रविवार, 26 दिसंबर 2021

पदाधिकारियों से मंत्रणा, रणनीति बनाईं: सपा

पदाधिकारियों से मंत्रणा, रणनीति बनाईं: सपा
बृजेश केसरवानी         
प्रयागराज। समाजवादी पार्टी के महानगर कार्यालय पर महानगर अध्यक्ष सै. इफ्तेखार हुसैन की अध्यक्षता व नगर महासचिव रवीन्द्र यादव के संचालन मे सपा प्रमुख व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की विजय रथ यात्रा को लेकर वरिष्ठ सपा नेताओं पूर्व विधायक व समस्त विधान सभा से सपा से आवेदको व चौदहो प्रकोष्ठो के पदाधिकारियों के साथ मंत्रणा कर रणनीति बनाई गई। श्री इफ्तेखार ने कहा की अखिलेश यादव की विजय रथ यात्रा का कार्यक्रम लगभग तय हो गया है। जनवरी के प्रथम या दूतिय सप्ताह मे अगर योगी सरकार ने कोई अड़चन न पैदा की तो यात्रा को भव्य बनाने मे सपा कार्यकर्ता कोई कोर कसर नहीं छोड़ेंगे। महानगर महासचिव रवीन्द्र यादव रवि ने राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के यात्रा को लेकर प्रत्येक विधान सभा मे बैनर पोस्टर और सपा के झण्डे से शहर मे लाल रंग का सैलाब लाने का युवाओं से आहृवान किया। सपा के ज़िला अध्यक्ष बनने के उपरान्त पहली बार नगर कार्यालय आए योगेश चन्द्र यादव का महानगर अध्यक्ष सै.इफ्तेखार हुसैन ने माला पहना कर स्वागत किया।
योगेश यादव ने अपने सम्बोधन मे कहा की अखिलेश यादव की विजय रथ यात्रा का गंगा जमुना की पावन धरती पर ऐसा एतिहासिक स्वागत हो इसके लिए शहर से लेकर ग्रामीण क्षेत्रों के प्रत्येक विधान सभा मे यात्रा जाए इसको लेकर जल्द ही रोड मैप तय्यार कर लिया जायगा। जनसभा के लिए भी जल्द स्थान का चयन कर लिया जायगा। बैठक मे पूर्व विधायक हाजी परवेज़ अहमद ,बार ऐसोसिएशन के महासचिव प्रभाशंकर मिश्रा ,डॉ ऋचा सिंह ,तारिक सईद अज्जू ,संदीप यादव ,पियुश श्रीवास्तव ,नन्दलाल निषाद ,हाजी सलामत उल्ला,बब्बन द्वबे ,मो. असद ,शोऐब अन्सारी  समेत अन्य नेताओं ने भी यात्रा के आगमन और कार्यक्रम को सफल बनाने को अपने अपने विचार रखे। 
बैठक मे रोबिन लोहाया के साथ विभिन्न दल छोड़ कर सपा का दामन थामने वाले राजेश मालवीय ,सचिन कुमार वैश्य ,चन्दन सेन ,राकेश कुमार साहु, शेरु केसरवानी को महानगर की ओर से फूल माला पहना कर सपा का झण्डा सौंप कर बधाई दी गई और उनका गगनभेदी नारों से स्वागत किया गया। 
बैठक मे योगेश चन्द्र यादव ,इफ्तेखार हुसैन ,रवीन्द्र यादव रवि ,विजय वैश्य ,महेन्द्र निषाद ,इसरार अन्जुम ,मोइन हबीबी ,दिनेश यादव ,हाजी परवेज़ अहमद ,डॉ ऋचा सिंह, संदीप यादव ,मो. गौस ,अभिमन्यु पटेल ,ओ पी यादव,महबूब उसमानी, शोऐब खाँ ,मशहद अली खान, संदीप सिंह सत्या, शाहिद प्रधान ,मो.अजहर ,अब्दुल समद ,अनीस अहमद, रमीज़ अहसन ,अशोक गुप्ता ,दिलशाद मंसूरी ,पंकज साहु, राजू पासी ,राकेश वर्मा ,अजय यादव ,उर्मिला यादव ,इन्दू यादव ,मंजू यादव ,सुषमा यादव ,रेनू गौतम ,बीना यादव, आशा देवी पाल,स्मिता जायसवाल ,प्रतिमा रावत ,सविता कैथवास ,सै.मो. हामिद ,ज़ामिन हसन ,मो०सऊद, मो. हसीब, अब्दुल्ला तेहामी ,जयभारत यादव ,मो.सुलतान, शिवशंकर विश्वकर्मा ,हरीशचंद्र श्रीवास्तव ,सै.आसिफ हुसैन, आसिफ अन्सारी ,विशाल निषाद ,मो. रऊफ ,शिव ओम सिंह पटेल, सुर्यादीप यादव ,सै. मो. अस्करी आदि उपस्थित रहे।

'कालाबाजारी' को लेकर भाजपा की आलोचना: यूपी
समीर अहमद       
कौशाम्बी। समर्थ किसान पार्टी के नेता एवं जिला पंचायत सदस्य अजय सोनी ने देश प्रदेश में बढ़ती महंगाई, जमाखोरी एवं कालाबाजारी को लेकर भाजपा सरकार की आलोचना की है। रविवार को अजय सोनी अपने जिला पंचायत क्षेत्र के ग्राम तैबापुर, डिंचापर, शमसाबाद, तेरहरा एवं बंबुपुर गांवो में भ्रमण के दौरान लोगों से वार्ता करते हुए कहा कि महंगाई, जमाखोरी एवं कालाबाजारी बढ़ाना भाजपा सरकार का प्रयोजित कार्यक्रम है और ऐसा करके भाजपा सरकार गरीबों का खून चूसने में लगी है। 
जबकि देश में भाजपा समर्थित उद्योगपति रोज दर रोज मालामाल हो रहे हैं। आगे कहा कि भाजपा सरकार की नीतियों के चलते आज खाद्य पदार्थ, परिवहन, शिक्षा, स्वास्थ्य एवं अन्य आवश्यक वस्तुओं के दाम रोज दर रोज बढ़ते जा रहे हैं। जबकि देश में कच्चा माल एवं कृषि उत्पादन काफी बेहतर है। आगे कहा कि एक ओर केंद्र सरकार महगांई, जमाखोरी एवं कालाबाजारी बढ़ाकर गरीबों, किसानों, मजदूरों एवं आम जनता को तबाह कर रही है। 
वहीं दूसरी ओर कृषि और श्रम उत्पादों के दामों में लगातार कमी करके उन्हें और परेशान करने का काम रही है। आज लोग ऊंचे दामों में आवश्यक वस्तुओं को खरीदने को विवश हो रहे हैं।
इससे कालाधन और भ्रष्टाचार चरम पर पहुंच गया है। पार्टी नेता एवं सिराथू विधानसभा प्रत्याशी विजय शुक्ला ने कहा कि चुनाव के दौरान भाजपा सरकार ने महंगाई, कालाबाजारी एवं जमाखोरी के खिलाफ समुचित कार्यवाही सुनिश्चित करने की बात कही थी लेकिन सत्ता में आने के बाद भाजपा अपने वादे के विपरीत महंगाई, कालाबाजारी एवं जमाखोरी को बढ़ावा दे रही है। आने वाले चुनाव में जनता ऐसी जनविरोधी सरकार को जड़ से उखाड़ फेंकने का काम करेगी और इन्हे सत्ता से बाहर होना पड़ेगा। इस अवसर पर सुरजीत वर्मा, जयसिंह पटेल, सुशील सोनी, जुम्मन अली, रतन कुमार, वीरेंद्र सिंह आदि मौजूद रहे।
गाजियाबाद: 16 नए कोरोना संक्रमितों की पुष्टि हुईं   
अश्वनी उपाध्याय           गाजियाबाद। कोरोना संक्रमण की नई लहर ने गाज़ियाबाद के दरवाजे पर भी दस्तक देनी शुरू कर दी है। शनिवार शाम को गाज़ियाबाद में मुख्यमंत्री का रोड शो था। इस बीच जिला स्वास्थ्य विभाग ने खबर दी है कि पिछले 24 घंटों की अवधि में गाज़ियाबाद में 16 नए मरीजों की पुष्टि हुई है। इस रोड शो में न केवल हजारों लोगों की भीड़ जमा थी, बल्कि इस भीड़ ने कोविड-19 प्रोटोकॉल के हर नियम तो तोड़ा। खास बात यह रही कि जिलाधिकारी और एसएसपी प्रोटोकॉल तोड़ने वालों के साथ खड़े नज़र आए। 
यहाँ तक कि मेरठ रेंज के आई जी भी अपने पद की गरिमा भूल कर पब्लिक के बीच रस्सियाँ पकड़ते हुए नज़र आए। इन संक्रमितों में दो परिवारों के 9 सदस्य शामिल हैं। जून 2021 के बाद गाज़ियाबाद में एक दिन में मिलने वाले मरीजों की यह सबसे बड़ी संख्या है। पिछले 27 दिनों में गाज़ियाबाद जिले में 83 नए संक्रमित मिल चुके हैं। इनमें से 55 का इलाज चल रहा है।

