सोमवार, 22 फ़रवरी 2021

बागपत: 1 दर्जन से अधिक दुकानदारों पर हमला

बागपत। सरेबाजार दुकानदारों में लाठी-डंडे चलें।
एक दर्जन से अधिक दुकानदार हुए गम्भीर रूप से घायल हुए। आने-जाने वाले लोग भी घायल हुए। बीच बाज़ार लाठी-डंडों से हुए संघर्ष में भगदड़ मची। ग्राहकों को लेकर दुकानदारों में संघर्ष हुआ। पुलिस ने कई लोगों को हिरासत में लिया। कवरेज कर रहे पत्रकारों पर भी जानलेवा हमला हुआ। 

चुनावी राज्य: पीएम मोदी ने कांग्रेस पर साधा निशाना

असम। चुनावी राज्य असम के लिये सरकार का खजाना खोलते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए सोमवार को कहा कि उन्होंने दशकों तक राज्य व पूर्वोत्तर की अनदेखी की।एक महीने में असम के अपने तीसरे दौरे में 3,222 करोड़ रुपये से ज्यादा की पेट्रोलियम क्षेत्र की तीन परियोजनाओं को राष्ट्र को समर्पित करते हुए मोदी ने सर्बानंद सोनोवाल के नेतृत्व वाली प्रदेश सरकार और केंद्र द्वारा पिछले कुछ सालों में विकास के संतुलन के लिये उठाए गए कदमों का जिक्र किया।

वृंदावन कुंभ के दर्शन के लिए हवाई सेवा शुरू की गई

मथुरा। मथुरा में वृन्दावन कुंभ का आनन्द लेने के लिए प्राइवेट कम्पनी पारस एविएसन ने हेलीकॉप्टर सेवा शुरू कर दी गई है। जिसमें वृन्दावन परिक्रमा को भी शामिल किया गया है। कम्पनी के एमडी विशाल जैन ने जानकारी देते हुए बताया कि ”ज्वाय राइड” के नाम से शुरू की गई यह सेवा वृन्दावन से शुरू होकर वृन्दावन पर ही समाप्त होगी। इसके तहत वृन्दावन के सभी प्रमुख मन्दिरों को शामिल किया गया है।प्रेम मन्दिर से शुरू की गई सेवा के तहत परिक्रमा मार्ग को भी लिया गया है,लेकिन कंपनी का मुख्य फोकस वृन्दावन कुंभ होगा। जिसमें श्रद्धालु न केवल कुंभ को देख सकेंगे बल्कि नवनिर्मित देवरहा घाट, शाही स्नान एवं यमुना महारानी के दर्शन भी कर सकेंगे।

कौशाम्बी: 5 दिवसीय शिविर का शुभारंभ किया

 रेंजर्स के प्रवेश व निपुण का पांच दिवसीय शिविर का शुभारंभ

कौशाम्बी। महामाया राजकीय महाविद्यालय में दिनांक 22 फरवरी 2021 से रोवर्स/ रेंजर्स के प्रवेश व निपुण का पांच दिवसीय शिविर का शुभारंभ महाविद्यालय परिसर में किया गया। शिविर का उद्घाटन महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ हर्षवर्धन मिश्र की औपचारिक घोषणा के साथ हुआ शिविर का आरंभ प्रार्थना गीत, ध्वजारोहण व झंडा गीत के साथ किया गया।
सोमवार को रोवर /रेंजर प्रशिक्षुओं को प्रार्थना गीत, स्काउट गाइड प्रतिज्ञा एवं नियम के विषय में बताया गया साथ ही प्रशिक्षुओं को रोवर /रेंजर का उद्देश्य व कर्तव्य के विषय में बताया गया. प्रशिक्षण की शुरुआत प्राचार्य द्वारा छात्र-छात्राओं को आशीर्वाद देकर किया गया। प्राचार्य  जी ने प्रशिक्षुओं को बताया कि रोवर /रेंजर का प्रथम कर्तव्य है कि राष्ट्र सेवा ,समाज सेवा तथा उत्तरदायित्व का बोध है। इसके लिए स्वयं में अनुशासित होना आवश्यक है। सोमवार के प्रशिक्षण  में पर्यावरण संरक्षण, गतिविधियां  काशी प्रांत द्वारा प्लास्टिक प्रबंधन व सप्राकृतिक वदन  विषय के अंतर्गत प्लास्टिक पर्यावरण के लिए वृक्ष की भूमिका के विषय के अंतर्गत पर्यावरण संरक्षण के लिए एकोबिक्स बनाएंगे का संकल्प लिया गया। शिविर का आयोजन रेंजर प्रभारी डॉ रीता दयाल और रोवर प्रभारी डॉ नीरज कुमार सिंह द्वारा कराया गया है। प्रशिक्षण श्याम बाबू द्वारा दिया गया इस अवसर डॉ अरविन्द कुमार ,डॉ अजय कुमार, डॉ स्वाति चौरसिया, डॉ भावना केशरवानी, डॉ नीलम बाजपेई उपस्थित रहे।  

हापुड़: युवक ने किशोरी पर फेंका तेजाब, हालत गंभीर

अतुल त्यागी
हापुड़। थाना सिम्भावली क्षेत्र में सोमवार रात बर्तन मांज रही किशोरी पर एक सिरफिरे युवक ने तेजाब फेंककर फरार हो गया। किशोरी को गंभीर हालत में मेरठ रैफर किया गया हैं। जानकारी के अनुसार सिम्भावली के एक गांव निवासी एक व्यक्ति के घर में एक सिरफिरे ने रविवार रात घर में घुसकर उसकी 15 वर्षीय बेटी पर ज्वलनशील पदार्थ ड़ाल दिया। जिससे वह चिल्लाने लगी। पकड़े जानें.के डर से आरोपी फरार हो गया। किशोरी की चीखपुकार की आवाज सुनकर परिजन मौकें पर पहुंचे और किशोरी को सरकारी अस्पताल ले गए। जहां युवती की हालत गंभीरता को देखते हुए उसे मेरठ रैफर कर दिया। घटना की सूचना मिलतें ही  सैकड़ों ग्रामीण थानें  पहुंचें,जहां आरोपी की गिरफ्तारी को लेकर थानें का घेराव कर हंगामा किया। पुलिस ने आरोपी की गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीमें लगा दी।

राष्ट्रीय शूटिंग चैंपियनशिप में चैंपियन बनें राजकुमार

अश्वनी उपाध्याय 

गाजियाबाद। क्रॉसबॉ वोटिंग एसोसिएशन ऑफ इंडिया के तत्वाधान में 10 वीं राष्ट्रीय क्रॉसबॉ शूटिंग चैंपियनशिप का आयोजन प्रताप विहार स्थित लीलावती पब्लिक स्कूल के प्रांगण में हुआ। जिसमें उत्तर प्रदेश गाजियाबाद के राजकुमार को ओवरऑल चैंपियन घोषित किया गया। जिन्होंने 100 में से 95 अंक प्राप्त किएं।दसवीं क्रॉसबो शूटिंग चैंपियनशिप के आयोजक अध्यक्ष अनिल कौशिक ने बताया कि प्रतियोगिता का आयोजन अलग-अलग 10 कैटेगरी ओं में किया गया।जिसमें राजकुमार आयरन साहू, शुभम कर्दम, गोपीनाथ साहू, विशाल सिंह, कमलजीत सिंह, प्रदुमन सिंगज, आर्ची अग्रवाल, दीपिका, अलका में गोल्ड मेडल प्राप्त किया। जबकि ट्रॉफी पर कब्जा ओवरऑल चैंपियन उत्तर प्रदेश के राजकुमार ने किया। इस दौरान इस दौरान  दक्क्षा परिवार फाउंडेशन के चार खिलाड़ियों ने उत्तर प्रदेश की तरफ से हिस्सा लिया और मेडल प्राप्त किया जिसमें एक गोल्ड दो सिल्वर तथा एक ब्राउस प्राप्त किया। आयोजक अध्यक्ष अनिल कौशिक ने बताया कि विजेता खिलाड़ियों में से अंतरराष्ट्रीय चैंपियनशिप के लिए खिलाड़ियों का चयन किया जाएगा, जिसके लिए क्रॉसबॉ शूटिंग एसोसिएशन ऑफ इंडिया द्वारा कैंप लगाकर खिलाड़ियों का चयन किया जाएगा। चैंपियनशिप में विशिष्ठ अतिथि के रूप में नरेंद्र शर्मा, प्रवीण अग्रवाल , नीरज कालरा, नीरज अरोरा, नवीन परासर, राजेन्द्र सिंह,सोनू बग्गा,संजीव शर्मा,राज खतीब,सतिंदर सिंह,रकम सिंह, अंश अनिल कौशिक आदि उपस्थित थे। रेफरी पैनल मे गोपी नाथ साहू, अलका,सुरेश कश्यप,सनी कश्यप,नरेंद्र सिंह,जमील अहमद,भागवत प्रसाद,राज कुमार गुपता, राजीव मुंडेलवाल, सचिन त्यागी, तुषार सिंह रहे।

