ताजी सब्जियां कर रही पोषण ऊर्जा का संचार


परिषदीय विद्यालयों में शिक्षक व छात्रों के संयुक्त प्रयास से जैविक तरीके से उगाई जा रही शुद्ध व ताजी सब्जियांं


जरवलरोड, (बहराइच)। परिषदीय विद्यालयों में पढ़ने वाले बच्चों को पढ़ाई के साथ साथ मिलने वाले मिड डे मील के लिए ताजी सब्जियों की कमी दूर करने हेतु स्कूल में पोषण वाटिका विकसित करने की बेसिक शिक्षा विभाग की योजना धरातल पर उतरने लगी है। जिले के 3453 परिषदीय विद्यालयों में बच्चों को रोजाना मिड-डे मील परोसा जाता है, अक्सर निरीक्षण के दौरान खाने में ताजी सब्जियां नहीं पाई जाती थी जिसके पीछे मुख्य वजह सुबह खाना बनाते समय बाजार से ताजी सब्जियों की उपलब्धता रसोई तक नही हो पाना रहती थी। विभागीय निर्देशानुसार प्रत्येक विद्यालय परिसर में व स्कूल की छतों पर, गमलों, जूट के बैग आदि में मौसमी फल व सब्जियां उगाये जाने के निर्देश हुए जिस पर अमल भी शुरू हुआ। जिले के विभिन्न विकास खंडों में पोषण वाटिका में तैयार सब्जियां की खुशबू रसोई में आनी शुरू हो गयी है। स्कूलों में शिक्षक- छात्रों के संयुक्त प्रयास से आलू, टमाटर, गोभी, लौकी, हरी मिर्च, हरा धनिया, मूली, पालक, भिंडी, बैंगन आदि उगाए जा रहे हैं। मौसम व मेन्यू के हिसाब से शिक्षक सब्जी का चयन करते हैं। पोषण वाटिका की देखरेख में छात्रों का सहयोग लिया जाता है। जरवल विकास खण्ड के प्राथमिक विद्यालय धनराजपुर  में शिक्षिकाओ, बच्चों तथा रसोइयों की मदद से ताजी मौसमी सब्जियां उगाई जा रही हैं जिनका रोजाना बनने वाले मिड डे मील के लिए  मेन्यू के अनुसार प्रयोग किया जाता है। अब दोपहर की थाली में ताजी सब्जियों से बच्चों को न सिर्फ आवश्यक पोषक तत्व मिलते हैं बल्कि स्कूल की पोषण वाटिका में की गयी मेहनत से उनमें स्वावलम्बन की भावना का भी विकास हो रहा है। “बाजार से नही खरीदते सब्जी”-सोमिता राज, प्रभारी प्रधानाध्यापिका, प्रा० वि०-धनराजपुर। “स्कूल में बनने वाले भोजन के लिए प्रयास होता है कि बाजार से सब्जी न खरीदनी पड़े। हम बच्चों की सेहत को ध्यान में रखकर पूर्णत: जैविक विधि से सब्जियां उगाते हैं। इन सब्जियों में रासायनिक उर्वरक, कीटनाशक का प्रयोग कतई नहीं किया जाता है।


 कैलाश नाथ राना की रिपोर्ट


सुरक्षा को लेकर 'शिव-मंदिरों' का निरीक्षण

विभोर सक्सेना


रामपुर। फाल्गुन माह को देखते हुए पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार मिश्रा ने महाशिवरात्रि को लेकर मन्दिरो की सुरक्षा व्यवस्ता का जायजा लिया। निर्देश द्वारा आगामी महाशिवरात्रि पर्व के दृष्टिगत लिया गया, रठौण्डा स्थित शिवमंदिर की सुरक्षा व्यवस्था का जायजा। सीसीटीवी कैमरे, पुलिस पेट्रोलिंग सम्बन्धी दिये गये आवष्यक दिशा निर्देश।


आगामी महाशिवरात्रि पर्व के दृष्टिगत पुलिस अधीक्षक, रामपुर  द्वारा थाना मिलक क्षेत्रान्तर्गत रठौण्डा स्थित शिवमंदिर की सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लेते हुए, मंदिर के पुजारी एवं कमेटी के सदस्यों से वार्ता की गयी। सुरक्षा को देखते हुए मंदिर के अन्दर जाने वाले मुख्यद्वार एवं बाहयद्वार पर सीसीटीवी कैमरे, मुख्य-मुख्य चैराहों पर बैरिकेटिंग एवं पुलिस डयूटियाॅ और पुलिस पेट्रोलिंग सम्बन्धी सम्बन्धित को आवश्यक दिशा निर्देश दिये गये।


थाना समाधान दिवस में पुलिस अधीक्षक रामपुर संतोष कुमार मिश्रा द्वारा थाना मिलक परिसर में फरियादियों की समस्याओं को सुना गया तथा थाना क्षेत्र के सम्भ्रान्त व्यक्तियों से की गयी वार्ता,पुलिस अधीक्षक रामपुर संतोष कुमार मिश्रा द्वारा थाना मिलक, रामपुर पर आयोजित हो रहे थाना समाधान दिवस में अचानक पहुॅचकर फरियादियों की समस्याओं को सुना गया एवं उनके निस्तारण हेतु सम्बन्धित को आवश्यक दिशा निर्देेश दिये गये तथा थाना मिलक क्षेत्र के सम्भ्रान्त व्यक्तियों से वार्ता की गयी और उनको सुरक्षा का भरोसा दिलाया गया।
शासन के मंशा के अनुरूप प्रत्येक माह के प्रथम एवं तृतीय शनिवार को जनपद के समस्त थानों पर थाना समाधान दिवस मनाया जाता है, जिसमें प्रत्येक विभाग के अधिकारी/कर्मचारियों द्वारा फरियादियों की समस्याओं को सुना जाता है और उनके निस्तारण हेतु टीमों द्वारा तुरन्त मौके पर पहॅुचकर निस्तारण कराया जाता है।


