सोमवार, 21 नवंबर 2022

पूनावाला की दो दिन से अधिक की हिरासत बढ़ाएं

पूनावाला की दो दिन से अधिक की हिरासत बढ़ाएं

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। सनसनीखेज श्रद्धा वालकर हत्याकांड में आरोपी आफताब पूनावाला का प्रतिनिधित्व कर रहे वकील ने कहा है कि वह पूनावाला की दो दिन से अधिक की पुलिस हिरासत बढ़ाने का विरोध करेंगे। पूनावाला की पांच दिन की पुलिस रिमांड मंगलवार को समाप्त होने जा रही है और मामले की जांच कर रही दिल्ली पुलिस उसकी हिरासत की अवधि बढ़ाने की मांग कर सकती है। क्योंकि 17 नवंबर को अदालत के पांच दिनों के भीतर परीक्षण करने के आदेश के बावजूद नार्को परीक्षण अभी भी नहीं हो सका है।

दिल्ली पुलिस ने श्रद्धा वालकर की हत्या के आरोपी आफताब अमीन पूनावाला की पॉलीग्राफ जांच के लिए यहां अदालत में सोमवार को आवेदन दाखिल किया। पूनावाला के वकील अविनाश कुमार ने कहा कि पुलिस मंगलवार को उसकी रिमांड बढ़ाने की मांग कर सकती है। उन्होंने कहा, ‘यदि वे (पुलिस) दो दिन से अधिक की रिमांड मांगेंगेतो मैं निश्चित रूप से यह कहते हुए इसका विरोध करूंगा कि वह (पूनावाला) लंबे समय से पुलिस हिरासत में है।’ वकीलों द्वारा बृहस्पतिवार को पूनावाला को अदालत ले जाते समय उसके खिलाफ नारबाजी करने को लेकर कुमार ने आरोप लगाया कि एक वर्ग इसे सस्ती लोकप्रियता’ पाने के एक अवसर के रूप में इस्तेमाल कर रहा है।

आफताब को 12 नवंबर को दिल्ली पुलिस ने दक्षिणी दिल्ली के महरौली इलाके में किराये के अपने फ्लैट में श्रद्धा की हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया था। पुलिस ने कहा था कि आफताब ने श्रद्धा के शव के करीब 35 टुकड़े किए जिसे उसने घर पर 300 लीटर के फ्रिज में लगभग तीन सप्ताह तक रखा और फिर उन्हें विभिन्न हिस्सों में कई दिनों तक फेंकता रहा।

छत्तीसगढ़: 'किसान सम्मान' समारोह का आयोजन

छत्तीसगढ़: 'किसान सम्मान' समारोह का आयोजन


विधायक अनिता योगेंद्र शर्मा ने किया किसानों का सम्मान

दुष्यंत टीकम 

रायपुर। प्राथमिक सहकारी समिति बरतोरी और मढ़ी के द्वारा सोमवार को 'किसान सम्मान' समारोह का आयोजन हुआ। जिसमें विधायक अनिता योगेंद्र शर्मा के द्वारा साल और श्रीफल देकर किसान एवं कर्मचारियों का सम्मान किया। इस अवसर पर विधायक अनिता योगेंद्र शर्मा ने कहा कि हमारी सरकार के द्वारा लगातार किसानों के हित में कार्य किए जा रहे हैं। जो आज पूरे देश में जिसकी चर्चा है और किसानों के हित में देशभर में सर्वाधिक खुशहाल किसान हमारे प्रदेश के किसान हैं और यहां पर यह सब संभव हुआ है।

हमारे प्रदेश के किसान हितैषी मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी के नेतृत्व में जो आज पूरे देश में सर्वाधिक धान का मूल्य देकर किसानों का सम्मान किया हैं। साथ ही विभिन्न योजनाओं के माध्यम से किसानों को सीधे पैसा देने का काम कर रहे हैं। जो आज हमारी ग्रामीण अर्थव्यवस्था बेहतर हो रही है। साथ ही किसान भाई खुशहाल हो रहे।

इस अवसर पर प्रमुख रुप से जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष उधोराम वर्मा, जिला पंचायत अध्यक्ष डोमेंश्वरी वर्मा, ब्लॉक कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष सौरभ मिश्रा ,किरण ठाकुर ,कमलेश्वर ठाकुर ,दशरथ वर्मा, डाबर सिंह नायक, गुलाब ध्रुव, नरेंद्र कुमार वर्मा, श्याम लाल बघेल, कमल वर्मा, भारत धुरंधर, दिलीप कटारिया, दसौदा बाई साहू, नीलकंठ पटेल, नरेश नायक, गैतराम साहू,कमल नारायण वर्मा, गजानंद साहू सहित भारी संख्या में किसान और ग्रामवासी उपस्थित रहे।

उपयोगकर्ता शुल्क वसूल किए जाने पर आदेशित किया

उपयोगकर्ता शुल्क वसूल किए जाने पर आदेशित किया


भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण बागपत ,उत्तर प्रदेश द्वारा

