बुधवार, 12 अगस्त 2020

ऑस्ट्रेलिया में भी कोरोना के मामले बढ़े


मेलबोर्न। ऑस्ट्रेलिया के विक्टोरिया प्रांत में कोरोनावायरस संक्रमण से बुधवार को रिकॉर्ड 21 लोगों की मौत हो गई और संक्रमण से बेहद प्रभावित शहर मेलबोर्न में संक्रमण के 410 नए मामले सामने आने के बाद यहां कड़ा लॉकडाउन लगाया गया है। राज्य के प्रीमियर डेनियल एंड्रूज ने बताया कि मरने वाले 25 लोगों में से 16 लोग वृद्धाश्रमों से हैं। हालांकि विक्टोरिया में नए मामलों में कमी आई है। जिसकी वजह से अधिकारियों में थोड़ी उम्मीद जगी है कि महामारी का प्रसार कम हो रहा है।            


ब्राजीलः 52 हजार से अधिक संक्रमित मिले

हैरत में ब्राजील, एक दिन में रिकॉर्ड किए गए 52 हजार से अधिक मामले


ब्रासिलिया। ब्राजील में मात्र 24 घंटे के भीतर नॉवेल कोरोना वायरस से संक्रमण के कुल नए मामले 50 हजार से अधिक रिकॉर्ड हुए हैं। इसी अवधि में मरने वालों की संख्या 1 हजार 2 सौ 74 है। जबकि इससे पहले संक्रमण के मामलों की संख्या 22 हजार थी और 703 लोगों की मौत हो गई थी। इसके साथ ही देश में अबतक कुल संक्रमण का आंकड़ा 31 लाख 9 हजार 6 सौ 30 हो गया और मरने वालों की संख्या 1 लाख 3 हजार 26 है। दुनिया भर के देशों में संक्रमण के मामले में अमेरिका के बाद दूसरा नंबर ब्राजील का ही है। देश के स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से यह जानकारी दी गई है।


अब पिछले 24 घंटों के भीतर रिकॉर्ड किए गए संक्रमण के नए मामलों ने हैरत में डाल दिया है क्योंकि कुल 52 हजार 1 सौ 60 नए मामले आए हैं। वहीं मरने वालों की संख्या 1 हजार 2 सौ 74 है। जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के अनुसार, देश में स्वस्थ होने वाले कुल मामले 23 लाख 96 हजार 8 सौ 60 है। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने 11 मार्च को इसे महामारी घोषित कर दिया था। डब्ल्यूएचओ के अनुसार, दुनिया भर में कोरोना वायरस के कारण मरने वालों का आंकड़ा 7 लाख 32 हजार से अधिक हो चुका है वहीं संक्रमण के मामले कल ही 2 करोड़ का आंकड़ा पार कर गए थे।                      


चीनः अमेरिका को धमकी, आग से ना खेले


वाशिंगटन डीसी/ बीजिंग। अमेरिकी प्रतिनिधि दल के ताइवान दौरे से चीन बुरी तरह भड़क गया है। चीन ने अमेरिका को चेतावनी दी है कि वह आग के साथ ना खेले नहीं तो वो इसमें जल जाएगा। चीन ताइवान को 'वन चाइना पॉलिसी' के तहत अपना हिस्सा मानता है। कोई भी देश अगर स्वशासित ताइवान के साथ स्वतंत्र रूप से द्विपक्षीय संबंध कायम करने की कोशिश करता है तो चीन कड़ा ऐतराज जताता है।



अमेरिकी स्वास्थ्य मंत्री एलेक्स अजार ने रविवार को ताइवान का दौरा किया था। बीते चार दशकों में एलेक्स पहले ऐसे अमेरिकी उच्च अधिकारी हैं जिसने ताइवान का दौरा किया है। अमेरिका और चीन के बीच पहले से ही कोरोना महामारी समेत तमाम मुद्दों को लेकर तनातनी चल रही है। अमेरिकी अधिकारी के ताइवान दौरे से ये टकराव और बढ़ता नजर आ रहा है।







रूसी वैक्सीन 'स्पूतनिक-वी' में रुचि दिखाई

नई दिल्ली। भारत ने मंगलवार को रूस की कोरोना वैक्सीन ‘स्पूतनिक V’ में रुचि दिखाई है। दुनियां की पहली कोविड 19 वैक्सीन के लिए खास तौर पर बनाई गई वेबसाइट पर जारी किए गए एक बयान के मुताबिक भारत भी उन 20 देशों में शामिल है जिन्होंने इस वैक्सीन को लेने में दिलचस्पी दिखाई है। बयान में कहा गया है कि, ‘कुल 20 देशों ने अब तक कोरोना वैक्सीन ‘स्पूतनिक V’ को लेने में अपनी रुचि दिखाई है, जिनमें यूएई, सऊदी अरब, इंडोनेशिया, फिलीपींस, ब्रांजील, मैक्सिको और भारत आदि भी शामिल हैं।


रुस के राष्ट्रपति ब्लादिमीर पुतिन ने ऐलान किया था कि उनका देश कोरोना के लिए पहली वैक्सीन तैयार कर चुका है, जिसकी पहली डोज उनकी बेटी को भी दी जा चुकी है। बयान के मुताबिक, रूस सरकार का रसियन डायरेक्ट इन्वेस्टमेंट फंड इस वैक्सीन प्रोजेक्ट को फाइनेंस कर रहा है, इस वैक्सीन में दुनिया भर की गहरी दिलचस्पी देखने को मिल रही है। इसके साथ हीं इस वैक्सीन ने लोगों में एक आस भी जगाई है। इस बयान में बताया गया है कि कई देशों जिनमें सऊदी अरब, फिलीपींस, भारत, ब्राजील और यूएई शामिल हैं, में तीसरे फेज के क्लीनिकिल ट्रायल होने हैं, और कई देशों की सरकारों के साथ मिलकर उन देशों में इस वैक्सीन का मास प्रोडक्शन भी किया जाना है, इन देशों में भारत, दक्षिण कोरिया, ब्राजील के अलावा सऊदी अरब, तुर्की और क्यूबा भी शामिल हैं।


हैवान के करीब पहुंची 'हापुड़ पुलिस'

अतुल त्यागी


हैवान के करीब पहुंची हापुड़ पुलिस, कभी भी हो सकती है


हापुड़। गिरफ्तारी देश को शर्मसार करनें वाली हापुड़ में हुई बच्चीं के साथ निर्भया जैसी दरिंदगी करनें वालें की गिरफ्तारी को लेकर लगी दो जिलों की पुलिस को दरिंदें ने खूब दौड़ाया, परन्तु आखिरकार हापुड़ पुलिस दरिंदें के बेहद करीब पहुंच गई है, किसी भी क्षण उसकी गिरफ्तारी हो सकती है।


दिल्ली से 90 किमी. दूर एनसीआर एरिया के गढ़मुक्तेश्वर तीर्थ नगरी में पांच दिन पूर्व देश को शर्मसार करने वाली घटना उस समय हुई ,जब एक 6 वर्षीय बच्चीं का एक दरिंदें ने अपहरण कर सारी रात रेप किया और हापुड़ पुलिस के 80 जवान सारी रात साढ़े तीन किमी. में मासूम बच्चीं को ना ढूंढ पाना उनके निकम्मेपन को दर्शाता है।अगले दिन खेत में खून से लथपथ बच्चीं को किसानों ने बरामद कर पुलिस को सौंपा। इतनी बड़ी और दिल दहलाने वाली घटना के बावजूद भी क्रिकेट मैंच में व्यस्त रहे वरिष्ठ पुलिस अधिकारी का घंटों बाद घटनास्थल पर पहुंचना उनकी गंभीरता को दर्शाता है। देशभर में सोशल मीड़िया में किरकिरी होने के बाद व राजनेताओं के दबाव डाला और पूर्व सांसद प्रो. रमेश चंद तोमर घटना के बारें मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को जानकारी देते हुए आरोपी की गिरफ्तारी की मांग की। भारी किरकिरी व आरोपी को पकड़नें में नाकाम रहनें पर मेरठ रेंज के आईजी प्रवीण त्रिपाठी ने आरोपी पर 50 हजार का ईनाम घोषित किया और आरोपी को पकड़नें के लिए अपनी जाबांज पुलिस टीमों को मैदान में उतारा है।


शातिर दरिंदा पुलिस के सौ जवानों को भी पांच दिन से चकमा देते हुए बेखौफ खुलें आसमान में चैन से खुला घूम रहा है और उसे पकड़नें को दो जिलों की पुलिस टीमें रात दिन लगी हुई हैं।
पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार पुलिस आरोपी के लगभग करीब पहुंच चुकी है। किसी भी क्षण या घंटों में उसकी गिरफ्तारी हो सकती है।                 


विवाहिता को जिंदा जलाया 'दहेज प्रथा'

अतुल त्यागी


जिंदा जलाया हुई विवाहिता की मौत


हापुड़। दहेज के लालची भेड़ियों ने दहेज की मांग पूरी ना होने पर एक विवाहिता पर मिट्टी का तेल छिड़कर जिंदा जला दिया। उपचार के दौरान विवाहिता की मौत हो गई। जिससे मायकेवालों में कोहराम मच गया।
हापुड़ के मौहल्ला सुभाष नगर निवासी कमल की शादी जेवर निवासी पिंकी के साथ हुई थी।शादी के बाद से दहेज के लिए सुसरालवालें विवाहिता के साथ मारपीट करते रहते थे।
मायकेवालों ने आरोप लगाया कि दहेज ना मिलनें से क्षुब्ध सुसरालियों पर विवाहिता पर मिट्टी का तेल छिड़कर जला दिया। जिससे गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती करवाया ,जहाँ उसकी मौत हो गई। मायकेवालों ने सुसरालवालों के विरुद्ध. दहेज हत्या की तहरीर दी है।             


