गुरुवार, 25 मार्च 2021

भारत-रूस के संबंधों पर यूएस कांग्रेस को खरी-खरी

वाशिंगटन डीसी/ मास्को/नई दिल्ली। अमेरिकी सेना के इंडो-पैसिफिक कमांड के चीफ बनने जा रहे एडमिरल जॉन एक्वीलिनो ने भारत रूस के संबंधों को लेकर यूएस कांग्रेस को जमकर खरी-खरी सुनाई। उन्होंने अपने नाम की पुष्टि के लिए यूएस कांग्रेस में हो रही सुनवाई के दौरान कहा कि अमेरिका को यह समझने की जरूरत है, कि सुरक्षा सहयोग और सैन्य साजो सामान के लिए भारत के रूस के साथ पुराने संबंध हैं। उन्होंने रूस से भारत के एस-400 मिसाइल सिस्टम की खरीद को लेकर भी प्रतिबंधों को न लगाने की वकालत की।
सुनवाई के दौरान अमेरिकी सीनेटर जीन शाहीन ने सवाल किया कि क्या हमें भारत पर प्रतिबंध लगाना चाहिए ? अगर वह एस-400 खरीदते हैं तो? इसके जवाब में एडमिरल जॉन एक्वीलिनो ने कहा कि वह हथियारों को खरीदने के लिए प्रतिबंधों का सहारा लेने के बजाय भारत को रूस से दूर करने की कोशिश करेंगे। एक्वीलिनो ने कहा कि मुझे लगता है कि यह फैसला मैं नीति निर्माताओं पर छोड़ दूंगा। मुझे लगता है कि हमें यह समझना चाहिए कि हम भारत के साथ कहां खड़े हैं और मुझे लगता है कि विकल्प उपलब्ध कराने का कदम ज्यादा बेहतर है।

गाजियाबाद में होली पर बंद रहेंगे शराब के ठेके, आदेश

अश्वनी उपाध्याय       
गाजियाबाद। शराब खरीद कर प्रदेश की अर्थव्यवस्था में अपना योगदान देने वाले प्रेमियों के लिए एक निराशाजनक खबर है। जिलाधिकारी अजय शंकर पाण्डेय द्वारा जारी एक आदेश के अनुसार होली के अवसर पर 29 मार्च को जिले के सभी शराब, बियर और भांग के ठेके बंद रहेंगे। आदेश में लिखा है कि जनपद में लोक शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए संयुक्त प्रांत आबकारी अधिनियम 1910 की धारा-59 के अंतर्गत प्रदत्त अधिकारों का प्रयोग करते हुए जनपद गाज़ियाबाद में स्थित समस्त स्थानों पर मदिरा, बियर और भांग की बिक्री और परिवहन बंद रहेगा।  

130 लीटर अवैध शराब के साथ 8 अभियुक्त अरेस्ट

कौशाम्बी। पुलिस अधीक्षक के निर्देशन में अवैध शराब के निर्माण तस्करी के विरुद्ध चलाए जा रहे अभियान के अंतर्गत विभिन्न थानों द्वारा आठ अभियुक्तों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से 130 लीटर अवैध शराब बरामद की गई है। सभी अभियुक्तों के खिलाफ अभियोग दर्ज कर चालान न्यायालय भेज दिया गया है। पिपरी थाना क्षेत्र के गौसपुर गांव में छापा मारकर उप निरीक्षक अवध राज यादव ने आरोपी को गिरफ्तार किया है। इसी प्रकार कलाधाम कोतवाली क्षेत्र के लहरी गांव में उप निरीक्षक मनोज कुमार यादव ने छापा मारकर सोनम पत्नी कन्हाई लाल को गिरफ्तार किया है। वही, उप निरीक्षक मनोज कुमार यादव ने जगरिया पत्नी स्वर्गीय चौबे सरोज निवासी लहरी को 10 लीटर के साथ गिरफ्तार किया। वहीं उप निरीक्षक मनोज कुमार यादव ने 10 लीटर अवैध शराब के साथ देव रत्ती पत्नी स्वर्गीय विजय निवासी लहरी को भी गिरफ्तार किया है। थाना क्षेत्र सुधीन का पुरवा में उपनिरीक्षक बलराम सिंह ने छापा मारकर 30 लीटर अवैध शराब के साथ उर्मिला देवी पत्नी भीमसेन पटेल को गिरफ्तार किया है। जबकि, पश्चिम सरीरा पुलिस के उपनिरीक्षक प्रवेश कुमार यादव ने 10 लीटर अवैध शराब के साथ रामवती पत्नी राजाराम पासी निवासी सादुल्लापुर तथा 30 लीटर अवैध शराब के साथ मुन्ना पासी पुत्र महबूब पासी निवासी देवरी को गिरफ्तार किया है। जबकि, पंचा उपनिरीक्षक शिव कुमार मिश्रा ने रमई पासी पुत्र स्वर्गीय पिटाई पासी निवासी हिसाब बात को 14 लीटर अवैध शराब के साथ गिरफ्तार किया सभी अभियुक्तों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर जेल भेज दिया गया।
अजीत कुशवाहा 

सब इंस्पेक्टर ने 2 इनामी बदमाशों को किया गिरफ्तार

राणा ओबराय       
नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली के प्रगति मैदान (भैरो सिंह रोड) के पास दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच और दिल्ली के टॉप मोस्ट बदमाशों के बीच मुठभेड़ हुई है। इसमें दो बदमाशों को गोली लगी है।
पुलिस ने दोनो बदमाशों को दबोच लिया है। मुठभेड़ में घायल इनामी बदमाश का नाम रोहित चौधरी है जो साउथ दिल्ली इलाके का कुख्यात है। पुलिस को सालों से इसकी तलाश थी। दिल्ली पुलिस ने इस पर लाखों का ईनाम रखा था।मुठभेड़ के दौरान दूसरे बदमाश टीटू को भी गोली लगी, उस पर भी लाखों का ईनाम रखा गया था। बीती रात हुए इस एनकाउन्टर में क्राइम ब्रांच की महिला सब इंस्पेक्टर प्रियंका ने ही 4 लाख के ईनामी बदमाश रोहित चौधरी के पैर में गोली मारी। बदमाशों ने महिला एसआई प्रियंका पर चलाई गोली, जवाबी कार्रवाई में अपराधियों को घायल कर पकड़ापुलिस के मुताबिक रोहित ने पहले फायरिंग की जो प्रियंका और एसीपी पंकज सिंह के बुलेटप्रूफ जैकेट में लगी। इसके बाद प्रयंका ने उसका पीछा करते हुए बदमाशों के पैर में गोली मार दी। प्रियंका पिछले तीन महीने से अपनी टीम के साथ रोहित चौधरी को ट्रैक कर रहीं थीं।एनकाउन्टर में दूसरा बदमाश जो घायल हुआ है। उस पर 2 लाख का ईनाम था। दिल्ली में ऐसा शायद ही देखने को मिला हो कि कोई महिला पुलिसकर्मी एनकाउन्टर में शामिल हुई हो और उसने मुठभेड़ में किसी बदमाश को गोली मारी हो।24 और 25 मार्च की रात को पुलिस को विशिष्ट जानकारी मिली थी कि गैंगस्टर रोहित चौधरी अपने सहयोगी के साथ ब्लू रंग की ग्लेंजा कार में भैरो मार्ग पर आएगा। इस सूचना पर भैरो मार्ग पर पार्किंग के पास जाल बिछाया गया। सुबह करीब 4।50 बजे एक ब्लू कलर की कार रिंग रोड की तरफ से आती हुई दिखाई दी, कार को बैरिकेड लगाकर रुकने के लिए कहा गया, लेकिन ड्राइवर ने बैरिकेड को टक्कर मार दी और भागने की कोशिश करते हुए पुलिस टीम पर गोलियां चलाने लगा।पुलिस टीम ने भी आत्मरक्षा में गोलियां चलाईं। बदमाशों द्वारा चलाई गई एक गोली एसीपी पंकज की बीपी जैकेट पर और दूसरी गोली एसआई प्रियंका के बीपी जैकेट पर लगी। इसके बाद प्रियंका ने बदमाशों को गोली मार दी। दोनों गैंगस्टर के पैर में चोटें आईं। पीसीआर वैन ने उन्हें तुरंत आरएमएल अस्पताल में भर्ती कराया। दोनों आरोपी एमएसीओसीए मामले के साथ-साथ कई अन्य हत्याओं और डकैती के मामलों में वांछित था।

