शुक्रवार, 23 अप्रैल 2021

रूस ने यूक्रेन बॉर्डर पर तैनात सेना को आदेश दिया

मास्को/ कीव। रूस ने यूक्रेन बॉर्डर पर तैनात अपनी सेना को वापस जाने के आदेश दे दिए हैं। माना जा रहा है, कि इससे यूरोप में तीसरे विश्वयुद्ध के शुरू होने का खतरा फिलहाल टल गया है। मार्च के अंत से ही रूसी सेना के लगभग एक लाख जवान भारी सैन्य साजोसामान के साथ यूक्रेन की सीमा के नजदीक पहुंच गए थे। जिसके बाद अमेरिका समेत कई यूरोपीय देश खुलकर यूक्रेन के पक्ष में लामबंद हो गए थे। सेना की वापसी का आदेश देते हुए रूसी रक्षा मंत्री सर्गेई शोइगू ने सैन्य साजोसामान को इस साल के अंद में एक दूसरे युद्धाभ्यास के लिए वहीं छोड़ने को कहा है। ऐसे में रूस की नीयत पर कई देशों ने शक जताया है।

3 कुंतल रसगुल्ला, प्लास्टिक की बाल्टियां-ड्रम बरामद

अतुल त्यागी, मुकेश सैनी, चेतन कुमार         
हापुड़। पंचायत चुनाव को निष्पक्ष कराने हेतु जनपद एसपी नीरज कुमार जादौन के निर्देशानुसार, जनपद की बहादुरगढ़ पुलिस ने करीब तीन कुंतल रसगुल्ला मय वितरण करने वाले डिब्बे और प्लास्टिक की बाल्टियां रसगुल्लों से भरी और ड्रम बरामद किएं।
बहादुरगढ़ थाना प्रभारी राजीव कुमार बालियान के नेतृत्व में बहादुरगढ़ चौकी प्रभारी एसआई अमित कुमार, चमन सिंह और टीम ने थाना क्षेत्र के गांव शेरपुर में प्रधान प्रत्यासी डाक्टर रामबीर, पुत्र रामसिंह और भांजा लोकेश पुत्र शौदान प्रत्यासियों को लुभाने के लिए शुक्रवार को गांव शेरपुर में रसगुल्ला बांट रहे थे। जहां सूचना पर पहुंची पुलिस टीम में चौकी प्रभारी एस आई अमित कुमार और टीम ने मौके से रसगुल्लों से भरे प्लास्टिक बाल्टी ड्रम और गत्ते के डिब्बों में वितरण करने के दौरान बरामद कर प्रधान प्रत्यासी डाक्टर रामबीर का भांजा लौकेश हिरासत में लेकर वैधानिक कार्यवाही की गई। वहीं, प्रधान प्रत्यासी की तलाश जारी है।
थाना बहादुरगढ़ प्रभारी राजीव कुमार बालियान ने बताया, कि किसी भी कीमत में चुनाव प्रभावित नहीं होने दिया जाएगा। चुनाव निष्पक्ष कराने के लिए बहादुरगढ़ पुलिस तत्पर है।

अमेरिका ने भारत में बढ़ते संक्रमण पर चिंता जताई

वाशिंगटन डीसी। कोरोना संकट में भारत की मदद से इंंकार करने वाले अमेरिका को उसी के नेताओं ने आड़े हाथ लिया है। इन नेताओं का कहना है कि भारत में कोरोना के बढ़ते मामलों के कारण उसे वैक्सीन निर्माण के लिए कच्चा माल तुरंत उपलब्ध कराया जाना चाहिए। उन्होंने राष्ट्रपति जो बाइडेन से इस संबंध में जल्द से जल्द फैसला लेने की मांग भी की है। मालूम हो कि एक मई से भारत में वैक्सीनेशन का तीसरा चरण शुरू होने जा रहा है। सरकार ज्यादा से ज्यादा लोगों को वैक्सीन लगाना चाहती है। ताकि संक्रमण की बेकाबू रफ्तार को नियंत्रित किया जा सके। इसके लिए वैक्सीन का उत्पादन बढ़ाना होगा और उसके लिए बड़े पैमाने पर कच्चे माल की आवश्यकता पड़ेगी। 

अमेरिका के मैसाचुसेट्स से डेमोक्रेटिक पार्टी के सीनेटर एड मार्के ने बाइडेन प्रशासन से भारत की तुरंत मदद करने का अनुरोध किया है। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा है कि भारत में कोरोना संक्रमण के दैनिक मामलों में रिकॉर्ड बढ़ोत्तरी हो रही है। उन्होंने पृथ्वी दिवस का उल्लेख करते हुए कहा कि पृथ्वी दिवस हमारे ग्रह ही नहीं इस पर रहने वाले सभी लोगों के स्वास्थ्य से जुड़ा हुआ है।इसके बाद एड मार्के ने एक तरह से अपनी सरकार को कटघरे में खड़ा करते हुए कहा कि अमेरिका के पास पर्याप्त से ज्यादा मात्रा में वैक्सीन है। लेकिन फिर भी हम भारत जैसे देशों को समर्थन करने से इनकार कर रहे हैं। सीनेटर ने राष्ट्रपति से अपील करते हुए कहा कि हमारे पास मदद के लिए संसाधन हैं और अन्य लोगों को इसकी आवश्यकता है। इसलिए उनकी मदद करना हमारा नैतिक दायित्व बनता है। इसी तरह, मिशिगन से डेमोक्रेटिक पार्टी की यूएस कांग्रेस प्रतिनिधि हेली स्टीवंस ने भी ट्वीट कर भारत में बढ़ते कोरोना मामलों पर दुख जताया है। उन्होंने लिखा कि भारत में विनाशकारी कोरोना की लहर के दौरान मेरी संवेदना वहां के लोगों के साथ है।

सांस की नली में फंसा तार, ऑपरेशन से निकाला

गोपीचंद         
बागपत। जोहड़ी गांव के बच्चे की एक घंटे की मशक्कत के बाद बड़ोत के चिकित्सक डॉक्टर अरविंद जैन एवं डॉ हरीश विश्वकर्मा ने बच्चे की जान बचाईं। जोहड़ी गांव का मामला है। बृहस्पतिवार को 7 वर्षीय बच्चे ने कटीला तार निगल लिया। इससे बच्चे की हालत बिगड़ने लगी।परिजनों ने उसे नगर के गांधी रोड स्थित अरिहंत नर्सिंग होम में भर्ती कराया। वहां चिकित्सकों की टीम वह 1 घंटे की कड़ी मेहनत के बाद तार को निकालने में सफलता मिल सकी। दरअसल जोहड़ी गांव निवासी रतन सिंह का 7 वर्षीय पुत्र दिलखुश घर के आंगन में खेल रहा था। इस दौरान उसने कटीला तार निगल लिया। वह बच्चे की सांस की नली में फस गया। इससे उसकी तबीयत बिगड़ने लगी। परिजन से लेकर अरिहंत नर्सिंग होम गांधी रोड पहुंचे। वहां डॉक्टर अरविंद जैन की देख-रेख में चिकित्सकों की टीम ने ऑपरेशन किया। 1 घंटे की मशक्कत के बाद तार बाहर निकाला गया। डॉक्टर अरविंद जैन ने बताया नगर में पहली बार ऐसा हुआ। जब किसी बच्चे की सांस की नली में फसा कटीला तार निकाला है। डॉक्टर अरविंद जैन के साथ डॉ हरीश विश्वकर्मा भी साथ रहे। उत्तर प्रदेश उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल बड़ौत के अध्यक्ष मुदित जैन एवं महामंत्री नवनीत जैन ने डॉ अरविंद जैन को इस केस में सफलता पाने के लिए व्यापार मंडल की ओर से शुभकामनाएं दी।

इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए निशुल्क दवा वितरण की

नीरज जैन           
झांसी। डॉक्टर निष्पक्ष निर्भीक उमेश शर्मा इस महामारी से जंग जीतने के लिए आम जन को इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए केंप लगाकर निशुल्क दवा वितरण की। इलाइट चौराहे पर फार्मासिन्थ कंपनी द्वारा विटामिन-डी पर जागरूकता अभियान चलाया और साथ ही लोगो एक महीने की विटामिन-डी की दवा निशुल्क प्रदान की। कोविड जैसी गंभीर बीमारी में भी विटामिन डी इम्युनिटी बूस्टर का काम करता है। ये शरीर के लिए अति आवश्यक होता है इसकी कमी से ओस्टियोपोरोसिस अस्थमा बीपी डिप्रेशन जैसी बीमारियां होती है। लगभग 3000 टेबलेट निःशुल्क दवा वितरण के अवसर पर उमेश शर्मा और कंपनी के एमआर दिनेश जैन मौजूद रहे।

समाज का छड़ी व सहारा बनकर दिखाऊंगा: सतेंद्र

सत्येंद्र पंवार          
मेरठ। नोट और वोट दोनों मिल रहे हैं। वार्ड 19 के सतेंद्र गौतम को सभी समाज के लोगों ने भरपूर स्नेह का वादा किया। उधर पलटवार में सतेन्द्र गौतम ने कहा, कि हर समाज का छड़ी बनकर, सहारा बनकर दिखाऊंगा। जो चुनाव चिन्ह मिला है। बाबा साहब के मिशन को पूरा करके दिखाऊंगा। बहुजन मुक्ति पार्टी के वार्ड 19 के प्रत्याशी सत्येंद्र गौतम के चुनाव प्रचार में पहुंचे प्रदेश मीडिया प्रभारी आर डी गादरे, मेरठ जिला अध्यक्ष ओमवीर सिंह, राष्ट्रीय किसान मोर्चा के पश्चिमांचल जोन प्रभारी राम सिंगार, जिला अध्यक्ष चौधरी इस्तयाक, आईएलए एडवोकेट अतर सिंह गुप्ता, एडवोकेट राहुल मनोज कुमार, दिनेश कुमार आदि ने विचार रखे। गांव-गांव जाकर डॉक्टर भीमराव अंबेडकर साहब के मिशन को पूरा करने के लिए बहुजन मुक्ति पार्टी के पक्ष में वोट मांगे और आर डी गादरे ने कहा कि भारतीय संविधान की रक्षा और विश्व रतन डॉ भीमराव अंबेडकर साहब के विचार धाराओं को यदि भारत देश की रक्षा के लिए कार्य चाहते हो तो बहुजन मुक्ति पार्टी का सहयोग भी देना होगा सभी ने हाथ उठाकर सत्येंद्र गौतम को तन मन धन से सहयोग करने और छडी पर वोट करने का और वार्ड 19 से जिताने का वादा किया। चुनाव प्रचार के दौरान कारी मोहम्मद इरफान, शहरयार शहजाद, उमेश सोनू, प्रथमेश, पिंटू, राम लखन, राजेंद्र प्रसाद, सुमित मेहरबान, विजेंद्र, सत्येंद्र कुमार, दिनेश जाटव, मेहराजुद्दीन अदनान, गुरमीत, सौरभ मौलाना, शाहनवाज, मनोज कुमार मुफ्ती, जुनैद, लुकमान सैफी, डॉक्टर साहिब, डॉक्टर इरशाद अली, अमजद अंसारी, चौधरी इतिहास, अनु मलिक, गीता पैट्रिक, एडवोकेट मुकेश राम सिंगार, डॉ. एसपी सिंह आदि मौजूद रहे।

अवैध देशी बंदूक के साथ अभियुक्त को किया अरेस्ट

अतुल त्यागी              
हापुड़। एसपी नीरज कुमार जादौन के निर्देशानुसार, जनपद पुलिस द्वारा आगामी त्रिस्तरीय पंचायती चुनाव-2021 को दृष्टिगत अवैध शस्त्र रखने वालों की गिरफ्तारी हेतु चलाये जा रहे अभियान के अन्तर्गत थाना बहादुरगढ़ पुलिस ने एक अभियुक्त को 1 अवैध देशी बंदूक 12 बोर, मोटरसाइकिल सहित किया गिरफ्तार।
थाना बहादुरगढ़ प्रभारी राजीव कुमार बालियान के नेतृत्व में एसआई संजीव कुमार, एसआई प्रमोद कुमार तथा क्राइम टीम से सुनील कुमार ने एक शातिर अपराधी शुभम पुत्र चमन सिंह सिखैडा परिक्षितगढ मेरठ को हिरासत में लेने और तलाशी दौरान एक अवैध पौनियां बंदूक बरामद की थाना प्रभारी राजीव कुमार बालियान के अनुसार शुभम एक शातिर अपराधी है। जो अवैध बंदूक के साथ बाइक पर सवार हो। किसी घटना को अंजाम देने के फिराक में था। जिसे गिरफ्तार कर वैधानिक कार्यवाही की गई है।
थाना बहादुरगढ़ प्रभारी राजीव कुमार बालियान का यह भी कहना है कि पंचायत चुनाव को निष्पक्ष कराने हेतु और कोविड-19 संक्रमण महामारी से बचाव के लिए भी हर संभव प्रयास किया जा रहा है। किसी भी सूरत में कोई भी अपराधि या शरारती सोच वाला बख्सा नहीं जायेगा।

यातायात पुलिस ने चलाया सघन जांच अभियान

कौशाम्बी। गुरुवार को टीआई रविन्द्र त्रिपाठी के नेतृत्व में ओसा मंझनपुर सिराथू रोड टेवा तथा करारी रोड पर चैकिंग चलाईं गई। यातायात पुलिस ने सघन जांच अभियान चलाया। इस दौरान 160 वाहनों का ई-चालान वसूला गया और 141 लोगो के मास्क न लगने तथा कोविड-19 के नियमो का उलंघन किये जाने पर चालान काटा गया। 16450 रुपये समन शुल्क वसूल की गई।रोहित तिवारी, पुत्र आमोद कुमार निवासी खोरी चित्रकूट का मास्क न लगने पर समन शुल्क 1000 का चालान और हरिलाल पुत्र रामलाल निवासी बरौली पश्चिम शरीरा को थूकने को दशा में पाए जाने पर 500 रुपये का शुल्क वसूल की गई और सभी को चेतावनी दी गई, कि कोविड-19 में दो गज की दूरी, मास्क है जरूरी। सभी को बताया गया।
उज्ज्वल केशरवानी 

3-4 दिनों तक मौसम परिवर्तनशील रहने की संभावना

राणा ओबराय               
चंडीगढ। मौसम विभाग के मुताबिक, हरियाणा में अगले तीन, चार दिनों तक मौसम परिवर्तनशील रहने की संभावना है। हरियाणा में पश्चिमी विक्षोभ का असर देखा जा रहा है। जिसके चलते प्रदेश में अंधड़ और बारिश हो रही है। वहीं आगे भी मौसम खराब रहने की संभावना बताई जा रही है। हरियाणा राज्य में पश्चिमीविक्षोभ के आंशिक प्रभाव के कारण दो दिन से उत्तरी व पश्चिमी क्षेत्रों में ज्यादातर स्थानों पर धुल भरी तेज हवाएं व गरज चमक के साथ बूंदाबांदी व हल्की बारिश हुई। पश्चिमीविक्षोभ के आंशिक प्रभाव से बने साइक्लोनिक सर्कुलेशन का प्रभाव 23 अप्रैल को बने रहने की संभावना है। जिससे राज्य में मौसम आमतौर पर 23 अप्रैल तक परिवर्तनशील बने रहने की संभावना है।