पुलिस अधीक्षक, रामपुर सन्तोष कुमार मिश्रा द्वारा थाना मिलक, रामपुर का किया गया आकस्मिक निरीक्षण
पुलिस अधीक्षक, रामपुर  सन्तोष कुमार मिश्रा द्वारा थाना मिलक, रामपुर का अचानक निरीक्षण किया गया, निरीक्षण के दौरान थाना कार्यालय पर बने अपराध रजिस्टर, त्यौहार रजिस्टर, विवेचना रजिस्टर, भूमि विवाद रजिस्टर, डयूटी रजिस्टर, फ्लाई सीट, आदि एवं उनके रख रखाव, उनमें अंकित की जाने वाली प्रविष्टियों को चैक किया गया। साथ ही थाना परिसर में बने बैरक, मैस, मालखाना, कंम्प्यूटर रूम की साफ-सफाई को चैक किया गया। सन्तरी पहरा डयूटी पर लगे आरक्षी से सन्तरी के कर्तव्य के बारे में पूछा गया। बीट आरक्षियों की बीट बुक को भी चैक किया गया एवं थाना प्रभारी मिलक को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये।


प्यार में पागल बेटी ने की 'मां की हत्या'

अश्वनी उपाध्याय


गाजियाबाद। दिल्ली से सटे यूपी के गाजियाबाद में प्यार में पागल एक नाबालिग बेटी ने अपनी ही मां की हत्या कर दी। दिल्ली के बृज विहार थाने में तैनात दिल्ली पुलिस की हेड कांस्टेबल शशि शुक्ला को उसी की नाबालिग बेटी ने साजिश के तहत प्रेमी के साथ मिलकर मौत के घाट उतार दिया। शुरुआती रिपोर्ट के मुताबिक हत्या का कारण मां का प्रेमी और प्रेमिका (बेटी) के बीच आना था जो इस महिला पुलिसकर्मी की बेटी को रास नहीं आ रहा था। इस सनसनीखेज हत्या के बाद पूरा पुलिस महकमा सकते में है।


मामले की जब जांच की गई तो सच सामने आया। पुलिस को शुरुआती जांच में बेटी पर इस हत्या में शामिल होने का शक हुआ और जब पुलिस ने नाबालिग बेटी से सख्ती से पूछताछ की तो वो टूट गई और पूरे मामले का खुलासा कर दिया। बताया जा रहा है कि महिला पुलिसकर्मी अपनी नाबालिग बेटी को बार-बार लड़के से दूर रहने के लिए फटकार लगाती थी, जो उसे पसंद नहीं था। इसलिए उसने अपनी मां को रास्ते हटाने की खौफनाक साजिश रच दी। गुनाह कुबूलने के बाद  पुलिस ने आरोपी लड़की और उसके प्रेमी को गिरफ्तार कर लिया है।


आज कुंभ मेले का पहला शाही स्नान

ऋषिकेश। वर्ष 2021 में होने वाले कुंभ मेले के दौरान एक शाही स्नान ऋषिकेश में भी करने की मांग नगर निगम और संतों ने रखी थी। जिस पर शासन ने अपनी स्वीकृति दे दी है।
       इस संबंध में नगर निगम की मेयर अनीता ममगाई ने प्रेस वार्ता कर जानकारी दी। बताया कि 16 फरवरी 2021 को ऋषिकेश में शाही स्नान कराने की स्वीकृति शासन की ओर से दी गई है। इस संबंध में अब जल्दी ही साधु संतों से वार्ता कर शाही स्नान की तैयारियों को परवान चढ़ाने के प्रयास किए जाएंगे। इस संबंध में अपार मेला अधिकारी ललित नारायण मिश्रा ने नगर निगम को पत्र जारी कर व्यवस्थाएं बनाने के लिए भी निर्देशित किया है। बताया नगर निगम शाही स्नान को सुव्यवस्थित तरीके से संपन्न कराने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ेगा। शहर को दुल्हन की तरह सजाया जाएगा। हर संभव व्यवस्थाओं को पूरा करने की कोशिश की जाएगी। इसी के साथ एक सवाल के जवाब में उन्होंने बताया कि शाही स्नान में अतिक्रमण को भी रोड़ा बनने नहीं दिया जाएगा। निगम समय-समय पर अभियान चलाकर अतिक्रमण हटा रहा है। इसी कड़ी में शाही स्नान को लेकर विशेष अभियान भी चलाया जाएगा। जिसमें अतिक्रमण को साफ कर साधु-संतों के लिए पैदल चलने के लिए व्यवस्था बनाई जाएगी। बताया इतिहास में पहली बार ऋषिकेश में शाही स्नान किया जाएगा। जिससे ऋषिकेश का नाम अब पूरी दुनिया में और बेहतर तरीके से पहचाना जाएगा। पत्रकार वार्ता में संत समिति के अध्यक्ष महंत विनय सारस्वत, महंत अखिलेश भारती,मंहत धर्मदास, मंहत हरि दास,मंहत धर्मानंद गिरी,मंहत नित्यानंद गिरी,मंहत रामेश्वर गिरी,मंहत कृषणानंद,मंहत नित्यानंद पुरी, पार्षद राजेश दिवाकर, पार्षद विजेंद्र मोघा, पार्षद मनीष मनवाल, जिला मंत्री पंकज शर्मा, राजपाल ठाकुर, आदि मौजूद रहे।


कैसे और कब उठी विवादों की दीवार

तारिक आज़मी की मोरबतियाँ – जैतपुरा थाना क्षेत्र के सरैया में आखिर कैसे और कब उठी ये विवादों की दीवार



तारिक आज़मी


वाराणसी। कुछ संवेदनशील थाना क्षेत्रो में जोड़ा जाए तो जैतपुरा भी एक क्षेत्र है। अतिसंवेदनशील तो नही कम से कम संवेदनशील तो कहा ही जा सकता है। इस क्षेत्र के संवेदनशील होने के मुख्य कारको में एक कारण यहाँ की शिक्षा भी है। जी हां, सही समझा अल्प शिक्षित इस क्षेत्र में कई बार विवाद केवल और केवल शिक्षा की कमी के वजह से ही हो जाता है। दो लभनी के बाद एक दुसरे के साथ दो थप्पड़ लेन देन की घटना को भी बड़े स्तर से दिखाने की कोशिश हो जाती है। मगर जब आप गहराई में जाए तो निकलेगा कि खोदा पहाड़ और निकला चूहा।