गांधी सभागार में सिटी ट्रांसपोर्ट की बैठक आयोजित

बृजेश केसरवानी       
प्रयागराज। सिटी बसों के मेंटिनेंस हेतु नया टेण्डर करने, आर्थिक नुकसान की भरपायी हेतु नई कार्ययोजना बनाये जाने का निर्देश दिया। मण्डलायुक्त संजय गोयल की अध्यक्षता में गुरूवार को गांधी सभागार में सिटी ट्रांसपोर्ट की बैठक आयोजित की गयी। बैठक में नगरीय बसों के संचालन, उनके मेंटिनेंस और उससे होने वाले आय-व्यय की समीक्षा करते हुए मण्डलायुक्त ने नगरीय बसों की रिपेयरिंग एवं मेंटिनेंस हेतु नामित मेसर्स श्यामा श्याम सर्विस सेंटर की अवधि को 30 जून तक बढ़ाये जाने का निर्णय लिया गया। मण्डलायुक्त ने इस अवधि में नया टेण्डर निकाले जाने का निर्देश दिया है। बैठक में कम्पनी के द्वारा बताया गया कि सिटी बसों के संचालन में आर्थिक नुकसान हो रहा है। मण्डलायुक्त ने नगरीय बस सेवा में हो रहे आर्थिक नुकसान हेतु नई कार्ययोजना बनाकर आय को बढ़ाने के लिए कहा है। उन्होंने आर्थिक नुकसान वाले मार्गों का चिन्हीकरण कर वहां पर बसों के संचालन हेतु नई कार्य योजना बनाने के लिए निर्देशित किया गया। बैठक में सिटी ट्रांसपोर्ट सर्विसेज लिमेटेड के अधिकारियों के द्वारा बताया गया कि जून-जुलाई माह तक 50 इलेक्ट्रानिक बसों के आने की सम्भावना है। मण्डलयुक्त ने  प्रयागराज सिटी ट्रांसपोर्ट सर्विसेज के पिछले 10 वर्षों की वार्षिक वित्तीय रिपोर्ट की समीक्षा हेतु तीन सदस्यीय कमेटी गठित कर बोर्ड के समक्ष रिपोर्ट प्रस्तुत करने का निर्देश दिया है। इस अवसर पर जिलाधिकारी श्री भानु चन्द्र गोस्वामी, पीडीए के उपाध्यक्ष-श्री अंकित अग्रवाल, नगर आयुक्त- रवि रंजन ट्रांसपोर्ट सर्विसेज के अधिकारीगणों के अलावा अन्य सम्बंधित अधिकारीगण उपस्थित रहे।

नगद धन लूटने वाले बदमाशों की गिरफ्तारी की मांग

बृजेश केसरवानी       
प्रयागराज। घूरपुर थाना क्षेत्र के अंतर्गत इरादतगंज के सर्राफा व्यापारी शिव कुमार सोनी को गोली मारकर जेवरात और नगद धन लूटने वाले बदमाशों को तत्काल गिरफ्तारी की मांग। अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मंडल एवं उत्तर प्रदेश युवा उद्योग व्यापार मंडल, यह प्रांतीय संगठन मंत्री जिला अध्यक्ष ने पुलिस अधीक्षक जमुना पार से मोबाइल पर वार्ता करके घटने के तत्काल खुलासा करने की मांग की है। जल्द खुलासा ना होने पर व्यापार मंडल धरना , प्रदर्शन, करने के लिए बाद होगा। क्योंकि, व्यापारियों का इसी प्रकार से आए दिन लूट, हत्या, होती रहती है और आज गुरुवार तक तक किसी भी घटने का खुलासा नहीं कर पा रहे हैं। जिससे व्यापारी बिल्कुल भयभीत है और आक्रोशित हैं। घटना की सूचना पाकर संरक्षक राजीव  कृष्णा श्रीवास्तव बंटी भैया, नगर महामंत्री अनूप वर्मा, जिला संगठन मंत्री राजेश केसरवानी, रिंकू वर्मा चैन, नीरज खरे, संजय वर्मा आदि पदाधिकारियों ने घटनास्थल पर पहुंचकर संगठन की उपस्थिति दर्ज कराई एवं घटना की पूरी जानकारी लेते हुए मेडिकल पहुंचकर पीड़ित परिवार से मुलाकात करके आवश्यक सेवा उपलब्ध कराई गई। 

आदमी पंखे से लटका, औरत जमीन पर पड़ी थी

बृजेश केसरवानी    
प्रयागराज। थाना दारागंज अंतर्गत कच्ची सड़क माँ सरस्वती बाल शिक्षा निकेतन स्कूल की गली में किराये पर पति-पत्नि रहते थे। गुरुवार को मकान माल्किन सुबह ऊपर गई तो देखा कि आदमी पंखे से लटका था और औरत जमीन में पड़ी थी। दरवाजा अंदर से बंद था। तुरंत, मकान मालकिन ने थाने को सूचित किया। मौके पर थाना दारागंज प्रभारी जयप्रकाश शाही पुलिस बल के साथ पहुंचे। मकान मालकिन से पूछताछ की गई। जिससे कोई सुराग नहीं मिला, मकान मालकिन ने बताया, दोनों स्वरूप रानी नेहरु चिकत्सालय में काम करते है। तभी पुलिस अधीक्षक दिनेश सिंह और क्षेत्रा अधिकारी नगर पंचम सुमेंन्द्र मीना व फोरेंसिक की टीम पहुच कर जांच पड़ताल कर रही है। 
संगीता देवी पत्नि राजेश कुमार पुत्री सीता राम उम्र 31 वर्ष निवासनी मादरडीह थाना मुंगरा बादशाह पुर
राजेश कुमार पुत्र राम चन्द्र उम्र 30 वर्ष मंझगवा रामनगर थाना मुंगरा बादशाह पुर के निवासी है।

दोस्त ने दूसरे की माता के खाते से उड़ाए ₹235000

अतुल त्यागी   
हापुड़। थाना देहांत का मामला है। मोहल्ला कवि नगर का रहने वाला परिवार में मयंक का एक दोस्त कुनाल उसके घर आता था। पब्जी गेम खेलने कुछ दिन पूर्व भी मयंक के पिता की कैंसर से मौत हुई थी। माता विजयलक्ष्मी के खाते से दोस्त ने 235000 उडाये। पुलिस जांच में जुटी और दोस्त के मामा पर शक है।

कोरोना: 5 महीने बाद आएं 53 हजार नए मामलें

 अकांशु उपाध्याय    
नई दिल्ली। भारत में एक दिन में कोरोना वायरस के 53,476 नए मामले आए जो इस साल अभी तक एक दिन में आए सर्वाधिक मामले हैं। इसके साथ ही देश में संक्रमण के कुल मामले 1,17,87,534 पर पहुंच गए हैं।
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा बृहस्पतिवार को जारी आंकड़ों के अनुसार, संक्रमण के मामलों में लगातार 15वें दिन वृद्धि हुई है। और 3,95,192 लोग अभी कोविड-19 का इलाज करा रहे हैं। जो संक्रमण के कुल मामलों का 3.35 प्रतिशत है। वहीं इस बीमारी से स्वस्थ होने वाले लोगों की दर गिरकर 95.28 प्रतिशत रह गई है। आंकड़ों के मुताबिक 153 दिनों में संक्रमण के एक दिन में आए यह सर्वाधिक मामले हैं। 251 और लोगों के जान गंवाने से मृतकों की संख्या 1,60,692 पर पहुंच गई है। इससे पहले 23 अक्टूबर को 24 घंटों में कोरोना वायरस के 54,366 नए मामले दर्ज किए गए थे। आंकड़ों के अनुसार, इस बीमारी से स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या बढ़कर 1,12,31,650 हो गई है। जबकि मृत्यु दर 1.36 प्रतिशत है।
भारत में कोविड-19 के मामले सात अगस्त को 20 लाख का आंकड़ा पार कर गए थे। इसके बाद संक्रमण के मामले 23 अगस्त को 30 लाख, पांच सितंबर को 40 लाख और 16 सितंबर को 50 लाख से पार चले गए थे। वैश्विक महामारी के मामले 28 सितंबर को 60 लाख, 11 अक्टूबर को 70 लाख, 29 अक्टूबर को 80 लाख, 20 नवंबर को 90 लाख और 19 दिसंबर को एक करोड़ का आंकड़ा पार कर गए थे।
भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद के मुताबिक 24 मार्च तक 23,75,03,882 नमूनों की जांच की जा चुकी है। बुधवार को 10,65,021 नमूनों की जांच की गई।