डीएम शंकर पाण्डेय ने लगवाया कोरोना का टीका

अश्वनी उपाध्याय 

गाजियाबाद। रविवार को जिलाधिकारी अजय शंकर पाण्डेय ने जिला संयुक्त चिकित्सालय संजयनगर पहुंचकर पूरे कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करते हुए अपने कोविड -19 वैक्सीन का टीका लगवाया। इस दौरान जिलाधिकारी ने पूरे कोरोना प्रोटोकॉल का पालन किया और शालीनता से अपने आप को टीका लगवाने के उपरान्त मेडिकल स्टाफ को फूलों का गुलदस्ता भी भेंट किया। जिलाधिकारी को मेडिकल स्टाफ द्वारा कोविड -19 टीकाकरण रिकॉर्ड भी उपलब्ध कराया गया। इस अवसर पर मुख्य चिकित्साधिकारी एन के गुप्ता, डब्लूएचओ के डॉ. अभिषेक सहित तमाम अन्य मेडिकल स्टाफ उपस्थित रहा।

दिल्ली-गाज़ियाबाद रूट पर शुरू हुईं लोकल ट्रेनें

अश्वनी उपाध्याय 

गाजियाबाद। गाज़ियाबाद से दिल्ली आने जाने वाले लोगों के लिए राहत भरी खबर है। रविवार सुबह से गाज़ियाबाद-दिल्ली रूट पर 5 पैसेंजर ट्रेनों का संचालन शुरू हो गया है।  कोरोना संक्रमण के कारण 11 महीने पहले लॉकडाउन की शुरुआत में ही गाज़ियाबाद में लोकल ट्रेनों की रफ्तार थम गई थी। आज से दिल्ली और पलवल के बीच सुबह दो ट्रेनें चली, जिनके लिए कोरोना प्रोटोकॉल से लेकर सुरक्षा व्यवस्था चाक-चौबंद रखी जा रही है। इन ट्रेनों को स्पेशल पैसेंजर ट्रेनों का नाम दिया गया है। यात्रियों को इनके लिए स्पेशल टिकट लेना होगा। बइसके अलावा शकूरबस्ती दिल्ली, बरेली और दिल्ली से सहारनपुर जाने वाली ट्रेनों का संचालन भी अपने वक्त के हिसाब से शुरू हो रहा है। करीब 11 महीने बाद लोगों के लिए यह राहत आई है। हालांकि, फिलहाल इन ट्रेनों के लिए ज्यादा भीड़ रेलवे स्टेशन पर नहीं है। मगर माना जा रहा है कि आने वाले दिनों में पहले की तरह सब कुछ सामान्य हो जाएगा। यात्री ने बताया कि पहले बस का सफर काफी मुश्किल हो गया था अब ट्रेन चलेगी तो राहत होगी। पैसेंजर ट्रेन में सफर के लिए कोरोना से संबंधित नियमों का ध्यान रखना जरूरी होगा। प्रोटोकॉल नहीं मानने वाले लोगों पर कार्रवाई का प्रावधान रखा गया है। इसके लिए अतिरिक्त पुलिस बल भी लगाया गया है। जीआरपी और आरपीएफ के जवान ट्रेन के भीतर भी नजर रखेंगे। स्टेशन पर सैनिटाइजेशन की व्यवस्था की जाएगी और बिना मास्क के किसी को भी एंट्री नहीं होगी।

गाजियाबाद: यूपी गेट पर कम हो रहीं किसानों की भीड़

अश्वनी उपाध्याय 

गाजियाबाद। रविवार को गाज़ियाबाद में यूपी गेट पर चल रहे किसानों के धरना-प्रदर्शन में गिने चुने किसान ही नज़र है। हालांकि, यहाँ सड़क पर कब्जा कर बने टेंट अभी भी बदस्तूर लगे हुए हैं। मगर उनमें पंजाब के गांवों से भरकर लाए गए किसान नज़र नहीं आ रहे हैं। ऐसा प्रतीत होता है कि किसानों ने कृषि क़ानूनों को अब गंभीरता से लेना शुरू कर दिया है और अब वे नेताओं की बात सुनना बंद कर नए क़ानूनों को अपने नफे नुकसान के हिसाब से देख रहे है। वहीं गाज़ियाबाद प्रशासन द्वारा सड़कों को रोक कर आम आदमी की परेशानियाँ बढ़ाने का सिलसिला बदस्तूर जारी है। दिल्ली-यूपी बार्डर अभी भी आम जनता के लिए बंद है और उसे अभी भी रोजी-रोटी कमाने के लिए लंबा और ट्रैफिक जाम से भरा सफर तय करना पड़ेगा। पंजाब के किसानों द्वारा यूपी गेट पर 28 नवंबर से शुरू किया गया धरना-प्रदर्शन अभी चल रहा है। यहाँ जनता की सुविधा के लिए बने फ्लाईओवर तथा उसकी सर्विस लेन पर पूरी तरह से उन किसानों का कब्जा है जो हर रोज दफ्तर जाकर 10-12 घंटे लगातार काम करने वाले आम आदमी का दुख दर्द न तो जानते हैं और न ही समझना चाहते हैं। दिल्ली पुलिस भी आम जनता पर जुल्म करने में कोई कसर नहीं छोड़ रखी है। दिल्ली पुलिस ने गाजीपुर बार्डर पर कंटीले तार लगगकर बैरिकेड लगा रखे हैं। गाज़ियाबाद पुलिस के एक बड़े अधिकारी ने बताया कि यहां प्रदर्शनकारियों की संख्या एक हजार से कम है, मगर सुरक्षा-व्यवस्था पूर्व की भांति ही है। क्षेत्र को सात जोन और 13 सेक्टर में बांटकर मजिस्ट्रेटों की तैनाती की गई है। अर्धसैनिक बल तैनात है। खुफिया विभाग की टीम सक्रिय है। बम निरोधक दस्ता भी जांच-पड़ताल कर रही है। रविवार को पुलिस अधीक्षक नगर द्वितीय ज्ञानेंद्र सिंह, यातायात पुलिस अधीक्षक रामानंद कुशवाहा प्रशासनिक अधिकारियों के साथ आंदोलन स्थल पर डटे रहे। ज्ञानेंद्र सिंह ने बताया कि धरनास्थल पर होने वाली हर छोटी-बड़ी गतिविधियों पर नजर रखी जा रही है। सुरक्षा के पूरे इंतजाम हैं।

अयोध्या: श्रीराम मंदिर निर्माण निधि समर्पण अभियान

उमय सिंह साहू 

अयोध्या। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ अयोध्या विभाग कार्यलय साकेत निलयम के सभागार में महाविद्यालय विद्यार्थियों के लिए श्रीराम जन्मभूमि मंदिर निर्माण निधि समर्पण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। उपस्थित विद्यार्थियों को सम्बोधित करते हुए संघ के अयोध्या विभाग प्रचारक संजय ने कहा  कि 500 वर्षो के कठिन संघर्ष एवं लाखों के बलिदान के बाद यह सुअवसर हम सभी को प्राप्त हुआ है। भारत संस्कार प्रधान देश है, राम यहां पीढ़ियों से आस्था में व्याप्त हैं। मंदिर निर्माण सम्पूर्ण राष्ट्र एवं विश्व को आदर्श की प्रेरणा देता रहेगा। पीढ़ी दर पीढ़ी गौरवान्वित होगी।

कन्नौज: दिनदहाड़े गोली मारकर युवक की हत्या की

कन्नौज। सदर कोतवाली क्षेत्र के तहसीपुर गांव में सोमवार को दिनदहाड़े रंजिशन गोली मारकर एक युवक की हत्या कर दी गई। युवक की हत्या से गांव और आसपास के इलाके में सनसनी फैल गई। मामले की जानकारी पर भारी पुलिस बल मौके पर पहुंच गया।घटनाक्रम के अनुसार ग्राम तहसीपुर निवासी निलेश कुमार पुत्र बालक राम सोमवार की सुबह न्यायालय में तारीख पर जा रहा था। इसी दौरान पहले से घात लगाए हमलावरो ने उसे गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया।

नागर हवेली के सांसद मोहन ने की आत्महत्या

मनोज सिंह ठाकुर 
मुंबई। दादर और नागर हवेली से निर्दलीय सांसद मोहन डेलकर का शव सोमवार को मुंबई के एक होटल में मिला है। मोहन डेलकर ने मुंबई के मरीन ड्राइव इलाके के एक होटल आत्महत्या की है। घटना की सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंच गई है। मौके से एक सुसाइड नोट भी बरामद हुआ है जो गुजराती भाषा में लिखा हुआ है।