बहरहाल, ऐसे ही संवेदनशील क्षेत्र के सरैया पुलिस चौकी अंतर्गत अमरपुर बटलोहीया में आज कल विवादों की उठी एक दिवार चर्चा का कारण बनी हुई है। समतल संपत्ति पर रातो रात दिवार खडी करके विवादों को न्योता देने वाले वैसे अक्सर पुलिस चौकी के आसपास मंडराते ही दिखाई देते है। मगर शायद स्थानीय पुलिस मामले की गंभीरता को नही आकलन कर पा रही है। प्रकरण कुछ इस प्रकार है कि अमरपुर बटलोहीया में एक छोटी सी संपत्ति है। संपत्ति को जलेबिया मोड़ के नाम से भी लोग जानते है। संपत्ति विवादों का केंद्र है और इसका प्रकरण न्यायालय में विचाराधीन है। संपत्ति खुली हुई थी और आम जन मानस आने जाने का रास्ता भी समझते थे। अचानक इस संपत्ति पर रातो रात दिवार खडी हो गई। अब अचानक एक पक्ष रातो रात दिवार खडी कर डाले और उसको शासन प्रशासन का खौफ न हो तो बात समझ से थोडा परे आपको भी नज़र आएगी।


सुबह होने पर जब लोगो ने खुली संपत्ति पर खडी दिवार देखा तो चर्चा का केंद्र बन बैठा। कुछ तो तफरी लेने के लिए जिन्नाती दिवार का नाम भी इसको देने लगे। मगर मामले में लोग सिर्फ चर्चा करके कुछ वक्त के लिए मूकदर्शक बनना चाहते थे, और बने हुवे भी है। इस दिवार के खड़े हो जाने की जानकारी दुसरे पक्ष को फोन पर किसी ने दिया जो शहर के बाहर कारोबारी सिलसिले में रहता है। कल दोपहर वह पक्ष भी शहर में वापस आया और दिवार देख कर उसके पेशानी पर शिद्दत की दरार तक खडी हो गई। सुना जा रहा है कि स्थानीय चौकी इंचार्ज से संपर्क करने पर जब दुसरे पक्ष को राहत मिलती नही दिखाई दी, तो उसने तत्काल जिलाधिकारी को प्रकरण के सम्बन्ध में प्रार्थना पत्र दे डाला। अब इस विवादो की दिवार पर बीती रात को देर रात पुलिस पहुची और डायल 112 की शिकायत का हवाला देकर दोनों पक्षों को पुलिस चौकी लेकर चली गई। पुलिस चौकी पर साहब ने रौबदार तरीके से मामले को हैंडल किया और दोनों पक्ष को हड़का डाला। एक पक्ष जिसने इस विवादित संपत्ति पर विवादों की दिवार खडी किया था उसका कहना था कि दूसरा पक्ष मन में प्लान बना कर बैठा है कि आज देर रात दीवार को तोड़ देगा। चौकी इंचार्ज महोदय ने प्रकरण सुना तो दुसरे पक्ष को जमकर हड़का डाला और कहा बिना आदेश के दीवार पर हाथ न लगे। अब बात जो समझ में नहीं आई कि दरोगा जी का कहना बिलकुल सही है कि विवादित संपत्ति पर बिना आदेश के कुछ नही होगा। दीवार तोडना तो दूर उसको हाथ लगाना भी गलत होगा। मगर चौकी इंचार्ज साहब एक बात नही बता पा रहे है कि जब संपत्ति विवादित थी तो फिर ये विवादों की दीवार किसके आदेश पर खडी कर दी गई। कही साहब ने खुद तो मौखिक आदेश नही दे दिया था।


दूसरी बात समझ से परे थी कि जब दुसरे पक्ष ने मन में सोचा था दीवार को गिराने के लिए तो आखिर कितनी जोर से सोचा कि मन की बात बाहर निकल का दुसरे पक्ष को पहुच गई और दुसरे पक्ष से साहब तक पहुच गई। लगता है कि मन शायद ऊँचा सुनता होगा और मन को सुनाने के लिए जोर से सोच लिया होगा और दीवारो के कान तो होते ही है ये जग जाहिर है। बस मन की बात ऊँचे स्वर में होने के कारण दीवारों के कानो ने सुन लिया होगा और साहब ने न्याय व्यवस्था को संभाल लिया और कहा कि बिना आदेश के कोई काम नही होगा। मगर साहब बिना आदेश के विवादों की दीवार जब खडी हुई तो उस समय क्या हुआ था आदेशो का


बहरहाल, इस विवादित संपत्ति पर विवादों की दीवार उठा क्षेत्र में चर्चा का विषय बना हुआ है। शायद जो चर्चाये इस दीवार को लेकर है वही किसी न किसी रोज़ किसी विवाद का कारण बन जाए। हमको क्या करना है। विवाद पर भी तो समाचार बनेगा।


तुफां भी हार जाते हैं, कश्ती जिद पर हो

वरिष्ठ पत्रकार शंकर पांडेय



दिल्ली में विधानसभा चुनाव के परिणाम ‘आप’ और अरविंद केजरीवाल के पक्ष में गये हैं। केजरीवाल उसी दिल्ली में तीसरी बार अपनी सरकार बनाएंगे जहां से नरेन्द्र मोदी बतौर प्रधानमंत्री देश चलाते हैं। बहरहाल दिल्ली विधानसभा चुनाव में भाजपा की बुरी हार फिर चर्चा में है। दिल्ली विधानसभा को चुनाव में तो भाजपा ने चुनाव में किये गये वायदों को दरकिनार करके हिन्दू गौरव जैसे मुद्दों में चुनाव लडऩे में कोई संकोच नहीं किया, गोलीमार देना चाहिये, हिन्दुस्तान-पाकिस्तान का मैच, शाहीनबाग मुद्दों को जमकर उठाया गया, केजरीवाल ने पूरा चुनाव अपने कार्यकाल सहित शिक्षा, स्वास्थ्य, पीने का साफ पानी, प्रदूषण और बिजली के सुधार पर केन्द्रित किया था, एक टीवी कार्यक्रम में एंकर द्वारा हनुमान चालीसा से जुड़ा एक सवाल पूछा और उन्होंने सस्वर हनुमान चालीसा का पाठ कर उन लोगों के सोच पर भी हमला किया जो उन्हें हिन्दु विरोधी ठहरा रहे थे। इधर भाजपा के गली-कूचे के नेताओं सहित कुछ शीर्ष नेताओं ने तो दिल्ली की 70 सीटों वाली विधानसभा चुनाव जीतने हिन्दुस्तान-पाकिस्तान, शाहीनबाग, कश्मीर और राममंदिर के नाम पर फोकस करने की बात करते रहे।



