बुधवार, 30 सितंबर 2020

वैक्सीन से केवल कुछ सप्ताह दूरः ट्रंप

कोरोना वैक्सीन से केवल कुछ सप्ताह दूर: ट्रम्प।


वाशिंगटन डीसी। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा है कि देश कोरोना की वैक्सीन बनाने से केवल कुछ सप्ताह ही दूर है और यह जल्द बना ली जायेगी।
ट्रम्प ने राष्ट्रपति चुनाव के लिए डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवार जो बिडेन के साथ मंगलवार को हुई पहली प्रेसिडेंशियल डिबेट के दौरान यह बात कही। उन्होंने चर्चा के दौरान कहा, अब हम कोरोना की वैक्सीन से केवल कुछ सप्ताह ही दूर हैं। इसके जवाब में श्री बिडेन ने कहा, मैं उन पर विश्वास नहीं करता।
वैश्विक महामारी कोरोना वायरस (कोविड-19) से गंभीर रूप से जूझ रहे अमेरिका में इसके संक्रमण से 2.05 लाख से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। अमेरिका में यह महामारी विकराल रूप ले चुकी है और अब तक 71 लाख से अधिक लोग इससे संक्रमित हो चुके हैं।
अमेरिका की जॉन हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के विज्ञान एवं इंजीनियरिंग केन्द्र (सीएसएसई) की ओर से जारी किए गए ताजा आंकड़ों के मुताबिक अमेरिका में कोरोना से मरने वालों की संख्या 2,05,895 पहुंच गयी है जबकि संक्रमितों की संख्या 71 लाख को पार कर 71,86,527 हो गयी है।             


मोदी ने हाथरस रेप केस का लिया संज्ञान

प्रधानमंत्री मोदी ने हाथरस रेप केस का लिया संज्ञान, सीएम योगी से बात कर दिया कड़ी कार्रवाई का निर्देश।


नई दिल्ली। दरिंदगी की शिकार हाथरस की युवती की मौत पर अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी संज्ञान ले लिया। उन्होंने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को फोन किया और इस मामले में दोषियों पर कड़ी कार्रवाई करने का निर्देश दिया। प्रधानमंत्री की पहल की जानकारी खुद सीएम योगी आदित्यनाथ ने ही दी। उन्होंने ट्वीट कर कहा, ‘आदरणीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने हाथरस की घटना पर वार्ता की है और कहा है कि दोषियों के विरुद्ध कठोरतम कार्रवाई की जाए। योगी सरकार ने किया एसआईटी का गठन।
दरअसल, दुष्कर्म पीड़िता ने मंगलवार को दिल्ली के एम्स में दम तोड़ दिया था। वहां से उसका शव रात को हाथरस पहुंचा। कहा जा रहा है कि यूपी पुलिस ने परिजनों पर दबाव डालकर शव का रात में ही अंतिम संस्कार करवा दिया। मामले में यूपी पुलिस पर हीला-हवाली का रवैया अपनाने का आरोप पहले से ही लग रहा था। अब इस घटना से पुलिस के साथ-साथ योगी सरकार की किरकिरी तो हो ही रही है, कहीं न कहीं बीजेपी पर भी दलतिविरोधी होने का आरोप लग रहा है। इससे दबाव में आए योगी सरकार ने मामले की जांच के लिए एसआईटी गठित कर दी और अब खुद पीएम ने योगी से बात की है।
एक सप्ताह में मांगी रिपोर्ट
गृह सचिव भगवान स्वरूप की अध्यक्षता वाली तीन सदस्यीय एसआईटी में डीआईजी चंद्र प्रकाश और आगरा पीएसी की सेनानायक पूनम सदस्य होंगे। सीएम ने एसआईटी को घटना की तह तक जाने और सात दिन में अपनी जांच रिपोर्ट सौंपने के निर्देश दिए हैं। सीएम ने बताया कि घटना में शामिल चारों आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया गया है। सीएम ने इनके खिलाफ फास्ट ट्रैक कोर्ट में मुकदमा चलाने और जल्द से जल्द सजा दिलाने के लिए कहा है।
यूपी पुलिस पर गंभीर आरोप
आरोप लग रहा है कि पुलिस ने घरवालों कोशव नहीं दिया, न ही बच्ची को अंतिम बार उसके घर ले जाया गया। दिल्ली से लाकर सीधे आधी रात को उसका दाह संस्कार कर दिया गया। लड़की के भाई ने बुधवार तड़के पत्रकारों से बात करते हुए बताया, ‘हम लोगों ने पुलिस से बहुत कहा कि शव हमें दें। हम उसका सुबह दाह संस्कार करेंगे लेकिन पुलिस ने हमारी नहीं सुनी। हम लोगों से जबरन सहमति पत्र पर हस्ताक्षर करवाए और आधी रात को शव जला दिया। हम लोगों को पुलिस पर विश्वास नहीं है। हम लोगों की जान को भी खतरा है।             


मुस्लिम महिलाओं का कुप्रथा से छुटकारा ?

जोधपुर। देश में तीन तलाक का कानून लागू होने के बाद भी मुस्लिम महिलाओं को इस कुप्रथा से छुटकारा नहीं पा रहा है। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के गृह नगर जोधपुर में तीन तलाक का एक अनोखा मामला सामने आया है। शौहर ने पहले तो अपनी बीबी के सिर के सारे बाल काट दिए, उसके बाद भी मन नहीं भरने पर मारपीट कर घर से बेदखल कर तलाक ले लिया। पीड़िता ने जोधपुर के महिला थाना में अपनी आप बीती बता कर मामला दर्ज करवाया है। महिला थानाधिकारी निशा भटनागर मामले में अनुसंधान कर रही है।जानकारी के अनुसार, जोधपुर के बकरा मंडी इलाके की रहने वाली मेहराज का निकाह नासिर पुत्र रमजान के साथ एक साल पहले हुआ था। तब से लगातार उसके साथ प्रताड़ना होती रही है। वहीं ससुराल पक्ष द्वारा पीड़ित महिला के मंदबुद्धि होने का आरोप लगाने की बात भी सामने आई है। घटना को लेकर पीड़िता मेहराज बताती है कि शादी के बाद से ही उसका पति उसके साथ ज्यादती करने लगा और उसके साथ ससुराल में मारपीट होने लगी। मारपीट की इंतहा उस वक्त हो गई जब मेहराज के बाल काट दिए गए और बाल काटकर उसे पीहर भेज दिया गया।             


इस्तीफ़ा दे योगी आदित्यनाथः 'राहुल-प्रियंका'

इस्तीफा दें योगी आदित्यनाथ: राहुल-प्रियंका।


नई दिल्ली। कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी तथा उत्तर प्रदेश की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने हाथरस में एक युवती के साथ सामूहिक बलात्कार की घटना तथा इससे जुड़े तथ्यों को दबाने को अत्यधिक गंभीर अपराध बताते हुए राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से इस्तीफा देने की मांग की है।
गांधी ने बुधवार को यहां जारी एक बयान में कहा भारत की एक बेटी का रेप-क़त्ल किया जाता है, तथ्य दबाए जाते हैं और अन्त में उसके परिवार से अंतिम संस्कार का हक़ भी छीन लिया जाता है। ये अपमानजनक और अन्यायपूर्ण है।
वाड्रा रात को ढाई बजे परिजन गिड़गिड़ाते रहे लेकिन हाथरस की पीडि़ता के शरीर को उत्तर प्रदेश प्रशासन ने जबरन जला दिया। जब वह जीवित थी तब सरकार ने उसे सुरक्षा नहीं दी। जब उस पर हमला हुआ सरकार ने समय पर इलाज नहीं दिया। पीडि़ता की मृत्यु के बाद सरकार ने परिजनों से बेटी के अंतिम संस्कार का अधिकार छीना और मृतका को सम्मान तक नहीं दिया।
वाड्रा ने इसे अमानवीयता तथा गंभीर अपराध करार दिया और कहा घोर अमानवीयता। आपने अपराध रोका नहीं बल्कि अपराधियों की तरह व्यवहार किया।अत्याचार रोका नहीं, एक मासूम बच्ची और उसके परिवार पर दुगना अत्याचार किया। योगी आदित्यनाथ इस्तीफा दो। आपके शासन में न्याय नहीं, सिर्फ अन्याय का बोलबाला है।             


बाबरी विध्वंस, सभी 32 आरोपी बरी किए

बाबरी केस: आडवाणी, जोशी और उमा सहित सभी 32 आरोपी बरी… कोर्ट ने कहा- विध्वंस सुनियोजित नहीं था।


लखनऊ। 28 साल पुराने बाबरी विध्वंस केस में आखिरकार फैसला आ गया है। लखनऊ की स्पेशल सीबीआई कोर्ट ने मामले में फैसला सुनाते हुए आडवाणी, जोशी, उमा, कल्याण, नृत्यगोपाल दास सहित सभी 32 आरोपियों को बरी कर दिया है। कोर्ट ने अपने फैसले में कहा है कि बाबरी विध्वंस सुनियोजित नहीं था।                  


रेप के बाद पुलिस ने किया अंतिम संस्कार

हाथरस गैंगरेप केस: रात 2.30 बजे पीड़िता का पुलिसवालों ने किया अंतिम संस्कार… परिजनों को कर दिया था घर में बंद।


हाथरस। हाथरस गैंगरेप पीड़िता का अंतिम संस्कार यूपी पुलिस ने मंगलवार की रात अंधेरे में करीब 2.30 बजे कर दिया। आरोप है कि इस दौरान पुलिसवालों ने मृतक के परिजनों को घर में बंद कर दिया था। देर रात के दृश्यों में कैप्चर किए गए घटनाओं में विचलित करने वाला दृश्य कैद हुआ है, जिसमें पीड़ित परिवार को पुलिस के साथ बहस करते हुए देखा गया है।
मृतक के रिश्तेदार खुद शव ले जाने वाली एम्बुलेंस के आगे आ खड़े हुए और गाड़ी की बोनेट पर लद गए लेकिन पुलिसवालों ने उन्हें हटाकर दाह संस्कार कर दिया। महिला की मां दाह संस्कार के बाद असहाय होकर रोती रही।
देर रात के दृश्यों में कैप्चर किए गए घटनाओं में विचलित करने वाला दृश्य कैद हुआ है, जिसमें पीड़ित परिवार को पुलिस के साथ बहस करते हुए देखा गया है। मृतक के रिश्तेदार खुद शव ले जाने वाली एम्बुलेंस के आगे आ खड़े हुए और गाड़ी की बोनेट पर लद गए लेकिन पुलिसवालों ने उन्हें हटाकर दाह संस्कार कर दिया। महिला की मां दाह संस्कार के बाद असहाय होकर रोती रही।
मृतक युवती के भाई का आरोप है कि पुलिस ने उन्हें बताए बिना शव को घर से दूर ले गए और चुपचाप उसका अंतिम संस्कार कर दिया। मृतक के पिता और भाई पुलिस एक्शन के खिलाफ विरोध में धरने पर बैठ गए। इसके बाद पुलिस के अफसर उन्हें काले स्कॉर्पियो में बिठाकर कहीं और ले चले गए।
युवती की मौत के बाद दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल के बाहर लोगों ने जमकर विरोध-प्रदर्शन किया और दोषियों को फांसाी देने की मांग की। बाद में पुलिस दिल्ली से करीब 200 किलोंमीटर दूर हाथरस के गांव मंगलवार की रात डेडबॉडी लेकर पहुंची।
इस दौरान परिजनों और रिश्तेदारों ने डेडबॉडी सौंपने की मांग की ताकि सुबह में उसका पारंपरिक रूप से अंतिम संस्कार किया जा सके, लेकिन पुलिस ने ऐसा नहीं किया और सभी को अलग रखकर रात के अंधेरे में चुपचाप मृतक युवती की लाश जला दी।               