पीडीपी में पूर्व सीएम महबूबा का जलवा बरकरार

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती को सोमवार को तीन साल के लिए सर्वसम्मति से फिर से पीडीपी अध्यक्ष चुना गया। पार्टी के एक प्रवक्ता ने चयन के बाद कहा कि मुफ्ती का नाम वरिष्ठ नेता गुलाम नबी लोन हंजूरा ने प्रस्तावित किया और खुर्शीद आलम ने इसका अनुमोदन किया। उन्होंने बताया कि वरिष्ठ पीडीपी नेता अब्दुल रहमान वीरी पार्टी निर्वाचन बोर्ड के अध्यक्ष थे। प्रवक्ता ने बताया कि जम्मू में पार्टी के निर्वाचन मंडल ने मुफ्ती को सर्वसम्मति से पुन: पार्टी प्रमुख चुना। वरिष्ठ नेता सुरिंदर चौधरी चुनाव के पीठासीन अधिकारी थे। उल्लेखनीय है कि मुफ्ती मोहम्मद सईद ने नेशनल कांफ्रेंस के क्षेत्रीय विकल्प के तौर पर पीपल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) का वर्ष 1998 में गठन किया था।

उत्तराखंड: पहाड़ की बेटी ने यूरोप में किया कमाल

 पंकज कपूर 
लालकुआं। यूरोप में चल रही अंतरराष्ट्रीय बॉक्सिंग प्रतियोगिता से उत्तराखंड के लिए अच्छी खबर सामने आई है। यहां 64 किलो वर्ग भार में नैनीताल जिले के मोटाहल्दू के गांव धनपुर की रहने वाली बॉक्सर लक्की राणा ने राज्य और देश का नाम रोशन करते हुए सिल्वर मेडल जीतने के साथ ही फाइनल में जगह बनाई है। बता दे, कि हल्दूचौड़ के स्कूल बस चालक देवेंद्र सिंह राणा की पुत्री लक्की राणा का चयन 16 से यूरोप के मोंटेनेग्रो में आयोजित यूथ मेन एंड वीमेन बाक्सिंग चैंपियनशिप मोंटेनेग्रो हुआ था। कोच भूपेश भट्ट के अनुसार रोहतक के राजीव गांधी खेल स्टेडियम में स्थित नेशनल बाक्सिंग एकेडमी में चयन प्रक्रिया 18 से 21 जनवरी तक चली थी। जिसमें लक्की ने भारतीय टीम में स्थान बनाया था। लक्की ने इंडिया यूथ वीमेन के चीफ कोच भास्कर चंद्र भट्ट की देखरेख में प्रशिक्षण लिया है। इधर 16 से 22 फरवरी तक मोंटोनेग्रो(यूरोप) में चली अंतरराष्ट्रीय यूथ बॉक्सिंग प्रतियोगिता में लक्की राणा ने 64 किलो वर्ग भार में बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए सिल्वर मेडल जीतने के साथ ही फाइनल में जगह बनायी है। उनके इस उपलब्धि पर क्षेत्र वासियों ने खुशी का इजहार किया है।

एमपी: 19 वर्षीय युवती ने 3 बेटियों को दिया जन्म

इंदौर। इंदौर के एक सरकारी अस्पताल में 19 साल की युवती ने एक साथ तीन बेटियों को जन्म दिया है। इनमें से एक नवजात बच्ची जिंदगी और मौत के बीच झूल रही है। शासकीय महाराजा यशवंतराव चिकित्सालय (एमवायएच) की एक वरिष्ठ डॉक्टर ने सोमवार को यह जानकारी दी। एमवायएच की स्त्री रोग विशेषज्ञ सुमित्रा यादव ने बताया, “प्रसव पीड़ा से जूझ रही 19 साल की युवती अचानक अस्पताल में पहुंची थी और उसकी ओर से बताया गया था कि उसके गर्भ में जुड़वां बच्चे पल रहे हैं। लेकिन रविवार रात प्रसव कराया गया तो उसने करीब 15 मिनट के भीतर तीन लड़कियों को जन्म दिया।” सुमित्रा यादव ने बताया कि तीनों लड़कियों में से प्रत्येक का वजन एक किलोग्राम है जो सामान्य नवजातों के मुकाबले काफी कम है। उन्होंने बताया, “महिला की गंभीर हालत को देखते हुए हमें तय समय से पहले उसका प्रसव कराना पड़ा।” सुमित्रा यादव ने बताया कि विशेषज्ञ डॉक्टरों का दल जच्चा और उसकी तीनों बेटियों की सेहत पर लगातार निगाह रखे हुए है। स्त्री रोग विशेषज्ञ के मुताबिक इनमें से एक नवजात बच्ची की हालत बहुत ज्यादा गंभीर है और उसकी जान बचाने की हर संभव कोशिश की जा रही है। जानकारों ने बताया कि गर्भावस्था की सामान्य अवधि के बाद पैदा होने वाले बच्चों का वजन आमतौर पर 2.5 से 3.5 किलोग्राम के बीच होता है।

बजट: विकास के लिए मील का पत्थर साबित होगा

हरिओम उपाध्याय 
लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वर्ष 2021-22 के लिये सोमवार को राज्य विधानसभा में प्रस्तुत बजट को लोक कल्याणकारी, विकासोन्मुख और सर्वसमाज के विकास को समर्पित बताते हुए कहा कि यह सर्व समाज के सर्वांगीण विकास के लिए मील का पत्थर साबित होगा। मुख्यमंत्री ने विधानसभा में वित्त मंत्री सुरेश खन्ना द्वारा बजट पेश किये जाने के बाद संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि यह बजट लोक कल्याणकारी, विकासोन्मुख और सर्वसमाज के विकास को समर्पित है। ‘सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास’ के लोकतांत्रिक भावना से परिपूर्ण यह बजट सर्व समाज के सर्वांगीण विकास के लिए मील का पत्थर साबित होगा।

उन्नाव कांड: 8 ट्विटर यूजर्स के खिलाफ मामला दर्ज

उन्नाव। उन्नाव जिले में असोहा थाना इलाके के बबुरहा गांव में दलित लड़कियों की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत के संबंध में झूठी एवं भ्रामक सूचना फैलाने के मामले में आठ ट्विटर खातों और इनके यूजर्स के खिलाफ रविवार शाम प्राथमिकी दर्ज की गयी है। अपर पुलिस अधीक्षक विनोद कुमार पाण्‍डेय ने बताया कि बबुरहा गांव में हुई घटना के मामले में आठ ऐसे ट्विटर खाते चिह्नित किए गये हैं। जिनके माध्यम से इस मामले में गलत एंव भ्रामक सूचना फैलाई गयी थी। उन्‍होंने बताया कि इन सभी ट्विटर खातों और इनके यूजर्स के खिलाफ सदर कोतवाली में प्रभारी निरीक्षक की तहरीर पर मामला दर्ज किया गया है। उन्‍होंने बताया कि जिन ट्विटर खातों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज हुई हैं, उनमें निलिम दत्ता, मोजो स्‍टोरी, जनजागरण लाइव, सूरज कुमार बौध, विजय आम्बेडकर यूपी, अभय कुमार आजाद 97 और राहुल दिवाकर, नवाब सतपाल तंवर भीम सेना चीफ नामक ट्विटर खाते शामिल हैं।

हेराल्ड मामले में बढ़ीं सोनिया-राहुल की मुश्किलें

बढ़ती महंगाई को लेकर कार्यकर्ताओं ने निकाली रैली

नंदन राम 

नई दिल्ली। राष्ट्रीय कांग्रेस के आह्वान पर बिंदुखत्ता ब्लॉक कांग्रेस कामेटी के दर्जनों काग्रेंस कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस ब्लॉक अध्यक्ष प्रमोद कालौनी के नेतृत्व में हाथों में तख्ती एवं सरपे सिलेंडर रखकर प्रदर्शन किया। कार्यक्रम से पूर्व कांग्रेस के कार्यकर्ता काररोड पर एकत्रित हुए जहां से सरकार विरोधी नारेबाजी करते हुए कई मार्गों से पदयात्रा के रूप में जुलूस निकाला।
इस मौके पर कार्यकर्ताओं संबोधित करते हुए वाक्ताओ ने कहा कि अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमत कम है पर भाजपा की गलत नीति व बड़े पूंजीपतियों को फायदा पहुंचाने के लिए बाजार में तेल की कीमत लगातार बढ़ रही है। इससे महंगाई बढ़ती जा रही है और समाज का हर वर्ग दुखी है।
उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार में कच्चे तेल की कीमतें बहुत ज्यादा थी, इसके बावजूद भी भारतीय बाजार में तेज की कीमतें काबू में रही। आज चाहे तेल हो या एलपीजी सब गरीब लोगों की पहुंच से बाहर होते जा रहे हैं और भाजपा के वरिष्ठ मंत्री रोजाना फिजूल बयानबाजी करते है।
उन्होंने ने कहा कि अगर सरकार जल्द ही कोई नीति लाकर तेल की कीमतों को कम नहीं करेगी तो काग्रेस का प्रदर्शन और तेजी से बढ़ेगा।