सेना की जिप्सी में लगीं आग, 3 सैनिकों की मौत

श्रीगंगानगर। राजस्थान के श्रीगंगानगर जिले में राजियासर थाना क्षेत्र में छतरगढ़ मार्ग पर सेना की एक जिप्सी पलट जाने एवं उसमें आग लग जाने से तीन जवानों की मौत हो गई। जबकि, पांच जवान घायल हो गए। थाना प्रभारी विक्रम तिवारी ने बताया, घायल जवानों को सूरतगढ़ के सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
उन्होंने बताया कि राजियासर थाना क्षेत्र में बुधवार देर रात करीब डेढ़ बजे राजियासर छतरगढ़ मार्ग पर इंदिरा गांधी नहर की बुर्जी संख्या 330 के पास यह हादसा हुआ। सेना की 47 आर्मड रेजीमेंट (बठिंडा, पंजाब) के आठ जवान जिप्सी में जा रहे थे। अचानक जिप्सी अनियंत्रित होकर पलटते हुए सड़क किनारे झाड़ियों एवं पेड़ों में जा गिरी। इसके बाद जिप्सी में आग लग गई। जवानों को बाहर निकलने का मौका नहीं मिला। उन्होंने बताया कि इसी दौरान आसपास के लोग जिप्सी पलटने की आवाज सुनकर और आग की लपटें उठती देख कर भाग कर आए।ग्रामीणों ने मशक्कत कर पांच जवानों को बाहर निकाला लेकिन तीन को नहीं निकाला जा सका। इन की मौके पर ही जल जाने से मौत हो गई। मृतकों की पहचान सूबेदार ए मैमेजर, हेड कांस्टेबल देव कुमार और हवलदार एसके शुक्ला के रूप में हुई है।
घायलों में एसके प्रजापति (35) ,अंकित बाजपाई (34) , उमेश यादव(27),अशोक ओझा (28) बबलू (27) शामिल हैं। आपातकाल सेवा 108 की एंबुलेंस से घायलों को सूरतगढ़ के सरकारी अस्पताल भिजवाया गया। पुलिस सूत्रों ने बताया कि मौके पर पहुंचे ग्रामीणों ने भीषण आग लगे देख कर सूरतगढ़ में दमकल सेवा को फोन किया। सेना के अधिकारी भी मौके पर पहुंचे हैं और मामले जांच कर रहे हैं।
राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इस हादसे में सेना के तीन जवानों की मौत पर गहरा दुख प्रकट किया है। गहलोत ने सोशल मीडिया के जरिए हादसे पर संवेदना जताते हुए कहा कि श्रीगंगानगर के सूरतगढ़ क्षेत्र में एक हादसे में सेना के तीन जवानों की जान चली गई और पांच घायल हो गए, यह जानकार उन्हें दुख पहुंचा हैं। उन्होंने शोक संतप्त परिवारों के प्रति संवेदना प्रकट करते हुए ईश्वर से इस कठिन समय में उन्हें हिम्मत देने तथा घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की प्रार्थना की।
भारतीय जनता पार्टी की उपाध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने भी हादसे पर दुख जताते हुए कहा “श्रीगंगानगर जिले में छत्तरगढ़ रोड पर सेना की जिप्सी दुर्घटनाग्रस्त होने के कारण तीन जवानों की मृत्यु तथा पांच जवानों के घायल होने की सूचना है। मैं ईश्वर से हादसे में जान गंवाने वाले सैनिकों की आत्मा को शांति तथा घायलों के स्वास्थ्य लाभ की कामना करती हूं।
नेता प्रतिपक्ष गुलाब चंद कटारिया ने भी इस पर गहरा दुख प्रकट करते हुए कहा कि सैन्य जवानों की एक जिप्सी अनियंत्रित होकर दुर्घटनाग्रस्त होने के चलते हादसे में तीन जवानों की मृत्यु का समाचार अत्यंत दुःखद है। उन्होंने ईश्वर से दिवंगतों की आत्मा को शान्ति, घायलों को स्वास्थ्य लाभ तथा परिजनों को धैर्य प्रदान करने की प्रार्थना की।

पेड़ से टकराकर खाई में पलटीं बस, 2 की मौत

शाहजहांपुर। गुरुवार सुबह हाईवे पर अनियंत्रित बस पेड़ से टकराकर खाई में गिर गई। इस हादसे में दो लोगों की मौके पर ही मौत गई जबकि 10 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। मौके पर पहुंची पुलिस ने राहगीरों की मदद से घायलों को अस्पताल पहुंचाया।
नेशनल हाईवे पर कोतवाली तिलहर के ग्राम फिरोजपुर की मोड़ के पास एक मिनी बस अनियंत्रित होकर पेड़ से टकराने के बाद खाई जा गिरी। चीख पुकार सुन राहगीर मदद के लिए रुके और उन्होंने पुलिस को इसकी सूचना दी। घटना की सूचना मिलते ही सीओ परमानंद पांडे समेत कोतवाल हरपाल सिंह बालियान पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंच गए। बस और पेड़ के बीच में फंसे हुए घायलों को निकालने में पुलिसकर्मियों को काफी मशक्कत करनी पड़ी। बस को बाहर निकालने के लिए हाइड्रा और जेसीबी मशीन की सहायता लेनी पड़ी, लेकिन जब तक घायलों को बाहर निकाला जाता उनमें से दो लोगों की मौत हो चुकी थी। पुलिस ने राहगीरों की मदद से घायलों को निकाल कर अस्पताल भिजवाया। जहां से सभी को जिला मुख्यालय रेफर कर दिया गया। जानकारी के मुताबिक बस चंडीगढ़ से कुशीनगर जा रही थी। वहीं बस में लगभग दो दर्जन से अधिक लोग बताए गए हैं।

राष्ट्रीय अवसंरचना वित्त पोषण बैंक पर संसद की मुहर

अकांशु उपाध्याय   
नई दिल्ली। राज्यसभा ने देश में ढांचागत विकास को गति देने के लिए राष्ट्रीय अवसंरचना और विकास वित्त पोषण बैंक विधेयक-2021 बृहस्पतिवार को ध्वनिमत से पारित कर दिया। इसके साथ ही इस पर संसद की मुहर लग गयी। लोकसभा इसे पहले ही पारित कर चुकी है।
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने विधेयक पर हुई चर्चा का जवाब देते हुए कहा कि बैंक के संचालन के लिए एक बोर्ड का गठन होगा जिसके निर्देश पर बैंक के प्रबंध निदेशक और उप प्रबंधक महानिदेशक की नियुक्ति होगी। बैंक की इक्विटी एक लाख करोड़ रुपए की होगी जिसमें केंद्र सरकार और अन्य संस्थानों की हिस्सेदारी होगी। बाद में केंद्र सरकार की हिस्सेदारी घटाकर 26 प्रतिशत कर दी जाएगी। शुरुआत में शत प्रतिशत हिस्सेदारी सरकार की होगी। बैंक अपनी जरुरतें पूरी करने के लिए सरकार, भारतीय रिजर्व बैंक, वाणिज्यिक बैंकों, एशियाई विकास बैक और विश्व बैंक से ऋण ले सकेगा। केंद्र सरकार शुरूआत में बैंक को 5000 करोड़ रुपए का अनुदान उपलब्ध करायेगी।
उन्होंने कहा कि ढांचागत विकास क्षेत्र बहुत जोखिम भरा है। और वाणिज्यिक बैंक लंबी अवधि तक इस जोखिम को उठाने के लिए तैयार नहीं है। इसलिए ढांचागत विकास को गति देने के लिए और जोखिम को कम करने के लिए अलग संस्थान की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि इस बैंक का गठन रिजर्व बैंक की देखरेख में होगा और यह संस्थान ढांचागत विकास के लिए वित्तीय प्रबंधन का काम करेगा।
इससे प्रतिस्पर्धा बढ़ेगी और विकास को गति मिलेगी। बैंक का स्वामित्व पूरी तरह से सरकार का होगा और सरकार ही इसके लिए जवाबदेह होगी। इस विधेयक में राष्ट्रीय अवसंरचना वित्त विकास बैंक की स्थापना का प्रावधान है। जिसका उद्देश्य लम्बी अवधि की अवसंरचना परियोजनाओं के वित्त पोषण की व्यवस्था करना है।
सीतारमण ने कहा कि इस बैंक के बनने से देश में बुनियादी ढांचा क्षेत्र की परियोजनाओं के लिए सस्ती दरों पर लम्बी अवधि के लिए वित्त पोषण की सुविधा उपलब्ध होगी। इसके गठन से बुनियादी ढांचागत क्षेत्र में सरकारी तथा निजी क्षेत्र की भागीदारी को भी सुनिश्चित किया जा सकेगा।
राष्ट्रीय अवसरंचना वित्त पोषण और विकास बैंक विधेयक,2021 पर चर्चा में शामिल होते हुए राष्ट्रीय जनता दल के मनोज कुमार झा ने कहा कि विधेयक में निगरानी और पर्यवेक्षण का प्रावधान नहीं किया गया है। जो किसी संस्थान के लिए बहुत आवश्यक होता है। उन्होंने विधेयक को प्रवर समिति को भेजने की मांग की जिससे सभी स्टेकहोल्डर के विचार जाने जा सकें।
उन्होंने बिहार में विकास का मुद्दा उठाते हुए कहा कि आजादी के बाद से ही राज्य को उसका हिस्सा नहीं मिला है। उन्होंने वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण से बिहार के विकास के लिए विशेष प्रावधान करने की मांग की। आम आदमी पार्टी के नारायण दास गुप्ता ने कहा कि नये बनने वाले बैंक की कार्यप्रणाली की नियमित समीक्षा की जानी चाहिए।
उन्होंने कहा कि एकतरफ सरकार बैंकों का निजीकरण कर रही है। दूसरी तरफ एक और सरकारी बैंक स्थापित कर रही है। बहुजन समाज पार्टी के सतीश चन्द्र मिश्र ने कहा कि बैंक की कार्यप्रणाली की समीक्षा प्रत्येक पांच वर्ष में किये जाने का प्रावधान समझ से परे है। इसकी समीक्षा प्रत्येक वर्ष की जानी चाहिए।

