रविवार, 4 जुलाई 2021

अमेरिका को सीधे देख लेने की धमकी दे रहा हैं 'चीन'

बीजिंग/ ताइपे। ताइवान के मामले में चीन आक्रामक हो गया है और अब वह अमेरिका को सीधे देख लेने की धमकी दे रहा है। चीन ने अप्रत्‍यक्ष रूप से जंग की धमकी दी है। चीन के विदेश मंत्री वांग यी ने कहा है, कि ताइवान हमारी मुख्य भूमि का हिस्सा है और अमेरिका इस मामले में हस्तक्षेप कर खतरा उठा रहा है। वांग ने अमेरिका और सहयोगी देशों की उनके देश के खिलाफ बन रही योजनाओं की भी आलोचना की। चीनी विदेश मंत्री ने कहा कि अमेरिका और उसके सहयोगी देशों की शीत युद्ध की मानसिकता से कोई जीत हासिल नहीं होगी, सिर्फ सपने ही देखे जा सकते हैं।

इस मानसिकता से बेहतर दुनिया का निर्माण तो असंभव ही है। अमेरिका ताइवान के मामले में जोखिम उठा रहा है। चीन के एकीकरण को दुनिया की कोई ताकत नहीं रोक सकती है। ज्ञात हो कि चीन लंबे समय से ताइवान पर दावा करता रहा है। बीजिंग में नौवें विश्व शांति मंच के उद्घाटन समारोह में चीन के विदेश मंत्री वांग यी ने अमेरिका और सहयोगी देशों की हिंद-प्रशांत क्षेत्र के लिए बनाई गई रणनीति पर भी टिप्पणी करते हुए कहा कि इस रणनीति को कचरे के ढेर में डाल देना चाहिए। इसका कोई फायदा नहीं होने वाला।

यूपी: 24 घंटे में 128 नए कोरोना संक्रमित मिलें

हरिओम उपाध्याय             

लखनऊ। कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर अब उत्तर प्रदेश में समाप्ति की ओर जाती दिखाई दे रही है। राज्य स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी दैनिक बुलेटिन के अनुसार, प्रदेश में पिछले 24 घंटों की अवधि में केवल 128 नए मरीज मिले और 305 मरीजों को डिस्चार्ज किया गया। इस अवधि में आधिकारिक रूप से केवल 1 मरीज की दर्ज की गई। प्रदेश में अब 2,264 सक्रिय संक्रमित हैं।

बुलेटिन के अनुसार, अब प्रदेश में कुल 16,81,717 मरीजों ने कोरोना को मात दी है। जबकि 22,640 मरीजों ने संक्रमण के चलते अपनी जान गंवाई है। शुक्रवार की तरह ही शनिवार को भी इस अवधि में सबसे अधिक 13 मरीज राजधानी लखनऊ में मिले। दूसरे नंबर पर प्रयागराज जिला रहा। जहां 11 नए मरीज मिले। 24 घंटों में एकमात्र मरीज की मौत सीतापुर जिले में दर्ज की गई। जबकि सबसे ज्यादा मरीज 59, मुजफ्फरनगर जिले से डिस्चार्ज किए गए।

गाजियाबाद में 10 अगस्त तक धारा-144 लागू, निर्देश

अश्वनी उपाध्याय            

गाजियाबाद। कोराना संक्रमण को रोकने लिए जारी साप्ताहिक लॉकडाउन के साथ गाजियाबाद में 10 अगस्त तक धारा-144 लागू कर दी गई है। इस दौरान शादी व अन्य समारोह में अधिकतम 50 लोगों व अंतिम संस्कार के लिए 20 लोगों की इजाजत होगी। साथ ही किसी प्रकार की रैली, जुलूस, धार्मिक, राजनीतिक रैली के लिए इजाजत लेनी होगी। पुलिस प्रशासन को निर्देश दिए हैं कि मास्क न पहनने वालों लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जायें।

जिलाधिकारी राकेश कुमार सिंह ने बताया कि जनपद में शनिवार व रविवार को साप्ताहिक लॉकडाउन जारी है। इसके साथ ही सप्ताह के बाकी दिन रात 9 बजे से सुबह 7 बजे तक प्रतिबंध है। जनपद में कोई भी सामाजिक, राजनीतिक, खेल, मनोरंजन, सास्कृतिक, धार्मिक रैली, जुलूस के लिए इजाजत लेनी होगी। सभी आवश्यक वस्तुओं व मंडी की दुकान तय समय तक ही खुलेंगी। बिना मास्क के सामान नहीं बेचेंगे। साथ खरीददार को भी मास्क लगाना जरूरी होगा।

विधानसभा के वार्डो व ग्रामीण क्षेत्रों का दौरा किया

सत्येंद्र पंवार              
मेरठ। मलिन बस्तियों में पार्षद मेयर विधायक सांसद सब नदारद है। महामारी का प्रकोप जबरदस्त हावी हो चुका है। बहुजन मुक्ति पार्टी के प्रदेश मीडिया प्रभारी एवं मेरठ मंडल अध्यक्ष आर डी गादरे ने टीम के साथ मेरठ दक्षिण विधानसभा के वार्डो, ग्रामीण क्षेत्रों का दौरा किया और जन समस्याओं को सुना इसमें पाया गया कि वार्ड 84 में मलिन बस्ती आती है। शाहजहां कॉलोनी लिसाड़ी रोड नूर नगर ईरा गार्डन रोड ग्राम नरहेड़ा रोड ग्राम गगोल गांवड़ी खेड़ा आदि गांवों का दौरा किया और पाया कि कोई भी पूछने वाला नहीं है। सड़कों का हाल बुरा है, आने वाला वक्त जो बरसात का होगा। वह बड़ा दूभर गुजरने वाला है। 
एक और महामारी का संकट छाया हुआ है। दूसरी ओर पानी जलभराव की स्थितियों से गंदगी से महामारी फैलने का जबरदस्त प्रकोप है। लेकिन कोई देखने वाला नहीं, यदि सरकार के सब दावे झूठे हैं दिखावा और ढकोसला है। यह गुंडागर्दी की सरकार है, जिसमे आज कोई भी सुरक्षित नहीं है। ना बच्चे ना बूढे ना जवान बस लोकडाउन इन का हथियार है। जिससे लोग भुखमरी की कगार पर जी रहे हैं ? पुलिस विभाग जबरदस्त किसी पर भी कोई भी केस ठोक दे कर लोगों को यातनाएं दे रही हैं। शासन प्रशासन मनमानी पर उतरा हुआ है। जो बीएमपी कभी नहीं होने देगी, लोगों से बात की गई। वार्ड 84 में बेबी मैडम से उन्होंने जानकारी दी कि यहां कोई देखने वाला कभी आता नहीं। 
अभी आते हैं तो बस चले जाते हैं या अपनी खबर बना करके क्या अपनी फोटो खिंचाई और चले गए ? लेकिन कोई कार्यवाही नहीं हो पा रही बहुजन मुक्ति पार्टी की मेरठ दक्षिण प्रभारी ऑडी गाड़ी ने अफसोस और चिंताजनक वक्तव्य में कहा कि मजलूम मजदूर मलिन बस्तियों का कोई हिमायती नहीं है। लेकिन बहुजन मुक्ति पार्टी मलिन बस्तियां ही नहीं पिछड़ों अति पिछड़ों अनुसूचित अनुसूचित जनजाति मूल निवासियों के एकमात्र पार्टी बहुजन मुक्ति पार्टी है। जो आने वाले वक्त में आप सभी का सहयोग है। 
कर उच्च लेवल पर मलिन बस्तियों में कार्य किए जाएंगे पिछड़े अति पिछड़ों के लिए जबरदस्त तरीके से कार्य के जाएंगे और आने वाले वक्त में केवल एक ही विपक्ष और पक्ष का कार्य बहुजन मुक्ति पार्टी कर रही है। और करती रहेगी आने वाले वक्त में मूलनिवासी बहुजनो की सरकार बनेगी जो एकमात्र पार्टी बहुजन मुक्ति पार्टी है अन्यथा सब दिखावा है। सब समाज को धोखा दे रही हैं। पार्टी पदाधिकारी कार्य कर्ता में मास्टर शकील सैफी, ओमवीर सिंह, आवेश अहमद, मोहम्मद साबिर इरशाद, बेबी नाज, नौशाद अहमद, जावेद इस्राइल, मेराजुद्दीन एजाज, अब्दुल हमीद सलाउद्दीन, गुलशन आसिफ, तमन्ना सईद अनवर, मूलचंद महेंद्र पाल कुशवाहा, सत्येंद्र सैनी, मूल्य कश्यप, विजय ओंकार, गुरु वचन आदि मौजूद।