घोटाला: सीबीआई के समन पर रुजिरा का जवाब

कोलकाता। तृणमूल कांग्रेस के सांसद अभिषेक बनर्जी की पत्नी रुजिरा बनर्जी ने सोमवार को सीबीआई के समन का जवाब देते हुए कहा कि कथित कोयला चोरी घोटाले में पूछताछ के लिए केन्द्रीय एजेंसी अपना एक दल मंगलवार को उनके घर पर भेजे। सीबीआई ने रविवार को जांच में शामिल होने के लिए रुजिरा को समन भेजा था। केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो की एक टीम रविवार को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे एवं तृणमूल कांग्रेस सांसद अभिषेक बनर्जी की पत्नी रुजिरा को कथित कोयला चोरी मामले की जांच में शामिल होने के लिए नोटिस देने कोलकाता स्थित घर गई थी। रुजिरा घर पर मौजूद नहीं थीं।

रक्षा विनिर्माण क्षमता बढ़ाने को प्रतिबद्ध 'भारत'

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को कहा कि भारत के पास हथियार एवं सैन्य उपकरण बनाने का सदियों पुराना अनुभव है। लेकिन देश की आजादी के बाद अनेक वजहों से इस व्यवस्था को उतना मजबूत नहीं किया गया। उन्होंने जोर देकर कहा, कि भारत अब अपनी रक्षा विनिर्माण क्षमता को तेज गति से बढ़ाने को प्रतिबद्ध है। रक्षा क्षेत्र में केंद्रीय बजट प्रावधानों को प्रभावी ढंग से लागू करने के विषय पर आयोजित वेबिनार को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने रक्षा क्षेत्र में आत्मनिर्भरता लाने की दिशा में उठाये गए कदमों का जिक्र किया। उन्होंने कहा कि आजादी के पहले हमारे यहां सैकड़ों तोपखाने (ऑर्डिनेंस फैक्ट्रियां) होती थीं। दोनों विश्व युद्धों में भारत से बड़े पैमाने पर हथियार बनाकर भेजे गए थे, लेकिन आजादी के बाद अनेक वजहों से इस व्यवस्था को उतना मजबूत नहीं किया गया, जितना किया जाना चाहिए था।

पेट्रोल पर 7.40 रुपये व डीजल पर 7.10 रुपये कम

रोशन कुमार  

नई दिल्ली। केंद्र सरकार पेट्रोल की रिकॉर्ड कीमतों को लेकर धर्म संकट का सामना कर रही है, लेकिन इन चार राज्यों ने ग्राहकों को पेट्रोल की बढ़ती कीमतों से राहत दी है। हालांकि, हिस्सा कच्चे तेल की बढ़ती कीमतों से कोई लेना-देना नहीं है और इन राज्यों ने टैक्स घटाया है।

पेट्रोल पर टैक्स कम करने वाले राज्यों की गिनती में रविवार को पश्चिम बंगाल भी शामिल हो गया। यहां चुनाव होने वाले हैं। राज्य सरकार ने यहां पेट्रोल और डीजल पर 1 रुपया वैट कम कर दिया है। पेट्रोल और डीजल पर वैट सबसे पहले राजस्थान ने घटाया था। राजस्थान में 29 जनवरी को वैट 38 फीसदी से 36 फीसदी किया गया था।असम ने भी 12 फरवरी को 5 रुपये टैक्स में कम किये। यहां भी चुनाव होने वाले हैं। ये पांच रुपये बीचे साल कोविड-19 से लड़ने के लिए राज्य में लगाया गया था। मेघालय ने सबसे अधिक राहत दी। यहां राज्य सरकार ने पेट्रोल पर 7.40 रुपये और डीजल पर 7.10 रुपये कम किये।

अभी तक केंद्र सराकर ने एक्साइज ड्यूटी पर कटौती करने से साफ मना कर दिया। केंद्र सरकार ने पेट्रोल पर 13 रुपये और डीजल पर 16 रुपये ड्यूटी के जरिये बढ़ाया है। अभी तक केंद्र सराकर ने एक्साइज ड्यूटी पर कटौती करने से साफ मना कर दिया। केंद्र सरकार ने पेट्रोल पर 13 रुपये और डीजल पर 16 रुपये ड्यूटी के जरिये बढ़ाया है। मार्च से मई 2020 के बीच भारत की कच्चा तेल खरीदने की लागत 19.9 डॉलर प्रति बैरल पर आ गई थी क्योंकि तब कोरोना महामारी के कारण लॉकडाउन लगा हुआ था।

पेट्रोलियम मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान ने कहा कि तेल उत्पादक देशों के संगठन (ओपेक) के फैसले से आने वाले दिनों में तेल की कीमतों में स्थिरता आने की उम्मीद है। ओपेक ने कच्चे तेल का उत्पादन बढ़ाने का फैसला किया है। ये उत्पादन जनवरी से बढ़ेगा।

पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों को लेकर वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण का बड़ा बयान सामने आया और उन्होंने कहा कि ये हालात सरकार के लिए धर्म संकट है। रहा है। उन्होंने कहा कि यह अफसोसनाक मुद्दा है और कीमतें में कमी के अलावा कोई भी जवाब लोगों को संतुष्ट नहीं कर सकता। केंद्र और राज्य दोनों को उपभोक्ताओं के लिए उचित स्तर पर खुदरा ईंधन मूल्य में कमी लाने के लिए बात करनी चाहिए ।

महगांई को लेकर राहुल ने सरकार पर साधा निशाना

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ईंधन की बढ़ती कीमत को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए सोमवार को आरोप लगाया कि केंद्र सरकार आम आदमी की जेब खाली कर रही है और अपने मित्रों की जेब मुफ्त में भर रही है।राहुल गांधी ने ट्वीट किया, ‘‘पेट्रोल पम्प पर गाड़ी में तेल डालते समय जब आपकी नजर तेजी से बढ़ते मीटर पर पड़े, तब यह जरूर याद रखिएगा कि कच्चे तेल का दाम बढ़ा नहीं है, बल्कि कम हुआ है।’’ उन्होंने आगे लिखा, ‘‘पेट्रोल 100 रुपए प्रति लीटर है। आपकी जेब खाली करके ‘मित्रों’ को देने का महान काम मोदी सरकार मुफ्त में कर रही है।’’

संक्रमण: वायरस के 14,199 नए मामले सामने आएं

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। देश में पिछले 24 घंटे में कोविड-19 के 14,199 नए मामले सामने आने के बाद कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 1.10 करोड़ से ज्यादा हो गई। वहीं, लगातार पांचवें दिन उपचाराधीन मरीजों की संख्या में वृद्धि हुई। स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा सोमवार को अद्यतन किए गए आंकड़ों में यह जानकारी दी गई। मंत्रालय द्वारा सुबह आठ बजे जारी अद्यतन आंकड़ों के अनुसार नए मामलों के बाद देश में संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 1,10,05,850 हो गई है। वहीं संक्रमण से 83 और मरीजों की मौत के बाद मृतकों की संख्या बढ़कर 1,56,385 हो गई है। देश में संक्रमण से अब तक 1,06,99,410 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं और राष्ट्रीय स्तर पर स्वस्थ होने की दर 97.22 फीसदी है।


चुनाव से पहले योगी सरकार का अंतिम पूर्ण बजट

हरिओम उपाध्याय 
लखनऊ। उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले योगी सरकार आज अपना बजट पेश कर रही है। विधानसभा में बजट पेश होने से पहले आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कैबिनेट बैठक बुलाई। कैबिनेट बैठक सुबह 9:30 बजे मुख्यमंत्री आवास पर हुई। वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने विधानसभा में वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिये पांच लाख 50 हज़ार 270 करोड़ 78 लाख रुपये का बजट पेश क‍िया। ये बजट पूरी तरह पेपरलेस है। ये योगी सरकार के इस कार्यकाल का अंतिम पूर्ण बजट है। कक्षा 1 से 8 तक के सभी बच्चों को प्रतिवर्ष निःशुल्क यूनिफॉम उपलब्ध कराये जाने हेतु 40 करोड़ रुपये की व्यवस्था। सभी बच्चों को जूता-मोजा एवं स्वेटर उपलब्ध कराये जाने हेतु वित्तीय वर्ष 2021-2022 हेतु 300 करोड़ रुपये की व्यवस्था। कक्षा 1 से कक्षा 8 तक के छात्र/ छात्राओं को स्कूल बैग उपलब्ध कराये जाने हेतु वित्तीय वर्ष 2021-2022 के बजट में 110 करोड़ रुपये की व्यवस्था प्रस्तावित।
मध्याह्न भोजन कार्यक्रम हेतु 3406 करोड़ रुपये की बजट का प्रस्ताव। वर्ष 2021-2022 के बजट में समग्र शिक्षा अभियान हेतु 18,172 करोड़ रुपये की बजट व्यवस्था।

