बुधवार, 25 अगस्त 2021

अमेरिकी सैनिकों की वापसी, 31 की तारीख तय की

काबुल। तालिबान के एक प्रवक्ता ने कहा है कि अमेरिका को 31 अगस्त तक अफगानिस्तान से लोगों को निकालने का काम पूरा कर लेना चाहिए और यह समयसीमा नहीं बढ़ायी जाएगी। बाइडन प्रशासन ने अफगानिस्तान से सभी अमेरिकी सैनिकों की वापसी के लिए 31 अगस्त की तारीख तय की है। वहीं तालिबान ने अफगान सरकार की महिला कर्मियों को सुरक्षा अनुमति मिलने तक घर में रहने को कहा है।

तालिबान के प्रवक्ता जबीहुल्लाह मुजाहिद ने कहा कि उनका समूह समय सीमा ‘‘बढ़ाए जाने की बात नहीं’’ स्वीकार करेगा। मुजाहिद ने कहा कि देश में जनजीवन सामान्य हो रहा है लेकिन हवाईअड्डे पर अव्यवस्था समस्या बनी हुई है। कई अफगान देश पर तालिबान का कब्जा होने के बाद बाहर भागने के लिए व्यग्र हैं। मुजाहिद ने कहा कि उन्हें तालिबान और ‘सीआईए’ के बीच किसी भी बैठक की “जानकारी” नहीं है। हालांकि मुजाहिद ने इस तरह की बैठक से इनकार नहीं किया।

यूके: कक्षा 1 से लेकर 5वीं तक के स्कूलों पर फैसला

पंकज कपूर      

देहरादून। उत्तराखंड में कक्षा एक से लेकर पांचवी तक के स्कूलों को लेकर बड़ा फैसला लिया गया है। जी हां शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय ने कहा कि बच्चों की सुरक्षा जरूरी है। लिहाजा छोटे बच्चों के स्कूलों को फिलहाल नहीं खोला जा सकेगा।

आपको बता दे कि इससे पहले 2 अगस्त से कक्षा 6 से 12 से तक के स्कूलों को खोल दिया गया है। जिसके बाद कोरोना की कमी को देखते हुए कयास लगाए जा रहे थे कि 1 सितंबर से कक्षा 1 से 5 तक की कक्षाओं को खोले दिया जाएगा। लिहाजा शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय ने कहा कि बच्चों की सुरक्षा जरूरी है फिलहाल बच्चों के स्कूलों को नहीं खोलने का फैसला लिया है। 

यज्ञ सप्ताह का कलश यात्रा के साथ शुभारंभ किया

दुष्यंत टीकम          
रायपुर। सिरजम तिवारी परिवार छत्तीसगढ़ी ब्राह्मण समाज के तत्वाधान में कुलदेवी मां चंडी, पूर्णब्रह्मा परमात्मा श्री कृष्ण, प्रातः स्मरणीय ज्योति पीठाधीश्वर एवं द्वारका शारदा पीठाधीश्वर जगतगुरु शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती महाराज की कृपा एवं पूर्वजों के आशीर्वाद से श्रीमद् भागवत ज्ञान यज्ञ सप्ताह का शोभायात्रा एवं कलश यात्रा के साथ भव्य शुभारंभ किया। 
यह जानकारी देते हुए किसान नेता योगेश तिवारी ने 
अमृत स्वरूप रसमयी कथा ब्रह्मचारी ज्योतिर्मयानंद महाराज के अमृत वाणी से नेवनारा में प्रारंभ हुआ। बैकुंठ वासी अंबिका प्रसाद तिवारी की पुण्य स्मृति में 24 अगस्त से 30 अगस्त तक आयोजित श्रीमद् भागवत महापुराण ज्ञान यज्ञ के प्रथम दिवस कलश यात्रा व ब्रह्मचारी ज्योतिर्मयानंद महाराज के शोभायात्रा
धूमधाम से भक्ति पूर्ण वातावरण में निकाला गया। 
 डॉ मेघेश तिवारी एवं किसान नेता योगेश तिवारी ने कोविड-19 नियमो का पालन करते हुए समस्त ग्रामीण एवं छत्तीसगढ़ी ब्राह्मण समाज के सदस्यों का स्वागत किया। 
कलश यात्रा के बाद कथावाचक ब्रह्मचारी ज्योतिर्मयानंद महाराज ने भागवत महात्म्य, गौकर्ण कथ
व्यास नारद संवाद और परीक्षित जन्म की रोचक एवं मनमोहक कथा प्रस्तुत कर भक्तों को आनंदित कर दिया। दूसरे दिवस सृष्टि क्रम वर्णन, बराह अवतार और देवहुती कंदम संवाद कज कथा होगा। 

वार्ता के बाद समस्याओं के समाधान का निर्देश दिया

कौशांबी। जिला पंचायत के सभागार में जिला पंचायत अध्यक्ष कल्पना सोनकर के प्रतिनिधि जितेंद्र सोनकर पूर्व ब्लॉक प्रमुख ने आम जनमानस के समस्याओं की सुनवाई की आम जनमानस की समस्याओं पर संबंधित अधिकारियों से वार्ता कर समस्याओं के समाधान का निर्देश उन्होंने दिया। जिला पंचायत की जनसुनवाई में सैकड़ो फरियादियों ने जिला पंचायत अध्यक्ष प्रतिनिधि के सामने अपनी समस्याएं रखीं। जिनमें तमाम समस्याओं का मौके पर निस्तारण किया गया और तमाम समस्याओं के समाधान के लिए अधिकारियों को पत्र भेजा गया है। जन सुनवाई के दौरान क्षेत्र के तमाम गणमान्य लोग मौजूद रहे।
गणेश साहू  

हापुड़: 2 पत्रकार व नवीन गौतम को गिरफ्तार किया

अतुल त्यागी      
हापुड़। आपको बता दें कि दिनांक 17 अगस्त 2021 को जनपद गाजियाबाद के कवि नगर थाना क्षेत्र में एक लूट का मुकदमा संख्या 1411/ 2021 पंजीकृत हुआ था। जिसकी जांच करते हुए गाजियाबाद एवं हापुर पुलिस की संयुक्त टीम ने कार्यवाही करते हुए पूर्व विधायक पुत्र बॉबी सहित 11 लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेजा था। जिसमें लूटा गया पैसा पूरी तरह बरामद नहीं हो पाया था। लूट की बची रकम की बरामदगी के लिए अग्रिम जांच जारी थी।
इसी के सापेक्ष कल दिनांक 24 अगस्त 2021 को गाजियाबाद जनपद के कविनगर पुलिस द्वारा जनपद हापुड़ में कार्यरत दो पत्रकार शक्ति किशोर एवं नवीन गौतम को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया। उपरोक्त दोनों युवक जनपद हापुड़ के परिचित बैनरों से जाने-माने पत्रकार हैं एवं पिछले 15 वर्षों से जनपद में अपनी सेवाएं दे रहे हैं। ऑल इंडियन रिपोर्टरस एसोसिएशन जनपद हापुड़ कार्यकारिणी द्वारा जिला संरक्षक सुमत सिसोदिया के नेतृत्व में आज दिनांक 25 अगस्त 2021 को एसपी ऑफिस जाकर उपरोक्त मामले की उच्च स्तरीय जांच की मांग करते हुए जिले के कप्तान दीपक भूकर को अपना ज्ञापन सौंपा।
दिए गए ज्ञापन में आईरा एसोसिएशन जिला कार्यकारिणी ने पुलिस की कार्यशैली पर कोई प्रश्न चिन्ह ना लगाते हुए आग्रह किया है। उपरोक्त पत्रकारों की गिरफ्तारी के मामले की उच्च स्तरीय जांच करवाई जाए क्योंकि पत्रकारिता जगत समाज का चौथा स्तंभ कहा जाता है एवं उपरोक्त मामले में दो पत्रकारों की भी गिरफ्तारी हुई है।
 इस मामले में उच्च स्तरीय जांच का विशेष आग्रह किया है। जिससे समाज का चौथा स्तंभ कहे जाने वाले पत्रकार जगत की गरिमा एवं कार्यशैली पर अनायास ही कोई प्रश्नचिन्ह ना लगे।

विश्वविद्यालय ने प्रथम वर्ष का रिजल्ट जारी किया

सदींप मिश्र          
बरेली। एमजेपी रुहेलखंड विश्वविद्यालय ने स्नातक व परास्नातक प्रथम वर्ष का रिजल्ट जारी कर दिया है। इस बार करीब पौने दो लाख छात्रों को बिना परीक्षा के अगली कक्षा में प्रोन्नत किया गया है।
बीए, बीएससी, बीकॉम और एमए, एमएससी व एमकॉम के छात्र विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर जाकर रिजल्ट देख सकते हैं। इसके साथ ही बीबीए, बीसीए व बीकॉम फाइनेंस विषम सेमेस्टर का भी रिजल्ट जारी कर दिया गया है।