मूल निवासियों की हिमायत करने के लिए शपथ ली

सत्येंद्र पंवार                
मेरठ। बहुजन मुक्ति पार्टी की विचारधारा से प्रभावित होकर मोहम्मद सादिक एवं कय्यूम सैफी ने किठौर विधानसभा के हसनपुर कलां निवासी ने संविधान बचाने एवं गरीब मजदूर मजलूम मूल निवासियों की हिमायत करने के लिए शपथ ली।
बहुजन मुक्ति पार्टी के प्रदेश मीडिया प्रभारी एवं मेरठ मंडल अध्यक्ष आर डी गादरे जिला अध्यक्ष ओमवीर सिंह बाबर मलिक महेश कुशवाहा आदि ने किठौर विधानसभा क्षेत्र का दौरा किया और हसनपुर कला में नुक्कड़ सभा की। जिसमें बहुजन मुक्ति पार्टी की विचारधारा से प्रभावित होकर मोहम्मद कयूम सैफी एवं मोहम्मद सादिक नए बहुजन मुक्ति पार्टी की सदस्यता ग्रहण की बैठक में चौधरी बाबर बाबा, टिंकू राजा चौधरी, उमेश कुमार, आशीष, मोहम्मद खालिक, अब्दुल रहमान, सैफी आदि ने विचार सुने और तन मन धन से पार्टी का सहयोग करने के लिए कहा।

राजनीतिक: नेता बीरेंद्र से मिलने पहुंचे सीएम खट्टर

राणा ओबराय                
चंडीगढ़। हरियाणा के तेज तरार नेता बीरेंद्र सिंह से उनके दिल्ली निवास पर एकाएक हरियाणा के मुख्यमंत्री खट्टर मिलने पहुंच गए। यह मिलन कुछ संकेत दे रहा है। खट्टर औऱ बीरेंद्र की इस मुलाकात का राजनीतिक पंडित कुछ अलग तरह का मतलब निकाल रहे हैं। कुछ विद्वानों का कहना है कि मोदी मंत्रिमंडल विस्तार में शायद उनके पुत्र औऱ सांसद बृजेन्द्र सिंह को मन्त्री बनाने का सन्देश देने के लिए खट्टर उनके निवास पर गए हैं। अन्य इसको किसान आंदोलन से जुड़ा हुआ मान रहे हैं। मतलब कोई भी हो। हरियाणा की राजनीति में कुछ नया होने की सम्भावना साफ दिख रही है।

पौधारोपण कर धरती को हरा-भरा करने का प्रयास

कौशाम्बी। शासन के निर्देश पर इलाके में पौधारोपण किया गया है। बड़े पैमाने पर सरकारी नुमाइंदों ने पौधारोपण कर धरती को हरा-भरा करने का प्रयास किया है। इसी क्रम में मूरतगंज विकासखंड क्षेत्र के प्राथमिक एवं पूर्व माध्यमिक विद्यालय मलाक नागर मे ग्राम प्रधान लालता प्रसाद एव अरविन्द सिंह ग्राम विकास अधिकारी पंचायत मित्र मकसूद अहमद द्वारा पौधारोपण का कार्य किया गया एवं पौधों का हमारे जीवन में कितना महत्व है। इसके बारे में ग्रामीणों को जानकारी भी दी गयी। 
इस मौके पर पौधारोपण कर रहे लोगों ने कहा कि वृक्ष हमे ऑक्सीजन देते हैं। मानव जीवन में वृक्ष की बहुत आवश्यकता है। इसकी देखभाल करना प्रत्येक मनुष्य का कर्तव्य है। उन्होंने कहा कि धरती से वृक्ष गायब हो जाएंगे तो मानव जीवन पर अकाल पड़ जाएगा। आम जनमानस को वृक्ष लगाने के लिए अधिकारियों ने प्रेरित किया है।
समीर अहमद 

दमकल की गाड़ियों ने मशक्कत के बाद पाया काबू

अतुल त्यागी               
हापुड़। मामला जनपद के थाना धौलाना क्षेत्र के यूपीएसआईडीसी चौकी क्षेत्र के इंडस्ट्रियल एरिया का है। जहां केमिकल फैक्ट्री में जा रहे टैंकर में अचानक शार्ट सर्किट की वजह से आग लग गई। धीरे-धीरे आग ने इतना विकराल रूप धारण कर लिया।
कुछ ही देर के अंदर ट्रक में लंबी-लंबी लपटें उठने लगी आसपास की फैक्ट्रियों में आग लगने का खतरा मंडराने लगा उसी दौरान फैक्ट्रियों में अफरा-तफरी मच गई।सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने आग ब्रिगेड की गाड़ी को किया फोन।
सूचना पाकर मौके पर पहुंची दमकल की गाड़ियों ने कड़ी मशक्कत के बाद पाया काबू, तब जाकर ली। लोगों ने राहत की सांस फैक्ट्रियों में आग लगने का सिलसिला पहला नहीं अब से पहले भी कई फैक्ट्रियों में लग चुकी है, आप लोगों ने बचाई है। भाग कर अपनी जान दमकल की गाड़ियों नजदीक में किया जाए इंतजाम, तो होने वाली घटनाओं पर जल्दी लगाया जा सकता अंकुश।

गर्मी के कारण आइसक्रीम की बिक्री 35 प्रतिशत घटी

अकांशु उपाध्याय                
नई दिल्ली। अमूल ब्रांड दूध और उससे बने उत्पादों का कारोबार करने वाली सहकारी कंपनी जीसीएमएमएफ का वित्त 2020-21 में कारोबार कोविड-19 के प्रकोप के बावजूद कोविड-19 दो प्रतिशत बढ़कर 39,200 रुपये रहा। कंपनी के प्रबंध निदेशक आरएस सोढ़ी ने रविवार को यह जानकारी दी। गुजरात सहकारी दुग्ध विपणन महासंघ लि. (जीसीएमएमएफ) ने वित्तीय वर्ष 2019-20 के दौरान 17 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 38,550 करोड़ रुपये का राजस्व दर्ज किया था। 
सोढ़ी ने कहा कि बीते वित्त वर्ष के दौरान बिक्री में वृद्धि की रफ़्तार थोड़ी धीमी रही लेकिन चालू वित्त वर्ष में इसमें तेजी वापस आने की उम्मीद है। 
सोढ़ी ने कहा, ”हमने पिछले वित्त वर्ष के दौरान दो प्रतिशत की वृद्धि के साथ 39,200 करोड़ रुपये का कारोबार किया। इस दौरान ताजा दूध, चीज, दही, छाछ और पनीर जैसे उत्पादों की श्रेणी में बिक्री 8.5-9 प्रतिशत बढ़ी थी।”
सोढ़ी ने कहा कि बीते वित्त वर्ष में कंपनी की आइस क्रीम की बिक्री गर्मियों के दौरान लगे राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन के कारण 35 प्रतिशत घट गई। पाउडर दूध का कारोबार भी प्रभावित हुआ है। उन्होंने कहा, ”हम प्रतिदिन 150 लाख लीटर दूध बेचते हैं। गुजरात से लगभग 60 लाख लीटर, दिल्ली-एनसीआर से 35 लाख लीटर और महाराष्ट्र से 20 लाख लीटर दूध बिकता है। हम चालू वित्त वर्ष के दौरान दोहरे अंकों की उच्च वृद्धि पर लौटने की उम्मीद कर रहे हैं।