सैकड़ों बेरोजगार युवाओं के भविष्य से खिलवाड़

राहुल सिंह दरम्वाल 
हल्द्वानी। कुछ समय पहले युवाओं ने नेता सुमित हृदयेश के नेतृत्व में कंपनी प्रबंधन को ज्ञापन देकर शीघ्र समाधान की मांग की थी। लेकिन कोई समाधान नही होने पर आज फिर उक्त युवाओं ने युवा कांग्रेस नेता सुमिर हृदयेश से हल्द्वानी में मुलाकात कर आगे की रणनीति पर गहन चर्चा की। चर्चा के उपरांत सभी ने  कंपनी प्रबंधन और एनटीटीएफ संस्था द्वारा की गयी धोखाधड़ी और वादाखिलाफी के खिलाफ 420 का मुकदमा दर्ज करवाने की बात कही।
बैठक के उपरांत सैकड़ो की संख्या में धोखाधड़ी के शिकार युवाओं ने सुमित हृदयेश (सदस्य, एआइसीसी और पीसीसी) के नेतृत्व में पंतनगर थाना पहुँच पुलिस प्रशासन से शांतिपूर्वक गाँधीवाधी तरीके से थाना प्रभारी जी को अपनी पीढ़ा से अवगत कराया और बताया कि आशिर्वाद योजना के नाम पर उन्हें जो डिप्लोमा दिया गया वो पूर्ण रूप से अवैध है। इस डिप्लोमा को राज्य या केंद्र सरकार की किसी यूनिवर्सिटी से मान्यता नही है और ना ही एआइएसआइटी से मान्यता है। उनके मूल शैक्षिक प्रमाण पत्र जमा करवाकर उनको कही और जाने से रोका गया और अब उनको कंपनी से बाहर का रास्ता दिखाकर मझधार मे छोड़ दिया गया है। इस दौरान हरीश पनेरू (प्रदेश महासचिव उत्तराखंड कांग्रेस) जी ने अपनी ओर से उक्त विषय पर धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज करवाने के लिये प्राथमिकता दर्ज करवायी। सुमित हृदयेश ने कहा कि वे उत्तराखंड की जवानी को यू बर्बाद होते नही देख सकते। रोजगार के नाम पर युवाओं को छलने वालो के खिलाफ हर प्रकार की लड़ाई में वें सबसे आगे खड़े रहेंगे। सुमित हृदयेश ने शासन प्रशासन को इस मामले की गंभीरता को देखते हुवे शीघ्र अति शीघ्र कठोर कार्यवाही कर शोषित युवाओं को न्याय दिलवाने की बात कही।

धोनी के लिए कही ये बात, दिया भावुक मैसेज

सुपरकिंग्स के बल्लेबाज रोबिन ने धोनी के लिए कही ये बड़ी बात, चेन्नई के फैंस को दिया भावुक मैसेज
इकबाल अंसारी  
नई दिल्ली। आईपीएल 2021के लिए चेन्नई सुपरकिंग्स के बल्लेबाज रोबिन उथप्पा चेन्नई की टीम में शामिल हुए हैं। रोबिन ने पिछले कुछ हफ्तों में प्रशंसकों द्वारा दिखाए गए समर्थन को लेकर बड़ी बात कही। उन्होंने कहा कि वे एमएस धोनी, सुरेश रैना और अंबाती रायुडू के साथ खेलने के लिए बेहद उत्सुक हैं। वे पहली बार येलो जर्सी में नजर आए। उन्होंने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर एक खास वीडियो शेयर करते हुए बताया कि वे चेन्नई की ओर से खेलने के लिए बेहद उत्सुक हैं। और इस साल टीम को आईपीएल ट्रॉफी जीताना चाहते हैं। चेन्नई सुपरकिंग्स उथप्पा की छठी आईपीएल टीम होगी।
इससे पहले वह राजस्थान रॉयल्स, कोलकाता नाइट राइडर्स, पुणे वारियर्स, रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर और मुंबई इंडियंस के लिए खेल चुके हैं। उथप्पा आईपीएल के एक सीजन में दो बार सबसे ज्यागा रन बनाकर आॅरेंज कैप भी हासिल कर चुके हैं।
आईपीएल 2020 में खराब रहा था फॉर्म
आईपीएल 2020 रॉबिन उथप्पा के लिए कुछ खास नहीं रहा था। हालांकि, इसका एक कारण यह भी रहा कि राजस्थान ने उन्हें मिडिल आॅर्डर में बल्लेबाजी का मौका दिया था जबकि वह टॉप आॅर्डर बल्लेबाज हैं। आईपीएल 2020 के 12 मैचों में उथप्पा के बल्ले से सिर्फ 196 रन निकले थे। जिसमें उनका सर्वाधिक स्कोर 41 रन रहा था।
 इस लीग में पहले सीजन से खेल रहे हैं उथप्पा
उथप्पा इस लीग में पहले सीजन से खेल रहे हैं। इस लीग के 189 मैचों में उनके नाम 129.99 के स्ट्राइक रेट से 4607 रन हैं। इस दौरान उन्होंने 24 अर्धशतक लगाए हैं। आईपीएल 2014 में जब कोलकाता नाइट राइडर्स ने अपना दूसरा खिताब जीता था । तो उथप्पा ने उस जीत में 660 रन बनाकर अहम भूमिका निभाई थी।
चेन्नई सुपरकिंग्स के टीम स्क्वाड पर एक नजर
एमएस धोनी (कप्तान), सुरेश रैना, अंबाती रायुडू, केएम आसिफ, दीपक चाहर, ड्वेन ब्रावो, फाफ डु प्लेसिस, इमरान ताहिर, एन जगदीसन, कर्ण शर्मा, लुंगी एनगिडी, मिशेल सेंटनर, रवींद्र जडेजा, रुतुराज गायकवाड़, शार्दुल ठाकुर, सैम कर्रन, जॉश हेजलवुड, आर साई किशोर, रॉबिन उथप्पा, मोइन अली, कृष्णप्पा गौतम, चेतेश्वर पुजारा, हरिशंकर रेड्डी, के भगत वर्मा, हरि निशांत आदि शामिल हैं।

सरकार कानूनों में संशोधन करने को तैयार: तोमर

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने रविवार को कहा कि भीड़ इकट्ठा करने से कानून नहीं बदलते। उन्होंने कहा कि किसान यूनियन बताएं कि इन कानूनों में किसानों के खिलाफ क्या है और सरकार उसमें संशोधन करने को तैयार है। नरेंद्र सिंह तोमर ने ग्वालियर में कहा कि केन्द्र सरकार ने संवेदनशीलता के साथ किसान संगठनों से 12 दौर की बातचीत की है। लेकिन बातचीत का निर्णय तब होता है।जब आपत्ति बताई जाए। उन्होंने कहा कि सीधा कहोगे कानून हटा दो, ऐसा नहीं होता है कि कोई भीड़ इकट्ठा हो जाए और कानून हट जाये। कृषि मंत्री ने कहा कि किसान संगठन बताएं कि इन नए कानूनों में किसान के खिलाफ क्या है? लेकिन भीड़ एकत्र करने से कानून नहीं बदलता है। तोमर ने कहा कि किसान संगठन यह तो बताएं कि आखिर कौन से प्रावधान हैं जो किसानों के खिलाफ हैं? इसे सरकार समझने को तैयार है और संशोधन करने के लिए तैयार है। उन्होंने कहा कि किसान के हितों के मुद्दे पर सरकार आज भी संशोधन करने को तैयार है और इस बारे में तो स्वयं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी कह चुके हैं।