शामली: झंडा लगाने का अभियान, सदस्यता ग्रहण की
भानु प्रताप उपाध्याय        शामली। जिला कांग्रेस कमेटी ने माननीया प्रियंका गाँधी एवं माननीय श्री अजय कुमार कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष विधायक के निर्देश पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं के निवास पर झंडा लगाने का अभियान चलाया गया। दीपक सैनी शामली जिला कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा की शामली जनपद के सभी कांग्रेस पदाधिकारियों व कायॅकताओ के निवास पर झण्डा लगा होना चाहिए। क्योंकि कांग्रेस झण्डा लगने का महत्व कांग्रेस कार्यकर्ताओं का महत्वपूर्ण जोश भरा संदेश लेकर उर्जा को बढाने का काम करता है।
 संदीप शर्मा, जिला सचिव सदस्यता अभियान जिला प्रभारी ने कहा कि शामली जनपद के सभी सम्मानित कांग्रेसजनों के प्रतिष्ठान ओर अपने घरों पर कांग्रेस का झंडा लगाना है ओर कांग्रेस को बुलंद आवाज़ को लेकर आगे बढ़ना है।
क्योंकि आने वाला समय अखिल भारतीय कांग्रेस पार्टी का ही आ रहा है। घरों पर कांग्रेस झण्डा कांग्रेस कार्यकर्ताओं मे एक उत्सव का सजन करता है।
आज दिन रविवार को कांग्रेस झण्डा अभियान चला कर श्री मांगेराम पांचाल माजरा रोड शामली के निवास पर कांग्रेस झण्डा लगाकर कांग्रेस पार्टी की सदस्यता ग्रहण कराई।
ओर कांग्रेस की विचारधारा से अवगत कराया गया।
मांगेराम ने कहा कि राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी ने भारत देश के लिए सब कुछ किया है। जनता के लिए आज हम जो कपडा पहनते हैं। वो कांग्रेस की देन हैं। कांग्रेस झण्डा अभियान में दीपक सैनी, शामली जिला कांग्रेस अध्यक्ष शैखरपाल प्रदेश, महासचिव पिछड़ा प्रवीण तरार जिला उपाध्यक्ष संदीप शर्मा, जिला सचिव  सुरेन्द्र सरोहा, वरिष्ठ कांग्रेसी रामशरन नामदेव, वरिष्ठ कांग्रेस नेता विनोद सेन, नगर अध्यक्ष पिछड़ा वर्ग रामपाल पांचाल, वरिष्ठ कांग्रेस सोरभ सैनी नरेन्द्रपाल आदि शामिल हुए।

नूडल्स फैक्ट्री में फटा बॉयलर, 4 की मौंत: हादसा

नूडल्स फैक्ट्री में फटा बॉयलर, 4 की मौंत: हादसा

अविनाश श्रीवास्तव          पटना। बिहार के मुजफ्फरपुर में रविवार सुबह एक बड़ा हादसा हो गया। बेला औद्योगिक इलाके में मोदी कुरकुरे और नूडल्स फैक्ट्री में अचानक से बॉयलर फट गया। जिसकी वजह से 4 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं, 10 लोगों से अधिक लोग गंभीर रूप से घायल भी बताए जा रहे है। हालात यह है कि आस-पास में मौजूद फैक्ट्रियों के लोगों के भी घायल होने की सूचना है। मौके पर डीएम-एसएसपी समेत तमाम अधिकारी मौजूद है। अभी बताया यह भी जा रहा है कि मरने वालों की संख्या बढ़ सकती है।

बिहार के मुजफ्फरपुर के स्थानीय लोगों की माने तो रविवार सुबह अचानक से बॉयलर फटा। उसके फटने की आवाज इतनी तेज की थी। आस-पास ही नहीं, करीब 5 किलोमीटर दूरी तक सुनाई दी। आस-पास के लोगों को तो लगा मानों किसी ने बम फोड़ दिया। धमका इतनी तेज था कि उसकी आवाज से आस पास में मौजूद फैक्ट्रियां भी क्षतिग्रस्त हो गए। उन फैक्ट्रियों में भी काम करने वाले लोगों को चोट आई है।

यूके: 24 घंटों में कोरोना के 13 नए मामलें मिलें

पंकज कपूर       देहरादून। राज्य में रविवार को कोरोना के कुल 13 नए मामले सामने आए है। इसी के साथ राज्य में कोरोना का आंकड़ा 344779 पहुंच गया है। जबकि राज्य में आज 18 मरीज स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हुए इस तरह अब तक 330938 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। रविवार की सांय 6:00 बजे स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी हेल्थ बुलेटिन के अनुसार राज्य में 13 नए लोगों में कोरोना पॉजिटिव की पुष्टि हुई। 

जिनमें देहरादून जिले से 06 ,हरिद्वार से 01 , नैनीताल जिले से 02, उधमसिंह नगर से 02 , पौडी से 01, टिहरी से 0, चंपावत से 0 , पिथौरागढ़ से 01 , अल्मोड़ा 0, बागेश्वर से 0, चमोली से 0, रुद्रप्रयाग से 0, उत्तरकाशी से 0 सैंपल पॉजिटिव मिले हैं। राज्य में कोरोना से संक्रमित अब तक कुल 344779 मरीजों में से 3,30,938 मरीज ठीक होकर अस्पताल से डिस्चार्ज हो चुके हैं। 6,193 संक्रमित राज्य से बाहर जा चुके, हैं। 7,416 संक्रमित की मौत हो चुकी है। राज्य में वर्तमान में कोविड-19 के एक्टिव केस 231 है। इधर रिकवरी रेट 96.0 प्रतिशत पहुंच गया है।

विदेश से ओडिशा लौटे 4 व्यक्ति संक्रमित, ओमिक्रोन

भुवनेश्वर। विदेश से ओडिशा लौटे चार व्यक्ति कोरोना वायरस के ओमीक्रोन स्वरूप से संक्रमित पाए गए। एक वरिष्ठ स्वास्थ्य अधिकारी ने रविवार को यह जानकारी दी। स्वास्थ्य सेवा निदेशक (डीएचएस) विजय महापात्र ने बताया कि मरीजों में से दो नाइजीरिया से लौटे हैं। जबकि अन्य दो संयुक्त अरब अमीरात से आए हैं। उन्होंने बताया कि इसके साथ ही राज्य में ओमीक्रोन के मामलों की संख्या बढ़कर आठ हो गई।

ओडिशा में सबसे पहले 21 दिसंबर को नाइजीरिया और कतर से लौटे दो व्यक्ति नए स्वरूप से संक्रमित पाए गए थे। अधिकारी ने बताया कि नए मरीजों में से एक व्यक्ति की रिपोर्ट निगेटिव आ गई है।राज्य सरकार के निर्देश के अनुसार ‘जोखिम वाले’ देशों से लौटे सभी यात्रियों और अन्य देशों से लौटे यात्रियों की जांच की जा रही है और उनके नमूने को आनुवंशिकी अनुक्रमण के लिए भेजा जा रहा है।