दिल्ली में संक्रमण के 94 नए मामलें सामने आएं

अकांशु उपाध्याय         
नई दिल्ली। दिल्ली में रविवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 94 नए मामले सामने आए और सात रोगियों की मौत हुई। जबकि संक्रमण दर 0.13 प्रतिशत है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा यहां जारी आकंड़ों में यह जानकारी दी गई। विभाग के मुताबिक, पिछले साल महामारी फैलने के बाद से राष्ट्रीय राजधानी में कोविड-19 के 14,34,554 मामले सामने आ चुके हैं। जबकि 14.08 लाख लोग संक्रमण से उबर चुके हैं। मृतकों की कुल संख्या 24,995 है।
स्वास्थ्य विभाग के अनुसार, उपचाराधीन रोगियों की कुल संख्या कम हो कर 992 रह गई है। भारत में कोविड-19 और टीकाकरण संबंधी आंकड़े जुटाने वाले ‘कोविड19 इंडिया ओआरजी’ के अनुसार उपचाराधीन रोगियों की संख्या 10 अप्रैल के बाद से सबसे कम है।
उस दिन रोगियों की संख्या 862 थी। ताजा बुलेटिन में कहा गया है कि पिछले दिन 52, 856 आरटी-पीसीआर जांच समेत 75,133 नमूनों की जांच की गई। दिल्ली में शनिवार को कोविड-19 के 86 मामले सामने आए थे और पांच लोगों की मौत हुई थी। संक्रमण की दर 0.11 प्रतिशत थी।

झगड़े का मामला, तिहाड़ जेल में बंद है सुशील: खेल

अकांशु उपाध्याय          
नई दिल्ली। ओलंपिक खेलों में दो बार पदक हासिल कर देश का नाम रौशन कर चुके पहलवान सुशील कुमार ने तिहाड़ जेल के अधिकारियों से टेलीविजन उपलब्ध कराने की मांग की है कि ताकि उसे कुश्ती से जुड़े मैचों के बारे में जानकारी मिल सके। यहां के छत्रसाल स्टेडियम में हुए झगड़े के मामले में कुमार तिहाड़ जेल में बंद है। गौरतलब है कि इससे पहले मंडोली जेल में रहते हुए सुशील ने विशेष आहार तथा सप्लीमेंट्स उपलब्ध करवाने की मांग की थी। कुमार को मामले में सह आरोपी अजय कुमार के साथ 23 मई को दिल्ली के मुंडका इलाके से पकड़ा गया था। 
आरोप हैं कि कुमार और उसके सहयोगियों ने संपत्ति विवाद में चार और पांच मई की दरम्यानी रात में पहलवान सागर धनखड़ और उसके दो दोस्तों सोनू तथा अमित कुमार पर हमला किया था।धनखड़ की बाद में मौत हो गई थी। जेल के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि कुमार ने टेलीविजन की मांग अपने वकील के माध्यम से की है। उन्होंने कहा कि कुमार ने टेलीविजन मुहैया कराने का अनुरोध इसलिए किया है ताकि उसे कुश्ती से जुड़े मैच के बारे में जानकारी मिल सके। पूर्व में दिल्ली की एक अदालत ने कुमार की न्यायिक हिरासत नौ जुलाई तक के लिए बढ़ा दी थी।कुमार को मंडोली जेल से तिहाड़ जेल नबंर दो में स्थानांतरित किया गया है। पुलिस ने बताया कि छत्रसाल स्टेडियम झगड़ा मामले में कुमार सहित अभी तक 12 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है।
पुलिस का कहना है कि कुमार ही हत्या मामले में ”मुख्य दोषी और इसका मास्टरमाइंड” है। साथ ही उन्होंने कहा कि इलेक्ट्रॉनिक साक्ष्य हैं जिसमें कुमार और उसके साथियों को धनखड़ के साथ मारपीट करते देखा जा सकता है।

पाकिस्तानी कहने पर किसान नेता का पुतला जलाया

राणा ओबरॉय           
हिसार। पंजाब खत्री एकता समिति के सदस्यों ने हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को पिछले दिनों पाकिस्तानी कहने पर किसान नेता गुरनाम सिंह चढ़ूनी का आज पुतला जलाया।
हांसी में उमरा गेट पर समिति के सदस्यों ने चढ़ूनी पर मुकदमा दर्ज करने की मांग भी की। संगठन के प्रधान विनोद जुनेजा ने इस अवसर पर पत्रकारों से कहा कि चढ़ूनी ने ऐसे बयान से सामाजिक भाइचारे को चोट पहुंचाने की कोशिश की है और यह बर्दाश्त नहीं होगी। उन्होंने कहा कि समिति सरकार से मांग करती है कि चढ़ूनी के खिलाफ कार्रवाई की जाए।

तृणमूल कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर उपद्रवियों का हमला

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस के दो कार्यकर्ताओं पर उपद्रवियों ने हमला किया और शहर के उत्तर में बाहरी इलाके में स्थित पार्टी कार्यालय के बाहर हवा में गोली चलाई, जिससे इलाके में भय का माहौल पैदा हो गया। एक पुलिस अधिकारी ने रविवार को बताया कि इस घटना के सिलसिले में छह लोगों को गिरफ्तार किया गया है। अधिकारी ने बताया, ” शनिवार रात करीब साढ़े नौ बजे कम से कम 10 से 12 लोग मोटरसाइकिल पर सवार होकर उत्तर 24 परगना में तृणमूल कांग्रेस के देशप्रियनगर स्थित क्षेत्रीय कार्यालय आए और वहां रखे फर्नीचरों में तोड़फोड़ की और दो कार्यकर्ताओं को रिवाल्वर के हत्थे से मारने से पहले खींच कर कार्यालय से बाहर ले आए। 
उन्होंने बताया कि इसके बाद उपद्रवियों ने हवा में गोली चलाई और दोनों घायलों को सड़क पर छोड़ मौके से फरार हो गए। अधिकारी के मुताबिक, इस घटना से स्थानीय लोग डरे हुए हैं। इस घटना को लेकर राजनीतिक आरोप-प्रत्यारोप का दौर भी शुरू हो गया है। तृणमूल कांग्रेस ने हमले के लिए भाजपा कार्यकर्ताओं को जिम्मेदार ठहराया है, जबकि भगवा पार्टी ने इन आरोपों से इनकार किया है।दिन में घटनास्थल का मुआयना करने पहुंचे स्थानीय विधायक मदन मित्रा ने पत्रकारों से बातचीत में कहा,भाजपा चुनाव में हारने के बाद तृणमूल कार्यकर्ताओं को भयभीत करने की कोशिश कर रही है। 
हम इसके विरोध में रैली निकालेंगे। हालांकि, भाजपा की पश्चिम बंगाल इकाई के अध्यक्ष दिलीप घोष ने दावा किया कि यह तृणमूल कांग्रेस की अंदरूनी लड़ाई का नतीजा है।

उन्होंने कहा कि तृणमूल कांग्रेस के दो गुट इलाके के रियल एस्टेट पर नियंत्रण करने के लिए संघर्ष कर रहे हैं। इस बीच, एक अन्य घटना में तृणमूल विधायक लवली मोइत्रा ने आरोप लगाया कि उनके निर्वाचन क्षेत्र सोनारपुर दक्षिण में जनता तक पहुंचने के कार्यक्रम के लिए लगाए गए पंडाल में शनिवार रात ‘आग लगा दी’ गई। मोइत्रा ने कहा, ”कुछ शरारती तत्व इलाके में हमारे कार्यक्रम को रोकने का प्रयास कर रहे हैं। वे सफल नहीं होंगे। उन्होंने कहा कि पुलिस मामले की जांच कर रही है।