पेट्रोल-डीजल के बाद, प्याज की कीमतों ने रूलाया

पेट्रोल-डीजल के बाद अब प्याज की कीमतों ने रूलाया, जानिए कब तक हो सकते है दाम कम
अकांशु उपाध्याय
नई दिल्ली।  पूरे देश में पेट्रोल डीजल के कीमतों में दिनों दिन बढ़ोतरी देखने को मिल रही है। इससे आम जनता काफी परेशान नजर आ रहे है। वहीं रसोई गैस के दाम ने भी घरेलू बजट को बिगाड़ दिया है। इसी बीच आम जनता को प्याज के दामों ने भी रूलाना शुरू कर दिया है। ब​ता दें कि खुदरा बाजार में प्याज के दाम पचास रुपए तक बढ़ गया है। सरकार को इस बात की उम्मीद है। कि मार्च में प्याज की आवक बढ़ जाएगी इससे प्याज के दामों में कमी हो जाएगी। इसके साथ केंद्र सरकार बफर स्टॉक से राज्यों को प्याज जारी कर सकती है।
प्याज की कीमतों में अचानकआई वृद्धि अहम वजह महाराष्ट्र और मध्य प्रदेश में बेमौसम बरसात है। इन दनों प्रदेशों में बेमौसम बरसात और ओले पडने की वजह से प्याज की फसल खराब हो गई है। इसके चलते एशिया की सबसे बड़ी मंडी लासलगांव में प्याज की कीमत 4200 रुपए प्रति क्विंटल तक पहुंच गई। क्योंकि, मंडी में प्याज की आवक कम हो गई है।उपभोक्ता मंत्रालय के आंकड़ो के मुताबिक भी राजधानी दिल्ली में बीस दिन के अंदर प्याज की कीमत 10 से 15 रुपए तक बढी हैं। आंकड़ो के मुताबिक 19 फरवरी को प्याज की कीमत 50 रुपए प्रति किलो थी। जबकि 30 जनवरी को प्याज के दाम 39 रुपए प्रति किलो थे। इससे पहले बाजार में प्याज की कीमत औसतन 20 से पच्चीस रुपए प्रति किलो तक थी।
सरकार के मार्च में प्याज की आवक बढने से कीमत कम होने की उम्मीद के बावजूद कई जानकार मानते हैं। कि अभी राहत की उम्मीद कम हैं। उनका मानना है। कि प्याज के दाम अभी और बढेगें। कई लोग कीमतों को आवश्यक वस्तु अधिनियम संशोधन से जोडकर भी पेश कर रहे हैं। दरअसल, सरकार ने पिछले साल आलू, प्याज, दाल, चावल और तिलहन को दायरे से बाहर कर दिया है।
राजधर्म निभाते हुए पेट्रोल-डीजल की कीमत कम करे सरकार: सोनिया
कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने पेट्रोल-डीजल और रसोई गैस की कीमतों में वृद्धि को लेकर सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि सरकारों का चुनाव लोगों के हितों पर कुठाराघात करने के लिए नहीं बल्कि बोझ कम करने के लिए किया जाता है। पेट्रोलियम पदार्थों की कीमतों में कमी की मांग करते हुए कहा कि मध्य वर्ग, किसान और गरीबों को लाभ मिलना चाहिए।
सोनिया गांधी ने रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर कहा कि देश में ईंधन के दाम ऐतिहासिक रूप से अधिकतम ऊंचाई पर हैं, जो पूरी तरह अव्यवहारिक हैं। कई हिस्सों में पेट्रोल के दाम 100 रुपये प्रति लीटर पार कर गए हैं। डीजल की कीमतों में वृद्धि ने करोड़ों किसानों की परेशानी को और बढ़ा दिया है। उन्होंने कहा कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमत मध्यम स्तर पर है। ऐसे में पेट्रोल-डीजल की कीमतों में वृद्धि मुनाफाखोरी का उदाहरण है।
21 लाख करोड़ रुपये कमाए। प्रधानमंत्री को लिखे पत्र में उन्होंने कहा कि यह बात उनकी समझ से परे है कि कोई सरकार ऐसे बेपरवाह और असंवेदनशील उपायों को कैसे सही ठहरा सकती है। सरकार ने छह साल में डीजल पर 820 फीसदी और पेट्रोल पर 258 प्रतिशत उत्पाद शुल्क बढ़ाकर 21 लाख करोड़ रुपये से अधिक की कर वसूली की है। पर इस मुनाफाखोरी का लोगों को कोई लाभ नहीं मिला।
बंगाल सरकार ने पेट्रोल, डीजल पर कर में एक रुपये की कमी की
पश्चिम बंगाल सरकार ने रविवार को पेट्रोल और डीजल पर कर में एक रुपये प्रति लीटर की कटौती की घोषणा की जो कि मध्यरात्रि से प्रभावी होगी। राज्य के वित्त मंत्री अमित मित्रा ने कहा कि इस कदम से लोगों को ईंधन की कीमतों में वृद्धि से कुछ राहत मिलेगी।मित्रा ने कहा केंद्र पेट्रोल से कर के तौर पर 32.90 रुपये प्रति लीटर कमाता है। जबकि राज्य को केवल 18.46 रुपये मिलते हैं। डीजल के मामले में, केंद्र सरकार की कमाई 31.80 रुपये प्रति लीटर है। जबकि राज्य के लिए 12.77 रुपये है।

परस्पर सहमति से समाधान करेंगे भारत और चीन

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली/ बीजिंग। भारत और चीन की सेनाओं ने तय किया है, कि वे पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा से लगते क्षेत्रों में पिछले वर्ष उत्पन्न गतिरोध से संबंधित लंबित मुद्दों का परस्पर सहमति से समाधान करेंगे। दोनों देशों की सेनाओं के कोर कमांडरों के बीच  चीन की सीमा में मोल्डो क्षेत्र में दसवें दौर की बातचीत हुई। बातचीत के बाद जारी संयुक्त वक्तव्य में कहा गया है कि करीब 16 घंटे चली बातचीत के दौरान दोनों पक्षों के बीच यह तय हुआ कि वे दोनों देशों के राजनीतिक नेतृत्व के बीच बनी सहमति के आधार पर संपर्क और संवाद जारी रखेंगे , जमीनी स्तर पर स्थिति को स्थिर तथा नियंत्रित करेंगे और चरणबद्ध तरीके से लंबित मुद्दों को समाधान करेंगे जिससे कि सीमावर्ती क्षेत्रों में शांति तथा मैत्री का माहौल बनाया जा सके।

परिवार ने एक साथ की आत्महत्या, 4 की मौत

4 जिंदगियां खत्म, पूरे परिवार ने एक साथ की आत्महत्या, सुसाइड नोट में लिखी ये बात
नरेश राघानी  
सीकर। एक बेहद दर्दनाक घटना हुई है। राजस्थान के सीकर में एक बेहद दर्दनाक घटना हुई है। बेटे की मौत का गम एक परिवार पर इस कदर टूटा कि पूरे परिवार ने सामूहिक तौर पर आत्महत्या कर ली। पुलिस को मौके से जो सुसाइड नोट मिला है। उसमें मरने से पहले परिवार के मुखिया हनुमान प्रसाद सैनी बेटे अमर की मौत को आत्महत्या करने का कारण बताया है। बताया जा रहा है। कि हनुमान प्रसाद सैनी बीजेपी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष मदन लाल सैनी के भतीजे थे। जानकारी के मुताबिक सैनी परिवार के इन चार सदस्यों ने परिवार के जवान बेटे की मौत के कारण पैदा हुए मानसिक अवसाद की वजह से आत्महत्या की है। इन 4 लोगों में हनुमान प्रसाद सैनी, उनकी पत्नी तारा और दो बेटियां अनु और पूजा शामिल हैं। इन्होंने फांसी के फंदे पर लटककर आत्महत्या की है। हनुमान प्रसाद सैनी बीजेपी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष मदन लाल सैनी के सगे भाई के बेटे थे। हनुमान प्रसाद सैनी द्वारा छोड़े गए सुसाइड नोट में लिखा गया है। कि बेटे की मौत के बाद वे लोग जी नहीं पा रहे थे। उन्होंने मरने से पहले सुसाइड नोट में लिखा है। मैं हनुमान प्रसाद सैनी, मेरी पत्नी तारा देवी, 2 बेटियां पूजा और अन्नू अपने पूरे होश में यह लिख रहे हैं। हमारे बेटे अमर का स्वर्गवास 27 सितंबर 2020 को हो गया था। हमने उसके बिना जीने की कोशिश की, लेकिन उसके बगैर जिया नहीं जाता। इसलिए हम चारों ने अपनी जीवन लीला खत्म करने का फैसला लिया है। अमर ही हम चारों की जिंदगी था। वही नहीं तो हम यहां क्या करेंगे। जानकारी हनुमान प्रसाद सैनी ने सुसाइड नोट में आगे लिखा है। कि प्रशासन किसी भी परिवारवाले को परेशान न करें. ये हमारा अपना फैसला है। उन्होंने सुसाइड नोट में अपने छोटे भाई सुरेश को लिखा है। हम सब का अंतिम संस्कार परिवार की तरह ही करना. कबीर पंथ की तरह मत करना सब अपने ​रीति रिवाज से करना और अमर का कड़ा और उसके जन्म के बाल हमारे साथ गंगा में बहा देना है। अमर की फोटो के पास सब सामान रखा है। सुरेश मेरे ऊपर किसी का कोई रुपया-पैसा बाकी नहीं है। परिवार के सामूहिक आत्महत्या कर लेने के बाद पूरे इलाके में गम पसरा हुआ है। मौके पर पहुंची पुलिस ने जांच के बाद कहा कि परिवार के चारों सदस्य एक ही पलंग पर चढ़कर फंदे से लटके हैं। और इस दौरान उन्होंने पलंग को पैर से गिरा दिया जिसके बाद वो फंदे से झूल गए और उनकी मौत हो गई। परिवार के आत्महत्या कर लेने की खबर भी उस वक्त लोगों को मिली जब दूधवाला शाम को दूध देने हनुमान सैनी के घर पहुंचा। दरवाजा खटखटाने के बाद भी जब किसी ने गेट नहीं खोला तो दूधवाले ने उनके मोबाइल पर फोन किया किसी ने फोन भी नहीं उठाया इसके बाद दूधवाले ने हनुमान सैनी के भतीजे युवराज को फोन किया और पूरी बात बताई। जब हनुमान सैनी का भतीजा युवराज वहां पहुंचा और गेट खोलकर अंदर गया तो देखा चारों फंदे से लटके हुए थे। इसके बाद उन्होंने तुरंत इसकी जानकारी पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने जब छानबीन की तो उन्हें दो पेज का सुसाइड नोट मिला जिसमें उन्होंने बेटे की मौत के सदमे को आत्महत्या के लिए जिम्मेदार बताया था। पूरे परिवार के आत्महत्या करने को लेकर पड़ोसियों ने बताया कि जिस कमरे से चारों शव लटके हुए मिले हैं। वहां पहले लोहे का कोई गर्डर नहीं था। चार दिनों पहले ही उन्होंने मिस्त्री बुलवाकर लोहे का गर्डर लगवाया था। जिससे वो लटके हुए मिले इतनी ही नहीं जिस रस्सी से उन्होंने फंदा बनाया था। वो रस्सी भी नई थी। इन घटनाओं के बाद लोग अंदाजा लगा रहे हैं। कि इन्होंने तीन चार दिन पहले ही सामूहिक आत्महत्या करने की योजना बना ली थी। हनुमान सैनी की एक बेटी एमएससी जबकि दूसरी बेटी बीएससी में पढ़ रही थी। उनकी पत्नी हाउस वाइफ थी। जबकि वो खुद सरकारी नौकरी करते थे।