ऐन विधानसभा चुनाव के पहले राममंदिर ट्रस्ट की घोषणा करके भाजपा ने चुनावी विमर्श में एक और महत्वपूर्ण मुद्दा भी जोडऩे का प्रयास किया। अगर इस घोषणा के बाद आम आदमी पार्टी के लोग चुनाव आयोग जाते और आचार संहिता की अनदेखी का मामला उठाते तो उनको राममंदिर विरोधी भी ठहराने में भाजपा पीछे नहीं रहती। बहरहाल केजरीवाल दिल्ली में अपने 5 साल के कार्यकाल में किये गये विकास कार्यों पर ही वोट मांगते रहे। उन्होंने तो यहां तक कहा कि यदि मेरी सरकार ने 5 साल में कार्य नहीं किया है तो मुझे वोट मत देना, इतनी साफगोई से बात करने का किसी मुख्यमंत्री या पार्टी नेता का पहला अवसर था।


बहरहाल दिल्ली में विधानसभा चुनाव भाजपा के लिए प्रतिष्ठा का सवाल बना था। पार्टी का सबसे बड़़ा मुद्दा राममंदिर के निर्माण की घोषणा चुनाव पूर्व करना तथा मंदिर निर्माण ट्रस्ट की घोषणा करना भी था कोई भी राजनीति शास्त्र का विद्यार्थी समझ सकता है कि इसका भी लाभ लेने की रणनीति भाजपा की थी। पुलवामा सहित पाक में घुसकर मारने के नाम पर पिछला लोकसभा चुनाव का परिणाम जरूर भावनात्मक मुद्दे पर भाजपा के पक्ष में गया पर पिछले 2 सालों में 7 राज्यों में भाजपा की असफलता की चर्चा भी रही। छत्तीसगढ़ में 15 सालों की डॉ. रमन सिंह सरकार को 15 सीटों में सिमटा दिया गया, राजस्थान, म.प्र., झारखंड, महाराष्ट्र में गैर भाजपा सरकार बनी, हरियाणा में जोड़-तोड़ कर जरूर भाजपा की फिर सरकार बनी और दिल्ली में तो 70 सीटों में महज 8 सीटों पर ही भाजपा के विधायक जीत सके, 62 सीटों पर जीतकर आप में भाजपा के तमाम भावनात्मक मुद्दों पर पानी फेर दिया दिल्ली के विधानसभा चुनावमें भाजपा सरकार के लगभग सभी मंत्री, 200 के आसपास सांसद, स्वयं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भाजपा के रणनीतिकार अमित शाह सहित भाजपा के नवनियुक्त अध्यक्ष जे.पी. नड्डा ने भी कमान संभाली पर सरकार बनाने में असफल रहे वहीं कुछ सालों पहले ही राजनीति में जन्मी ‘आप’ पार्टी तीसरी बार सरकार बनाने में सफल रही। जहां तक कांग्रेस की बात है तो उसे इस बार भी एक भी सीट नहीं मिली वैसे यह कहा जा सकता है कि कांग्रेस के बड़े नेताओं ने दिल्ली विधानसभा चुनाव में वह रूचि नहीं ली जिसकी उम्मीद की जा रही थी। राहुल और प्रियंका ने एक-दो स्थानों पर जरूर प्रचार किया।


यूपी सीएम योगी को पत्रकारों से खतरा

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की जान को खतरा है। इसके लिए आईबी व अन्य खुफिया एजेंसियों ने अलर्ट जारी किया है। एजेंसियों के मुताबिक आतंकी पत्रकार बनकर गोरखनाथ मंदिर में मुख्यमंत्री पर हमला कर सकते हैं। इस सूचना के बाद पुलिस प्रशासन ने शहर के पत्रकारों की सूची ली और एलआईयू जांच कराने के बाद सबका फोटोयुक्त पहचान पत्र बना दिया है। अब मुख्यमंत्री के कार्यक्रम की कवरेज के लिए गोरखनाथ मंदिर में वही पत्रकार प्रवेश कर सकेंगे, जिनके पास पुलिस से जारी पहचान पत्र रहेगा।
जानकारी के मुताबिक, दो महीने पहले खुफिया एजेंसियों ने गोरखनाथ मंदिर में ही मुख्यमंत्री पर हमला होने की अलर्ट जारी किया था। इसके बाद पुलिस ने मंदिर का सुरक्षा घेरा बढ़ा दिया। मंदिर के आसपास हथियारबंद अतिरिक्त फोर्स भी बढ़ा दी गई। दरअसल, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गोरखनाथ मंदिर में पत्रकारों से सहजता से मिलते हैं। खुफिया सूचना के मुताबिक इसका फायदा आतंकी उठा सकते हैं। वे पत्रकारों के बीच में शामिल होकर जानलेवा हमला कर सकते हैं। खुफिया एजेंसियों के अलर्ट को पुलिस, प्रशासन ने गंभीरता से लिया। फोटोयुक्त पहचान पत्र अब बनकर तैयार हैं। इसे जल्द ही अधिकृत पत्रकारों को उपलब्ध करा दिया जाएगा।
एसएसपी डॉ. सुनील कुमार गुप्ता ने कहा कि पत्रकारों को असुविधा ना हो और उनकी पहचान हो सके इसके लिए पहचान पत्र बनवाया गया है। जल्द ही मीडिया हाउस से अधिकृत पत्रकारों को फोटोयुक्त पहचान पत्र मुहैया कराया जाएगा। इसके बाद मुख्यमंत्री के कार्यक्रम में उन्हीं पत्रकारों की इंट्री होगी, जिनके पास पहचान पत्र होगा। हालांकि मंदिर की सुरक्षा कई स्तरीय हैं। वहां सुरक्षा में कवच वाहन भी रहता है।