गोपीचंद 

बागपत। मेरठ-बागपत राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 334b पर उपयोगकर्ता शुल्क वसूल किए जाने पर उप जिला अधिकारी बागपत और जिला परिवीक्षा अधिकारी बागपत द्वारा भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के परियोजना निदेशक और थानाध्यक्ष बालैनी को आदेशित किया गया है कि अग्रवाल मंडी टटीरी में अधूरे निर्माण पर उपयोगकर्ता शुल्क लिया जा रहा है तथा बालैनी में नगला हबीबपुर गांव पर जाने वाले रास्ते पर बैरियर लगाकर रास्ते को रोका गया है, उक्त प्रकरण में तत्काल आवश्यक कार्रवाई करते हुए संज्ञान लेते हुए इन कार्यालय को भी सूचित करें। इसके अतिरिक्त बागपत में कम राशन वितरण पर भी तत्काल कार्यवाही करने के आदेश जारी कर दिए गए हैं।

जन्मदिन की ढ़ेर सारी बधाइयां, लंबी उम्र की कामना 

जन्मदिन की ढ़ेर सारी बधाइयां, लंबी उम्र की कामना 


राजधानी लखनऊ, मानक नगर आईडी शो में हर वर्ष की तरह बड़ी ही धूमधाम से मनाया गया महिला सुरक्षा जन समति के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिलीप कुमार कनौजिया का जन्मदिन

संदीप मिश्र 

लखनऊ। काफी सम्मानित व्यक्ति, पत्रकार बंधु एवं परिवार के सभी सदस्य उपस्थित रहे एवं जन्मदिन की ढ़ेर सारी बधाइयां दी और लंबी उम्र की कामना की, किसी ने दुआ की, किसी ने प्रार्थना की एवं काफी इंतजाम रहे लोगों के भोजन के लिए बड़ी खुशी का माहौल था। परिवार के लोग बहुत ही खुश थे एवं सभी आए हुए पत्रकार बंधु, सम्मानित व्यक्ति, सभी परिवार के लोग भी बहुत ही खुश थे। लंबी उम्र की कामना की। अच्छे भविष्य को लेकर भी कामना की गई। बहुत ही सराहनीय कार्य करते हैं। महिलाओं के उत्पीड़न से लेकर हर किसी के सुख-दुख या मुसीबत में खड़े होते हैं। महिला सुरक्षा जन समति के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिलीप कुमार कनौजिया का यही अंदाज सब को लुभाता है और जनता के पति उन्हें अच्छा सपोर्ट मिलता है। जिससे वह लगातार फेमस हो रहे हो आगे बढ़ रहे हैं। आने वाला समय दूर नहीं, जब वह एक ऊंचे मकान पर बैठे होंगे। सभी लोगों ने प्रार्थना एवं दुआ की है।

जल्द से जल्द अपना मुकाम हासिल करें, सभी लोग खुश हैं। महिला सुरक्षा जन समति के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिलीप कुमार कनौजिया ने जन्मदिन पर पत्रकारों के लिए भी आवाज उठाई है। पत्रकारों के साथ हो रहे अत्याचार व पत्रकारों की हत्या, पत्रकारों पर संगीन धाराओं में 376 , 354 व पत्रकारों फर्जी रंगदारी जैसे मुकदमे लाद दिए जाते हैं। दबंग, गुंडे, माफिया, भ्रष्टाचारी नेता, भ्रष्टाचारी पुलिस कर्मियों की मिलीभगत से फर्जी मुकदमे लाद दिए जाते हैं। पत्रकारों पर सच्चाई उजागर करने को लेकर व पत्रकारों का बीमा पत्रकारों के परिवार को दुर्घटना पर एक करोड़ की सहायता राशि परिवार के सदस्य में एक को सरकारी नौकरी पत्रकारों को महीने की सैलरी 15000 वेतन पत्रकारों को सरकार की तरफ से सरकारी योजना में हर पत्रकार को एक मकान दिया जाए।

पत्रकारों पर पुलिस प्रशासन के द्वारा अभद्र व्यवहार और पत्रकारों पर झूठे मुकदमों पर रोक लगाने एवं पत्रकारों के ऊपर उत्तर प्रदेश में जितने भी फर्जी मुकदमे लगे हैं। उच्च स्तरीय जांच कराकर सारे मुकदमे वापस लिए जाएं। पत्रकारों को मान सम्मान के साथ रिहा किया जाए, जो पत्रकार दोषी हैं। उन पर कठोर कार्रवाई की जाए। निर्दोष पत्रकारों को रिहा कराने के साथ-साथ पत्रकारों को उचित सुविधाएं मुहैया कराने के बारे में एवं बिना मान्यता प्राप्त पत्रकारों के लिए भारत सरकार, उत्तर प्रदेश सरकार नए कानून को पास करने की कृपा करें।

पत्रकार भारत मां की आंख है। पत्रकार भारत की कलम है। पत्रकार भारत की रीढ़ की हड्डी है। पत्रकार भारत का चौथा स्थान है। लोकतंत्र की सुरक्षा की भारत सरकार उत्तर प्रदेश सरकार की जिम्मेदारी है। सरकार इस पर ध्यान दें एवं महिला सुरक्षा जन समति के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिलीप कुमार कनौजिया के जन्मदिन पर मौजूद रहे।