कर्नाटक करेगा खेलो इंडिया 2021 की मेजबानी

कर्नाटक करेगा खेलो इंडिया यूनिवर्सिटी गेम्स 2021 की मेजबानी
अकांशु उपाध्याय  
नई दिल्ली। इस वर्ष के आखिर में होने वाले दूसरे खेलो इंडिया यूनिवर्सिटी गेम्स (केआईयूजी) की मेजबानी कर्नाटक राज्य को सौंपी गई है। केंद्रीय युवा मामले और खेल मंत्री किरण रिजिजू ने रविवार को कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी.एस. येदियुरप्पा ने इसकी घोषणा की। उन्होंने बताया कि गेम्स का आयोजन एसोसिएशन ऑफ इंडियन यूनिवर्सिटी (एआईयू) के सहयोग से बेंगलुरु के जैन विश्वविद्यालय और अन्य स्थानों पर किए जाएंगे। 
इस अवसर पर मुख्यमंत्री येदियुरप्पा ने कहा कि केआईयूजी 2021 की मेजबानी का अवसर कर्नाटक को मिलना गर्व की बात है। उन्होंने भरोसा जताते हुए कहा कि इस आयोजन से भारत को भविष्य के कुछ चैंपियन मिलेंगे। उन्होंने कहा कि कर्नाटक सरकार विश्वविद्यालय खेलों को सफल बनाने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ेगी।
वहीं, केंद्रीय खेल मंत्री किरण रिजिजू ने इस बार के आयोजन में भी अच्छी भागीदारी की उम्मीद जताई। उन्होंने कहा कि पिछले साल ओडिशा में यूनिवर्सिटी गेम्स एक बड़ी सफलता थी। जिन देशों के खेल प्रदर्शन में महानता है। वे अक्सर अपने खेल नायकों को विश्वविद्यालय स्तर के एथलीटों से आकर्षित करते हैं। उदाहरण के लिए, अमेरिका में । विश्वविद्यालयीय खेल ओलंपिक चैंपियनों के उभरने का आधार है।
इस बार के खेल आयोजन में और भी बड़ी भागीदारी की कल्पना करते हुए रिजिजू ने कहा कि पिछले साल ओडिशा में विश्वविद्यालय खेल एक बड़ी सफलता थी। खेल के शानदार प्रदर्शन वाले देशों ने अक्सर विश्वविद्यालय स्तर के एथलीटों से अपने खेल नायकों को आकर्षित किया है। मिसाल के तौर पर, यूएस गेम्स ओलंपिक चैंपियनशिप के आधार हैं। भारत में हमें विश्वविद्यालयों से प्रतिभा की पहचान करने के लिए एक निरंतर, फोकस्ड योजना की आवश्यकता है। और मुझे खुशी है। कि हम केआईयूजी के साथ ऐसा करने में सक्षम हैं। इस साल, स्वदेशी खेलों को प्रतियोगिता में शामिल करने के साथ, मुझे उम्मीद है। कि प्रतिभागियों की संख्या अधिक होगी।
एसोसिएशन ऑफ इंडियन यूनिवर्सिटी (एआईयू) के महासचिव, बलजीत सेखों के साथ केआईयूजी के साथ साझेदारी के बारे में बोलते हुए विश्वविद्यालय खेल हमारे एथलीटों के लिए ओलंपिक गौरव का एक स्पष्ट मार्ग है। एआईयू को विश्वविद्यालय खेल के साथ साझेदारी करने पर गर्व है। और इस वर्ष एआईयू अपने राष्ट्रीय-स्तरीय प्रतियोगिताओं को भी आयोजित करेगा।
जैन विश्वविद्यालय के कुलाधिपति चेनराज रॉय चंद का कहना है। कि विश्वविद्यालय परिसर में केआईयूजी की मेजबानी अभी भी खेल के प्रति विश्वविद्यालय की प्रतिबद्धता को मजबूत करने की दिशा में एक और कदम है। खेल के विकास के लिए इस राष्ट्रीय पहल की मेजबानी करने का अवसर मिलना जैन विश्वविद्यालय में हमारे लिए गर्व की बात है। खेल कार्यक्रम के प्रति हमारे विश्वविद्यालय का व्यावहारिक दृष्टिकोण हमारे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के दृष्टिकोण के अनुरूप है। जो खेलों को किसी के दैनिक जीवन का अभिन्न अंग बनाने के लिए प्रोत्साहित करता है।
उल्लेखनीय है। कि केआईयूजी देश का सबसे बड़ा विश्वविद्यालयीय खेल है। और इसका उद्देश्य खेल प्रतिभाओं का दोहन करना है। जो ओलंपिक सहित अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में भारत का प्रतिनिधित्व कर सकते हैं। केआईयूजी का पहला संस्करण भुवनेश्वर में फरवरी 2020 में आयोजित किया गया था। और सभी राज्यों के 158 विश्वविद्यालयों और कॉलेजों में, अंडर-25 आयु वर्ग में 3182 एथलीटों की कुल भागीदारी देखी गई।

सरकार के खिलाफ उपवास में क्या है गांधी की मांग

राहुल सिंह दरम्वाल 

लखनऊ। पूर्व विधानसभा अध्यक्ष और वर्तमान में जागेश्वर से विधायक गोविंद सिंह कुंजवाल इस समय अपनी विधानसभा में विकास कार्यों पर सरकार के द्वारा पैसा आवंटन नहीं करने पर नाराज दिखाई दे रहे हैं। कुंजवाल ने कहा लंमगड़ा विकासखंड में महाविद्यालय और तहसील भवन के लिए कांग्रेस सरकार के समय कार्य किए गए थे। उस वक्त जमीन नहीं मिलने के कारण इन कार्यों को निजी भवनों में शुरू कर दिया था। लेकिन अब जमीन उपलब्ध हो गई है। लेकिन सरकार इस ओर ध्यान नहीं दे रही है और ना ही इन विकास कार्यों के लिए बजट पास कर रही है। उस समय सरकार के पास जमीन नहीं थी जिस कारण से उन्हें किराए के भवनों में शुरू करवाया था। लेकिन अब गांव के सहयोग से महाविद्यालय तथा तहसील भवन हेतु जमीन उपलब्ध हो चुकी है। साथ ही विभाग के नाम भी जमीन हो गई है।

'बरेली' का वायु प्रदूषण में 13वां स्थान रहा

संदीप मिश्र 

बरेली। स्मार्ट सिटी बनाने के लिए जगह-जगह पर होने वाली खुदाई से शहर की आबोहवा इस कदर जहरीली होती जा रही है, कि आने वाले दिनों में खतरनाक हालातों को सामना करना पड़ सकता है। बीते दिनों ग्रीनपीस इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार वायु प्रदूषण के मामले में बरेली देश के 280 शहरों में 13वें नंबर पर है। वहीं, प्रदेश की बात की जाए तो बरेली चौथे नंबर पर है। जहां की आबोहवा सबसे ज्यादा जहरीली होती जा रही है। उत्तर प्रदेश के 22 शहरों में बरेली चौथे नंबर पर है। इस रिपोर्ट में 280 शहरों के वर्ष 2015 और 2016 के साल भर का औसत पार्टीकुलेट मेटर (पीएम10) के आंकड़े जुटाए।