हिमाचल के 3 दिवसीय दौरे पर बिलासपुर पहुंचे नड्डा

श्रीराम मौर्य             

शिमला। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा रविवार को हिमाचल प्रदेश के तीन दिवसीय दौरे पर बिलासपुर पहुंचे। नड्डा के कार्यक्रम के अनुसार, सोमवार को वह अटल सुरंग रोहतांग (एटीआर) जाएंगे। अपने गृह राज्य के दौरे पर आए नड्डा पिछले साल अटल सुरंग के औपचारिक उद्घाटन समारोह में शामिल नहीं हो सके थे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तीन अक्टूबर, 2020 को इसका उद्घाटन किया था। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने रविवार को नड्डा के बिलासपुर पहुंचने पर लुह्नु मैदान में उनका स्वागत किया। हिमाचल प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष और पार्टी सांसद सुरेश कश्यप, शहरी विकास मंत्री सुरेश भारद्वाज, खाद्य और नागरिक आपूर्ति और उपभोक्ता मामलों के मंत्री राजिन्दर गर्ग भी इस मौके पर मौजूद थे। सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि बिलासपुर के सर्किट हाउस में नड्डा और ठाकुर के बीच बातचीत भी हुई।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तीन अक्टूबर, 2020 को इसका उद्घाटन किया था। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने रविवार को नड्डा के बिलासपुर पहुंचने पर लुह्नु मैदान में उनका स्वागत किया। हिमाचल प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष और पार्टी सांसद सुरेश कश्यप, शहरी विकास मंत्री सुरेश भारद्वाज, खाद्य और नागरिक आपूर्ति और उपभोक्ता मामलों के मंत्री राजिन्दर गर्ग भी इस मौके पर मौजूद थे। सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि बिलासपुर के सर्किट हाउस में नड्डा और ठाकुर के बीच बातचीत भी हुई।


भाजपा विधायक की कार भीषण दुर्घटना का शिकार

हरिओम उपाध्याय           

बिसौली। शनिवार रात बिनावर थाना क्षेत्र में बिसौली से भाजपा विधायक कुशाग्र सागर की कार भीषण दुर्घटना का शिकार हो गई। कार में विधायक के साथ एक गनर और ड्राइवर भी मौजूद थे। सभी कार सवार सुरक्षित हैं। हादसे को देख राहगीरों की भीड़ मौके पर जुट गई। सूचना मिलते ही स्थानीय पुलिस भी पहुंच गई। राहगीरों ने बचाव कार्य शुरू कर दिया। गनीमत रही कि विधायक के साथ कार सवार सभी सुरक्षित हैं। विधायक कुशाग्र सागर बरेली से बदायूं लौट रहे थे। बिनावर के पास उनकी गाड़ी को ट्रक ने पीछे से टक्कर मारी थी। आगे दूसरा ट्रक खड़ा था। जिससे कार आगे वाले ट्रक में जा घुसी। गाड़ी दोनों ट्रकों के बीच में बुरी तरह से फंस कर बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई।

ग्रैंड रोड समेत सभी सड़कों को सील किया जाएंगा

पुरी। विश्व प्रसिद्ध तीर्थनगरी पुरी में रथयात्रा के मौके पर श्रद्धालुओं की भीड़ को रोकने के लिए 11 जुलाई से दो दिन के लिए निषेधाज्ञा (धारा-144) लागू रहेगी और भगवान जगन्नाथ मंदिर को जोड़ने वाली ग्रैंड रोड समेत सभी सड़कों को सील कर दिया जाएगा। मंदिर प्रशासन की शनिवार को यहां आयोजित बैठक में निर्णय लिया गया कि इस बार केवल सेवक ही तीनों रथों को खीचेंगे तथा कोई भी अधिकारी रथ खींचने में भाग नहीं लेंगे। बैठक में रथ यात्रा के आयोजन के संबंध में अन्य निर्णय भी लिए गए। जगन्नाथ मंदिर के मुख्य प्रशासक डॉ. कृष्ण कुमार ने कहा कि केवल आरटी पीसीआर परीक्षण में नेगेटिव रिपोर्ट वाले सेवकों को ही रथयात्रा में शामिल होने की अनुमति दी जाएगी। 

इसके साथ ही मंदिर के अधिकारियों और पुलिस कर्मियों के अलावा लगभग 2200 सेवकों को कार उत्सव से पहले कोविड परीक्षण से गुजरना होगा।मंदिर प्रशासन की ओर से करीब 6,000 लीटर सैनिटाइजर खरीदे जा चुके हैं। सेवादारों को रथ खींचने से पहले सैनिटाइज़र और एक-एक तौलिया दिया जाएगा। डॉ. कुमार ने कहा कि रथों पर अपनी मौजूदगी को कम से कम करने के लिए सेवकों ने सहमत जताई है तथा उनकी ओर से कोई बाधा उत्पन्न नहीं जाएगी।

फेसबुक पर खौफनाक मजाक ने 3 लोगों की जान ली

तिरुवनंतपुरम। फेसबुक पर रिश्तेदारों के बीच एक खौफनाक मजाक ने तीन लोगों की जान ले ली। मरने वालों में एक नवजात बच्चा भी शामिल है। एक परित्यक्त बच्चे के संबंध में केरल पुलिस की जांच में यह खुलासा हुआ। केरल के कोल्लम जिले में इस साल जनवरी में जन्म के महज कुछ घंटे बाद एक नवजात बच्चा सूखे पत्तों की ढेर में मिला था। नवजात को अस्पताल में भर्ती कराया गया जिसने बाद में दम तोड़ दिया। पुलिस जांच में खुलासा हुआ कि कोल्लम के कल्लूवथुक्कल गांव की निवासी रेशमा नवजात की माता है।

महिला को जून में गिरफ्तार किया गया। जांच के दौरान रेशमा ने पूछताछ में बताया कि फेसबुक पर आनंदू नामक व्यक्ति से उसकी दोस्ती हुई और व्यक्ति के साथ रहने के लिए उसने बच्चे को मरने के लिये छोड़ दिया था। हालांकि वह व्यक्ति से कभी मिली नहीं थी। हालांकि इस घटना में रोचक मोड़ तब आया जब दोनों महिलाओं (आर्या और ग्रीष्मा) ने कथित रूप से नदी में कूदकर जान दे दी। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि बाद में पुलिस ने ग्रीष्मा के एक पुरूष मित्र से पूछताछ की जिसने खुलासा किया कि आर्या और ग्रीष्मा ने आनंदू नाम से एक फर्जी फेसबुक अकाउंट बनाया था और वे रेशमा से मजाक करती थीं।

पुलिस को पता चला कि कथित रूप से आत्महत्या से पहले आर्या ने अपनी सास को इस मजाक के बारे में बताया था। आर्या के पति ने बाद में मीडिया को बताया कि वह पुलिस का शुक्रगुजार है जिसने यह पता लगाया कि उसकी पत्नी ने आखिर जान क्यों दी। उसने बताया कि उसे इस मजाक के बारे में कोई भनक नहीं थी। रेशमा की गिरफ्तारी की खबर सुनकर विदेश से लौटे उसके पति ने बताया कि अगर उसे किसी ने भी इस बारे में बताया होता तो शायद वह ऐसा होने से रोक सकता। पुलिस ने बताया कि वर्तमान में कोविड-19 से संक्रमित पाये जाने के बाद रेशमा एक पृथक-वास केंद्र में न्यायिक हिरासत में है।