लोगों के रवैया के कारण जांच में देरी

चंडीगढ़। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने मंगलवार को कहा कि 'कोई गल नहीं' के पंजाबी रवैये के कारण लोगों की कोविड-19 जांच में देरी हो रही है लेकिन कुछ मामलों में यह हानिकारक हो सकता है। सिंह ने हरियाणा की अपेक्षा पंजाब में मृत्यु दर अधिक होने के लिये इसी रवैये को जिम्मेदार करार दिया है। उन्होंने कहा कि यह रवैया ठीक है लेकिन कुछ मामलों यह हानिकारक साबित हो सकता है। उन्होंने कहा कि उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इस बारे में पहले ही बता दिया था। सिंह ने कहा, 'मौजूदा समय में जो सबसे बड़ी चिंता है वह है प्रदेश में कोविड के बढ़ते मामले। कोई गल नहीं की पंजाबी भावना के कारण लोगों की जांच और उनके इलाज में देरी हो रही है। मुख्यमंत्री औद्योगिक नेताओं के एक बैठक को ऑनलाइन संबोधित कर रहे थे।           


किसानों को निशाना बना रहे हैं विषैले सांप

सर्पदंश से युवक की मौत


कौशाम्बी। आपको बताते चले सर्प डंस जैसे केस जिले में घटने का नाम नही ले रहा आए दिन किसानो के परिवारों को विशैले सांपो ने निशाना बनाना नही छोड़ा वर्तमान का मामला थाना कड़ाधाम अंतर्गत ग्राम सौरई बुजुर्ग के मंसूर के पूरा में रह रहे गरीब किसान विकाश पाल पुत्र स्वर्गीय जिया लाल उम्र लगभग 18 वर्ष अपने खेत की तरफ  विकास पानी सिचाई रोपाई काम के लिए गया जहाँ बीती रात 1 बजे बारिस होने लगी तभी विकास खेत के समीप टियूबबेल के कोठरी में भीगने से बचने हेतु रुक गया। वही पास घात लागए सांप ने उसे डस लिया मौके पर ग्रामीणों ने विकास को लड़खड़ाते देख परिजनों को बताया जहाँ घर पहुँच आनन फानन तांत्रिको को आज सुबह दिखाने रायबरेली के लिये निकल पड़े लेकिन तांत्रिक द्वारा जवाब दे दिया गया।


ऐसा माना जा रहा है 10 साल पहले विकास के पिता का देहांत हो गया था घर कच्चा एवं छपरे में तब्दील है। परिवार में विकास के बाबा रामलाल उम्र 85 वर्ष अपने पोते के इस घटना को सहन नही कर पाए व मा खेती किसानी मजदूरी कर पालन पोषण करतीं थी विकास के इस घटना को सुन रिस्तेदारों से लेकर उक्त गांव बिरादरी में शोक की लहर दौड़ गई। मौके पर ग्राम प्रधान लेखपाल ने लिखा पढ़ी कर रिपोर्ट दर्ज किया गया जिसको लेकर पाल समाज के अध्यक्ष प्रकाश धनगर ने मौके पर मौजूद परिजनों के बीच ढांढस बांधी लेखपाल के रिपोर्ट उक्त लोगों के मुताबिक आपदा समिति की ओर से मुवावजा की मांग की गई।


 ज्ञानू सोनी


जन्माष्टमी पर घरों में भी सजी झांकियां

कृष्ण जन्माष्टमी पर मंदिरों के साथ घरों में भी सजी झांकियां


लेकिन कमी है तो सिर्फ उन कृष्ण प्रेमियों की रही जो हर साल मन्दिरों के बाहर लम्बी कतार में कृष्ण नाम का जय जयकार करते थे।


कौशाम्बी। कोरोना के कारण इस बार सभी लोग घर में ही त्योहार मना रहे हैं। सभी अपने-अपने घर के मंदिरों को भी खूब सजा रहे हैं। और कृष्ण के जन्म का इंतजार कर रहे हैं। कोरोना वायरस संक्रमण की गाइडलाइंस को ध्यान में रखते हुए इस बार लोग बाहर पूजा देखने तो जाने वाले नही है ऐसे में सभी लोग परिवार के साथ व्रत रखकर जन्माष्ठमी का त्योहार मानते हुए दिखाई दिए !


इस बार भगवान श्रीकृष्ण का जन्मोत्सव यानी जन्माष्टमी 11 अगस्त और 12 अगस्त को पड़ रही है। बाल कृष्ण का जन्म भाद्रपद कृष्ण अष्टमी को रोहिणी नक्षत्र में हुआ था, लेकिन इस बार तिथि और नक्षत्र में थोड़ा अंतर देखने को मिल रहा है। इस स्थिति में जन्माष्टमी का पर्व पूरे देश में दो दिन मनाया जाएगा। हालांकि 12 अगस्त का दिन जन्माष्टमी व्रत के लिए सही माना जा रहा है। तो ऐसे में बड़े रूप में 12 अगस्त को ही जन्माष्टमी मनाई जाएगी, लेकिन सिर्फ घरों में ही। सिराथू सर्किल से ऐसे तमाम जुड़े गाँवो में भगवान श्री कृष्ण जन्मअष्टमी का पर्व मनाया गया इसी तरीके कड़ा धाम थाना अंतर्गत  सौरई बुजुर्ग में भी अलग अलग मोहल्लों में सोशल डिस्टेंसिंग गाइडलाइन के अनुसार पर्व को हर्षउल्लास के साथ कटरा मोहल्ला रामजानकी मंदिर में मनाया गया।


ऐसे में एहतियात बरतते हुए सौरई बुजुर्ग ग्रामवासी इस ऐतिहासिक पर्व को मानते हुए जानकारी के मुताबिक पूर्व काल से परमपरा को देखते हुए भगवान श्री कृष्ण जी की छठी भी मनाई जाएगी जिसको लेकर मेला अध्यक्ष सहित डॉक्टर राजेंद्र प्रसाद अग्रहरि एवं सभी ग्राम के सहयोगी मेला कमेटी के साथ एक बैठक कर अग्रिम कार्य को सम्पन्न कराने का निर्णय लिया जिसमे ग्राम सहयोगी गोपीनाथ गौतम, डॉक्टर श्रीकांत विश्वकर्मा,त्रिवेदी नारायण सोनी, कुलदीप डॉक्टर, सोहन पाल, अजय कुमार वर्मा,इत्यादि लोग मौजूद रहे इसी तरीके दूसरे मोहल्ले के विपरीत भव्य मंदिरों की भी कमेटी मौजूद रही जिसमे , रामप्रकाश धनगर, दीनानाथ पाल, राकेश सविता, दीपक चौरसिया धनराज यादव, धर्मेन्द्र विश्वकर्मा, गोविंद पाल, सभी ग्राम वासियों ने आपसी भाईचारा को लेकर शोशल डिस्टेंसिंग एवं कोरोना गाइडलाइन के अनुसार सकुशल सम्पन्न कराया गया।


ज्ञानू सोनी


संजय ने लोगों से घर-घर जाकर मुलाकात की

भानु प्रताप उपाध्याय 


शामली। भारतीय उपाध्याय चेतना मंच के प्रदेश अध्यक्ष संजय उपाध्याय शामली ने आज जनपद में समाज के लोगो से घर घर जाकर मुलाकात की और सामाजिक एकता पर बल दिया। आज प्रदेश अध्यक्ष संजय उपाध्याय ने ग्राम अंबेहटा याकूबपुर, मस्तगड, उमरपुर, नोजल नोजली गावो में जनसंपर्क करके  उपाध्याय समाज के लोगो को संगठित  होने को कहा और उपाध्याय चेतना मंच को मजबूत बनाने के लिए समाज के लोगो से अपील की  गांव गांव जाकर संजय उपाध्याय ने कहा कि हम सभी और समाज को संगठित होने की जरूरत है।  संगठन के बल पर राजनीति पिछड़े पन को दूर कर सकते है।  राजनीति ताकत प्राप्त करने के लिए हम सभी को एक मंच पर आना होगा आपस के गीले शिकवे दूर करके संगठित होना होगा , समाज के लोगो को अपने बच्चों की शिक्षा पर विशेष ध्यान देना है। एवम अपने बच्चों को अच्छे संस्कार देकर  आगे बढ़ाना है। प्रदेश अध्यक्ष संजय उपाध्याय ने  समाज के लोगो पर हो रहे अत्याचार की कड़े शब्दों में निंदा की और पीड़ित परिवार से भी मिले  पीड़ित परिवार ने बताया कि थाने में हमारी कोई सुनवाई नही हो रही   बल्कि हमे परेशान किया जा रहा है। न्याय के लिए हम चक्कर काट रहे है पीड़ित परिवार से संजय उपाध्याय ने कहा कि न्याय की इस लड़ाई में हम आपके साथ खड़े है और आपकी मदद की जाएगी  मानसिंह उपाध्याय, सुखपाल उपाध्याय, सोनिया उपाध्याय, मुकेश उपाध्याय, संजय जोगी, राजकुमार योगी, ऋषिपाल उपाध्याय, रोबिन उपाध्याय, अशोक उपाध्याय, सचिन उपाध्याय, आदि से मुलाकात की।             