7 बच्चों का बाप 3, बच्चों की मां 'फरार'

दरभंगा। जिले के बहादुरपुर क्षेत्र में शिवदास की पत्नी मालती देवी ने शुक्रवार को संबंधित थाने में एक मामला दर्ज कराया हैं। उनके पति एक पड़ोसन के साथ फरार हो गया है। मालती देवी ने बताया कि उनकी शादी 18 वर्ष पूर्व हुई थी। उन्हें पांच बेटी एवं दो बेटे हैं। पिछले दो वर्षों से उनके पति का गांव की ही एक पड़ोसन महिला से के साथ गुप्त प्रेम संबंध चल रहा था। गुरुवार की रात अचानक उस  महिला और महिला के तीनों बच्चों के साथ लेकर पति फरार हो गया। जबकि अपने सातों बच्चों को छोड़ गए। पीड़िता ने अपने पति के विरुद्ध पत्नी ने कानूनी कार्यवाही की गुहार लगायी है।


सालासर में दुग्धाभिषेक महाआरती छप्पन-भोग

रायपुर। प्रदेश के सालासर बालाजी धाम के दूसरे वार्षिकोत्सव का आयोजन 15 और 16 फरवरी किया जा रहा है। राजधानी में अग्रसेन धाम के पास मध्यभारत का एकमात्र सिद्ध सालासर बालाजी मंदिर है। वार्षिकोत्सव के पहले दिन सेवा समिति ने अखंड रामायण का आयोजन किया। दोपहर 12 बजे महाप्रसादी का आयोजन किया गया है। जिसमें 5 हजार श्रद्धालु महाभंडारा में प्रसाद का लाभ ले सकेगें। दोपहर 3 बजे राम मंदिर से सालासर बालाजी मंदिर तक निशान यात्रा निकाली गई। यहां मनोकामना पूर्ति के लिए सैकड़ों श्रद्धालु प्रतिदिन पहुंच रहे हैं। बालाजी धाम में मुंडन संस्कार की व्यवस्था भी है। यहां मन्नत का धागा बांधने दूर-दूर से लोग आते हैं।


मंदिर समिति अध्यक्ष सुरेश गोयल ने बताया कि सालासर बालाजी मंदिर में आज बड़ी संख्या में भक्तजन शामिल हुए। विशाल निशान यात्रा राम मंदिर से प्रारंभ होकर लगभग 5 किलोमीटर पैदल यात्रा कर सालासर मंदिर पहुंची। जिसमें भक्तों का हुजुम उमड़ पड़ा। सालासर बालाजी धाम में वार्षिकोत्सव के दूसरे दिन 16 फरवरी को सुबह 10 बजे दुग्धाभिषेक होगा। उसके बाद 11 बजे सवामणी का भोग लगाया जाएगा। दोपहर 2.30 बजे महाभंडारा का आयोजन किया गया है। जबकि शाम 7 बजे भजन संध्या में सुप्रसिद्ध भजन गायक लखबीर सिंह लक्खा की प्रस्तुति होगी। रात साढ़े 9 बजे भोज रखा गया है।


पूर्व आईएएस फैसल पर लगाया पीएसए

नई दिल्ली। पूर्व आईएएस शाह फैसल पर जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने पब्लिक सिक्योरिटी एक्ट (पीएसए) लगाया गया है। इससे पहले जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारुख अब्दुल्ला, उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती के खिलाफ भी पीएसए के तहत मुकदमा दर्ज किया गया था। शाह फैसल पर प्रशासन ने पीएसए के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। आईएएस की नौकरी छोड़कर राजनीति में आने वाले शाह फैसल जम्मू और कश्मीर पीपुल्स मूवमेंट के अध्यक्ष हैं। जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा समाप्त करने के केंद्र के फैसले के बाद से नजरबंद रखे गए पूर्व नौकरशाह शाह फैसल पर अब कठोर प्रावधानों वाले जन सुरक्षा कानून (पीएसए) के तहत मामला दर्ज है। यह कानून प्रशासन को किसी व्यक्ति को बिना मुकदमे के छह महीने तक हिरासत में रखने की अनुमति देता है। बता दें कि जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के बाद शाह फैसल को पिछले साल 14 अगस्त को सीआरपीसी की धारा 107 के तहत हिरासत में लिया गया था। बाद में उन्हें कस्टडी में लेकर एमएलए हॉस्टल में रखा गया था। अभी ये तय नहीं है कि शाह फैसल को उनके घर में शिफ्ट किया जाएगा या एमएलए हॉस्टल में ही रखा जाएगा।


ऑस्ट्रेलिया में होगा महिला टी 20 विश्वकप

सिडनी (एजेंसी)। ऑस्ट्रेलिया में 21 फरवरी से आईसीसी महिला टी-20 विश्व कप का सातवां सीजन शुरू हो रहा है। 8 मार्च 2020 को टूर्नामेंट का फाइनल मुकाबला खेला जाएगा। 2009 में इंग्लैंड पहला विश्व विजेता बना था। इसके बाद 2010, 2012 और 2014 लगातार तीन बार ऑस्ट्रेलियाई महिलाओं ने वर्ल्ड कप जीता। 2016 में वेस्टइंडीज ने भारतीय सरजमीं पर फाइनल में ऑस्ट्रेलिया को हराकर वर्ल्ड कप पर कब्ज़ा किया, लेकिन 2018 में ऑस्ट्रेलिया ने फिर से ट्रॉफी अपने नाम करने का मन बना लिया है।