संत-महापुरुषों ने राष्ट्र को जागृत करने में योगदान दिया

हरिओम उपाध्याय           
हरदोई। शिव सत्संग मण्डल के ग्रीष्मकालीन धर्मोत्सव में मंडलाध्यक्ष आचार्य अशोक ने कहा कि आद्य शंकराचार्य, स्वामी श्रध्दानंद, बुध्द, महावीर, दयानंद सरस्वती, चाणक्य, समर्थ गुरु रामदास, रामकृष्ण परमहंस, स्वामी रामतीर्थ, अरविंद घोष, गुरु गोविंद सिंह, स्वामी विवेकानंद, वंदा वैरागी,संत कबीर आदि अनेकों संत-महापुरुषों ने धर्म के साथ-साथ राष्ट्र को संगठित व समाज को जागृत करने में विशेष योगदान दिया।
निकटवर्ती शिव सत्संग मण्डल,आश्रम हुसेनापुर धौकल में आयोजित धर्मोत्सव में कहा किशिवोपासना, शिव के ध्यान और भजन से जीवन सुखमय हो जाता है। परिवारों में सुख शांति स्थापित होती है।मंडलाध्यक्ष ने कहा कि आत्मचिंतन से श्रेष्ठ मूल्यों को जीवन में उतारने का मार्ग प्रशस्त होता हैं।
महात्मा विनोद मिश्र दादा ने बताया कि जीवन अनमोल है।इस अनमोल जीवन के महत्व को समझते हुए एक एक क्षण का उपयोग करते हुए आत्मचिंतन करें।और समग्र जीवन को सफल बनाएं। लखनऊ मंडल के अध्यक्ष राजेश पांडेय ने कहा कि विश्व के विभिन्न देशों में संतों की एक लम्बी श्रृंखला दिखायी पड़ती है। किन्तु भारतीय संत परम्परा को सर्वोपरि माना गया है।
त्याग, तपस्या और लोक कल्याण के लिए ही संत धरती पर विचरण करते हैं। लखीमपुर के जिलाध्यक्ष जमुना प्रसाद ने कहा कि शिव सत्संग मण्डल के संस्थापक संत श्री कृष्ण कन्हैया एवं संत श्रीपाल महाराज ने समाज को जाग्रत कर सत्य की राह दिखाई। जिला महामंत्री रविलाल ने आत्मविश्वास को जगाइये, अंधविश्वास को दूर भगाइए। भय मुक्त जीवन का आनन्द लीजिए।सत्य को जानने और समझने के लिए महर्षि दयानंद सरस्वती कृत सत्यार्थ प्रकाश का स्वाध्याय अवश्य ही करना चाहिए।ईश्वर से प्रार्थना है कि हमारी बुद्धियों को सन्मार्ग की ओर प्रेरित करें। व्यवस्था प्रमुख यमुना प्रसाद ने शिव नाम की महिमा बताते हुए कहा कि परमात्मा शिव के तत्व ज्ञान से जीवन में श्रेष्ठता आती है और बुराइयों का विनाश होता है।

16 चिकित्सकों को सुरक्षा किट देकर सम्मानित किया

हरिओम उपाध्याय                
वाराणसी। आशा ट्रस्ट ने 16 ग्रामीण चिकित्सकों को  कोरोना योद्धा सम्मान पत्र और स्वास्थ्य सुरक्षा किट देकर सम्मानित किया गया। 
वाराणसी: चौबेपुर, 3 जुलाई 2021 (शनिवार) कोरोना संक्रमण काल में ग्रामीण चिकित्सकों ने साहस के साथ कार्य किया। और मौत के सैलाब को बांधा: वल्लभाचार्य पाण्डेय  आशा ट्रस्ट ने 16 ग्रामीण चिकित्सकों को  कोरोना योद्धा सम्मान पत्र और स्वास्थ्य सुरक्षा किट देकर सम्मानित किया गया ग्रामीण चिकित्सक सम्मान कार्यक्रम के अंतर्गत शनिवार को चौबेपुर क्षेत्र के डुढूवां  ग्राम स्थित दुर्गा मंदिर परिसर में आयोजित  किये गये कार्यक्रम में डुढूवां, सरैया, टेकुरी, लक्ष्मीसेनपुर, धौरहरा, हरिहरपुर और श्रीकंठपुर गाँव में चिकित्सा कार्य कर रहे 16 चिकित्सकों को कोरोना योद्धा सम्मान से सम्मानित किया गया साथ ही उन्हें स्वास्थ्य सुरक्षा किट भी प्रदान किया गया जिसमें ऑक्सीमीटर, थर्मल स्कैनर, वेपोराइजर, थर्मामीटर, फेस शील्ड, मास्क, आवश्यक दवाएं, पर्चे आदि दिए गये। जिसका चिकित्सा के दौरान प्रयोग किया जा सके। कार्यक्रम के दौरान लोगों को दो गज दूरी के साथ ही मास्क लगाये रखने की अपील की गयी और कोविड से बचाव सम्बन्धी जागरूकता के परचे दिए गये.उक्त कार्यक्रम  सामाजिक संस्था आशा ट्रस्ट के तत्वावधान में किया गया. कार्यक्रम समन्वयक वल्लभाचार्य पाण्डेय ने कहा कि कोरोना संक्रमण के दूसरे लहर के दौरान जब सरकारी अस्पतालों और बड़े अस्पतालों में बेड और आक्सीजन के लिए हाहाकार मचा हुआ था। उस समय दूर दराज गाँवों में चिकित्सकजन ने बड़ी जिम्मेदारी के साथ पीड़ित और संक्रमित लोगों को चिकित्सा सुलभ कराइ. इन चिकित्सको के पास प्रायः बड़ी डिग्री नही होती लेकिन इनका विभिन्न प्रकार की स्वास्थ्य समस्याओं के इलाज करने का अनुभव कही बहुत ज्यादा है और यही कारण था कि कोरोना की दूसरी लहर के दौरान इन चिकित्सकों ने ग्रामीण क्षेत्र में हजारों लोगों की जान बचाई। 

अवैध शराब बिक्री करने वालों पर कार्यवाही: हाथरस

हरिओम उपाध्याय            
हाथरस। पुलिस अधीक्षक  के निर्देशन में अवैध शराब के निर्माण तथा बिक्री पर अंकुश लगाये जाने हेतु ऑपरेशन प्रहार के तहत गांवो/कस्बों में चौपाल लगाकर विश्वास पर्ची बाँटी हाथरस से ब्यूरो चीफ राहुल दीक्षित की रिपोर्टहाथरस-। पुलिस अधीक्षक हाथरस  विनीत जायसवाल के निर्देशन में अवैध शराब के निर्माण तथा बिक्री पर अंकुश लगाये जाने के दृष्टिगत जनपद मे जारी ऑपरेशन प्रहार के तहत हाथरस पुलिस द्वारा जनपद में अवैध शराब निर्माण व बिक्री करने वालें लोगो पर लगातार वृहद स्तर पर कार्यवाही की जा रही है। इसके साथ ही चौकी प्रभारी/हल्का प्रभारी/बीट आरक्षी को निर्देशित कर दिया गया है कि अपने अपने क्षेत्र में भ्रमण कर सूचना संकलित कर अवैध शराब बिक्री व निर्माण करने वालो के विरुद्ध कानूनी कार्यवाही की जाये तथा इस अभियान में ग्राम चौकीदारों, ग्राम प्रधान, पूर्व प्रधान व ग्राम के सम्भ्रान्त व्यक्तियो से भी सहायता लेकर गांव/मोहल्लों के विषय मे अवैध शराब बिक्री व निर्माण करने वालो लोगो के बारे में जानकारी कर अविलंब कार्यवाही की जा रही है।
साथ ही जनपद में संचालित जनसंवाद सैल के माध्यम से भी गांवो/कस्बों के सभ्रान्त व्यक्तियो तथा ग्राम प्रधान, पूर्व प्रधान आदि लोगो से फोन से संपर्क कर गांव/कस्बो की जानकारी प्राप्त की जा रही है। जिससे अवैध शराब बेचने या बनाने वाले व्यक्तियों के बारे में जानकारी कर उनपर अंकुश लगाया जा सके।
इसी क्रम में समस्त समस्त क्षेत्राधिकारी/प्रभारी निरीक्षको द्वारा अपने अपने क्षेत्र के गांवो/कस्बो में विश्वास पर्ची बांटकर/चौपाल लगाकर लोगो को प्रोत्साहित किया जा रहा है कि अगर आपके क्षेत्र में या गांव में कही भी कोई अवैध शराब बिक्री या बनाई जा रही है, तो इसकी सूचना तत्काल विश्वास पर्ची के पीछे लिये नम्बरो में निर्भिक होकर दे। आपका नाम पता गोपनीय रखा जायेगा तथा अवैध शराब बेचने व बनाने वालो के विरुद्ध कड़ी कानूनी कार्यवाही अमल में लायी जायेगी । तथा गांवो में जाकर पोस्टर भी चिपकाये जा रहे है जिससे लोगो से ज्यादा से ज्यादा सूचना संकलित कर कड़ी कार्यवाही की जा सके। गांवो/मौहल्लो में चौपाल के दौरान सभी से पब्लिक एड्रैस सिस्टम के माध्यम से भी अपील की जा रही है कि शराब स्वास्थ्य के लिये हानिकारक है। इसलिये अवैध शराब न ही खरीदे और न ही अवैध शराब का सेवन करे। अगर आपके आस पास कोई अवैध शराब बेचता या बनाता है तो पुलिस को सूचना दें कडी कानूनी कार्यवाही की जायेगी। साथ ही आमजन को अवगत कराया जा रहा कि कोविड-19 महामारी के लगातार बढ़ते संक्रमण के दृष्टिगत शासन द्वारा जारी गाईडलाइन का पालन करने हेतु तथा अवगत कराया जा रहा है कि बेवजह घर से बिल्कुल न निकले, सभी मास्क का नियमित का प्रयोग करते रहे तथा सोशल डिस्टेन्सिंग के नियमो का पालन अवश्य करे। 