यूके: चौखुटिया पहुंची क्रांति दल की स्वाभिमान यात्रा

पंकज कपूर               
चौखुटिया। उत्तराखंड क्रांति दल की पहाड़ी स्वाभिमान यात्रा आज चौखुटिया पहुंची। यात्रा संयोजक व पूर्व विधायक पुष्पेश त्रिपाठी ने कहा कि आज हमें पहाड़ के स्वाभिमान को बचाए रखने के लिए दिल्ली से संचालित होने वाले भाजपा और कांग्रेस जैसे दलों से सचेत रहना होगा।
यात्रा यहां विकासखंड के खिरचौरा धाम से शुरू हुई, बाजार में जन गीतों, भू- कानून लागू करने सहित विभिन्न नारों के साथ जुलूस निकाला,क्रांतिवीर चौराहे पर आम सभा कर जनता से राज्य की अस्मिता ,बेहतरी व भू- कानून लागू करने के लिए उक्रांद के पक्ष में खड़े होने की अपील की। जनसभा में बोलते हुए पूर्व विधायक व यात्रा का नेतृत्व कर रहे पुष्पेश त्रिपाठी ने कहा कि राज्य बनने के 21 वर्ष पूरे होने जा रहे हैं बावजूद आज भी राज्य की अवधारणा जस की तस है कहां बारी-बारी से भाजपा कांग्रेस सत्ता में रहकर केंद्र के इशारों पर राज्य को लूटने का काम कर रहे हैं ,राज्य आज भी मूलभूत समस्याओं से जूझ रहा है। कहां राज्य को बने जहां 21 वर्ष पूरे होने जा रहे हैं लेकिन राज्य की स्थाई राजधानी आज तक नहीं बन पाई, मजबूत भू- कानून नहीं होने से राज्य की जमीन कौड़ियों के भाव बाहरी लोगों को बेची जा रही हैं कहा राष्ट्रीय पार्टियों की नीति और नियत सही नहीं होने से नौजवान बेरोजगार है ,तथा शिक्षा, स्वास्थ्य, कृषि ,पर्यटन की नीतियों के अभाव में राज्य पिछड़ते जा रहा है साथ ही उन्होंने कहा कि कोरोना काल में घर लौटे सैकड़ों नौजवान रोजगार के अभाव में कुंठित हैं, वही जंगली ,आवारा जानवरों ने पहाड़ की आर्थिक रीढ़ कृषि को चौपट कर दिया है उन्होंने कहा आज जनता राष्ट्रीय मुद्दों पर तो चर्चा करने को तैयार रहती है लेकिन हमारे घर ,गांव, राज्य का विकास कैसे होगा आवश्यकता इस पर चर्चा करने की है तथा राष्ट्रीय पार्टियों की नियत पर सवाल उठाते हुए कहा कि कभी भी इन पार्टियों ने उत्तराखंडियों की बेहतरी के लिए नहीं सोचा उन्होंने जनता से इन 20 वर्षों में राज्य की दशा और दिशा पर सीधे सवाल राष्ट्रीय पार्टियों से पूछने की अपील कर राज्य को बचाने के लिए उक्रांद के साथ एकजुटता से जुड़ने का आह्वान भी किया।
उक्रांद की पहाड़ी स्वाभिमान यात्रा द्वाराहाट विकासखंड के बाद चौखुटिया में पांच दिवसीय कार्यक्रम के तहत बुधवार को खिरचौरा धाम से शुरू होकर चांदीखेत, गनाई बाजार,पाण्डुवाखाल,सिमलखेत, रामपुर ,चौकुड़ी ,जमणिया, वीरखमु,पीपलधार, बौनीगाड़, रमनागांव, तल्ला ताजपुर, मल्ला ताजपुर ,सुनगढ़ी क्षेत्रों में पहुंची । इस दौरान अनेक स्थानों पर नुक्कड़ सभायें भी हुई।
कार्यक्रम में पूर्व विधायक पुष्पेश त्रिपाठी, जिला पंचायत उपाध्यक्ष कांता रावत ,ज्येष्ठ प्रमुख गीता बिष्ट, ब्लॉक अध्यक्ष मनोहर सिंह संगेला, महिला ब्लॉक अध्यक्ष गुड्डी देवी ,युवा अध्यक्ष मनोज तडियाल, पूर्व जिला पंचायत सदस्य गजेन्द्र नेगी ,भवानी देवी, तुलसी देवी, देबकी देवी, गंगा देवी, धर्मा गोस्वामी, हंसी देवी, नंदी ,अनीता, मोहन शर्मा ,नरेंद्र अधिकारी, कैलाश फुलारा, उत्तम बिष्ट ,आनंद नाथ, बलवंत सिंह नेगी ,नरेंद्र मेहरा ,आनंद किरौला, मोहन सिंह, बालम सिंह नेगी, पूरन सिंह, मनीष शर्मा, देवेंद्र सिंह, जीवन कठायत,गौरव गुसाईं ,पंकज बिष्ट , बबलू फल्लाकोटी, नंदन रौथाण, संदीप नेगी, कृपाल बिष्ट, नंदन सिंह कुमयां ,किशन कुमयां सैकड़ों कार्यकर्ता रहे।

पार्टी अमरिंदर सिंह के नेतृत्व में ही लड़ेगी चुनाव

राणा ओबराय              
चंडीगढ़। पंजाब कांग्रेस में मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह तथा प्रदेश अध्यक्ष नवजोतसिंह सिद्धू में जारी घमासान के बीच पार्टी के प्रदेश प्रभारी हरीश रावत ने कहा है कि पार्टी आगामी विधानसभा चुनाव कैप्टन अमरिंदर सिंह के नेतृत्व में ही लडेगी। रावत ने कहा कि पंजाब कांग्रेस में सिद्धू तथा कैप्टन अमरिंदर सिंह के बीच चल रही तनातनी को जल्द ही सुलझा लिया जाएगा और इस बारे में वह कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी तथा पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी से मिलकर उन्हें स्थिति की जानकारी देंगे।
कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी ने कहा कि पार्टी के सभी नेताओं का सोनिया गांधी और पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी पर पूरा विश्वास है और पार्टी नेतृत्व जो भी कहेगा उसका सभी पालन करेंगे इसलिए उन्हें पूरा भरोसा है कि पार्टी नेता परस्पर मतभेद भुला देंगे और अगले विधानसभा चुनाव में एकजुट होकर कांग्रेस को फिर सत्ता में लाएंगे।
इस बीच सूत्रों ने बताया कि पार्टी के असंतुष्ट गुट के पांच बड़े नेता मंगलवार को दिल्ली पहुंचे हैं और वे सोनिया गांधी से मिलने का समय मांग रहे हैं। बताया जा रहा है कि सिद्धू गुट के ये सभी नेता कैप्टन के खिलाफ मोर्चाबंदी करने के लिए दिल्ली मे डटे हैं।


टटीरी में 25वां स्थापना दिवस धूमधाम से मनाया

हरिओम उपाध्याय                 
बागपत। लायंस क्लब अग्रवाल मंडी ने 25 वा स्थापना दिवस मनाया 211 देशों में अंतरराष्ट्रीय समाज सेवा के लिए प्रसिद्ध संस्था लायंस क्लब अग्रवाल मंडी डिस्टिक 321 सीआई जनपद बागपत ने आज बुधवार 25 अगस्त 2021 को लायंस नेत्र चिकित्सा केंद्र अग्रवाल मंडी टटीरी में अपना 25 वां स्थापना दिवस धूमधाम से मनाया। इस अवसर पर एक निराश्रित महिला को स्वरोजगार हेतु सिलाई मशीन भेट की गई एवं लायंस क्लब के अध्यक्ष लॉयन दीपक गोयल एवं संस्थापक लॉयन अभिमन्यु गुप्ता सचिव लॉयन पंकज गुप्ता ने केक काटकर सभी को बधाइयां दी एवं डॉ रामलाल उपाध्यक्ष लॉयन आशुतोष मित्तल उपाध्यक्ष, अजय मित्तल पूर्व अध्यक्ष वीरेंद्र त्यागी एवं भारतीय जनता पार्टी की जिला महामंत्री लॉयन कौशल त्यागी, विभोर जिंदल, डॉक्टर दीपक शर्मा सहित उपस्थित अनेक नेत्र परीक्षण के लिए उपस्थित नेत्र रोगियों को प्रसाद बांटा गया इस अवसर पर संस्थापक लायन अभिमन्यु गुप्ता ने कहा ठीक 25 वर्ष पूर्व तत्कालीन गवर्नर स्वर्गीय लॉयन प्रताप स्वरूप दुबलीश के कर कमलों से स्थापना हुई थी। सभी से लायंस क्लब अग्रवाल मंडी मंडल में सेवा कार्यों के माध्यम से अपना विशिष्ट स्थान बनाए हुए हैं। जिसके लिए अंतर्राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्टीपल एवं मंडल से सैकड़ों पुरस्कार प्राप्त हुए हैं। इसके लिए क्लब का प्रत्येक सदस्य बधाई का पात्र है। अध्यक्ष लॉयन दीपक गोयल सभी का आभार व्यक्त किया और आशा व्यक्त की क्लब सदस्यों के सहयोग से निरंतर प्रगति करेगा और मंडल में अपना विशिष्ट स्थान बनाए रखेगा।