मस्जिद की जमीन पर बनें दशरथ अस्पताल

मिनाक्षी


नई दिल्ली/अयोध्या। उर्दू अदब के शायर मुनव्वर राना अपने कविता संग्रह 'मां' से दुनिया के बड़े हिस्से में जाने जाते हैं। आजकल वो एक बार फिर से चर्चा में है। इस बार वो राम मंदिर मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर टिप्पणी करने के बाद से सुर्ख‍ियों में हैं। उन्होंने इस बारे में कहा है कि सुप्रीम कोर्ट ने फैसला किया है, लेकिन न्याय नहीं। उन्होंने बाबरी मस्ज‍िद को मिली जमीन पर दशरथ अस्पताल बनाने की पेशकश को लेकर प्रधानमंत्री को खत भी लिखा है।


इस पूरे मामले में उनकी बेटी सुमैया राना भी खुलकर पिता के साथ आ गई हैं। उन्होंने कहा कि मैं अपने पिता की बात से पूरी तरह सहमत हूं। सुमैया राना ने मिडिया से बातचीत में कहा कि मेरे पिता कहते हैं कि सुप्रीम कोर्ट ने अपना फैसला सुनाया है न्याय नहीं। गोगोई साहब ने अपने फैसले में जो लिखा कि कोई साक्ष्य नहीं मिला है कि वहां मंदिर तोड़कर मस्ज‍िद बनाई गई।


सुमैया ने कहा कि अगर वहां राम मंदिर ही बनाना था तो उसी परिसर में छोटी सी मस्ज‍िद बनने की इजाजत देनी चाहिए थी। लेकिन कोर्ट ने कहा है कि बहुसंख्यक की भावनाओं को देखकर फैसला ले लिया गया। लेकिन न्याय भावनाओं से नहीं साक्ष्य पर आधारित होता है।


सुमैया ने कहा कि जब अयोध्या से बाहर कर देंगे तो वो मस्ज‍िद कहीं भी बने। मेरे पिता सुन्नी वक्फ बोर्ड से भी इस मामले में नाराज हैं। उन्होंने इस बारे में गुजारिश की है कि दी गई जमीन पर मस्ज‍िद के बजाय राजा दशरथ के नाम से एक अस्पताल बनाया जाए जो कि अपने देश के मुसलमानों की ओर से देशवासियों को गिफ्ट दे दिया जाए। क्यों हम वहां उसी जगह मस्ज‍िद बनाएं जब वो राजा दशरथ की जमीन है।            


सीएम की प्रतिनिधिमंडल से सामान्य भेंंट

पंकज कपूर


देहरादून। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत से मंगलवार को मुख्यमंत्री आवास में राष्ट्रीय आपदा प्रबन्धन प्राधिकरण के प्रतिनिधिमण्डल ने शिष्टाचार भेंट की। प्रतिनिधिमण्डल में सदस्य एनडीएमए राजेन्द्र सिंह, संयुत्तफ़ सचिव एनडीएमए रमेश कुमार एवं संयुत्तफ़ सलाहकार एनडीएमए नवल प्रकाश शामिल थे। इस अवसर पर उत्तराऽण्ड में प्राकृतिक आपदा एवं राहत व बचाव कार्य जैसे विभिन्न मुद्दों पर चर्चा हुयी। मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तराऽण्ड जैसे पर्वतीय क्षेत्रें में फॉरेस्ट फायर और लैंड स्लाईड जैसी प्राकृतिक आपदाओं से अधिक नुकसान होता है। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय आपदा प्रबन्धन के तहत बनायी जाने वाली योजनाओं में वनाग्नि जैसी प्राकृतिक आपदाओं को भी शामिल किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि दूरस्थ क्षेत्रें में राहत कार्य पहुंचाना भी एक चुनौती है। इसके लिए राज्य सरकार की ओर से युवा मंगल दलों एवं महिला मंगल दलों को आपदा की परिस्थिति में राहत एवं बचाव कार्य के लिए प्रशिक्षण दिया जा रहा है। जिसमें घायलों को फर्स्ट एड देने जैसे प्रशिक्षण भी शामिल हैं। उन्होंने प्रतिनिधिमण्डल से एनडीएमए द्वारा चलाए जा रहे कार्यक्रम ‘आपदा मित्र‘ के प्रशिक्षण में ट्रॉमा ट्रेनिंग (फर्स्ट एड) जैसे प्रशिक्षणों को शामिल करने की बात कही। मुख्यमंत्री ने कहा कि आपदा प्रबन्धन हेतु बनायी गयी योजनाओं एवं दिशानिर्देशों में मैदानी क्षेत्रें के अनुसार योजनाएं बनायी जाती रही हैं। परन्तु पर्वतीय क्षेत्रें में प्राकृतिक आपदाओं का स्वरूप एवं प्रभाव मैदानी क्षेत्रें से भिन्न है, इसलिए योजनाओं एवं दिशानिर्देशों को बनाते समय पर्वतीय क्षेत्रें के अनुरूप योजनाओं को भी शामिल किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि पर्वतीय क्षेत्रें में अधिकतर मकान मिट्टðी एवं छतें फटालों से बनायी जाती हैं। आपदा की गाईडलाईन के अनुसार ऐसे मकानों को कच्चा मकान कहा जाता है, इससे आपदा प्रभावितों को काफी कम आर्थिक मदद प्राप्त होती है। उन्होंने कहा कि पर्वतीय क्षेत्रें में इस प्रकार के मकानों को पक्के मकानों की श्रेणी में रऽा जाना चाहिए। सदस्य, एनडीएमए राजेन्द्र सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के दिशानिर्देशों के अनुपालन में देशभर में ‘आपदा मित्र‘ योजना शुरू की गयी है। इस योजना के तहत आपदा मित्रें को 12 से 15 दिन का बचाव एवं राहत कार्य का प्रशिक्षण दिया जा रहा है। इस योजना के अन्तर्गत देश के 720 जनपदों में से 350 जनपदों में लगभग एक लाऽ आपदा मित्र तैयार करने की योजना है, जिसमें उत्तराऽण्ड के 02 जनपद हरिद्वार एवं उधमसिंहनगर शामिल हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने वर्ष 2024 तक देश को आपदा प्रबन्धन के क्षेत्र में नम्बर वन बनाने का लक्ष्य दिया है। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय आपदा प्रबन्धन प्राधिकरण द्वारा विभिन्न राज्यों में शेल्टर बनाए जा रहे हैं। यदि राज्य सरकार जमीन उपलब्ध करा दे तो उत्तराऽण्ड के प्रत्येक जनपद में आपदा से प्रभावित 3 हजार से 5 हजार लोगों के ठहरने हेतु शेल्टर बनाए जा सकते हैं। इस पर मुख्यमंत्री ने कहा कि इस प्रकार के शेल्टर आपदा प्रभावितों को राहत पहुंचाने में काफी मददगार साबित होंगे एवं इसके लिए राज्य सरकार की ओर से हर सम्भव सहायता की जाएगी। इस अवसर पर सचिव एस-ए- मुरूगेशन, मुख्य कार्यकारी अधिकारी उत्तराऽण्ड राज्य आपदा प्रबन्धन प्राधिकरण मती रिद्धिम अग्रवाल एवं अधिशासी निदेशक उत्तराऽण्ड राज्य आपदा प्रबन्धन प्राधिकरण पीयूष रौतेला भी उपस्थित थे।         


कंपार्टमेंट परीक्षा आयोजन पर रोक की मांग

नई दिल्ली। केंद्रीय माध्यमिक परीक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की परीक्षाओं में असफल रहे विद्यार्थियों के लिए कम्पार्टमेंट परीक्षा के आयोजन के निर्णय पर रोक की मांग को लेकर उच्चतम न्यायालय से आग्रह किया गया है। ऑल इंडिया स्टूडेंट्स एसोसिएशन (आइसा) ने महामारी के दौर में कम्पार्टमेंट परीक्षा का आयोजन कराने के सीबीएसई के फैसले को ‘कठोर’ निर्णय करार दिया है और उच्चतम न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश शरद अरविंद बोबडे और अन्य साथी न्यायाधीशों को ‘लेटर पिटीशन’ भेजकर इस मामले में हस्तक्षेप का अनुरोध किया है।


देश भर के 800 से अधिक विद्यार्थियों ने उच्चतम न्यायालय को पत्र भेजा है। एसोसिएशन के राष्ट्रीय महासचिव संदीप सौरभ की ओर से भेजे में पत्र के माध्यम से प्रार्थी विद्यार्थियों ने अदालत से आग्रह किया है कि वह इस मुद्दे पर स्वतः संज्ञान ले और महामारी समाप्त होने तक कम्पार्टमेंट परीक्षा आयोजित करने के फैसले को ठंडे बस्ते में डाल दे। छात्र संगठन ने महामारी के बीच ऑफलाइन परीक्षायें आयोजित कराने पर चिंता व्यक्त की है। उन्होंने कहा कि यह छात्रों/अभिभावकों/शिक्षकों और कर्मचारियों को जोखिम में डाल देगा। पत्र में स्पष्ट किया गया है कि छात्र कम्पार्टमेंट परीक्षा के महत्व का विरोध नहीं करते हैं, लेकिन वे इस संबंध में महामारी की स्थिति के कारण एक उचित दिशा- निर्देश चाहते हैं।              