फौजी अनुज सिंह को भावभीनी श्रद्धांजली

अतुल त्यागी


फौजी अनुज सिंह को दी भावभीनी श्रद्धांजली


हापुड़। गांव मोहम्मदपुर खुडलिया के निवासी व पश्चिमी बंगाल के पानगढ में तैनात फौजी अनुज सिंह की ह्रदयघात से निधन हो गया था। उनका पार्थिव शरीर आज प्रातः लगभग छ बजे गांव मोहम्मदपुर खुडलिया पहुंचा।
सूचना मिलते ही राष्ट्रीय सैनिक संस्था के पश्चिमी उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष चौधरी मनवीर सिंह जिला महासचिव कपिल शर्मा जिला उपाध्यक्ष मुकेश त्यागी जिला कोषाध्यक्ष मुकेश प्रजापति नगर सूचना प्रसारण मंत्री श्याम वर्मा ने फौजी अनुज सिंह के पार्थिव शरीर पर पुष्पांजलि अर्पित कर सैल्यूट किया।


विरोध में 1 दिवसीय उपवास पर बैठेंगे किसान

अतुल त्यागी, मुकेश सैनी


किसान विरोधी बिलों के विरोध में एक दिवसीय उपवास पर बैठेंगे किसान


हापुड़। राष्ट्रीय किसान मजदूर संगठन हापुड़ राष्ट्रीय सैनिक संस्था हापुड़ पदाधिकारियों की एक संयुक्त बैठक का आयोजन किया गया। जिसमें यह तय किया गया कि सरकार द्वारा किसानों के विरोध में जो काले कानून बिल पास हुए हैं। उनके विरोध में दोनों संस्था संयुक्त रूप से 2 अक्टूबर गांधी जयंती व जय जवान जय किसान का नारा बुलंद करने वाले भारत के पूर्व प्रधानमंत्री किसान पुत्र लाल बहादुर शास्त्री जी की जयती के अवसर पर उनकी प्रतिमा के समक्ष किसान दुखी होकर अपने हकों के लिए शांति पूर्वक 11:00 बजे से शाम 3:00 बजे तक एक दिवसीय उपवास पर बैठेंगे और सरकार से एक ही अपेक्षा लेकर की किसान विरोधी बिलों में परिवर्तन करने की मांग करेंगे बैठक की अध्यक्षता चौधरी नरेंद्र सिंह व संचालन राष्ट्रीय सैनिक संस्था के जिला अध्यक्ष ज्ञानेंद्र त्यागी ने किया बैठक में राष्ट्रीय किसान मजदूर संगठन के पश्चिमी उत्तर प्रदेश के प्रवक्ता मुकुल कुमार त्यागी जिला अध्यक्ष वीरेश चौधरी मेरठ मंडल के युवा अध्यक्ष  परविंदर ढिल्लों पूर्व जिला अध्यक्ष वीरपाल सिंह जिला प्रवक्ता निरंजन शास्त्री। राष्ट्रीय सैनिक संस्था के जिला उपाध्यक्ष मुकेश त्यागी जिला कोषाध्यक्ष मुकेश प्रजापति रोहित चौधरी तरूण हरदयाल सिंह अजय रघुवंशी जी आदि लोग मौजूद रहे।


जान लीजिए आज से हो रहे हैं यहांं बदलाव

नई दिल्ली। कोरोना काल में सरकार ने कई तरह की रियायतें दीं गई। जिनकी समय सीमा 30 सितंबर को खत्म हो रही है। वहीं, एक अक्तूबर से बैंक, वाहन, ड्राइविंग लाइसेंस और जीएसटी रिटर्न समेत कई नियमों में बदलाव हो रहे हैं, जिससे आम जनता को राहत मिलेगी। आइए जानते हैं 1 अक्टूबर से किन नियमों के जरिए आपको फायदा होगा और किससे नुकसान उठाना उड़ेगा।
इन नियमों से आम जनता को मिलेगी राहत
कर्ज सस्ते होंगे
एसबीआई (SBI) कर्ज की ब्याज दरों को रेपो रेट से जोड़ने जा रहा है। इससे ग्राहकों को करीब 0.30 फीसदी तक सस्ती दरों पर होम और ऑटो लोन मिल सकेगा। यूनियन बैंक ऑफ इंडिया, सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया, पंजाब नेशनल बैंक, इंडियन बैंक, फेडरल बैंक भी यही फैसला लागू करेंगे।
न्यूनतम बैलेंस पर राहत
एसबीआई मेट्रो शहरों में न्यूनतम बैलेंस की सीमा 5000 से घटाकर तीन हजार करने जा रहा। पूर्ण शहरी इलाके में न्यूनतम बैलेंस न रखने पर कम शुल्क देना होगा। 75 फीसदी से कम राशि होने पर पहले जहां 80 रुपए व जीएसटी लगता था वहीं, अब सिर्फ 15 रुपए व जीएसटी देना होगा। 50 से 75 फीसदी राशि कम होने पर 12 रुपए व जीएसटी लगेगा, जो अभी 60 रुपए जीएसटी के साथ है।
डीएल नए कलेवर में
देशभर में ड्राइविंग लाइसेंस, वाहन पंजीकरण प्रमाण पत्र का रंग, लुक, डिजाइन और सुरक्षा फीचर एक जैसे होंगे। स्मार्ट डीएल और आरसी में माइक्रोचिप व क्यूआर कोड होंगे, जिससे पिछला रिकॉर्ड छुपाया नहीं जा सकेगा। क्यूआर कोड रीड करने के लिए ट्रैफिक पुलिस को हैंडी ट्रैकिंग डिवाइस दिया जाएगा। अब हर राज्य में डीएल, आरसी का रंग समान होगा व उनकी प्रिंटिंग भी एक जैसी होगी। ड्राइविंग के समय डीएल और आरसी को साथ रखने की आवश्यक नहीं होगा।
नया जीएसटी फार्म
पांच करोड़ से ज्यादा टर्नओवर वाले कारोबारियों के लिए जीएसटी रिटर्न फॉर्म बदल जाएगा। इन्हें अनिवार्य रूप से जीएसटी एएनएक्स-1 फॉर्म भरना होगा, जो जीएसटीआर-1 की जगह लेगा। छोटे कारोबारियों के लिए इस फॉर्म को जनवरी 2020 से अनिवार्य बनाया जाएगा। 
यहां हो सकता है नुकसान
न मिले मुफ्त गैस सिलेंडर
कोरोना काल में अप्रैल से ही गरीबों को उज्ज्वला योजना के तहत मुफ्त में रसोई गैस सिलेंडर दिया जा रहा था, जिसकी समय सीमा 30 सितंबर को खत्म हो रही है। यानी हो सकता है कल से मुफ्त गैस सिलेंडर न मिले। 
आयकर रिटर्न
जुर्माने के साथ वित्त वर्ष 2018-19 का आयकर रिटर्न भरने के लिए 30 सितंबर आखिरी तारीख है। कोरोना काल में इसे दो बार बढ़ाया जा चुका है, अगर अब नहीं बढ़ी और आपने आयकर रिटर्न नहीं फाइल की तो परेशानी होगी।
अटल पेंशन योजना
अटल पेंशन योजना लेने वाले लोगों को खाते को नियमित कर लेना जरूरी है। अगर आपने ऐसा नहीं किया तो आगे जुर्माना देना पड़ सकता है। जून 2020 तक ऑटो-डेबिट सुविधा बंद कर दी गई थी। 
राशन कार्ड-आधार लिंक
खाद्य मंत्रालय ने कोरोना काल में राशन कार्ड को आधार से जोड़ने की समय सीमा 30 सितंबर तक बढ़ा दी थी। आप राशन कार्ड और आधार को लिंक सिर्फ बुधवार तक करा सकते हैं।               


वास्तुशास्त्र के नियम और महत्व को समझें


नई दिल्ली। ईशान दिशा वास्तु शास्त्र के अनुसार सबसे पवित्र मानी गई है। इस दिशा का विस्तार 22.5 डिग्री से 67.5 डिग्री तक होता है। यह दिशा उत्तर और पूर्व का कोना होता है। इस दिशा के स्वामी भगवान शिव हैं। इस दिशा का आधिपत्य बृहस्पति देव के पास है। यह एक आध्यात्मिक दिशा है। ईशान दिशा में मंदिर का स्थान, स्नान गृह, बच्चों का कमरा,स्टडी रूम और बैठक शुभ रहती है। इस दिशा को सबसे स्वच्छ, खाली और नीचा रखना चाहिए।
घर के द्वार खिड़कियां इस और शुभ मानी गई है। यह दिशा घर में पुत्र संतान एवं धन समृद्धि की है। यदि यह दिशा दूषित है तो घर में धनधान्य की कमी आएगी। पुत्र-संतान से असंतोष मिलेगा। इस दिशा में कभी भी शौचालय, रसोईघर,जीना, गृह स्वामी कक्ष भूलकर भी ना बनाएं, नहीं तो घर का वातावरण खराब हो जाएगा। आपस में कलह, झगड़े एवं मनमुटाव होंगे। संतान को शारीरिक कष्ट, बीमारी हो सकती है। इसलिए वास्तु शास्त्र के अनुसार ईशान को हमेशा खाली रखने का आदेश दिया गया है। इस दिशा में  घर का ढलान बहुत शुभ होता है। 
जिन व्यक्तियों का मूलांक या भाग्यांक तीन होता है, उसके लिए यह दिशा बहुत शुभ होती है। अर्थात जिनका जन्म किसी भी मास की 3, 12,21,30 तारीख को हुआ है, उनका मूलांक 3 होता है। ऐसे व्यक्तियों को यह दिशा बहुत अनुकूल होती है। इस दिशा में कूड़ा, स्टोर, शौचालय आदि न बनवाएं, अन्यथा आपकी प्रतिष्ठा में कमी आ सकती है और संतान सुख का अभाव हो सकता है। यदि इस दिशा में दरवाजा नहीं हो सकता तो कम से कम 1-2 खिड़की अवश्य छोड़ें। वास्तु शास्त्र में ईशान दिशा का बढ़ना बहुत शुभ माना गया है जबकि अन्य दिशाओं का बढ़ना अशुभ होता है। यदि यह दिशा कटी हुई है, छोटी है तो यह सारे मकान का वास्तु खराब कर देती है। इसलिए इस दिशा को समकोण रखें। इससे लक्ष्मी प्रसन्न रहती हैं। धन का आवागमन लगातार बढ़ता है। यदि इस दिशा में कुछ दोष है तो इस दिशा में एक शीशा लगा सकते है ताकि दिशा वृद्धि का भ्रम हो। इस दिशा में भारी समान तो भूलकर भी ना रखें क्योंकि यह दिशा वास्तु पुरुष का मस्तिष्क होता है। मस्तिष्क से ही सारे शरीर का संचालन होता है। 




                 