धार्मिक स्थल सामान्य रूप से खोलने की इजाजत दी

अविनाश श्रीवास्तव               
पटना। बिहार में कोरोना संक्रमण की स्थिति में सुधार को देखते हुए सरकार ने कल से सभी दुकानें, प्रतिष्ठान, शाॅपिंग माॅल, पार्क, उद्यान एवं धार्मिक स्थल सामान्य रूप से खोलने की इजाजत दे दी है।
बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बुधवार को आपदा प्रबंधन समूह की बैठक में कोरोना की स्थिति की समीक्षा के बाद खुद सोशल नेटवर्किंग साइट ट्विटर पर ट्वीट कर बताया कि राज्य में अब सभी दुकानें, प्रतिष्ठान, शाॅपिंग माॅल, पार्क, उद्यान एवं धार्मिक स्थल सामान्य रूप से खुलेंगे। इसके साथ ही जिला प्रशासन की अनुमति से सभी प्रकार के सामाजिक, राजनीतिक, मनोरंजन, खेल-कूद, सांस्कृतिक एवं धार्मिक आयोजन अपेक्षित सावधानियों के साथ आयोजित किए जा सकेंगे।
मुख्यमंत्री ने बताया कि सभी विश्वविद्यालय, कॉलेज, तकनीकी शिक्षण संस्थान तथा विद्यालय (पहली से बारहवीं कक्षा तक) के साथ साथ कोंचिग संस्थान भी सामान्य रूप से खुलेंगे। उन्होंने बताया कि राज्य के विश्वविद्यालयों, कॉलेजों, विद्यालयों द्वारा परीक्षा भी आयोजित की जा सकेंगी।
नीतीश कुमार ने बताया कि 50 प्रतिशत क्षमता के साथ सिनेमा हॉल, क्लब, जिम, स्वीमिंग पूल, रेस्त्रां एवं खाने की दुकान (आंगतुकों के साथ) खुल सकेंगे लेकिन तीसरी लहर की संभावना के मद्देनजर सभी बिहारवासियों को कोविड अनुकूल व्यवहार के साथ सावधानी बरतना जरूरी है।

एचसी द्वारा 10 साल की सजा कई मामलों में सुनाई

अकांशु उपाध्याय                 
नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश सरकार ने सुप्रीम कोर्ट को सुझाव दिया कि 10 साल की सजा भुगत चुके उम्र कैदियों और अन्य मामलों में सुनाई गई। अधिकतम सजा की आधी भुगत चुके दोषियों की जमानत याचिकाओं पर इलाहाबाद हाई कोर्ट विचार कर सकता है। प्रदेश सरकार और हाई कोर्ट ने चेतावनी भी दी और कहा कि सार्वजनिक शांति और समाज की भलाई सुनिश्चित करने के लिए कुख्यात अपराधियों, बार-बार अपराध करने वालों, अपहरणकर्ताओं, नरसंहार से जुड़े अपराधों (तीन या तीन से ज्यादा हत्याएं), आदतन अपराधियों और उत्तर प्रदेश जेल स्थायी नीति के मुताबिक निषिद्ध वर्ग में आने वाले उम्र कैदियों को कोई जमानत प्रदान नहीं की जानी चाहिए।
प्रदेश सरकार और हाई कोर्ट रजिस्ट्री ने अपने सुझाव सुप्रीम कोर्ट के उस पूर्व आदेश के अनुपालन में दिए हैं जिसमें उनसे ऐसे दोषियों को खुद हाई कोर्ट द्वारा जमानत प्रदान करने के लिए विस्तृत मानक तैयार करने में मदद करने के लिए कहा था जिनकी अपीलें लंबे समय से लंबित हैं।
102 पेज के दस्तावेज में जस्टिस संजय किशन कौल और जस्टिस हेमंत गुप्ता की पीठ को हाई कोर्ट में आपराधिक अपीलों का तेजी से निस्तारण सुनिश्चित करने के लिए उठाए गए कदमों के बारे में अवगत कराया गया है। इलाहाबाद हाई कोर्ट में स्वीकृत 160 पदों के मुकाबले वर्तमान में 93 जज हैं।

सरंक्षण की बात करने वाली सरकार ने ईमान बेचा

अकांशु उपाध्याय               
नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने राष्ट्रीय मुद्रीकरण योजना को लेकर बुधवार को फिर मोदी सरकार पर कड़ा हमला किया और कहा कि राष्ट्रीय हितों के संरक्षण की बात करने वाली इस सरकार ने अब अपना ईमान भी बेच दिया है। राहुल गांधी ने कहा कि यह सरकार अपना ईमान पहले ही बेच चुकी है और अब देश की संपत्ति को बेचने में जुट गयी है।
राहुल गांधी ने ट्वीट किया “सबसे पहले ईमान बेचा और अब…” कांग्रेस नेता ने मंगलवार को पार्टी मुख्यालय में प्रेस कांफ्रेंस कर सरकार पर देश की संपत्ति में निजी क्षेत्र को हिस्सेदार बनाने को लेकर तीखा हमला किया और कहा कि यह सरकार 70 साल में अर्जित देश की संपत्ति को अपने कुछ पूंजीपति मित्रों को बेचकर देश के भविष्य को अंधेरे में धकेल रही है।
कांग्रेस पार्टी ने भी अपने आधिकारिक हैंडल पर ट्वीट कर इस योजना को लेकर सरकार की आलोचना की और कहा “राष्ट्रीय मुद्रीकरण योजना के नाम पर राष्ट्रीय मित्रिकरण योजना थोपी जा रही है, राष्ट्रीय संपत्ति को मित्रों के हवाले किया जा रहा है। मोदी सरकार की मित्रिकरण योजना राष्ट्र के लिए हानिकारक साबित होगी।
राहुल गांधी ने ट्वीट किया “सबसे पहले ईमान बेचा और अब…” कांग्रेस नेता ने मंगलवार को पार्टी मुख्यालय में प्रेस कांफ्रेंस कर सरकार पर देश की संपत्ति में निजी क्षेत्र को हिस्सेदार बनाने को लेकर तीखा हमला किया और कहा कि यह सरकार 70 साल में अर्जित देश की संपत्ति को अपने कुछ पूंजीपति मित्रों को बेचकर देश के भविष्य को अंधेरे में धकेल रही है।
कांग्रेस पार्टी ने भी अपने आधिकारिक हैंडल पर ट्वीट कर इस योजना को लेकर सरकार की आलोचना की और कहा “राष्ट्रीय मुद्रीकरण योजना के नाम पर राष्ट्रीय मित्रिकरण योजना थोपी जा रही है, राष्ट्रीय संपत्ति को मित्रों के हवाले किया जा रहा है। मोदी सरकार की मित्रिकरण योजना राष्ट्र के लिए हानिकारक साबित होगी।

भारत में प्रथम रिसाइक्लेबल टूथपेस्ट लॉन्च किया

अकांशु उपाध्याय            
नई दिल्ली। ओरल केयर क्षेत्र में की कंपनी कोलगेट-पामोलिव ने भारत में अपनी तरह का प्रथम रिसाइक्लेबल टूथपेस्ट लॉन्च किया है। जो अगस्त 2021 से पूरे देश में उपलब्ध होगा।
कंपनी ने आज कहा कि ईपीएल लिमिटेड (पूर्व नाम - एस्सेल प्रोपैक लिमिटेड) के साथ साझेदारी में यह अभियान लॉन्च करते हुए कोलगेट ने अपने कोलगेट वेदशक्ति टूथपेस्ट और कोलगेट एक्टिव साल्ट पोर्टफोलियो के लिए रिसाइक्लेबल ट्यूब्स का निर्माण करना शुरू कर दिया है।आयुर्वेदिक टूथपेस्ट, कोलगेट वेदशक्ति टूथपेस्ट ट्यूब देश में रिसाइक्लेबल पैकेजिंग में लॉन्च किए गए थे और इनमें एक रिसाइक्लेबल लोगो होगा, जो ग्राहकों को पैकेजिंग के बीच के अंतर को समझने में मदद करेगा। कोलगेट के रिसाइक्लेबल ट्यूब भारत में ओरल केयर पोर्टफोलियो में 100 प्रतिशत रिसाइक्लेबिलिटी हासिल करने के इसके सफर में एक महत्वपूर्ण बिंदु हैं।