राज्यसभा की कार्यवाही अनिश्चितकाल के लिए स्थगित

 अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। राज्यसभा की कार्यवाही बृहस्पतिवार को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दी गई। राष्ट्रीय अवसंरचना और विकास वित्त-पोषण बैंक विधेयक, 2021 पारित होने और सेवानिवृत्त हो रहे तीन सदस्यों को विदाई देने के बाद सभापति एम वेंकैया नायडू ने सदन की कार्यवाही अनिश्चितकाल के लिए स्थगित किए जाने की घोषणा की।
इससे पहले, बजट सत्र के दौरान राज्यसभा में हुए कामकाज का लेखाजोखा प्रस्तुत करते हुए नायडू ने कहा कि सत्र में सदन की उत्पादकता 90 प्रतिशत रही जबकि व्यवधान के चलते सदन के लगभग 21 घंटे बर्बाद हुए। उन्होंने बताया कि सत्र के पहले चरण में उत्पादकता 99.6 फीसदी रही जबकि दूसरे चरण में यह 85 फीसदी रही। उन्होंने बताया कि इस दौरान कुल 19 विधेयक पारित हुए। नायडू ने कहा कि जून 2019 के बाद सदन की उत्पादकता में वृद्धि हो रही है। इसके लिए उन्होंने सदस्यों का धन्यवाद किया और कहा कि बगैर उनके सहयोग के यह संभव नहीं था। इस अवसर पर सभापति ने समिति की बैठकों में सदस्यों की अनुपस्थिति का भी जिक्र किया और सभी दलों के नेताओं से सदस्यों की उपस्थिति सुनिश्चित करने का आग्रह किया। एक बार फिर कोविड-19 के बढ़ते मामलों पर चिंता जताते हुए उन्होंने सदस्यों और देश की जनता से संबंधित दिशा-निर्देशों का पालन करने का अनुरोध किया। साथ ही उन्होंने पात्र लोगों से टीका लगवाने का भी आग्रह किया।

रेलमंत्री पीयूष गोयल ने संसद में राज्यों से की अपील

अकांशु उपाध्याय   
नई दिल्ली। रेल मंत्री पीयूष गोयल ने रेलवे की परियोजनाओं के लिये राज्यों से सहयोग की अपील करते हुए बुधवार को कहा कि पश्चिम बंगाल, केरल जैसे राज्यों में ठीक ढंग से भूमि अधिग्रहण नहीं होने सहित अन्य कारणों से परियोजनाओं पर काम नहीं बढ़ पा रहा है। लोकसभा में प्रश्नकाल के दौरान मलूक नागर के पूरक प्रश्न का उत्तर देते हुए गोयल ने कहा कि कुछ राज्यों में तेज गति से काम हो रहा है। क्योंकि ऐसे राज्य तेजी से भूमि अधिग्रहण कर रहे हैं। परियोजना में अपने हिस्से का पैसा दे रहे हैं। और जरूरी वन एवं पर्यावरण मंजूरी का काम पूरा कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि कुछ राज्य परियोजनाओं में कम रुचि दिखा रहे हैं। उन्होंने कहा कि उन राज्यों में जनता को यह बताना पड़ेगा कि परियोजनाएं रूकी हुई है। क्योंकि ऐसा लगता है। कि इन राज्यों में जनता का दबाव आयेगा तभी काम बढ़ेगा। रेल मंत्री ने कहा कि मिसाल के तौर पर पश्चिम बंगाल में एक परियोजना 1974 से अब तक पूरी नहीं हो पायी है। उन्होंने कहा कि45 वर्ष हो गए लेकिन अब तक लागू नहीं हो पाया। उन्होंने कहा कि इसी प्रकार से केरल में नौ परियोजनाएं चालू हैं। लेकिन एक पर भी कम नहीं बढ़ पा रहा है। राजस्थान का जिक्र करते हुए गोयल ने कहा कि वहां कई परियोजनाएं चल रही है । और कई में काम अटक गया है। उन्होंने बताया राजस्थान सरकार ने पहले कहा था। कि वह अपने हिस्से का पैसा देगी, जमीन देगी लेकिन अब मुकर रही है। मैंने प्रदेश सरकार को इस बारे में पत्र लिखा है। रेल मंत्री ने कि रेलवे को कभी भी राज्यों में नहीं बांटा जाना चाहिए, इसको लेकर राज्यों की राजनीति नहीं करनी चाहिए क्योंकि भारतीय रेलवे पूरे देश की है।

जनरल ने तटरक्षक जहाज 'वज्र' राष्ट्र को किया समर्पित

अकांशु उपाध्याय    
नई दिल्ली। सैन्य बलों के प्रमुख सीडीएस जनरल बिपिन रावत ने बुधवार सुबह भारतीय तटरक्षक जहाज 'वज्र' राष्ट्र को समर्पित किया। आयोजन चेन्नई में कोस्ट गार्ड के महानिदेशक के नटराजन की उपस्थिति में सम्पन्न हुआ।तटीय सुरक्षा बढ़ाने वाला यह छठा स्वदेशी अपतटीय गश्ती जहाज है। उसकी 'पट्टिका' और नाम बोर्ड 'वज्र' का औपचारिक रूप से अनावरण होते समय राष्ट्रगान की धुन ने मौजूद नौसैनिकों को गर्व से भर दिया। इस जहाज को स्वदेशी तौर पर लार्सन एंड टुब्रो शिप बिल्डिंग लिमिटेड ने डिजाइन और निर्मित किया है। सात अपतटीय गश्ती जहाजों की श्रृंखला में छठा जहाज 'वज्र' अत्यधिक परिष्कृत नेविगेशन और संचार प्रणालियों के साथ सुसज्जित है। जहाज में मुख्य हथियार के रूप में एक 30 मिलीमीटर की बंदूक लगाई गई है। इसके अलावा 2 एफसीएस नियंत्रित 12.7 मिलीमीटर की स्थिर रिमोट कंट्रोल गन से यह जहाज लैस है। इन हथियारों से लड़ने की दक्षता में वृद्धि होगी। इस पोत में कई हाई-टेक खासियत भी हैं। जिनमें एकीकृत पुल प्रणाली, उच्च शक्ति वाली बाहरी लड़ाई प्रणाली, धनुष थ्रस्टर और स्वचालित बिजली प्रबंधन प्रणाली शामिल है। प्रवक्ता के मुताबिक जहाज को रात की उड़ान क्षमताओं के साथ एक जुड़वां इंजन वाले हेलीकाप्टर को ले जाने के लिए डिजाइन किया गया है। इसके अलावा यह जहाज चार उच्च गति वाली नावों, दो कठोर पतवार वाली नावों को खोज और बचाव, और समुद्री गश्त के लिए ले जाने में सक्षम है। समुद्र में तेल फैलने से होने वाले प्रदूषण को रोकने के लिए भी जहाज में उपकरण लगाया गया है। इसका इंजन प्रति घंटे 26 समुद्री मील की उच्च गति के साथ 5 हजार समुद्री मील की दूरी हासिल करने में सक्षम है। इस जहाज के कमांडिंग ऑफिसर उप महानिरीक्षक एलेक्स थॉमस हैं। इस पर 14 महिला और 88 पुरुष अधिकारी तैनात होंगे। यह जहाज तूतिकोरिन बंदरगाह पर तैनात रहते हुए तट रक्षक पूर्वी क्षेत्र के परिचालन नियंत्रण में होगा।

डॉग का खौफ, चोर ने किस्तों में वापस किए पैसे

खम्मम। चोर के मन में स्निफर डॉग्स के द्वारा पकड़े जाने का इतना अधिक खौफ बैठ गया कि वो चोरी का पैसा वापस करने पर मजबूर हो गया। तेलंगाना के खम्मम मे एक अजीबो गरीब वाकया समने आया है। पुलिस ने चोरी की एक वारदात की जांच के दौरान स्निफर डॉग की मदद ली जिससे डरकर चोर ने चोरी किया हुआ पैसा वापस रख दिया। चोरी की घटना को पकड़ने में लगे स्निफर डॉग्स से खौफजदा चोर ने चोरी किए हुए कुल 1.7 लाख रुपये, दो किस्तों में वापस उसी घर के सामने रख दिए जहां उसने चोरी की घटना को अंजाम दिया था। ये अजीबोगरीब घटना खम्मम जिले के डब्बट्टा गांव में हुई है। जिससे आसपास के सभी लोग अचंभित हैं। किसान जी लच्छरम के घाट पर 17 मार्च के दिन चोरी की घटना हुई थी। इस दौरान चोर ने 1 लाख, 70 हजार रुपये चुरा लिए थे। जिसकी शिकायत मिलते ही पुलिस ने जांच शुरू कर दी थी। पुलिस ने चोर को दबोचने के लिए इस मामले में डॉग स्क्वाड की मदद ली थी। चोर के मन में स्निफर डॉग्स के द्वारा पकड़े जाने का इतना अधिक खौफ बैठ गया कि वो चोरी का पैसा वापस करने पर मजबूर हो गया।
जांच में स्निफर डॉग्स की एंट्री होने के बाद चोर 21 मार्च के दिन 1 लाख रुपये लावारिस हालत में घर के सामने रख गया। इसके अगले दिन, 22 मार्च को बकाया 70,000 रुपये भी घर के सामने ही मिल गए। हालांकि चोर की मुश्किलें अभी भी खत्म नहीं हुई हैं। क्योंकि करपल्ली पुलिस ने कहा है। कि चोर की गिरफ्तारी तक जांच जारी रहेगी. आपको बता दें कि स्निफर डॉग्स का उपयोग पुलिस बलों और सेना द्वारा अलग-अलग कामों के लिए किया जाता है। इनकी सूंघने की नायाब क्षमता के कारण ये डॉग्स, सुरक्षा बलों के लिए बम विस्फोट पकड़ने, चोरी पकड़ने आदि के काम में आते हैं। बीते दिनों कुछ एयरपोर्ट्स पर इनका उपयोग कोरोना के मरीजों को पहचानने के लिए किया गया था।

