मंगलवार, 5 अक्तूबर 2021

फाइटरों ने 60 बार ताइवान की सीमा क्रास की

बीजिंग/ ताइपे। ताइवान को लेकर चीन अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। अफगानिस्‍तान में अमेरिकी सैनिकों की वापसी के बाद चीनी वायु सेना के लड़ाकू फाइटरों ने 60 बार ताइवान की सीमा क्रास किया है। ताइवान सीमा पर चीन अपनी शक्ति का लगातार प्रदर्शन कर रहा है। उधर, ताइवान ने भी चीन से निपटने के लिए अपनी मिसाइलों का मुंह चीन की ओर मोड़ दिया है। ताइवान को अमेरिका का पूरी तरह से समर्थन हासिल है। आइए जानते हैं कि चीन से निपटने की क्‍या है ताइवान की सैन्‍य योजना। अमेरिका का कौन सा कानून ताइवान की सुरक्षा का बड़ा कवच है। चीन अपने किस कानून के तहत ताइवान को धौंस दिखाता है।

अमेरिका में अलग-अलग राष्‍ट्रपति के कार्यकाल में ताइवान की नीति भिन्‍न रही है। ताइवान को लेकर अमेरिका नीति एक जैसी नहीं रही है। 1979 में तत्‍कालीन राष्‍ट्रपति जिमी कार्टर ने चीन के साथ कूटनीतिक संबंध स्‍थाप‍ित करने के लिए ताइवान के साथ आधिकारिक संबंध समाप्‍त कर लिए थे। उस वक्‍त अमेरिकी कांग्रेस ने ताइवान र‍िलेशंस एक्‍ट पारित किया था। यह कानून इस बात की इजाजत देता था कि अमेरिका ताइवान को रक्षात्‍मक हथ‍ियारों की बिक्री कर सकता था। ताइवान को लेकर अमेरिकी की नीति में एक तरह की रणनीतिक अस्‍पष्‍टता दिखाई देती रही है।

प्रबंधन के बारे में जानकारी देते हुए प्रशिक्षण दिया

कौशाम्बी। बालिकाओं को मुख्यमंत्री स्कूल सुरक्षा कार्यक्रम के अंतर्गत आपदा प्रबंधन के बारे में जानकारी देते हुए प्रशिक्षण दिया गया। कार्यक्रम में डॉ वंदना सिंह के द्वारा बालिका में मॉक ड्रिल करते हुए प्रशिक्षित किया गया। साथ ही साथ हाथ धुलने की सही विधि का अभ्यास करते हुए नारी सशक्तिकरण अभियान के बारे में जानकारी दी गई और बालिकाओं का स्वास्थ्य परीक्षण करके औषधियों का वितरण किया गया।
इस कार्यक्रम में सहयोग हेतु कार्यदाई संस्था टाइम्स सेंटर फॉर लर्निंग लिमिटेड लखनऊ से संबंधित जिला समन्वयक नमन कुमार पांडे और प्रशिक्षक दीपक त्रिपाठी के साथ डॉ आसिफ ,डॉ गौरव कुमार, सीमा देवी एवं राजकीय बालिका इंटर कॉलेज की प्रधानाचार्य डॉ अनामिका विद्यार्थी व विद्यालय की शिक्षिकाएं मौजूद थी।
धर्मेंद्र सोनकर         

गिरफ्तारी: सुभाष चौक पर इकट्ठा होंगे सभी कांग्रेसी

भानु प्रताप उपाध्याय        
शामली। सीतापुर मे कांंग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी की गिरफ्तारी को लेकर जनपद के कांंग्रेसी गिरफ्तारी देंंगे। लखीमपुर मे बीजेपी नेताओं द्वारा किये गये नरसंहार से आहत श्रीमती प्रियंका गांधी मृतकों के परिवार से सवेंदना व्यक्त करने लखीमपुर जाना चाहती थी। लेकिन भाजपा की तानाशाही सरकार द्वारा उन्हें जबबरन बंधक बनाकर सीतापुर में रोक लिया गया। कांंग्रेस जिलाध्यक्ष दीपक सैनी ने बताया कि 6 अक्टूबर को जिले के सभी कांंग्रेसी सुभाष चौक पर इकट्ठा होंगे और अपनी गिरफ्तारी देकर विरोध दर्ज करायेंगे। पीएम मोदी बेटी बचाओ, बेटी पढाओ की वकालत करते हैं तो क्या प्रियंका गांधी देश की बेटी नही है। 
किसी के दुख दर्द को साझा करना क्या गुनाह है ? कोरोना काल मे जब हजारों लोग पैदल अपने घरों को वापिस लौट रहे थे। तब भी प्रियंका गांधी के हृदय में पीडा थी और उन्हें अपने प्रयासों से सकुशल घर भिजवाने कार्य किया। बीजेपी को किसानों का दर्द दिखाई नहीं देता है। बेबस भाजपा को सत्ता से प्रेम है। किसान अपने हक के लिए सडकों पर पडे हुए हैं और बीजेपी के नैता अपने वातानुकूलित दफतरों मे बैठकर तमाशा देखने का काम कर रहे हैं। देश का अन्नदाता कडी धूंप मे मेहनत करके सभी वर्गों के लिए अन्न उगाता है और उसी अन्न को सत्ता मे बैठे हुए लोग अपना पेट भरते हैं। पीएम मोदी ने सबसे ज्यादा अपमानित करने का काम किसानों को किया है। कांंग्रेस नेता अशवनी शर्मा सींगरा ने कहा कि देश मे किसानों की दुर्दशा किसी से छुपी नहीं है। किसान देश की आत्मा है। देश की उन्नति का रास्ता खेत खलिहान से होकर गुजरता है। अन्नदाता के साथ एसा अन्याय किसी दूसरी सरकार मे नही हुआ। मोदीजी ने देश की खुशहाली को अडानी और अंबानी के यहां गिरवी रख दिया है। लोग बेरोजगारी के कारण बर्बादी की कगार पर है और प्रधानमंत्री जी पकोड़े तलकर जीवन चलाने की पैरवी करते हैं। आज अपने हीदेश मे गुलामी जैसे हालात हो गए हैं। लखीमपुर मे हुई किसानों की हत्या एवं प्रियंका गांधी जी की गिरफ्तारी के विरोध में गिरफ्तारी देने का काम काँग्रेस के कार्यकर्ता करेंगे।

राजनीति: भाजपा ने हिंदू को मुसलमान से लड़वाया

अविनाश श्रीवास्तव       
पटना। राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव ने मंगलवार को भाजपा पर तीखा हमला बोला। लालू ने भाजपा की तुलना खून का स्वाद चख लेने वाले जीव से करते हुए कहा कि भाजपा ने हिंदू को मुसलमान से लड़वाया है। कुछ महीने पहले जेल से छूटने के बाद से दिल्ली में मौजूद लालू प्रसाद ने यहां वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए भाजपा शासित उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी जिले में हुई घटनाओं की भी कड़ी निंदा की। लालू ने विपक्ष में एकता की कमी पर अफसोस जताते हुए कहा कि अगर सभी दल एकजुट होते हैं तो भाजपा को हराया जा सकता है। 
चारा घोटाले में अपने खिलाफ दायर आरोपपत्र के कारण 1997 में बिहार के मुख्यमंत्री के रूप में पद छोड़ने वाले प्रसाद ने नीतीश कुमार सरकार के जल्दी गिरने की भी भविष्यवाणी की जो पिछले साल विधानसभा चुनावों में सत्ता में लौटी थी। 
मुखर ओबीसी नेता और मंडल समर्थक राजनीति के प्रतीक लालू ने केंद्र द्वारा सुप्रीम कोर्ट में जाति आधारित सामाजिक गणना नहीं कराने संबंधी जवाब को लेकर भी नाराजगी जताई है। उन्होंने कहा कि एक बैठक के दौरान पीएम मोदी ने ऐसी गणना कराने का संकेत दिया था, इस बैठक में बिहार से सर्वदलीय प्रतिनिधिमंडल शामिल था जिसकी उनके बेटे और उत्तराधिकारी तेजस्वी यादव भी शामिल थे। 
उन्होंने दावा किया कि भाजपा ने अपने लिए मुश्किलें खड़ी की हैं। साथ ही घोषणा की कि हम लड़ेंगे और जाति आधारित जनगणना सुनिश्चित कराएंगे ताकि विभिन्न जातियों की आबादी को ध्यान में रखते हुए नीतियां बनाई जाएं। 
लालू लोगों के सामने इस कारण से भी आए कि हाल ही में उनके बड़े बेटे तेजप्रताप ने आरोप लगाया था कि कुछ लोगों ने उनके पिता को दिल्ली में बंधक बना लिया है। उनका सीधा निशाना छोटे भाई तेजस्वी यादव पर था जिन्हें लालू ने अपना उत्तराधिकारी घोषित किया है। 
लालू ने पटना में तेजस्वी के साथ जुटी भीड़ से कहा कि मैं जल्द ही बिहार आऊंगा। मैं हर रोज अपने डॉक्टर से पूछता हूं कि मैं कब जा सकूंगा। मुझे किडनी की बीमारी है और हर रोज मात्र एक लीटर पानी ही पीना पड़ता है। लेकिन मेरी तबीयत में सुधार हो रहा है और उम्मीद है कि मैं जल्द आपके साथ दिखूंगा।