दुर्गा पूजाः 17 से 25 अक्टूबर तक नवरात्रे

इस वर्ष शारदीय नवरात्र 17 अक्टूबर से आरंभ होकर 25 अक्टूबर दशहरा तक चलेंगे। शनिवार से नवरात्र आरंभ होने कारण मां भगवती घोड़े पर सवार होकर आएंगी। घोड़े पर सवार होने का अर्थ होता है कि आर्थिक रूप से तो अच्छा संकेत है, किन्तु राजनीतिक और सामाजिक स्थितियों में उठापटक रहेगी। अतिवृष्टि,अनावृष्टि, प्राकृतिक आपदाएं और  सांप्रदायिक तनाव के योग बन रहे हैं। देश को युद्ध या युद्ध जैसी विभीषिका से भी गुजरना पड़ सकता है ।
इस दिन से शुरू होंगे नवरात्र
प्रथम नवरात्र 17 अक्टूबर 2020
द्वितीय नवरात्र 18 अक्टूबर 2020
तृतीय नवरात्र 19 अक्टूबर 2020 
चतुर्थ नवरात्र 20 अक्टूबर 2020 
पंचम नवरात्रि 21 अक्टूबर 2020 
षष्ठम नवरात्र 22 अक्टूबर 2020 
दुर्गा सप्तमी एवं अष्टमी 23 अक्टूबर 2020
दुर्गा नवमी 24 अक्टूबर 2020 
दशहरा 25 अक्टूबर 2020
यह होगा घट स्थापना का मुहूर्त
17 अक्टूबर को शारदीय नवरात्रों में घट स्थापना का मुहूर्त प्रातः छह बजकर 29 मिनट से आठ बजकर 49 मिनट तक चर लग्न में श्रेष्ठ है। इसके बाद 11:51 बजे के पश्चात और अभिजीत मुहूर्त 11:36 से 12:24 तक घट स्थापना के लिए विशेष मुहूर्त रहेगा। 14:49 से 16:17 तक कुंभ लग्न भी स्थिर लग्न है जो घट स्थापना के लिए श्रेष्ठ है। चौघड़िया मुहूर्त के अनुसार दोपहर 12:32 बजे से 16:45 बजे तक चर लाभ और अमृत के चौघड़िया में भी घटस्थापना श्रेष्ठ रहती है।
घट स्थापना के समय कलश के नीचे जौ बोए जाते हैं। जौ और कलश का स्थान आपके बाएं हाथ पर होना चाहिए अर्थात के देवी मां के मंदिर के बांयी और तथा दीपक का स्थान आप के दाहिने हाथ की ओर होना चाहिए। जिन घरों में अखंड ज्योत जलाई जाती है उन्हें नौ दिन तक अपना घर नहीं छोड़ना चाहिए। कोई ना कोई सदस्य घर में अवश्य रहे। नवरात्रों के समय नियम, संयम, सादगी और शुद्ध भोजन का विधान है‌। जो व्यक्ति दुर्गा सप्तशती का पाठ करते हैं उन्हें अपने आचरण पर विशेष ध्यान देना चाहिए। तभी दुर्गा माता के नौ स्वरूपों की ठीक प्रकार से आराधना होगी । इस बार सप्तमी एवं अष्टमी एक ही तिथि यानी एक ही दिन मनाई जाएगी। अर्थात इस बार सप्तमी,अष्टमी 23 अक्टूबर को होगी। महा नवमी के दिन दुर्गा मां का विसर्जन होगा।


कमजोर हड्डियों का दिल पर भी बुरा प्रभाव

कमजोर हड्डियां सिर्फ शरीर को ही कमजोर नहीं बनाती बल्कि हृदय के स्वास्थ्य पर भी प्रतिकूल असर डालती हैं। अगर आप अपने हृदय को स्वस्थ रखना चाहते हैं तो अपने हड्डियों को मजबूत बनाना बेहद जरूरी है।
लंदन की क्वीन मेरी यूनिवर्सिटी और यूनिवर्सिटी ऑफ साउथ हैंपटन के मेडिकल रिसर्च काउंसिल लाइफकोर्स इपिडेमियोलॉजी यूनिट के एक हालिया शोध में हड्डियों में मिनरल की कम मात्रा और खराब हृदय स्वास्थ्य के बीच संबंध पाया गया है। शोध में पाया गया है कि महिलाओं और पुरुषों दोनों में ही हड्डियों के कमजोर होने से हृदयरोग पनपते हैं। 
जर्नल ऑफ बोन में प्रकाशित इस शोध में यूके बायोबैंक के डाटा का इस्तेमाल किया गया है। शोधकर्ताओं ने इमेजिंग और रक्त बायोमार्कर डाटा के कई प्रारूपों का संयुक्त तरीके से इस्तेमाल कर हड्डियों और हृदय के स्वास्थ्य के बीच संबंधों का आकलन किया। 
इन कारणों से कमजोर हो सकती है हड्डी-
इनदिनों गठिया और हृदय की बीमारियों सबसे बड़े स्वास्थ्य समस्याओं के रूप में उभर रहे हैं। दोनों तरह की बीमारियों की वजह बढ़ती उम्र, धूम्रपान और असक्रिय जीवनशैली है। शोध से पता चलता है कि जोखिम कारकों के समान होने के अलावा भी दोनों के बीच संबंध हो सकते हैं। इस शोध से यह भी पता चलता है कि दोनों तरह की समस्याओं का जैविक पाथवे भी समान हो सकता है। इस शोध से दोनों बीमारियों के लिए दवा की खोज आसान हो सकेगी। 
सख्त हो जाती हैं धमनियां-
शोधकर्ताओं ने पाया कि हड्डी का घनत्व कम होने का संबंध धमनियों के सख्त होने से था। जिन महिलाओं और पुरुषों की हड्डी कमजोर थीं उनके हृदय की धमनियां ज्यादा सख्त थीं। शोध में पाया गया कि हड्डी में कमजोरी से जूझ रहे मरीजों में हृदयघात से मौत होने का खतरा ज्यादा था। शोधकर्ताओं ने यह भी पाया कि हड्डी और हृदय के स्वास्थ्य की प्रणालियां पुरुषों और महिलाओं में अलग थी। 
शोधकर्ता डॉक्टर जहरा राइशी  ने कहा, हमारे शोध में कमजोर हड्डियो और दिल की बीमारियों के बीच सीधा संबंध पाया गया है। प्रोफेसर निक हार्वे ने कहा यूके बायोबैंक में मौजूद डाटा का बड़े पैमाने पर विश्लेषण करने पर पाया कि मस्क्यूलोस्केलेटल और कार्डियोवस्कुलर स्वास्थ्य का जैविक पाथवे एक जैसा है और इस खोज से इन दोनों के लिए दवा बनाने में मदद मिल सकती है। प्रोफेसर स्टीफन पीटरसन ने कहा, हृदयरोगों के जोखिम कारकों के बारे में जानकारी बढ़ने से उससे बचाव और उसके इलाज के बेहतर तरीकों के बारे में जाना जा सकेगा। 
इन चीजों के सेवन से मजबूत होंगी हड्डियां-
कैल्शियम के स्रोत : 
कैल्शियम के लिए आप दूध और दूध से बनी चीजों का सेवन कर सकते हैं। इसके साथ ही हरी पत्तेदार सब्जियां आपको कैल्शियम और आयरन दोनों ही देने में मदद करती है। मछली भी अच्छा विकल्प है। साबुत अनाज, केले, सार्डिनेस, सालमन, बादाम, ब्रेड, टोफू और पनीर कैल्शियम के अच्छे स्रोत हैं।
विटामिन डी के स्रोत : 
आप विटामिन डी के लिए फैटी फिश जैसे टूना, मेकरेल, सेलमॉन, अंडे का सफेद भाग, सोया मिल्क, डेयरी प्रोडक्ट जैसे दूध, दही वगैरह मशरूम, अनाज, चीज, संतरे का जूस, कोका को आहार में शामिल कर सकते हैं। 
पोटैशियम के स्रोत : पोटैशियम के लिए आप अपने आहार में जड़ यानी कंद-मूल शामिल करें। इनमें शकरकंद, आलू छिलके के साथ सहित अच्छा विकल्प है। इसके अलावा दूध या दूध से बनी चीजें भी आप आहार में शामिल कर सकते हैं।
मैग्नीशियम के स्रोत : 
मैग्नीशियम के लिए आप हरी पत्तेदार सब्जियों को शामिल कर सकते हैं। पालक मैग्नीशियम का अच्छा स्रोत होता है। इसे अलावा टमाटर, आलू, शकरकंद भी ले सकते हैं।
नंबर गेम-
हड्डियों का एक सामान्य वयस्क में +1 से -1 एसडी घनत्व होना चाहिए 
हड्डियों का घनत्व गठिया की बीमारी होने पर -2.5 एसडी हो जाता है।             


एसपी से मिला व्यापारियों का प्रतिनिधिमंडल

बढ़ती वारदातों के बीच एसपी सिटी से मिला व्यापारियों का प्रतिनिधि मण्डल।


अश्वनी उपाध्याय


गाजियाबाद। व्यापारियों के साथ हो रही आपराधिक वारदातों को लेकर बुधवार को अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मंडल का एक प्रतिनिधिमंडल एसपी सिटी अभिषेक वर्मा से मिला और कारोबारियों के साथ आए दिन हो रही लूटपाट की बढ़ती वारदातों पर चिंता जताते हुए सुझाव दिए।
जिलाध्यक्ष संदीप बंसल के नेतृत्व में मिले व्यापारियों ने एसपी सिटी को बताया कि व्यापारियों के साथ आए दिन लूटपाट हो रही है। वह घरों में भी सुरक्षित नहीं है। एक तो कोरोना की मार के चलते कारोबार पहले से ही चौपट है, वहीं दूसरी तरफ बदमाशों का आतंक उन पर लगातार जारी है। मांग की गई कि व्यापारियों के हुई वारदातों का जल्द खुलासा किया जाए और बदमाशों का एनकाउंटर किया जाए। इस दौरान एसपी सिटी को कई सुझाव भी दिए गए। जिसमें बताया गया कि मुख्य बाजारों में पीआरवी की व्यवस्था होनी चाहिए। बाजारों में सीसीटीवी कैमरे लगाए जाने चाहिए। हर महीने व्यापारियों के साथ एक बैठक कोतवाली में बड़े अधिकारियों के साथ बैठक होनी चाहिए। इससे आपस में बातचीत कर अपराधों पर अंकुश लगाया जा सके।
एसपी सिटी ने आश्वासन दिया कि कारोबारियों के साथ हुई आपराधिक वारदातों का जल्द खुलासा कर बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। इस दौरान अनिल गर्ग, दीपक गर्ग, प्रेमप्रकाश चीनी, अमन सिसोदिया, महेंद्र कुमार, सोनू सैनी, संजय गुप्ता, हेमंत सिंघल, जगमोहन और मनीष आदि व्यापारी मौजूद रहे।               


पुलिस छापे में तीसरी मंजिल से कूदे कर्मचारी

फर्जी ओएलएक्स सेंटर पर पुलिस छापे के दौरान तीसरी मंजिल से कूदे कर्मचारी।


अश्वनी उपाध्याय


गाज़ियाबाद। सिहानी गेट इलाके में मंगलवार पुलिस ने एक कॉल सेंटर पर छापा मारा। कॉल सेंटर के संचालकों पर आरोप है कि ये कॉल सेंटर ओएलएक्स सामान बेचने के नाम पर लोगों से ठगी कर रहा था। पीड़ित की शिकायत पर जब पुलिस तीसरी मंजिल पर बने कॉल सेंटर में पहुंची, तो छत के रास्ते यहां के कर्मचारी भागते हुए नजर आए। पुलिस पूरे मामले में जांच-पड़ताल की बात कह रही है। मामले में कुछ आरोपियों को हिरासत में लिया गया है। एडवांस में पेमेंट कर फंसा पीड़ितः पीड़ित ने बताया कि उसने ओएलएक्स माध्यम से एक मोबाइल फोन खरीदा था, जिसके लिए करीब 76 हजार की पेमेंट की गई थी। यह पेमेंट एडवांस में की गई थी। जबकि पुलिस इस तरह की एडवांस पेमेंट देने को मना करती है। खासकर तब, जब आप ओएलएक्स या इससे मिलते-जुलते किसी सेकंड हैंड सामान खरीदने वाली वेबसाइट या ऐप से सामान खरीदते हैं। पीड़ित को उसके घर मोबाइल की होम डिलीवरी नहीं हुई। इसके बाद वह पुलिस के पास गया और फिर पुलिस ने आईपी एड्रेस ट्रेस कर छापेमारी की कार्यवाही शुरू की।  वहाँ पहुँचने पर पुलिस को पता चला कि वहां पर तो कॉल सेंटर चल रहा है। इस कॉल सेंटर के फर्जी होने की बात भी कही जा रही है। लेकिन पुलिस अभी मामले की जांच करने की बात भी कह रही है।             