पिता रामदीन कनौजिया, माता सुधा कनौजिया, भाई दीपू कनौजिया, बहन चांदनी कनौजिया, बहन लक्ष्मी, बहन राखी, बहन रीना, बहन कोमल, भाई राहुल, जीजा कैलाश, जीजा रामतीरथ, जीजा मनोज, भाभी पूजा एवं केन्द्रीय पत्रकार हेल्प एसोसिएशन के राष्ट्रीय संगठन मंत्री अनीस अंसारी एवं सच की आवाज न्यूज़ चैनल से प्रधान संपादक अनीस अंसारी , D भारत न्यूज़ प्रधान संपादक पत्रकार देवा सिंह , पावर ऑफ जनाधिकार हिंदी समाचार पत्र पत्रकार राजेश कुमार, पत्रकार राजा सिंह शार्प मीडिया ब्यूरो चीफ लखनऊ, जिला पत्रकार अंकित तिवारी दैनिक अयोध्या टाइम्स वरिष्ठ पत्रकार लोक समाचार लखनऊ, पत्रकार महावीर यादव तुषार की आवाज हिंदी दैनिक समाचार पत्र, ओसामा रिजवी चीफ एडिटर भारत की बात लखनऊ, पत्रकार कोमल गौतम भारत की बात लखनऊ, पत्रकार जीशान लखनऊ एबीएन न्यूज़ चैनल प्रधान संपादक मोहम्मद अरशद अली , सह संपादक मनोज कुशवाहा, जसवंत गौतम, कुलदीप दीक्षित , लखनऊ से बी.एस.सी.बी.यु.एम.एस,एम.डी. प्रभारी पश्चिम विधानसभा-चिकित्सा प्रकोष्ठ भारतीय जनता पार्टी श्री डॉक्टर मोहम्मद इरशाद, पत्रकार जीशान अंसारी एवं सभी लोग मौजूद रहे।

भ्रष्टाचार: ईडी की याचिका पर सुनवाई करेगी 'पीठ'

भ्रष्टाचार: ईडी की याचिका पर सुनवाई करेगी 'पीठ'

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। उच्चतम न्यायालय ने सोमवार को कहा कि प्रधान न्यायाधीश डी. वाई. चंद्रचूड़ की अध्यक्षता वाली तीन न्यायाधीशों की पीठ ‘नागरिक आपूर्ति निगम’ घोटाले से संबंधित भ्रष्टाचार के एक मामले को छत्तीसगढ़ से बाहर स्थानांतरित करने की मांग वाली प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की याचिका पर सुनवाई करेगी। छत्तीसगढ़ सरकार की ओर से पेश वरिष्ठ अधिवक्ता कपिल सिब्बल ने प्रधान न्यायाधीश और न्यायमूर्ति हिमा कोहली की पीठ को अवगत कराया कि ईडी की याचिका को न्यायमूर्ति एम आर शाह की अध्यक्षता वाली पीठ के समक्ष आज फिर सूचीबद्ध किया गया।

प्रधान न्यायाधीश ने उन परिस्थितियों के बारे में बताया जिनके तहत मामला सोमवार को फिर से उसी पीठ के समक्ष सूचीबद्ध किया गया और कहा कि तीन-न्यायाधीशों की पीठ जिसमें वह, न्यायमूर्ति अजय रस्तोगी और न्यायमूर्ति एस रवींद्र भट शामिल हैं, सुनवाई करेगी। सीजेआई ने कहा, “मामले की सुनवाई क्योंकि सीजेआई ललित (अब सेवानिवृत्त) और दो सहयोगियों द्वारा की गई थी, मैं इसे अपने और दो सहयोगियों - न्यायमूर्ति भट और न्यायमूर्ति रस्तोगी द्वारा सुनवाई के लिए निर्देशित कर सकता हूं। मैं इसे किसी दिन रखूंगा।”

छत्तीसगढ़ सरकार ने हाल ही में न्यायमूर्ति शाह की अध्यक्षता वाली पीठ से कहा था कि वह मामले को आगे न बढ़ाए क्योंकि इसे तीन-न्यायाधीशों की पीठ द्वारा सुना जाना चाहिए और फिर सिब्बल द्वारा प्रधान न्यायाधीश की पीठ के समक्ष इसका उल्लेख किया गया। इसके बाद सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने किसी राजनीतिक मामले में कोई आदेश मुकदमेबाजी करने वाले पक्ष को पसंद नहीं आने पर शीर्ष न्यायपालिका और न्यायाधीशों को बदनाम करने की बढ़ती प्रवृत्ति पर खेद व्यक्त किया।

ईडी की याचिका को पहले तत्कालीन प्रधान न्यायाधीश यू. यू. ललित, (अब सेवानिवृत्त) के पास समय की कमी के चलते, सीजेआई, न्यायमूर्ति अजय रस्तोगी और न्यायमूर्ति एस रवींद्र भट की पीठ द्वारा वाद सूची से हटा दिया गया था। मामले को फिर न्यायमूर्ति शाह और न्यायमूर्ति कोहली की पीठ के समक्ष सूचीबद्ध किया गया था। कथित घोटाला फरवरी 2015 में सामने आया, जब रमन सिंह के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार सत्ता में थी। एसीबी ने सार्वजनिक वितरण प्रणाली के प्रभावी कामकाज का दायित्व संभालने वाले नागरिक अपूर्ति निगम (एनएएन) के कार्यालयों पर छापेमारी की और कुल 3.64 करोड़ रुपये की बेहिसाब नकदी जब्त की गई थी।