पर्वतीय इलाकों में भारी हिमपात होने की संभावना
राणा ओबरॉय        चंडीगढ़। देश के उत्तरी मैदानी राज्यों हरियाणा, पंजाब, राजस्थान और एनसीआर-दिल्ली के इलाको में मौसम एक बार फिर करवट लेने वाला है। 26 से 29 दिसम्बर तक इन मैदानी राज्यों में बारिश होने और सीमित स्थानों पर ओलावृष्टि तथा उत्तरी पर्वतीय इलाकों में भारी मात्रा में हिमपात होने की संभावनाएं बन रही हैं। राजकीय महाविद्यालय नारनौल के पर्यावरण क्लब के नोडल अधिकारी डॉ. चंद्रमोहन ने बताया कि उत्तरी पर्वतीय इलाकों से लगातार एक के बाद एक सक्रिय मौसम प्रणाली वैस्टर्न डिस्टरबेंस का प्रभाव जारी है, जिनका उत्तरी पर्वतीय क्षेत्रों में प्रवेश हो रहा है। जिसकी वजह से पंजाब और राजस्थान व उत्तर पश्चिमी हरियाणा पर चक्रवातीय सरकुलेशन बन गया है और पवनों की दिशा में बदलाव हो गया है। 
पवने दक्षिणी पूर्वी हो गई है और उनकी गति 10 से 15 किलोमीटर प्रति घंटा हो गई है। दक्षिणी पूर्वी नमी वाली पवनों और पछुआ पवनों (वैस्टर्न डिस्टरबेंस) के मिलन से मैदानी राज्यों में विस्तृत इलाकों में 26 से 29 दिसम्बर तक विशेषकर हरियाणा, एनसीआर-दिल्ली, राजस्थान, पंजाब में हल्की से सामान्य बारिश, सीमित स्थानों पर ओलावृष्टि और पर्वतीय क्षेत्रों में भारी मात्रा में हिमपात होने का दौर शुरू होने की संभावनाएं बन रही है। 
26 दिसम्बर की सुबह से हरियाणा में विशेषकर सिरसा, हिसार, फतेहाबाद भिवानी, कैथल, कुरुक्षेत्र, रोहतक, करनाल, पानीपत, सोनीपत, और दोपहर तक महेंद्रगढ़ नारनौल, रेवाड़ी, पलवल, फरीदाबाद आदि जिलों और एनसीआर दिल्ली आदि पर हल्की से मध्यम बारिश की संभावना बन रही है। 
यह हल्की बारिश फसलों के लिए सोना साबित होगी। पुरानी कहावत है “माह पौह को झारों चाहे फागून बरसो सारो” यानि दिसंबर और जनवरी में हल्की बारिश फसलों के लिए वरदान साबित होती है और सोना उगलती है और मार्च (फागून) माह में पूरे महीने बारिश हो उसका कोई फायदा नहीं होता। 30 दिसंबर से आसमान साफ हो जाएगा। पवनों की दिशा उत्तरी हो जाएगी। जिसकी वजह से मैदानी राज्यों में न्यूनतम और अधिकतम तापमान में गिरावट दर्ज होगी और नमी बढ़ने की वजह से कोहरा की मात्रा में बढ़ोतरी होगी और नया वर्ष का आगाज कड़ाके की ठंड से होगा।

पाक ने भारतीय टीम को दो विकेट से मात दीं

पाक ने भारतीय टीम को दो विकेट से मात दीं      

मोमीन मलिक     नई दिल्ली/ इस्लामाबाद। भारतीय अंडर-19 टीम को एशिया कप के दूसरे मुकाबले में पाकिस्तान ने दो विकेट से मात दी। सांसों को थाम देने वाले इस मैच में पाकिस्तान को अंतिम गेंद पर दो रनोंं की जरूरत थी और अहमद खान ने आखिरी गेंद पर चौका जड़कर पाक टीम को जीत दिला दी। टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए भारत की पूरी टीम 49 ओवर में 237 रनों पर ढेर हो गई थी। आराध्य यादव ने 50, हरनूर सिंह ने 46 और राजवर्धन हेंगरगेकर ने 33 रनों का योगदान दिया। पाकिस्तान की ओर से जीशान जमीर ने 60 रन देकर पांच विकेट चटकाए।

जवाब में पाकिस्तान को अंतिम तीन ओवरों में 25 रनों की जरूरत थी और उसके चार विकेट शेष थे। ऐसे में भारतीय गेंदबाजों ने दो विकेट चटकाकर मैच जीतने की पूरी कोशिश की, लेकिन अहमद खान की पारी भारतीय टीम पर भारी पड़ गई।

सर्दी-जुकाम से राहत दिलाने में मददगार, खानपान

मो. रियाज        ठंड बढ़ रही है और ऐसे में सर्दी-जुकाम एक आम बात है। लेकिन ये छोटी-सी बीमारी भी काफी तकलीफ पहुंचाती है। इसी वजह से कई लोग इससे छुटकारा पाने के लिए तरह-तरह की दवाईयों का सेवन करते हैं, जिनका असर न बराबर ही होता है। आइए आज हम आपको कुछ ऐसे खाद्य पदार्थों के बारे में बताते हैं। जो रोग प्रतिरोधक क्षमता बढा कर सर्दी-जुकाम से राहत दिलाने में मदद कर सकते हैं।

संतरा: संतरा विटामिन-सी से समृद्ध होता है, जो रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में मदद कर सकता है, जिससे सर्दी-जुकाम की समस्या दूर हो सकती है।यही नहीं, संतरे में मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट प्रभाव मुक्त कणों से भी बचाता है। मुक्त कण हमारे शरीर में ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस का कारण बनते हैं, जिससे शरीर में कई बीमारियों का जोखिम बढ़ सकता है।संतरे का एंटी-ऑक्सीडेंट प्रभाव इन समस्याओं को कम करके रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करने में मदद कर सकता है।

एथ

लहसुन: लहसुन में बहुत गुणकारी एंटी-माइक्रोबायल एजेंट पाए जाते हैं, जो रोग प्रतिरोधक क्षमता पर सकारात्मक प्रभाव डाल सकता है और आपको सर्दी-जुकाम जैसी कई बीमारियों से राहत दिला सकता है। राहत के लिए लहसुन को छोटे टुकड़ों में काटकर या उसे बारीक कद्दूकस करके कच्चा चबा सकते हैं।अगर आपको इसे कच्चा खाने में किसी तरह की परेशानी का अनुभव हो रहा है तो आप इसे अपनी सब्जी या फिर चटनी में भी शामिल कर सकते हैं।

शहद: सर्दियों में शहद का सेवन जरूर करें क्योंकि इसकी तासीर प्राकृतिक रूप से गर्म होती है और इसका नियमित सेवन शरीर को गर्माहट देने में मदद कर सकता है।यही नहीं, यह आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता के लिए भी बहुत अच्छा है और आपको खांसी-जुकाम और फ्लू जैसी सर्दी की सामान्य बीमारियों से राहत दिलाता है।अगर आप अपने दिन की शुरूआत एक प्याली चाय या कॉफी से करते हैं तो इसमें चीनी की बजाय शहद मिलाएं।

भाजपा को केवल कांग्रेस ही हरा सकेगी: चिदंबरम

भाजपा को केवल कांग्रेस ही हरा सकेगी: चिदंबरम     

अकांशु उपाध्याय          नई दिल्ली। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने रविवार को कहा कि गोवा में तृणमूल कांग्रेस और आम आदमी पार्टी गैर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) वोटों में सेंध लगा रही हैं और भाजपा को केवल कांग्रेस ही हरा सकती है। गोवा विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस के वरिष्ठ चुनाव पर्यवेक्षक चिदंबरम ने यह भी कहा कि पार्टी और मतदाताओं के प्रति निष्ठा चुनाव के लिए उम्मीदवारों के चयन की पहली कसौटी है। साथ ही उन्होंने उम्मीद जताई कि निर्वाचित होने के पश्चात ऐसे उम्मीदवार पार्टी और मतदाताओं दोनों के प्रति निष्ठावान रहेंगे।

चिदंबरम का यह बयान ऐसे वक्त में आया है जब गोवा प्रदेश कांग्रेस समिति के कार्यवाहक अध्यक्ष एलेक्सो रेजिनाल्डो लौरेंको ने राज्य विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है। चालीस सदस्यीय विधानसभा में पार्टी की संख्या दो पर सिमट गई है। लौरेंको तृणमूल कांग्रेस में शामिल हो गए हैं।इस माह की शुरुआत में पूर्व मुख्यमंत्रियों लुइजिन्हो फलेरियो और रवि नाइक ने भी कांग्रेस की सदस्यता छोड़ दी। चिदंबरम ने कहा कि केवल कांग्रेस ही ऐसी पार्टी है जिसकी गोवा में सभी 40 विधानसभा क्षेत्रों में गहरी जड़ें हैं और जनता जानती है कि केवल कांग्रेस ही वह पार्टी है जिसमें भाजपा के ”धनबल और राज्य सत्ता के दुरुपयोग”के बावजूद पार्टी को हराने का दम है।