हिरानी की फिल्म में काम करते नजर आएंगे शाहरुख

कविता गर्ग            
मुंबई। बॉलीवुड के किंग खान शाहरूख खान निर्देशक राजकुमार हिरानी की फिल्म में काम करते नजर आ सकते हैं।
शाहरुख खान इन दिनों फिल्म 'पठान' में काम कर रहे हैं। चर्चा है कि शाहरुख खान ज्लद ही राजकुमार हिरानी के साथ एक फिल्म करने वाले हैं। कहा जा रहा है कि राजकुमार हिरानी की इस फिल्म में शाहरुख एक पंजाबी आदमी का किरदार निभाने वाले हैं। फिल्म की स्क्रिप्ट फाइनल हो गई है।
कहा जा रहा है कि हिरानी और उनकी राइटिंग पार्टनर कनिका ढिल्लों ने उनकी इस फिल्म का पूरा स्क्रीनप्ले तैयार कर लिया है।अब जल्द ही फिल्म की कास्टिंग भी की जाएगी। इसके लिए हिरानी ने मुकेश छाबड़ा को बुलाया है। यह फिल्म इमिग्रेशन पर आधारित है। इस फिल्म की शूटिंग अगले साल से कनाडा में शुरू हो सकती है।

थोक जिंस बाजार में भी खाद्य तेलों में घटबढ़ रही

अकांशु उपाध्याय            
नई दिल्ली। विदेशी बाजारों के मिश्रित रुझान से मंगलवार को दिल्ली थोक जिंस बाजार में भी खाद्य तेलों में घटबढ़ रही। जबकि मांग आने से मूंग दाल और अरहर दाल 150 रुपये प्रति क्विंटल तक महंगी हो गई।
तेल-तिलहन : वैश्विक स्तर पर मलेशिया के बुरसा मलेशिया डेरिवेटिव एक्सचेंज में पाम ऑयल का अक्टूबर वायदा 12 रिंगिट गिरकर 4412 रिंगिट प्रति टन पर पहुंच गया। वहीं, दिसंबर का अमेरिकी सोया तेल वायदा 0.53 सेंट बढ़कर 59.78 सेंट प्रति पौंड बोला गया।
अंतर्राष्ट्रीय बाजार में खाद्य तेल की कीमतों में मिश्रित रुझान का असर स्थानीय बाजार पर भी दिखा। इस दौरान मूंगफली तेल में 292 रुपये प्रति क्विंटल की गिरावट दर्ज की गई जबकि सरसों तेल 73 रुपये प्रति क्विंटल महंगा हो गया। वहीं, सूरजमुखी तेल, सोया रिफाइंड, पाम ऑयल और वनस्पति तेल के भाव पिछले कारोबारी दिवस के स्तर पर टिके रहे।
गुड़-चीनी : मीठे के बाजार में आवक और उठाव बराबर रहने के कारण चीनी के दाम में कोई बदलाव नहीं हुआ और वह पिछले भाव पर टिके रहे। वहीं, आवक कमजोर पड़ने से गुड़ के दाम 50 रुपये प्रति क्विंटल बढ़ गये।

दाल-दलहन: दाल दलहन के बाजार में मांग आने से मूंग दाल और अरहर दाल 150-150 रुपये प्रति क्विंटल महंगी हो गई। वहीं, आवक और उठाव समान रहने से चना दाल, मसूर दाल, उड़द दाल और चना के दाम में टिकाव रहा।
अनाज : अनाज मंडी में मांग सुस्त पड़ने से चावल और गेहूं की कीमतें पिछले कारोबारी दिवस के भाव पर टिकी रहीं।
दाल-दलहन: चना 4850-4950, दाल चना 6100-6200, मसूर काली 7450-7850, मूंग दाल 8100-8300, उड़द दाल 9500-9700, अरहर दाल 8800-8950 रुपये प्रति क्विंटल रही। अनाज ।(भाव प्रति क्विंटल) गेहूं दड़ा 1950-2010 रुपये और चावल : 2400-2500 रुपये प्रति क्विंटल रहा।
चीनी-गुड़। चीनी एस 3620-3720, चीनी एम. 3700-3800, मिल डिलीवरी 3500-3600 और गुड़ 3850-3950 रुपये प्रति क्विंटल बोले गये।
खाद्य तेल। सरसों तेल 18095 रुपये, मूंगफली तेल 18022 रुपये, सूरजमुखी तेल 17948 रुपये, सोया रिफाइंड 15970 रुपये, पाम ऑयल 12747 रुपये और वनस्पति तेल 13479 रुपये प्रति क्विंटल पर रहा।

अभियुक्त को आजीवन कारावास की सजा सुनाईं

हरिओम उपाध्याय                         
जौनपुर। उत्तर प्रदेश में जौनपुर जिले में अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश (चतुर्थ) प्रकाश चंद्र शुक्ल ने हत्या के 14 साल पुराने एक मामले में अभियुक्त को आजीवन कारावास के साथ बीस हजार रुपए का जुर्माना लगाया।
अभियोजन पक्ष के अनुसार जफराबाद इलाके में सात अक्टूबर 2007 को महरूपुर बबलू सिंह के यहां बरही का आयोजन था। निमंत्रण में वादी और उसका पुत्र अजय प्रकाश सिंह व विजय प्रकाश सिंह गए थे। वहां से अजय पड़ोस के एक चिकित्सक के पास रिपोर्ट लेने के लिए चला गया था। रिपोर्ट लेकर जब वह पुन: दावत में शरीक होने आ रहा था तथा वादी का बड़ा बेटा विजय प्रकाश खाना खाकर लौट रहा था और रात करीब आठ बजे जब वादी उसका लड़का अजय प्रकाश महरुपुर गांव में साधु सिंह के घर के पास पहुंचा, तभी दो मोटरसाइकिल पर सवार उसके पट्टीदार रामाज्ञा सिंह, सनी सिंह, दीपक सिंह व रमेश चौबे निवासी ग्राम गोगांव जिला मीरजापुर व अन्य लाेग असलहा लेकर आये और अजय प्रकाश की मोटरसाइकिल रोक कर उस पर ताबड़तोड़ फायरिग कर दी।
ग्रामीणों के ललकारने पर हमलावर मोटरसाइकिल छोड़कर फरार हो गए। अजय प्रकाश को जिला चिकित्सालय लेकर गए, जहां उसकी मृत्यु हो गई। पुलिस ने इस मामले में आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट अदालत में दाखिल की। गवाही के दौरान आरोपित रमेश चौबे फरार हो गया था इसलिए उसकी पत्रावली चार मार्च 2010 को अलग कर दी गई थी। इस मामले में 13 जून 2016 को अन्य आरोपितों को सजा सुनाई गई थी। बाद में आरोपित रमेश गिरफ्तार हुआ। उसका विचारण चला। अदालत ने दोषी मानते हुए आजीवन कारावास के साथ 20 हजार रुपये का जुर्माना लगाया।

घरेलू स्तर पर पेट्रोल-डीजल की कीमतें यथावत रही

अकांशु उपाध्याय        
नई दिल्ली। अंतर्रष्ट्रीय बाजार में तेल की कीमतों के तेजी के बावजूद बुधवार को घरेलू स्तर पर पेट्रोल और डीजल की कीमतें यथावत रही। मंगलवार को इन दोनों की कीमतों में 15-15 पैसे प्रति लीटर की कमी की गयी थी।
आज दिल्ली में आज इंडियन ऑयल के पंप पर पेट्रोल जहां 101.49 रुपये प्रति लीटर पर औैर डीजल 88.92 रुपये प्रति लीटर पर स्थिर रहा। 
तेल विपणन कंपनी इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन के अनुसार, आज दिल्ली में पेट्रोल 101.49 रुपये प्रति लीटर पर और डीजल 88.92 रुपये प्रति लीटर पर रहा।
अंतरराष्ट्रीय स्तर पर दुनिया भर में कोविड-19 के मामलों में फिर से वृध्दि होने के बावजूद कल कच्चे तेल की कीमतें फिर से बढ़ने लगी है। कल कारोबार की समाप्ति के समय ब्रेंट क्रूड 2.48 डॉलर प्रति बैरल चढ़ कर 71.05 डॉलर प्रति बैरल पर और डब्ल्यूटीआई क्रूड भी 2.08 डॉलर प्रति बैरल बढ़कर 67.54 डॉलर पर बंद हुआ था।
पेट्रोल-डीजल के मूल्यों की रोजाना समीक्षा होती है और उसके आधार पर हर दिन सुबह छह बजे से नयी कीमतें लागू की जाती हैं।

अमरिंदर की नीतिया, राज्य का किसान खुशहाल

अकांशु उपाध्याय             
नई दिल्ली। कांग्रेस की उत्तर प्रदेश की प्रभारी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा है कि जहां उत्तर प्रदेश के गन्ना किसान परेशान हैं। वहीं पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की नीतियों के कारण राज्य का किसान खुशहाल है। प्रियंका गांधी वाड्रा ने पंजाब सरकार की सराहना करते हुए ट्वीट किया,"पंजाब की कांग्रेस सरकार ने किसानों की बात सुनी और गन्ने के दाम 360 रुपए प्रति क्विंटल किए।"
उत्तर प्रदेश की योगी सरकार पर हमला करते हुए उन्होंने कहा,"गन्ने का 400 रुपए क्विंटल का वादा करके आई उप्र भाजपा सरकार ने तीन साल से गन्ने के दाम पर एक फूटी कौड़ी नहीं बढ़ाई है और किसानों द्वारा आवाज उठाने पर 'देख लेने' जैसी धमकी देती है।