प्राथमिकी में चावल और अन्य खाद्यान्नों की खरीद और परिवहन में व्यापक स्तर पर भ्रष्ट आचरण का आरोप लगाया गया, जिसमें राज्य नागरिक आपूर्ति निगम, रायपुर से संबंधित अधिकारी और अन्य शामिल थे।

गटर का पानी पीया, शौचालय की बदबू को सूंघा

गटर का पानी पीया, शौचालय की बदबू को सूंघा

अखिलेश पांडेय

वाशिंगटन डीसी/न्यूयॉर्क। दुनिया के पांचवें सबसे अमीर शख्स बिल गेट्स ने विश्व शौचालय दिवस के मौके पर लिंक्डइन पोस्ट में लिखा कि उन्होंने अपनी ज़िंदगी में कई 'अजीब काम' किए हैं। गेट्स ने लिखा, मैंने इन वर्षों में...जिमी फॉलन (कॉमेडियन) के साथ गटर का पानी पीया, मानव मल का जार लेकर मंच पर गया और गड्ढे वाले शौचालय की बदबू को सूंघा।

बिल गेट्स ने LinkedIn में लिखा कि मैंने वर्षों में कुछ अजीब बकवास किया है। मैंने जिमी फॉलन के साथ मल कीचड़ से पानी पिया, मानव मल के एक जार के साथ मंच साझा किया, और गड्ढे वाले शौचालय की गंध को सूंघा।

इन हरकतों से कुछ लोगों को हंसी भी आई, लेकिन मेरा लक्ष्य हमेशा लोगों को एक ऐसे मुद्दे के बारे में बताना रहा है जो 3.6 अरब लोगों को प्रभावित करता है, खराब स्वच्छता। दुनिया भर के वैज्ञानिकों और इंजीनियरों के लिए धन्यवाद, हम नए समाधानों के करीब आ रहे हैं। जो बीमारी और बीमारी को रोकेंगे।

किसानों, युवाओं और आदिवासियों की समस्याएं सुनीं 

किसानोंयुवाओं और आदिवासियों की समस्याएं सुनीं 

इकबाल अंसारी 

गांधीनगर/महुवा कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने सोमवार को कहा कि उन्होंने भारत जोड़ो’ यात्रा के दौरान किसानोंयुवाओं और आदिवासियों से मिलकर और उनकी समस्याएं सुनकर उनका दर्द महसूस किया। गुजरात में अपनी पहली चुनावी रैली में गांधी ने सूरत जिले के महुवा में आदिवासियों की एक सभा को संबोधित करते हुए कहा कि वे देश के पहले मालिक हैं और दावा किया कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) उनके अधिकारों को छीनने के लिए काम कर रही है।

उन्होंने कहा, ‘वे आपको वनवासी कहते हैं। वे यह नहीं कहते कि आप भारत के पहले मालिक हैंबल्कि यह कहते हैं कि आप जंगल में रहते हैं। आपको फर्क दिखता हैइसका मतलब है कि वे नहीं चाहते कि आप शहरों में रहेंवे नहीं चाहते कि आपके बच्चे इंजीनियर बनेंडॉक्टर बनेंविमान उड़ाना सीखेंअंग्रेजी बोलें।

कांग्रेस नेता ने कहा, ‘वे चाहते हैं कि आप जंगल में रहेंलेकिन वहां रुकें नहीं। उसके बाद वे आपसे जंगल छीनने लगते हैं। अगर ऐसा ही चलता रहा तो अगले 5-10 वर्षों में सारे जंगल दो-तीन उद्योगपतियों के हाथ में हो जाएंगेऔर आपके पास रहने के लिए कोई जगह नहीं होगीशिक्षास्वास्थ्य और नौकरी नहीं मिलेगी।

उन्होंने कहा कि देश की एकता के लिए आयोजित भारत जोड़ो’ यात्रा के दौरान उन्होंने किसानोंयुवाओं और आदिवासी समुदाय के लोगों की समस्याएं सुनकर उनके दर्द को महसूस किया। गुजरात की 182 सदस्यीय विधानसभा के लिए दो चरणों में एक और पांच दिसंबर को चुनाव होंगे और मतगणना आठ दिसंबर को होगी।

मछुआरों के हितों को ध्यान में रखते हुए घोषणा की

मछुआरों के हितों को ध्यान में रखते हुए घोषणा की

दुष्यंत टीकम 

रायपुर। छत्तीसगढ़ सरकार ने मछली पालन के लिए तालाबों एवं जलाशयों की नीलामी नही करने एवं उसे 10 वर्षीय पट्टे पर देने की घोषणा की हैं। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की मौजूदगी में आज विश्व मात्स्यिकी दिवस के अवसर पर राजधानी में आयोजित मछुआरा सम्मेलन में कृषि एवं जल संसाधन मंत्री रविन्द्र चौबे ने छत्तीसगढ़ की नवीन मछली पालन नीति में मछुआरों के हितों को ध्यान में रखते हुए संशोधन किए जाने की घोषणा की।