किसानों के बैंक खातों में जमा होंगे 18,000 रुपये

मेदिनापुर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को पश्चिम बंगाल के कांथी में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा कि पश्चिम बंगाल के किसानों को प्रधानमंत्री किसान सम्‍मान निधि योजना के तहत पिछले तीन साल से लंबित 18,000 रुपये की राशि सीधे उनके बैंक खातों में जमा की जाएगी। उल्‍लेखनीय है, कि प्रधानमंत्री सम्‍मान निधि योजना के तहत केंद्र सरकार किसानों के बैंक खाते में एक साल में 6,000 रुपये जमा किए जाते हैं। भारत में पश्चिम बंगाल अकेला ऐसा राज्‍य है। जहां पीएम किसान योजना को लागू नहीं किया गया है। पीएम मोदी ने कहा कि मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी ने पीएम किसान को लागू न कर बंगाल के किसानों से दुश्‍मनी मोल ली है। उन्‍होंने कहा कि 2 मई दीदी गई।  कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने मंगलवार को संसद में कहा कि पश्चिम बंगाल सरकार ने केंद्र की योजना प्रधानमंत्री किसान सम्‍मान निधि योजना को लागू करने में अपनी रुचि विधान सभा चुनाव की आचार संहिता लगने से ठीक पहले दिखाई। उन्‍होंने कहा कि पीएम किसान योजना को 1 दिसंबर, 2018 से पूरे देश में सफलतापूर्वक लागू किया जा रहा है। उन्‍होंने कहा कि पश्चिम बंगाल में यह योजना शुरू नहीं हो पाई क्‍योंकि राज्‍य ने किसानों का प्रमाणित डाटा देने से इनकार कर दिया था। लेकिन जब विधान सभा चुनाव के लिए आचार संहिता लागू होने वाली थी। उससे ठीक पहले पश्चिम बंगाल सरकार ने इस योजना को लागू करने का फैसला लिया, लेकिन राज्‍य के स्‍तर पर प्रक्रिया को पूरी तरह से पूरा नहीं किया गया था। पीएम किसान योजना के तहत छोटे और सीमांत किसानों को एक वर्ष में केंद्र द्वारा 6000 रुपये की वित्‍तीय सहायता तीन बराबर किस्‍तों में आधार से जुड़े बैंक खाते में सीधे प्रदान की जाती है। केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर मंगलवार को संसद को बताया कि 27 कीटनाशकों पर प्रतिबंध लगाने के संबंध में प्रकाशित मसौदा अधिसूचना पर हितधारकों से कई आपत्तियां और सुझाव मिले हैं। जिन पर विचार करने के लिए जनवरी 2021 में विशेषज्ञों की एक समिति का गठन किया गया है। लोकसभा सदस्य शशि थरूर द्वारा पूछ गए एक अतारांकित प्रश्न का लिखित जवाब देते हुए केंद्रीय कृषि मंत्री ने कहा कि विशेषज्ञ समिति सुरक्षा, विषाक्तता, प्रभावकारिता, आवश्यक अध्ययन और आंकड़ों की ताजा स्थिति, तकनीकि और वैज्ञानिक अपेक्षाएं, सुरक्षित विकल्प की उपलब्धता, किसानों के हित, अन्य देशों में प्रतिबंध की स्थिति समेत तमाम मसलों व पहलुओं को ध्यान में रखते हुए सुझावों और आपत्तियों पर विचार कर रही है। कांग्रेस सांसद ने कृषि मंत्री तोमर से से जानना चाहा कि क्या सरकार का उन 27 कीटनाशकों पर प्रतिबंध लगाने का प्रस्ताव है। जो दुनिया में पहले से ही प्रतिबंधित है। फिर भी देश में व्यापक रूप से उनका उपयोग हो रहा है। उन्होंने इससे जुड़े कुछ और सवाल भी किए। लोकसभा सदस्य शशि थरूर के सभी सवालों का लिखित जवाब देते हुए केंद्रीय कृषि मंत्री ने कहा कि मई 2020 में 27 कीटनाशकों पर प्रतिबंध लगाने के संबंध में हितधारकों से आपत्तियां व सुझाव आमंत्रित करने के लिए मसौदा अधिसूचना प्रकाशित की थी। आपत्तियां व सुझाव आमंत्रित करने के लिए आरंभ में 45 दिनों का समय दिया गया था। जिसे हितधारकों के अनुरोध पर बढ़ाकर 90 दिन कर दिया गया।

भ्रष्टाचार के मामले, सीएम उद्धव ने नहीं दिया बयान

मनोज सिंह ठाकुर   
मुंबई। महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री एवं विपक्ष के नेता देवेन्द्र फडनवीस ने आरोप लगाया है, कि राज्य में भ्रष्टाचार के इतने मामले सामने आने के बावजूद मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने अभी तक एक भी बयान नहीं दिया है। फडनवीस के नेतृत्व में भाजपा के एक प्रतिनिधिमंडल ने बुधवार सुबह राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात की और उन्हें एक ज्ञापन सौंपा। श्री फडनवीस ने ज्ञापन सौंपने के बाद संवाददाताओं से कहा कि महाराष्ट्र सरकार हफ्ता वसूली वाली सरकार है। उन्होंने कहा कि वसूली और तबादले का भ्रष्टाचार उजागर करने वाले अधिकारियों का तबादला कर दिया गया और जो लोग इसमें शामिल हैं। उनके खिलाफ श्री ठाकरे ने एक भी शब्द नहीं कहा।
उन्होंने नैतिकता को पैरों तले कुचल दिया। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के प्रमुख शरद पवार ने दो बार संवाददाताओं से बात की लेकिन वह सिर्फ अपने मंत्रियों को बचाते रहे। उन्होंने कांग्रेस पर भी आरोप लगाते हुए कहा कि क्या उसे वसूली में से हिस्सा मिल रहा है। जिसके कारण वह चुप है। उन्होंने कहा कि संवैधानिक पर बैठे हुए श्री कोश्यारी से मुलाकात कर उन्हें सारी
उन लोगों ने राज्यपाल से मांग की है, कि वह मुख्यमंत्री से भ्रष्टाचार के आरोपों पर जवाब मांगे और उनके जवाब के आधार पर कार्रवाई करें। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र सरकार मनमाने तरीके से सरकार चला रही है। और जनता के प्रति जवाबदेह नहीं है। यदि यह सरकार जनता के प्रति जवाबदेह होती तो भाषण देने की बजाय कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए काम करती। सरकार के ढीले रवैये के कारण महाराष्ट्र में सबसे अधिक कोरोना वायरस के मरीज बढ़ रहे हैं। प्रतिनिधि मंडल में श्री फडनवीस के अलावा सर्वश्री सुधीर मुनगंटीवार, चंद्रकांत पाटिल, मंगल प्रभात लोढ़ा और राधाकृष्ण पाटिल आदि शामिल थे।

सीएम ने क्षय रोग के प्रति जागरुक रहने की अपील की

भोपाल। विश्व क्षय रोग दिवस पर आज मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेशवासियों से इस बीमारी के प्रति जागरुक रहने की अपील की है। आधिकारिक जानकारी के अनुसार श्री चौहान ने अपनी अपील में कहा कि टीबी रोग के प्रति जागरूक हों और कोताही न बरतते हुए इसका पूरा इलाज लें। टीबी हारेगा देश जीतेगा जन आंदोलन अभियान का हिस्सा बनें और देश-प्रदेश को टीबी मुक्त बनाया जाये। उन्होंने कहा कि इस बीमारी की पहचान और इलाज बहुत आसान है। दो सप्ताह तक खांसी हो, सीने में दर्द और शाम को बुखार आये, तो चिकित्सक को अवश्य दिखायें। उनके दिशा-निर्देशों का पालन करें। जागरुक रहें, स्वस्थ रहें।

रेलवे इंजीनियर 35 हजार की रिश्वत लेते गिरफ्तार

नरेश राघानी      
कोटा। राजस्थान में भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने कोटा मंडल रेल प्रबंधक के यूएसएफडी कार्यालय के सीनियर सेक्शन इंजीनियर घनश्याम शर्मा को पैतीस हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। ब्यूरो के अनुसार, इस मामले में शर्मा को उनके निवास पर मंगलवार देर रात परिवादी से रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया। आरोपी ने परिवादी से बकाया बिलों के भुगतान की एवज में खुद के लिए सात प्रतिशत तथा अन्य अधिकारियों के लिए भी कमीशन के रुप में रिश्वत मांगी। परिवादी ने इसकी शिकायत ब्यूरो में करने पर ब्यूरो ने इसके सत्यापन के बाद आरोपी को रिश्वत लेते हुए पकड़ लिया और उसके पास से रिश्वत के रुप में लिए गए रुपए भी बरामद कर लिए गए। परिवादी ने अपनी शिकायत में बताया था। कि उसके मालिक की कार्य में लगी पिकअप गाड़ियों के लंबित बिलों के भुगतान के लिए आरोपी रिश्वत की मांग कर रहा है। इस मामले में अन्य अधिकारियों की भूमिका की भी जांच की जा रही है।