एमपी: राज्यपाल के समक्ष प्रस्ताव, टाले चुनाव

मनोज सिंह ठाकुर         भोपाल। मध्यप्रदेश में पंचायत चुनाव अब फिलहाल नहीं होंगे। राज्य सरकार ने पंचायत चुनाव कराने के संबंध में पिछले दिनों पेश किया गया अध्यादेश आज वापस लेने का निर्णय लेकर इस संबंध में प्रस्ताव राज्यपाल के समक्ष भेज दिया है। राज्य सरकार के प्रवक्ता एवं गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने आज यहां मंत्रिपरिषद की बैठक के बाद पत्रकारों से चर्चा में यह जानकारी दी। इस अवसर पर पंचायत मंत्री महेंद्र सिंह सिसोदिया भी मौजूद थे। डॉ. मिश्रा ने बताया कि मंत्रिपरिषद ने वह अध्यादेश आज वापस लेने का निर्णय लिया है, जिसके आधार पर राज्य में पंचायत चुनाव कराने की प्रक्रिया प्रारंभ हुयी थी। यह प्रस्ताव अब विधिवत तरीके से राज्यपाल के पास भेजा जा रहा है।

इसके बाद की कार्रवाई राजभवन और उसके बाद राज्य निर्वाचन आयोग को करना है। इस बीच आधिकारिक सूत्रों का कहना है कि अब पंचायत चुनाव टलना तय है। मंत्रिपरिषद से प्राप्त प्रस्ताव के आधार पर राज्यपाल अपनी मुहर लगा देंगे और इसके बाद राज्य निर्वाचन आयोग के पास भी अध्यादेश वापस होने के बाद पंचायत चुनाव टालने के अलावा कोई विकल्प नहीं बचेगा। दरअसल पिछले दिनों राज्य सरकार पंचायत चुनाव कराने के संबंध में एक अध्यादेश लायी थी।

इसमें परिसीमन और आरक्षण संबंधी प्रस्ताव के बारे में भी प्रावधान थे। इसी के आधार पर राज्य निर्वाचन आयोग ने राज्य की हजारों पंचायतों में चुनाव कराने का निर्णय लिया था। दिसंबर माह में इसकी प्रक्रिया प्रारंभ हो गयी थी, लेकिन कांग्रेस से जुड़े व्यक्ति इस मामले को लेकर उच्च न्यायालय और उच्चतम न्यायालय पहुंच गए और उच्चतम न्यायालय ने पंचायत चुनाव में अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) को आरक्षण भी समाप्त कर दिया। इसके बाद से सत्तारूढ़ दल भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस के नेताओं के बीच लगातार आरोप प्रत्यारोप और बयानबाजी चल रही थी। इस बीच राज्य सरकार ने साफ कर दिया था कि वह चाहती है कि ओबीसी को आरक्षण के बगैर पंचायत चुनाव नहीं होना चाहिए। इसके बाद आज सरकार ने मंत्रिपरिषद में पंचायत चुनाव कराने संबंधी अध्यादेश वापस ले लिया।

पीएम ने 'मन की बात' कार्यक्रम को संबोधित किया

अकांशु उपाध्याय      नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज यानी रविवार को मन की बात कार्यक्रम को संबोधित किया। कार्यक्रम के दौरान उन्होंने कोरोना महामारी से लेकर छात्रों की चुनौतियों तक के बारे में बात की। इस दौरान उन्होंने तमिलनाडु हेलीकॉप्टर हादसे में शहीद हुए वायु सेना के ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह को भी याद किया। पीएम मोदी ने कहा कि वरुण जब अस्पताल में थे, उस समय मैंने सोशल मीडिया पर कुछ ऐसा देखा, जो मेरे हृदय को छू गया। इस साल अगस्त में ही उन्हें शौर्य चक्र दिया गया था। इस सम्मान के बाद उन्होंने अपने स्कूल के प्रिंसिपल को एक चिट्ठी लिखी थी। उन्होंने कहा कि इस चिट्ठी को पढ़कर मेरे मन में पहला विचार यही आया कि सफलता के शीर्ष पर पहुंच कर भी वे जड़ों को सींचना नहीं भूले। दूसरा कि जब उनके पास जश्न मनाने का समय था, तो उन्होंने आने वाली पीढ़ियों की चिंता की। औसत दर्जे का होना भी ठीक होता है, लेकिन इसका यह मतलब कतई नहीं है कि जीवन में आने वाली चीजें भी ऐसी ही होंगी। 

यह प्रेरणादायक सीख भारतीय वायुसेना के ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह ने दी थी, जो अब इस दुनिया में नहीं रहे।हेलिकॉप्टर हादसे में घायल भारतीय वायुसेना के इस जाबांज ऑफिसर की सांसें भी 15 दिसंबर को आखिरकार थम गईं। वह करीब एक सप्ताह से जिंदगी की जंग लड़ रहे थे। लेकिन, जाते-जाते भी वह ऐसी सीख दे गए, जो किसी भी औसत दर्जे (साधारण) के छात्र को असाधारण बना सकती है। दरअसल, वरुण सिंह ने शौर्य चक्र से सम्मानित होने के कुछ सप्ताह बाद 18 सितंबर को अपने स्कूल चंडीमंदिर स्थित आर्मी पब्लिक स्कूल के प्रधानाचार्य को एक पत्र लिखा था। इस पत्र में उन्होंने छात्रों को संबोधित करते हुए प्रेरणा देने वाली कई बातें लिखी थीं। इस पत्र में छात्रों के नाम संदेश में वरुण सिंह ने कहा था कि औसत दर्जे का होने में कोई भी बुराई नहीं है। सभी छात्र 90 प्रतिशत अंक नहीं ला सकते। हां, यह जरूर है कि जो ऐसा कर पाते हैं, उनकी सराहना होनी चाहिए।

किसान 'आंदोलन' शुरू किए जाने का संकेत दिया

संदीप मिश्र      दोसा। केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर की ओर से वापस लिए जा चुके नए कृषि कानूनों को लेकर महाराष्ट्र के नागपुर में दिए गए चौकाने वाले बयान के बाद भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने किसान आंदोलन फिर से शुरू किए जाने का संकेत दे दिया है। उन्होंने कहा है कि केंद्र सरकार की ओर से केवल तीन कृषि कानून ही रद्द किए गए हैं। जबकि किसानों की अन्य बाकी बची मांगे अभी पूरी होनी है।

केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर की ओर से शनिवार को महाराष्ट्र के नागपुर में आयोजित किए गए कार्यक्रम में चौंकाने वाला बयान देते हुए कहा गया था कि नये कृषि कानून 70 साल की आजादी के बाद लाया गया सबसे बड़ा रिफॉर्म था। लेकिन कुछ लोगों के विरोध के बाद उसे वापस लेना पड़ा है। उन्होंने आगे कहा कि हम एक कदम पीछे जरूर हटे हैं, लेकिन दोबारा आगे बढ़ेंगे। सरकार आगे के बारे में सोच रही है। हम निराश नहीं हैं। किसान भारत की रीढ़ है। उधर केंद्रीय कृषि मंत्री के इस बयान के बाद शनिवार की शाम को ही भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने चेतावनी दे डाली कि किसान आंदोलन फिर से शुरू हो सकता है। आगरा से जयपुर जाते समय दोसा में मीडिया कर्मियों से बातचीत करते हुए राकेश टिकैत ने कहा है कि केंद्र सरकार की ओर से अभी केवल तीन कृषि कानून ही रद्द किए गए हैं। 

किसान संगठनों की अन्य मांगे अभी सरकार की ओर से नहीं मानी गई है। एमएसपी पर कानून के लिए कमेटी बनाने पर सरकार की चाल बहुत धीमी है। एआईएमआईएम के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी पर भी तंज कसते हुए राकेश टिकैत ने कहा है कि ओवेसी भाजपा से भी ज्यादा खतरनाक है। लोगों को उनसे सावधान रहना चाहिए। राकेश टिकैत ने आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर दावा किया है कि उत्तर प्रदेश का किसान उसी पार्टी को वोट देगा जो उसे फायदा पहुंचाएगा। उन्होंने यह भी कहा है कि किसान यूनियन की ओर से उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर अभी कोई निर्णय नहीं लिया गया है। आचार संहिता लगने के बाद ही समर्थन को लेकर फैसला किया जाएगा।