मछली पालन नीति में संशोधन की यह घोषणा कैबिनेट के अनुमोदन की प्रत्याशा में की गई। आगामी कैबिनेट बैठक में नवीन मछली पालन नीति में संशोधन प्रस्ताव को मंजूर मिलने की उम्मीद है। श्री चौबे ने कहा कि मछुआ समुदाय के लोगों की मांग और उनके हितों को संरक्षित करने के उद्देश्य से मछली पालन नीति में तालाब और जलाशयों को मछली पालन के लिए नीलामी करने के बजाय लीज पर देने के साथ ही वंशानुगत-परंपरागत मछुआ समुदाय के लोगों को प्राथमिकता देने का निर्णय लिया गया है।

तालाबों एवं सिंचाई जलाशयों के जलक्षेत्र आबंटन सीमा में 50 फीसद की कमी कर ज्यादा से ज्यादा मछुआरों को रोजी-रोजगार से जोड़ने का प्रस्ताव है। उन्होंने कहा कि प्रति सदस्य के मान से आबंटित जलक्षेत्र सीमा शर्त घटाने से लाभान्वित मत्स्य पालकों की संख्या दोगुनी हो जाएगी। नवीन मछली पालन नीति में प्रस्तावित संशोधन के अनुसार मछली पालन के लिए तालाबों एवं सिंचाई जलाशयों की अब नीलामी नहीं की जाएगीबल्कि 10 साल के पट्टे पर दिए जाएंगे।

तालाब और जलाशय के आबंटन में सामान्य क्षेत्र में ढ़ीमरनिषादकेंवटकहारकहरामल्लाह के मछुआ समूह एवं मत्स्य सहकारी समिति को तथा अनुसूचित जनजाति अधिसूचित क्षेत्र में अनुसूचित जनजाति वर्ग के मछुआ समूह एवं मत्स्य सहकारी समिति को प्राथमिकता दी जाएगी।

इंडोनेशिया: भूकंप के तेज झटके, 20 लोगों की मौंत

इंडोनेशिया: भूकंप के तेज झटके, 20 लोगों की मौंत

अखिलेश पांडेय 

जकार्ता। इंडोनेशिया में सोमवार को भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए। इंडोनेशिया में भूकंप से भारी जानमाल के नुकसान की खबर सामने आ रही हैं। बताया जा रहा है कि अब तक 20 लोगों की मौंत हो गई। जबकि 300 से ज्यादा जख्मी हुए हैं।

बताया जा रहा है कि इंडोनेशिया की राजधानी जकार्ता में ये भूकंप आया। रिक्टर पैमाने पर भूकंप की तीव्रता 5.4 थी। इससे शहर की इमारतें हिल गईं। भूकंप से अब तक 20 लोगों की मौत हो गई। 300 से ज्यादा लोग जख्मी हुए हैं।

उत्तराखंड: तापमान में गिरावट, सुबह-शाम ठंड बढ़ी

उत्तराखंड: तापमान में गिरावट, सुबह-शाम ठंड बढ़ी

पंकज कपूर 

देहरादून। उत्तराखंड से जुड़ी खबर सामने आई है। उत्तराखंड में अब मौसम में बदलाव हो रहा है। लगातार ठंड में इजाफा हो रहा है। वहीं ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फबारी हो रही है।

पहाड़ में बढ़ी ठंड

जिस वजह से चोटियों पर हुए हिमपात के बाद उत्तराखंड में तापमान में कुछ गिरावट दर्ज की गई है और इस कारण सुबह-शाम ठंड बढ़ गई है। हिमपात के कारण उच्च हिमालयी क्षेत्रों में तापमान माइनस में पहुंच चुका है। जोहार, दारमा और व्यास घाटी में हिमपात के चलते ठंड बढ़ चुकी है।

1 करोड़, 20 लाख रूपए खाते से निकालने का आरोप

1 करोड़, 20 लाख रूपए खाते से निकालने का आरोप

दुष्यंत टीकम 

रायपुर। राजधानी रायपुर में करोड़ो रूपए की ठगी का मामला सामने आया है। महिला ने अपने पति और ससुर पर धोखाधड़ी करते हुए 1 करोड़, 20 लाख रूपए बैंक खाते से निकालने का आरोप लगाया है। पुलिस ने धारा 420, 120बी के तहत मामला दर्ज किया है। मामला तेलीबांधा थाना क्षेत्र का है।

मिली जानकारी के अनुसार अवंति विहार निवासी राधिका गुप्ता ने थाना तेलीबांधा में शिकायत दर्ज कराया है कि मेरे बैंक खाता एवं पोस्ट आफिस के खाता से मेरे जानकारी बिना के छल व बेईमानी पूर्वक मेरे पति राहुल गुप्ता एवं ससुर पवन गुप्ता द्वारा 1 करोड़ 22 लाख रूपये ट्रान्सफर करके धोखाधड़ी किया गया है। मैं स्वयं ट्युशन व अन्य कारोबार करके अपना आय का स्त्रोत बढ़ायी थी। शादी के समय व शादी के बाद मेरे मायके परिवार से गिफ्ट जेवर व नगदी रकम प्राप्त हुये थे। जिसे बैंक में जमा करके लगभग 1 करोड़ 70 लाख रूपये रखी हुई थी। दिनांक 1 सितंबर 2021 से 31 मार्च 2022 के मध्य कुल 1 करोड़ 22 लाख रूपये अन्य खाताओं मे ट्रान्सफर करके धोखाधड़ी किये है। फिलहाल तेलीबांधा पुलिस ने धारा 420, 120बी के तहत मामला दर्ज कर लिया है।