संतोष गंगवार ने स्मृति उपवन का उद्घाटन किया: यूपी

संदीप मिश्र        
बरेली। एमजेपी रूहेलखंड विश्व विद्यालय में केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह और संतोष गंगवार ने स्मृति उपवन का उद्घाटन किया। मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा कि यह उपवन दिवंगत आत्माओं की याद में तैयार किया गया है।
उन्होंने कहा कि युवाओं को कृषि क्षेत्र में आना चाहिए। उन्हे नौकरी पाने की जगह नौकरी देने वाला बनना चाहिए। मीडिया के सवाल पर उन्होंने ओवैसी को लेकर कहा कि वह ऊपर से सुंदर दिखता है लेकिन अंदर से काला है। वह जिन्ना के जिन्न से परेशान है।
स्मृति उपवन में 600 पौधे लगाए जा रहे हैं। जिसमे पूर्व राष्ट्र पति प्रणव मुखर्जी समेत कोरोना में जान गंवाने वाले कई दिवंगत नेताओं, विश्व विद्यालय परिसर और संबंध महाविद्यालयों के शिक्षकों, अधिकारी और कर्मचारियों की याद में उपवन बनाया गया है। इसमें सभी फलदार वृक्ष लगाए गए हैं।

भारत: संक्रमितों की संख्या बढ़कर 3,05,45,433 हुईं

अकांशु उपाध्याय             
नई दिल्ली। भारत में कोरोना वायरस संक्रमण के एक दिन में 43,071 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की संख्या बढ़कर 3,05,45,433 हो गई। जबकि संक्रमण के उपचाराधीन मामले कम होकर 4,85,350 हो गए।
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने रविवार यह जानकारी दी। सुबह आठ बजे अद्यतन किए गये आंकड़ों के अनुसार, देश में संक्रमण के कारण 955 और लोगों की मौत होने के बाद मृतक संख्या बढ़कर 4,02,005 हो गई। मंत्रालय ने बताया कि देश में उपचाराधीन मामलों की संख्या कम होकर 4,85,350 रह गई, जो संक्रमण के कुल मामलों का 1.59 प्रतिशत है, जबकि कोविड-19 से स्वस्थ होने की दर सुधरकर 97.09 हो गई है।
उसने बताया कि पिछले 24 घंटे में उपचाराधीन मामलों की संख्या में 10,183 की कमी आई है। आंकड़ों के अनुसार, शनिवार को 18,38,490 नमूनों की जांच की गई। देश में अब तक 41,82,54,953 नमूनों की जांच की जा चुकी है। मंत्रालय ने बताया कि दैनिक संक्रमण दर 2.34 प्रतिशत है। केरल- 12,456 मामले, महाराष्ट्र- 9,489 मामले, तमिलनाडु- 4,013 मामले, आंध्र प्रदेश-2,930 मामले, ओडिशा -2,917 मे सबसे ज्यादा नए मामले सामने आए हैं।
यह लगातार 27 दिन पांच प्रतिशत से कम रही है। साप्ताहिक संक्रमण दर गिरकर 2.44 प्रतिशत रह गई। देश में लगातार 52वें दिन स्वस्थ हुए लोगों की संख्या दैनिक मामलों से अधिक रही। आंकड़ों के अनुसार बीमारी से उबरने वाले लोगों की संख्या बढ़कर 2,96,58,078 हो गई है, जबकि मृत्युदर बढ़कर 1.32 प्रतिशत हो गई है।
देश में अब तक 35.12 करोड़ लोगों को कोविड-19 टीका लगाया जा चुका है। देश में पिछले साल सात अगस्त में संक्रमितों की संख्या 20 लाख, 23 अगस्त को 30 लाख और पांच सितम्बर को 40 लाख से अधिक हो गई थी। वहीं, संक्रमण के कुल मामले 16 सितम्बर को 50 लाख, 28 सितम्बर को 60 लाख, 11 अक्टूबर को 70 लाख, 29 अक्टूबर को 80 लाख, 20 नवम्बर को 90 लाख के पार हो गए। देश में 19 दिसम्बर को ये मामले एक करोड़ के पार, चार मई को दो करोड़ के पार और 23 जून को तीन करोड़ के पार चले गए थे।

देहरादून में हुई विधायक दल की बैठक में मुहर लगाईं

पंकज कपूर                 
देहरादून। उत्तराखंड के 11वें मुख्यमंत्री होंगे। भारतीय जनता पार्टी के विधायक दल की बैठक में ये फैसला लिया गया। देहरादून में हुई विधायक दल की बैठक में धामी के नाम पर मुहर लगाई गई। लेकिन इस दौरान भारतीय जनता पार्टी कार्यालय में एक अजीब-ओ-गरीब घटना हुई। दरअसल जब तीरथ सिंह रावत ने पुष्कर धामी का नाम मंच से संबोधित किया तो मंच पर अचानक से लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। सभी लोग अपने नए मुख्यमंत्री को बधाई देना चाहते थे।
इस दौरान पुष्कर सिंह धामी भीड़ के बीच फंस गए और उनकी जेब से उनका मोबाइल कहीं गुम हो गया। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री बनने जा रहे पुष्कर सिंह धामी को जैसे ही पता लगा कि उनका मोबाइल नीचे गिर गया है। उन्होंने तुरंत खुद ही ढूंढना शुरू कर दिया। उनके पास खड़े रुड़की विधायक प्रदीप बत्रा और मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी दोनों ही मोबाइल को खोजने लगे। लेकिन अधिक भीड़ होने की वजह से मोबाइल मिला नहीं।
इस पूरे मामले पर विधायक प्रदीप बत्रा से बातचीत की तो उन्होंने कहा कि हां भीड़ भाड़ में मोबाइल अचानक कहीं गुम हो गया था और बहुत देर तक मिला नहीं। लेकिन, काफी देर की खोजबीन के बाद उन्हें मोबाइल फिर से मिल गया है।