लड़कियों पर अन्याय, सहन नहीं करुगी: प्रियंका

अकांशु उपाध्याय       नई दिल्ली। कांग्रेस की उत्तर प्रदेश की प्रभारी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा है कि उत्तर प्रदेश में लाखों लड़कियां 'लड़की हूं लड़ सकती हूं ' नारे से जुड़ रही हैं और अब वे अन्याय सहन नहीं करेंगी तथा अपने हक के लिए लड़ेंगी। उन्होंने रविवार को कहा कि झांसी में इस अभियान के तहत आयोजित मैराथन में 10,000 से अधिक लड़कियां शामिल हुई हैं। जिससे साबित होता है कि प्रदेश की लड़कियां इस नारे से जुड़ रही हैं और खुद को समर्थ महसूस कर रही हैं। श्रीमती वाड्रा ने ट्वीट किया 'बिना सरकारी बसें लगाए, बिना सरकारी तंत्र लगाए, आज झांसी में 10,000 से अधिक लड़कियां 'लड़की हूं लड़ सकती हूं' मैराथन में दौड़ने उतरीं। आज प्रदेश की हर एक लड़की इस नारे के साथ जुड़ाव महसूस कर रही है।'पंपं

उन्होंने लखनऊ में इस तरह का आयोजन नहीं होने देने के लिए राज्य सरकार की आलोचना की और कहा 'योगी आदित्यनाथ जी लड़कियों की उड़ान और आवाज के इतने ज्यादा विरोधी हैं कि उन्होंने लखनऊ में मैराथन की परमिशन कैंसल कर दी। लेकिन लड़कियां सहेंगी नहीं। लड़कियां लड़ेंगी।'

कृषि कानूनों को वापस लाने की कोई योजना नहीं 

अकांशु उपाध्याय       नई दिल्ली। कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने रविवार को कहा कि सरकार की हाल में निरस्त किए गए कृषि कानूनों को वापस लाने की कोई योजना नहीं है और उन्होंने किसानों से इस मुद्दे पर कांग्रेस द्वारा पैदा किए जा रहे ‘भ्रम’ से सावधान रहने का आग्रह किया। तोमर ने एक बयान में कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किसानों के हितों की रक्षा करने के लिए कृषि सुधार कानूनों को वापस लेने का फैसला किया था।

उन्होंने कहा कि सरकार की (निरस्त) कृषि कानूनों को फिर से लाने की कोई योजना नहीं है..कांग्रेस अपनी नाकामियों को छुपाने के लिए भ्रम फैलाने के नकारात्मक काम में लगी हुई है।” उन्होंने किसानों से इससे सावधान रहने को कहा। गौरतलब है कि प्रधानमंत्री मोदी ने 19 नवंबर को राष्ट्र को दिए संबोधन में राष्ट्रीय राजधानी की सीमाओं पर किसानों के एक साल लंबे चले आंदोलन को खत्म करने की कवायद में तीन विवादित कृषि कानूनों को निरस्त करने की घोषणा की थी।

विधानसभा चुनाव, भाजपा ने समीक्षा बैठक की

अकांशु उपाध्याय      नई दिल्ली। उप्र में अगले साल होने जा रहे विधानसभा चुनावों को लेकर भाजपा की दिल्ली में अहम बैठक होने जा रही है। मीडिया के अनुसार बताया जा रहा है कि पार्टी की विधानसभा चुनावों में ब्राम्हण वोटरों पर खास नजर है। जिसको भाजपा अपने से दूर नहीं होने देना चाहती है।

यही वजह है कि उत्तर प्रदेश प्रभारी और केन्द्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने आज दिल्ली में उत्तर प्रदेश के ब्राम्हण मंत्रियों की बैठक बुलाई है। जिसमें प्रदेश प्रभारी चुनाव से पहले मंत्रियों से फीडबैक लेंगे। बैठक में उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा,कैबिनेट मंत्री बृजेश पाठक,ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा,बेसिक शिक्षा मंत्री सतीश द्विवेदी, ग्राम्म विकास राज्यमंत्री आनन्द स्वरूप शुक्ला शामिल होंगे।

चीन का कई देशों से गतिरोध, युद्ध का दौर जारी

चीन का कई देशों से गतिरोध, युद्ध का दौर जारी
अखिलेश पांंडेय      वाशिंगटन डीसी। वर्ष 2021 समाप्‍त होने में थोड़े दिन शेष हैं। पूरे वर्ष अमेरिका और चीन के बीच एक नया शीत युद्ध का दौर चलता रहा। इस वर्ष भारत समेत चीन का कई देशों के साथ सीमा गतिरोध जोरों पर रहा है। ऐसे में सवाल उठता है क‍ि क्‍या नए वर्ष में चीन और अमेरिका के बीच संबंधों में नरमी आएगी या चीन अमेरिका के बीच गतिरोध और बढ़ेगा ? आखिर किस दिशा में अमेरिका और चीन के संबंध जाएंगे ? क्‍या टी-2 को लेकर दोनों देशों के बीच जंग के आसार बनेंगे? बाइडन का चीन के प्रति क्‍या रवैया होगा? क्‍या नए वर्ष में भी बाइडन प्रशासन का तिब्‍बत और ताइवान एजेंडा बना रहेगा? तिब्‍बत और ताइवान को लेकर चीन का क्‍या स्‍टैंड होगा? ऐसे कई सवाल हैं जो आपके मन में भी कौंध रहे होंगे। आइए जानते हैं कि आखिर विशेषज्ञों की इस पर क्‍या राय है। प्रो. हर्ष वी पंत का कहना है कि नए वर्ष में चीन और अमेरिका के संबंधों में कोई नया बदलाव आने वाला नहीं है। हालांकि, ओमिक्रोन वायरस के प्रकोप को देखते हुए दोनों देशों का जोर अपनी आंतरिक व्‍यवस्‍था को ठीक करने पर होगा। खासकर आर्थिक मोर्चे पर चुनौतियों से निपटने की व्‍यस्‍तता होगी। उन्‍होंने कहा कि जहां तक सवाल अमेरिका और चीन के संबंधों का है तो बाइडन प्रशासन ने तिब्‍बत का राग छेड़कर यह संकेत दे दिया है कि उनके पास ड्रैगन के खिलाफ मोर्चा खोलने के और भी कई मुद्दे हैं।
प्रो. पंत का कहना है कि बाइडन प्रशासन ने बहुत चतुराई से तिब्‍बत का मुद्दा छेड़कर चीन का ध्‍यान ताइवान की और से हटाना चाहा है। बाइडन प्रशासन ऐसे कई मोर्चों पर चीन का ध्‍यान बांटना चाहता है। इसमें तिब्‍बत के साथ उइगर मुस्लिमों की समस्‍या भी शामिल है। बाइडन प्रशासन इस जुगत में हैं कि चीनी राष्‍ट्रपति चिनफ‍िंग का ध्‍यान ताइवान से ज्‍यादा तिब्‍बत और चीन में उइगर मुस्लिमों की ओर खींचा जाए। इन मसलों को लेकर दोनों देशों के बीच एक नए तरह का शीत युद्ध शुरू हो सकता है।
उन्‍होंने कहा कि बाइडन प्रशासन अपने इसी टी-2 प्लान के तहत तिब्बत के लिए उजरा जेया को नया वार्ताकार नियुक्त किया है। उजरा को यह जिम्‍मेदारी सौंपी गई है कि वह तिब्बत की धार्मिक नेता दलाई लामा या उनके प्रितिनिधियों और चीन सरकार के बीच वार्ता करवाएं, ताकि तिब्बत की धार्मिक और जातीय पहचान व अधिकारों को बचाने वाला समाधान निकाला जा सके। बता दें कि दलाई लामा के प्रतिनिधियों और चीनी सरकार के बीच वर्ष 2010 के बाद कोई औपचारिक वार्ता भी नहीं हुई है। यानी वर्ष 2013 से चीन की सत्ता में मौजूद वर्तमान राष्ट्रपति शी चिनफ‍िंग के कार्यकाल में दोनों पक्ष बातचीत की टेबल पर नहीं मिले हैं।
प्रो. पंत का कहना है कि अमेरिका कभी भी चीन के साथ किसी तरह का सैन्‍य मुठभेड़ नहीं चाहेगा। हां, कूटनीतिक मोर्चे पर चीन के खिलाफ बाइडन प्रशासन अपनी एक ठोस रणनीति जरूर बनाएगा। इस वर्ष भी दोनों देशों के बीच कूटनीतिक जंग के तेज होने के आसार हैं। कूटनीतिक मोर्चे पर बाइडन प्रशासन ने अपना एजेंडा सेट कर लिया है। इसलिए चाहे ताइवान का मसला हो या तिब्‍बत का दोनों मोर्चे पर कूटनीतिक जंग के ज्‍यादा आसार हैं। बाइडन का लोकतांत्रिक देशों का सम्‍मेलन इसी कड़ी के रूप में देखा जाना चाहिए। ऐसा करके बाइडन प्रशासन ने संकेत दिया है कि भविष्‍य में दोनों देशों के बीच वैचारिक जंग और तेज होगी।
अमेरिकी प्लान का दूसरा अहम मोर्चा ताइवान।
 हिंद-प्रशांत के क्षेत्र में अपनी सैन्य मौजूदगी और रणनीतिक सक्रियता बढ़ा चुका अमेरिका ताइवान के बहाने चीन पर तीर तानने का अवसर नहीं गंवाना चाहता। प्रो. पंत का कहना है कि ताइवान, अमेरिका और चीन के बीच टकराव का बड़ा कारण बन सकता है। यदि ऐसा होता है कि क्वाड की चौकड़ी में अमेरिका का अहम साझेदार और हिंद महासागर में बड़ी ताकत रखने वाले भारत की भूमिका को नजरअंदाज करना मुमकिन नहीं होगा। यही वजह है कि अमेरिका इन दिनों ताइवान के हितों की हिफाजत का हवाला देते हुए बीजिंग पर निशाना साध रहा है। अमेरिकी योजना का दूसरा अहम मोर्चा ताइवान।
चीन की नाकेबंदी में अमेरिकी योजना का दूसरा अहम मोर्चा ताइवान है। अमेरिका यह पहले ही साफ कर चुका है कि वो ताइवान के खिलाफ चीन की किसी भी कार्रवाई का जवाब देगा। इतना ही नहीं जापान, दक्षिण कोरिया जैसे अहम पूर्वी एशियाई देश भी ताइवान के हितों की हिफाजत की तरफदारी जता चुके हैं। उधर, चीन अपनी वन-चाइना पालिसी की दुहाई देते हुए ताइवान में किसी भी विदेशी दखल का विरोध करता है। चीन के लड़ाकू विमान ताइवान के आसमान में उड़ान भरते नजर आते हैं।
2022 में चुनावी लकीर को बड़ा करने की कोशिश
हिंद-प्रशांत के इलाके से लेकर हिमालय तक टी-2 के दोनों मोर्चे ऐसे वक्त गर्मा रहे हैं, जब चिनफ‍िंग 2022 में अपनी चुनावी लकीर को बड़ा करने की कोशिश में जुटे हैं। वर्ष 2018 में राष्ट्रपति के कार्यकाल की समय सीमा का प्रावधान खत्म किए जाने के बाद उनका प्रयास 20वीं पार्टी कांग्रेस बैठक में अगला कार्यकाल हासिल करने का होगा। मगर, तिब्बत से लेकर ताइवान के मोर्चे पर टकराव और हांगकांग से लेकर आर्थिक स्तर पर मौजूद चुनौतियां राष्ट्रपति शी के जीवन प्रयत्न राष्ट्रपति के सपने को तोड़ भी सकते हैं।
5 मिलियन खुराक भेजने की घोषणा की: अमेरिका