प्रेम-प्रसंग दो लड़कियों ने आपस में शादी रचाई

प्रेम-प्रसंग में जकड़ीं दो लड़कियों ने आपस में रचाई शादी।


लखनऊ/कानपुर। कानपुर के बर्रा में घर से लापता दो लड़कियों ने मंदिर में शादी रचा ली। पुलिस के बुलाने पर दोनों माला पहनकर चौकी पहुंचीं। युवतियों का कहना है कि अगर उन्हे अलग किया गया तो वह जान दे देंगी। जानकारी मिलते ही दोनों के परिजन थाने पहुंचे और हंगामा किया। बर्रा निवासी बीएससी की छात्रा ने बताया कि उसकी मां अक्सर मारती-पीटती थी। परेशान होकर वह करीब एक साल पहले पड़ोस की युवती के नजदीक आई। दोनों में प्रेम-प्रसंग हो गया, जिसके बाद उन्होंने शादी करने का निर्णय ले लिया। युवतियों ने बताया कि बीते 25 अगस्त को उन्होने बिठूर स्थित मंदिर में भगवान के सामने एक दूसरे को माला पहनाकर शादी की थी।
इसकी जानकारी जब घर वालों को दी तो उन्होने विरोध कर ताने मारे। दोनों परिवार ने घर से निकलने नहीं दिया, लेकिन दोनों जिद पर अड़ी रहीं। बीते 22 सितंबर को एक युवती की मां ने बेटी से संबंध विच्छेद कर लिया। इसके बाद दोनों युवतियां घर से निकल गईं। उन्होने बिठूर स्थित मंदिर में दोबारा शादी की और 25 सितंबर तक वह घंटाघर स्थित एक होटल में रहीं, लेकिन घरवालों के लगातार धमकी भरी कॉल आने पर वो कानपुर देहात नवीपुर पहुंचीं, जहां एक किराए का मकान ले लिया। युवती ने बताया कि सोमवार सुबह बर्रा चौकी से फोन आया था। पुलिस के बुलाने पर दोनों माला पहनकर चौकी पहुंचीं। जहां दोनों के परिवार ने एक दूसरे पर आरोप लगा जमकर हंगामा किया।
कहा लड़कों से है नफरत, मां पर लगाए आरोप।
बर्रा चौकी इंचार्ज सत्यपाल सिंह के अनुसार दोनों परिवार को समझाया गया है। एक युवती के घर दोनों रहेंगी। अगर समस्या हुई तो वो अलग कहीं कमरा लेकर भी रह सकती हैं। एक युवती का आरोप है कि उसकी मां उस पर गलत काम करने का दबाव बनाती है। विरोध पर हमेशा मारती-पीटती है, जिसकी वजह से वह अब हर लड़के से नफरत करती है। इसीलिए उसने युवती से ही शादी रचाई है और उसी के साथ रहेगी। वहीं, युवती की मां ने उसकी 17 साल उम्र बताई। उनका आरोप है कि दूसरी युवती ने बहलाया-फुसलाया है।             


मेमन को कांग्रेस पार्टी से निलंबित किया गया

लखनऊ। कोतवाली थाना के सामने घटित घटना के मामले में कांग्रेस की जिलाध्यक्ष सुभद्रा सलाम ने कांकेर विधायक के पूर्व प्रतिनिधि और कांग्रेस के जिला महामंत्री गफ्फार मेमन को पार्टी से निलंबित कर दिया है। पत्रकार कमल शुक्ला और सतीश यादव पर कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने खबर प्रकाशन से नाराज होकर जानलेवा हमला किया था। कांग्रेसियो द्वारा पत्रकारों पर हमले के बाद प्रदेश भर के पत्रकारों ने इसकी कड़ी निंदा करते हए कांकेर में धरना प्रदर्शन किया था। हमले का वीडियो भी सोशल मीडिया में व विभिन्न न्यूज़ चैनलों में वायरल हुआ था। इसके बाद विधायक प्रतिनिधि ने सोमवार को ही अपने पद से इस्तीफा दिया था। जिसके बाद मंगलवार को पार्टी से भी निलम्बित कर दिया गया है। लेकिन कांकेर प्रेस क्लब ने इस कार्यवाही को मात्र खानापूर्ति की कार्यवाही करार देते हुए पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष समेत वीडियो में नज़र आ रहे तमाम पार्षदों को पार्टी से निलंबित करने की मांग की है। साथ ही आरोपियों के वायरल आडियो में कलेक्टर एसपी के संरक्षण की बात सामने आने के बाद कलेक्टर और एसपी को भी कांकेर से हटाने की मांग की है अन्यथा 2 अक्टूबर को रायपुर में सीएम निवास के घेराव की चेतावनी दी है।               


मोमोजः नुकसान को सुन उड़ जाएंगे होश

क्या आप भी मोमोज खाने के शौकीन है।तो ये खबर आपके लिए है। क्या आप भी मोमोज खाने के शौकीन है। आज के समय में लोग फास्ट फूड खाने में ज्यादा दिलचस्पी दिखाते हैं। फटाफट तैयार होने वाली खाने की चीजें तेजी से लोगों को खाने के लिए आकर्षित करती हैं। हालांकि उसके नुकसान के बारे में भी लोग बेखबर हो जाते हैं। जुबान के चटकारों के आगे कुछ याद नहीं रहता। खास कर मोमोज जो लगभग एक दशक से भारतीय बाजारों में तेजी से अपनी छाप छोड़ रहे हैं।
सस्ते और स्वादिष्ट होने की वजह से सभी मोमोज को काफी पसंद कर रहे हैं। लेकिन इसके नुकसान को सुनकर आपके होश उड़ जाएंगे। आइए आपको हाल ही में घटी एक घटना के बारे में बताते हैं जहां एक युवक के मोमोज खोने की वजह से पेट में विस्फोट हो गया। मामला राजस्थान के जयपुर का है। यहां 27 वर्ष के अजमेर सिंह को डॉक्टरों ने तेज मिर्चों वाला खाना खाने के लिए मना किया था। मगर मोमोज की चसक और तेज मिर्चों वाली चटनी देख वे खुद पर काबू नहीं कर सका।
युवक के तेज स्पाइसी मोमोज खाने की वजह से उसके पेट में आचानक विस्फोट हुआ और उसकी आंतें फट गई। बताया जा रहा है पेट में हुए विस्फोट से युवक की हालत गंभीर बनी हुई है। उसे अस्पताल ले जाया गया। हालांकि इलाज के दौरान शख्स की जान बचा ली गई है। डॉक्टरों ने जांच करने के बाद बताया कि तेज मिर्ची वाले मोमोज खाने से उनके पेट में तेजी से गैस बनी लेकिन आंतों में खाना फंस और प्रेशर बढ़ने पर ब्लास्ट हो गया। ऐसे में डॉक्टरों ने उन्हें मसालेदार खाने के लिए मना किया था। लेकिन उन्होंने इसकी अनदेखी की जो उन्हें भारी पड़ गई। इससे उनकी जान भी खतरे में पड़ गई थी।
ज्यादा स्पाइसी मोमोज खाना नुकसानदायक
आज के दौर में मोमोज को लोग इसे बड़े चाव से खाते हैं। दरअसल मोमोज को पसंद करने वाले कई बार शौक-शौक में स्पाइसी मोमोज भी खा लेते हैं जिसका नुकसान उन्हें पता भी नहीं होता। वहीं इन दिनों एक ऐसा मामला सामने आया है जहां चीन में एक शख्स चटपटे मोमोज को देखकर अपने आप पर काबू नहीं रख सका लेकिन तेज मिर्च वाले मोमोज खाना उस शख्स को भारी पड़ गया।               


सुरेश रैना के लिए आईपीएल में दरवाजे बंद

सुरेश रैना के लिए आईपीएल 2020 में वापसी के दरवाजे बंद।


नई दिल्ली। आईपीएल 2020 के शुरु होने से पहले ही चेन्नई सुपर किंग्स से अपना नाम वापस लेकर फैंस व फ्रेंचाइजी को बड़ा झटका देने वाले चेन्नई के स्टार बल्लेबाज सुरेश रैना को लेकर अब एक और बड़ी खबर सामने आई है। चेन्नई सुपर किंग्स की वेबसाइट पर से सुरेश रैना का नाम हटा दिया गया है।
टीम के सेक्शन सभी खिलाडिय़ों के नाम हैं। लेकिन वहां रैना का नाम गायब है। इससे यह तो तय हो गया कि रैना इस सीजन में वापसी नहीं करने वाले हैं। शुक्रवार को चेन्नई की लगातार दूसरी हार के बाद सोशल मीडिया पर फैंस रैना की वापसी की मांग कर रहे थे।
गौरतलब है कि आईपीएल 2020 से निजी कारणों की वजह से अपना नाम वापस लेकर सुरेश रैना ने प्रशंसकों के साथ ही क्रिकेट जगत को हैरत में डाल दिया था। पूर्व भारतीय बल्लेबाज आईपीएल टूर्नामेंट के लिए पूरी तरह से तैयार थे और चेन्नई में टीम के लिए लगाए गए एक हफ्ते के कैम्प में उन्होंने हिस्सा भी लिया था। वे टीम के अन्य सदस्यों के साथ यूएई आए थे। लेकिन सीएसके कैम्प में कोरोना पॉजिटिव के 13 मामले सामने आने के बाद वे भारत लौट गए।
इसके बाद भी उप-कप्तान ने वापसी के दरवाजे खोल रखे थे और कहा था कि अगर हालात बेहतर हुए तो वे वापसी कर सकते हैं। लेकिन चेन्नई सुपरकिंग्स की वेबसाइट से रैना का नाम हटने के बाद यह कन्फर्म हो गया है कि वे अब टीम के साथ नहीं जुड़ेंगे। लेकिन फ्रेंचाइजी ने रैना का रिप्लेसमेंट नहीं लिया, जिसके चलते लगातार कयास लगाए जा रहे थे कि रैना टीम में वापसी कर सकते हैं। लेकिन अब सीएसके ने मिस्टर आईपीएल यानी सुरेश रैना का नाम अपनी आधिकारिक वेबसाइट से हटा दिया है। वहीं रैना ने शनिवार को चेन्नई सुपर किंग्स को ट्विटर पर अनफॉलो कर दिया। शुक्रवार को चेन्नई की लगातार दूसरी हार के बाद, सोशल मीडिया पर रैना की वापसी की मांग दुबारा ट्रेंड करने लगी थी। खबरों के मुताबिक इसी सोशल मीडिया कैम्पेनिंग से परेशान होकर रैना ने चेन्नई सुपर किंग्स को ट्विटर पर अनफॉलो कर दिया।                


संक्रमण के चलते राज्यों ने बसों को रोका

छत्तीसगढ़ में बढ़ते संक्रमण को चलते पड़ोसी राज्यों ने बसों को रोका।


रायपुर। छत्तीसगढ़ की अंतरराज्यीय बसों को महाराष्ट्र, ओडिशा, झारखंड और बिहार की सीमाओं के अंदर प्रवेश नहीं दिया जा रहा है। छत्तीसगढ़ में बढ़ते कोरोना संक्रमण की वजह से पड़ोसी राज्य भयभीत हैं। कोरोना जैसी घातक बीमारी को देखते हुए इन चार राज्यों ने अपनी सीमा के अंदर अंतरराज्यीय बसों के प्रवेश पर रोक लगा दी है। इस कारण छत्तीसगढ़ से जाने वाली बसों के चालक मजबूरी में यात्रियों को छत्तीसगढ़ के सीमा पर छोड़कर वापस लौट आ रहे हैं। सीमा से यात्री टैंपो या फिर आटो का सहारा लेकर किसी तरह इन राज्यों की सीमा में प्रवेश कर रहे हैं। इससे यात्रियों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।
ज्ञात हो कि छत्तीसगढ़ से महाराष्ट्र्र, मध्यप्रदेश, बिहार, झारखंड, तेलंगाना और ओडिशा तक बसों का संचालन किया जा रहा है। मध्यप्रदेश और तेलंगाना में छत्तीसगढ़ की बसों को अभी जाने दिया जा रहा है। कोरोना के खौफ की वजह से दूसरे राज्यों में काम करने वाले मजदूर वापस लौट आए थे। लेकिन अब धीरे-धीरे जिंदगी सामान्य हो रही है। प्रदेश में बस का संचालन भी शुरू हो गया है। लेकिन छत्तीसगढ़ की बसों को चार राज्यों अपने सीमा में घुसने की अनुमति नहीं दी है। झारखंड की सीमा में छत्तीसगढ़ की बस प्रवेश कर गई थी। जिस पर झारखंड शासन ने बस पर चालानी कार्रवाई करने के बाद उसे छोड़ा।             