कलाकारों व गायकों के अलावा आम लोगों पर हमलें

काबूल। अफगानिस्तान पर अपना कब्जा जमाने के बाद तालिबान की ओर से कलाकारों व गायकों के अलावा आम लोगों पर हमले किए जा रहे हैं। तालिबान ने अफगानिस्तान के लोकप्रिय कॉमेडियन नजर मोहम्मद उर्फ खासा ज्वान की हत्या कर दी थी। अब तालिबान ने गायकों व फिल्म निर्माताओं और अन्य कलाकारों को लेकर अपनी राय रखते हुए उन्हें अपना पेशा बदलने की सलाह दे डाली है।
तालिबान के प्रवक्ता जबीउल्ला मुजाहिद जब मीडिया से बात करने को आए और उनसे पूछा गया कि क्या तालिबान गायकों और फिल्म निर्माताओं को अपना काम जारी रखने की इजाजत देगा? इसके जवाब में तालिबानी प्रवक्ता मुजाहिद ने कहा है कि अगर शरिया के खिलाफ आकलन किया जाता है तो कलाकारों व गायकों को अपना पेशा बदल लेना चाहिए। अफगानिस्तान के सिनेमा जगत की कई हस्तियां तालिबान की वजह से अपनी जमीन छोड़कर वहां से पलायन कर रही है। अफगानिस्तान की जानी-मानी पॉपस्टार अर्याना सईद भी तालिबान के डर से भारत आ पहुंची है। उन्होंने तालिबान के अफगानिस्तान पर कब्जे के लिए पाकिस्तान को जिम्मेदार ठहराते हुए भारत को सच्चा दोस्त बताया है। अफगानिस्तान से हो रहे पलायन को लेकर तालिबान की ओर से चेतावनी दी गई है कि वह अब किसी भी अफगान नागरिक को देश छोड़ने की इजाजत नहीं देगा। तालिबान ने कहा है कि वह अफगान नागरिकों को काबुल एयरपोर्ट की यात्रा करने से रोकेंगे ताकि कोई अफगान निकासी विमान में सवार होकर विदेश में ना चला जाए।

देश की प्रगति में उद्योग के योगदान की सराहना की

अकांशु उपाध्याय             
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि वाहन विनिर्माण से जुड़ी मूल्य श्रृंखला के लिए समग्र उपाय किए जा रहे हैं। इससे यह उद्योग अधिक उत्पादक और टिकाऊ बन सकेगा। सोसायटी आफ इंडियन ऑटोमोबाइल मैन्युफैक्चरर्स (सियाम) को उसके 61वें वार्षिक सम्मेलन के मौके पर बुधवार को संदेश में प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत एक स्वच्छ और आधुनिक परिवहन व्यवस्था (मोबिलिटी) के लक्ष्य को लेकर पूरी तरह प्रतिबद्ध है।
उन्होंने देश की प्रगति में उद्योग के योगदान की सराहना की। मोदी के संदेश को वाहन विनिर्माताओं के संगठन सियाम के अध्यक्ष केनिची आयुकावा ने पढ़कर सुनाया। अपने संदेश में प्रधानमंत्री ने कहा, ”भारत की अर्थव्यवस्था और प्रगति में वाहन उद्योग की भूमिका काफी शानदार रही है। इस क्षेत्र ने विनिर्माण के साथ निर्यात बढ़ाने में योगदान दिया। साथ ही क्षेत्र ने बड़ी संख्या में रोजगार के अवसरों का सृजन किया और लोगों के जीवन को सुगम बनाया। देश की वृद्धि की कहानी में यह क्षेत्र भागीदार रहा है।
मोदी ने कहा कि कोविड-19 महामारी से संघर्ष के दौरान भी क्षेत्र ने संवेदनशील और सक्रिय तरीके से अपना योगदान दिया। उन्होंने कहा कि 21वीं सदी का भारत स्वच्छ और आधुनिक मोबिलिटी के लक्ष्य की ओर बढ़ रहा है। वाहन विनिर्माण से जुड़ी मूल्य श्रृंखला के लिए समग्र उपाय किए जा रहे है। इससे यह उद्योग अधिक उत्पादक और सतत बन सकेगा। उन्होंने वाहन उद्योग को भरोसा दिलाया कि भारत को विनिर्माण का वैश्विक केंद्र बनाने में सभी अंशधारकों की महत्वपूर्ण भूमिका होगी। मोदी ने कहा कि वैश्विक वाहन कंपनियों की विनिर्माण इकाइयां भारत में हैं। इससे भारत के संपन्न पारिस्थितिकी तंत्र का पता चलता है।
उन्होंने कहा कि इसके साथ ही हमें अपने पर्यावरण, संसाधनों और कच्चे माल का संरक्षण करने की भी जरूरत है। प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत अपनी आजादी की 75वीं वर्षगांठ मना रहा है। अगले 25 साल देश के लिए काफी महत्वपूर्ण हैं। मोदी ने कहा, ”हमें अगली पीढ़ी के बुनियादी ढांचे, विश्वस्तरीय विनिर्माण और प्रौद्योगिकी के लिए काम करने की जरूरत है।” उन्होंने कहा कि भारत अपने नागरिकों को वैश्विक स्तर की गुणवत्ता और सुरक्षा प्रदान करने को प्रतिबद्ध है।

अफगानिस्तान के पूर्व संचार मंत्री की फोटो शेयर की

काबूल। अफगानिस्तान के पूर्व संचार मंत्री इन दिनों जर्मनी में पिज्जा डिलीवरी का काम कर रहे हैं। अफगान संकट के बीच उनकी कुछ तस्वीरें वायरल हो रही है।जिसमें वह पिज्जा कंपनी की यूनिफॉर्म पहनकर डिलीवरी के लिए जाते नजर आ रहे हैं। सैयद अहमद शाह सआदत अफगानिस्तान में संचार मंत्री के साथ ही कई अन्य महत्वपूर्ण पद संभाल चुके हैं। ऐसे में उनका यूं पिज्जा डिलीवरी करना सभी के लिए चौंकाने वाला है। हालांकि, सैयद को खुद को डिलीवरी बॉय कहलाने में कोई शर्म नहीं।
एक जर्मन पत्रकार ने अफगानिस्तान के पूर्व संचार मंत्री की फोटो अपने ट्विटर अकाउंट पर शेयर की है। पत्रकार ने पूर्व मंत्री से बातचीत भी की, जिसमें उन्होंने अफगानिस्तान के हाल और अपने बारे में बताया. सैयद अहमद शाह सआदत पिछले साल के आखिरी में अपने पद से इस्तीफा देकर जर्मनी चले आए थे. मुल्क छोड़ने के बाद उन्होंने कुछ समय अच्छे से बिताया, लेकिन जब पैसा खत्म होने लगा तो उन्हें जीवनयापन के लिए 'स्काई न्यूज अरबिया' की रिपोर्ट के मुताबिक, पूर्व मंत्री सैयद जर्मनी के लीपजिंग की एक पिज्जा कंपनी के साथ काम कर रहे हैं। सैयद ने अपने देश छोड़ने की वजह बताते हुए कहा कि राष्ट्रपति अशरफ गनी की टीम और उनकी मांगों से सहमत नहीं होने की वजह से उन्होंने अपने पद से इस्तीफा दिया और सबकुछ छोड़कर जर्मनी चला आया। पूर्व अफगान मंत्री ने बताया कि उनके पास ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी से संचार और इलेक्ट्रॉनिक इंजीनियरिंग में दो मास्टर डिग्री हैं। इसके अलावा उन्होंने 13 देशों की 20 से अधिक कंपनियों के साथ कम्युनिकेशन की फील्ड में काम किया है।