सुनील श्रीवास्तव      वाशिंगटन डीसी। दुनिया भर में कोरोना वायरस के खिलाफ जंग लड़ी जा रही है। वायरस के खिलाफ टीकाकरण एक बड़ी सुरक्षा है। संयुक्त राज्य अमेरिका ने पाकिस्तान को  एक बड़ी राहत दी है। यूएस ने कौवेक्स सुविधा के माध्यम से पाकिस्तान को फाइजर के कोरोना वायरस वैक्सीन की अतिरिक्त पांच मिलियन खुराक भेजने की घोषणा की है।

द एक्सप्रेस ट्रिब्यून ने अमेरिकी दूतावास के बयान के हवाले से कहा, 'संयुक्त राज्य अमेरिका ने सांता को जीवन रक्षक फाइजर कोविड -19 टीकों की अतिरिक्त 5 मिलियन खुराक पाकिस्तान में लाने के लिए कहा, जो कि छुट्टियों के समय में पाकिस्तान में है।' क्रिसमस के तोहफे के रूप यह सौगात से कम नहीं है। दूतावास ने कहा कि दान '25 दिसंबर को क्रिसमस के दिन या उसके तुरंत बाद आना चाहिए, जिससे अमेरिकी सरकार द्वारा पाकिस्तानी लोगों को दान किए गए टीकों की कुल संख्या 37 मिलियन से अधिक हो जाएगी।

भारत सरकार के खिलाफ मुकदमें वापस लियें: बिट्रेन

अखिलेश पांडेय      ब्रासिलिया। ब्रिटेन की केयर्न एनर्जी पीएलसी ने अमेरिका और अन्य जगहों पर रेट्रो कर मामले में भारत सरकार और उसकी संस्थाओं के खिलाफ मुकदमे वापस ले लिए हैं। कंपनी पेरिस और नीदरलैंड में मुकदमे वापस लेने के अंतिम चरण में है। ये मुकदमे रेट्रो कर यानी पिछली तिथि से लागू कर के खिलाफ किए गए थे। कंपनी ने सरकार के साथ रेट्रो कर लगाने के सात साल पुराने विवाद का निपटारा करते हुए अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कई न्यायालयों में दायर मुकदमों को वापस लेने के लिए कार्यवाही शुरू की है। भारत सरकार केयर्न को करीब 7,900 करोड़ रुपये लौटाएगी। इससे पहले एक अंतरराष्ट्रीय मध्यस्थता अदालत ने पिछली तिथि से कर के फैसले को उलट दिया था और भारत को आदेश दिया था कि वह वसूले गए कर को वापस करे। मामले की जानकारी रखने वाले दो सूत्रों ने कहा कि 26 नवंबर को केयर्न ने मॉरीशस में किए गए मुकदमे को वापस ले लिया और सिंगापुर, ब्रिटेन और कनाडा की अदालतों में मुकदमे वापस लिए गए।

केयर्न ने 15 दिसंबर को भारत सरकार से बकाया धन की वसूली के लिए एयर इंडिया की संपत्ति को जब्त करने के लिए न्यूयार्क की एक अदालत में किए गए मुकदमे को वासप ले लिया। इसी दिन ऐसा ही कदम वाशिंगटन की एक अदालत में उठाया गया। सूत्रों ने कहा कि फ्रांस की एक अदालत में ऐसा ही एक महत्वपूर्ण मुकदमा वापसी के अंतिम चरण में है, जिसमें केयर्न की याचिका पर भारतीय संपत्तियों को कुर्क करने का आदेश जारी किया गया था। इस संबंध में अगले दो दिनों में कागजी कार्रवाई पूरी होने की उम्मीद है।

सूत्रों ने कहा कि नीदरलैंड में भी एक मुकदमे को वापस लेने की कागजी कार्रवाई अंतिम चरण में है। केयर्न एनर्जी पीएलसी ने पिछले महीने कहा था कि पिछली तिथि से कर लगाने से पैदा हुए विवाद के निपटारे के लिए भारत सरकार की पेशकश को उसने स्वीकार कर लिया है, जिसके बाद मुकदमे वापस लेने पर सहमति बनी।