किसान योजना में दी गई राशि की वसूली करेगी सरकार 

किसान योजना में दी गई राशि की वसूली करेगी सरकार 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। अगर आप भी पीएम किसान योजना लाभ उठाते हैं तो ये खबर आपके लिए जरूरी है। अब सरकार नए नियम के तहत किसान योजना में दी गई राशि की वसूली करेगी। दरअसल, अब तक सरकार ने इस योजना में 8 बदलाव कर दिए हैं। अगर आपने भी इस योजना एक तहत अपने दस्तावेज अपडेट नहीं किए हैं तो तुरंत कर लें, क्योंकि सरकार इस योजना में हो रहे फर्जीवाड़े को लेकर सख्त हो गई है। सरकार के नए नियम के तहत अगर आपके दस्तावेज अपडेट नहीं हुए तो आप गलत तरीके से पेमेंट लेने वाले फर्जी लिस्ट में शामिल होंगे और आपको अब तक की मिली सभी किस्तें लौटानी होंगी।

गौरतलब है कि पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत अब तक किसानों के खाते में 11वीं किस्त के पैसे आ चुके हैं। अब किसानों को 12वीं किस्त का इंतजार है। लेकिन अब सरकार इस योजना के तहत कई अपात्र किसान भी इसका लाभ उठा रहे हैं। सरकार ने इस योजना में पारदर्शिता लाने के लिए इस योजना के नियमों में फेरबदल कर दिया है, ताकि ऐसे लोगों की पहचान की जा सके। हाल ही में लाभार्थियों के लिए e-KYC करना जरूरी कर दिया गया है।

पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत सरकार फर्जी किसानों पर शिकंजा कसना शुरू कर दी है और नोटिस भी भेज रही है। कई टैक्स पेयर्स भी इसका लाभ ले रहे हैं दूसरी तरफ कई परिवार ऐसे भी हैं जहां पति-पत्नी दोनों किस्त उठा रहे हैं। इस योजना के नियम के अनुसार, खेत पति और पत्नी दोनों के नाम हों, लेकिन अगर एक ही साथ रहते हैं और परिवार में बच्चे नाबालिग हैं तो केवल एक ही व्यक्ति को इस योजना का लाभ दिया जाएगा।

अगर आपने भी ऐसी कोई गलती की है तो आप स्वेच्छा से गलत तरीके से लिए गए रकम को वापस कर दें। इसके लिए सरकार ने पीएम किसान पोर्टल पर एक सुविधा दी है। आइए जानते हैं इसकी प्रक्रिया।

– सबसे पहले https://pmkisan.gov.in/ पोर्टल पर जाएं।

– दायीं तरफ बने बॉक्स में सबसे नीचे आपको ‘Refund Online’ के विकल्प पर क्लिक करें।

– अब आपके सामने दो विकल्प खुलेंगे।

– इसमें पहला विकल्प- अगर आपने पीएम किसान का पैसा वापस कर दिया है तो पहले को चेक कर सब्मिट बटन पर क्लिक करें।

– इसके बाद आधार नंबर, मोबाइल नंबर या बैंक खाता नंबर डालें।

– अब इमेज टेक्स्ट टाइप करें और गेट डेटा पर क्लिक करें।

– इसमें अगर आप पात्र हैं तो ‘You are not eligible for any refund Amount’ का मैसेज आएगा अन्यथा रिफ्ड अमांट शो करेगा।

16 दिसंबर तक बैंकिंग व्यवस्था में बड़ा बदलाव

16 दिसंबर तक बैंकिंग व्यवस्था में बड़ा बदलाव

अकांशु उपाध्याय

नई दिल्ली। बैंक प्राइवेटाइजेशन को लेकर एक और बड़ा अपडेट सामने आ रहा है। सरकार लगातार देश में बैंकिंग व्यवस्था में बदलाव करने के लिए प्राइवेटाइजेशन की तरफ बढ़ रही है। सरकार लंबे समय से एक और बैंक के निजीकरण पर काम कर रही है। वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने इस बारे में बजट में ऐलान किया था। फिलहाल 16 दिसंबर तक इस प्रोसेस को पूरा कर लिया जाएगा। केंद्र सरकार ने IDBI Bank को प्राइवेट करने का प्लान बनाया है और सेबी से इसके लिए कुछ रियायतें मांगी है। मीडिया रिपोर्ट से मिली जानकारी के मुताबिक, सरकार ने सेबी से मांग की है कि आईडीबीआई बैंक की मिनिमम 25 फीसदी पब्लिक शेयर होल्डिंग के नियम से मिली छूट को इसके प्राइवेटाइजेशन के बाद भी जारी रखा जाए।

ऐसा माना जा रहा है कि सरकार IDBI Bank की बिड को 16 दिसंबर की समय सीमा तक पूरा करने का प्लान बना रही है। सेबी अगर सरकार और एलआईसी को इजाजत दे देती है कि वह इसे पब्लिक शेयर होल्डर मान ले तो मिनिमम पब्लिक शेयरहोल्डिंग के नियमों का पालन हो जाएगा। सेबी की ओर से मिली जानकारी के मुताबिक, स्टॉक मार्केट में जितनी भी कंपनियां लिस्ट हैं सभी के लिए लिस्टिंग के 3 साल के अंदर ही मिनिमम 25 फीसदी शेयरहोल्डिंग जरूरी है। फिलहाल सेबी के इस नियम से सरकारी कंपनियों को छूट मिली हुई है।