कार्यकर्ताओं ने मंदिरों में श्रमदान किया

भानु प्रताप उपाध्याय


शामली। हिंदू युवा वाहिनी जिला शामली के कार्यकर्ताओं द्वारा मंदिरों में कृष्ण जन्म अष्टमी पर साफ सफाई पर श्रमदान किया गया और मंदिर को फूलों से सजाया गया।
हिंदू युवा वाहिनी जिला शामली के जिला प्रभारी बिट्टू कुमार, जिला संयोजक चौधरी रविंदर सिंह, कॉल खंडे, जिला वरिष्ठ उपाध्यक्ष अरविंद कौशिक के निर्देशन में गांव ऊन  ब्लॉक  के हिंदू युवा वाहिनी के कार्यकर्ताओं ने कृष्ण जन्माष्टमी पर गांव शाहपुर रसाना के शिव मंदिर आदि में साफ सफाई पर श्रमदान किया और फिर मंदिर को फूलों से सजाया गया इस अवसर पर जिला प्रभारी बिट्टू कुमार ने कहा जब धरती पर कंस ने अपना  आंतक फैला दिया  जब भगवान कृष्ण ने धरती पर अवतार लेकर कंस का वध  कर धरती को उसके द्वारा किए गए पाप से मुक्त किया तभी से हम कृष्ण जन्म उत्सव मनाते आ रहे हैं जिला संयोजक चौधरी रविंदर सिंह कॉल खंडे ने कहा जब जब धरती पर पाप बढ़ा हैं, तब तब भगवान ने किसी भी रूप में अवतार लेकर  उनका  वध कर उनका उद्धार किया इसलिए व्यक्ति को अपने धर्म के प्रति समर्पित रहते हुए सत्य मार्ग को अपनाना चाहिए इस अवसर पर ब्लॉक उपाध्यक्ष अरविंद बंजारा, ब्लॉक महामंत्री सुनील बंजारा, ब्लॉक मंत्री नितनेम  बंजारा, विकास बंजारा, अरुण बंजारा, जॉनी बंजारा, अनिल बंजारा, संजीव बंजारा, बंटी बंजारा, राहुल बंजारा, आदेश बंजारा, विशाल बंजारा, मिथुन बंजारा, डॉ रामकुमार आदि सम्मिलित रहे।           


महापुरुषों का सम्मान करती है कांग्रेस

आजादी के झरोखे मे शामिल हुए महापुरुषों का सम्मान करती कांग्रेस 
भानु प्रताप उपाध्याय


शामली। जिला कांग्रेस कमेटी व शहर कांग्रेस कमेटी के नेतृत्व मे महापुरुषों के सम्मान मे राष्ट्रीय झंडे व उनकी फोटो लेकर सलुट किया गया। राष्ट्रीय कांग्रेस महासचिव व उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी जी व माननीय श्री अजय कुमार जी विधायक प्रदेश अध्यक्ष माननीय श्री पंकज मलिक जी पुवॅ विधायक प्रदेश उपाध्यक्ष कांग्रेस के निर्देश पर हम जो आज भारत देश की भुमि पर स्वतंत्र है वो सब अपने महापुरुषों की वजह से है।
अपना खुन शीष कर इस भुमि पर स्वतंत्र रहेने का अधिकारी दिया। वरना वो भी दिन थे जब अंग्रेजी शासन नमक मिलाकर स्वतंत्रता सेनानियों के जख्मो पर डालते थे। 
इसी कारण हम सबको इन्हें याद करना चाहिए।
काफी काफी दिनो तक जंगलो मे भुखे पेट नींदो मे रह कर रात गुजराना। बहुत बडी बडी दुख भरी दास्तान है हमारे महापुरूषो की। सम्मान व सलुट करने वालो मे दीपक सैनी, कांग्रेस जिला अध्यक्ष प्रवीण तरार, जिला उपाध्यक्ष अनुज गोतम, शहर अध्यक्ष कांग्रेस जावेदखान, जिला सचिव श्यामलाल शमाॅ,  वरिष्ठ कांग्रेस वैभव गगॅ, पुवॅ शहर अध्यक्ष विनोद अत्री, वरिष्ठ कांग्रेस धमेन्द काम्बोज निन्ना अन्सारी आदि लोग शामिल हुए।


संजय दत्त फेफड़े के कैंसर से पीड़ित

 मुंबई। बॉलीवुड अभिनेता संजय दत्त को लंग कैंसर हो गया है। लीलावती अस्पताल से इलाज करा कर संजय दत्त हाल ही में डिस्चार्ज हुए थे। इसके बाद से की उनके कैंसर को चर्चाएं हो रही थीं। फिल्म क्रिटिक कोमल नाहटा ने सोशल मीडिया पर ट्वीट के जरिए इस बात की जानकारी दी हैं कि संजय दत्त को लंग कैंसर हो गया है। कोमल नाहटा ने मिडिया को बताया कि संजय दत्त के फेफड़ों में पानी भर गया था। उसे निकाला गया फिर टेस्ट करके स्टेज 4 का कैंसर डिटेक्ट किया गया। बताया जा रहा है कि संजय दत्त कैंसर के इलाज के लिए जल्द अमेरिका रवाना हो सकते हैं।


आपको बता दें कि आज ही संजय दत्त ने सोशल मीडिया पर बड़ा बयान जारी करते अपने ब्रेक का एलान किया था। अस्पताल से डिस्चार्ज होकर घर लौटे संजय दत्त ने ऐलान किया है कि वो वर्क फ्रंट से स्वास्थ्य कारणों से कुछ समय से किए ब्रेक ले रहे हैं। हालांकि उन्होंने सभी के किसी भी तरह की अफवाह ना फैलाने का अनुरोध भी किया है। संजय दत्त ने अपना बयान पोस्ट करते हुए लिखा, "हैलो दोस्तो, मैं मेडिकल ट्रीटमेंट के चलते अपने काम से कुछ समय का ब्रेक ले रहा हूं। मेरा परिवार और मेरे दोस्त मेरे साथ हैं। मैं अपने शुभचिंतकों से कहना चाहता हूं कि वो परेशान ना हो और कुछ भी फालतू का अंदाजा ना लगाएं। आपके प्यार और दुआओं से मैं जल्द लौटूंगा।"           


आरटी-पीसीआर लैब, सीएम उद्घाटन करेंगे

अश्वनी उपाध्याय


गाजियाबाद। कई हफ्तों की देरी के बाद अब गाज़ियाबाद के एमएमजी अस्पताल में लगी आरटी-पीसीआर लैब का उद्घाटन भी होने जा रहा है। खबर है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गुरुवार 13 अगस्त को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए लैब का उद्घाटन करेंगे। 


अस्पताल सूत्रों के अनुसार  लैब में आरटी-पीसीआर मशीन को इंस्टॉल किया जा चुका है और शुरूआती जांच प्रक्रिया भी पूरी हो चुकी है। इस लैब में प्रतिदिन लगभग 3000 कोरोना जांच हो सकेंगी। यह मशीन तीन घंटे में कोरोना के 96 सैंपल टेस्ट कर सकती है। यदि मशीन को 12 घंटे भी चलाया जाए तो लगभग 3000 जांच हो सकेंगी। जबकि जिले में प्रतिदिन तीन हजार आरटी-पीसीआर जांच का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। सीएमओ का कहना है कि बाकी सैंपल जांच के लिए मेरठ और जीबी नगर भेजे जाएंगे। बता दें कि कोरोना संक्रमण की जांच के लिए जिले में शुरू होने जा रही रियल टाइम पॉलिमर्स चेन रिएक्शन (आरटी-पीसीआर) लैब के जरिए केवल कोरोना ही नहीं वायरस से संबंधित लगभग सभी जांच हो सकेंगी। यह लैब कोरोना संक्रमण काल में ही नहीं बल्कि उसके बाद भी स्वास्थ्य विभाग के लिए बेहद कारगर साबित होगी। इस लैब के जरिए वायरस से फैलने वाली सभी बीमारियों की जांच हो सकेगी। इनमें स्वाइन फ्लू से लेकर सार्स, जीका और मर्स की भी जांच हो सकेंगी। उसके लिए मशीन में सॉफ्टवेयर और किट बदलनी होंगी।           


चीन ने ताइवान के भीतर भेजेंं जंगी जहाज

नई दिल्ली। चीन और ताइवान के बीच तनाव चरम पर पहुंचता नजर आ रहा है। अमेरिका के स्वास्थ्य मंत्री एलेक्स एजार की ताइवान यात्रा के बीच चीन ने अपने लड़ाकू विमानों को ताइवान के हवाई क्षेत्र के काफी अंदर तक भेज दिया। चीन की इस हरकत के बाद ताइवान ने एंटी एयरक्राफ्ट मिसाइलें दागी और फाइटर जेट भेजे। इसके बाद चीनी फाइटर जेट भाग खड़े हुए। बताया जा रहा है कि चीनी विमानों ने बेहद संवेदनशील ताइवान स्‍ट्रेट के मेडियन लाइन को कुछ देर के लिए पार कर ल‍िया था।



अमेरिकी मंत्री का दौरा, चीन का शक्ति प्रदर्शन


चीन ने यह कार्रवाई ऐसे समय पर की है जब अमेरिका के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री एलेक्स एजार के ताइपे की यात्रा पर हैं। चीन ने इस दौरे को लेकर राजनयिक माध्यम से सख्त विरोध दर्ज कराया है। यही नहीं विरोध स्‍वरूप चीनी लड़ाकू विमानों ने शक्ति प्रदर्शन करते हुए ताइवान के हवाई क्षेत्र में घुसपैठ की। इस स्व शासित द्वीप (ताईवान) पर करीब चार दशक में किसी उच्च पदस्थ अमेरिकी पदाधिकारी का यह प्रथम दौरा है। एजार ने ताईवान की राष्ट्रपति साई इंग-वेन से मुलाकात के साथ अपना तीन दिवसीय दौरा शुरू किया। अमेरिका के 1979 में राजनयिक मान्यता ताइपै से हटा कर पेइचिंग कर दिये जाने के बाद से ताइवान की यात्रा करने वाले एजार सर्वोच्च रैंक के कैबिनेट सदस्य हैं।            