राजनीति: राफेल विमान सौदे में भारी घोटाला हुआ

अकांशु उपाध्याय                 
नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा है, कि राफेल विमान सौदे में भारी घोटाला हुआ है। लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपराध बोध के कारण इस पूरे मामले की संयुक्त संसदीय समिति-जेपीसी से जानबूझ कर जांच कराने से बच रहे हैं। कांग्रेस नेता ने कहा कि इस पूरे घोटाले में नरेंद्र मोदी के मित्र फंस रहे हैं और वह अपने सभी मित्रों को बचाना चाहते हैं। इसलिए मामले की जेपीसी जांच नहीं कराना चाहते हैं। राहुल गांधी ने ट्वीट किया, “जेपीसी जांच के लिए मोदी सरकार तैयार क्यों नहीं है। अपराधबोध-मित्रों को भी बचाना है। जेपीसी को आरएस सीट नहीं चाहिए। ये सभी विकल्प सही हैं।
कांग्रेस शुरू से ही राफेल सौदे में घोटाले का आरोप लगा रही है। पार्टी ने शनिवार को भी जेपीसी जांच कराने की मांग करते हुए कहा था कि फ्रांस में इस घोटाले की न्यायिक जांच हो रही है। इसलिए भारत सरकार को भी संसदीय समिति से इसकी जांच करानी चाहिए।

विश्व के लगभग सभी देश कोरोना का हल ढूंढने में जुटें

अकांंशु उपाध्याय           
नई दिल्ली। पूरी दुनिया को सोचने पर मजबूर कर देने वाले कोरोना वायरस की तीसरी लहर को लेकर तरह-तरह के कयास लगाए जा रहे हैं। भारत समेत दुनिया के लगभग सभी देश कोरोना का हल ढूंढने में जुटे हुए हैं। सावधानी, जानकारी और बचाव के साथ वैक्सीन के माध्यम से कोरोना का मुकाबला किया जा रहा है।
अगर बात करें कोरोना की तीसरी लहर की तो यह अक्टूबर-नवंबर के बीच जमकर कहर ढा सकती है। कोरोना महामारी से संबंधित सरकार के पैनल में शामिल वैज्ञानिक प्रो. मनिंद्र अग्रवाल ने इस बारे में सचेत करते हुए कहा कि अगर जरूरी सावधानियां नहीं बरतीं गईं तो अक्टूबर-नवंबर के बीच कोरोना की तीसरी लहर अपने पीक पर पहुंच सकती है।
सूत्र मॉडल पर काम कर रहे प्रो. मानिंद्र अग्रवाल का कहना है कि अगर कोई नया स्ट्रेन आता है तो तीसरी लहर के दौरान संक्रमण तेजी से बढा रहा है।
प्रोफेसर मनिंद्र अग्रवाल ने एक ट्वीट में कहा कि हमने तीन सिनेरियो बनाए हैं। एक आशावादी है. इसमें हम मानते हैं कि अगस्त तक जीवन सामान्य हो जाता है और कोई नया म्यूटेंट नहीं होता है। दूसरा मध्यवर्ती है। इसमें हम मानते हैं कि आशावादी परिदृश्य धारणाओं के अलावा टीकाकरण 20% कम प्रभावी है।
तीसरा निराशावादी है। इसकी एक धारणा मध्यवर्ती एक से अलग है। 
अगस्त में एक नया म 25% अधिक संक्रामक म्यूटेंट फैलता है (यह डेल्टा प्लस नहीं है जो डेल्टा वेरिएंट से अधिका संक्रामक है)। प्रोफेसर अग्रवाल ने कहा कि यदि कोई तेजी से फैलने वाला म्यूटेंट नहीं है, तो तीसरी लहर एक कमजोर होगी और यदि ऐसा म्यूटेंट है, तो तीसरी लहर पहले की तुलना में ज्यादा होगी।
प्रोफेसर मनिंद्र अग्रवाल ने कहा कि निराशावादी परिदृश्य के मामले में तीसरी लहर में देश में रोजाना 1,50,000 से 2,00,000 के बीच मामले बढ़ सकते हैं। उन्होंने कहा कि यह आंकड़ा मई के पूर्वार्ध में दूसरी लहर के चरम के समय आए मामलों से आधा है। जब अस्पतालों में मरीजों की बाढ़ आ गयी थी और हजारों लोगों की मृत्यु हो गई।

चिकित्सकों और नर्सों को दिया जाना चाहिए पुरस्कार

अकांशु उपाध्याय                     
नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार को कहा कि देश का शीर्ष नागरिक पुरस्कार इस साल उन सभी चिकित्सकों, नर्सों और पैरामेडिक्स को दिया जाना चाहिए। जिन्होंने कोविड-19 महामारी के बीच लोगों की सेवा की। उन्होंने कहा कि यह उन चिकित्सकों को सच्ची श्रद्धांजलि होगी जिन्होंने अपनी जान गंवाई।केजरीवाल ने ट्वीट किया, ” इस वर्ष ‘भारतीय चिकित्सक’ को भारत रत्न मिलना चाहिए। ‘भारतीय चिकित्सक’ का मतलब सभी चिकित्सक, नर्स और पैरामेडिक्स हैं। शहीद हुए चिकित्सकों को यह सच्ची श्रद्धांजली होगी। अपनी जान और परिवार की चिंता किए बिना सेवा करने वालों का ये सम्मान होगा। पूरा देश इससे खुश होगा। शहीद हुए डाक्टर्ज़ को ये सच्ची श्रद्धांजली होगी। 
अपनी जान और परिवार की चिंता किए बिना सेवा करने वालों का ये सम्मान होगा।
भारतीय चिकित्सा संघ (आईएमए) द्वारा मध्य जून में मुहैया कराए गए आंकड़ों के मुताबिक कुल 730 चिकित्सकों की जान कोरोना वायरस महामारी की दूसरी लहर के दौरान गई है। बिहार में सबसे अधिक 115 चिकित्सकों की कोविड-19 से मौत हुई है। जबकि दिल्ली में 109, उत्तर प्रदेश में 79, पश्चिम बंगाल में 62, राजस्थान में 43, झारखंड में 39 और आंध्र प्रदेश में 38 चिकित्सकों ने महामारी से जान गंवाई है। आईएम के मुताबिक देश में कोविड-19 महामारी की पहली लहर के दौरान 748 चिकित्सकों की मौत हुई थी।

वन महोत्सव: 1 ही दिन में 1.26 लाख पौधे लगाएं

संदीप मिश्र                   
बरेली। ग्राम्य वन मंझा में केंद्रीय मंत्री संतोष गंगवार, आंवला सांसद धर्मेंद्र कश्यप, नगर विधयाक अरुण कुमार, बिथरी विधयाक राजेश मिश्रा ने पौधरोपण किया। मंझा में वन महोत्सव के तहत एक ही दिन में 1.26 लाख पौधे लागये जा रहे हैं।
प्रभागीय वन अधिकारी भारत लाल के अलावा, मुख्य वन संरक्षक ललित कुमार वर्मा, वन संरक्षक जावेद अख्तर समेत प्रशासनिक अधिकारी भी इस दौरान मौजूद रहे। पौधरोपण के तहत आम, जामुन, महुआ, नीम, आंवला, अमरूद, बेल, कटहल, सहजन, शीशम, इमली, शहतूत, अर्जुन, चिलबिल, पीपल, पाखड़, बरगद, मौलश्री, केसिया सामिया, गुलमोहर, कचनार, अमलतास, जरुल, अशोक आदि के पौधे।

कांग्रेस की प्रदेश इकाई ने भरोसा जताया, बढ़त तय

अकांशु उपाध्याय           

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए किसी समाजवादी पार्टी (सपा) और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) से कोई बड़ा गठबंधन करने से इनकार के बाद कांग्रेस की प्रदेश इकाई के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने रविवार को भरोसा जताया कि उनकी पार्टी में इनमें से किसी से गठबंधन किए बिना चुनाव लड़ने की ओर अपने दम पर अगली सरकार बनाने की क्षमता है। 