फ्लाईओवर का प्लेट गिरने से मजदूर की मौत

भिलाई हादसा: निर्माणाधीन फ्लाईओवर का प्लेट गिरा…एक मजदूर की मौत


छत्तीसगढ़। दुर्ग जिले के भिलाई से दर्दनाक हादसे की खबर सामने आई है। निर्माणाधीन फ्लाईओवर का प्लेट गिर गया। जिसकी चपेट में आकर एक मजदूर की मौत हो गई। मामले की सूचना मिलने से मौके पर पहुंची पुलिस मर्ग कायम कर आगे की कार्रवाई कर रही है।
मिली जानकारी के अनुसार मामला छावनी थाना क्षेत्र का है। जहां फ्लाईओवर का निर्माण किया जा रहा है। बुधवार को निर्माणाधीन फ्लाईओवर का प्लेट निकालने के दौरान लोहे का एक प्लेट गिर गया। जिसकी चपेट में आकर ठेका श्रमिक की मौत हो गई। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।               


रायगढ़ में लॉकडाउन का आदेश जारी किया

रायगढ़ में आज रात 12 बजे थम जाएंगे लॉक-डाउन के पहिये,कल से जिंदगी फिर लौटेगी पटरी पर….


रायगढ़ में आज रात 12 बजे थम जाएंगे लॉक-डाउन के पहिये कल से जिंदगी फिर लौटेगी पटरी पर। रायगढ़ में आज रात 12 बजे खत्म होगा लॉकडाउन। इन शर्तों के साथ कल से खुलेंगी दुकानें। सपूर्ण रायगढ़ जिला में अनुमति प्राप्त समस्त प्रकार की गतिविधियों का संचालन कल से प्रातः 10 बजे से शाम 6 बजे तक होगा रविवार को छोड़कर जिला कलेक्टर भीम सिंह ने जारी किया आदेश। सब्जी का विक्रय प्रतिदिन प्रातः 6 बजे से 11 बजे तक होगा। दूध डेयरी का संचालन प्रतिदिन सशर्त प्रात-6 बजे से प्रातः 9 बजे और शाम 5 से रात्रि 7 बजे तक की जा सकेंगी। अस्पताल परिसर की मेडिकल दुकानें 24 घंटे खुली रहेंगी।         


वरिष्ठ नेता इंदरचंद धाड़ीवाल का हुआ निधन

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता इंदरचंद धाड़ीवाल का हुआ निधन।


रायपुर। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता इंदरचंद धाड़ीवाल का हार्ट अटैक से बुधवार को निधन हो गया धाड़ीवाल लंबे समय तक रायपुर शहर कांग्रेस के अध्यक्ष थे। जानकारी के अनुसार कोरोना की वजह से उन्हें एमएमआई अस्पताल में दाखिल कराया गया था। जिससे ठीक होने के बाद वे स्वास्थ्य लाभ कर ही रहे थे। कि बुधवार को हार्ट अटैक से उनकी मौत हो गई।               


ट्रंप ने सिर्फ 55 हजार रुपये भरें इनकम टैक्स

अरबपति ट्रंप ने सिर्फ 55 हजार रुपये भरा इनकम टैक्स राष्ट्रपति की टैक्स चोरी पर अमेरिका में बवाल।


वाशिंगटन डीसी। अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव की तारीख नजदीक आते ही अब राजनीतिक दलों के बीच घमासान छिड़ गया है। अब अमेरिकी चुनाव में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की टैक्स चोरी को लेकर बवाल मच गया है।
दरअसल, रिपब्लिकन पार्टी के उम्मीदवार और राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा इनकम टैक्स की चोरी करने को लेकर बड़ा खुलासा हुआ है। इस खुलासे के बाद अमेरिका में तगड़ा विवाद खड़ा हो गया है। जानकारी के मुताबिक ट्रंप ने पिछले 10 साल तक कोई आयकर नहीं भरा है। इस खुलासे से वोटरोंं के बीच ट्रंप की छवि खराब हो सकती है। अब राष्ट्रपति ट्रंप की इस हरकत पर वे लोगों के निशाने पर आ गए हैं।
जानकारी के मुताबिक ट्रंप जिस वर्ष राष्ट्रपति बने थे। उसके बाद व्हाइट हाउस में अपने पहले वर्ष के दौरान उन्होंने आयकर के तौर पर सिर्फ 750 अमेरिकी डॉलर यानि लगभग 55 हजार रुपये का भुगतान किया। न्यूयॉर्क टाइम्स में प्रकाशित खबर में यह जानकारी दी गई है। अमेरिकी राष्ट्रपति की कुल संपत्ति 2.1 अरब डॉलर है। खबर के मुताबिक  बीते 15 सालों में से 10 साल ट्रंप ने कोई आयकर अदा नहीं दिया। जबकि उन्होंने राष्ट्रपति पद के लिए खुद को अरबपति रियल एस्टेट कारोबारी और सफल व्यवसायी के तौर पर पेश किया था।               


बाजारों में गुड़ के बदले बिक रहा है जहर

सावधान। बाजारों में गुड़ के बदले बिक रहा जहर। जहर के सौदागर आपकी सेहत से कर रहे खिलवाड़।


रुड़की। झबरेड़ा क्षेत्र इस वक्त ज़हर बनाने वालों का मुख्य क्षेत्र बन चुका है। जी हाँ आप चौकिए मत यह सोलह आने सच है। जिसकी वजह साफ है। कि अभी किसानों के खेतों में गन्ना पूरी तरह से पका नही। जिसमे अभी गन्ना पूरी तरह से तैयार दो महीने बाद होगा पर झबरेड़ा कस्बे के दो दर्जन से अधिक ज़हर के सौदागर सड़े हुए गुड़, सड़ी हुई चीनी और थोड़ी मात्रा में कच्चे गन्ने को मिक्स करके जो गुड़ तैयार कर रहे है। वह आम इंसान के लिए बहुत ही खतरनाक है। सिर्फ इतना ही नहीं इस गुड़ को खूबसूरत बनाने के लिए जो केमिकल डाला जा रहा है। वह बहुत ही घातक होता है। झबरेड़ा में ऐसी ही कई दर्जन चर्खियों में इस खतरनाक गुड़ को तैयार किया जाता है। उन्ही चर्खियों में खतरनाक पॉल्यूशन पैदा करने वाली रबड़ को भी जलाया जाता है। ऐसा नही की अधिकारियों की नज़र से यह सब छुपा नही रहता बल्कि समय-समय पर अधिकारी छापेमारी कर कार्यवाही करते भी रहते है। हाल में ही मंगलौर गुड़ मंडी से जॉइन्ट मजिस्ट्रेट ने 280 लीटर एसिड भी पकड़ा था। जो गुड़ में मिला कर बेचा जा रहा है।
वही जॉइन्ट मजिस्ट्रेट ने मंगलौर क्षेत्र से ही भारी मात्रा में रबड़ के गोदामो पर भी छापा मारकर कार्यवाही की थी। पर बावजूद उसके झबरेड़ा के लोग इस ज़हर को गुड़ के नाम पर लोगों को खिला रहे है।               


बच्चों की बात को नजरअंदाज करना पड़ा भारी

बच्चे की बात को नज़र अंदाज़ करना परिवार को पड़ा भारी मासूम ने गवाई जान


गदरपुर। तहसील में 4 साल के बच्चे की बात को नज़र अंदाज़ करना माता-पिता को भरी पड़ गया। जिस वजह से बच्चे की जान चली गयी इसके बाद घर में कोहराम मच गया। घटना गदरपुर के आनन्द खेड़ा क्षेत्र की है। जहाँ वार्ड नंबर 2 में रहने वाले जयदेव छठ का चार वर्षीय पुत्र घर में खेल रहा था। कि घर में छिपे साँप ने उसे डस लिया बच्चे के रोने की आवाज़ सुन कर माता-पिता कमरे में पहुँचे बच्चे से रोने का कारण पूछा मासूम ने बताया कि उसे साँप ने काट लिया बच्चे की बात को माता-पिता ने नज़र अंदाज़ कर दिया। सोचा कि बच्चा ऐसे ही बोल रहा है। शायद इसके टीन की चादर से बच्चे का पाँव कटा होगा ध्यान नहीं दिया | जैसे जैसे साँप के ज़हर ने मासूम के ऊपर असर करना शुरू किया बच्चे की हालत बिगड़नी शुरू हो गयी। बच्चे की ज्यादा हालत खराब होने के उपरान्त उसको अस्पताल ले जाया गया। जहाँ डॉक्टरो ने उसे मृत घोषित कर दिया। माता पिता की एक ज़रा सी लापरवाही के चलते परिजनों ने अपने बच्चे को हमेशा के लिए खो दिया  मासूम अमित की मौत से घर में कोहराम मचा हुआ है।
पहाड़ टूड़े उत्तराखंड तथा देश विदेश की ताज़ा खबरों व समाचारों का एक डिजिटल माध्यम है। जो ख़बरों को जन जन तक प्रसारित करने का प्रयासबद्ध है।               


सोने की कीमत में फिर आई भारी गिरावट

सोने की कीमतों में फिर आई भारी गिरावट।


अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली। सोने की कीमत में एक दिन की बढ़ोतरी के बाद आज फिर गिरावट देखने को मिल रही है। एमसीएक्स पर दिसंबर का सोना वायदा 0.5 फीसदी गिरकर 50,386 रुपये प्रति 10 ग्राम हो गया। तीन दिनों में यह सोने की दूसरी गिरावट है। पिछले सत्र में सोना एक फीसदी यानी लगभग 500 रुपये बढ़ गया था। जबकि चांदी 1,900 रुपये प्रति किलोग्राम महंगी हुई थी। सुबह आधे घंटे के कारोबार में इसने 50450 रुपये का न्यूनतम और 50559 रुपये का उच्चतम स्तर छुआ। सात अगस्त के 56,200 रुपये की रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंचने के बाद सोने में काफी उतार-चढ़ाव आया है। इस हफ्ते की शुरुआत में यह 49,500 रुपये से नीचे चला गया था।                 


देर से ही सही न्याय की जीत हुईः रक्षा मंत्री

बाबरी केस। फैसले पर बोले रक्षा मंत्री- देर से ही सही न्याय की जीत हुई।


नई दिल्ली। अयोध्या में छह दिसंबर 1992 को विवादित ढांचा गिराने के मामले में सीबीआई की विशेष अदालत ने पूर्व उपप्रधानमंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, कल्याण सिंह सहित सभी 32 आरोपियों को बरी कर दिया है। इस फैसले को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने न्याय की जीत बताया है।
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने लखनऊ की विशेष अदालत के फैसले पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा लखनऊ की विशेष अदालत द्वारा बाबरी मस्जिद विध्वंस केस में लालकृष्ण आडवाणी, कल्याण सिंह, डॉ मुरली मनोहर जोशी, उमाजी समेत 32 लोगों के किसी भी षड्यंत्र में शामिल न होने के निर्णय का मैं स्वागत करता हूं। इस निर्णय से यह साबित हुआ है। कि देर से ही सही मगर न्याय की जीत हुई है।
बता दें कि छह दिसंबर 1992 को विवादित ढांचा विध्वंस मामले की 28 वर्ष तक सुनवाई चली। जिसके बाद सीबीआई की विशेष अदालत ने इस आपराधिक मामले में बुधवार को फैसला सुनाया। सीबीआई के विशेष न्यायाधीश एस.के. यादव ने लाकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, कल्याण सिंह, उमा भारती, विनय कटियार समेत सभी 32 आरोपियों को बरी कर दिया है।
कोर्ट ने कहा कि विवादित ढांचा विध्वंस की घटना पूर्व नियोजित नहीं थी। सिर्फ तस्वीरों से आरोपियों के घटना में शामिल होने का सबूत नहीं मिल जाता। यह कहते हुए कोर्ट ने सभी 32 आरोपियों को बरी कर दिया।               