आज सीएम की शपथ लेंगे केजरीवाल

रवि चौहान


नई दिल्ली। दिल्ली में चुनावी माहौल पूरी तरह से थम गया है। इसके साथ ही तीसरी बार दिल्ली के सीएम पद के लिए अरविंद केजरीवाल रविवार को शपथ लेंगे। राष्ट्रपति की ओर से केजरीवाल और उनके कैबिनेट के शपथ ग्रहण को मंजूरी मिल गई है। इस संबंध में आधिकारिक अधिसूचना जारी कर दी गई है। केजरीवाल के साथ पटपड़गंज विधायक मनीष सिसोदिया, शकूर बस्ती विधायक सतेंद्र जैन, बाबरपुर विधायक गोपाल राय, नजफगढ़ विधायक कैलाश गहलोत, बल्लीमारान विधायक इमरान हुसैन और सीमापुरी विधायक राजेंद्र गौतम मंत्री पद की शपथ लेंगे। ये सभी चेहरे अरविंद केजरीवाल की पिछली सरकार में भी मंत्री थे।
आप संयोजक केजरीवाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को रविवार 16 फरवरी को रामलीला मैदान में होने वाले अपने शपथ ग्रहण समारोह के लिए आमंत्रित किया है। पार्टी के वरिष्ठ नेता गोपाल राय ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। इसके साथ ही अन्य राज्यों का कोई भी मुख्यमंत्री या नेता समारोह का हिस्सा नहीं होगा क्योंकि यह विशिष्ट रूप से दिल्ली का समारोह है। केजरीवाल ने अखबारों में विज्ञापनों के जरिए दिल्लीवासियों से अपने शपथ ग्रहण समारोह में आने का अनुरोध किया है। केजरीवाल अपनी कैबिनेट के साथ रविवार को सुबह 10 बजे रामलीला मैदान में मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे।


मैं नंबर एक मोदी नंबर दोः डोनाल्ड ट्रंप

नई दिल्ली (एजेंसी)। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भारत दौरे को लेकर काफी उत्साहित दिख रहे हैं। बता दें कि डोनाल्ड ट्रंप दो दिवसीय दौरे पर भारत आ रहे हैं। उनका कहना है कि भारत जाना उनके लिए सम्मान की बात है। ट्रंप 24 और 25 फरवरी को भारत दौरे पर रहेंगे। इस दौरान उनकी पत्नी मेलानिया ट्रंप भी उनके साथ होंगी। बताया जा रहा है कि अहमदाबाद में अमेरिकी राष्ट्रपति भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ हजारों लोगों की सभा को संबोधित भी कर सकते हैं। यह कार्यक्रम मोटेरा स्टेडियम में रखा जाएगा। इसे दुनिया का सबसे बड़ा क्रिकेट स्टेडियम बताया जा रहा है। भारत दौरे से पहले शनिवार ट्रंप ने एक ट्वीट किया, जिसमें उन्होंने पीएम मोदी और फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग का जिक्र किया है।
डोनाल्ड ट्रंप ने ट्वीट किया, 'मुझे लगता है कि ये बड़ा सम्मान है। मार्क जुकरबर्ग ने हाल ही में बताया था कि डोनाल्ड ट्रंप फेसबुक पर नंबर 1 हैं। दूसरे नंबर पर भारत के प्रधानमंत्री मोदी हैं। दरअसल मैं अगले दो हफ्ते में भारत जा रहा हूं। भारत दौरे से पहले ट्रंप ने कहा था कि वह इस माह अपनी पहली भारत यात्रा को लेकर उत्सुक हैं। उन्होंने संकेत दिए कि उनकी इस यात्रा के दौरान दोनों देशों के बीच व्यापार समझौते पर हस्ताक्षर हो सकते हैं। मोदी ने बुधवार को अपने ट्वीट में कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की भारत यात्रा विशेष है और यह भारत-अमेरिका की दोस्ती को और मजबूत बनाने की दिशा में अहम कदम साबित होगी।


प्रदर्शनकारी महिलाओं दल गृहमंत्री से मिलेगा

नई दिल्ली (एजेंसी)। संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) के खिलाफ धरने पर बैठीं शाहीन बाग की महिलाओं ने गृहमंत्री अमित शाह की ओर से बातचती के लिए रखे प्रस्ताव को स्वीकार कर लिया है। प्रदर्शनकारी महिलाओं का एक प्रतिनिधिमंडल रविवार को गृहमंत्री से मुलाकात करेगा। हालांकि, इसको लेकर अभी मतभेद भी है। गौरतलब है कि गृहमंत्री अमित शाह ने टाइम्स नाउ समिट में कहा था कि अगले तीन दिन में सीएए को लेकर कोई भी उनसे आकर मुलाकात कर सकता है। शाह ने कहा कि जिस किसी को भी सीएए को लेकर आपत्ति है, वह उनसे बात करने के लिए तैयार हैं।शाहीन बाग में दिसंबर से ही धरने पर बैठी महिलाएं सीएए के साथ ही एनआरसी और एनपीआर का भी विरोध कर रही हैं। महिलाओं ने अब गृहमंत्री से मिलकर अपनी बात रखने का फैसला किया है। बताया जा रहा है कि रविवार को 2 बजे अमित शाह से मुलाकात होगी। हालांकि प्रदर्शनरकरियों के बीच इसे लेकर मतभेद है और एक गुट मीटिंग करने के पक्ष में और दूसरा विरोध में है। आज यह तय कर लिया जाएगा कि कौन-कौन इस प्रतिनिधिमंडल में शामिल होगा।


पाक हारा, भारत को मिलेंगे 325 करोड़

लंदन। हैदराबाद के निजाम के पैसों से जुड़े एक 70 साल पुराने मामले में आखिरकार अब फैसला आ गया है। लंदन के एक बैंक में करीब 7 दशक से कई सौ करोड़ रुपये फंसे हुए थे। अब ब्रिटेन में भारतीय दूतावास को लाखों पाउंड अपने हिस्से के तौर पर मिले हैं। इसके अलावा पाकिस्तान को भी भारत को 26 करोड़ रुपये देने पड़े हैं। यह रकम भारत द्वारा इस केस को लड़ने में खर्च पैसे का 65 फीसदी है।