उन्होंने यह भी कहा कि कांग्रेस अगले साल के उत्तर प्रदेश विधानससभा चुनाव प्रियंका गांधी वाद्रा की ‘देख-रेख’ में लड़ेगी और कहा कि उनके नेतृत्व में पार्टी करीब तीन दशक बाद राज्य में वापसी करेगी। एक साक्षात्कार में अजय कुमार लल्लू ने कहा कि कांग्रेस “दमनकारी” उत्तर प्रदेश सरकार को मुख्य चुनौती देने वाली पार्टी के तौर पर उभरी है और दावा किया कि 403 सदस्यीय विधानसभा में महज पांच विधायकों के साथ उनकी पार्टी 49 विधायकों वाली सपा से ज्यादा प्रभावी विपक्ष के रूप में साबित हुई है। उन्होंने राज्य में बदलाव की हवा चलने का जिक्र करते हुए कहा कि बदलाव की आंधी है जिसका नाम प्रियंका गांधी है।

अधिकारियों के साथ मुद्दों पर विचार-विमर्श करेंगे मुकुंद

अकांशु उपाध्याय               

नई दिल्ली। सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवाने चार दिन की यात्रा पर ब्रिटेन और इटली जा रहे हैं। जहां वह इन देशों में अपने समकक्षों और अन्य वरिष्ठ सैन्य अधिकारियों के साथ विभिन्न मुद्दों पर विचार-विमर्श करेंगे। जनरल नरवणे सोमवार से गुरुवार तक इन दोनों देशों की यात्रा पर रहेंगे और उनकी इस यात्रा का मुख्य उद्देश्य रक्षा क्षेत्र में सहयोग बढ़ाने के उपायों पर चर्चा करना है। यात्रा के पहले चरण में सेना प्रमुख सोमवार और मंगलवार को ब्रिटेन में रहेंगे। 

जहां वह ब्रिटेन के रक्षा मंत्री, चीफ ऑफ डिफेंस स्टॉफ और सेना प्रमुख के साथ रक्षा क्षेत्र से जुड़े विभिन्न मुद्दों पर बातचीत करेंगे। वह सेना की कई इकाइयों का भी दौरा करेंगे और परस्पर महत्व के विषयों पर विचारों का आदान पदान करेंगे।

24 घंटे बिजली आपूर्ति सुनिश्चित की जानी चाहिए

अमित शर्मा          
चंडीगढ़। पंजाब में बिजली की किल्लत के मद्देनजर कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू ने रविवार को कहा कि राज्य में उपभोक्ताओं को बिजली की 300 इकाई निशुल्क दी जानी चाहिए और चौबीसों घंटे बिजली आपूर्ति सुनिश्चित की जानी चाहिए। सिद्धू ने कहा कि घरेलू एवं औद्योगिक उपभोक्ताओं को सस्ते दाम पर बिजली उपलब्ध कराई जानी चाहिए।
सिद्धू ने ट्वीट किया, ”पंजाब पहले ही 9,000 करोड़ रुपए की सब्सिडी मुहैया कराता है। लेकिन हमें घेरलू एवं औद्योगिक उपभोक्ताओं के लिए और कदम उठाने की आवश्यकता है। अधिभार को 10 से 12 रुपए प्रति इकाई बढ़ाने के बजाए तीन से पांच रुपए प्रति इकाई की दर पर उन्हें बिजली दी जानी चाहिए। इसके अलावा कटौती किए बिना उन्हें चौबीस घंटे बिजली मुहैया कराई जानी चाहिए और (300 इकाई तक) निशुल्क बिजली दी जानी चाहिए। ऐसा निश्चित ही किया जा सकता है।”

पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह की तबीयत खराब हुईं

हरिओम उपाध्याय              

लखनऊ। उतर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह की तबीयत खराब हो गई है। उन्हें शनिवार देर रात डॉ. राममनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान में भर्ती कराना पड़ा। उनके शरीर में सूजन शिकायत है। संस्थान में मेडिसिन विभाग के डॉक्टर की देखरेख में उनका इलाज किया जा रहा है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ व केंद्रीय रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने अस्पताल पहुंचकर उनका हाल जाना और चिकित्सको को पूरा ध्यान रखने के निर्देश दिए। संस्थान के प्रवक्ता डॉ. श्रीकेश सिंह के अनुसार उनकी तबीयत स्थिर है। पिछले सप्ताह भी उनको लोहिया संस्थान में भर्ती कराया गया था। संस्थान में हुई जांच में यूरिया व क्रिएटिनिन बढ़ा है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ व रक्षामंत्री राजनाथ सिंह समेत तमाम भाजपा के वरिष्ठ नेता कल्याण सिंह का हालचाल लेने के लिए डॉ. राम मनोहर लोहिया अस्पताल पहुंचे।

194 मगरमच्छों को निकालकर अन्य स्थानों पर पहुंचाया

अहमदाबाद। गुजरात के नर्मदा जिला में ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ के पास एक झील में नौकायान करने आने वाले सैलानियों की सुरक्षा के मद्देनजर पिछले दो साल में झील से 194 मगरमच्छों को निकालकर अन्य स्थानों पर पहुंचाया गया है।
अधिकारियों ने रविवार को बताया कि केवड़िया में सरदार वल्लभ पटेल की 182 मीटर ऊंची प्रतिमा के पास पंचमुली झील स्थित है जो पर्यटकों के बीच आकर्षण का बड़ा केंद्र है। लेकिन झील में काफी संख्या में मगरमच्छ हैं। जो सैलानियों के लिए खतरा बन सकते है।
केवड़िया क्षेत्र के वन अधिकारी विक्रमसिंह गभानिया ने  बताया, ”2019-20 (अक्टूबर-मार्च) में हमने 143 मगरमच्छों को यहां से दूसरी जगह पहुंचाया। 2020-21 में 51 और मगरमच्छों को गांधीनगर और गोधरा में दो बचाव केंद्रों में भेजा गया है।उन्होंने बताया कि लेकिन अब भी काफी तादाद में मगरमच्छ मौजूद हैं। उन्होंने बताया कि 2019-20 में बचाए गए 73 मगरमच्छों को सरदार सरोवर जलाशय में छोड़ा गया। झील से निकाले गये मगरमच्छों को बाद में पंचमहल जिले के गोधरा और गांधीनगर स्थित बचाव केंद्रों में भेजा गया। उन्होंने बताया, ”मगरमच्छों को पकड़ने के लिए करीब 60 जाल बिछाए गए हैं।
झील के जिस हिस्से में सीप्लेन (पानी से उड़ने व उतरने वाले जहाज) का परिचालन होता है (अहमदाबाद से केवड़िया के बीच), वह पूरी तरह सुरक्षित है।” राज्य पर्यटन विभाग के अनुसार 2019 में गुजरात राज्य वन विकास निगम लिमिटेड (जीएसएफ डीसी) ने स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के पास पंचमुली झील में नौकायान की शुरुआत की। स्टैच्यू ऑफ यूनिटी प्राधिकरण के एक प्रवक्ता ने बताया कि क्षेत्र में नौकायान पर्यटकों के बीच आकर्षण का बड़ा केंद्र है और खासकर सप्ताहांत में यहां भारी भीड़ रहती है।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

1. अंक-323 (साल-02)
2..सोमवार, जुलाई 5, 2021
3. शक-1984,अषाढ़, कृष्ण-पक्ष, तिथि-एकादशी, विक्रमी सवंत-2078।
4. सूर्योदय प्रातः 05:42, सूर्यास्त 07:16।
5. न्‍यूनतम तापमान -21 डी.सै., अधिकतम-40+ डी.सै.। बरसात की संभावना बनी रहेंगी।
6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110
http://www.universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745  
                     (सर्वाधिकार सुरक्षित) 

संपर्क करने की अनिच्छा से परेशान हुआ पाकिस्तान

इस्‍लामाबाद/ वाशिंगटन डीसी।  अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन की प्रधानमंत्री इमरान खान से टेलीफोन पर संपर्क करने की अनिच्छा से पाकिस्‍तान परेशा...