शादी का झांसा, दैहिक शोषण, अभियुक्त गिरफ्तार

शादी का झांसा, दैहिक शोषण, अभियुक्त गिरफ्तार
दुष्यंत टीकम    
कोरबा। शादी का झांसा देकर दैहिक शोषण करने वाला एक आरोपी सोमनाथ मंडावी पिता स्वर्गीय दिलीप मंडावी उम्र 24 वर्ष निवासी ग्राम नर्रा, बालोद जिला-बालोद से गिरफ्तार किया गया है।
कोरबा निवासी एक पीड़िता ने रामपुर चौकी में लिखित रिपोर्ट दर्ज कराई कि आरोपी सोमनाथ मंडावी पिता स्वर्गीय दिलीप मंडावी निवासी ग्राम नर्रा, थाना बालोद जिला-बालोद से शादी हेतु अगस्त 2021 में रिश्ता तय हुआ था। रिश्ता तय होने के बाद से आरोपी बीच-बीच में इसके घर आकर जबरन शारीरिक संबंध बनाता रहा। संबंध बनाने से मना करने पर शादी करूंगा कहकर बोलता रहा फिर कुछ माह बाद शादी करने से इंकार कर दिया और जान से मारने की धमकी देने लगा। सूचना पर चौकी रामपुर में अपराध क्रमांक-1070/2021 धारा 376,506 भादवि पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।
मामले की गम्भीरता एवम संवेदन शीलता की देखते हुए पुलिस अधीक्षक भोजराम पटेल द्वारा आरोपी को तत्काल गिरफ्तार करने के निर्देश दिए गए। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अभिषेक वर्मा के मार्गदर्शन, नगर पुलिस अधीक्षक योगेश साहू के पर्यवेक्षण एवम चौकी प्रभारी रामपुर राजीव श्रीवास्तव नेतृत्व में विशेष टीम गठित की गई। 25 दिसंबर 2021 को आरोपी सोमनाथ मंडावी पिता स्वर्गीय दिलीप मंडावी उम्र 24 वर्ष निवासी ग्राम-नर्रा,थाना-बालोद को गिरफ्तार कर न्यायिक अभिरक्षा में भेजा गया है। उक्त कार्यवाही में उप निरीक्षक शिवकुमार धारी आरक्षक तौफीक खान की महत्वपूर्ण भूमिका रही।
ग्राम पंचायत सचिव ने खुदखुशी की, आरोप लगाए
दुष्यंत टीकम   
रायपुर। राजधानी रायपुर से लगे तिल्दा नेवरा से आत्महत्या की खबर सामने आ रही है। यहाँ ग्राम पंचायत सचिव ने फांसी लगाकर ख़ुदकुशी कर ली है। वहीँ सुसाइड नोट लीख कर एएसआई पर गंभीर आरोप लगाए है। मिली जानकारी के अनुसार ग्राम पंचायत रजिया के पंचायत सचिव ओंकार प्रसाद वर्मा ने अपने घर देवरी में फांसी लगाकर आत्महत्या कर लिया है। वहीँ सचिव ने दो पेज का सोसाइड नोट लिखा है। उन्होंने तिल्दा नेवरा थाना में पदस्थ ए एसआई रमेश कुमार शर्मा पर झूठे केस में फंसाने का आरोप लगाते हुए लिखा है कि मुझे 5 दिनों से ए. एसआई शर्मा द्वारा परेशान किया जा रहा है। अब मुझे जीने का कोई अधिकार नहीं है। इसीलिए मैं आत्महत्या कर रहा हूं। मेरी धर्म पत्नी है मेरे तीन छोटे-छोटे बच्चे हैं। किसी को प्रताड़ित मत करना, पंचायत सचिव संघ से भी न्याय दिलाने की बात लिखा है। ग्रामीणों का कहना है कि ओंकार प्रसाद वर्मा को वे सब पिछले 20 सालो से जानते है, जो कि पंचायत सचिव है। आज तक उनके ऊपर किसी भी प्रकार का कोई आरोप प्रत्यारोप नहीं लगा है। 
अगर उसने सुसाइड में प्रताड़ना की बात लिखा है, तो इसकी उच्चीस्तरीय जाँच किया जाना चाहिए। वहीँ ए. एस आई रमेश शर्मा ने इस आरोप को निराधार बताया और कहा है मेरे द्वारा सचिव को कल पुराने मामले की जाँच के लिए बुलाया गया था, सचिव आया और तबियत ख़राब है करके चला गया। और आज बयान देने आने वाला था। पुलिस की माने तो पूछताछ के बाद से ओकर घबराया हुआ था। 
बताया कि मृतक ओंकार ने रजिया में जिस व्यक्ति ने आत्महत्या की थी उसकी पत्नी के साथ फोन पर 400 से भी ज्यादा बार बातचीत की है इसी बात को लेकर ए- एस आई उनसे पूछताछ करने में लगे हुए थे। प्रताड़ना जैसी कोई बात नहीं है फिर भी मामले की बारीकी से जांच की जा रही है।

अभिनेता सलमान को सांप ने डंसा, भर्ती कराया

अभिनेता सलमान को सांप ने डंसा, भर्ती कराया       

कविता गर्ग      मुबंई। बॉलीवुड से एक एक बुरी खबर सामने आ रही है। खबर सलमान खान से जुड़ी हुई है। बताया जा रहा है कि सलमान खान को सांप ने डंस लिया है। इसके चलते उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। सलमान खान 27 दिसंबर को अपना 56वां जन्मदिन मनाने वाले हैं और इस वजह से अभिनेता के फैंस काफी ज्यादा खुश थे लेकिन इस खुशी के बीच अभिनेता से जुड़ी एक हैरान कर देने वाली खबर सामने आई है। जिससे अभिनेता के फैंस चिंता में पड़ गए हैं। दरअसल, समलान खान को सांप ने काट लिया है। ये घटना शनिवार और रविवार की रात की है, जब सलमान खान पनवेल स्थित अपने फार्महाउस में मौजूद थे। अभिनेता यहां पर अपना जन्मदिन मनाने आए थे लेकिन बर्थडे सेलिब्रेशन से पहले ही सलमान खान से साथ ये हादसा हो गया।

सांप काटने के बाद सलमान खान को तुरंत नवी मुंबई के कामोठे इलाके के एमजीएम (महात्मा गांधी मिशन) अस्पताल में भर्ती किया गया। यहां पर अभिनेता का इलाज चला। खबरों के मुताबिक, सलमान खान को जिस सांप ने काटा था, वो बिना जहर का सांप था। ऐसे में सलमान खान की सेहत को कोई भी खतरा नहीं हुआ है। वहीं, अस्पताल में हुए इलाज के बाद अभिनेता सुबह 9 बजे अपने फार्महाउस लौट चुके हैं, जिसके बाद वह यहीं रहकर आराम कर रहे हैं।


अभिनेत्री परिणीति ने अकाउंट पर फोटो शेयर किया
कविता गर्ग         मुंबई। बॉलीवुड की अभिनेत्री परिणीति चोपड़ा ने एक फोटो अपने अकाउंट पर शेयर किया है। उनके इस फोटो में लुक को देखकर पंसद कर रहे हैं। वहीं दूसरी ओर यूजर्स उन्हें ट्रोल करने में लगे हुए हैं। उन्होंने यह फोटो एक मैग्जीन में लगवाने के लिये खिंचवाया है। परिणीति चोपड़ा ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर एक फोटो अपलोड किया है। इस फोटो में वह ब्लैड ड्रेस में नजर आ रही है। उनकी इस ड्रेस की नेक काफी डिप है, जिसको लेकर यूजर्स ने उन्हें ट्रोल कर दिया। 

उनके फैंस को उनका यह लुक बहुत पंसद आ रहा है। परिणीति चोपड़ा ने यह फोटोशूट फिल्मफेयर मैग्जीन के अंकर दिसंबर 2021 के लिये करवाया है। यूजर्स फोटो को देखकर विभिन्न प्रकार की टिप्पणी कर रहे हैं। यूजर्स ने लिखा कि बटन बंद कर लो देवी, डायरेक्ट जहर दे दो, कौन-सी लड़की पहनना चाहेगी ये आपनी मर्जी से लगता है जैसे आज भी इन्हें अनकव करके बेचने को सेल्फ पर रखा हो। अन्य यूजर्स यानि उनके फैंस ने उनके इस लुक की काफी तारीफ की, लिखा कि परिणीति बेहद सुंदरी और सिजलिंग लग रही हो।

वायु गुणवत्ता सूचकांक की ‘गंभीर’ श्रेणी: दिल्ली

वायु गुणवत्ता सूचकांक की ‘गंभीर’ श्रेणी: दिल्ली

अकांशु उपाध्याय        नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी में रविवार सुबह वायु गुणवत्ता सूचकांक 430 के साथ फिर से ‘गंभीर’ श्रेणी में पहुंच गया। वायु गुणवत्ता एवं मौसम पूर्वानुमान और अनुसंधान प्रणाली (सफर) ने यह जानकारी दी। राजधानी में शनिवार को वायु गुणवत्ता में मामूली से सुधार हुआ था और यह गंभीर श्रेणी से बेहद खराब श्रेणी में पहुंच गया था। कल वायु गुणवत्ता सूचकांक 398 दर्ज किया गया। सफर के अनुसार, पीएम 2.5 और पीएम 10 की सघनता क्रमश: 280 और 437 श्रेणी में दर्ज की गई। इस बीच राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के आसपास के शहर नोएडा और गुरुग्राम में वायु गुणवत्ता का स्तर ‘गंभीर’ और ‘बेहद खराब’ रहा। केन्द्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अनुसार वायु गुणवत्ता का स्तर फरीदाबाद में 448, गुरुग्राम में 369, गाजियाबाद में 490 और नोएडा सेक्टर एक में 444 दर्ज किया गया।