यूपी: ड्राइविंग लाइसेंस के बनाएं जाने पर रोक लगाईं

अतुल त्यागी               
लखनऊ। यूपी के परिवहन आयुक्त द्वारा 23 अप्रैल 2021 से 1 मई 2021 तक सभी प्रकार के ड्राइविंग लाइसेंस के बनाए जाने पर रोक लगा दी गई है।
उत्तर प्रदेश समेत पूरे भारत में कोरोना वायरस की दूसरी लहर बेहद भयावह रूप ले रही है।
कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच उत्तर प्रदेश के परिवहन विभाग ने एक बड़ा कदम उठाया है।
यूपी में एक मई तक डीएल यानी ड्राइविंग लाइसेंस बनाने पर प्रतिबंध लगा दिया है। इस दौरान डीएल के संबंध में कोई भी काम नहीं होगा।
यूपी के परिवहन आयुक्त द्वारा 23 अप्रैल 2021 से 1 मई 2021 तक सभी प्रकार के ड्राइविंग लाइसेंस के बनाए जाने पर रोक लगा दी गई है।
इसके साथ ही 23 अप्रैल से 1 मई तक बुक हुए लाइसेंस के स्लॉट को 15 मई के बाद की तिथियों मे रिशेड्यूल करने का निर्देश जारी किया गया है।
परिवहन आयुक्त के आदेश के बाद परिवहन कार्यालय गाजियाबाद में 23 अप्रैल से 1 मई तक किसी भी प्रकार के ड्राइविंग लाइसेंस संबंधित कोई कार्य संपादित नहीं किया जाएगा।
साथ ही उक्त तिथियों में बुक हुए स्लॉट  को 17 मई से निम्न तालिका के अनुसार लर्निंग लाइसेंस, परमानेंट लाइसेंस और नवीनीकरण लाइसेंस की तारीखों को रिशेड्यूल किया गया है।

केंद्रीय रक्षामंत्री ने जनरल सुबिआन्तो से बातचीत की

नई दिल्ली/ जकार्ता। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बृहस्पतिवार को इंडोनेशिया के अपने समकक्ष जनरल प्रबोवो सुबिआन्तो से बातचीत की और उन्हें 53 लोगों के साथ लापता पनडुब्बी का पता लगाने में भारत के ‘पूर्ण समर्थन’ का विश्वास दिलाया।
राजनाथ सिंह ने ट्वीट किया, ” इंडोनेशिया के रक्षा मंत्री जनरल प्रबोवो सुबिआन्तो से फोन पर बात की और पनडुब्बी नांग्गला एवं चालक दल के सदस्यों के लापता होने की खबर पर दुख साझा किया। भारत, इंडोनेशिया के बचाव प्रयासों में पूरा सहयोग दे रहा है ।”पनडुब्बी ‘केआरआई नांग्गला-402’ बुधवार को उस समय लापता हो गई जब यह बाली जलडमरूमध्य में सैन्य अभ्यास पर थी।नौसेना की लापता पनडुब्बी का पता लगाने के लिए भारतीय नौसेना ने समुद्र की गहराई में बचाव अभियान चलाने में सक्षम अपने पोत भेजा है । ‘डीप सबमर्जेंस रेस्क्यू वेसल (डीएसआरवी) इंडोनेशियाई नौसेना की लापता पनडुब्बी की तलाश में मदद करने के लिए विशखापत्तनम से रवाना हो गया।
रक्षा मंत्री ने कहा, ” मैंने पहले ही भारतीय नौसेना को डीप सबमर्जेंस रेस्क्यू वेसल (डीएसआरबी) को इंडोनेशिया की ओर भेजने का निर्देश दिया है । मैंने भारतीय वायु सेना से हवाई मार्ग के जरिये डीएसआरबी शामिल करने की व्यवहार्यता देखने को कहा है । ”
उन्होंने कहा कि भारतीय डीएसआरवी आधुनिकतम प्रौद्योगिकी से लैस है और समुद्र में समाने वाली पनडुब्बियों का पता लगाने के लिए इसमें ‘सोनार’ उपकरण लगे हुए हैं। नौसेना की डीएसआरबी प्रणाली आधुनिक प्रौद्योगिकी का उपयोग करके 1000 मीटर की गहराई में पनडुब्बी का पता लगा सकता है।

रेलवे से ‘ऑक्सीजन एक्सप्रेस’ ट्रेन चलाने का आग्रह

अकांशु उपाध्याय                       
नई दिल्ली। रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष सुनीत शर्मा ने शुक्रवार को कहा कि दिल्ली और आंध्र प्रदेश की सरकारों ने अस्पतालों में चिकित्सीय ऑक्सीजन की भारी कमी के बीच कोविड रोगियों की जान बचाने के लिए भारतीय रेलवे से ‘ऑक्सीजन एक्सप्रेस’ ट्रेन चलाने का आग्रह किया है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश के बाद आंध्र प्रदेश तथा दिल्ली ने भी ‘ऑक्सीजन एक्सप्रेस’ ट्रेन सेवा मांगी है। शर्मा ने कहा कि ‘ऑक्सीजन एक्सप्रेस’ ट्रेनों के प्रत्येक टैंकर में लगभग 16 टन चिकित्सीय ऑक्सीजन होती है और ये ट्रेन 65 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलती हैं। उन्होंने कहा, ”हमें बिलकुल अभी दिल्ली सरकार से आग्रह मिला है और हम अभी इसके आवागमन की योजना बना रहे हैं। हमें राउरकेला से ऑक्सीजन मिलने की संभावना है। हमने दिल्ली सरकार से अपने ट्रक तैयार रखने को कहा है। रेलवे बोर्ड अध्यक्ष ने कहा, ”आंध्र प्रदेश ने ओडिशा के अंगुल से ऑक्सीजन लाने को कहा है।” शर्मा ने बताया कि उत्तर प्रदेश जा रही ‘ऑक्सीजन एक्सप्रेस’ ट्रेन शनिवार को लखनऊ पहुंचेगी और प्राणवायु लेकर महाराष्ट्र जा रही ‘ऑक्सीजन एक्सप्रेस’ शुक्रवार रात नागपुर पहुंचेगी। उन्होंने कहा कि लगभग 93,000 रेलवे लाभार्थी कोविड-19 से प्रभावित हैं, और 72 रेलवे अस्पताल तथा पांच हजार बिस्तर उनकी देखभाल के लिए समर्पित हैं।

ऑक्सीजन की कमी से परेशान हैं कोरोना संक्रमित

अश्वनी उपाध्याय                       
गाज़ियाबाद। जनपद में कोरोना मरीज और उनके तीमारदार ऑक्सीजन की कमी से परेशान हैं और हर संभव दरवाजे पर लाइन लगाए खड़े हैं। यहाँ हम स्पष्ट कर दें कि कोविड पीड़ितों की मदद के लिए हमें जिला प्रशासन की ओर से कोई सपोर्ट नहीं मिल रहा है। अधिकारी फोन नहीं उठाते हैं और हमने भी अब उन्हें फोन करने में समय बर्बाद करना छोड़ दिया है। इन सब के बीच मोदी नगर स्थित आईनाक्स आक्सीजन गैस प्लांट से ग्रीन कॉरीडोर बना कर ऑक्सिजन दिल्ली भेजी गई।कल दोपहर में इंदिरापुरम के शांति गोपाल अस्पताल में आक्सीजन नहीं थी। मरीजों की मदद करने में लाचार स्थानीय पार्षद संजय सिंह आक्सीजन की आपूर्ति की मांग को लेकर अस्पताल के बाहर बुधवार शाम को धरने पर बैठ गए थे। आपको बता दें कि प्रशासन ने ट्रांस हिडन के वैशाली सेक्टर चार स्थित पारस अस्पताल, कौशांबी स्थित मीनाक्षी अस्पताल को बुधवार को ही कोविड अस्पताल बनाया है। इन स्थानों पर सभी बेड पर कोरोना संक्रमित हैं लेकिन आक्सीजन की कमी है। वहीं, अन्य अस्पताल भी आक्सीजन के संकट से जूझ रहे हैं।
इंदिरापुरम के शक्ति खंड तीन स्थित स्पर्श मेडिकेयर एंड ट्रामा सेंटर को प्रशासन ने कोविड अस्पताल बनाया है। यहां के एडमिन विभाग में कार्यरत उदय कुमार ने बताया कि अस्पताल में अभी इंतजाम नहीं हो पाया है। ऐसे में अभी कोरोना के मरीजों को भर्ती नहीं किया जा रहा है। अस्पताल में कोरोना संक्रमितों का इलाज शुरू होने में अभी तीन से चार दिन का वक्त लगेगा।