देवेंद्र को वापस कांधला का चार्ज देने की मांग की

भानु प्रताप उपाध्याय      
शामली। जिलाधिकारी द्वारा भू माफिया के दबाव में उप जिलाधिकारी से कांधला नगर पालिका का चार्ज लेने पर कांधला कैराना के लोगों ने शामली तहसील में प्रदर्शन करते हुए उनको वापस नगरपालिका कांधला का चार्ज देने की मांग की।
देवेंद्र सिंह उप जिलाधिकारी पर कांधला नगर पालिका का अतिरिक्त चार्ज था। अपनी कार्यशैली से नगरपालिका संबंधित आम नागरिकों की समस्या को सुनकर उक्त समस्या का समाधान कर आम नागरिकों के दिलों में जगह बनाली थी। श्री देवेंद्र सिंह एसडीम कांधला नगर पालिका की भू माफियाओं द्वारा सरकारी जमीन पर अवैध कब्जा कर रखा था। वे उक्त जमीनों को भू माफियाओं के चुंगल से कब्जा मुक्त करा रहे थेःः जिससे भू माफियाओं में हड़कंप मचा हुआ था। जिलाधिकारी महोदया ने भू माफिया के दबाव में श्री देवेंद्र कुमार एसडीएम से नगरपालिका का चार्ज वापस ले लिया जिससे वहां के नागरिकों में आक्रोश फैल गया और घनश्याम परचा जिला उपाध्यक्ष बीजेपी व नरेश सैनी पूर्व जिला उपाध्यक्ष बीजेपी के नेतृत्व में सैकड़ों लोगों ने शामली तहसील पर पहुंचकर जमकर प्रदर्शन करते हुए दोबारा देवेंद्र कुमार एसडीएम को  नगरपालिका कांधला का चार्ज देने की मांग जिलाधिकारी से की।
प्रदर्शनकारियों में रूपेश कुमार प्रजापति, रिककी रावत, प्रवीण कुमार, किरण पाल सिंह, कुलदीप सैनी, लीला, डॉ नसीम राजेंद्र सिंह, कंवरपाल सिंह, योगेंद्र शर्मा, गोविंदा सिंह, डॉ सुभाष मलिक आदि व्यक्ति मौजूद थे।

पूर्वक पूर्ण होने पर किया समारोह का आयोजन

भानु प्रताप उपाध्याय          
मुज़फ्फरनगर। मानव सेवा पर कार्य कर रही अखिल भारतीय विश्वकर्मा युवा शक्ति दल ट्र्स्ट द्वारा संस्था को दो वर्ष सफलता पूर्वक पूर्ण होने पर किया सम्मान समारोह का आयोजन। इंद्रा कालोनी स्थित श्री विश्वकर्मा मंदिर धर्मशाला में आयोजित अखिल भारतीय विश्वकर्मा युवा शक्ति दल ट्र्स्ट द्वारा आयोजित सम्मान समारोह की अध्यक्षता कैलाश चन्द धीमान व संचालन संजय धीमान ने किया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सरदार बलजीत सिंह डीपीएम स्वच्छ भारत मिशन मुज़फ्फरनगर व विशिष्ठ अतिथि सरदार बलविंदर सिंह सल एवम ओमप्रकाश धीमान समाजसेवी रहे। कार्यक्रम में ट्र्स्ट के राष्ट्रीय अध्यक्ष संजय धीमान ने संस्था द्वारा किये गए जनहित व पशु, पक्षियों,बेसहारा जानवरो के प्रति जनमानस व संस्था के सहयोग से किये गए कार्य की विस्तृत जानकारी देकर संस्था द्वारा संस्था के सदस्यों/पदाधिकारियो जिन्होंने कोरोना वैश्विक महामारी में अपनी व परिवार की जान की परवाह किये बगैर कोई भी भूखा न सोये को भोजन व बेसहारा पशुओ को हरा चारा पक्षियों के लिए दाना पानी एवम जनपद व देहात में बड़ी संख्या में मास्क व टोपी अपने संस्थान के नीलम बुटीक के सहयोग से निःशुल्क वितरण कर जनमानस की जान की सुरक्षा कर बड़ी जिम्मेदार भारतीय नागरिक होने की जिम्मेदारी निभाई उनको सम्मान पत्र देकर व फूल माला पहनाकर सम्मानित किया गया। वही संस्था के सम्मान समारोह के मुख्य अतिथि,विशिष्ठ अतिथियों का बैज लगाकर फूल माला व शॉल ओढ़ाकर सम्मान पत्र देते हुए संस्था द्वारा सम्मानित करते हुए सभी के उज्ज्वल भविष्य की कामना की। कार्यक्रम में मुख्य रूप से संजय धीमान,मंजू धीमान,गौरव धीमान,नीलम धीमान,सुमन धीमान ,राधा धीमान,सरदार बलजीत सिंह,सरदार बलजीत सिंह,ओमप्रकाश धीमान,संदीप धीमान,कैलाश धीमान,मोहित धीमान,वीरेंद्र धीमान,संदीप धीमान मास्टर,प्रदीप धीमान फोरमेन,सतवीर धीमान,अनोज धीमान,सत्यप्रकाश धीमान,नीटू धीमान,महेंद्र धीमान,गंगेश चौधरी,सुनील धीमान आदि बडी संख्या में गणमान्य साथी मौजूद रहे।

पुलिस के साथ धक्का-मुक्की कर निकला काफिला

अतुल त्यागी     
हापुड़। जयंत चौधरी का काफिला गढ़ पुलिस के साथ धक्का-मुक्की कर लखीमपुर खीरी के लिए निकल गया।
गढ़मुक्तेश्वर जनपद हापुड़ के पुराने तीर्थस्थल गढ़मुक्तेश्वर के अल्लाहबख्शपुर टोल प्लाजा पर राष्ट्रीय लोकदल कार्यकर्ताओं ने पुलिस को धकेल कर रालोद के अध्यक्ष जयंत चौधरी को लखीमपुर खीरी के लिए निकाल दिया।
बता दें कि लखीमपुर खीरी में हुए बवाल में मारे गए किसानों के प्रति संवेदना व्यक्त करने के लिए राष्ट्रीय लोकदल के अध्यक्ष जयंत चौधरी सोमवार को अपने काफिले के साथ लखीमपुर खीरी के लिए निकले थे। गढ़मुक्तेश्वर के टोल प्लाजा पर रालोद नेता के काफिले को रोकने के लिए भारी पुलिस बल को तैनात किया गया था। लेकिन रालोद के कार्यकर्ताओं ने काफिला को आगे बढ़ाने के लिए गढ़ पुलिस के साथ धक्का-मुक्की की। आखिर जयंत चौधरी का काफिला लखीमपुर खीरी की ओर निकल गया।

पीवी बालचंद्रन ने पार्टी को छोड़कर आरोप लगाया

तिरुवनंतपुरम। केरल के वायनाड में कांग्रेस को एक और झटका लगा जब जिला कांग्रेस कमेटी (डीसीसी) के पूर्व अध्यक्ष पीवी बालचंद्रन ने मंगलवार को पार्टी छोड़ दी और आरोप लगाया कि सबसे पुरानी पार्टी देश में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के उभार को रोकने में नाकाम रही है। वायनाड से कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी लोकसभा सदस्य हैं।
केरल प्रदेश कांग्रेस कमेटी (केपीसीसी) की कार्यकारी समिति के सदस्य बालचंद्रन ने पार्टी के साथ अपने 52 साल के लंबे संबंध को खत्म करते हुए कहा कि बहुसंख्यक और अल्पसंख्यक दोनों समुदाय कांग्रेस से दूर जा रहे हैं और लोग उस पार्टी के साथ खड़े नहीं होंगे जिसने अपनी दिशा खो दी है। उन्होंने कांग्रेस के राज्य नेतृत्व की कार्यशैली की भी आलोचना की और आरोप लगाया कि वे लोगों को प्रभावित करने वाले मुद्दों पर स्पष्ट राजनीतिक रुख अपनाने में सक्षम नहीं हैं।
संवाददाता सम्मेलन में बालचंद्रन ने कहा कि पार्टी छोड़ने का उनका फैसला इस अहसास पर आधारित है कि पार्टी अब कांग्रेस कार्यकर्ताओं की भावना के अनुरूप काम नहीं कर पाएगी। ‍वायनाड में कांग्रेस से कई नेताओं ने इस्तीफा दिया है और अब इनमें बालचंद्रन का नाम भी शुमार हो गया है।
पूर्व विधायक केसी रोसाकुट्टी, केपीसीसी सचिव एम एस विश्वनाथन और डीसीसी महासचिव अनिल कुमार ने इस साल अप्रैल में हुए विधानसभा चुनाव से पहले पार्टी छोड़ दी थी। बालचंद्रन का पार्टी छोड़ने का फैसला कांग्रेस के मौजूदा नेतृत्व के लिए एक झटका है, जो केपीसीसी प्रमुख के सुधाकरन और विधानसभा में विपक्ष के नेता वीडी सतीशन के कामकाज की शैली के विरोध में केपी अनिल कुमार और पीएस प्रशांत जैसे प्रमुख नेताओं के इस्तीफे से हिला हुआ है।