वाहनों के चालान पर नई दर लागू हुई

अश्वनी उपाध्याय


गाजियाबाद। ट्रैफिक पुलिस गाज़ियाबाद ने भी अब नई दरों से चालान काटने शुरू कर दिए हैं। मंगलवार को जब नई दरों से चालान काटने शुरू किए गए तो सड़कों पर हाहाकार की स्थिति बन गई। हापुड़ चुंगी पर पुलिस ने ऐसे पांच ऑटो चालक पकड़े जिनके पास परमिट नहीं था। कुछ के पास लाइसेंस और आरसी भी नहीं था। ऐसे में पुलिस ने इन्हें 24 से 35 हजार तक के चालान थमा दिए। इतनी राशि का चालान देखकर ऑटो वालों के होश उड़ गए। एक ऑटो चालक तो वही सिर पकड़ कर बैठ गया।



दस गुना तक बढ़ गई है चालान की राशि


आपको बता दें कि पिछले साल भारत सरकार ने सड़क दुर्घटना रोकने के लिए मोटर व्हीकल एक्ट में संशोधन किया था। इसमें ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन रोकने के लिए शमन शुल्क में दस गुना तक का इजाफा किया गया था। हालांकि, उस समय उत्तर प्रदेश सरकार पहले ही शमन शुल्क बढ़ा चुकी थी, इसलिए भारत सरकार द्वारा पारित अधिनियम आंशिक तौर पर ही लागू किए गए थे। अब उत्तर प्रदेश सरकार ने 30 जुलाई को जारी आदेश के तहत पूरे प्रदेश में इस व्यवस्था को लागू कर दिया है। इससे सभी तरह के उल्लंघन के मामलों में शमन शुल्क दो गुने से भी अधिक हो गए हैं। संशोधित शमन शुल्क की लिस्ट सोमवार को ही पुलिस के मोबाइल ऐप में अपडेट कर दी गई है, वहीं मंगलवार की सुबह से नई दरों के हिसाब से चालान की कार्रवाई शुरू की गई है।


पुलिसवालों की भी बढ़ी दिक्कतें


एक ट्रैफिक पुलिसकर्मी ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि लोगों के पास इतनी बड़ी मात्रा में कैश नहीं होता है।  इसलिए मौके पर बड़ी राशि के चालान का भुगतान नहीं हो रहा है। ऐसे में वाहन मालिकों को चालान परिपत्र देकर गाड़ी जब्त कर ली जा रही है। यह गाड़ियां अदालत में चालान भुगतने के बाद रिलीज की जाएंगी। इस तरह की गाड़ियों में ज्यादातर व्यवसायिक वाहन हैं। अब इन गाड़ियों को थाने में खड़ा करना एक बड़ी समस्या बन जाएगा क्योंकि थाने में पहले से ही कबाड़ हो चुके वाहनों का अंबार लगा पड़ा है।           


हॉस्पिटल के बाहर संक्रमित को छोड़ा

अश्वनी उपाध्याय


गाजियाबाद। मंगलवार की शाम एक निजी अस्पताल की एंबुलेंस कोरोना संक्रमित महिला को ट्रांस हिंडन क्षेत्र के राजेन्द्र नगर स्थित ईएसआईसी अस्पताल के बाहर छोड़ कर भाग आई।  शाम सवा सात बजे की इस घटना के बारे में अस्पताल प्रबंधकों का कहना है कि निजी अस्पताल की एंबुलेंस ने कोरोना प्रोटोकॉल का पालन नहीं किया है जिसके बारे में मुख्य चिकित्सा अधिकारी और जिलाधिकारी कार्यालय को सूचित कर दिया गया है।



ईएसआइसी अस्पताल के कोरोना वार्ड के प्रभारी डॉ. विमल कुमार ने बताया कि मंगलवार शाम सात बजे गाजियाबाद स्थित निजी अस्पताल की एंबुलेंस अस्पताल के बाहर पहुंची और एक महिला को यहां छोड़ कर भाग गई है। जानकारी करने पर पता चला की महिला ईएसआई कार्ड धारक है। उसे निमोनिया था, जिसका उपचार निजी अस्पताल में चल रहा था। महिला की कोरोना जांच पॉजिटिव आने पर निजी अस्पताल के द्वारा महिला को ईएसआइसी अस्पताल के गेट पर छुड़वा दिया गया। डाक्टर विमल कुमार का कहना है अस्पताल में प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग के दिशानिर्देश पर ही कोरोना संक्रमितों को भर्ती किया जाता है। अस्पताल के गेट पर छोड़ी गई महिला के बारे में स्वास्थ्य विभाग और प्रशासनिक अधिकारियों को सूचित किया गया है। स्वास्थ्य विभाग के निर्देश पर संक्रमित महिला को उपचार के लिए संजय नगर स्थित अस्पताल ले जाया जा रहा है। वहीं सीएमओ डॉ. एनके गुप्ता ने हमेशा की तरह पूरे मामले की जानकारी होने से इनकार कर दिया और रटा-रटाया जवाब देते हुए कहा कि यदि संक्रमित महिला को गेट पर छोड़ कर भाग गए हैं तो यह कोविड प्रोटोकॉल का उल्लंघन है। जांच पड़ताल की जाएगी। जांच रिपोर्ट के आधार पर लापरवाह निजी अस्पताल के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।         


वर्मा बने गाजियाबाद के नए एसपी सिटी



अश्वनी उपाध्याय


गाजियाबाद। पुलिस विभाग में मंगलवार देर रात हुए फेरबदल में एसपी सिटी मनीष मिश्रा का बागपत ट्रान्सफर हो गया। उनकी जगह अब आईपीएस अभिषेक वर्मा गाज़ियाबाद के एसपी सिटी होंगे। अभिषेक वर्मा अभी तक बरेली में अपर पुलिस अधीक्षक के पद पर तैनात थे।  बागपत के निवर्तमान एसपी अनित कुमार को एसटीएस लखनऊ में तैनाती मिली है।


पीएसी सीतापुर के उप सेना नायक (II) नरेंद्र प्रताप सिंह को अपर पुलिस अधीक्षक (दक्षिणी), सीतापुर का अतिरिक्त प्रभार दिया गया है। जबकि निवर्तमान अपर पुलिस अधीक्षक (दक्षिणी), सीतापुर अखिलेश्वर पाण्डेय को पुलिस महानिदेशक कार्यालय के साथ सम्बद्ध किया गया है। आपको बता दें कि गाज़ियाबाद जनपद में काफी दिनों बाद किसी आईपीएस अधिकारी को एसपी सिटी बनाया गया है।




प्रकरण खत्म हो गया, मिलकर काम करेंगे

जयपुर। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा है कि अब तक चला प्रकरण अब समाप्त हो चुका है और हम सब मिलकर काम करेंगे। गहलोत ने आज यहां पत्रकारों से बातचीत में सचिन पायलट के बागी बनने के संबंध में पूछे सवाल पर कहा कि अब यह प्रकरण समाप्त हो चुका हैं और हम सब मिलकर काम करेंगे। यह प्रकरण भूलो और माफ करने की स्थिति में हैं। जहां तक हमारे कांग्रेस विधायको की सचिन पायलट ग्रुप के विधायको के संबंध में जो नाराजगी हैं, उस नाराजगी को भी दूर किया जायेगा। उन्हें समझाया जायेगा, वैसे उनकी नाराजगी वाजिब हैं, एक महीने तक लोकतंत्र बचाने के लिए घर परिवार से दूर रहे।


उन्होंने कहा कि विधायकों को समझाया गया है कि देश और प्रदेश और प्रदेशवासियों के और लोकतंत्र को बचाने के लिए हमें कई बार सहन करना भी पड़ता है। हम सब आपस में मिलकर काम करेंगे। जो हमारे साथी चले गए थे वो भी वापस आ गए हैं। उम्मीद है कि सब गिले-शिकवे दूर करके सब मिलकर हम प्रदेश की सेवा करने का संकल्प पूरा करेंगे।उन्होंने कहा कि आपस में भूलो और माफ करो और आगे बढ़ो, यह देश, प्रदेश, प्रदेशवासियों और लोकतंत्र के हित में है। उन्होंने कहा कि यह लड़ाई लोकतंत्र को बचाने की है, उसमें जो हमारे विधायकों ने इतना साथ दिया, सौ से अधिक विधायक एक साथ रहना इतने लंबे समय तक, अपने आप में बहुत बड़ी बात है जो हिंदुस्तान के इतिहास में कभी नहीं हुआ होगा। तो यह लोकतंत्र को बचाने की लड़ाई है, आगे भी जारी रहेगी यह हमारी लड़ाई और बाकि जो एपिसोड हुआ है, एक प्रकार से भूलो और माफ करो की स्थिति में रहें, सब मिलकर चलें क्योंकि प्रदेशवासियों ने विश्वास करके सरकार बनाई थी हमारी। हमारी सबकी जिम्मेदारी बनती है कि उस विश्वास को बनाए रखें हम लोग और प्रदेश की सेवा करें, सुशासन दें और सब मिलकर कोरोना का मुकाबला करें।