लंदन में भारत सरकार के अधिकारियों ने हमारे सहयोगी टाइम्स ऑफ इंडिया से गुरुवार को इस बारे में बात की। अधिकारियों ने बताया कि ब्रिटेन में हाई कमीशन को 35 मिलियन पाउंड (325 करोड़ रुपये) अपने हिस्से के तौर पर मिले हैं। यह रकम 20 सितंबर 1948 से नैशनल वेस्टमिंस्टर बैंक अकाउंट में फंसा हुआ था। पाकिस्तान ने भी इस पैसे पर अपना दावा किया था।


पिछले साल अक्टूबर में हाई कोर्ट ने भारत और मुकर्रम जाह (हैदराबाद के 8वें निजाम) के पक्ष में फैसला सुनाया था। मुकर्रम और उनके छोटे भाई मुफ्फखम जाह पाकिस्तान के खिलाफ लंदन हाई कोर्ट में पिछले 6 साल से यह मुकदमा लड़ रहे हैं। बैंक ने पहले ही यह पैसा कोर्ट को ट्रांसफर कर दिया था।


अधिकारियों ने बताया कि पाकिस्तान ने भी भारत सरकार को 2.8 मिलियन (करीब 26 करोड़ रुपये) चुकाए हैं। यह भारत द्वारा लंदन हाई कोर्ट में इस केस पर आए खर्च की 65 फीसदी लागत है। बाकी बची हई लागत जो भारत ने खुद भरी है, उस पर अभी बातचीत चल रही है। लंदन में एक डिप्लोमेट ने टाइम्स ऑफ इंडिया से कहा, ‘खबर है कि पाकिस्तान ने पूरा पैसा चुका दिया है।


8वें निजाम के वकील ने टीओआई के साथ बातचीत में पुष्टि करते हुए बताया कि उनके क्लाइंट अपने हिस्से का पैसा और केस को लड़ने में लगा 65 फीसदी खर्च भी मिल गया है। बता दें कि भारत के मिले 35 मिलियन (325 करोड़ रुपये) काफी बड़ी रकम मानी जा रही है। अब यह पैसा नई दिल्ली को भेज दिया जाएगा।


मार्केटिंग की कार्यशाला का आयोजन

फैजल हयात


कानपुर । आज पी पी एन इंटर कॉलेज कानपुर में वेस्टिज मार्केटिंग प्राइवेट लिमिटेड की कार्यशाला का आयोजन किया गया।इस मौके पर  कंपनी से आए आराफात हुसैन तथा आदित्य गुप्ता ने बताया कि किस तरह एक परिवार अपने घर का किराना वेस्टिज मार्केटिंग प्राइवेट लिमिटेड से खरीदकर एक व्यापार शुरू कर सकता है और अपना जीवन अपने नियमों के अनुसार जी  सकता हैं।जैसे अपने मन का घर,अपने मन की कार,देश विदेश यात्रा,दूसरों की मदद,सामाजिक ,आर्थिक विकास,बच्चों की अच्छी शिक्षा,अच्छा स्वास्थ्य आदि।कंपनी के ग्रेड 1 क्वालिटी के उत्पादन। एक ऐसी आय( आमदनी )आपके जीवन में न रहने पर आपके परिवार की सुरक्षा देती है। इस मौके पर पी पी एन इंटर कॉलेज कानपुर के प्रधानाचार्य राकेश कुमार यादव,बलवीर सिंह, हरषेन्द कुमार यादव,शरद सविता,मोहम्मद फैजान व मोसिन बेगम आदि उपस्थित रहे।


सीएम भूपेश ने बच्चों को दी शुभकामनाएं

रायपुर। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) 10वीं और 12वीं बोर्ड की परीक्षाएं आज (15 फरवरी) से शुरु हो गई है। इस बार सीबीएसई की 10वीं परीक्षाएं 15 फरवरी से 20 मार्च और 12वीं की परीक्षा 15 फरवरी से 30 मार्च तक चलेंगी। इस साल करीब 30 लाख स्टूडेंट इस परीक्षा में शामिल होंगे, जबकि पिछले साल सीबीएसई बोर्ड परीक्षा में 27 लाख स्टूडेंट्स ने हिस्सा लिया था।


मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बच्चों को शुभकामनाएं देते हुए लिखा कि….आज से CBSE बोर्ड की कक्षा 10 वीं और 12 वीं की परीक्षाएं प्रारम्भ हो रही हैं। बच्चों ने वर्ष भर खूब मेहनत से पढ़ाई की है, अब उनकी परीक्षा का समय आया है। सभी बच्चों को मेरी ढेर सारी शुभकामनाएं। पूरे आत्मविश्वास और एकाग्रता के साथ अपना सर्वश्रेष्ठ दें, सफलता अवश्य मिलेगी।


सीबीएसई 10वीं बोर्ड की परीक्षाएं 15 फरवरी से 20 मार्च तक और 12वीं की परीक्षा 15 फरवरी से 30 मार्च तक चलेंगी। इस बार कक्षा 10वीं  के 18 लाख (1889878) और कक्षा 12वीं के 12 लाख (1206893) छात्र बोर्ड परीक्षा में बैठेंगे। परीक्षा सुबह 10 बजे से दोपहर 1 बजे तक आयोजित की जाएगी।


बच्चे इन बातों का रखें ध्यान..
एग्जाम सेंटर में सुबह 45 बजे पहुंचना होगा, क्योंकि 10 बजे गेट बंद हो जाएगा।
एडमिट कार्ड की कार्ड कॉपी अपने साथ रखें।
स्टूडेंट्स को स्कूल यूनिफार्म पहनना जरूरी है, प्राइवेट स्कूल के स्टूडेंट्स हल्के रंग के कपड़े पहनकर परीक्षा दे सकते हैं।
इसके अवाला स्टूडेंट्स को ज्वेलरी, डिजिटल वॉच आदि पहनने पर मनाही है।
ओएमआर सीट पर किसी तरह का रंग या व्हाइटनर न लगाएं।
एग्जाम सेंटर में 20 मिनट पहले पहुंचना होगा, परीक्षा शुरू होने पर 15 मिनट का समय पेपर पढ़ने के लिए दिया जाएगा।