दंड प्रक्रिया संहिता के कई प्रावधानों का उल्लंघन

अकांशु उपाध्याय        
नई दिल्ली। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा को हिरासत में लिए जाने को गैरकानूनी कदम करार देते हुए मंगलवार को कहा कि तथ्यों से साबित होता है कि उत्तर प्रदेश में कानून का राज नहीं है और वहां मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का अपना कानून चल रहा है।
पूर्व गृह मंत्री ने एक बयान में कहा, ” कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा को हिरासत में लिए जाने से जुड़े तथ्य और हालात यह साबित करते हैं कि उत्तर प्रदेश में कानून का राज नहीं है। उन्हें हिरासत में लिया जाना और उनकी गिरफ्तारी पूरी तरह गैरकानूनी और सत्ता का दुरुपयोग है। चिदंबरम के मुताबिक, ”गिरफ्तार करने वाले पुलिस अधिकारी ने उन्हें (प्रियंका) बताया कि उनको दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 151 के तहत गिरफ्तार किया गया है। जबकि इस धारा के तहत गिरफ्तार किसी व्यक्ति को 24 घंटे से ज्यादा हिरासत में नहीं रखा जा सकता, जब तक कि न्यायिक मजिस्ट्रेट की ओर से कोई आदेश नहीं आया हो।”
उन्होंने दावा किया कि उनकी ‘गिरफ्तारी’ दंड प्रक्रिया संहिता के कई प्रावधानों का उल्लंघन है। कांग्रेस नेता ने कहा, ”किसी भी महिला को शाम के बाद और सूर्योदय से पहले गिरफ्तार नहीं किया जा सकता। जबकि प्रियंका गांधी को भोर में 4.30 बजे गिरफ्तार किया गया। उनको एक पुरुष अधिकारी ने गिरफ्तार किया, जो गैरकानूनी है।

पूर्व अध्यक्ष राहुल से मुलाकात करेंगे संजय राउत

अकांशु उपाध्याय        
नई दिल्ली। शिवसेना के वरिष्ठ नेता संजय राउत ने मंगलवार को कहा कि लखीमपुर खीरी की घटना के बाद विपक्षी दलों को एकजुट होकर कदम उठाने की जरूरत है और ऐसे में वह आज शाम कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात करेंगे। उन्होंने ट्वीट किया, ”लखीमपुर खीरी की घटना ने पूरे देश को झकझोर दिया है। प्रियंका गांधी को उप्र सरकार ने गिरफ्तार किया है। विपक्षी नेताओं को किसानों से मिलने से रोका जा रहा है। उत्तर प्रदेश में सरकार के दमन के खिलाफ विपक्ष को एकजुट होकर कदम उठाने की जरूरत है। राहुल गांधी से शाम 4.15 बजे मुलाकात करूंगा। जय हिंद।” लखीमपुर खीरी के तिकोनिया क्षेत्र में हुई हिंसा में चार किसानों समेत आठ लोगों की मौत के बाद वहां जाने के दौरान रास्ते में हिरासत में ली गईं कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा 30 घंटे बाद भी पुलिस अभिरक्षा में हैं। गौरतलब है कि लखीमपुर खीरी जिले के तिकोनिया क्षेत्र में रविवार को उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य द्वारा केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के पैतृक गांव के दौरे के विरोध को लेकर भड़की हिंसा में चार किसानों समेत आठ लोगों की मौत हो गई थी। इस मामले में मिश्रा के बेटे आशीष समेत कई लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।

याचिका पर एचसी ने ट्विटर से जवाब तलब किया

अकांशु उपाध्याय      
नई दिल्ली। राहुल गांधी के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने के लिए दायर याचिका पर मंगलवार को उच्च न्यायालय ने ट्विटर से जवाब तलब किया। गांधी ने कथित और पर मृतका और उसके माता पिता की एक तस्वीर सोशल मीडिया मंच पर साझा कर दी थी। 
मुख्य न्यायाधीश डी एन पटेल और न्यायमूर्ति ज्योति सिंह ने जनहित याचिका पर राहुल गांधी और दिल्ली पुलिस को नोटिस जारी करने से इनकार कर दिया और कहा कि वह केवल ट्विटर को नोटिस जारी कर रहे हैं। पीठ ने कहा, “हम स्पष्ट कर रहे हैं कि हम अन्य प्रतिवादियों को नोटिस जारी नहीं कर रहे हैं। हम केवल प्रतिवादी संख्या 4 (ट्विटर) को नोटिस जारी कर रहे हैं।”
इसके साथ ही पीठ ने मामले की सुनवाई के लिए अगली तारीख 30 नवंबर तय कर दी। ट्विटर की ओर से पेश हुए वरिष्ठ अधिवक्ता साजन पूवय्या ने अदालत को बताया कि गांधी का ट्विटर खाता निलंबित कर दिया गया था और जिस ट्वीट पर मामला दर्ज है उसे हटा दिया गया था क्योंकि उससे ट्विटर की नीति उल्लंघन होता था।
राहुल गांधी की ओर से वरिष्ठ अधिवक्ता आर एस चीमा और वकील तरन्नुम चीमा पेश हुए। सामाजिक कार्यकर्ता और याचिकाकर्ता मकरंद सुरेश महादेलकर ने याचिका में आरोप लगाया है कि मृतक बच्ची के साथ उसके माता पिता की तस्वीर पोस्ट कर गांधी ने नाबालिग न्याय (बच्चों की देखभाल और सुरक्षा) अधिनियम, 2015 तथा यौन अपराधों से बच्चों के संरक्षण अधिनियम (पॉक्सो) का उल्लंघन किया।

सपना चौधरी ने अपने बेटे के नाम का महत्व बताया

राणा ओबराय            
चंडीगढ। सपना चौधरी की पॉपुलरिटी ना केवल हरियाणा में बल्कि पूरे देशभर में हैं। उनका कोई भी गाना रिलीज होते ही हिट हो जाता है। प्रोफेशनल लाइफ में सपना कितनी भी बिंदास हों लेकिन पर्सनल लाइफ को वह बहुत प्राइवेट रखती हैं। 5 अक्टूबर को उनके बेटे का जन्मदिन है। इस खास मौके पर उन्होंने बेटे का नाम पहली बार सार्वजनिक रूप से बताया है। उन्होंने एक वीडियो पोस्ट किया और बताया कि नाम का क्या महत्व है।
सपना चौधरी ने जो वीडियो पोस्ट किया है। उसमें उनका बेटा बैठा हुआ है। उसके बैक साइड से वीडियो बनाया गया है जिससे उसका चेहरा नजर नहीं आ रहा। सपना का बेटा कभी जमीन पर बैठकर तो कभी गाय के पास खड़े होकर खेलता नजर आता है। एक जगह सपना बेटे को गोद में लिए दिखती हैं। साथ में उनके पति वीर साहू भी हैं।
सपना ने बताया कि उनके बेटे का नाम पोरस है। उन्होंने कैप्शन में लिखा- ‘मेरे और मेरे चाहने वालों की तरफ से जन्मदिन की शुभकामनाएं।
वीडियो के बैकग्राउंड में एक वाइस ओवर चलता है- “जब-जब कोई विशेष आत्मा इस धरती पर आई है, उसने खलबली मचाई है। मुझे यकीन है तू आम नहीं है, तू आम घर में है, पर तू आम नहीं है। दुनिया की नजरें बुरी हैं इसलिए सरेआम नहीं है। हम तो एक जरिया थे, तू इस माटी का लाल है। तू उस कौम का हिस्सा है जिसने तैमूर से लेकर सिकंदर तक को थामा है, इसलिए मैं तेरा नाम ‘पोरस’ रखता हूं, तेरे जन्मदिन पर पूरे जहान को बधाई है।