हनोई: मामले की जांच के कारण कई घंटे की देरी हुईं

हनोई। अमेरिकी उपराष्ट्रपति कमला हैरिस की सिंगापुर से वियतनाम की यात्रा में हनोई में तथाकथित हवाना सिंड्रोम के एक संभावित मामले की जांच के कारण मंगलवार को कई घंटे की देरी हुई। प्रशासन के अधिकारियों ने इस आशय की जानकारी दी। हालांकि ये जांच अपने शुरुआती स्तर पर ही थी और अधिकारियों ने हैरिस से कहा कि वे अपने तय कार्यक्रम के मुताबिक वियतनाम में रुक सकती हैं। हैरिस के इस दौरे का उद्देश्य अफगानिस्तान से अमेरिकी सेना के निकलने के बीच अमेरिकी विदेश नीति के बारे में सहयोगियों को आश्वस्त करना है।  हवाना सिंड्रोम स्वास्थ्य से जुड़ी कई रहस्यमय घटनाओं को कहा जाता है। इस सिंड्रोम  को पहली बार अमेरिकी राजनयिकों और सरकारी अधिकारियों ने 2016 की शुरुआत में क्यूबा की राजधानी में रिपोर्ट किया था।
हालांकि ये तुरंत स्पष्ट नहीं हो सका कि हनोई में कौन हवाना सिंड्रोम का शिकार हुआ है। हालांकि अधिकारियों ने कहा कि जो भी सिंड्रोम का शिकार व्यक्ति है, वह ना तो उपराष्ट्रपति के लिए और ना ही व्हाइट हाउस के लिए काम करता है। हनोई स्थित अमेरिकी दूतावास के बयान के मुताबिक हैरिस के दौरे में देरी इसलिए हुई कि उपराष्ट्रपति के कार्यालय को वियतनाम की राजधानी में हाल ही में एक संभावित असामान्य स्वास्थ्य घटना की एक रिपोर्ट के बारे में पता चला। हालांकि दूतावास ने कोई और जानकारी उपलब्ध नहीं कराई लेकिन कहा कि हैरिस ने स्थिति का आकलन करने के बाद हनोई जाने का फैसला किया।
हवाना सिंड्रोम को परिभाषित करने के लिए अमेरिकी सरकार "असामान्य स्वास्थ्य घटना" का प्रयोग करती है। इस सिंड्रोम से पीड़ित लोगों ने बताया कि उन्हें कर्णभेदी शोर सुनाई देता है और वे चेहरे पर भारी तनाव महसूस करते हैं। कभी कभार दर्द, मितली और चक्कर भी आता है। इस तरह के मामले जर्मनी, ऑस्ट्रिया, रूस और चीन में कार्यरत अमेरिकियों द्वारा भी रिपोर्ट किए गए हैं। इस मामले को परिभाषित करने के लिए कई सारी दलीलें दी गई हैं, जैसे लोगों को टारगेट करके माइक्रोवेब और सुपरसोनिक अटैक करना, जोकि जासूसी या हैकिंग के लिए हो सकता है।
अमेरिका इस तरह के मामलों को बेहद गंभीरता से लेता है और हाल ही में दो ऐसे केस वॉशिंगटन में दर्ज किए गए हैं, जिनमें से एक मामले में नवंबर में व्हाइट हाउस के अधिकारी ने चक्कर आने की सूचना दी थी। प्रशासनिक अधिकारियों का कहना था कि मामले में रूस संलिप्त हो सकता है, हालांकि मास्को ने इनकार कर दिया।
बता दें कि कमला हैरिस को मंगलवार की शाम को सिंगापुर में भाषण देने के बाद हनोई जाना था, लेकिन उनकी फ्लाइट में तीन घंटे से ज्यादा की देरी हुई। हालांकि हैरिस के मुख्य प्रवक्ता साइमन सिंड्रोम ने स्थिति पर बात करने से इनकार कर दिया। उन्होंने कहा कि हैरिस ठीक हैं और पत्रकारों ने मंगलवार को उन्हें कई बार देखा है, इसलिए उनके स्वास्थ्य के बारे में चिंतित होने की जरूरत नहीं है।
इधर वॉशिंगटन में कांग्रेस ने मामले को उठाया और हाउस और सीनेट में सभी पार्टियों ने इस पर चिंता जताई और सिंड्रोम की जांच के लिए बाइडन सरकार से मांग की।  बाइडन सरकार पर इस तरह के मामलों की जांच कराने का बेहद दबाव है, क्योंकि हाल के दिनों में हवाना सिंड्रोम के मामले बढ़े हैं। लेकिन वैज्ञानिक और सरकार ने इस बारे में निश्चित नहीं है कि इस हमले के पीछे कौन हो सकता है। और यह भी क्या ये लक्षण सर्विलांस उपकरणों की वजह से होते हैं, या इसके पीछे किसी तरह का हमला है। 
हालांकि अमेरिकी प्रशासन ने मामले को गंभीरता से लेने का आश्वासन ही दिया है, और कहा है कि सिंड्रोम से प्रभावित लोगों को बढ़िया मेडिकल केयर उपलब्ध कराया जाएगा। हवाना सिंड्रोम के बारे में एक महत्वपूर्ण विश्लेषण ये सामने आया है कि इसके पीछे रेडियो फ्रीक्वेंसी एनर्जी हो सकती है। बीते दिसंबर में नेशनल एकेडमी ऑफ साइंस की ओर से प्रकाशित रिपोर्ट में रेडियो फ्रीक्वेंसी अटैक मस्तिक की संचालन प्रक्रिया को प्रभावित कर सकता है और इससे कोई बहुत ज्यादा नुकसान भी नहीं होगा। हालांकि पैनल ने अपनी रिपोर्ट में यह नहीं बताया कि अमेरिकी अधिकारियों को किस तरह टारगेट किया जाता है।

सरकार ने कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में इजाफा किया

हरिओम उपाध्याय            
लखनऊ। उत्तर प्रदेश के सरकारी कर्मचारियों के लिए खुशखबरी है। प्रदेश की योगी सरकार ने कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में इजाफा कर दिया है। जानकारी के अनुसार कर्मियों के डीए में 11 प्रतिशत की बढ़ाेतरी की गई है। खास बात ये हैं कि बढ़ी हुई दर 1 जुलाई से ही लागू मानी जाएगी। अब राज्य सरकार के कर्मचारियों का महंगाई भत्ता 17 प्रतिशत से बढ़ कर 28 प्रतिशत हो गया है। केंद्र सरकार की तर्ज पर ही यूपी सरकार ने भी ये निर्णय लिया है। उत्तर प्रदेश सरकार की इस घोषणा के बाद सरकारी कर्मचारियों में खुशी की लहर है।
उल्लेखनीय है कि सरकार के इस फैसले से राज्य के 16 लाख कर्मचारियों को लाभ मिलेगा। साथ ही करीब 12 लाख पेंशनधारियों को भी बढ़े हुए महंगाई भत्ते का लाभ मिलेगा। बताया जा रहा है कि अगस्त के वेतन के साथ ही कर्मचारियों को बढ़े हुए महंगाई भत्ते का लाभ मिलना शुरू हो जाएगा।
इससे पहले सीएम योगी आदित्यनाथ ने जुलाई में महंगाई भत्ते और महंगाई राहत बढ़ाने को लेकर अधिकारियों से जल्द से जल्द प्रस्ताव पेश करने के लिए कहा था।  इसके साथ ही अपनी टीम 9 के साथ बैठक के दौरान सीएम ने वित्त विभाग को भी इस संबंध में खास निर्देश दिए थे। सीएम का कहना था कि कोरोना काल के दौरान राज्य कर्मचारियों को महंगाई भत्ते के लाभ से वंचित रखा गया इसके चलते अब डीआर को जल्द से जल्द रिलीज करने का इंतजाम किया जाए।
गौरतलब है कि कोरोना के दौरान विषम परिस्थितियों को देखते हुए योगी सरकार ने राज्य के कर्मचारियों के महंगाई भत्ते और पेंशनरों के महंगाई राहत के भुगतान पर रोक लगा दी थी। वित्तीय संसाधनों की कमी को पूरा करने के लिए योगी सरकार ने अप्रैल 2020 में इस पर रोक लगाई थी।
गौरतलब है कि कुछ समय पहले ही केंद्र सरकार ने भी केंद्रीय कर्मचारियों का महंगाई भत्ता बढ़ा कर 28 प्रतिशत कर दिया था। जिसके बाद बिहार सरकार ने भी महंगाई भत्ते में बढ़ाेतरी की थी। इसी तर्ज पर अब योगी सरकार ने भी महंगाई भत्ते को बढ़ा दिया है।