जहां पर प्यार का इजहार है बैन

इंडोनेशिया(एजेंसी)। दुनियाभर में जहां 14 फरवरी को लोगों ने वैलेंटाइन्स डे सेलिब्रेट किया, वहीं कई लोग ऐसे भी थे, जिन्हें प्यार करने के लिए पुलिस कार्रवाई का सामना करना पड़ा। इंडोनेशिया के कुछ हिस्सों में पुलिस ने होटलों पर छापे मारे और दो दर्जन गैर शादीशुदा कपल्स को गिरफ्तार कर लिया।


इंडोनेशिया में प्रेम का खुलकर इजहार करना बैन है और इसे देश की संस्कृति और नैतिकता के खिलाफ माना जाता है। इंडोनेशिया के मकस्सर और डेपोक में अधिकारियों ने लोगों के लिए चेतावनी जारी की थी कि वे प्रेम का सार्वजनिक तौर से इजहार न करें। मकस्सर में पुलिस ने होटलों पर छापे की कार्रवाई की और कमरों में मौजूद अविवाहित जोड़ों को गिरफ्तार किया। इनमें एक जर्मनी का शख्स भी शामिल था।


बाद में पुलिस ने गिरफ्तार किए गए कपल को शादी से पहले सेक्स करने के नुकसान पर लेक्चर देकर छोड़ दिया, लेकिन पकड़ी गईं पांच सेक्स वर्कर्स को रिहैबिलिटेशन सेंटर भेजने का फैसला किया गया। मकस्सर में कंडोम की बिक्री पर भी कई तरह के बैन लगाए गए हैं। कंडोम खरीदने वालों की सख्ती से उम्र चेक की जाती है। स्थानीय अधिकारी कहते हैं कि कंडोम सिर्फ शादीशुदा वयस्कों के लिए है।


शांतिपूर्वक धरना देशद्रोह नहींः हाई कोर्ट

औरंगाबाद (एजेंसी)। बॉम्बे हाई कोर्ट की औरंगाबाद बेंच ने गुरुवार को सीएए के खिलाफ शांतिपूर्ण तरीके से आंदोलन कर रहे लोगों को लेकर टिप्पणी की कि श्उन्हें सिर्फ इसलिए गद्दार और देशद्रोही नहीं कहा जा सकता क्योंकि वे एक कानून का विरोध करना चाहते हैं।श् बेंच ने सीएए के खिलाफ आंदोलन के लिए पुलिस द्वारा अनुमति न दिए जाने के खिलाफ डाली गई याचिका पर सुनवाई करते हुए यह बात कही।बेंच ने कहा, श्इस तरह के आंदोलन से सीएए के प्रावधानों की अवहेलना का कोई सवाल नहीं पैदा होता। कोर्ट से ऐसे व्यक्तियों के शांतिपूर्ण तरीके से आंदोलन शुरू करने के अधिकार पर विचार करने की अपेक्षा की जाती है।श् पीठ ने कहा कि क्योंकि वे एक कानून का विरोध करना चाहते हैं, सिर्फ इसलिए उन्हें देशद्रोही और गद्दार नहीं कहा जा सकता। सीएए की वजह से यह सरकार के खिलाफ सिर्फ एक विरोध प्रदर्शन होगा।बेंच ने बीड जिले के अडिशनल डिस्ट्रिक्ट मैजिस्ट्रेट (एडीएम) और मजलगांव सिटी पुलिस द्वारा दिए गए दो आदेशों को रद्द कर दिया। पुलिस ने विरोध प्रदर्शन की अनुमति देने से इनकार करने के आधार के रूप में एडीएम के आदेश का हवाला दिया था। बेंच ने कहा, श्भारत को आजादी उन आंदोलनों के कारण मिली जो अहिंसक थे और अहिंसा का यह मार्ग आज तक इस देश के लोगों द्वारा अपनाया जाता है। हम भाग्यशाली हैं कि इस देश के अधिकांश लोग अभी भी अहिंसा में विश्वास करते हैं।श्बेंच ने कहा, श्इस मामले में भी याचिकाकर्ता और उनके साथी अपना विरोध दर्ज कराने के लिए शांतिपूर्ण तरीके से प्रोटेस्ट करना चाहते हैं।श् बेंच ने आगे कहा कि ब्रिटिश काल में हमारे पूर्वजों ने स्वतंत्रता और मानव अधिकारों के लिए भी संघर्ष किया था और उस आंदोलन के पीछे पीछे की फिलॉसफी से ही हमने हमने अपना संविधान बनाया। यह कहा जा सकता है कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है लेकिन लोग अपनी ही सरकार के खिलाफ आंदोलन कर सकते हैं और केवल इस आधार पर उनके आंदोलन को दबाया नहीं जा सकता।


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

यूनिवर्सल एक्सप्रेस    (हिंदी-दैनिक)


फरवरी 16, 2020, RNI.No.UPHIN/2014/57254


1. अंक-190 (साल-01)
2. रविवार, फरवरी 16, 2020
3. शक-1941,फाल्गुन - कृष्ण पक्ष, तिथि- अष्टमी, संवत 2076


4. सूर्योदय प्रातः 07:00,सूर्यास्त 06:06
5. न्‍यूनतम तापमान 14+ डी.सै.,अधिकतम-25+ डी.सै., हल्की बरसात की संभावना।


6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा।
7. स्वामी, प्रकाशक, मुद्रक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित।


8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102


9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.,201102


https://universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
cont.:-935030275
 (सर्वाधिकार सुरक्षित)


 


अभियान, सैकड़ों अरब डॉलर की परियोजनाएं: मंजूर

वाशिंगटन डीसी। दुनिया के सबसे संपन्न सात देशों (जी 7) के शिखर सम्मेलन में शनिवार को चीन मुख्य मुद्दा रहा। चीन की विस्तारवादी नीतियों के खिला...