कार कंपनियों की तरफ से कई लुभावने ऑफर दिए

अकांशु उपाध्याय     
नई दिल्ली। फेस्टिवल सीजन में कार कंपनियों की तरफ से कई लुभावने ऑफर दिए जाते हैं। यही वजह है कि ज्यादातर लोग नवरात्रि से दीवाली के दौरान गाड़ी खरीदते हैं। लोगों के ऑफर वाली सोच का कई हैकर्स भी फायदा उठाने के लिए तैयार रहते हैं। इन दिनों वॉट्सऐप पर एक मैसेज तेजी से फॉरवर्ड हो रहा है। इसमें टाटा ग्रुप की तरफ से फ्री कार जीतने का मौका मिल रहा है। लोग इसी ऑफर के लालच में इस लिंक पर क्लिक और फॉरवर्ड कर रहे हैं।
ऐसा मैसेज आपको मिल चुका है, या हो सकता है कि आने वाले दिनों में मिल जाए, तो इस पर क्लिक करने की गलती न करें। ये मैसेज पूरी तरह से फेक है। टाटा ने ऐसा कोई ऑफर जारी नहीं किया है। खुद कंपनी इस बात को बता चुकी है। यदि आप इस लिंक पर क्लिक करते हैं तब आपको कई तरह से नुकसान हो सकता है। इसी नुकसान के बारे में हम आपको बता रहे है।
सबसे पहले जानते हैं टाटा ग्रुप की 150 एनीवर्सरी वाले वॉट्सऐप मैसेज में क्या कहा जा रहा है?
इस मैसेज में लिखा है, ‘टाटा ग्रुप। 150th एनीवर्सरी सेलिब्रेशन!! इवेंट में शामिल होने और कार जीतने के लिए लिंक पर क्लिक करें।’ मैसेज के साथ नीचे की तरफ एक लिंक को भी जोड़ा गया है।
जब हमने इस लिंक पर क्लिक किया, तो टाटा ग्रुप का एक पेज ओपन होता है। इस पर टाटा की पॉपुलर एसयूवी नेक्सन का फोटो लगा हुआ है। साथ ही लिखा है।
नीचे की तरफ स्क्रॉल करने पर यूजर से 4 सवाल पूछे जा रहे हैं। इनका जवाब देने के लिए आपको कुछ ऑप्शन भी मिल रहे हैं। ये 4 सवाल इस तरह है।

जलभराव को लेकर सबसे अधिक लापरवाही बरतीं

अकांशु उपाध्याय     
नई दिल्ली। स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट से पता चला है कि पाश इलाकों में रहने वाले लोग ही साफ सफाई और जलभराव को लेकर सबसे अधिक लापरवाही बरत रहे हैं। पक्षियों को पानी पिलाने के लिए घर के बाहर एवं छतों पर रखे जाने बर्तन में सबसे अधिक डेंगू का लार्वा मिल रहा है। कूलर और एसी में भी लार्वा मिल रहा है। मलिन बस्तियों और ग्रामीण क्षेत्रों में डेंगू के केस बहुत कम मिल रहे हैं।
शहर की पाश कालोनियों में डेंगू का कहर सबसे अधिक देखने को मिल रहा है। इनमें इंदिरापुरम, वैशाली, वसुंधरा, कौशांबी, राजनगर एक्सटेंशन, कविनगर, शास्त्रीनगर, गोविदपुरम मुख्य रूप से शामिल हैं।
डीएम राकेश कुमार सिंह ने सोमवार को बैठक के बाद 18 अक्टूबर से 17 नवंबर तक संचारी रोग नियंत्रण अभियान चलाए जाने के साथ ही 11 अक्टूबर तक माइक्रोप्लान बनाने के निर्देश दिए हैं। अब जिले के सभी सरकारी विभाग संयुक्त रूप से मिलकर डेंगू और मलेरिया की रोकथाम के लिए कार्य करेंगे।
सीएमओ डा. भवतोष शंखधर ने निर्देश जारी करते हुए तत्काल प्रभाव से स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों एवं कर्मचारियों के अवकाश पर रोक लगा दी गई है। सीएमओ का मानना है कि बीस नवंबर तक डेंगू से बचाव के लिए बेहत सतर्कता एवं सावधानी बरतनी होगी।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ भावतोष शंखधर का कहना है कि बीस नवंबर तक नागरिकों को सावधानी बरतनी होगी। मलेरिया और डेंगू से बचाव के लिए सतर्कता और सावधानी ही बेहतर उपाय है। घर में साफ पानी जमा न होने दें। सुबह-शाम मच्छरों से बचाव के लिए मच्छर मारने वाली दवाओं का छिड़काव जरूर करें। अब तक 393 केस मिले हैं। इनमें 25 बाहरी जिलों के मरीज शामिल हैं।
सोमवार को एक बच्चे और पांच महिलाओं समेत डेंगू के 12 नए मरीज मिले हैं। इनमें चार मरीज मुरादनगर में मिले हैं। गांव डिडौली में तीन और कन्नौजा गांव में एक मरीज मिला है। दो मरीज नीतिखंड़ इंदिरापुरम में मिले हैं। रिपोर्ट के अनुसार गोविदपुरम में अब तक पचास से अधिक मरीज मिल चुके हैं। मलेरिया विभाग की टीम को लोनी, राजनगर एक्सटेंशन, नेहरूनगर, गोविदपुरम, विजयनगर, नंदग्राम और इंदिरापुरम में 45 जगहों पर डेंगू का लार्वा मिला है। सभी को नोटिस दिए गए हैं।

यूपी: गाज़ियाबाद जिले में डेंगू के 393 मामलें मिलें

हरिओम उपाध्याय        
लखनऊ। उत्तर प्रदेश में इन दिनों डेंगू और मलेरिया जैसी बीमारियों का ज़ोर है। गाज़ियाबाद जिले में अब तक डेंगू के 393 केस मिल चुके हैं। जोकि पिछले 5 सालों में सबसे बड़ी संख्या है। अगर हम प्रदेश स्तर पर बात करें तो गाज़ियाबाद की गिनती टॉप 10 जिलों में हो रही है। प्रदेश सरकार द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार यूपी में पहले नंबर पर फिरोजाबाद, दूसरे पर मेरठ, तीसरे पर कन्नौज, चौथे पर मथुरा, पांचवे पर लखनऊ और छठे स्थान पर गाजियाबाद है। स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट से पता चला है कि पाश इलाकों में रहने वाले लोग ही साफ सफाई और जलभराव को लेकर सबसे अधिक लापरवाही बरत रहे हैं। पक्षियों को पानी पिलाने के लिए घर के बाहर एवं छतों पर रखे जाने बर्तन में सबसे अधिक डेंगू का लार्वा मिल रहा है। कूलर और एसी में भी लार्वा मिल रहा है। मलिन बस्तियों और ग्रामीण क्षेत्रों में डेंगू के केस बहुत कम मिल रहे हैं।
शहर की पाश कालोनियों में डेंगू का कहर सबसे अधिक देखने को मिल रहा है। इनमें इंदिरापुरम, वैशाली, वसुंधरा, कौशांबी, राजनगर एक्सटेंशन, कविनगर, शास्त्रीनगर, गोविदपुरम मुख्य रूप से शामिल हैं।
डीएम राकेश कुमार सिंह ने सोमवार को बैठक के बाद 18 अक्टूबर से 17 नवंबर तक संचारी रोग नियंत्रण अभियान चलाए जाने के साथ ही 11 अक्टूबर तक माइक्रोप्लान बनाने के निर्देश दिए हैं। अब जिले के सभी सरकारी विभाग संयुक्त रूप से मिलकर डेंगू और मलेरिया की रोकथाम के लिए कार्य करेंगे।
सीएमओ डा. भवतोष शंखधर ने निर्देश जारी करते हुए तत्काल प्रभाव से स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों एवं कर्मचारियों के अवकाश पर रोक लगा दी गई है। सीएमओ का मानना है कि बीस नवंबर तक डेंगू से बचाव के लिए बेहत सतर्कता एवं सावधानी बरतनी होगी। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ भावतोष शंखधर का कहना है कि बीस नवंबर तक नागरिकों को सावधानी बरतनी होगी। मलेरिया और डेंगू से बचाव के लिए सतर्कता और सावधानी ही बेहतर उपाय है। घर में साफ पानी जमा न होने दें। सुबह-शाम मच्छरों से बचाव के लिए मच्छर मारने वाली दवाओं का छिड़काव जरूर करें। अब तक 393 केस मिले हैं। इनमें 25 बाहरी जिलों के मरीज शामिल हैं।
सोमवार को एक बच्चे और पांच महिलाओं समेत डेंगू के 12 नए मरीज मिले हैं। इनमें चार मरीज मुरादनगर में मिले हैं। गांव डिडौली में तीन और कन्नौजा गांव में एक मरीज मिला है। दो मरीज नीतिखंड़ इंदिरापुरम में मिले हैं। रिपोर्ट के अनुसार गोविदपुरम में अब तक पचास से अधिक मरीज मिल चुके हैं। मलेरिया विभाग की टीम को लोनी, राजनगर एक्सटेंशन, नेहरूनगर, गोविदपुरम, विजयनगर, नंदग्राम और इंदिरापुरम में 45 जगहों पर डेंगू का लार्वा मिला है। सभी को नोटिस दिए गए हैं।