मुंबंई: मशहूर सिंगर श्रवण का कोरोना से निधन हुआ

कविता गर्ग                     
मुंबई। मशहूर सिंगर श्रवण राठौड़ का गुरुवार रात निधन हो गया। वह कोरोना संक्रमित थे और मुंबई के रहेजा हॉस्पिटल में भर्ती थे, जहां उनकी हालत काफी नाजुक बनी हुई थी और दो दिनों से वह वेंटिलेटर पर थे। डॉक्टर्स की लगातार कोशिश के बाद भी श्रवण को बचाया नहीं जा सका। श्रवण राठौड़ का निधन संगीत जगत की एक अपूरणीय क्षति हैं। उनके निधन से हर कोई स्तब्ध है। वहीं मनोरंजन जगत की हस्तियां सोशल मीडिया के जरिये उन्हें श्रंद्धाजलि दे रही हैं। अभिनेता अक्षय कुमार ने श्रवण राठौर के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए उन्हें सोशल मीडिया के जरिये श्रंद्धाजलि दी है। अक्षय कुमार ने ट्वीट कर लिखा-''म्यूजिक कंपोजर श्रवण जी के निधन की खबर सुनकर दुखी हूं। नदीम-श्रवण ने 90 के दौर और उसके बाद की कई फिल्मों के संगीत का जादू चलाया। इनमें से मेरे करियर की एक लीजेंडरी फिल्म धड़कन भी शामिल है। उनके परिवार के लिए गहरी सांत्वनाएं।

अमेरिकन समिति ने कॉम्पटीशन बिल को मंजूरी दी

वाशिंगटन डीसी/ नई दिल्ली। अमेरिका के सीनेट की एक शक्तिशाली समिति ने चीन स्ट्रेटिजिक कॉम्पटीशन बिल को जोरदार समर्थन करते हुए उसे मंजूरी दी है। यह भारत के लिए अहम है। क्योंकि इसमें क्वाड समूह को समर्थन देने के साथ अन्य बातों तथा भारत के साथ सुरक्षा संबंधों को बढ़ाने का समर्थन किया गया है। चतुर्पक्षीय सुरक्षा संवाद के तौर पर जाना जाने वाले क्वाड समूह में अमेरिका, भारत, ऑस्ट्रेलिया और जापान शामिल है। वर्ष 2007 में इसकी स्थापना के बाद से चार सदस्य राष्ट्रों के प्रतिनिधि समय-समय पर मिल रहे हैं। चार देशों के शीर्ष नेताओं ने पिछले महीने राष्ट्रपति जो बाइडन द्वारा आयोजित ऐतिहासिक शिखर सम्मेलन में हिस्सा लिया था।
सीनेट की विदेश संबंध समिति ने तीन घंटे की चर्चा और कई संशोधनों के साथ सामरिक प्रतिस्पर्धा अधिनियम को बुधवार को 21 मतों के साथ मंजूरी दी। इस द्विपक्षीय विधेयक के मुताबिक अमेरिका भारत के साथ व्यापक वैश्विक सामरिक साझेदार के प्रति अपनी प्रतिबद्धता की तस्दीक करता है और देश के साथ द्विपक्षीय रक्षा विमर्शों एवं सहयोग को और मजबूत करता है। इसने अमेरिकी सरकार से अपील की कि वे भारत के साथ करीब से विचार-विमर्श कर ऐसे क्षेत्रों की पहचान करे जहां वह क्षेत्र में चीन के कारण उत्पन्न आर्थिक एवं सुरक्षा चुनौतियों से निपटने के भारत के प्रयासों में कूटनीतिक एवं अन्य सहायता दे सके।

गेंदे के फूल को चेहरे पर लगाने से आता हैं गोरापन

गेंदे के फूल को अपने चेहरे पर लगाने से गोरापन आता है। गेंदा का फूल इसे हमें आसानी से मिल जाता है। गेंदे का इस्तेमाल ज्यादातर सजावट के लिए किया जाता है। बल्कि गेंदे के अंदर प्राचीन जड़ी बूटीयां हैं। जिससे कि कई हेल्थ बेनिफिट्स मिलते हैं उसके लिए इसका सबसे ज्यादा प्रयोग किया जाता है।
गेंदे के फूल में मौजूद कार्य और गंध तेल सेक्टर 4 पर अपना कमाल दिखाते हैं। जाने गेंदे के फूल के और क्या ने फायदे हैं अगर गेंदे के फूल को स्किन पर लगाये तो चेहरा चमक उठेगा। पर गेंदे के फूल के रस लगाने से स्किन साफ हो जाती है। और कील मुहासे जड़ से खत्म हो जाते हैं। अगर आप रेगुलर गेंदे के फूल का रस पीते है तो आप स्पर्मटोरिया से बच जाएंगे। अगर आप बवासीर से परेशान हैं तो गेंदे के फूल को काली मिर्च के साथ पीसकर पीने से पाइल्स से निजात मिल जाएगा।

भारत के साथ खड़ा होने का संदेश देना चाहता हूं: फ्रांस

पेरिस/ नई दिल्ली। फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने कहा कि ‘मैं भारत के लोगों के साथ खड़े होने का संदेश देना चाहता हूं। कोरोना वायरस की इस नई लहर के चलते बड़ा संकट खड़ा हो गया है। इस संघर्ष में फ्रांस आपके साथ है। हम आपको किसी भी तरह की मदद देने के लिए इससे पहले फ्रांस ने भारत को राफेल फाइटर जेट बेचा है। फ्रांस ने आतंकवाद समेत कई मामलों में पहले भी भारत के साथ होने की बात कही है। अभी दो दिन पहले ही राफेल लड़ाकू विमानों की पांचवीं खेप फ्रांस से भारत पहुंची है। इस खेप में चार राफेल लड़ाकू विमान हैं। ये चारों विमान 8000 किलोमीटर की नॉन-स्टॉप उड़ान भरकर भारत पहुंचे हैं। कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए फ्रांस ने भारत से आने वाले लोगों को 10 दिनों तक क्वारंटीन करने का फैसला किया है। जबकि ब्रिटेन, पाकिस्तान और कनाडा ने भारत को रेड लिस्ट में डाल दिया है।  भारत से आने वाले विमानों पर रोक लगा दी है।बता दें कि भारत में शुक्रवार को कोरोना के 3 लाख 32 हजार 730 मामले सामने आए हैं। कोरोना से 2263 लोगों की मौत हुई है। देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 1 करोड़ 62 लाख 63 हजार 695 हो गई है। वहीं अब तक 1 लाख 86 हजार 920 लोगों की जान जा चुकी है। 

एक राष्ट्र के तौर पर काम करें, संसाधनों की कमी नहीं

अकांशु उपाध्याय                              
नई दिल्ली। मुख्यमंत्रियों के साथ कोविड-19 की स्थिति पर हुई बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा की अगर हम एक राष्ट्र के तौर पर काम करेंगे तो संसाधनों की कोई कमी नहीं होगी। उन्होंने कहा कि ऑक्सीजन टैंकरों को भेजने और फिर उनकी वापसी में लगने वाले समय को कम करने के लिये रेलवे, वायुसेना की मदद ली जा रही है। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि अस्पतालों की सुरक्षा की अनदेखी नहीं होनी चाहिए, हड़बड़ाहट में किसी भी तरह की खरीदारी को कम करने के लिये जागरुकता बढ़ाई जाए।प्रधानमंत्री ने राज्यों से आवश्यक दवाओं और इंजेक्शनों की जमाखोरी, काला बाजारी करने वालों के खिलाफ सख्ती बरतने का अनुरोध किया। राज्यों को एक साथ काम करना चाहिए, दवाओं और ऑक्सीजन से संबंधित आवश्यकताओं को पूरा करने के लिये एक-दूसरे के साथ समन्वय करना चाहिए।मोदी ने बैठक में कहा कि मिलकर किए गए प्रयासों से हम देशभर में कोविड-19 की दूसरी लहर को रोकने में सफल होंगे। प्रत्येक राज्य को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि कोई भी ऑक्सीजन टैंकर, चाहे वह किसी भी राज्य के लिये हो, रोका न जाए न ही खड़ा रखा जाए। प्रधानमंत्री ने कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में सभी राज्यों को केंद्र की ओर से पूर्ण सहायता का आश्वासन दिया। मोदी ने अस्पतालों तक ऑक्सीजन ले जाने के लिए राज्यों से उच्चस्तरीय समन्वय समितियां गठित करने का आग्रह किया।