उन्होंने कहा कि ये जीत जो है, ये जीत असली प्रदेशवासियों की जीत है। पूरे प्रदेशवासियों ने जो हमारे विधायकों ने जो हौसला अफजाई की टेलीफोन कर- करके, कोई चिंता नहीं, महीना-दो महीना लग जाए परवाह मत करो, जीत सरकार की होनी चाहिए, सरकार स्थिर होनी चाहिए, उसके बाद में आप आओ हमारे घरों में। तो ये जो जज्बा था पूरे प्रदेशवासियों का, उसकी जीत है ये। मैं उनको बधाई देता हूं, धन्यवाद देता हूं प्रदेशवासियों को और विश्वास दिलाता हूं कि जीत हमारी सुनिश्चित है, आने वाले वक्त में और दोगुने जोश से सब काम करेंगे, आपकी सेवा करेंगे। विधायको को लिखे गए पत्र के संबंध में उन्होंने कहा कि यह पत्र पक्ष-विपक्ष, सबको लिखा था और उस पत्र का बड़ा प्रभाव पड़ा। उसी कारण से भाजपा के जो तीन-तीन विमान गुजरात भेजने के लिए हायर किये उनमें मुश्किल से एक जा पाया, वो भी पूरा नहीं भरा हुआ था और उनका कल से कैंप लगना था क्राउन प्लाजा होटल में, बैठक थी, वहीं रहना था, बाड़ेबंदी हो रही थी, जो कहते थे हमें बाड़ेबंदी क्यों कर रहे हो, ये क्या नौबत आ गई कि उनकी बाड़ेबंदी होने लग गई।


उससे जो हालात बने हैं प्रदेश के सामने, पूरी तरह सामने आ चुके है। पूरा खेल उनका था, सरकार गिराने का षड्यंत्र था, जो उन्होंने कर्नाटक एवं मध्यप्रदेश के अंदर जो कुछ भी किया, दुनिया जानती है और लोग पसंद भी नहीं करते हैं, वो ही षड्यंत्र राजस्थान का था जो पूरी तरह से ध्वस्त हो गया है। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र को बचाने के लिए कितना ही बड़ा संघर्ष करना पड़े, हम चूकेंगे नहीं और सत्य की जीत होती हैं। इसमें ना किसी की जीत होती हैं और ना ही किसी की हार।           


जांच के लिए कुल 2,60,15,297 नमूने लिए

नई दिल्ली। कोरोना वायरस कोविड-19 के संक्रमण का पता लगाने के लिए पिछले 24 घंटे के दौरान देशभर में 7,33,449 नमूनों की जांच की गई है। भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) की ओर से बुधवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक 11 अगस्त को देशभर में 7,33,449 नमूनों की जांच की गयी और इसके साथ ही अब तक जांच किये गये नमूनों की कुल संख्या 2,60,15,297 हो गयी है।


इस बीच देश में कोरोना परीक्षण लैब की संख्या बढ़कर 1,421 हो गयी है। पिछले 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 60,963 नये मामले सामने आने से अब तक संक्रमण के शिकार हुए व्यक्तियों की संख्या बढ़कर 23,29,638 हो गयी है। हालांकि 11 अगस्त को 56,110 संक्रमितों के रोगमुक्त होने और 834 मरीजों की माैत से संक्रमण के सक्रिय मामलों में मात्र 4,019 की तेजी आयी है। देश भर में इस समय #संक्रमण के 6,43,948 सक्रिय मामले हैं।                     

जल शक्ति विभाग में 2322 पदों पर भर्ती

शिमला। हिमाचल प्रदेश के जल शक्ति विभाग में अब 2322 पदों को भरने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। जिसमें पैरा कार्यकर्ता निति के दूसरे चरण को मंजूरी दे दी गई है । कैबिनेट बैठक में विभाग में पैरा स्टाफ नीति के तहत 718 पैरा पंप ऑपरेटर, 162 पैरा फिटर और 1442 बहुउदेशीय कार्यकतार्ओ की भर्ती शामिल होगी। ये कार्यकर्ता 486 पेयजल और 31 सिंचाई योजनाओं का संचालन करेंगे। इससे पहले 1378 पदों को भरने की मंजूरी दी गई थी।


इनमें पैरा वर्कर, पैरा फिटर, पैरा पंप आॅपरेटर्स के पद भरे जा रहे हैं। यह भर्ती विभाग के स्तर पर हो रही है। संबंधित मंडलों के एक्सईएन भर्ती कमेटी के अध्यक्ष हैं, जबकि एसडीओ, जेई सदस्य हैं। कई जगहों पर भर्ती पूरी हो गई है। अधिकांश में यह प्रक्रिया चल रही है। पैरा कार्यकर्ता 12 साल में पक्के होंगे। नियुक्तियो के बाद पैरा फिटर को 4300 रुपये और पैरा पंप आॅपरेटर को 3300 रुपये वेतन मिलेगा। ये विभाग के अधीन कार्य करेंगे।         

उपद्रवियों से सख्ती से निपटने के निर्देश

बेंगलुरु। कर्नाटक के बंगलूरू में कांग्रेस विधायक श्रीनिवास मूर्ति के घर पर हुई तोड़फ़ोड़ के बाद हालात अब सामान्य हो गए है। पुलिस ने धारा 144 लागू कर उपद्रवियों से कड़ाई से निपटने का ऐलान किया है। उधर हिंसा में मरने वालों की संख्या बढ़कर 3 हो गई है। पुलिस ने दर्जनों उन लोगों की चिन्हित किया है, जिन्होंने हिंसा फैलाई थी। अब इनसे सरकारी संपत्ति के नुकसान को लेकर वसूली भी की जाएगी। दरअसल बंगलुरु में कांग्रेस विधायक के भतीजे द्वारा कथित रूप से भड़काऊ सोशल मीडिया पोस्ट डालने के बाद हिंसा भड़क गई थी। नाराज लोगों की भीड़ ने विधायक मूर्ति के आवास पर तोड़फोड़ की। बड़ी संख्या में आए लोगों ने जमकर हंगामा किया और आगजनी भी की गई। भीड़ को काबू में करने के लिए पुलिस को फायरिंग करनी पड़ी। इसमें दो लोगों की मौके पर मौत हो गई थी। पुलिस ने 110 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। अभी भी गिरफ्तारी जारी है। उधर विधायक के घर के बाहर अतिरिक्त बल तैनात किया गया है | इलाके में धारा 144 लागू कर दी गई है। हालाँकि पुलिस ने मामला दर्ज कर सोशल मीडिया पर भड़काऊ पोस्ट डालने के आरोपी नवीन मूर्ति को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस आयुक्त कमल पंत ने बताया कि सोशल मीडिया पर भड़काऊ पोस्ट डाले जाने के बाद डीजे हल्ली इलाके में हुए उपद्रव में एक अतिरिक्त पुलिस आयुक्त समेत करीब 60 पुलिस कर्मचारी भी घायल हुए हैं। उनके मुताबिक भीड़ को काबू में लाने के लिए पुलिस ने खुली फायरिंग की थी | इसमें दो लोगों की मौत हो गई। जबकि एक घायल शख्स को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। हिंसा वाले इलाके में कर्फ्यू के बाद स्थिति सामान्य नजर आ रही है। इस घटना के बाद पूरे बेंगलुरु में धारा 144 लगा दी गई है। प्रशासन ने आपत्तिजनक पोस्ट डिलीट कर दी है। हालाँकि अब आरोपी का अकाउंट हैक होने की बात भी सामने आ रही है।


जनपद में वायरस से पहली मौत हुई

खटीमा। कोरोना ने खटीमा में पहली जान ली है। पीड़ित खटीमा के राजीव नगर का निवासी बताया जा रहा है। 56 वर्षीय इस व्यक्ति को साँस लेने में हो रही दिक्कत के बाद राजकीय चिकित्सालय में ले जाया गया जहाँ एंटीजेन टेस्ट में कोरोना पॉजिटिव पाए जाने पर उसे जिला चिकित्सालय भेज दिया गया था। जहां उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई।


मोदी के भरोसे हाथ पर हाथ रखकर न बैठें

नई दिल्ली। भाजपा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम पर ही पूरी पार्टी इस समय टिकी नजर आ रही है। अब पार्टी नेताओं को भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव राम माधव ने नसीहत दी है।भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव राम माधव ने पार्टी नेताओं से कहा है कि वे केवल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम के सहारे न बैठे रहें, बल्कि 2024 में देश की सत्ता पाने के लिए पूरे दमखम और ताकत के साथ अभी से जुट जाएं। उन्होंने कहा, मोदी के कंधों पर बंदूक रखकर लड़ाई में उतरने की कोशिश न करें। राम माधव ने कहा, मोदी अगले 10-15 साल तक प्रधानमंत्री रहेंगे। हम उनके सुशासन का फायदा चुनाव में उठाएंगे लेकिन केवल इतना ही पर्याप्त नहीं है। हमें देश की शक्तिशाली ताकत के रूप में उभरना है। भाजपा महासचिव आंध्र प्रदेश में एक कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने पार्टी के स्थानीय नेताओं से कहाकि उन्हें हर समय दिल्ली की तरफ देखना बंद करना होगा। स्थानीय जो भी जरूरत होगी, दिल्ली से पूरी की करेगी लेकिन पार्टी की स्थानीय इकाई को भी मेहनत करनी चाहिए और लोगों के लिए जमकर काम करना होगा तभी भाजपा को ताकतवर और मजबूत बनाया जा सकेगा।         