आपको बता दें IDBI Bank में सरकार की हिस्सेदारी सबसे ज्यादा है इसी वजह से इस कंपनी को भी 25 फीसदी वाली मिनिमम शेयरहोल्डिंग से छूट मिलती है। IDBI Bank में सरकार और एलआईसी दोनों की मिलाकर 95 फीसदी हिस्सेदारी है। केंद्र सरकार की तरफ से इस बैंक में 1 अप्रैल 2010 से लेकर के 31 मार्च 2021 के बीच में करीब 27000 करोड़ रुपये का निवेश किया जा चुका है। वहीं, RBI इसको 21 जनवरी 2021 से प्राइवेट सेक्टर का बैंक मानता है।

यूपी में भी प्रेमिका के 6 टुकड़े कर फेंका: पुनरावृति

यूपी में भी प्रेमिका के 6 टुकड़े कर फेंका: पुनरावृति

शैलेंद्र श्रीवास्तव   

आजमगढ़। दिल्ली के श्रद्धा मर्डर केस की तर्ज पर ही उत्तर प्रदेश में भी ऐसा ही एक हत्याकांड सामने आया है। यहां भी एक सिरफिरे प्रेमी ने प्रेमिका की शादी दूसरी जगह हो जाने से नाराज होकर उसकी हत्या कर शव के छह टुकड़े कर दिए। बाद में उनको अलग-अलग जगह फेंक दिया। श्रद्धा मर्डर केस की तरह दिल को दहला देने वाला यह हत्याकांड उत्तर प्रदेश सूबे के आजमगढ़ जिले में सामने आया है। यहां के अहरौला थाना इलाके में पागल प्रेमी ने पहले प्रेमिका का गला दबाकर हत्या कर दी। बाद में गन्ने के खेत में उसके छह टुकड़े कर दिए।

पुलिस अधीक्षक अनुराग आर्य ने बताया कि 16 नवंबर को गौरी का पूरा गांव के सड़क किनारे एक युवती का शव कई टुकड़ों में मिला था। युवती की शिनाख्त इलाके के इसहाकपुर गांव निवासी केदार प्रजापति की पुत्री आराधना के रूप में हुई। पुलिस ने इस मामले में कड़ी से कड़ी जोड़ते हुए हत्या के मुख्य आरोपी प्रिंस यादव को गिरफ्तार कर लिया है। पूछताछ में उसने सच उगला है वह दिल को दहला देने वाला है। एसपी आर्य ने बताया कि आरोपी प्रिंस यादव का आराधना से पहले अफेयर चल रहा था। लेकिन आराधना की शादी दूसरे व्यक्ति से होने से वह नाराज चल रहा था। इसलिए उसने आराधना को रास्ते से हटाने का प्लान बनाया और फिर उसे अंजाम दे दिया। इस प्लान में उसके माता-पिता, बहन, मामा, मामी, मामा का लड़का और उसकी पत्नी भी शामिल है। पूरी घटना के दौरान प्रिंस के मामा का लड़का सर्वेश भी साथ ही रहा. पुलिस को इस मामले में पांच महिलाओं समेत आठ आरोपियों की और तलाश है।

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि प्रिंस यादव अरब कंट्री में स्थित शारजाह में लकड़ी काटने का काम करता है। उसका आराधना के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा था. लेकिन इसी बीच फरवरी 2022 में उसकी शादी किसी दूसरे व्यक्ति से हुई तो वह शारजहां से घर चला आया। इसके बाद उसने आराधना से बात करने की कोशिश की लेकिन कामयाब नहीं हुआ। इस पर उसने आराधना को मारने की योजना बनाई. इसके लिए उसने अपने परिजनों को भी राजी कर लिया।

वह बीते 9 नवंबर को आराधना को भैरव धाम के दर्शन कराने के लिए उसके घर से गया था। वह उसे एक रेस्टोरेंट ले गया. उसके बाद वह वहां से अपने मामा के गांव स्थित एक गन्ने के खेत में आराधना को जबरन खींचकर ले गया। वहां प्रिंस और उसके मामा के लड़के सर्वेश गला दबाकर उसकी हत्या कर दी। प्रिंस का सर्वेश की पत्नी से भी अफेयर चल रहा था।

गन्ने के खेत में लकड़ी के बोटे आराधना के शरीर के 6 टुकड़े किए और फिर उसे पॉलिथिन में पैक कर दिया। इसके बाद गौरीपुरा गांव के पास शव को कुंए में फेंक दिया। आराधना के शव को वहां से कुछ दूरी पर स्थित एक तालाब के पास फेंक दिया। फिर दोनों वापस लौट आए और वहीं रुके. पुलिस ने साइंटिफिक तरीके से छानबीन कर सभी सबूतों को इकठ्ठा किया और आरोपी प्रिंस यादव को 19 नवंबर की रात को गिरफ्तार कर लिया।