यूपी: 24 घंटों में मिलें कोरोना के 34,379 नए मामलें

हरिओम उपाध्याय                       
लखनऊ। उत्तर प्रदेश में कोरोना का संक्रमण तेजी से फैल रहा है। पिछले 24 घंटे के अंदर प्रदेश में कोरोना से संक्रमित 34,379 नये मामले आये हैं। इस दौरान 195 लोगों की जान भी चली गयी। प्रदेश के अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने गुरुवार को बताया कि राज्य में इस समय 2,59,810 कोरोना के एक्टिव मामले हैं। प्रदेश में विगत 24 घंटों में 16,514 लोग तथा अब तक कुल 7,06,414 लोग ठीक होकर अस्पतालों से डिस्चार्ज हुए हैं।
अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य ने बताया कि प्रदेश में 2,05,000 लोग होम आइसोलेशन में हैं। उन्होंने बताया कि जो लोग होम आइसोलेशन में हैं और डाॅक्टर की सलाह लेना चाहते हैं, तो वे हेल्पलाइन नं0 18001805146 पर सम्पर्क कर सकते हैं। 
उन्होंने बताया कि संक्रमण इस समय तीव्र गति पर है। जो लोग होम आइसोलेशन में रह रहे हैं। उन्हें गम्भीरता और कड़ाई के साथ कोविड-19 प्रोटोकाल का पालन करना होगा। अगर आप लोग होम आइसोलेशन में है और आपके परिवार में एक से अधिक लोग संक्रमित हैं तो आपके पास अलग रूम और अलग वाॅशरूम की व्यवस्था होनी चाहिए और जो संक्रमित नहीं है, वे अलग वाॅशरूम का इस्तेमाल करें। जो व्यक्ति संक्रमित है और वह घर से बाहर जाते हैं तो उनके ऊपर उत्तर प्रदेश महामारी अधिनियम के तहत दण्डनीय अपराध है, जिसके तहत कड़ी से कड़ी कार्यवाही की जायेगी। 

कोरोना: चुनाव आयोग ने बाइक रैली पर लगाया प्रतिबंध

  
अकांशु उपाध्याय                       
नई दिल्ली। कोरोना महामारी के चलते चुनाव आयोग ने पश्चिम बंगाल में आखिरी दो चरणों के प्रचार के लिए गुरुवार को एक बार फिर सख्ती करते हुए रोड शो, बाइक रैली पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगा दिया है। इसके अलावा 500 से ज्यादा संख्या की किसी भी सार्वजनिक सभा को अनुमति नहीं दी जाएगी।
चुनाव आयोग ने इस संबंध में एक आदेश जारी किया है। इसमें स्पष्ट कहा गया है कि पश्चिम बंगाल में आगे के चुनाव में रोड शो, पदयात्रा, साइकल, बाइक, गाड़ी की कोई रैली नहीं की जाएगी। वहीं इस संबंध में पहले से ली गई सभी अनुमति को रद्द कर दिया गया है। साथ ही आयोग ने कहा है कि 500 से अधिक संख्या की किसी भी सार्वजनिक सभा को अब अनुमति नहीं दी जाएगी। बंगाल के चुनाव आधिकारियों को नए आदेश के पालन को सुनिश्चित करने के लिए कहा गया है।
पश्चिम बंगाल में आज कोरोना के 12 हजार नए मरीज आए हैं। देशभर में कोरोना महामारी एक प्रकोप के तौर पर फैल रही है जिसमें बड़ी संख्या में लोग चपेट में आ रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भी इस संबंध में कल का अपना पश्चिमबंगाल का दौरा रद्द कर दिया है। वह दिल्ली में महामारी से निपटने के लिए कई बैठकें करेंगे।

मुझे भी बेड की जरुरत पड़ीं तो आसानी से नहीं मिलेगी

अकांशु उपाध्याय                        
नई दिल्ली। दिल्ली के अस्पतालों में बेड की अनुपलब्धता पर हाईकोर्ट के जज जस्टिस विपिन सांघी ने कहा कि आम आदमी को तो छोड़िए। अगर मुझे भी बेड की जरुरत पड़े तो आसानी से नहीं मिलेगी। कोर्ट ने कहा कि आम लोगों की जरुरतों का ध्यान रखा जाना चाहिए। सुनवाई के दौरान केंद्र सरकार की अतिरिक्त सचिव आरती आहूजा ने कोर्ट से कहा कि केंद्र सरकार के बेड दिल्ली सरकार के ऐप में दर्शा रहे हैं। इनमें ईएसआई अस्पताल और रेलवे के कोच मिलाकर 4159 बेड दिल्ली सरकार को दिए गए हैं। आहूजा ने कहा कि इसमें से तीन सौ बेड बेस अस्पताल के अतिरिक्त हैं। आहूजा ने कहा कि कोरोना के ऐक्टिव केसों में दिल्ली का सातवां स्थान है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने दिल्ली समेत दूसरे राज्यों के लिए बेड बढ़ाए हैं। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने मंत्रालयों और लोक उपक्रमों को कोरोना के लिए बेड आरक्षित रखने के लिए पत्र लिखा है। निजी अस्पतालों को भी पत्र लिखा गया है। कंपनी मामलों के मंत्रालय के जरिये कंपनियों को कारपोरेट सोशल रिस्पांसिबिलिटी के फंड से अस्थायी सुविधाएं देने के लिए कहा गया है। आहूजा ने कहा कि दिल्ली सरकार लोक उपक्रमों से बात कर सकती है। इस पर दिल्ली सरकार के वकील राहुल मेहरा ने आहूजा से पूछा कि क्या डीआरडीओ के पांच सौ बेड मरीजों के लिए उपलब्ध हैं। तब आहूजा ने कहा कि, मरीज उसमें भर्ती हो सकते हैं। राहुल मेहरा ने कहा कि पिछले साल नवंबर से अभी कोरोना के चार गुना मरीज बढ़े हैं। उस समय केंद्र बड़ा दयालु था। पिछले साल एम्स झज्जर में पूर्णत: कोरोना का इलाज हो रहा था। उन्होंने पूछा कि क्या वहां का 80 फीसदी बेड कोरोना के लिए आरक्षित किया जा सकता है। मेहरा ने आहूजा से पूछा कि क्या दिल्ली को सात हजार बेड मिल सकते हैं। तब आहूजा ने कहा कि एम्स और केंद्र सरकार के सभी अस्पताल दिल्ली के लिए ही हैं। दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकार की बैठक में दिल्ली सरकार के साथ बैठक में उन सभी में सुविधाओं पर चर्चा हुई थी। आहूजा ने कहा कि केंद्र उनमें बेड की क्षमता बढ़ाएगी और वहां प्रशिक्षित लोगों को तैनात करेगी। आहूजा ने कहा कि पिछले साल जैसा इंतजाम किया गया था वैसा ही होगा। उन्होंने कहा कि दिल्ली में नर्सिंग कॉलेज हैं जहां से प्रशिक्षित लोगों को लगाया जा सकता है।