पुलिस ने सुरक्षा व्यवस्था के बारे में सुझाव दिए

अकांशु उपाध्याय        
नई दिल्ली। दिल्ली पुलिस ने मंगलवार को दिल्ली उच्च न्यायालय में कहा कि हाल में रोहिणी की एक अदालत में गोलीबारी से तीन लोगों के मारे जाने की घटना के बाद पुलिस ने अदालतों में सुरक्षा व्यवस्था के बारे में सुझाव दिए हैं। मुख्य न्यायाधीश डी एन पटेल और न्यायमूर्ति ज्योति सिंह की पीठ ने केंद्र सरकार, दिल्ली सरकार और विभिन्न बार एसोसिएशन समेत अन्य हितधारकों से भी सुझाव देने के लिए कहा है ताकि उन्हें आदेश में शामिल किया जा सके।
पीठ ने कहा, “अन्य सभी प्रतिवादियों को सुझावों पर एक रिपोर्ट या हलफनामा दायर करना होगा जिसे दिल्ली की अदालतों में पेश होने वाले वकीलों और अन्य लोगों की सुरक्षा के लिए दिए जाने वाले आदेश में शामिल किया जाएगा।” केंद्र और दिल्ली पुलिस की ओर से पेश हुए अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल चेतन शर्मा ने कहा कि पुलिस ने इस मामले में सुझाव सौंपे हैं। अदालत ने विभिन्न बार एसोसिएशन को भी ताजा नोटिस भेजे और उन्हें रिपोर्ट या हलफनामे पर अपने सुझाव देने का निर्देश दिया है।
इसके साथ ही अदालत ने इस मामले को 12 अक्टूबर के लिए सूचीबद्ध कर दिया। उच्च न्यायालय ने 24 सितंबर को रोहिणी की अदालत में हुई गोलीबारी के बाद राष्ट्रीय राजधानी में अदालतों की सुरक्षा के लिए 30 सितंबर को स्वत: ही कार्यवाही शुरू की थी। अदालत ने कहा था कि अदालतों में पर्याप्त संख्या में पुलिसकर्मियों की उचित और प्रभावी तरीके से तैनाती जरूरी है।

पुलिस ने अपनी स्थिति रिपोर्ट में कई सुझाव दिये हैं। इनमें अदालत में आधुनिक तकनीक का ज्यादा इस्तेमाल करने और नितांत आवश्यक होन की स्थिति में पक्षकारों की प्रत्यक्ष उपस्थिति सुनिश्चित करने का सुझाव भी शामिल है। पुलिस का यह भी सुझाव है कि अदालत परिसर में प्रवेश करने वाले वकीलों के पहचान पत्रों की जांच की जानी चाहिए और उचित तरीके से सुरक्षा जांच के बाद ही अधिकृत वाहनों को परिसर में प्रवेश की अनुमति दी जानी चाहिए।

25 अक्टूबर को होगी 2 फ्रेंचाइजियों की घोषणा

अकांशु उपाध्याय         
नई दिल्ली। पंजाब किंग्स के सह मालिक नेस वाडिया का मानना है कि दो नई इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) टीमों के लिए दो हजार करोड़ रुपये का आधार मूल्य सतर्कता बरतते हुए रखा गया है। जिसमें बोली के दौरान 50 से 100 प्रतिशत का इजाफा होना चाहिए। दो नई आईपीएल फ्रेंचाइजियों की घोषणा 25 अक्टूबर को होगी। जिससे आईपीएल 10 टीमों का टूर्नामेंट बनेगा।
वाडिया ने कहा कि दो नई टीमों के जुड़ने से आईपीएल के अलावा मौजूदा फ्रेंचाइजियों की कीमत में इजाफा होगा। वाडिया ने पीटीआई से कहा, ”फिलहाल न्यूनतम आधार मूल्य दो हजार करोड़ रुपये है, इसमें काफी अधिक हजाफा होगा। आईपीएल के अपने अनुभव और जानकारी के आधार पर बताऊ तो दो हजार करोड़ सतर्कता बरतते हुए रखा गया आंकड़ा है और अगर इसमें न्यूनतम 50 से 100 प्रतिशत का इजाफा होता है तो मुझे हैरानी नहीं होगी। मुझे कम से कम तीन हजार करोड़ रुपये से अधिक की उम्मीद है।
उन्होंने कहा, ”सभी आईपीएल का हिस्सा बनना चाहते हैं लेकिन कुछ ही लोग इसका हिस्सा बन सकते हैं।” यह पूछने पर कि क्या नई टीमों के शामिल होने से मौजूद टीमों को कोई चिंता है, वाडिया ने कहा, ”कोई चिंता नहीं है। यह अच्छा है कि दो नई टीमों को शामिल किया जा रहा है।
उन्होंने कहा, ”मेरा भी मानना है कि आईपीएल शीर्ष टूर्नामेंट है और इसमें सीमित संख्या में टीमें हैं, दो नई फ्रेंचाइजी के शामिल होने से सभी फ्रेंचाइजी की कीमत में इजाफा होगा। 10 टीमों के होने से आईपीएल में विस्तार होगा। ” वाडिया का मानना है कि नई टीमों के आने से आईपीएल मजबूत बनेगा। उन्होंने कहा, ”आईपीएल बीसीसीआई के ताज का रत्न है और इसलिए इस रत्न की सही कीमत होनी चाहिए। सिर्फ दो नई टीम हो सकती है इसलिए स्वत: ही मौजूदा फ्रेंचाइजी की कीमत में भी इजाफा होगा।

चारधाम यात्रा पर हाइकोर्ट ने सरकार को राहत दी

पंकज कपूर       
नैनीताल। चारधाम यात्रा को लेकर उत्तराखंड हाइकोर्ट ने सरकार को बड़ी राहत दी है। हाइकोर्ट ने चारधाम यात्रा के श्रद्धालुओं की संख्या बढ़ाए जाने के मामले को लेकर दायर याचिका पर मंगलवार को सुनवाई की। कोर्ट ने चारों धाम में प्रतिबंध के साथ यात्रियों की निर्धारित से अधिक के जाने व दर्शन करने पर लगी रोक को हटा दिया है। मामले की सुनवाई मुख्य न्यायाधीश आरएस चौहान और न्यायमूर्ति आलोक वर्मा की खंडपीठ में हुई। अब कोर्ट के आदेश के बाद श्रद्धालु बेरोकटोक चारधाम दर्शन के लिए जा सकेंगे। हालांकि कोर्ट ने साफ किया कि शासन को कोविड प्रोटोकॉल का अनुपालन सुनिश्चित कराना होगा। इधर कोर्ट के आदेश के बाद सरकार को बड़ी राहत मिली है। 
आपको बता दे कि हाइकोर्ट के आदेश के बाद सीमित संख्या में चारधाम यात्रा को शुरू किया गया था, इससे तीर्थ यात्रियों को कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। यात्रियों की संख्या सीमित होने के कारण व्यापारियों को भी समस्या हो रही है। ऐसे में एक बार फिर राज्य सरकार चारधाम यात्रा को लेकर हाईकोर्ट पहुंची थी। आज मंगलवार को नैनीताल हाईकोर्ट में चारधाम यात्रा में श्रद्धालुओं की संख्या को बढ़ाए जाने के मामले में सुनवाई हुई। जिसमें राज्य सरकार ने कोर्ट द्वारा पूर्व में दिए गए फैसले को संशोधित करने की मांग की। मामले में सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट ने अब प्रतिबंध को हटा दिया है। ये व्यवस्था कल यानी 6 अक्टूबर से लागू होगी। कल से केदारनाथ, बद्रीनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री धाम की 15 अक्टूबर से आगे की यात्रा के लिए पंजीकरण करवाया जा सकेगा। फ़िलहाल बुकिंग फुल हो चुकी है। 

विपक्षी दलों ने वीडियो को ट्वीटर पर शेयर किया

आदर्श श्रीवास्तव           
लखीमपुर खीरी। उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में रविवार को हुई घटना के बाद एक वीडियो वायरल हो रहा है। जिसमें प्रदर्शन करने वाले किसानों पर गाड़ी चढ़ती हुई दिख रही। वीडियो में वहां का दर्दनाक मंजर साफ दिखाई दे रहा है। कांग्रेस के अलावा आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह और अन्य विपक्षी दलों ने इस वीडियो को ट्वीटर पर शेयर किया है।
कांग्रेस के आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर यह वीडियो शेयर किया गया है, इसमें लिखा गया है। लखीमपुर खीरी से बेहद विचलित करने वाले दृश्य, हालांकि वीडियो में साफ नहीं दिख रहा है कि गाड़ी कौन चला रहा था। लेकिन गाड़ी वहां खड़े लोगों को रौंदते हुए आगे बढ़ रही है। वीडियो में  देखा जा सकता है कि वहां अधिक मात्रा में लाेग एकत्रित थे।