शृंगार के पश्चात बाबा विश्वनाथ की उतारी गई आरती

वाराणसी। हर हर महादेव के उद्घोष से गूंजी काशी
रंगभरी एकादशी पर बनारस में बाबा काशी विश्वनाथ के गौने की बारात शाम करीब 5:45 बजे मंदिर परिसर में प्रवेश की। इस दौरान मंदिर प्रशासन द्वारा अबीर गुलाल उड़ाकर और डमरू वादन कर भव्य स्वागत किया गया। माता पार्वती के साथ पहुंची बाबा की चल रजत प्रतिमा का भव्य शृंगार किया गया। शृंगार के पश्चात बाबा की आरती उतारी गई। रंगभरनी एकादशी के दिन काशी की गलियों से होते हुए भगवान शिव और माता पार्वती की पालकी निकलती है। और भक्‍त इन पर अबीर और गुलाल बरसाते हैं।
रंग भरी एकादशी 2021, देंखे विडियो
विवाहित महिलाएं माता पार्वती को गुलाल लगाकर शिवजी जैसे अखंड सौभाग्‍य का वर मांगती हैं। होली की शुरुआत काशी में रंगभरनी एकादशी से मानी जाती है। रंगभरनी एकादशी की यह परंपरा 357 वर्षों से काशी में निभाई जा रही है। माता का गौना लेकर जब भोलेबाबा भक्‍तों के कंधों पर सवार होकर रजत प्रतिमा के रूप में काशी के भ्रमण पर निकलते हैं। तो पूरे नगर में होली के रंग बिखर जाते हैं।

भारत में कोरोना के 53,476 नए मामले दर्ज किए गए

अकांशु उपाध्याय        
नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस फिर से अपना कहर बरपा रहा है। करीब पांच महीने के बाद एक दिन में पचास हजार से अधिक केस रिपोर्ट हुए हैं। सबसे बुरी हालत महाराष्ट्र की है। जहां से 60 फीसदी से अधिक मामले सामने आ रहे हैं। अब नागपुर से हैरान करने वाली जानकारी सामने आई है। जहां बढ़ते मामलों के बीच अस्पताल में बेड की कमी हो गई है। नागपुर के मेडिकल अधिकारी के मुताबिक, अस्पताल में 600 बेड्स हैं। लेकिन उनमें से 90 बेड्स बेसमेंट में हैं। इन बेड्स को ड्रेनेज की दिक्कत के कारण बंद किया गया है। हम अभी तक हाईकोर्ट की इजाजत का इंतजार कर रहे थे। अब बीते दिन हमें बेड्स मिल पाए हैं। आपको बता दें कि नागपुर देश के उन दस जिलों में शामिल है। जहां सबसे अधिक एक्टिव केस हैं। बीते दिन भी यहां जिले में करीब 3700 नए केस दर्ज किए गए। जो अबतक का सबसे अधिक आंकड़ा है। मौजूदा वक्त में नागपुर में 34 हजार से अधिक एक्टिव केस हैं। बता दें कि नागपुर में कोरोना संकट के कारण ही 31 मार्च तक लॉकडाउन लगाया गया है। सिर्फ नागपुर ही नहीं बल्कि बीड, नांदेड़ में भी संपूर्ण लॉकडाउन का आदेश जारी हुआ है। इनके अलावा महाराष्ट्र के कई शहरों में लॉकडाउन, नाइट कर्फ्यू जैसी पाबंदियां हैं। राजस्थान ने भी अपने यहां बढ़ा दी सख्ती महाराष्ट्र से अलग अगर राजस्थान की बात करें तो यहां पर कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी के बाद सख्ती बढ़ाई गई है। यहां होली, शब ए बारात के किसी भी कार्यक्रम पर रोक लगा दी गई है। इसके अलावा राजस्थान में अगर किसी दूसरे राज्य से कोई आ रहा है। तो उसे 72 घंटे के भीतर वाली आरटी पीसीआर टेस्ट की निगेटिव रिपोर्ट दिखानी होगी. पहले ये नियम कुछ राज्यों से आने वाले लोगों के लिए लागू था। पांच महीने बाद आए 50 हजार से ज्यादा केस बता दें कि गुरुवार को ही स्वास्थ्य मंत्रालय के जो आंकड़े सामने आए हैं। वो डराने वाले हैं। भारत में गुरुवार को कुल 53,476 नए केस दर्ज किए गए हैं। पिछले साल नवंबर के बाद ये पहली बार है। जब देश में 24 घंटे में कोरोना के मामलों ने पचास हजार का आंकड़ा पार किया है। बीते दिन देश में 251 मौतें कोरोना वायरस के कारण हुईं।

जिले ग्राम प्रधान पद पर 690 आपत्तियां दाखिल हुई

संदीप मिश्र
बस्ती। उत्तर-प्रदेश के बस्ती में जिले ग्राम प्रधान पद पर 690 आपत्तियां दाखिल हुई है। जिसके निस्तारण के लिए टीम गठित की गयी है। बुधवार को यहां यह जानकारी देते हुए आधिकारिक सूत्रों ने बताया है। कि त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में आरक्षण सूची पर आपत्ति पर ग्राम प्रधान के पद पर 690 आपत्तियां दाखिल हुई है। वहीं जिला पंचायत सदस्य पद पर 53 आपत्ति तथा क्षेत्र पंचायत सदस्य पद पर 78 अपत्तियां आयी है। जिसके निस्तारण के लिए टीम द्वारा विचार किया जायेगा।

आनंदीबेन ने केंद्रों पर वितरित की खेल सामग्री

हरिओम उपाध्याय
लखनऊ। उत्तर-प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने आज मोहनलालगंज के शेरपुर आंगनवाड़ी केंद्रों पर खेल और पोषण सामग्री वितरित किया। मोहनलालगंज के शेरपुर में राज्यपाल ने खेल एवं पोषण सामग्री वितरण के पश्चात कहा कि ये बच्चे हमारे देश के भविष्य हैं। इन्हें कुपोषण एवं क्षय रोग से मुक्त कराना हम सभी की नैतिक जिम्मेदारी बनती है। उन्होंने संभ्रान्त लोगों, स्वयंसेवी संस्थाओं, अधिकारियों का आह्वान किया कि वे अभियान चलाकर क्षय रोग एवं कुपोषित बच्चों को गोद लेकर उनकी समुचित देखभाल करें ताकि देश को 2025 तक कुपोषण मुक्त किया जा सके। उन्होंने जन सामान्य से भी अपील की कि वे भी अपने राष्ट्र धर्म का पालने करें तथा यदि कहीं पर भी कुपोषित एवं क्षय रोग से ग्रसित बच्चों को देखे तो तत्काल सूचना दें ताकि उन्हे गोद लेकर उनकी समुचित देखभाल हो सके। राज्यपाल ने कहा कि आज का यह कार्यक्रम संस्कार, शिक्षा एवं आरोग्य के लिए समर्पित है। सरकार के द्वारा भी जो गोद भराई के कार्यक्रम कराये जाते हैं। उनका एकमात्र यही उद्देश्य होता कि किसी भी दशा में कुपोषित बच्चा पैदा न हो। उन्होंने जनसमुदाय से अपील की कि गर्भवती महिलाओं के पोषण हेतु जो सरकारी 5,000 की सहायता मिलती है। उसका उपयोग पोषण के लिए ही करें। इसके साथ ही गर्भावास्था के समय से ही अच्छी शिक्षा एवं संस्कार दें। इस अवसर पर उन्होंने महाभारत के चक्रव्यूह तोड़ने के प्रसंग पर चर्चा के दौरान बताया कि अभिमन्यु ने गर्भ में ही चक्रव्यूह तोड़ने की शिक्षा सीख ली थी। इसलिए यदि हम बच्चों को संस्कारवान बनाना चाहते हैं। तो हमें बचपन से बच्चों को कच्चे घड़े की तरह आकार देना होगा। इस अवसर पर राज्यपाल ने आंगनवाड़ी केन्द्रों का मैपिंग करने का निर्देश दिया ताकि उनमें सभी प्रकार की सूचनाएं दर्ज हो जायें। राज्यपाल ने कहा कि उच्च शिक्षण संस्थाओं में तो सभी स्तर की सुविधाएं होती हैं। लेकिन निचले स्तर पर ऐसा नहीं है। हमें यह खाई पाटनी होगी और हमें अपने आंगनवाड़ी केन्द्रों को रूचिकर एवं बच्चों के लिए सुविधा सम्पन्न बनाना होगा।