900 बेड: कोविड अस्पताल का निर्माण शुरू किया

गांधीनगर। अहमदाबाद में कोरोना के बढ़ते मामले और कोविड रोगियों के लिए बिस्तरों की कमी के बीच महसूस की जा रही है। इस कमी को दूर करने के लिए रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (डीआरडीओ) ने देश के सबसे बड़े नौ सौ बेड का कोविड अस्पताल का निर्माण शुरू कर दिया है। जो जल्द ही पूरा हो जायेगा। 
बताया गया कि गुजरात विश्वविद्यालय के कन्वेंशन हॉल में डीआरडीओ ने देश के सबसे बड़े नौ सौ बेड का कोविड अस्पताल का निर्माण कर रहा है। इसका काम अब 80 प्रतिशत पूरा हो गया है। उम्मीद है कि इस अस्पताल का 24 अप्रैल को केंद्रीय मंत्री अमित शाह उद्घाटन करेंगे। शुरू किया जाएगा। डीआरडीओ के अनुसार इस अस्पताल में नौ सौ बेड होंगे लेकिन जरूरत पड़ने पर पांच सौ बेड और बढ़ाए जा सकते हैं। यानि इस अस्पताल की क्षमता 1400 बेड है। इस अस्पताल के निर्माण में डीआरडीओ के अलावा राज्य सरकार का स्वास्थ्य विभाग और गुजरात विश्वविद्यालय के संयुक्त प्रयासों से हो रहा है। अहमदाबाद शहर में कोरोना संकट में वेंटिलेटर और ऑक्सीजन बेड की कमी के चलते यह नवनिर्मित अस्पताल एक वरदान साबित होगा। इस अस्पताल में 130 वेंटिलेटर प्रधानमंत्री कोष से यहां लाए गए हैं और इन्हें स्थापित किया जा रहा है। इसके लिए 35 हजार लीटर ऑक्सीजन की क्षमता वाला एक टैंक लगाया गया है। इसके अलावा एहतियात के तौर पर एक और 25,000 लीटर क्षमता की ऑक्सीजन टैंक भी स्थापित किया गया है ताकि मरीज को उचित उपचार मिल सके।
इस विशेष अस्पताल के लिए सेना, बीएसएफ, सीआईएसएफ विशेषज्ञ डॉक्टर और पैरा मेडिकल स्टाफ सहित 150 स्वास्थ्य कर्मचारियों का एक स्टाफ डिफेंस से मिलना है, जिसमें से 10 डॉक्टर आ चुके हैं और भर्ती हुए कर्मचारियों को प्रशिक्षित करेंगे और किए गए कार्यों की निगरानी शुरू करेंगे। पूरे अस्पताल के प्रबंधन के लिए लगभग 600 कर्मचारी तीन अलग-अलग शिफ्टों में काम करेंगे।

ऑक्सीजन उत्पादन संयंत्रों को किया जा रहा एयरलिफ्ट

अकांशु उपाध्याय                      
नई दिल्ली/ बर्लिन। ऑक्सीजन के लिए पूरे देश में ​मचे हाहाकार के बीच भारतीय वायुसेना ने ऑक्सीजन के कंटेनरों को 'एयरलिफ्ट' करना शुरू कर दिया है। 23 मोबाइल ऑक्सीजन उत्पादन संयंत्रों को जर्मनी से एयरलिफ्ट किया जा रहा है। यह दिल्ली के उन अस्पतालों में अस्पताल में तैनात किए जाएंगे। जहां ऑक्सीजन की कमी से मरीजों की जान खतरे में है। जरूरतमंदों को पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन मिलने से उन्हें जिन्दगी और मौत से संघर्ष नहीं करने पड़ेगा।
सेना के प्रवक्ता कर्नल अमन आनंद ने कहा कि भारतीय सेना ने दिल्ली कैंट के बेस अस्पताल में कोविड-19 मरीजों के लिए अगले एक सप्ताह में 400 बेड बढ़ाए जा रहे हैं। अस्पताल में सेवारत सैन्य कर्मियों के लिए अस्पताल में अतिरिक्त 250 कोविड बेड बढ़ाये गए हैं। उन्होंने यह भी कहा कि दिल्ली के अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी को देखते हुए 23 मोबाइल ऑक्सीजन उत्पादन संयंत्रों को जर्मनी से एयरलिफ्ट किया जा रहा है। इन उत्पादन संयंत्रों को दिल्ली के उन अस्पतालों में तैनात किया जायेगा जहां बड़ी संख्या में कोविड के मरीज भर्ती हैं और ऑक्सीजन की कमी से उनकी सांसें अटकी हैं। यह मोबाइल संयंत्र अस्पतालों में ही ऑक्सीजन का उत्पादन करेंगे। जिससे ऑक्सीजन की किल्लत दूर हो सकेगी।  
 भारतीय वायु सेना ने भी अब कोविड-19 महामारी का मुकाबला करने में सरकार की सहायता के लिए ऑक्सीजन कंटेनर, सिलेंडर, आवश्यक दवा, उपकरण और चिकित्सा कर्मियों को एयरलिफ्ट करना शुरू कर दिया है। बड़ी संख्या में ​ऑक्सीजन की खरीद शुरू की गई, इसलिए वायुसेना ने खाली कंटेनरों  का संचालन शुरू कर दिया है। वायुसेना के दो परिवहन विमानों सी-17 ने दो खाली ​​ऑक्सीजन कंटेनरों को एयरलिफ्ट करके संयंत्र तक पहुंचाया है। इसके अलावा आईएल-76 विमान से पानागढ़ एयरबेस एक खाली कंटेनर को एयरलिफ्ट किया है ताकि वहां से लाकर देश में ऑक्सीजन की आपूर्ति बढ़ाई जा सके। पश्चिम बंगाल राज्य में यह एयरबेस पूर्वी वायु कमान के तहत वायु सेना का आधार है।

कालाबाजारी करते हुए 2 डॉक्टर समेत 4 लोग अरेस्ट

हरिओम उपाध्याय                     
लखनऊ। कोरोना संक्रमितों को लगने वाला 'रेमडेसिविर' इंजेक्शन की कालाबाजारी करते हुए दो डॉक्टर समेत चार लोगों को ठाकुरगंज पुलिस ने गुरुवार देर रात को पकड़ा है। इनके पास से चार लाख रुपये की नकदी और 34 डोज 'रेमडेसिविर' इंजेक्शन बरामद किए गए हैं। 
 प्रभारी निरीक्षक सुनील कुमार दुबे ने बताया कि रेमडेसिविर की कालाबाजारी करने वाले चार अभियुक्तों को एरा मेडिकल के पास से गिरफ्तार किया गया है। आरोपितों की पहचान उन्नाव निवासी विपिन कुमार, ठाकुरगंज के सरफराजगंज निवासी डॉ. अतहर, डॉ. सम्राट और तहजीबुल हसन के रूप में हुई है। इनके पास से चार लाख रुपये की नकदी और 34 डोज 'रेमडेसिविर' इंजेक्शन बरामद किए गए हैं। 
 प्रभारी निरीक्षक ने बताया कि यह लोग वर्तमान समय में कोविड-19 संक्रमित मरीजों को लगने वाले  रेमडेसिविर  को बाजार से महंगे दाम पर बेचते थे। अभी तक इन लोगों ने किन लोगों को बेचा है, इसका पता लगाया जा रहा है। उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए हैं कि किसी भी दशा में ऑक्सीजन व रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी न होने पाये। ऐसा करने वालों के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट या एनएसए के तहत कार्रवाई अमल में लायी जाए। 

कोरोना की जंग में सरकार कर रहीं बेहतर ढंग से कार्य

हरिओम उपाध्याय                                
लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार की रात कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामले और प्रदेश के हालात को लेकर राज्य के सभी जिम्मेदार अधिकारियों के साथ वर्चुअली बैठक की। इस दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड-19 के खिलाफ जारी जंग में राज्य सरकार बेहतर ढंग से कार्य कर रही है। कोरोना संक्रमण से मुक्त होकर स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या में तेजी से इजाफ हो रहा है। यह अत्यंत संतोषजनक है। 
मुख्यमंत्री योगी ने निर्देश दिए हैं कि कोविड अस्पतालों में ऑक्सीजन, औषधियों, मेडिकल उपकरणों चिकित्सा कर्मियों की सुचारू उपलब्धता रहे। कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग का कार्य भी पूरी सक्रियता से किया जाए। सभी अस्पतालों में ऑक्सीजन की उपलब्धता के लिए ऑक्सीजन कंसंट्रेटर मशीन का भी उपयोग किया जाये। टैंकरों को जीपीएस से जोड़ जाये और प्लांट पर पर्याप्त पुलिस बल को तैनात किया जाये। अधिकारी इस बात का पूरा ध्यान दें कि किसी भी दशा में ऑक्सीजन की कालाबाजारी न होने पाए। 
साथ ही उन्होंने सख्त लहजे में कहा कि ऑक्सीजन की कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट व एनएसए के तहत कार्रवाई की जाये। वर्तमान की परिस्थितियों के मद्देनजर खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन विभाग का कंट्रोल रूम गृह विभाग के अंतर्गत होम कंट्रांज रूम से संचालित किया जाये। ऑक्सीजन की विशेष मांग को देखते हुए अतिरिक्त टैंकरो और सिलेंडरों की व्यवस्था की जाये। 