सरकार ने बच्चा गोद लेने के नियमों में प्रावधान जोड़ा

अकांशु उपाध्याय              
नई दिल्ली। सरकार ने बच्चा गोद लेने के नियमों में नया प्रावधान जोड़ा है। जिसके तहत बच्चा गोद लेने के दो साल के भीतर विदेश जाने के इच्छुक अभिभावकों को अपने आने-जाने के संबंध में पूरी सूचना कम से कम दो सप्ताह पहले भारतीय राजनयिक मिशन को उपलब्ध करानी होगी. महिला और बाल विकास मंत्रालय की गजट में प्रकाशित अधिसूचना के अनुसार, अभिभावकों को यह सूचना लिखित में देनी होगी और साथ में अपना पूरा संपर्क विवरण भी देना होगा।
अधिसूचना में कहा गया है कि अभिभावक के साथ बच्चा जिस देश में जा रहा है। वहां स्थित भारतीय राजनयिक मिशन की जिम्मेदारी होगी कि वह दत्तक ग्रहण विनिमन नियमा, 2017 के तहत बच्चे के संबंध में सभी जिम्मेदारियों का निर्वहन करे।
दत्तक ग्रहण (प्रथम संसोधन) विनियमन, 2021 में कहा गया है। संशोधन को किशोर न्याय (देखभाल और बाल संरक्षण) कानून, 2015 के तहत अधिसूचित कर दिया गया है। इससे पहले नियम के तहत ऐसा कोई प्रावधान नहीं था जिसमें अभिभावकों को मिशन को सूचित करना पड़े। अधिसूचना के अनुसार, ‘‘दत्तक ग्रहण विनियमन, 2017, की नियम संख्या 40 के उपनियम (7) के बाद निम्न उपनियम (सूचना देने संबंधी) को जोड़ा जाए।
नये उप-नियम 7ए में कहा गया है कि बच्चा गोद लेने वाले अभिभावक अगर गोद लेने के दो साल के भीतर बच्चे के साथ विदेश जाना चाहते हैं तो उन्हें वहां स्थानीय भारतीय राजनयिक मिशन को वहां पहुंचने और वहां से रवानगी के संबंध में लिखित में कम से कम दो सप्ताह पहले सूचना देनी होगी, सूचना में उन्हें अपना पूरा नाम, नयी जगह का पता, फोन नंबर आदि देना होगा। यह स्थानीय भारतीय मिशन की जिम्मेदारी होगी कि वह गोद लिए हुए बच्चे के संबंध में दत्तक ग्रहण विनियमन, 2017 की सभी जिम्मेदारियों को निभाए।

सलमान को एयरपोर्ट पर रोकने वाले को सजा नहीं

कविता गर्ग                 
मुबंई। सलमान खान को एयरपोर्ट पर रोकने वाले सीआईएसएफ अफसर को सजा नहीं, बल्कि इनाम दिया गया है। ये जानकारी खुद सीआईएसएफ (सेंट्रल इंडस्ट्रियल सिक्योरिटी फोर्सेज) के हैंडल से ट्वीट की गई है। रिपोर्ट्स थीं कि सीआईएसएफ इंस्पेक्टर का फोन जब्त कर लिया गया है और उन्हें मीडिया से बात न करने की हिदायत दी गई हैं। ये रिपोर्ट्स वायरल होने पर सीआईएसएफ ने ट्वीट करके बताया है कि ये खबरें गलत हैं।
सलमान खान 19 अगस्त की शाम 'टाइगर 3' की शूटिंग के लिए रूस के लिए रवाना हुए हैं। एयरपोर्ट से उनकी कई तस्वीरें और वीडियोज वायरल हुए थे। वीडियो में सबका ध्यान एक सीआईएसएफ अफसर ने खींचा था, जिसने सलमान को चेकिंग पॉइंट पर रोक लिया था। पपराजी के सोशल मीडिया पर वीडियो आने के बाद लोगों ने उस अफसर की काफी तारीफ की थी। कई लोगों ने उनके हैंडसम होने तो कुछ ने उनके ड्यूटी निभाने को सराहा था।
बीते दिनों रिपोर्ट्स थीं कि अफसर ने किसी मीडिया हाउस को इंटरव्यू दिया था जिसे प्रोटोकॉल का उल्लंघन बताकर उनका मोबाइल जब्त कर लिया गया था। रिपोर्ट्स में यह भी बताया गया था कि उन्हें दोबारा ऐसा न करने की हिदायत दी गई है। ये खबरें वायरल होने के बाद सीआईएसएफ ने ट्वीट किया है। ट्वीट में लिखा है, इस ट्वीट का कॉन्टेंट सही नहीं है और निराधार है। सच तो ये है कि संबंधित अफसर को उनकी ड्यूटी के प्रति प्रोफेशनलिजम को देखते हुए इनाम दिया गया है।

गिरफ्तार हुए केंद्रीय मंत्री नारायण को जमानत मिलीं

कविता गर्ग               
मुबंई। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के खिलाफ दिए अपने बयान के बाद मंगलवार को गिरफ्तार हुए केंद्रीय मंत्री नारायण राणे को आखिरकार देर रात जमानत मिल गई। रायगढ़ जिले के महाड मजिस्ट्रेट कोर्ट ने नारायण राणे को उद्धव ठाकरे के खिलाफ दिए अपने बयान के सिलसिले में बेल दे दी। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री रह चुके राणे की गिरफ्तारी को गलत बताते हुए बीजेपी ने इसे संविधान का उल्लंघन बताया है और महाराष्ट्र की सरकार को निशाने पर लिया है। नासिक पुलिस ने केंद्रीय मंत्री नारायण राणे को उनके खिलाफ दर्ज एफआईआर के सिलसिले में नोटिस भेजकर 2 सितंबर को थाने में पेश होने को कहा।

1 बड़े साइबर ठग को एसटीएफ ने गिरफ्तार किया

पंकज कपूर                     
देहरादून। उत्तराखंड एसटीएफ के हाथ बड़ी सफलता लगी है। एक बड़े साइबर ठग को एसटीएफ ने गिरफ्तार कर लिया। असोम में पाया जाने वाला गोल्डन रिटरेविर नस्ल का कुत्ता बेचने के नाम पर दून की महिला से 66 लाख रुपये की ठगी की थी। एसटीएफ टीम ने बेंगलुरु सें सेंट्रल अफ्रीका का अंतरराष्ट्रीय साइबर क्रिमिनल रिपब्लिक आफ कैमरुन निवासी डिंगबोबगा क्लोवेस उर्फ बाबी इब्राहिम को गिरफ्तार किया है।
मंगलवार को एसटीएफ की टीम उसे ट्रांजिट रिमांड पर देहरादून लेकर आई। वह भारत में कब से रह रहा है और अब तक ठगी की कितनी घटनाओं को अंजाम दे चुका है, उससे पूछताछ की जा रही है। जानकारी देते हुए डीआइजी एसटीएफ नीलेश आनंद भरणे ने बताया कि विगत 12 जुलाई को दून के मोथरोवाला में रहने वाली चिकित्सक आरती रावत ने धोखाधड़ी की शिकायत की थी। 20 जून 2021 को उन्होंने बेटी के जन्मदिन पर कुत्ते का बच्चा मंगवाने के लिए जस्ट डायल पर संपर्क किया। उसे एक व्यक्ति का नंबर मिला, जिसने गोल्डन रिटरेविर नस्ल के कुत्ते के बच्चे की कीमत 15 हजार रुपये बताई।
इसके बाद कुत्ते के बच्चे की डिलीवरी के लिए महिला से प्रोसेसिंग, सिक्योरिटी, शिपिंग, क्वारंटाइन आदि की फीस के नाम पर 22 जून से एक जुलाई तक 66 लाख 39 हजार 600 रुपये विभिन्न बैंकों के खातों में जमा करा लिए। जब एसटीएफ ने इसकी जांच की तो पता चला कि त्रिपुरा और महाराष्ट्र की विभिन्न बैंक शाखाओं ये पैसे जमा किये गये हैं। ठगी की रूपये बेंगलुरु में एटीएम के माध्यम से निकाली गई।
एसटीएफ की एक टीम बेंगलुरु में से गिरफ्तार किया गया। उसके पास चार मोबाइल फोन, एक लैपटाप, पांच कंपनियों के सिम कार्ड, तीन एटीएम कार्ड और 36 हजार रुपये बरामद किए गए हैं। बैंक के खातों में 13 लाख रुपये की धनराशि फ्रीज करा दी गई है। बाकी रकम आरोपी विदेश भेज चुका है।

भारत: कोरोना मृतकों की संख्या में फिर से वृद्धि हुईं

अकांशु उपाध्याय                           
नई दिल्ली। देश में पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोना वायरस (कोविड-19) महामारी के नये मामलों और मृतकों की संख्या में फिर से वृद्धि हुई है। जबकि राहत की बात यह है कि 34 हजार से अधिक मरीज स्वस्थ हुए हैं। देश में मंगलवार को 61 लाख 90 हजार 930 लोगों को कोरोना के टीके लगाये गये तथा अब तक 59 करोड़ 55 लाख 04 हजार 593 लोगों का टीकाकरण किया जा चुका है।
देश में मंगलवार को 17,92,755 लोगों की कोरोना जांच की गयी जिसके साथ ही अब तक हुए कुल जांच की संख्या बढ़कर 51 करोड़ 11 लाख 84 हजार 547 हो गयी है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से बुधवार की सुबह जारी आंकड़ों के अनुसार पिछले 24 घंटों में कोरोना के 37,593 नये मामले सामने आने के साथ ही संक्रमितों का आंकड़ा बढ़कर तीन करोड़ 25 लाख 12 हजार 366 हो गया है।
स दौरान 34 हजार 169 मरीजों के स्वस्थ होने के बाद इस महामारी को मात देने वालों की कुल संख्या बढ़कर तीन करोड़ 17 लाख 54 हजार 281 हो गयी है। इसी अवधि में सक्रिय मामले 2,776 बढ़कर तीन लाख 22 हजार 327 पहुंच गये हैं। इस दौरान 648 और मरीजों की मौत होने से मृतकों का आंकड़ा 4,35,758 पहुंच गया है। इससे पहले मंगलवार को केवल 354 मरीजों की मौत हुयी थी।
देश में सक्रिय मामलों की दर फिर से बढ़ कर 0.99 फीसदी पहुंच गयी जबकि रिकवरी दर घट कर 97.67 फीसदी और मृत्यु दर 1.34 फीसदी है। महाराष्ट्र में पिछले 24 घंटों के दौरान सक्रिय मामले 173 घटकर 53,260 रह गये हैं। इसी दौरान राज्य में 4,240 मरीजों के स्वस्थ हाेने के बाद कोरोना मुक्त होने वालों की तादाद बढ़कर 62,43,034 हो गयी है, जबकि 288 मरीजों की मौत होने से मृतकों का आंकड़ा बढ़कर 1,36,355 हो गया है।