'सेक्स एडिक्शन' टर्म पर दुनिया में फिर छिड़ी बहस

वाशिंगटन डीसी। अमेरिका के अटलांटा क्षेत्र में स्पा सेंटर में गोलीबारी करने वाले युवक की गिफ्तारी के बाद 'सेक्स एडिक्शन' टर्म एक बार फिर चर्चा में आ गया है। दरअसल, इस युवक ने अपने बचाव में कहा था। कि इस घटना के पीछे की वजह उसका सेक्स एडिक्शन है। युवक ने कहा कि स्पा सेंटर को देखकर उसका एडिक्शन बढ़ जाता था। और स्पा सेंटर से नफरत की वजह से इस हमले को अंजाम दिया। आरोपी ने बताया कि उसके सेक्स एडिक्शन की वजह से उसे उसके परिवार से बाहर निकाल दिया गया था। वह अपने घर पर घंटों पॉर्न देखता था। इसके बाद से ही ये सवाल उठने लगे हैं। कि क्या सेक्स की लत कोई बीमारी है। जिसकी वजह से व्यक्ति किसी की जान भी ले सकता है। सेक्स की लत की वजह से हिंसात्मक हो जाने पर एक्सपर्ट और मनोवैज्ञानिक एकमत नहीं हैं। आइए सबसे पहले जानते हैं कि सेक्स एडिक्शन क्या है और इसके क्या लक्षण हैं ? सेक्स एडिक्शन के लक्षण- किसी भी लत की तरह सेक्स की लत भी व्यक्ति के दिमाग पर हावी हो जाती है। हेल्थ एक्सपर्ट सेक्स को सेहत के लिए हेल्दी मानते हैं। लेकिन जरूरत से ज्यादा ये शारीरिक और मानसिक सेहत को नुकसान पहुंचाता है। सेक्स एडिक्शन होने पर व्यक्ति हर समय सिर्फ सेक्स के बारे में ही सोचता है। ऐसे लोग इसके गंभीर नतीजे जानने के बाद भी हमेशा किसी ना किस सेक्सुअल एक्टिविटी में लगे रहते हैं। ये लोग सेक्स की लत की वजह से अपनी पर्सनल और प्रोफेशनल लाइफ दोनों खराब कर लेते हैं। जिन लोगों को सेक्स की लत होती है। उनके एक साथ कई लोगों से संबंध होते हैं। ये लोग अपने पार्टनर से किसी तरह का भावनात्मक लगाव नहीं रखते हैं। कई सेक्स एडिक्टेड नियमित रूप से सेक्स वर्कर्स के पास भी जाते हैं। अपने रोजमर्रा के काम के साथ ये साइबर सेक्स, पोर्नोग्राफी में भी लिप्त रहते हैं। सेक्स एडिक्शन वाले लोग अनसेफ सेक्स का भी खतरा मोल लेते हैं। ऐसे लोगों को यौन संबंध से भावनात्मक संतुष्टि नहीं मिलती है। और सेक्सुअल एक्टिविटी के बाद कई बार ये अपराधबोध महसूस करते हैं। सेक्स एडिक्शन के कारण- सेक्स की लत कैसे लग जाती है। इसके पीछे कोई वैज्ञानिक कारण नहीं है। लेकिन कई तरह की मानसिक स्थितियां इसके पीछे जिम्मेदार मानी जाती है। जैसे कि डिप्रेशन, अकेलापन या फिर एक तरह की उदासी कई लोगों को सेक्सुअल बिहेवियर की तरफ ले जाती है। ऐसे लोगों में सेक्सुअली ट्रांसमिटेड डिजीज होने का खतरा ज्यादा होता है। विशेषज्ञों की राय- विश्व स्वास्थ संगठन के इंटरनेशनल स्टैस्टिकल क्लासीफिकेशन ऑफ डिसीज (सीबीआई10) और अमेरिकन साइकेट्रिस्ट एसोसिएशन, कंपल्सिव सेक्शुअल बिहेवियर को कोई बीमारी नहीं मानता है। इसका कारण ये बताया गया है कि हर व्यक्ति की सेक्स ड्राइव अलग-अलग होती है. मई 2019 में वर्ल्ड हेल्थ असेंबली में एक प्रेजेंटेशन में कहा गया था कि ऐसे लोगों को कई बार सेक्स में कम या फिर बिल्कुल भी संतुष्टि नहीं मिलती है। हालांकि, 2022 में आने वाले डब्ल्यूएचओ के इंटरनेशनल स्टैस्टिकल क्लासीफिकेशन ऑफ डिसीज ओईसीडी11 में इस विषय पर कई तरह के बदलाव किए जाने हैं। ओईसीडी11 में सेक्स एडिक्शन की नई व्याख्या की गई है। ओईसीडी11 में कहा गया है, 'कंपलसिव सेक्सुअल बिहेवियर एक तरह का मेंटल डिसऑर्डर है। जो एक पैटर्न पर चलता है। इसमें लोग अपनी यौन इच्छाओं पर नियंत्रण नहीं रख पाते हैं. ये बिहेवियर 6 महीने या फिर इससे ज्यादा समय में बढ़ जाता है। इसका बुरा असर व्यक्ति के निजी, पारिवारिक, सामाजिक, शैक्षिक, व्यावसायिक या अन्य महत्वपूर्ण क्षेत्रों पर पड़ता है। हालांकि, सेक्स एडिक्शन को लेकर हेल्थ एक्सपर्ट्स की अलग-अलग राय है। कोलंबिया यूनिवर्सिटी के मनोचिकित्सक प्रोफेसर डॉक्टर जिव कोहेन का कहना है। जब भी हम किसी लत के बारे में सोचते हैं। तो हमें कुछ खास गतिविधियों में लिप्त रहने का ख्याल आता है। जो दिमाग से संकेत मिलने पर अचानक प्रतिक्रिया देता है। यह नशे की लत का न्यूरोबायोलॉजिकल सबूत है। जो शोधकर्ताओं ने ऐसे लोगों में देखा है। जो ड्रग्स, अल्कोहल का सेवन करते हैं। या फिर जुआ खेलते हैं। आमतौर पर ये सेक्स या पोर्न की लत वालों में नहीं देखा गया है.' अधिकतर शोधकर्ताओं का मानना है। कि सेक्स एडिक्शन कोई मानसिक बीमारी नहीं है। कोंलबिया यूनिवर्सिटी में मनोचिकित्सा विभाग के प्रोफेसर डॉक्टर पॉल एपेलबाउम ने सीएनएन को बताया लत का मतलब सिर्फ व्यवहार पर नियंत्रण खो देना, सामाजिक दुर्बलता और खुद को नुकसान पहुंचाने वाला जोखिम लेना है। कोलंबिया यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर डॉ. जिव कोहेन ने कहा, कई लोग ऐसे हैं। जो अपनी सामान्य सेक्सुअलिटी को लेकर ही अपराधबोध महसूस करते हैं। अगर सेक्स एडिक्शन जैसे टर्म को मान्यता दी गई तो एक चिंता ये भी है। कि तमाम लोग अपनी सेक्सुअलिटी को लेकर सवाल करने लग सकते हैं। कई लोगों को लग सकता है कि वे स्वस्थ नहीं हैं। उन्होंने कहा, सेक्स को लेकर कोई लाइन खींचना बहुत मुश्किल है। अगर किसी की सेक्सुअलिटी से दूसरों के अधिकार प्रभावित होते हैं। तो इसे भले बीमारी माना जा सकता है। लेकिन कुछ लोगों की सेक्स ड्राइव ज्यादा है। तो उन्हें इसमें शामिल करना ठीक नहीं होगा। मनोवैज्ञानिक और 'द मिथ ऑफ सेक्स एडिक्शन' के लेखक डेविड जे ले ने 'द वॉशिंगटन पोस्ट' को बताया ऐसा माना जाता है। कि कुछ लोग जब बहुत ज्यादा उत्तेजित हो जाते है तो वो खुद पर नियंत्रण नहीं रख पाते हैं। लेकिन शोध के अनुसार सेक्स की लत वाले लोग ऐसी स्थितियों में भी खुद पर नियंत्रण रख सकते हैं। कुछ वैज्ञानिकों का कहना है, कि अपराधी सेक्स एडिक्शन शब्द का इस्तेमाल अपना गुनाह छिपाने के लिए करते हैं।

तेजस्वी ने 26 को बिहार बंद करनें का किया ऐलान

अविनाश श्रीवास्तव  
 पटना। नीतीश सरकार के बिहार विशेष सशस्त्र के खिलाफ नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने एक बार फिर से मोर्चा खोल दिया है। तेजस्वी यादव ने कहा कि किसी भी हाल में बिहार सरकार को इस काला कानून को वापस करना पड़ेगा या इसमें संसोधन करना पड़ेगा। इसके साथ ही तेजस्वी यादव ने26 मार्च को बिहार बंद का ऐलान किया है।
तेजस्वी यादव ने कहा कि सदन में विधायकों के साथ हुए अत्याचार को लेकर 26 मार्च को महागठबंधन ने बिहार बंद का एलान किया है और पार्टी इस दिन काला दिवस मनाएगी।तेजस्वी यादव ने कहा कि विधानसभा अध्यक्ष के कक्ष के बाहर धरना देने की परंपरा पहले भी रही है। उस वक्त नीतीश कुमार जी भी सदन के सदस्य थे और कर्पूरी ठाकुर जी तीन दिन तक धरना पर बैठे रहे थे। लेकिन विधानसभा में हुई घटना पर नीतीश जी सदन में खेद प्रकट करने की जगह अधिकारियों को क्लीन चिट देने में जुटे हैं।

लॉ आर्डर पर सीएम नीतीश ने की हाई लेवल मीटिंग

अविनाश श्रीवास्तव           
पटना। बिहार में बढ़ती अपराधिक घटनाओं और होली को देखते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार आज लॉ एंड आर्डर पर रिव्यु मीटिंग कर रहे हैं। मुख्यमंत्री बिहार के डीजीपी के साथ-साथ मुख्य सचिव और अन्य वरीय अधिकारियों के साथ लॉ एंड ऑर्डर को लेकर एक हाई लेवल मीटिंग कर रहे हैं। नेक संवाद में सीएम आवास पर वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग के माध्यम से बैठक का आयोजन किया गया है। आपको बता दें कि होली के मद्देनजर मुख्यमंत्री की इस लॉ एंड आर्डर पर रिव्यु मीटिंग को अहम माना जा रहा है। इस बैठक के बाद होली को लेकर कई तरह के गाइडलाइन्स जारी किये जा सकते हैं। साथ ही त्यौहार के समय विधि व्यवस्था बनी रहे। इसके लिए अतिरिक्त पुलिस बल की भी तैनाती की जा सकती है। 