खिलाड़ी कोहली ने आईपीएल में नया कीर्तिमान बनाया

अकांशु उपाध्याय                   
नई दिल्ली। विराट कोहली ने 6000 रन पुरे कर लिए है।आपको बता दे की कोहली ने 196 मैचों की 188वीं पारी में हासिल की। कोहली अब तक आईपीएल में 40 अर्धशतक और पांच शतक लगा चुके हैं। इस दौरान उनकी औसत 38 की तो स्ट्राइक रेट 130 की रही है। उनके नाम पर 518 चौके और 204 छक्के भी दर्ज हैं।
रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के कप्तान विराट कोहली ने आईपीएल में एक नया कीर्तिमान बना दिया है। वह इस चर्चित टी-20 लीग में 6000 रन बनाने वाले पहले और इकलौते खिलाड़ी बन गए हैं। विराट ने मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेले गए मुकाबले में राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ अर्धशतकीय पारी के दौरान यह उपलब्धि अपने नाम की।

मुख्यमंत्रियों के साथ चर्चा कर स्थिति की समीक्षा की

अकांशु उपाध्याय                       
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को कोविड-19 की ताजा लहर में सबसे अधिक प्रभावित 10 राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ चर्चा कर महामारी की मौजूदा स्थिति की समीक्षा की। वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से हुई यह बैठक ऐसे समय में हुई है जब देश में कोरोना महामारी लगातार भयावह रूप लेती जा रही है और कई राज्यों में बिस्तरों से लेकर ऑक्सीजन तक की कमी के मामले सामने आ रहे हैं। बैठक में महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, केरल, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश और दिल्ली सहित कुछ अन्य राज्यों के मुख्यमंत्री शामिल हुए।सरकारी सूत्रों से प्राप्त जानकारी के मुताबिक मुख्यमंत्रियों से संवाद करने से पहले प्रधानमंत्री ने सुबह नौ बजे एक आंतरिक बैठक की जिसमें केंद्र सरकार के विभिन्न मंत्रालयों के वरिष्ठ अधिकारियों ने हिस्सा लिया। इसके बाद प्रधानमंत्री ने 10 राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ संवाद किया और महामारी की वर्तमान स्थिति की समीक्षा की।देश में शुक्रवार को एक दिन में रिकॉर्ड 3,32,730 नये मामले सामने आए। इसके साथ ही देश में संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 1,62,63,695 हो गए। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के शुक्रवार तक के आंकड़ों के मुताबिक 24 लाख से अधिक लोग अब भी संक्रमण की चपेट में हैं। जबकि 2,263 और लोगों की मौत होने के बाद मृतक संख्या 1,86,920 पर पहुंच गई है।

महामारी से निपटने में दिक्कत पैदा होगी: कांग्रेस

अकांशु उपाध्याय              

नई दिल्ली। कोरोना को लेकर विभिन्न उच्च न्यायालयों के आदेश के बाद उच्चतम न्यायालय का हस्तक्षेप गलत है और इससे महामारी से निपटने में दिक्कत पैदा होगी। कांग्रेस प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने शुक्रवार को यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा कि उच्च न्यायालय लोगों के अधिकारों की रक्षा को लेकर राज्य सरकारों की जिम्मेदारी की जब बात कर रहे है तो उच्चतम न्यायालय के हस्तक्षेप का ऐसे में कोई औचित्य नहीं होता है। उन्होंने कहा कि इस समय कोरोना की स्थिति पर केंद्रीय व्यवस्था की जरूरत नहीं, बल्कि विकेंद्रित आधार पर स्थिति को सुलझाया जाना चाहिए। उनका कहना था कि उच्चतम न्यायालय जिस तरह से व्यवस्था देने का प्रयास कर रहा है। उससे स्थिति सुलझेगी नहीं, बल्कि और बिगड़ जाएगी प्रवक्ता ने कहा कि कोरोना की वर्तमान स्थिति में टीका सार्वजनिक संपत्ति है और इस समय लोगों की जान बचाना ज्यादा आवश्यक है।

देश में 3.32 लाख से अधिक नए मामलें सामने आएं

अकांशु उपाध्याय                      
नई दिल्ली। देश में कोरोना संक्रमण के 3.32 लाख से अधिक नये मामले सामने आने के साथ ही सक्रिय मामलों की दर लगातार बढ़ती जा रही है और अब यह 15 प्रतिशत के करीब पहुंच गयी है। इस बीच देश में गुरुवार को 31 लाख 47 हजार 782 व्यक्तियों को कोरोना का टीका लगाया गया तथा अब तक 13 करोड़ 54 लाख 78 हजार 420 लोगों को टीकाकरण किया जा चुका है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से शुकवार सुबह जारी आंकड़ों के अनुसार पिछले 24 घंटों के दौरान देश में 3,32,730 नये मामले आने के साथ ही संक्रमितों का आंकड़ा बढ़कर एक करोड़ 62 लाख 63 हजार 695 हो गयी।
सक्रिय मामलों में लगातार बढ़ोतरी से इनकी संख्या 24,28,616 हो गयी है और इसकी दर 14.93 हो गयी। दूसरी तरफ रिकाॅर्ड 1,93,279 मरीज स्वस्थ भी हुए हैं जिसे मिलाकर अब तक एक करोड़ 36 लाख 48 हजार 159 लोग कोरोना को मात दे चुके हैं। इसी अवधि में 2263 और मरीजों की मौत के साथ इस बीमारी से मरने वालों का आंकड़ा बढ़कर 1,86,920 हो गया है। देश में रिकवरी दर घटकर 83.92 फीसदी हो गयी है , जबकि मृत्युदर कम होकर 1.16 फीसदी रह गयी है।

पुनर्मतदान नहीं होने की सख्ती के बीच डाले जाएंगे वोट

हरिओम उपाध्याय                    
लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्य निर्वाचन आयुक्त मनोज कुमार के चुनाव को कोविड नियमों का सख्ती से पालन करने तथा किसी भी तरह से पुनर्मतदान नहीं होने की सख्ती के बीच तीसरे चरण में बीस जिलों में 26 अप्रैल को वोट डाले जाएंगे। निर्वाचन कार्यालय के अनुसार 746 जिला पंचायत,18530 क्षेत्र पंचायत तथा 14321 ग्राम पंचायत सदस्यों के चुनाव के लिये लिये मतदान होगा। इसके लिये तीन करोड़ ,पाच लाख,71 हजार 613 मतदाता 49789 मतदान केन्द्रों पर मतदान करेंगे। राज्य के अमेठी,उन्नाव,औरैया,कनपुर देहात,कासगंज चंदौली,जालौन,देवरिया,पीलीभीत,फतेहपुर,फिरोजाबाद, बलरामपुर ,बलिया,बाराबंकी,मेरठ,मुरादाबाद,मिर्जापुर,शामली,सिद्धार्थनगर और हमीरपुर में मतदान होगा। मतदान सुबह 7 बजे शुरू होगा और शाम छह बजे तक चलेगा। जितने लोग लाइन में होंगे उन्हें वोट देने दिया जायेगा।

दिल्ली में कोरोना के 26,169 नए मामलें सामने आएंं

अकांशु उपाध्याय                       
नई दिल्ली। दिल्ली के अस्पतालों में मेडिकल ऑक्सीजन की कमी के बीच राष्ट्रीय राजधानी में बृहस्पतिवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 26,169 नए मामले सामने आएंं। जबकि 306 मरीजों की मौत हो गई। दिल्ली में संक्रमण की दर 36.24 फीसदी रही जोकि पिछले साल महामारी की शुरुआत के बाद से सर्वाधिक है। स्वास्थ्य विभाग के बुलेटिन में यह जानकारी दी गई।दिल्ली में बृहस्पतिवार को सामने आए संक्रमण के नए मामलों के साथ ही शहर में अब तक कुल 9,56,348 लोग महामारी की चपेट में आ चुके हैं जबकि मृतक संख्या बढ़कर 13,193 तक पहुंच गई है। बुलेटिन के मुताबिक, दिल्ली में बुधवार को 72,208 नमूनों की जांच की गई। इसके मुताबिक, दिल्ली में अब तक 8.51 लाख से अधिक मरीज ठीक हो चुके हैं जबकि 91,618 मरीज उपचाराधीन हैं।