अफगान से शरणार्थियों का समूह मैक्सिको पहुंचा

काबूल। अफगानिस्तान से शरणार्थियों का पहला समूह मैक्सिको पहुंच गया है। इस समूह में पांच महिलाएं और एक पुरुष शामिल है। मैक्सिको के विदेश मंत्री मार्सेलो एब्रार्ड ने मंगलवार को इनका स्वागत करते हुए कहा, ” अपने घर में आपका स्वागत है।” करीब छह देशों की यात्रा करके मैक्सिको पहुंची इन महिलाओं ने रोबोटिक्स प्रतियोगिता में हिस्सा लिया था। तालिबान के इस माह अफगानिस्तान पर कब्जा करने के बाद ये तनावग्रस्त देश से भाग निकली थीं। तालिबान एक निश्चित उम्र के बाद काम करने वाली या स्कूल जाने वाली महिलाओं का विरोध करता है। एब्रार्ड ने कहा, ” जो भी कानूनी दर्जा वे सबसे अच्छा मानते हैं” मैक्सिको उन्हें प्रदान करेगा। समूह के एक सदस्य ने मैक्सिको का धन्यवाद करते हुए कहा कि उसने उनकी जान बचा ली।

ग्रामीण डाक सेवकों के पदों के लिए आवेदन मांगे

पंकज कपूर    

देहरादून। नौकरी का इंतजार कर रहे युवाओं के लिए एक और अच्छी खबर है कि डाक विभाग द्वारा ग्रामीण डाक सेवकों के पदों के लिए आवेदन मांगे गए हैं। डाक विभाग द्वारा उत्तराखंड में 581 पदों पर नियुक्ति की जानी है। जिसमें कुमाऊं में 288 पदों पर तैनाती होगी। सभी इच्छुक अभ्यर्थी 22 सितंबर तक हर हाल में अपना ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

डाक विभाग ने ग्रामीण डाक सेवकों के लिए आवेदन मांगे हैं। डाक विभाग उत्तराखंड में 581 पदों पर नियुक्ति की जानी है। जिसमें कुमाऊं में 288 पदों पर तैनाती होगी है। अभ्यर्थी डाक विभाग की वेबसाइट यामाध्यम से आवेदन कर सकते हैं। तैनाती शाखा पोस्टमास्टर और सहायक शाखा पोस्टमास्टर के रूप में की जानी है। अभ्यर्थियों का चयन मेरिट के आधार पर होगी अभ्यर्थी को हाईस्कूल पास होना आवश्यक है। आवेदन की अंतिम तिथि 22 सितंबर तक है। सफल अभ्यर्थियों के चयन के बाद उन्हें ऑनलाइन ही नियुक्ति पत्र दिए जाएंगे। अभ्यर्थियों को आरक्षण का लाभ मिलेगा।

200 से अधिक अंक के उच्चस्तर पर पहुंचा सेंसेक्स

कविता गर्ग                     
मुंबई। एचडीएफसी, रिलायंस इंडस्ट्रीज तथा आईसीआईसीआई बैंक के शेयरों में बढ़त से बुधवार को शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स 200 से अधिक अंक के लाभ से अपने नए सर्वकालिक उच्चस्तर पर पहुंच गया। 
शुरुआती कारोबार में 56,188.49 के अपने सर्वकालिक उच्चस्तर को छूने के बाद सेंसेक्स 211.23 अंक या 0.38 प्रतिशत के लाभ के साथ 56,170.21 अंक पर कारोबार कर रहा था। इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 67.75 अंक या 0.41 प्रतिशत की बढ़त के साथ 16,692.35 अंक पर पहुंच गया।
सेंसेक्स की कंपनियों में टाटा स्टील का शेयर सबसे अधिक एक प्रतिशत चढ़ गया। एनटीपीसी, एलएंडटी, एचडीएफसी, नेस्ले इंडिया, आईसीआईसीआई बैंक और बजाज फिनसर्व के शेयर भी लाभ में थे। वहीं दूसरी ओर टाइटन, टेक महिंद्रा, एचसीएल टेक, एशियन पेंट्स और डॉ. रेड्डीज के शेयर नुकसान में थे।
पिछले कारोबारी सत्र में सेंसेक्स 403.19 अंक या 0.73 प्रतिशत की बढ़त के साथ 55,958.98 अंक के अपने सर्वकालिक उच्चस्तर पर बंद हुआ था। इसी तरह निफ्टी 128.15 अंक या 0.78 प्रतिशत के लाभ से 16,624.60 अंक के अपने नए रिकॉर्ड पर बंद हुआ था।

31 तक अभियान समाप्त करने की गति पर अमेरिका

वाशिंगटन डीसी। अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने कहा कि अगर तालिबान उसके ऑपरेशन को बाधित नहीं करता है तो अमेरिका अगस्त के अंत तक अफगानिस्तान से अपना वापसी मिशन को पूरा कर पाएगा। बाइडेन ने मंगलवार को व्हाइट हाउस में टिप्पणी के दौरान कहा,“हम वर्तमान में 31 अगस्त तक वापसी अभियान समाप्त करने की गति पर हैं।
लेकिन 31 अगस्त तक पूरा होना तालिबान द्वारा सहयोग जारी रखने और उन लोगों के लिए हवाई अड्डे तक पहुंच की अनुमति पर निर्भर करता है। जो बाहर जा रहे हैं और हमारे कार्यों में कोई व्यवधान नहीं हो।”
बाइडेन ने कहा कि पिछले 12 घंटों में 5,600 सैनिकों के साथ 6,400 लोगों और 31 गठबंधन विमानों ने काबुल से उड़ान भरी। उन्होंने कहा कि 14 अगस्त तक, अमेरिका ने काबुल से 70,700 लोगों को निकालने में मदद की है। बाइडेन ने कहा कि उन्होंने विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन को बुधवार को उन अमेरिकियों की संख्या के बारे में अपडेट देने का निर्देश दिया जो अभी भी अफगानिस्तान में हैं। बाइडेन ने यह भी आशंका व्यक्त की कि काबुल हवाई अड्डे पर अमेरिका और संबद्ध बलों को इस्लामिक स्टेट आतंकवादी समूह के संभावित हमले का खतरा है। 
इसके अलावा बाइडेन ने कहा कि काबुल हवाई अड्डे पर वापसी अभियान के लंबे समय तक चलने पर टूटने का गंभीर खतरा है। उन्होंने उस गोलाबारी का उल्लेख किया। जो इस सप्ताह की शुरुआत में हुई थी। जब हवाई अड्डे पर एक हथियारबंद व्यक्ति ने एक अफगान सुरक्षा अधिकारी की हत्या कर दी थी और तीन अन्य को घायल कर दिया था।
गत 15 अगस्त को तालिबान आतंकवादियों द्वारा काबुल के अधिग्रहण के बाद से विदेशी नागरिकों, राजनयिक मिशनों और अफगान नागरिकों की अफगानिस्तान से निकासी चल रही है और इसके कारण हवाईअड्डे में अशांति व्याप्त है। जहां निकासी उड़ानें संचालित हो रही हैं।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

1. अंक-375 (साल-02)
2. ब्रहस्पतिवार, अगस्त 26, 2021
3. शक-1984,सावन, शुक्ल-पक्ष, तिथि-नवमीं, विक्रमी सवंत-2078।
4. सूर्योदय प्रातः 05:44, सूर्यास्त 07:10।
5. न्‍यूनतम तापमान -22 डी.सै., अधिकतम-37+ डी.सै.। बरसात की संभावना बनी रहेंगी।
6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110
http://www.universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745  
                     (सर्वाधिकार सुरक्षित)

सैन्य गठजोड़ ने क्षेत्र पर सवालों को जन्म दिया

बीजिंग/ वाशिंगटन डीसी। चीन के खिलाफ अमेरिका, ब्रिटेन और ऑस्ट्रेलिया के नए सैन्य गठजोड़ ने प्रशांत महासागर क्षेत्र को लेकर ने सवालों को जन्म ...