14 पैरों वाला दुर्लभ कॉकरोच खोजा

अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली। वैसे तो दुनिया में कई अजीबो-गरीब जीव-जंतु हैं। मगर अभी भी बहुत से ऐसे ही जीव हैं जो दुनिया की नजरों से छिपे हुए हैं। हाल ही में वैज्ञानिकों ने गहरे समुद्र में रहने वाले ऐसे ही एक दुर्लभ कॉकरोच पर एक अध्ययन किया, जिसमें कई चौंकाने वाली बातें सामने आई हैं। ये जीव 14 पैरों वाला है। इसकी लंबाई करीब डेढ़ फीट है। यह एक लकड़ी के पट्टे की तरह दिखता है, जो गहरे समुद्र में पाया जाता है। इस अनोखे जीव की खोज साल 2018 में हिंद महासागर में हुई थी। वैज्ञानिकों ने कॉकरोच की इस दुर्लभ प्रजाति को महासागर के जावा पश्चिम क्षेत्र में खोजा था। इस खास जीव पर रिसर्च के लिए 31 वैज्ञानिकों ने मिलकर काम किया। इसमें नेशनल यूनिवर्सिटी ऑफ सिंगापुर और ली कोंग चियान प्राकृतिक इतिहास संग्रहालय ने अहम भूमिका निभाई। शोध में पता चला कि किसी लकड़ी के पट्टे की तरह लगने वाला ये जीव बैथिनोमस प्रजाति का है। ये घरेलू कॉक्रोच से काफी बड़े होते हैं। कई बार तो ये 50 से 70 सेंटीमीटर तक के भी होते हैं।


इस जीव पर अध्ययन के लिए साल 2018 में लगभग दो हफ्ते तक खोज चली। इसके बाद समुद्री तटों के अलग-अलग 63 जगहों पर तलाशी ली गई। इस साल जुलाई में इसके नतीजे एक बायो जर्नल जूकीज में रखे गए। शोध में शामिल वैज्ञानिक कोनि एम सिदाबलोक और हेलेन पीएस वॉन्ग ने बताया कि इस समुद्री जीव को बैथिनोमस राकसा नाम दिया गया है। ये एक इंडोनिशियाई नाम है। इसमें राकसा शब्द जुड़ा है जिसका मतलब है काफी बड़ा। ये समुद्री इनवर्टिब्रेट की श्रेणी में आते हैं। इनकी रीढ़ की हड्डी नहीं होती है। अपने विशाल आकार के कारण इन्हें समुद्र का कोकरोच भी कहा जा रहा है। दुनिया में सुपरजाइंट आइसोपोड्स की अभी तक केवल सात प्रजातियां हैं। ये उस प्रजाति का दूसरा सबसे बड़ा जीव माना जा रहा है। इस कॉक्रोच के 14 पैर होते हैं। ये इनका इस्तेमाल समुद्र में शिकार की खोज के लिए करते हैं।           


घरेलू उपचार से हटाए अनचाहे तिल

डी नंदिनी


कहा जाता है कि फेस पर काला तिल होना खूबसूरती की निशानी होता है। वहीं अगर ये तिल दो या उससे भी ज्यादा तो आपका फेस भद्दा लगने लगता है। वैसे तो तिल हटाने के लिए लेजर थेरेपी का यूज किया जाता है। वहीं सर्जरी करवाने के लिए हर कोई राजी नहीं होता है। आपको बता दें कि घर के नुस्खे अपनाकर भी तिल को हटाया जा सकता है। इसी बीच आज हम आपकी मदद के लिए तिल हटाने के उपाय बताने जा रहे हैं। तो आइए जानते हैं तिल हटाने के उपाय के बारे में।


अनानास


पाइन एप्पल यानि अनानास फेस के डेड सेल्स को साफ करने का काम करता है। अनानास में एंजइम्स और साइट्रिक एसिड मौजूद होता है, जो पिगमेंटेशन को हटाने में मदद करता है, जिससे तिल भी निकल जाते हैं।


ऐसे करें इस्तेमाल


फ्रेश अनानास का रस निकालें। अब इसमें कॉटन डिप करके प्रभावित क्षेत्र पर लगाएं। इसके बाद अब इसपर अब चिपकने वाली पट्टी या टेप लगा दें। जल्दी रिजल्ट पाने के लिए इसे हर रोज दिन में दो बार करें।


अरंडी का तेल और बेकिंग सोडा


अरंडी के तेल में एंटीऑक्सीडेंट पाया जाता है। जो तिल को हटाने में मदद करता ही है साथ ही स्किन से जुड़ी कई समस्याओं का ऊी समाधान करता है। बेकिंग सोडा मिलने से यह स्किन को एक्सफोलिएट करता है जिससे धीरे धीरे तिल निकल जाते हैं।


ऐसे करें इस्तेमाल


अरंडी के तेल की कुछ ड्रॉप को चुटकीभर बेकिंग सोडा में मिक्स करें। फिर फेस को वॉश करने के बाद इस पेस्ट को तिल पर लगाएं। कोशिश करें कि इसे रातभर लगा रहने दें नहीं को दिन में कुछ घंटो के लिए लगाकर ऐसी ही छोड़ दें। फिर पानी से साफ कर लें। कुछ ही दिनों में आपको रिजल्ट दिख जाएगा।


लहसुन का पेस्ट


तिल हटाने का यह सबसे पेस्ट तरीका है। लहसुन में कुछ एंजाइम मौजूद होते हैं। जो पिगमेंटेशन बनाने वाली सेल्स को खत्म करने में मदद करते हैं। इसके साथ ही यह तिल को भी हटाते हैं।


ऐसे करें इस्तेमाल


इसके लिए आप 2 बड़े लहसुन तो पीसें। इसके बाद इस पेस्ट को तिल पर अच्छे से लगाएं। इस पेस्ट को रातभर लगा कर छोड़ दें। कुछ दिनों में तिल गायब हो जाएगा।             


 


सोने में एक साथ 5 फ़ीसदी गिरावट आई

कविता गर्ग


मुंबई। कोरोना वैक्सीन को लेकर लगातार आ रही पॉजिटिव खबरों के चलते दुनियाभर के शेयर बाजारों में खरीदारी लौटी है। इसकी वजह से सोने की कीमतों में तेज गिरावट दर्ज हुई है। न्यूज एजेंसी रॉयटर्स (Reuters) के मुताबिक, अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सोने की कीमतें 5 फीसदी से ज्यादा गिर गई। एक्सपर्ट्स का कहना है कि घरेलू बाजारों में सोने की कीमतें और गिर सकती है। मौजूदा स्तर से कीमतें 5-8 फीसदी तक की गिरने की संभावना है। आपको बता दें कि मंगलवार को दिल्ली सर्राफा बाजार में सोना (Gold Price Down) 1,317 रुपये प्रति दस ग्राम तक सस्ता हो गया। वहीं, एक किलोग्राम चांदी (Silver Price Down) के दाम 2,943 रुपये घट गए।


ऐसा क्या हुआ, जिसकी वजह से सोने में गिरावट आई- अमेरिकी शेयर बाजारों में मंगलवार की रात को खरीदारी लौटी है, जिसकी वजह से निवेशकों का रुझान अब फिर से शेयर बाजार की ओर मुड गया है। बाजारों पर कोरोना वैक्सीन की खबरों का सकारात्मक असर देखने मिला। अमेरिकी शेयर बाजार का प्रमुख बेंचमार्क इंडेक्स S&P 500 नए रिकॉर्ड स्तर के बेहद करीब पहुंच गया। अब क्या होगा- एक्सपर्ट्स बताते हैं कि सोना अक्सर मुश्किल समय पर चमकता है। 1970 के दशक में आई मंदी में सोने की कीमतें नए शिखर पर पहुंची। इसके बाद 2008 की आर्थिक मंदी में भी ऐसा ही दौर देखने को मिला। आंकड़ों पर नज़र डालें तो 80 के दशक मे सोना सात गुना से अधिक चढ़कर 850 डॉलर प्रति औंस की रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंच गया था। यह 2008 के वैश्विक वित्तीय संकट के बाद फिर से बढ़ गया, जो 2011 में 1900 डॉलर के पार चला गया. लेकिन फिर काफी गिर गया था। इसीलिए अब माना जा रहा है कि अगर कोरोना की वैक्सीन आ गई और ये पूरी तरह से सफर रही तो सोने की कीमतों में तेज गिरावट देखने को मिलेगी।


23,29,638 संक्रमित, 40,091 लोगों की मौत

नई दिल्ली। दुनिया में सबसे तेजी से संक्रमण भारत में फैल रहा है। देश में कुल संक्रमितों की संख्या 23 लाख के पार पहुंच गई है। स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के मुताबिक, देश में अबतक 23 लाख 29 हजार 638 लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं। इनमें से 46,091 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 16 लाख 39 हजार लोग ठीक भी हुए हैं। पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस के 60,963 नए मामले सामने आए और 834 मौतें हुईं। ये आंकड़ा दुनिया में सबसे ज्यादा है। अमेरिका और ब्राजील में बीते दिन क्रमश: 52,956 और 54,923 नए मामले आए हैं।


कोरोना संक्रमितों की संख्या के हिसाब से भारत दुनिया का तीसरा सबसे प्रभावित देश है। अमेरिका, ब्राजील के बाद कोरोना महामारी से सबसे ज्यादा प्रभावित भारत है। लेकिन देश में कोरोना मामले बढ़ने की रफ्तार भी दुनिया में पहले नंबर पर बनी हुई है। अगर प्रति 10 लाख आबादी पर संक्रमित मामलों और मृत्युदर की बात करें तो अन्य देशों की तुलना में भारत की स्थिति बहुत बेहतर है। भारत से अधिक मामले अमेरिका (5,304,394), ब्राजील (3,112,393) में हैं।