22 से बेंगलुरू में किया जाएगा सत्र का आयोजन

अकांशु उपाध्याय           
नई दिल्ली। प्रो कबड्डी लीग (पीकेएल) के आठवें सत्र का आयोजन दो साल के इंतजार के बाद 22 दिसंबर से बेंगलुरू में किया जाएगा। लेकिन इसमें दर्शकों को आने की अनुमति नहीं होगी। पीकेएल के आयोजक मशाल स्पोर्ट्स की यहां जारी प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार खिलाड़ियों और हितधारकों के स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए दर्शकों के बिना टूर्नामेंट का आयोजन करवाने का फैसला किया गया है।
कोविड-19 महामारी के कारण 2020 में इस लीग का आयोजन नहीं हो पाया था। इसमें कहा गया है, ”लीग का आयोजन दर्शकों के बिना एक ही स्थान पर किया जाएगा जो पिछले सत्र के पारंपरिक स्वरूप से हटकर होगा। पीकेएल की वापसी भारत में आपसी संपर्क वाले इंडोर खेलों को फिर से शुरू करने की दिशा में महत्वपूर्ण कदम होगा। अहमदाबाद और जयपुर के नाम पर भी विचार किया लेकिन आखिर में बेंगलुरू को मेजबानी सौंपने का निर्णय किया। इसके लिये सरकारी दिशानिर्देशों का पालन करते हुए जैव सुरक्षित वातावरण (बायो बबल) तैयार किया जाएगा। पीकेएल में 12 टीमें भाग लेंगी।
इसके लिये खिलाड़ियों की नीलामी अगस्त में की गयी थी। लीग के आयुक्त और मशाल स्पोर्ट्स के मुख्य कार्यकारी अनुपम गोस्वामी ने कहा, ”हमें खुशी है कि प्रो कबड्डी लीग के आठवें सत्र की मेजबानी कर्नाटक करेगा। बेंगलुरू में सुरक्षा के तमाम उपायों के साथ बड़ी खेल प्रतियोगिताओं के आयोजन के लिये सभी तरह की सुविधाएं हैं।

अफगान को कम मात्रा में बिजली की आपूर्ति जारी

दुशांबे। तजाकिस्तान ने कहा कि वह अफगानिस्तान को कम मात्रा में बिजली की आपूर्ति जारी रखे हुए है। बरकी तोजिक ऊर्जा के प्रवक्ता नोजिरजोन योडगोरी ने यह जानकारी दी है। इससे पहले सोमवार को वॉल स्ट्रीट जर्नल ने अफगान स्टेट एनर्जी कॉरपोरेशन दा अफगानिस्तान ब्रेशना शेरकट (डीएबीएस) के पूर्व प्रमुख दाउद नूरजई के हवाले से बताया कि अफगानिस्तान राजधानी काबुल में सर्दियों में बिजली की आपूर्ति में कटौती की सकती है।
योडगोरी ने बताया कि तजाकिस्तान अफगानिस्तान को कम मात्रा में 180 मेगावाट प्रति दिन बिजली की आपूर्ति जारी रखे हुए है। उन्होंने कहा कि देश डीएबीएस के साथ 2020 के आखिर में हुए समझौते के तहत सभी दायित्वों को पूरा कर रहा है। उन्होंने कहा कि कंपनी समझौते का पालन जारी रखेेगी। उन्होंने कहा,“यह एक निजी कंपनी है, जो भुगतान हमें वास्तव में प्रत्येक महीने आखिर में मिलता है। उन्होंने हमें अगस्त में आपूर्ति के लिए पूरा भुगतान किया है।”

शुरुआती कारोबार में 74.63 पर पहुंचा रुपया

कविता गर्ग              
मुंबई। विदेशी बाजार में अमेरिकी मुद्रा की मजबूती और घरेलू शेयर बाजारों में नरमी के साथ रुपया मंगलवार को शुरुआती कारोबार में अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 32 पैसे टूटकर 74.63 पर पहुंच गया। विदेशी मुद्रा कारोबारियों ने कहा कि कच्चे तेल की बढ़ती कीमतों और जोखिम की भावना से निवेशकों की धारणा प्रभावित हुई जिससे रुपये को नुकसान हुआ।
अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में रुपया डॉलर के मुकाबले कमजोरी के साथ 74.63 पर खुला, जो पिछले बंद भाव के मुकाबले 32 पैसे की गिरावट को दर्शाता है। रुपया सोमवार को अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 74.31 पर बंद हुआ था। इस बीच छह प्रमुख मुद्राओं के मुकाबले अमेरिकी डॉलर की स्थिति को दर्शाने वाला डॉलर सूचकांक 0.22 प्रतिशत बढ़कर 93.98 पर था।
घरेलू शेयर बाजार के मोर्चे पर, 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 107.03 अंक या 0.18 प्रतिशत की गिरावट के साथ 59,192.29 पर कारोबार कर रहा था। वहीं व्यापक एनएसई निफ्टी 22.50 अंक या 0.13 प्रतिशत की गिरावट के साथ 17,668.75 पर कारोबार कर रहा था। इस बीच, विदेशी संस्थागत निवेशक शुक्रवार को पूंजी बाजार में शुद्ध खरीदार थे और शेयर बाजार के आंकड़ों के अनुसार उन्होंने 860.50 करोड़ रुपये के शेयर खरीदे। वहीं वैश्विक तेल बेंचमार्क ब्रेंट क्रूड वायदा 0.23 प्रतिशत बढ़कर 81.45 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया।

‘नीट-यूजी’ परीक्षा रद्द नहीं की जाएगी, फैसला किया

अकांशु उपाध्याय        
नई दिल्ली। उच्चतम न्यायालय ने सोमवार को कहा है कि एमबीबीएस और इसके समकक्ष विभिन्न चिकित्सा पाठ्यक्रमों के लिए 12 सितंबर को आयोजित ‘नीट-यूजी’ परीक्षा रद्द नहीं की जाएगी।
न्यायमूर्ति एल. नागेश्वर राव और बी. आर. गवई की पीठ ने परीक्षा रद्द करने की मांग करने वाली रिट याचिका को महत्वहीन बताते हुए इसे खारिज कर दिया गया। 
शीर्ष अदालत ने कहा कि परीक्षा में कदाचार से संबंधित सिर्फ पांच प्राथमिकी दर्ज किए जाने के कारण हम उस परीक्षा को रद्द करने का आदेश नहीं दे सकते, जिसमें करीब साढे सात लाख विद्यार्थी शामिल हुए थे। पीठ ने सुनवाई के शुरुआत में इस याचिका के महत्व पर सवाल खड़े किए। अदालत ने सुनवाई के शुरुआत में इस याचिका को गैर जरूरी करार देते हुए हुए पांच लाख रुपए जुर्माना करने का संकेत दिया था लेकिन बाद में कहा कि यह राशि उस वकील से वसूल की जानी चाहिए जिसने इस याचिका के लिए गलत सलाह दी थी।

चीन की गतिविधि को उकसावे वाला करार दिया

वाशिंगटन डीसी। अमेरिका ने ताइवान के समीप चीन की सैन्य गतिविधि को उकसावे वाला करार दिया है। व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव जेन साकी ने अपने नियमित संवाददाता सम्मेलन में कहा कि हम ताइवान के समीप चीन की उकसावे वाली सैन्य गतिविधि को लेकर चिंतित हैं। जो क्षेत्रीय शांति एवं स्थिरता को कमतर करती है।
हम बीजिंग से ताइवान के खिलाफ अपना सैन्य, कूटनीतिक और आर्थिक दबाव तथा बलपूर्वक कार्रवाई बंद करने का अनुरोध करते हैं। ताइवान जलडमरूमध्य में शांति एवं स्थिरता में हमारा स्थायी हित है, इसलिए हम आत्म-रक्षा की क्षमता बनाए रखने में ताइवान की सहायता करते रहेंगे। साकी ने कहा कि हम ताइवान के प्रति चीन की दबाव और बलपूर्वक कार्रवाई को लेकर अपनी चिंता के बारे में स्पष्ट रहे हैं और हम स्थिति पर निकटता से नजर रखते रहेंगे।
एक अलग बयान में सांसद मार्को रुबियो ने कहा कि शुक्रवार से लेकर अब तक ताइवान के वायु रक्षा क्षेत्र में चीन के 145 लड़ाकू विमानों ने उड़ान भरी है। ये गतिविधियां ताइवान के राष्ट्रीय दिवस से कुछ दिनों पहले और चीन के राष्ट्रीय दिवस पर शुरू हुईं। रुबियो ने कहा कि चीन की कम्युनिस्ट पार्टी का आक्रामक व्यवहार ताइवान को डराने-धमकाने के लिए है और वह बाकी की दुनिया को एक संदेश भेजना चाहता है।

अगर चीन की इन हरकतों की अंतरराष्ट्रीय समुदाय ने निंदा नहीं की तो राष्ट्रपति शी चिनफिंग सोचेंगे कि उन्हें आगे और आक्रामक गतिविधियों की हरी झंडी मिल गयी है। राष्ट्रपति जो बाइडन को यह सुनिश्चित करने के लिए हमारे सहयोगियों के साथ काम करना चाहिए कि चीन ताइवान और अपने पड़ोसी देशों की यथास्थिति का सम्मान करें। विदेश विभाग के प्रवक्ता नेड प्राइस ने भी पत्रकारों से कहा कि अमेरिका, ताइवान के समीप चीन की उकसावे वाली सैन्य गतिविधि को लेकर बहुत चिंतित है।