पुडुचेरी में सरकार गिरी, बहुमत नहीं हुआ साबित

पुडुचेरी में कांग्रेस सरकार गिरी, बहुमत नहीं साबित कर पाए सीएम वी. नारायणासामी, उपराज्यपाल से मिलकर त्यागपत्र देंगे।
हरिओम उपाध्याय  
पुडुचेरी। विधानसभा में कांग्रेस अपना बहुमत साबित नहीं कर पाई है। स्पीकर ने ऐलान किया कि सरकार के पास बहुमत नहीं है। इसके बाद मुख्यमंत्री वी. नारायणसामी की विदाई तय हो गई है। गौरतलब है। कि विधानसभा में कांग्रेस के पास उसके 9 विधायकों के अलावा 3 डीएमके और एक निर्दलीय विधायक का समर्थन था। यानी कांग्रेस के पास 12 विधायकों का समर्थन था। जबकि विधानसभा की वर्तमान स्थिति के मुताबिक उसे बहुमत के लिए 14 विधायकों का समर्थन चाहिए था। हालांकि, फ्लोर टेस्ट से पहले मुख्यमंत्री नारायणसामी दावा करते रहे कि उनके पास निर्वाचित विधायकों में से बहुमत है। क्या है विधानसभा का गणित 33 सदस्यीय पुडुचेरी विधानसभा में 30 सदस्य निर्वाचित और 3 सदस्य केंद्र सरकार की ओर से मनोनित होते हैं। 2016 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने 15 सीटें जीती थीं। एक विधायक को पार्टी द्वारा पिछले साल दलबदल विरोधी कानून के तहत अयोग्य घोषित किया गया था। इसके अलावा पांच विधायक अब तक इस्तीफा दे चुके हैं। डीएमके ने कांग्रेस का समर्थन किया है। उसके तीन विधायक थे, लेकिन रविवार को इनमें से एक विधायक ने इस्तीफा दे दिया। रविवार देर शाम तक कांग्रेस गठबंधन के पास 12 विधायकों का समर्थन ही था। जिसमें कांग्रेस के 9, डीएमके के 2 और एक निर्दलीय विधायक शामिल है। छह विधायकों के इस्तीफे और एक अयोग्यता के बाद पुडुचेरी विधानसभा की संख्या 26 है। प्रमुख विपक्षी दल ऑल इंडिया एन आर कांग्रेस, ने 2016 के चुनावों में 8 सीटें जीती थीं। लेकिन उसका एक विधायक अयोग्य घोषित हो गया था। और बाद में इस सीट को डीएमके ने जीत लिया था। यानी अभी एनसीआर के पास 7 विधायक, के पास 4 विधायक हैं। वहीं, बीजेपी के पास 3 मनोनित विधायक हैं। यानी सरकार के समर्थन में 12 विधायक हैं। जबकि विपक्ष में 14 विधायक हैं। कांग्रेस का कहना है। कि उसके पास निर्वाचित विधायकों में से बहुमत है। यानी 23 में 12 विधायक उसके साथ हैं।

ऑटो-ट्रक में हुई आमने-सामने टक्कर, 5 की मौत

5 लोगों की दर्दनाक मौत। ऑटो और ट्रक में हुई आमने-सामने टक्कर, मची चीख-पुकार
अविनाश श्रीवास्तव 
 कटिहार। बड़ा हादसा बिहार के कटिहार जिले में सोमवार को हुए भीषण सड़क हादसे में 5 लोगों की दर्दनाक मौत हो गई है। हादसा ऑटो और ट्रक में हुई टक्कर के दौरान हुआ जिसमें पांच लोगों ने मौके पर ही दम तोड़ दिया जबकि कई अन्य लोग बुरी तरह से जख्मी हो गए। कटिहार में यह सड़क दुर्घटना पोठिया थाना क्षेत्र के समेली खैरा बहियार के समीप हुई। दुर्घटना के बारे में बताया जा रहा है। कि अनियंत्रित ऑटो और ट्रक में आमने-सामने भीषण टक्कर हो गई जिसमें पूर्णिया से बैंड पार्टी बाजा कर लौट रहे पांच लोगों की मौत हो गई जबकि पांच लोग घायल है। मामले की जानकारी मिलते ही पोठिया थाना पुलिस घटनास्थल पर पहुंच चुकी है। पोठिया थाना पुलिस घटनास्थल पर पहुंची जिसके बाद सभी मृतकों की पहचान हुई। मृतक सभी लोग कुर्सेला थाना क्षेत्र के बसुहार मजदिया गांव के रहने वाले थे। और शादी विवाह में बैंड पार्टी का काम करते थे। मृतकों में अर्जुन मोची 50 वर्ष, किशोर पासवान 45 वर्ष, धर्मेंद्र कुमार मंडल 50 वर्ष, सुशील कुमार मोची 30 वर्ष और छोटेलाल राम 42 वर्ष हैं। जबकि घायलों में सभी लोग फलका भंगहा के रहने वाले हैं। घायलों में संतोष कुमार 25 वर्ष, मिट्ठू कुमार 17 वर्ष, चिंटू कुमार 16 वर्ष, श्री मोची 60 वर्ष और सियाराम मंडल 32 वर्ष हैं। घटना के बाद इलाके में कोहराम मचा हुआ है। इस हादसे के बाद पुलिस ने ट्रक को जब्त कर लिया है। लेकिन ट्रक का ड्राइवर फरार है। घटना के प्रत्यक्षदर्शी बिट्टू कुमार और संतोष कुमार ने बताया कि अचानक ट्रक लाइट जला कर रुक गया जिस कारण ऑटो से उसकी टक्कर हो गई, जबकि पीछे से भी आ रही एक कार ने ऑटो में ठोकर मार दी जिस कारण इतना बड़ा हादसा हुआ।

बाल-बाल बचे पूर्व सीएम, 10 फीट नीचे गिरी लिफ्ट

बाल-बाल बचे पूर्व मुख्यमंत्री, भरभराकर 10 फीट नीचे गिरी लिफ्ट, मचा हड़ंकप
भोपाल। मध्यप्रदेश में उस समय हड़कंप मच गया जब पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ की लिफ्ट नीचे गिर गई। इसके बाद लिफ्ट का दरवाजा बंद हो गया। लिफ्ट गिरते ही कमलनाथ की सुरक्षा में तैनात जवान नीचे की ओर भागे। दूसरी तरफ पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ जिस लिफ्ट में सवार थे, उसके गिरने की खबर सुनकर इंदौर प्रशासन के भी हाथ-पांव फूल गए।
आनन-फानन में लिफ्ट इंजीनियर को बुलाया गया और लिफ्ट का दरवाजा तोड़कर कमलनाथ समेत सभी नेताओं को बाहर निकाला गया। गनीमत यह रही कि लिफ्ट में सवार किसी भी नेता को चोट नहीं आई।
जानकारी के मुताबिक पूर्व मंत्री रामेश्वर पटेल इंदौर के एक निजी अस्पताल में भर्ती हैं। तो वे उनके स्वास्थ्य का हाल-चाल जानने निजी अस्पताल पहुंच गए।
दरअसल रविवार को कमलनाथ इंदौर में थे। और जब उन्हें पता चला कि कमलनाथ के साथ कांग्रेस नेता सज्जन सिंह वर्मा और जीतू पटवारी भी मौजूद थे। अस्पताल पहुंचने के बाद रामेश्वर पटेल के वॉर्ड में जाने के लिए सभी नेता लिफ्ट में सवार हो गए लेकिन लिफ्ट ऊपर जाने की जगह करीब 10 फीट नीचे गिर गई।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

1. अंक-190 (साल-02)
2. मंगलवार, फरवरी 23, 2021
3. शक-1983, माघ, शुक्ल-पक्ष, तिथि-द्वादशी, विक्रमी संवत 2077।

4. प्रातः 06:50, सूर्यास्त 06:18।

5. न्‍यूनतम तापमान -07 डी.सै.,अधिकतम-25+ डी.सै.। 

6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।

9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110

http://www.universalexpress.page/

email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +91935030275                                        (सर्वाधिकार सुरक्षित)

चिकित्सा ग्रेड ऑक्सीजन, कर के दर में कटौती की

अकांशु उपाध्याय              नई दिल्ली। जीएसटी परिषद ने कोविड-19 के इलाज में काम आने वाली दवाओं मसलन रेमडेसिविर तथा उपकरणों ऑक्सीजन कन्सनट्र...