मृत्यु दर गिरकर 1.97 फीसदी हुई
स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से जारी किए गए ताजा आंकड़ों के मुताबिक, देश में कुल 23 लाख मामले सामने आ चुके हैं। इन मामलों में एक्टिव मरीजों की संख्या 6 लाख 44 हजार है। आंकड़ों के मुताबिक, मृत्यु दर गिरकर 1.97 फीसदी पर आ गई है।


देश में कोरोना वायरस के लिए जांच की क्षमता को बढ़ाते हुए एक दिन में सात लाख से अधिक नमूनों की जांच की गयी है और अब तक 2.57 से ज्यादा नमूनों की जांच की जा चुकी है। मंत्रालय ने कहा कि एक दिन में जांच की संख्या तेजी से बढ़ रही है और भारत में पिछले कई दिन से रोजाना छह लाख से अधिक नमूनों की जांच की जा रही है।


बेंगलुरु हिंसा में 3 की मौत, 110 गिरफ्तार

*हमर-देस+हमर-प्रदेस*



बेंगलुरु हिंसा में गई 3 की जान, 110 गिरफ्तार


फेसबुक पोस्ट से खफा होकर कुछ लोगों ने विधायक के घर पर किया हमला
कई वाहनों को फूंका गया और तोडफ़ोड़ की गई


कर्नाटक। कोरोना संकट काल में जब हर किसी को भीड़ में जाने से बचने के लिए कहा जा रहा है, ऐसे वक्त में कर्नाटक के बेंगलुरु में बवाल हो गया। मंगलवार देर रात एक फेसबुक पोस्ट से आहत हुए कुछ लोगों ने हंगामा मचाया, पुलिस स्टेशन और विधायक के घर को आग के हवाले कर दिया। अब बुधवार की सुबह जब रोशनी में सारी तस्वीर साफ हुई तो बेंगलुरु की सड़कों पर क्या तांडव हुआ ये दिख पाया। यहां गाडिय़ों को जला दिया गया है, एटीएम में तोडफ़ोड़ की गई। विधायक के घर पर हमला करने के अलावा आसपास के लोगों के घरों पर भी हमला किया गया, जिसके कारण लोगों के घरों की खिड़कियां भी टूट गईं। इस हिंसा में 3 लोगों की मौत हुई है, जबकि 60 पुलिसकर्मी घायल हुए हैं। पुलिसकर्मी के अनुसार करीब 200-250 वाहनों में आग लगाई गई है, इसकी जांच की जा रही है।बुधवार की सुबह स्थानीय निवासी जब घर से बाहर निकले तो हर ओर बाइक-गाड़ी टूटी बिखरी हुई पड़ी थी, इसके अलावा पत्थरों का सैलाब भी था। अभी हिंसा वाले इलाके में कफ्र्यू लगा दिया गया है, जो आज रात 12 बजे तक रहेगा। उसके बाद हालात को देखते हुए फैसला लिया जाएगा। मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने ट्वीट कर हिंसा की निंदा की है। सीएम ने लिखा कि उन्होंने दोषियों पर कड़ी कार्रवाई करने के आदेश दिए हैं, साथ ही सरकार भीड़ के खिलाफ सही एक्शन ले रही है। येदियुरप्पा ने लिखा कि मीडिया, पुलिस और लोगों पर हमला करना ठीक नहीं है, ये बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। लोग शांति बनाकर रखें। दरअसल, बेंगलुरु के हाली पुलिस स्टेशन इलाके में कांग्रेस विधायक के करीबी द्वारा एक फेसबुक पोस्ट लिखा गया। इस पर कुछ लोगों को आपत्ति हुई और वो इसकी शिकायत दर्ज कराने पुलिस स्टेशन में पहुंचे। लेकिन, पुलिस ने आपसी तरीके से मामला सुलझाने के लिए कह दिया।इसी के बाद कई लोगों की भीड़ पुलिस स्टेशन के बाहर इक_ा हो गई और नारेबाजी करने लगी। देखते-देखते ही बवाल हो गया और पत्थरबाजी शुरू हो गई। इसके बाद बेकाबू भीड़ ने पुलिस स्टेशन, विधायक को घर को अपना निशाना बनाया। वहां तोडफ़ोड़ की, आगजनी की और पुलिस के दर्जनों वाहन को भी फूंक दिया। इस पूरे बवाल में 60 से अधिक पुलिसकर्मी घायल हो गए, भीड़ को काबू में लाने के लिए पुलिस ने खुली फायरिंग की। इसमें दो लोगों की मौत हो गई। अभी हिंसा वाले इलाके में कफ्र्यू लगाया गया है, जबकि पूरे बेंगलुरु में धारा 144 लगा दी गई है।             


रूस की वैक्सीन का आकलन बाकी है

अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली। कोरोना वायरस संक्रमण के खिलाफ वैक्सीन का इंतजार कर रही पुरी दुनिया के सामने 11 अगस्त को रूस ने अपनी वैक्सीन पेश कर दी। इस वायरस के खिलाफ ये पहली वैक्सीन है, जिसे हरी झंडी मिली है, लेकिन इसके प्रभावशाली होने पर लगातार संदेह जताया जा रहा है। दुनिया के तीसरे सबसे ज्यादा प्रभावित देश भारत में भी इस वैक्सीन को उतारने से पहले सुरक्षा के लिहाज से इसके असर को आंका जाएगा। ये कहना है देश के सबसे बड़े अस्पताल एम्स के निदेशक डॉ रणदीप गुलेरिया का।


बड़ी मात्रा में वैक्सीन विकसित कर सकता है भारतः गुलेरिया


रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने मंगलवार को दुनिया के सामने कोरोना की पहली वैक्सीन का एलान किया। रूस ने इसका नाम ‘स्पुतनिक’ रखा है। हालांकि, पिछले कुछ दिनों से ही रूसी वैक्सीन को लेकर चर्चा थी और तब से ही इस पर संदेह जताया जा रहा था।


रूसी वैक्सीन के मुद्दे पर एम्स निदेश डॉ गुलेरिया ने कहा, “अगर रूस की वैक्सीन सफल होती है, तो हमें बारीकी से ये देखना होगा कि ये सुरक्षित और प्रभावी है। इस वैक्सीन के कोई साइड इफेक्ट्स नहीं होने चाहिएं और इससे मरीज अच्छी प्रतिरोधक क्षमता और सुरक्षा मिले। डॉ गुलेरिया ने कहा कि अगर ये वैक्सीन सही साबित होती है तो भारत के पास बड़ी मात्रा में इसके निर्माण की क्षमता है।


पहली-दूसरी स्टेज में भारतीय वैक्सीन


भारत में भी अभी दो वैक्सीन पर काम चल रहा है। आईसीएमआर और भारत बायोटेक के सहयोग से विकसित की जा रही वैक्सीन का पहली और दूसरी स्टेज का मानवीय परीक्षण चल रहा है, जबकि यही स्थिति जायडस कैडिला की ओर से बन रही वैक्सीन की भी है। देश में कोरोना संक्रमण के अबतक 22.68 लाख से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं, जिनमें से 45 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि लगभग 16 लाख लोग अभी तक ठीक हो चुके हैं।


चलती बस में लगी आग, 5 यात्री जिंदा जले




 कर्नाटक में चलती बस में लगी आग, 5 यात्री जिंदा जले












चित्रदुर्ग। कर्नाटक के चित्रदुर्ग जिले में आज सुबह विजयपुरा से बेंगलुरु जा रही प्राइवेट बस में भीषण आग लग गयी। इस हादसे में जिंदा जलकर 5 लोगों की दर्दनाक मौत हो गयी। बताया जा रहा है कि यह घटना चित्रदुर्ग जिले के नेशनल हाइवे पर हुई है।



मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, इस प्राइवेट बस में 32 यात्री सवार थे और जिले के नेशनल हाइवे 4 पर केआर हल्ली के पास आग लग गई। इस घटना में 5 यात्रियों की मौत हो गयी। मरने वालों में दो बच्चों के साथ एक महिला भी शामिल है।


प्राइवेट बस इस तरह हुई हादसे का शिकार


मिली जानकारी के मुताबिक, निजी बस के इंजन में कोई खराबी हुई। इस वजह से यह दर्दनाक हादसा हो गया। इस हादसे में पांच लोगों की मौत हुई है और कई यात्री घायल भी हुए हैं। हादसे की जानकारी मिलने के बाद घटनास्थल पर एसपी राधिका पुलिस बल के साथ पहुंचीं। सभी घायलों को इलाज के लिए नजदीक के जिला सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वहीं, पुलिस ने एफआईआर दर्ज करके आगे की जांच शुरू कर दी।











प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

यूनिवर्सल एक्सप्रेस   (हिंदी-दैनिक)


 अगस्त 13, 2020, RNI.No.UPHIN/2014/57254


1. अंक-364 (साल-01)
2. बृहस्पतिवार, अगस्त 13, 2020
3. शक-1943, भाद्रपद, कृष्ण-पक्ष, तिथि- नवमी, विक्रमी संवत 2077।


4. सूर्योदय प्रातः 05:15,सूर्यास्त 07:15


5. न्‍यूनतम तापमान 27+ डी.सै.,अधिकतम-37+ डी.सै.। आद्रता बनी रहेगी।


6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7. स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहींं है।


8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।


9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.,201102


www.universalexpress.in


https://universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :-935030275


(सर्वाधिकार सुरक्षित)                  


एमपी: परिजन ने मिट्टी का तेल डालकर लगाईं आग

मनोज सिंह ठाकुर       भोपाल। मध्य प्रदेश के सागर जिले के एक गांव में 25 वर्षीय युवक पर कथित तौर पर प्रेम प्रसंग के चलते युवती के परिजन ने मि...