28 लोगों को कुचला 6 बच्चियों सहित 8 की मौत

28 लोगों को कुचला 6 बच्चियों सहित 8 की मौत 

राजेन्द्र कुमार             

हादसा तब हुआ जब नयागांव 28 टोला के लोग भुईआ बाबा की पुजा से पहले न्योतन के कार्यक्रम के दौरान पीपल के पेड़ के पास खड़े थे। बताया जाता है कि सोमवार को मनोज राय के घर भुईआ बाबा की पुजा होनी थी

वैशाली। देसरी थाना क्षेत्र के महनार-हाजीपुर मुख्य मार्ग एन एच 122 बी पर नयागांव 28 टोला के नजदीक रविवार की देर रात 10 के करीब तेज रफ्तार ट्रक ने 15 लोगो को कुचल दिया। ट्रक भीड़ को रौदते हूए अनियंत्रित होकर पीपल के पेड़ मे जा टकराई। हादसे में छह बच्चियां समेत आठ लोगो की घटनास्थल पर मौत हो गई,। जबकि गंभीर रूप से घायल चार लोगो को पहले अनुमंडल अस्पताल और फिर वहां से पटना पीएम सीएच रेफर कर दिया गया है।
हादसे के बाद घटनास्थल पर चीख पुकार मच गई।आसपास के सैकड़ों लोग मौके पर जुट गये। हादसा तब हुआ जब नयागांव 28 टोला के लोग भुईआ बाबा की पुजा से पहले न्योतन के कार्यक्रम के दौरान पीपल के पेड़ के पास खड़े थे। बताया जाता है कि सोमवार को मनोज राय के घर भुईआ बाबा की पुजा होनी थी।इसी कार्यक्रम को लेकर रात के करीब 10 बजे नयागांव 28 टोला के वार्ड संख्या 12 में सड़क किनारे कब्रिस्तान के बगल मे पीपर के पेड़ के पास सिवानबंधी(न्योतन कार्यक्रम चल रहा था। वहाँ पर सैकड़ो लोगो की भीड़ थी।
इसी बीच हाजीपुर की ओर से महनार की ओर जा रहे तेज रफ्तार ट्रक ने अनियंत्रित होकर वहाँ खड़े दर्जनों लोगो को रौद दिया। हादसे में छह बच्चियां समेत आठ ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। हादसे के बाद ट्रक चालक ट्रक में ही छिपा रहा। लोगो के डर से वह उतर नही रहा था।हादसे के बाद लोगो मे भारी गुस्सा और आक्रोश है। आक्रोशित लोग सड़क पर ही बेठे रहे। जिससे सड़क जाम हो गई।
घटना के एक घंटे बाद मौके पर पुलिस को लोगो के आक्रोश का सामना करना पड़ा।घटनास्थल पर डीएसपी, एसडीओ विधायक मौके पर पहुंच चुके थे। रात करीब 11बजे लोगो की मांग पर डीएम और एसपी भी घटनास्थल पर पहुंच ग्ए। शव क्षत विक्षत अवस्था मे देर रात तक पड़ा रहा। शव से लिपटकर रोते विलखते परिजनों को देखकर वहा मौजूद हर किसी का कलेजा दहल जा रहा था। 

1 ही परिवार के 6 लोगों की लाश, हत्या या खुदकुशी 

1 ही परिवार के 6 लोगों की लाश, हत्या या खुदकुशी 

नरेश राघानी 

उदयपुर। जिले में एक ही परिवार के 6 लोगों की लाश मिली है। मृतकों में 4 बच्चे और उनके माता-पिता शामिल है। फिलहाल यह स्पष्ट नहीं है कि पूरे परिवार ने एक साथ आत्महत्या कर ली है या फिर संदिग्ध परिस्थिति में उनकी मौत हुई है। मामला थाना क्षेत्र का है। ग्रामीणों ने पुलिस को सूचना दी। जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया है।

जानकारी के मुताबिक मामला उदयपुर जिले की गोगुंदा तहसील का है। यहां स्थानीय लोगों ने पुलिस को सूचना दी कि एक परिवार के 6 लोगों की संदिग्ध हालत में मौत हो गई है। इस घटना के बाद इलाके में हड़कंप मच गया है। इस घटना की जानकारी मिलने के बाद पुलिस अधिकारी भी मौके पर पहुंचे। पुलिस आत्महत्या और हत्या दोनों एंगल से जांच में जुट गई है। 6 लोगों के मरने से गांव में शोक की लहर है।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण


1. अंक-41, (वर्ष-06)

2. मंगलवार, नवंबर 22, 2022

3. शक-1944, मार्गशीर्ष, कृष्ण-पक्ष, तिथि- त्रयोदशी, विक्रमी सवंत-2079‌‌।

4. सूर्योदय प्रातः 06:45, सूर्यास्त: 05:25। 

5. न्‍यूनतम तापमान- 12 डी.सै., अधिकतम- 24+ डी.सै.।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है। 

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु, (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसैन पवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102। 

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

(सर्वाधिकार सुरक्षित)

बैठक: महाप्रबंधक ने निरंजन पुल का निरीक्षण किया

बैठक: महाप्रबंधक ने निरंजन पुल का निरीक्षण किया महाप्रबन्धक श्री सतीश कुमार ने किया निरंजन पुल का निरीक्षण अधिकारियों के ...