विवादित ढांचे पर अदालत का फैसला तर्क हीन

विवादित ढांचे पर विशेष अदालत का फैसला तर्कहीन। 


नई दिल्ली। कांग्रेस ने अयोध्या में विवादित ढांचा गिराने के मामले में सभी आरोपियों को बरी करने के केंद्रीय जांच ब्यूरो(सीबीआई) की विशेष अदालत के फैसले को तर्कहीन करार देते हुए कहा है कि यह निर्णय उच्चतम न्यायायल के फैसले के प्रतिकूल है।
कांग्रेस संचार विभाग के प्रमुख रणदीप सिंह सुरजेवाला ने अयोध्या में छह दिसम्बर 1992 को विवादित ढांचा गिराये जाने के मामले में भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, कल्याण सिंह, उमा भारती समेत सभी 32 आरोपियों को बरी करने के सीबीआई की विशेष अदालत के फैसले पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि विशेष अदालत का निर्णय उच्चतम न्यायालय के फैसले तथा संविधान की परिपाठी से अलग है।
उन्होंने कहा कि ढांचा गिराया जाना एक गैरकानूनी अपराध था। और उच्चतम न्यायालय ने भी इसे गैरकानूनी करार दिया था। लेकिन विशेष अदालत का निर्णय उच्चतम न्यायालय के निर्णय के प्रतिकूल है। उच्चतम न्यायालय ने तथ्यों को देखते हुए अयोध्या में विवादित ढांचे को गिराने को गैर कानूनी करार देते हुए इस कृत्य को अपराध बताया था। कि लेकिन विशेष अदालत का यह निर्णय तर्कविहीन है।
प्रवक्ता ने कहा कि पूरा देश जानता है। कि भाजपा तथा आरएसएस के नेताओं ने राजनैतिक फायदे के लिए देश तथा समाज के सांप्रदायिक सौहार्द्र को तोड़ने का एक घिनौना षडयंत्र किया था। देश के सामाजिक सौहार्द को बिगाड़ने के इस अपराध में उस समय की उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार भी शामिल थी।
उन्होंने कहा कि संविधान सामाजिक सौहार्द्र तथा भाईचारे में विश्वास रखने वाला हर व्यक्ति काे उम्मीद है। कि विशेष अदालत के इस तर्कहीन निर्णय के विरुद्ध राज्यों तथा केंद्र सरकार उच्च अदालत में अपील दायर करेंगी तथा बगैर किसी पक्षपात या पूर्वाग्रह के देश के संविधान और कानून की अनुपालना करेंगी।             


ब्रह्मोस मिसाइल का सफल परीक्षण किया

भारत ने ब्रह्मोस मिसाइल का किया सफल परीक्षण।


भुवनेश्वर। भारत ने ओडिशा तट पर एक टेस्ट फैसिलिटी से स्वदेशी बूस्टर के साथ एक विस्तारित-रेंज वाले सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल ब्रह्मोस का सफलतापूर्वक परीक्षण किया। सूत्रों ने बताया कि मिसाइल को बालासोर जिले में इंटीग्रेटेड टेस्ट रेंज (आईटीआर) से एक मोबाइल लांचर से सुबह करीब 10.30 बजे लॉन्च किया गया। भारत-रूस के संयुक्त उद्यम। ब्रह्मोस मिसाइल की मार करने की क्षमता लगभग 400 किलोमीटर है।
ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने ट्वीट किया विस्तारित रेंज वाले ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल के सफल परीक्षण पर डीआरडीओ को बधाई। स्वेदशी बूस्टर वाला मिसाइल भारत की रक्षा क्षमता को मजबूत करेगा।
यह दूसरी बार है। जब ब्रह्मोस के विस्तारित।रेंज संस्करण का परीक्षण किया गया है। ब्रह्मोस मिसाइल को मूल रूप से 290 किलोमीटर की दूरी तक मार करने की क्षमता के साथ बनाया गया था।                 


सर्दी में ज्यादा खतरनाक हो सकता है कोरोना

सर्दियों में ज्यादा खतरनाक हो सकता है कोरोना वायरस


नई दिल्ली। कोरोना वायरस का संक्रमण तेजी से फैल रहा है। अब रोजाना का आंकड़ा 80 हजार के पार पहुंच गया है। जिस वजह से संक्रमित मरीजों की भी संख्या 62 लाख से ज्यादा है। धीरे-धीरे गर्मी खत्म हो रही है। और सर्दियों का सीजन शुरू हो रहा ऐसे में लोगों के मन में एक सवाल बना हुआ है। कि क्या कोरोना इस बार सर्दियों में ज्यादा खतरनाक हो जाएगा या फिर मौजूदा स्थिति बनी रहेगी। कोविड-19 की ब्रीफिंग के दौरान नीति आयोग के सदस्य डॉ. वीके पॉल ने बताया कि महामारी को लेकर अगले दो-तीन महीने काफी अहम हैं। सभी को मास्क सोशल डिस्टेंसिंग और साफ-सफाई पर ध्यान देना चाहिए। उनके मुताबिक सर्दियों में सांस से संबंधित वायरस ज्यादा खतरनाक होते हैं। ऐसे में हमें मामलों में गिरावट लाने की कोशिश करनी चाहिए।               


आपने उठाया है लाभ, लौटानी पड़ेगी पाई-पाई

किसान बनकर अगर आप भी ले रहे हैं 6000 रुपये ? अब लौटाने पड़ेंगी पाई-पाई।


आनंद भोई


महासमुंद। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि 2020 योजना के तहत मोदी सरकार हर साल किसानों के खाते में 6000 रुपये भेजती है। लेकिन, कुछ लोग किसान बनकर इस योजना का गलत फायदा उठा रहे हैं। अब ऐसे लोगों के खिलाफ सरकार सख्त कार्रवाई के मूड में है। दरअसल, तमिलनाडु में पीएम किसान योजना से जुड़ा बड़ा घोटाला सामने आया है। जिसमें योजना के पात्र नहीं होने के बावजूद गलत तरीके से पैसे ले रहे थे। पाई-पाई वसूलेगी सरकार।
गड़बड़ी सामने आने पर सरकार भी सतर्क हो गई है। जिन लोगों ने गलत तरीके से पैसे लिए थे, उनसे पैसा भी वसूला गया है। अब अगर कोई व्यक्ति इस योजना के नियमों के तहत लाभार्थी की कैटेगरी में नहीं आता, मगर उसने फायदा उठाया है तो सरकार उससे लिया गया पैसा वसूल सकती है। सरकार ने अब तक 61 करोड़ रुपये वसूले हैं। तमिलनाडु में 5.95 लाख लाभार्थियों के खातों की जांच की गई है, जिसमें से 5.38 लाख फर्जी निकले।
अधिकारियों को निर्देश।
मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, जिन अधिकारियों और कर्मचारियों ने लापरवाही बरती उनके खिलाफ भी कार्रवाई होगी। कृषि मंत्रालय के अधिकारियों का कहना है कि आगे ऐसे मामलों को रोकने के लिए एक स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग सिस्टम तैयार किया जाएगा। इसके लिए काम शुरू हो चुका है।
किसे मिलता हैं लाभ।
प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का लाभ उठाने के लिए आपके पास किसान के नाम खेती की जमीन होनी चाहिए। अगर कोई किसान खेती कर रहा है, लेकिन खेती की जमीन उसके नाम नहीं है तो वो योजना के लिए पात्र नहीं होगा।               


अमिताभ ने किया ऑर्गन डोनर बनने का ऐलान

अमिताभ बच्चन ने किया ऑर्गन डोनर बनने का ऐलान… ट्वीट कर दी जानकारी।


मुंबई। बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहते हैं। सोशल मीडिया पर वह अक्सर वह अपनी तस्वीरों के साथ फैंस के लिए अपने पिता की पंक्तियों को भी शेयर करते रहते हैं।
कोरोनावायरस  के कारण हुए लॉकडाउन में उन्होंने महाराष्ट्र में फंसे यूपी के प्रभावी मजदूरों को हवाई सेवा और बस सेवा द्वारा सुरक्षित उनके घर पहुंचाया। अब बिग बी ने एक बड़ा फैसला लेते हुए अपने ऑर्गन डोनेट करने की घोषणा की है। सोशल मीडिया पर उन्होंने इस बात की जानकारी दी।
अमिताभ बच्चन ने एक ट्वीट किया। अपनी एक तस्वीर पोस्ट की है, जिसमें उनके कोट पर एक छोटा सा ग्रीन कलर का रिबन भी है। इस तस्वीर को शेयर करते हुए अमिताभ ने उन्होंने लिखा, ‘मैं एक शपथ ले चुका ऑर्गन डोनर हूं।मैंने ये ग्रीन रिबन इसकी पवित्रता के लिए पहना हुआ है।                                             


न्यायालय परिसर को किया गया सैनिटाइज

न्यायालय में एक व्यक्ति कोरोना पाॅजिटिव पाये जाने पर जिला न्यायाधीश की उपस्थिति में न्यायालय परिसर को किया गया सेनिटाईज।


चंद्रिका कुशवाहा 
सूरजपुर। सूरजपुर जिले में दिन पर दिन कोरोना संक्रमित की संख्या में वृद्धि हो रही है, वहीं प्रषासनिक क्रियान्वयन भी अपनी चुस्ती फुर्ती के साथ किया जा रहा है। जिला सेनानी दमकल टीम के द्वारा लगातार संक्रमण क्षेत्रों व स्थानों को सेनिटाईजेशन का कार्य किया जा रहा है। इसी क्रम में न्यायालय सूरजपुर में एक व्यक्ति के कोरोना पाॅजिटिव पाये जाने के कारण जिला न्यायाधीष श्री हेमंत सराफ के द्वारा स्वयं अपनी उपस्थिति में एहतीयातन सुरक्षा के लिए संपूर्ण न्यायालय परिसर को दमकल वाहन से सेनिटाईज कराया गया। जिसमें दमकल प्रभारी विकास शुक्ला एवं उनकी टीम ने सेनिटाईजेशन का कार्य किया है। इसी कड़ी में सखी वन स्टाॅप सेन्टर सूरजपुर में भी पाॅजीटिव मरीज की पुष्टि होने पर जिला अग्निषमन अधिकारी श्री व्ही.के.लकड़ा के निर्देष पर कोरोना वायरस संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए सेनिटाईजेशन कार्य किया गया। इस दौरान दमकल टीम में छक्केलाल, रामध्यान किन्डो, राहुल, छत्रपाल सिंह, सोमारसाय, सुखलराम मौजूद रहे।               


49 आरोपियों में से 17 का हुआ निधन

बाबरी मस्जिद विध्वंस पर फैसला- आडवाणी, उमा और जोशी अगर दोषी तो कितनी बड़ी सजा?