मुख्यमंत्री के साथ हो रही इस बैठक में डीजीपी एसके सिंघल के साथ-साथ सभी जिले के डीएम और एसपी भी वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग के माध्यम से जुड़े हुए हैं।

सरकारी स्कूल में नर्सरी की पढ़ाई करेंगे तेजस्वी

अविनाश श्रीवास्तव       
पटना। नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव अपनी अधूरी पढ़ाई फिर से शुरू करेंगे। जिसके लिए बकाएदा एक सरकारी स्कूल में एडमिशन के लिए आवेदन भी दिया गया है। इस आवेदन में कहा गया है कि बिहार में प्रवेशोत्सव का कार्यक्रम चल रहा है। इसी कार्यक्रम के तहत तेजस्वी यादव को भी नामांकन कराया जाए। जिस स्कूल में यह आवेदन दिया गया है। उस स्कूल के प्रधानाचार्य ने इसकी पुष्टि की है। दरअसल, तेजस्वी यादव की पढ़ाई की जिम्मेदारी उनके परिवार या राजद ने नहीं, बल्कि जदयू के कार्यकर्ताओं ने ली है। गुरुवार को नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव का एडमिशन कराने के लिए जदयू के कुछ लोग इसे पूरा राजकीय मध्य विद्यालय में पहुंचे।

तहसीलदार के घर पर रेड, जला दिये 20 लाख रुपये

नरेश राघानी    
सिरोही। राजस्थान के सिरोही जिले के पिंडवाड़ा तहसील में तहसीलदार ने पहले तो जम के भ्रष्टाचारी में अपने हाथ धोये और फिर जब उसका भ्रष्टाचार सबके सामने आ गया तो उसने ऐसा कदम उठा डाला, जिसने सबकों चौंका दिया।दरअसल भ्रष्टाचार के आरोपी तहसीलदार के यहां छापेमारी वाली टीम कार्रवाई के लिए पहुंची थी। लेकिन तहसीलदार ने अपना अलग ही खेल खेल डाला। पूरे घर को लॉक करके लाखों रूपए आग के हवाले कर दिए। तहसीलदार ने घर पर गैस चुल्हे पर करीब 20 लाख रूपए जला दिए।

चेहरे को तरोताजा रखने के लिए तरबूज का जैल

 अकांशु उपाध्याय     
नई दिल्ली। गर्मियां की शुरुआत मतलब तेज धूप, पसीना और गर्म हवाएं। गर्मियों में सेहत के साथ स्किन का भी बुरा हाल हो जाता है। शरीर को हाइड्रेटेड रखने के लिए सभी खान-पान का ध्यान रखते हैं। लेकिन स्किन को भूल जाते हैं। शरीर के साथ स्किन को भी हाइड्रेटेड रखने के लिए एक्स्ट्रा देखभाल की जरुरत होती है। मर्किट में ऐसे कई जेल मौजूद है जो चेहरे की स्किन को हाइड्रेटेड रखने का दावा करते हैं। लेकिन सफल नहीं हो पाते। आप अपनी स्किन को सीजन के फलों से हाइड्रेटेड कर सकते हैं। जैसे कि तरबूज, तरबूज एक ऐसा फल है। जिसे आप खाने के साथ-साथ चेहरे पर फेशियल जेल की तरह भी इस्‍तेमाल कर सकते हैं। आज हम आपको बिना पैसे खर्च किए घर पर ही तरबूज का जैल बनाने की आसान विधि बता रहे हैं।

पुलिस मुठभेड़ में 1 बदमाश की मौत, 1 घायल

 अकांशु उपाध्याय    
नई दिल्ली। दिल्ली के गुरु तेग बहादुर अस्पताल के बाहर आज गुरुवार को पुलिस और बदमाशों के बीच जबरदस्त मुठभेड़ हो गई। इस गोलीबारी में एक बदमाश की मौत हो गई और एक के घायल होने की खबर है। मरने वाले बदमाश का नाम रवि बताया जा रहा है। जबकि, घायल अविनाश का जीटीबी अस्पताल में इलाज जारी है। मिली जानकारी के अनुसार रवि के खिलाफ पांच-छह आपराधिक मुकदमे दर्ज हैं। बदमाश कार में आए और पुलिस की आखों में मिर्ची पाउडर झोंक कर मेडिकल के लिए ले जाए जा रहे अपने साथी को छुड़ाने का प्रयास किया। इसी बीच दोनों ओर से गोलीबारी शुरू हो गई।
पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार पुलिस कुलदीप फज्जा नाम के बदमाश को मेडिकल के लिए लाई थी। यह बदमाश जितेंद्र गोगी गैंग का सदस्य है। इस पर हत्या जैसे करीब 70 संगीन से अधिक केस दर्ज हैं।
इसे जब जीटीबी अस्पताल लाया गया तो उस वक्त गोगी गैंग के आधा दर्जन बदमाशों ने इसे पुलिस कस्टडी से छुड़वाने के लिए गोलीबारी कर दी। पुलिस ने जवाबी कार्यवाही में एक बदमाश ढेर कर दिया, मगर कुलदीप फज्जा को बदमाश भगा कर ले गए।
कुलदीप फज्जा को भगाने के लिए बदमाश कार से जीटीबी अस्पताल आए थे। इन बदमाशों ने पुलिस की आंखों में मिर्च पाउडर झोंखकर कुलदीप को कस्टडी से छुड़ा लिया। बदमाश कुलदीप को लेकर गेट नम्बर 7 से पैदल बाहर भागे। अस्पताल के बाहर बदमाशों ने मोटरसाइकिल लूटी और उससे फरार हो गए। उनकी तलाश जारी है।

देशों में लू का प्रकोप आम हो जाएगा: वैज्ञानिक

 अकांशु उपाध्याय       
नई दिल्ली। अगर वैश्विक तापमान में वृद्धि को 1.5 डिग्री सेल्सियस पर सीमित कर दिया जाता है तो भी भारत सहित दक्षिण एशियाई देशों में प्राणघातक लू का प्रकोप आम हो जाएगा। अमेरिका स्थित ओक रिज नेशनल लेबोरेटरी सहित विभिन्न संस्थानों के वैज्ञानिकों ने अपने नए अध्ययन में दावा किया कि है भीषण गर्मी की वजह से भारत के खाद्यान्न उत्पादन करने वाले बड़े क्षेत्र में काम करने की स्थिति असुरक्षित हो सकती है जैसे उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल। इसके अलावा तटीय इलाकों एव कोलकाता, मुंबई एवं हैदराबाद जैसे शहरी केंद्रों में भी मुश्किल बढ़ सकती है।

भाजपा के आदेश पर बना नया राजनीतिक दल: ममता

 कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भाजपा पर आने वाले विधानसभा चुनाव में अल्पसंख्यकों का वोट हासिल करने के लिए एक नयी राजनीतिक पार्टी को समर्थन देने का बृहस्पतिवार को आरोप लगाया। बनर्जी 24 परगना जिले में एक चुनावी रैली को संबोधित कर रहीं थीं।उन्होंने किसी दल अथवा व्यक्ति का नाम लिए बिना कहा कि उस पार्टी के संस्थापक को भाजपा से धन मिलता है। उन्होंने कहा,” भाजपा के आदेश पर राज्य में एक नए राजनीतिक दल का गठन हुआ है , जिसका मकसद अल्पसंख्यकों का वोट हासिल करना और भगवा दल की मदद करना है।

केंद्रीय मंत्री अठावले ने की राष्ट्रपति शासन की मांग

मनोज सिंह ठाकुर     
मुंबई। केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले की राष्ट्रपति से यह मुलाकात नई दिल्ली में हुई। मुलाकात के बाद राष्ट्रीय राजधानी में पत्रकारों से बातचीत करते हुए केंद्रीय समाजिक न्याय राज्यमंत्री ने कहा, ” मैंने राष्ट्रपति कोविंद को ज्ञापन दिया है और उनसे महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगाने का अनुरोध किया हैं। उन्होंने मेरी मांग पर विचार करने का आश्वासन दिया है। अठावले की राष्ट्रपति से यह मुलाकात नयी दिल्ली में हुई। मुलाकात के बाद राष्ट्रीय राजधानी में पत्रकारों से बातचीत करते हुए केंद्रीय समाजिक न्याय राज्यमंत्री ने कहा, ” मैंने राष्ट्रपति कोविंद को ज्ञापन दिया है और उनसे महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगाने का अनुरोध किया हैं। उन्होंने मेरी मांग पर विचार करने का आश्वासन दिया है।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण   

1. अंक-221 (साल-02)
2. शुक्रवार, मार्च 26, 2021

3. शक-1983, फाल्गुन, शुक्ल-पक्ष, तिथि- द्वादशी, विक्रमी सवंत-2077।

4. सूर्योदय प्रातः 06:31, सूर्यास्त 06:41।

5. न्‍यूनतम तापमान -12 डी.सै., अधिकतम-30+ डी.सै.। 

6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।

9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110

http://www.universalexpress.page/

email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745                                        (सर्वाधिकार सुरक्षित) 

सैन्य गठजोड़ ने क्षेत्र पर सवालों को जन्म दिया

बीजिंग/ वाशिंगटन डीसी। चीन के खिलाफ अमेरिका, ब्रिटेन और ऑस्ट्रेलिया के नए सैन्य गठजोड़ ने प्रशांत महासागर क्षेत्र को लेकर ने सवालों को जन्म ...