उल्लेखनीय है कि वायु गुणवत्ता को शून्य से 50 के बीच अच्छी, 51 से 100 के बीच संतोषजनक, 101 से 200 के बीच मध्यम, 201 से 300 के बीच खराब, 301 से 400 के बीच बेहद खराब और 401 से 500 के बीच गंभीर श्रेणी में माना जाता है। मौसम विभाग के अनुसार इस बीच आज सुबह शहर का न्यूनतम तापमान 9.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है। जो सामान्य से दो डिग्री नीचे रहा। मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार राजधानी में आज आंशिक तौर पर बादल छाये रहेंगे और हल्की बारिश हो सकती है। दिल्ली में सुबह साढ़े आठ बजे सापेक्षिक आर्द्रता 92 फीसदी दर्ज की गयी।

दयाल को निदेशक के रूप में नियुक्त किया: आरबीएल

अकांशु उपाध्याय        नई दिल्ली। आरबीएल बैंक के प्रबंध निदेशक (एमडी) एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) विश्ववीर आहूजा ने अपना पद छोड़ दिया है और बैंक ने राजीव आहूजा को तत्काल प्रभाव से अंतरिम एमडी एवं सीईओ नियुक्त किया है।

इसके अलावा भारतीय रिजर्व बैंक ने अपने मुख्य महाप्रबंधक योगेश के दयाल को आरबीएल बैंक के बोर्ड में अतिरिक्त निदेशक के रूप में नियुक्त किया है। आरबीएल बैंक ने शेयर बाजार को बताया कि बैंक के बोर्ड ने ‘विश्ववीर आहूजा के तत्काल प्रभाव से पद छोड़ने के अनुरोध’ को स्वीकार कर लिया है।द

400 के पार पहुंचें 'ओमिक्रोन' वेरिएंट के मामलें: भारत

अकांशु उपाध्याय      नई दिल्ली। 2 दिसंबर को भारत में पहली बार ओमिक्रॉन के 2 केस कर्नाटक में मिले और अब सिर्फ 24 दिन के बाद ओमिक्रॉन के केस 400 के पार पहुंच गए हैं। एक्सपर्ट्स का मानना है कि नए कोरोना वैरिएंट ओमिक्रॉन के केसेज बढ़ने की रफ्तार अगर जनवरी-फरवरी में यही रही तो मार्च में भारत में डेली केसेज का आंकड़ा 1.8 लाख तक जा सकता है। इस पीक पर पहुंचने के बाद देश को करीब 2 लाख कोविड बेड की जरूरत होगी।

विशेषज्ञों ने चेताया है कि अब हमें गंभीरता से हॉस्पिटलाइजेशन की तैयारियां करनी शुरू कर देनी चाहिए। उनका यह भी कहना है कि राजनीतिक रैलियां, धार्मिक उत्सव और भीड़-भाड़ ओमिक्रॉन संक्रमण के लिए खतरनाक साबित हो सकती हैं। शुक्रवार को स्वास्थ्य मंत्रालय ने भारत में मिले शुरुआती 183 ओमिक्रॉन डेटा का विश्लेषण जारी किया। इसमें से 96 लोगों के वैक्सीनेशन स्टेटस के बारे में जानकारी उपलब्ध है। इन 96 लोगों में से 87 लोग पूरी तरह वैक्सीनेटेड थे, इसमें से 3 लोगों ने बूस्टर डोज भी लिया हुआ था। दो लोगों ने वैक्सीन का सिर्फ एक डोज ही लिया था, वहीं 7 लोगों ने वैक्सीन नहीं ली थी। इसका मतलब है कि कोविड वैक्सीन ले चुके लोग भी ओमिक्रॉन वैरिएंट से संक्रमित हो रहे हैं। हालांकि एक्सपर्ट्स का कहना है कि वैक्सीनेटेड लोगों पर ओमिक्रॉन का घातक असर नहीं होता है।

ओमिक्रॉन की तेजी से संक्रमित करने की दर चिंता का विषय
ओमिक्रॉन वैरिएंट कितनी तेजी से फैलता है, आप इस बात का अंदाजा सिर्फ इसी से लगा सकते हैं कि मार्च 2020 में कोविड संक्रमण ने जब भारत में दस्तक दी थी, तो शुरुआती 25 दिनों में कोविड के सिर्फ 62 केस ही आए थे, लेकिन ओमिक्रॉन के इतने ही वक्त में करीब 450 केस आ चुके हैं। 

कोवैक्सिन के इमरजेंसी यूज की मंजूरी दीं: बायोटेक

अकांशु उपाध्याय            नई दिल्ली। ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया ने भारत बायोटेक की बच्चों के लिए तैयार कोविड-19 वैक्सीन कोवैक्सिन के इमरजेंसी यूज की मंजूरी दे दी है। डीसीजीआई की मंजूरी मिलने के बाद अब ये वैक्सीन 12 से 18 साल तक के किशोरों को लगाई जा सकेगी। इधर, पीएम नरेंद्र मोदी ने भी 15 से 18 साल के बच्चों को 3 जनवरी से टीका दिए जाने का ऐलान किया है।

सब्जेक्ट एक्सपर्ट कमेटी ने तीसरी लहर की चेतावनी के बाद 12 मई को बच्चों पर कोवैक्सिन के ट्रायल की सिफारिश की थी। इसे मानते हुए डीसीजीआई ने ट्रायल की मंजूरी दी थी। भारत बायोटेक ने बच्चों पर कोवैक्सिन का ट्रायल जून में शुरू किया था। बच्चों के लिए बनाई जा रही जायडस कैडिला की नीडल फ्री वैक्सीन को पहले ही मंजूरी मिल चुकी है। नोडल फ्री वैक्सीन के बाद कोवैक्सिन देश की दूसरी वैक्सीन है, जिसे इमरजेंसी यूज की मंजूरी मिली है। कोवीशील्ड की निर्माता सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के सीईओ अदार पूनावाला ने पिछले महीने कहा था कि बच्चों के लिए वैक्सीन तैयार करने का काम भी तेजी से चल रहा है। पूनावाला ने स्पष्ट किया कि यह कोवीशील्ड नहीं बल्कि कोवावैक्स होगी। पूनावाला ने कहा कि कोवावैक्स अगले छह महीनों में उपलब्ध होगी। ट्रायल चल रहे हैं।

2-18 साल के 920 कैंडिडेट पर कोवैक्सिन के दूसरे और तीसरे फेज के ट्रायल जारी हैं। कोवैक्सिन के 2-6, 6-12 और 12-18 साल तक के बच्चों पर अलग-अलग ट्रायल चल रहे हैं। बायोलॉजिकल-E की वैक्सीन कोर्बेवैक्स के भी दूसरे और तीसरे फेज के ट्रायल जारी हैं। कंपनी 5-18 साल उम्र के 920 कैंडिडेट पर ट्रायल कर रही है। अमेरिकी कंपनी जॉनसन एंड जॉनसन भी दुनियाभर में बच्चों पर अपनी वैक्सीन का ट्रायल कर रही है। भारत में भी 12-17 साल के लोगों पर ये ट्रायल चल रहा है।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण  

1. अंक-69, (वर्ष-05)
2. सोमवार, दिसंबर 27, 2021
3. शक-1984, मार्गशीर्ष, कृष्ण-पक्ष, तिथि-अष्टमी, विक्रमी सवंत-2078।
4. सूर्योदय प्रातः 07:10, सूर्यास्त 05:24।
5. न्‍यूनतम तापमान -10 डी.सै., अधिकतम-24+ डी.सै.।  बर्फबारी व शीतलहर के साथ मैदानी क्षेत्रों में कहीं- कहीं तेज बारिश की संभावना।
6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवाशुं के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110
http://www.universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745  
                     (सर्वाधिकार सुरक्षित) 

यूके: कोरोना एक्टिव केसों की संख्या-30,927 हुईं

यूके: कोरोना एक्टिव केसों की संख्या-30,927 हुईं पंकज कपूर            देहरादून।  राज्य में पिछले 24 घंटों में कोरोना से 7 संक्रमितों की मौत ह...