नई दिल्ली। बाबरी विध्वंस केस में कुल 49 आरोपी थे लेकिन 17 आरोपियों की सुनवाई के दौरान निधन हो गया। 6 दिसंबर 1992 को बाबरी मस्जिद गिरने के बाद फैजाबाद में दो एफआईआर कराई गई थी। एफआईआर 198 लाखों कार सेवकों के खिलाफ थी जबकि एफआईआर 198 संघ परिवार के कार्यकर्ताओं समेत आडवाणी, जोशी, तत्कालीन शिवसेना नेता बाल ठाकरे, उमा भारती आदि के खिलाफ थी।
तो आडवाणी, जोशी और उमा को होगी 5 साल की सजा?
बाबरी विध्वंस केस की सुनवाई कर रहे अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश एस के यादव अगर इस मामले में बीजेपी नेता लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, उमा भारती, विनय कटियार और साध्वी रितंभरा को दोषी ठहराते हैं तो उनको अधिकतम 5 साल की सजा हो सकती है।
दोषी साबित होने पर कल्याण को अधिकतम 3 साल की सजा
अगर कोर्ट यूपी के पूर्व सीएम कल्याण सिंह, साक्षी महाराज और फिरोजाबाद के तत्कालीन डीएम आरएम श्रीवास्तव को दोषी ठहराएगी तो उन्हें अधिकतम 3 साल की सजा हो सकती है। महंत नृत्य गोपाल, चंपत राय को कितनी सजा?
बाबरी विध्वंस मामले में आरोपी महंत नृत्य गोपाल दास, राम विलास वेदांती, राम मंदिर ट्रस्ट के चंपत राय, सतीश प्रधान, धरम दास अगर विध्वंस में मामले में दोषी पाए जाएंगे तो उन्हें अधिकतम 5 साल की सजा हो सकती है।
इन्हें हो सकती है उम्रकैद।
बीजेपी सांसद ब्रजभूषण सिंह, पूर्व विधायक पवन कुमार पांडेय, जय भगवान गोयल और ओम प्रकाश पांडेय को अगर अदालत दोषी ठहराती है तो उन्हें अधिकतम उम्रकैद की सजा हो सकती है। सांसद लल्लू सिंह का क्या होगा?
बाबरी विध्वंस केस के आरोपी फिरोजाबाद के सांसद लल्लू सिंह, मध्य प्रदेश सरकार के पूर्व मंत्री जयभान सिंह पवैया, आचार्य धर्मेंद्र देव, रामजी गुप्ता, प्रकाश शर्मा, धर्मेंद्र सिंह गुर्जर और कारसेवकों रामचंद्र खत्री, सुखबीर कक्कर, अमन नाथ गोयल, संतोष दुबे, विनय कुमार राय, कमलेश त्रिपाठी, गांधी यादव, विजय बहादुर सिंह, नवीन भाई शुक्ला को अधिकतम उम्रकैद की सजा हो सकती है।             


सीटिंग जॉब में कम करें हार्ट अटैक का खतरा

आप सीटिंग जॉब में हैं? तो ऐसे कम करें हार्ट अटैक का खतरा।


हृदय रोग से बचाव जैसे, हार्ट स्ट्रोक और हार्ट अटैक के खतरों को कम करने और कार्डियोवस्कुलर डिजीज से सुरक्षित रहने के लिए जरूरी है कि आप अपने हृदय की जरूरतों के प्रति जागरूक रहें। इस बात की जरूरत सबसे अधिक उन लोगों को होती है जो सिटिंग जॉब में होते हैं। क्योंकि लगातार कई घंटे एक ही जगह पर बैठे रहने से दिल की सेहत पर काफी बुरा असर पड़ता है। इस समय कोविड-19 के दौर में दिल को स्वस्थ रखना और भी जरूरी हो गया है। क्योंकि दिल अगर जरा-सा कमजोर हुआ तो कोरोना वायरस को आपके शरीर पर हावी होने का अवसर मिल जाएगा। यहां जानें, सिटिंग जॉब के साथ आप अपने हार्ट को कैसे स्वस्थ रख सकते हैं।
युवाओं में बढ़ रहा है हार्ट अटैक
आपको यह बात हैरान कर सकती है कि एक समय 55 प्लस की उम्र में होनेवाली कार्डियोवस्कुलर डिजीज आजकर 25 साल के युवाओं को भी अपनी चपेट में लेने लगी हैं। इतना ही नहीं हमारे देश में हार्ट अटैक के कुल मामलों में आधी संख्या उन लोगों की है, जिनकी उम्र 50 से कम है। इस आधी संख्या में भी 25 प्रतिशत लोग वो हैं जिनकी उम्र 40 साल से भी कम है। इन आंकड़ों से आप अंदाजा लगा सकते हैं कि दिल की बीमारियां कितनी तेजी से हमारे समाज को बीमार बना रही हैं। खासतौर पर हमारे युवाओं को।
सिटिंग जॉब वाले कैसे बचें हार्ट अटैक से।
अपने दैनिक जीवन में कुछ चुनिंदा बातों का ध्यान रखकर कई घंटों तक एक ही स्थान पर बैठकर काम करनेवाले लोग हार्ट को हेल्दी रख सकते हैं। इसके लिए आपको जो चीजें जानने की जरूरत है, उनके बारे में यहां बताया जा रहा है।
कार्डियोवस्कुलर रोगों को हराने के लिए वर्ल्ड हार्ट फेडरेशन के कैंपेन यूूूज हार्ट से जुड़ी ऑफिसर अंजलि मल्होत्रा कुछ खास तरीके बता रही हैं, जो बेहद आसान भी हैं।
सूक्ष्म व्यायाम करें।
घंटों की सिटिंग जॉब और लॉकडाउन के कारण डेली रूटीन में फिजिकल ऐक्टिविटीज करना संभव नहीं हो पा रहा है। ऐसे में आप उन सूक्ष्म व्यायाम के बारे में अपनी जानकारी बढ़ाएं, जिन्हें आप काम के दौरान ही 2 से 3 मिनट का समय निकालकर बीच-बीच में कर सकें।
ये सूक्ष्म व्यायाम आपके शरीर में ब्लड सर्कुलेशन का सही स्तर बनाए रखने में सहायता करते हैं। इससे आपके हृदय की पंपिंग प्रक्रिया बाधित नहीं होती है और पूरे शरीर में रक्त का प्रवाह सुचारू रूप से बना रहता है।
भोजन में जरूरी हैं कुछ बदलाव
सीटिंग जॉब वालों को अपनी डायट में कुछ खास बातों का ध्यान रखना चाहिए। जैसे, कम मसालों का सेवन करें
यानी आपका भोजन बहुत अधिक स्पाइसी नहीं होना चाहिए। भोजन में डीप फ्राइड चीजों का उपयोग कम करें इनके स्थान पर फ्रूट सलाद, सब्जियों की सलाद, ड्राई फ्रूट्स और उबली हुई सब्जियों को शामिल करें।
-डिब्बाबंद फूड और पैक्ड रेडी टु ईट फूड्स से जितना हो सके दूर रहें। क्योंकि इनमें प्रिजर्वेटिव्स की भारी मात्रा होती है, साथ ही फैट भी अधिक होता है।
पर्याप्त नींद लें। नींद लेना हमारी आंखों की सेहत के लिए ही नहीं बल्कि हमारे ब्रेन, हार्ट और पूरे शरीर की सेहत के लिए जरूरी है। क्योंकि जब हम सो रहे होते हैं तो हमारा शरीर डैमेज हुई सेल्स की रिपेयरिंग कर रहा होता है।
ऐसे में जो लोग 7 से 8 घंटे की पूरी नींद नहीं लेते हैं, उनके शरीर में आंतरिक कमजोरी और बीमारियां पनपने की आशंका अधिक रहती है।
खुश रहना है जरूरी
खुश रहने के लिए जरूरी है कि आप तनाव मुक्त रहें। क्योंकि हमारे दिल और दिमाग की ज्यादातर बीमारियों की वजह तनाव होता है। जिन परिस्थितियों को आप अपने अनुसार ढाल नहीं पा रहे हैं, बेहतर होगा कि आप उनके अनुसार खुद ढल जाएं। शांति और खुशहाली से जीवन जीने की यह एक कुंजी है। वैसे भी बेहतर है कि हम सभी एक स्वस्थ जिंदगी जी पाएं, जो खुशियों से भरी हो। क्योंकि तनावपूर्ण जिंदगी कितनी भी लंबी क्यों ना हो बोझिल ही होती है और कोई खुशी नहीं देती।             


साथी की खुशबू से मिलता है मानसिक सुख

क्या आप जानते हैं लवर की शर्ट सूंघने से मिलता हैं ये गजब का फायदा, नहीं तो आज ही ट्राई करें।


क्या आप शारीरिक और मानसिक रूप से पूरी तरह पस्त हैं? तो फिर अपने रोमांटिक साथी की शर्ट को सूंघें, इससे आपका तनाव कम होगा। ऐसा एक शोध में कहा गया है। शोध से पता चलता है कि महिलाएं तब आराम महसूस करती हैं, जब वे अपने पुरुष साथी की गंध को सूंघती हैं।
तनाव कम करना हैं।
कनाडा के यूनिवर्सिटी ऑफ ब्रिटिश कोलंबिया की ग्रेजुएट छात्रा और शोध की प्रमुख लेखक मार्लिस होफर ने बताया कि कई लोग अपने साथी की शर्ट पहनते हैं या फिर जब साथी दूर होता है तो वे बिस्तर के उस तरफ सोते हैं, जिधर उनका साथी सोता है, लेकिन वे इस व्यवहार का कारण महसूस नहीं करते कि क्यों वे ऐसा करते हैं।
होफर ने कहा कि हमारे शोध के निष्कर्षो से पता चलता है कि केवल साथी की गंध, जबकि वह आपके आसपास मौजूद न हो, तनाव घटाने में एक शक्तिशाली उपकरण हो सकता है।
इसके विपरीत, किसी अजनबी की गंध विपरीत प्रभाव पैदा करती है और तनाव वाले हार्मोन- कॉर्टिसोल के स्तर को बढ़ा देती है, संभवत: ऐसा विकासवादी कारकों के कारण होता है।
कम उम्र से ही, मनुष्यों में अजनबियों का डर होता है, खासतौर से अजनबी पुरुषों का, तो यह संभव है कि अजनबी पुरुष की गंध लड़ो या भागो प्रतिक्रिया को प्रेरित करती है, जिससे कॉर्टिसोल का स्तर बढ़ जाता है। यह बिना हमारी जानकारी के होता है।               


24 घंटे में कोरोना के 80472 नए मरीज

24 घंटे में मिले कोरोना के 80472 नए मरीज… देश में अब तक 62.25 लाख केस।


नई दिल्ली। भारत में कोरोना वायरस के संक्रमितों (कॉविड-19 इनफेक्टेड) की संख्या 62 लाख 25 हजार 764 हो चुकी है। बीते 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 80 हजार 472 नए मामले मिले। मंगलवार को 1179 लोगों की मौत हुई।
इसके साथ ही मरने वालों की संख्या 97 हजार 497 हो चुकी है. बीते दिन 86,061 लोग रिकवर हुए हैं। अब तक 51 लाख 87 हजार 826 मरीज ठीक होकर घर लौट चुके हैं, जो कि दुनिया में सबसे ज्यादा है। फिलहाल देश में 9 लाख 40 हजार 441 एक्टिव केस हैं।
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के सचिव राजेश भूषण ने कहा कि आईसीएमआर की दूसरी सीरो सर्वे रिपोर्ट से पता चला है कि अभी भी काफी आबादी कोरोना की चपेट में है, इसलिए हमें पूरी सावधानी बरतनी चाहिए।
17 अगस्त से 22 सितंबर तक 29,082 लोगों का सर्वे किया गया. इनमें 6.6% के संक्रमित होने के सबूत मिले हैं। सर्वे के मुताबिक, अगस्त में 10 से ज्यादा उम्र वाला हर 15 में से एक व्यक्ति संक्रमण की चपेट में आया।             