महाराष्ट्र: आईसीयू में आग लगने से 13 मरीजों की मौत

मनोज सिंह ठाकुर                    

विरार। महाराष्ट्र में पालघर जिले के विरार में शुक्रवार तड़के एक निजी अस्पताल की गहन चिकित्सा इकाई (आईसीयू) में आग लगने से कोविड-19 से पीड़ित 13 मरीजों की मौत हो गई। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि एक वातानुकूलन (एसी) इकाई में विस्फोट होने के बाद यह आग लगी और हादसे के वक्त अस्पताल में 90 मरीज मौजूद थे जिनमें से 18 मरीज आईसीयू में थे। मृतकों में पांच महिलाएं और आठ पुरुष हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने महाराष्ट्र में पालघर जिले के एक निजी अस्पताल में आग लगने की घटना पर शुक्रवार को शोक जताया तथा इस घटना में मारे गये लोगों के परिजनों को दो-दो लाख रूपये के मुआवजे की भी घोषण की। प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से जारी एक ट्वीट में प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ”विरार के कोविड-19 अस्पताल में आग लगने की घटना दु:खद हैं। मेरी संवेदनाएं पीड़ित परिवारों के साथ हैं। घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं।” प्रधानमंत्री कार्यालय के मुताबिक, मृतकों के परिजनों को दो-दो लाख रूपये और घायलों को 50 हजार रूपये की आर्थिक मदद प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष से दी जाएगी।

कोरोना वैक्सीन की कीमत 1 समान करने की मांग की

हरिओम उपाध्याय       
लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष मायावती ने केन्द्र सरकार से कोरोना वैक्सीन की कीमत पूरे देश में एक समान करने की मांग की और कहा कि आक्सीजन की आपूर्ति अस्पतालों में निर्बाध रूप से हो। इसलिये औद्योगिक क्षेत्र को अभी असकी आपूर्ति रोकी जाये।
मायावती ने आज ट्वीट कर कहा कि देश में कोरोना वैक्सीन का दाम केन्द्र और राज्य सरकारों व निजी अस्पतालों के लिये एक समान न होकर अलग अलग निर्धारित करने के मामले में भारत सरकार को दखल देने की जरूरत। इस मामले में एकरूपता वाली राष्ट्रीय नीति बनाकर उस पर अमल करने की बसपा की मांग। बसपा अध्यक्ष ने दूसरे ट्वीट में आक्सीजन की कमी दूर करने के लिये तत्काल औद्योगिक क्षेत्र को इसकी आपूर्ति रोकने की मांग करते हुये कहा कि यह सुनिश्चित किया जाना चाहिये कि अस्पतालों में इसकी कोई कमी नहीं हो।

बैंकों के डिविडेंड भुगतान को सीमित करने का निर्देश

अकांशु उपाध्याय          
नई दिल्ली। कोरोना संक्रमण को देखते हुए भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने हाल में बीते वित्त वर्ष 2020-21 के लिए बैंकों के डिविडेंड भुगतान को सीमित करने का निर्देश दिया है। इसके पहले आरबीआई ने उसके पिछले वित्त वर्ष 2019-20 के दौरान भी बैंकों को डिविडेंड का भुगतान करने से रोक दिया था। बताया जा रहा है कि कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर का बैंकों के वित्तीय सेहत पर प्रतिकूल असर पड़ने की आशंकाओं को देखते हुए ये रोक लगाई गई है। रिजर्व बैंक की ओर इस संबंध में जारी किए गए दिशानिर्देश में कहा गया है कि अगर बैंक चाहें तो 31 मार्च 2021 को खत्म हुए वित्त वर्ष के लिए अंश धारकों को डिविडेंड का भुगतान कर सकते हैं, लेकिन इसके लिए शर्त ये है कि ये डिविडेंड पे-आउट रेशियो के 50 फीसदी से अधिक नहीं होना चाहिए। 
उल्लेखनीय है कि बैंकों के डिविडेंड भुगतान के लिए भारतीय रिजर्व बैंक ने 4 मई 2004 को एक समान नियमों की घोषणा की थी। इसके तहत सभी बैंकों के लिए कुछ मानक तय किए गए थे, जिनको पूरा करने के बाद ही बैंक डिविडेंड का भुगतान कर सकते हैं। इन मानकों के तहत अंश धारकों को डिविडेंड का भुगतान करने के लिए बीते दो वित्त वर्षों में बैंकों का पूंजी पर्याप्तता अनुपात (कैपिटल एडिक्वेसी रेशियो) 9 फीसदी से अधिक होना चाहिए, ताकि उनके पास डिविडेंड के भुगतान के बाद भी पर्याप्त पूंजी बनी रहे। इसके साथ ही बैंकों का नेट एनपीए भी 8 फीसदी से कम होना चाहिए। 
आरबीआई की ओर से डिविडेंड भुगतान को लेकर जारी दिशानिर्देश में कहा गया है कि कोरोना वायरस के संक्रमण की दूसरी लहर जिस गति से बढ़ रही है, उससे आर्थिक अनिश्चितता जैसे हालात बनने का खतरा बन गया है। ऐसी स्थिति में बैंकों का मजबूत बने रहना काफी अहम है। इसलिए उन्हें पहले ही जरूरी कदम उठाते हुए अपनी पूंजी की सुरक्षा करनी चाहिए। साथ ही पूंजी में कमी आने की किसी भी आशंका या नुकसान के डर को न्यूनतम कर देना चाहिए। 
भारतीय रिजर्व बैंक के दिशानिर्देशों की वजह से बैंकों ने पिछले साल तो डिविडेंड का भुगतान नहीं ही किया था, इस साल भी नए गाइडलाइन के कारण डिविडेंड के भुगतान की संभावना काफी कम हो गई है। सरकारी बैंकों की तर्ज पर वित्त वर्ष 2020-21 का डिविडेंड देने में निजी बैंक भी कंजूसी कर सकते हैं। इस क्रम में आमतौर पर डिविडेंड देने में आगे रहने वाला एचडीफएसी बैंक भी पहले ही साफ कर चुका है कि वो इस साल डिविडेंड का भुगतान नहीं करेगा। 

कनाडा ने भारत-पाक के विमानों पर लगाया प्रतिबंध

ओटावा/ इस्लामाबाद/ नई दिल्ली। कनाडा ने भारत और पाकिस्तान से आने वाली सभी यात्री विमानों पर आगामी 30 दिनों के लिए प्रतिबंध लगा दिया है। कनाडा के परिवहन मंत्री उमर अलघाबरा ने कहा कि भारत और पाकिस्तान में कोरोना संक्रमण के मामलों में तेजी से बढ़ोतरी हुई है और इन देशों से यहां आये विमान यात्रियों में कोविड-19 के काफी मामले सामने आये हैं। जिसके कारण यह निर्णय लिया गया है। उन्होंने कहा कि यह प्रतिबंध फिलहाल 30 दिनों के लिए लागू किया गया है।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन 

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण    
1. अंक-250 (साल-02)
2. शनिवार, अप्रैल 24, 2021
3. शक-1984,चैत्र, कृष्ण-पक्ष, तिथि- द्वादशी, विक्रमी सवंत-2078। ग्यारहवां रोजा, सहरी 04:31, इफ्तार 06:47। 11 रमजान, हिजरी 1442।
4. सूर्योदय प्रातः 06:20, सूर्यास्त 06:50।
5. न्‍यूनतम तापमान -12 डी.सै., अधिकतम-36+ डी.सै.।
6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110
http://www.universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745  
                     (सर्वाधिकार सुरक्षित)

एमपी: परिजन ने मिट्टी का तेल डालकर लगाईं आग

मनोज सिंह ठाकुर       भोपाल। मध्य प्रदेश के सागर जिले के एक गांव में 25 वर्षीय युवक पर कथित तौर पर प्रेम प्रसंग के चलते युवती के परिजन ने मि...