कश्मीर मुद्दे को उठाने के लिए पाक पर प्रहार किया

श्रीनगर। संयुक्त राष्ट्र में कश्मीर मुद्दे को फिर से उठाने के लिए पाकिस्तान पर कड़ा प्रहार करते हुए भारत ने कहा कि ऐसे देश से रचनात्मक योगदान की उम्मीद नहीं की जा सकती। जिसके पास आतंकवादियों की मेजबानी करने की एक स्थापित प्रथा है। जो वैश्विक आतंकवाद का ”केन्द्र” है और दुनिया को अस्थिर करने वाली सबसे बड़ी ताकत है।
संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी मिशन के सलाहकार, ए. अमरनाथ ने सोमवार को कहा कि भारत को ऐसे देश से सलाह की जरूरत नहीं है, जिसका परमाणु सामग्री एवं प्रौद्योगिकी के अवैध निर्यात का एक सिद्ध इतिहास रहा है। अमरनाथ ने कहा, ” पाकिस्तान की बहुपक्षीय मंचों की शुचिता का हनन करने और झूठ को हवा देने की कोशिशों की हमें मिलकर निंदा करनी चाहिए।
पाकिस्तान ने भारत के खिलाफ कई निरर्थक एवं निराधार आरोप लगाए हैं, जिसमें जम्मू-कश्मीर और लद्दाख केन्द्र शासित प्रदेशों के संबंध में की गई टिप्पणियां भी शामिल हैं। ये प्रतिक्रिया के योग्य नहीं हैं, क्योंकि ये भारत के आंतरिक मामलों से संबंधित हैं।” संयुक्त राष्ट्र में पाकिस्तान के दूत मुनीर अकरम द्वारा निरस्त्रीकरण और अंतरराष्ट्रीय सुरक्षा मुद्दों से संबंधित महासभा की समिति की बैठक के दौरान जम्मू-कश्मीर के मुद्दे को उठाने के बाद भारत ने अपने उत्तर के अधिकार का प्रयोग किया।

अमरनाथ ने दोहराया कि जम्मू-कश्मीर का पूरा केन्द्र शासित प्रदेश भारत का अभिन्न एवं अविभाज्य हिस्सा था .. है..और रहेगा। उन्होंने कहा, ” इसमें वे इलाके भी शामिल हैं, जो पाकिस्तान के अवैध कब्जे में हैं। हम पाकिस्तान से उसके अवैध कब्जे वाले सभी क्षेत्रों को तुरंत खाली करने का आह्वान करते हैं।आतंकवादियों की मेजबानी, सहायता और सक्रिय रूप से समर्थन देने के उसके स्थापित अभ्यास को देखते हुए, कोई भी पाकिस्तान से उस समिति के लिए किसी भी रचनात्मक योगदान की उम्मीद कैसे कर सकता है, जो अंतरराष्ट्रीय शांति एवं सुरक्षा के महत्वपूर्ण मामलों से संबंधित है।”
पाकिस्तानी दूत द्वारा नयी दिल्ली में भारत के रक्षा शस्त्रागार का भी जिक्र करने पर पलटवार करते हुए अमरनाथ ने कहा, ”एक जिम्मेदार देश के रूप में, भारत अंतरराष्ट्रीय संधियों के तहत अपने दायित्वों का सख्ती से पालन करता है और ऐसे किसी देश से किसी भी सलाह की आवश्यकता नहीं है, जिसका अवैध निर्यात का एक सिद्ध इतिहास है।

ओडिशा: 45 वर्षीय 1 व्यक्ति की डूबने से मौंत हुईं

भुवनेश्वर। ओडिशा के संबलपुर में महानदी में 45 वर्षीय एक व्यक्ति तथा उसके बेटे की डूबने से मौत हो गई और उसकी बेटी अब भी लापता है। पुलिस ने मंगलवार को बताया कि घटना नगर थाना क्षेत्र में सोमवार शाम करीब साढ़े चार बजे हुई, जब मोहम्मद अल्ताफ, उनका बेटा मोहम्मद आफताब (15) और बेटी रुखसाना परवीन (13) नदी में नहाने गए थे।
उन्होंने बताया कि यह परिवार पेंशनपारा का रहने वाला था। बच्ची का पता लगाने के लिए अभियान जारी है। रुखसाना पानी के बहाव में बह गई थी, जिसके बाद अल्ताफ अपनी बेटी को बचाने की कोशिश में गहरे पानी में चले गए और बेटा आफताब भी उनके पीछे-पीछे नदी में चला गया।
इसके बाद सभी लापता हो गए। स्थानीय लोगों ने पुलिस तथा दमकल विभाग को घटना की जानकारी दी थी। पुलिस ने बताया कि स्थानीय मछुआरों ने आफताब का शव बरामद किया और दमकल कर्मियों ने अल्ताफ के शव को नदी से बाहर निकाला। रुखसाना की तलाश अब भी जारी है।

अनियंत्रित होकर ट्रक से टकराईं कार, 3 की मौंत

अविनाश श्रीवास्तव                             
कटिहार। बिहार में कटिहार जिले के कोढ़ा थाना क्षेत्र में मंगलवार तड़के ट्रक और कार के बीच हुयी टक्कर में तीन लोगों की मौत हो गयी तथा एक अन्य घायल हो गया। पुलिस सूत्रों ने यहां बताया कि कार पर सवार लोग जा रहे थे तभी फुलवरिया गांव के समीप राष्ट्रीय उच्चपथ 31 पर कार अनियंत्रित होकर सड़क किनारे खड़े ट्रक से टकरा गयी।
इस दुर्घटना में कार पर सवार तीन लोगों की मौके पर ही मौत हो गयी, जबकि एक अन्य गंभीर रूप से घायल हो गया। घायल को स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया है। सूत्रों ने बताया कि मृतकों की पहचान राम प्रसाद, सुनील कुमार और विकास कुमार के रूप में की गयी है। शवों को पोस्टमॉर्टम के लिये कटिहार सदर अस्पताल भेज दिया गया है।

मैच: आउट होने से पहले 27 गेंदों पर 18 रन बनाएं

आबुधाबी। चेन्नई सुपर किंग्स के मुख्य कोच स्टीफन फ्लेमिंग ने अपनी लय हासिल करने के लिये जूझ रहे कप्तान महेंद्र सिंह धोनी का बचाव करते हुए कहा कि दुबई इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम के विकेट पर किसी भी बल्लेबाज के लिये रन बनाना आसान नहीं था। धोनी को दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) मैच में डेथ ओवरों में तेजी से रन बनाने की जिम्मेदारी निभानी थी लेकिन उन्होंने 20वें ओवर में आउट होने से पहले 27 गेंदों पर 18 रन बनाये।
चेन्नई ने यह मैच तीन विकेट से गंवाया और फ्लेमिंग ने माना कि उनकी टीम ने 10-15 रन कम बनाये। फ्लेमिंग ने मैच के बाद संवाददाता सम्मेलन में कहा कि वह (धोनी) अकेला नहीं था। इस विकेट पर रन बनाना आसान नहीं था। बड़ा स्कोर करने या बड़े शॉट खेलने के लिये यह मुश्किल विकेट था इसलिए 137 रन का स्कोर भी पर्याप्त लग रहा था। उन्होंने कहा कि दोनों टीमें पारी के अंत में रन बनाने के लिये जूझ रही थी।
अगर हमने 10-15 रन और बनाये होते तो परिणाम अलग हो सकता था। फ्लेमिंग ने कहा कि दिल्ली ने आखिरी पांच ओवरों में बहुत अच्छी गेंदबाजी की और ऐसे में रन बनाना मुश्किल था। उन्होंने कहा कि रन बनाना मुश्किल था और दिल्ली ने इस बीच बहुत अच्छी गेंदबाजी की। उनके आखिरी पांच ओवर बहुत अच्छे थे, जिससे रन बनाना आसान नहीं था।