'गांधी जयंती' पर 2 घंटा सपाई रखेंगे मौन

गांधी जयंती पर सपाई रखेगे दो घंटा मौन-गौहर अली खान


रिपोर्ट-बिट्ठल दास।


संतकबीरनगर। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के निर्देश पर आगामी 2 अक्टूबर को गांधी की जयन्ती जिला मुख्यालय पी0डब्लू0डी0 डाक बंगले के सामने खलीलाबाद में जिलाध्यक्ष गौहर अली खाॅ की अध्यक्षता में मनायी जाएगी। भाजपा राज में युवाओं का भविष्य अंधेरे में है। शिक्षा संस्थान बंद है। ऑनलाईन पढ़ाई के नाम पर गांवो में रहने वाले छात्र-छात्राओं की अनदेखी की जा रही है। राज्य में कानून व्यवस्था की स्थिति दयनीय है। अपराध बढ़ रहे है, भाजपा सरकार उसके आगे बेदम दिख रही है। महिलाओं, बच्चियों के साथ दुष्कर्म की घटनाए थम नहीं रही है। लूट, हत्या, अपहरण की घटनाएं रोज की बातें है। सत्ता संरक्षित अपराधी निर्दोर्षो की हत्या कर रहे है। प्रदेश की जनता में भाजपा सरकार की नफरत और समाज को बांटने वाली नीतियों से भारी आक्रोश है। किसान, नौजवान, व्यापारी, श्रमिक, अधिवक्ता और विपक्ष का दमन कर सत्तारूढ़ दल द्वारा की जा रही लोकतंत्र की हत्या के खिलाफ समाजवादी पार्टी के सभी पदाधिकारी, नेता एवं कार्यकर्ता गांधी के चित्र के सामने 2 घंटे का मौन व्रत रखकर सत्याग्रह करेंगे। इस अवसर पर जिला संगठन के समस्त पदाधिकारीगण, पूर्व सांसद, विधायक/पूर्व विधायक, विधानसभा क्षेत्रों के पूर्व प्रत्याशीगण, विधानसभा अध्यक्षगण, पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष एवं जिला पंचायत सदस्यगण, ब्लाक प्रमुख/पूर्व ब्लाक प्रमुख गण, फ्रन्टल एवं प्रकोष्ठों के सभी पदाधिकारीगण, ब्लाक अध्यक्षगण, नगर पालिका एवं नगर पंचायत के प्रत्याशीगण, समस्त वरिष्ठ नेता एवं कार्यकर्ता से कहा गया है कि पूर्वाहन 11 बजे निर्धारित स्थान पर पहुंचे।             


छत्तीसगढ़ः 1 लाख 10 हजार के पार संक्रमित

छत्तीसगढ़ में 1 लाख 10 हजार के पार पहुंचा संक्रमितों का आंकड़ा।


रायपुर। छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण लगातार बढ़ता जा रहा है। अब तक कुल संक्रमितों की संख्या 1 लाख 10 हजार 655 हो चुकी है। इनमें से 78 हजार 514 लोगों को ठीक कर लिया गया है। बाकी बचे हुए मरीजों का इलाज अलग-अलग कोविड-19 अस्पतालों में जारी है। इसके साथ ही होम आइसोलेशन में रहकर इलाज कराने वालों की संख्या 28 हजार 722 है। मंगलवार 29 सितंबर की रात तक कुल 2 हजार 197 नए कोरोना पॉजिटिव मरीजों की पहचान हुई। वहीं 3 हजार 95 मरीजों को इलाज के बाद डिस्चार्ज कर दिया गया है। प्रदेश में अब तक कोरोना से 916 लोगों की मौत हो गई है।
रायपुर में सोमवार को 7 दिनों का लॉकडाउन खत्म होने के बाद मंगलवार से राजधानी के सभी बाजार फिर से खुल गए हैं।सड़कों पर आवाजाही भी बढ़ गई है, हालांकि सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं हो रहा है। व्यापारियों का कहना है कि लॉकडाउन खत्म होने के बाद सड़कों पर भीड़ बढ़ने के साथ ही गाइडलाइन का भी उल्लंघन किया जा रहा है। ऐसे में लोगों को जागरूक होने की जरूरत है, ताकि कुछ हद तक कोरोना संक्रमण से बचा जा सके।             


लोजपा खुलेगी पत्ते, महागठबंधन का फार्मूला

बिहार विधान सभा इलेक्शन: लोजपा आज खोलेगी पत्ता, महागठबंधन में भी फार्मूला तय होने के करीब।


पटना। एक अक्तूबर से विधानसभा चुनाव के पहले चरण 71 सीटों के लिए नामांकन शुरू हो जायेगा। लेकिन अब तक सत्ता के दावेदार दोनों बड़े गठबंधन एनडीए और महागठबंधन के घटक दलों के बीच सीटों के बंटवारे का स्वरूप स्पष्ट नहीं हो पाया है। अब तक भाजपा और लोजपा के बीच सीटों के बंटवारे का फाॅर्मूला तय नहीं हो पाया है।
एनडीए में अब भी लोजपा के बने रहने या बाहर निकलने को लेकर संशय की स्थिति बनी हुई है।भाजपा अब तक लोजपा के मामले को सुलझा नहीं पायी है, जिसके चलते जदयू के साथ सीट शेयरिंग का मामला आगे नहीं बढ़ पा रहा है। उम्मीद की जा रही है कि बुधवार को लोजपा का स्टैंड क्लीयर होने के एक-दो दिनों के अंदर एनडीए में सीट शेयरिंग का मामला सुलझ जायेगा।
इसके पहले मंगलवार को एनडीए और महागठबंधन में अंदर-ही-अंदर सीटों का गुणा- भाग जारी रहा। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार अपने सरकारी आवास में ही रहे, जबकि पार्टी के राष्ट्रीय प्रधान महासचिव संगठन आरसीपी सिंह प्रदेश कार्यालय में दिन भर लोगों से मिलते-जुलते रहे। वहीं, दिल्ली में लोजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान के साथ बैठकों का दौर चलता रहा, इसके बावजूद लोजपा पूरे दिन चुपी साधे रही। जानकारी के अनुसार लाेजपा विधानसभा की कम-से-कम 33 सीटें, विधान परिषद की दो और यूपी से राज्यसभा की एक सीट मांग रही है, जबकि भाजपा 27 सीटों का प्रस्ताव देकर गेंद लोजपा के पाले में डाल दी है।
दूसरी ओर महागठबंधन में राजद, कांग्रेस और वामदलों के बीच सीटों का बंटवारा अंतिम चरण में पहुंच गया है। राजद और अन्य घटक दलों की सीटों की संभावित संख्या की जानकारी राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद को पहुंचा दी गयी है। कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष डाॅ मदन मोहन झा और विधानमंडल दल के नेता सदानंद सिंह बुधवार की सुबह दिल्ली रवाना होंगे।               


प्रसव पीड़ा में महिलाओं को कंधों पर उठाया

आखिर महिला को प्रसव पीड़ा में मरवाही के जंगलों के बीच काँधे पर उठाकर क्यों ले जाना पड़ रहा।


नई दिल्ली। आजादी के बाद इन 73 वर्षों में इस देश ने बहोत बड़े बड़े बदलाव देखे। कहीं झुग्गियां बड़ी इमारतों में तब्दील हो गयी,बैल गाड़ियों की जगह आज बड़ी गाड़ियों ने ले ली,कच्ची सड़कें आज हवाई सड़कों में बदल गयी। गौरव करने वाली बात है की आज देश के पास लगभग हजारों किमी प्रति घण्टे की रफ्तार वाले कुछ आधुनिक विमान है। वहीं धीमी रफ्तार और भटकते रास्तों के बीच पैदल पगडंडियों में चलना किसे नागवार नही गुजरेगा।
हम आज बात कर रहें मरवाही तहसील के छोटे से गांव भुकभुका की,जो छत्तीसगढ़ में नए जिले गौरेला पेंड्रा मरवाही के मगुरदा ग्राम पंचायत का हिस्सा है। इस गांव में बीस से पच्चीस छत्तीसगढ़ के विशेष आदिवासी समुदाय (धनवार,बैगा व गोंड़) के लोग रहते हैं। मूलभूत सुविधाओं से दूर घने जंगलों के बीच इन परिवारों का जीवन इस जंगल पर ही आश्रित है,न ही इनके पास कोई सड़क है,और न ही नजदीकी स्वास्थ्य व्यवस्था। जरूरत में मुख्य सड़क तक पहुंचने के लिए इन्हें खुद के बनाये पगडंडियों से लगभग दस किमी बाहर आना होता हैं,ऐसे में अचानक ही किसी को स्वास्थ्य व्यवस्था की जरूरत हो तो,स्थिति कितनी गंभीर व दयनीय होती होगी,इस वाक्ये से जानते हैं।
बीती 28 सितंबर को गाँव के भानमती पति बुद्धू सिंह उम्र तकरीबन 20 वर्ष को अचानक प्रसव पीड़ा होती है,मामले की गंभीरता को देखते हुए,वहां की स्वास्थ्य मितानिन 102 में कॉल कर स्वास्थ्य विभाग के महतारी एक्सप्रेस को सूचना देती है।कुछ ही समय में महतारी एक्सप्रेस को लेकर स्टाफ रामकुमार व उनके सहकर्मी जंगलों के बीच एक रास्ते से वहां तक पहुंचने की कोशिश करते हैं,लेकिन रास्ता न होने के कारण मरीज से कुछ किमी पहले ही उन्हें रुकना पड़ता है।इससे आगे की तस्वीर इनकी मजबूरी और पिछड़ेपन को बयां करती है,खटिये का झूला बनाकर उस पर महिला को लिटाकर परिवार 2 किमी पगडंडियों से होते हुए एम्बुलेंस तक काँधे में उठाकर ले आता है। महिला सही समय से अस्पताल पहुंचती है और प्रसव में जच्चा बच्चा स्वस्थ रहते हैं।मरवाही एमरजेंसी मेडिकल टेक्नीशियन गणेश्वर प्रसाद बताते हैं,की क्षेत्र में ऐसे बहोत से गांव है,जहां की स्थिति ऐसी है।टिपकापानी,चाकाडाँड़,गंवरखोज,धौराठी कुछ ऐसे जगहों में से है जहां तक हमें पहुंचने के लिए बहोत मुसीबतें आती है,कभी कभी जान पर बन आती है।कभी घर पर ही प्रसव कराना पड़ता है,तो कभी स्ट्रेचर पर कई किमी तक मरीज को लाना पड़ जाता है।  लोकतंत्र में समान हिस्सेदारी लेकिन मूलभूत सुविधाओं में इतने पिछड़े क्यों? गांव जरूरी सामान,राशन लेने इसी रास्ते से सायकल या पैदल जाता है। पूरा गांव चुनाव में वोट भी डालता है पर सुविधाओं के नाम पर हमेशा खुद को ठगा महसूस करता है।             


सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

 सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन



प्राधिकृत प्रकाशन विवरण


यूनिवर्सल एक्सप्रेस   (हिंदी-दैनिक)











 अक्टूबर 01, 2020, RNI.No.UPHIN/2014/57254


1. अंक-48 (साल-02)
2. बृहस्पतिवार, अक्टूबर 01, 2020
3. शक-1944, अश्विन, शुक्ल-पक्ष, तिथि- चतुर्दशी, विक्रमी संवत 2077।


4. सूर्योदय प्रातः 60:04, सूर्यास्त 06:25।


5. न्‍यूनतम तापमान 23+ डी.सै.,अधिकतम-36+ डी.सै.। आद्रता बनी रहेंगी।


6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7. स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहींं है।


8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।


9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.,201102


www.universalexpress.in


https://universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :-935030275                                


(सर्वाधिकार सुरक्षित)                    











जी-7 के बिल्ड बैक बेटर वर्ल्ड प्लान से घबराया 'चीन'

बीजिंग। जी-7 के बिल्ड बैक बेटर वर्ल्ड प्लान से चीन घबरा गया है। यही वजह है कि जी-7 देशों की बैठक के तुरंत बाद चीन ने जिनपिंग के ड्रीम प्रोजे...