पार्टी के प्रदेश दफ्तर में प्रेस कांफ्रेंस करेंगे सीएम

हरिओम उपाध्याय         
लखनऊ। किसानों से हुये समझौते के बाद हिंसा प्रभावित लखीमपुर में हालात तेजी से सामान्य हो रहे है।वहीं लखीमपुर खीरी मे प्रभावित किसान परिवारों से मिलने जाने के लिये अड़ी कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा और आम आदमी पार्टी सांसद संजय सिंह को पुलिस निगरानी में सीतापुर में रखा गया है।
इस बीच छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल मंगलवार को लखनऊ पहुंचे जहां वह पार्टी के प्रदेश दफ्तर में प्रेस कांफ्रेंस करेंगे। इसके बाद उनका सीतापुर स्थित पीएसी परिसर जाने का कार्यक्रम है जहां पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा पुलिस निगरानी में है। उधर, पंजाब विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष हरपाल सिंह चीमा के नेतृत्व में आम आदमी पार्टी का एक प्रतिनिधिमंडल भी लखीमपुर जाने की तैयारी में है। हालांकि इससे पहले वह लखनऊ मे साढे 11 बजे एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करेंगे।
प्रदेश कांग्रेस के मीडिया मैनेजर नसीमुद्दीन सिद्दिकी ने कहा कि सीतापुर की पीएसी लाइन में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा की हिरासत को लेकर कांग्रेसी आक्रोशित हैं। प्रियंका गांधी वाड्रा की हिरासत के 28 घंटे से ज्यादा हो चुके है। 24 घंटे से ज्यादा की पुलिस हिरासत ग़ैर क़ानूनी होती है। उन्हे अब तक अपने वकीलों से मिलने नहीं दिया गया। प्रशासन ने उन्हें हिरासत में लेने की कोई क़ानूनी वजह भी नहीं बतायी है। सीतापुर के पीएसी द्वितीय वाहिनी परिसर में हिरासत में रखीं गयीं प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा है कि वे हिरासत से छूटते ही लखीमपुर खीरी जाकर शहीद किसानों के परिजनों से मिलेंगी। प्रियंका गाँधी के साथ सांसद दीपेंद्र हुड्डा, कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू, राष्ट्रीय सचिव धीरज गुर्जर, यूथ कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष बी.वी.श्रीनिवास, एमएलसी दीपक सिंह भी हिरासत में हैं। बाहर हज़ारों कांग्रेस कार्यकर्ता और पार्टी के तमाम वरिष्ठ नेता डटे हुए हैं। कांग्रेस कार्यकर्ताओं में प्रियंका गांधी की ग़ैर क़ानूनी हिरासत को लेकर बेहद आक्रोश है। उनका कहना है कि प्रियंका गांधी वाड्रा की निगरानी के लिये सरकार ने एक ड्रोन कैमरा भी तैनात किया है जिसका वीडियो कांग्रेसियों ने शेयर किया है।
छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल लखनऊ पहुंचे है। वह सीतापुर में प्रियंका गाँधी से मिलते हुए लखीमपुर खीरी जा सकते हैं। सोमवार को भी मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने लखीमपुर जाने का प्रयास किया था हालांकि सरकार ने निषेधाज्ञा का हवाला देकर प्रभावित जिले में जाने की अनुमति नहीं दी थी।
इस बीच लखीमपुर खीरी कांड में प्रभावित किसानों के परिवार से मिलने आज आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता, राष्ट्रीय प्रवक्ता राघव चड्डा, पंजाब विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष हरपाल सिंह चीमा, विधायक बलजिंदर कौर और राहुल तहिलानी लखनऊ पहुंचे। ट्रांसपोर्ट नगर मेट्रो स्टेशन के पास एक होटल में रूके आप नेताओं की भी लखीमपुर खीरी जाने की योजना है।

निश्चित रूप से देश का संविधान खतरे में है: राहुल

अकांशु उपाध्याय      
नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने लखीमपुर खीरी की घटना पर कहा है कि अगर किसी महिला को बगैर प्राथमिकी की हिरासत में रखा जाता है और किसी मंत्री का बेटा सत्याग्रहियों को अपनी गाड़ी से कुचलता है तो निश्चित रूप से देश का संविधान खतरे में है।
राहुल गांधी ने कहा कि सरकार लगातार गलत कदम उठा रही है और उसके हर कदम से देश का संविधान खतरे में आ रहा है। उन्होंने कहा कि एक मिनिस्टर का बेटा अगर अपनी गाड़ी के नीचे सत्याग्रही किसानों को कुचल दे, तो देश का संविधान ख़तरे में है। अगर वीडियो के सामने आने के बाद भी उसे हिरासत में ना लिया जाए तो देश का संविधान ख़तरे में है। उन्होंने कहा कि अगर एक महिला नेता को 30 घंटे तक बिना एफआरआई के हिरासत में रखा जाए तो देश का संविधान ख़तरे में है। अगर क़त्ल हुए पीड़ितों के परिवार से किसी को ना मिलने दिया जाए तो देश का संविधान ख़तरे में है। अगर ये वीडियो किसी को दुखी नहीं करता तो मानवता भी ख़तरे में है।

तीन दिवसीय अर्बन कानक्लेव का शुभारंभ किया

हरिओम उपाध्याय       
लखनऊ। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आजादी के 75वें वर्ष के खास मौके पर मंगलवार को यहां आयोजित तीन दिवसीय अर्बन कानक्लेव का शुभारंभ किया और उत्तर प्रदेश को 4737 करोड़ रूपये की 75 परियोजनाओं की सौगात दी।
केंद्रीय आवासन एवं शहरी कार्य मंत्रालय व नगर विकास विभाग, उत्तर प्रदेश के संयुक्त तत्वावधान में इन्दिरा गांधी प्रतिष्ठान में आयोजित कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 4737 करोड़ की 75 परियोजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास किया। इस मौके पर राज्यपाल आंनदीबेन पटेल, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, केन्द्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी समेत अन्य मंत्री और अधिकारी मौजूद थे।
इस मौके पर प्रधानमंत्री ने 75 उत्कृष्ट हाउसिंग तकनीकों की प्रदर्शनी का अवलोकन किया। इस अवसर पर स्वच्छ भारत मिशन, अमृत योजना, स्मार्ट सिटी मिशन, अर्बन ट्रांसपोर्ट, प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) में अब तक की उपलब्धियों से सम्बंधित फिल्म का प्रदर्शन किया जायेगा।
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पीएम आवास योजना (शहरी) के अंतर्गत 75 जिलों के 75,000 लाभार्थियों को डिजिटल माध्यम से चाभी भी सौपेंगे और स्मार्ट सिटी मिशन के अन्तर्गत उत्तर प्रदेश की 10 स्मार्ट सिटीज की सफलता की 75 कहानियों पराधारित कॉफी टेबल बुक का विमोचन किया जायेगा। साथ ही, प्रदेश के विभिन्न शहरों में संचालन के लिए 75 इलेक्ट्रिक बसों को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया जाएगा।

तीन दिनी कार्यक्रम में 'नए भारत का नया उत्तर प्रदेश-बदला नगरीय परिवेश' राज्य पवेलियन की थीम तय की गई है, जिसके अंतर्गत विभिन्न मिशनों का प्रस्तुतीकरण किया जायेगा, जिसमें स्टाल के केन्द्र में अयोध्या को प्रदर्शित करते हुए भव्य मॉडल का प्रदर्शन, प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी), स्वच्छ भारत मिशन, अमृत मिशन व स्मार्ट सिटी, अर्बन ट्रांसपोर्ट, राष्ट्रीय आजीविका मिशन, मेट्रो, आदि के स्टॉल लगाए जा रहे हैं। स्मार्ट सिटी मिशन के अन्तर्गत प्रदेश के विभिन्न शहरों में कार्यान्वित आईसीसीसी/आईटीएमएस परियोजना का शहरों से लाइव प्रस्तुतीकरण भी होगा। उद्घाटन सत्र के बाद सेमिनार एवं वेबीनार के माध्यम से नगरीय विकास से संबंधित प्रौद्योगिकी पर चर्चा की जाएगी।
चार अलग-अलग सत्रों में मध्य-आय वाले घरों के लिए उपयुक्त नवीन निर्माण सामग्री और निर्माण प्रौद्योगिकियों का उपयोग, संसाधन, अवसर, बाधाएं और चुनौतियां, स्वदेशी/नवीन तकनीकों का उपयोग करते हुए प्रचार, प्रसार, प्रदर्शन और निर्माण के लिए रणनीति तथा आवास सुधार, शहरी परिदृश्य के परिवर्तन को सक्षम करने विषय पर विचार-विमर्श होगा। एक अन्य विशेष सत्र में उत्तर प्रदेश में पीएम आवास योजना (शहरी) के क्रियान्वयन में अपनाई गई रणनीतियां, क्षेत्र विशिष्ट केस स्टडीज, प्रमुख उपलब्धियां, सीख एवं आगे की राह विषय पर चर्चा की जाएगी।

बढ़ोतरी: 30 पैसे प्रति लीटर महंगा हुआ डीजल

अकांशु उपाध्याय      
नई दिल्ली। तेल उत्पादक देशों के शीर्ष संगठन ओपेक के मांग के अनुरूप तेल उत्पादन नहीं बढ़ाने से अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के सात वर्ष के उच्चतम स्तर 81 डॉलर प्रति बैरल के पार पहुंचने से मंगलवार को देश में पेट्रोल 25 पैसे और डीजल 30 पैसे प्रति लीटर महंगा हो गया।
इससे देश के कुछ शहरों में पेट्रोल पहली बार 111 रुपये प्रति लीटर और डीजल 100 रुपये प्रति लीटर के पार पहुंच गया। लगातार चार दिनों की तेजी के बाद कल इन दोनों की कीमतों में कोई बदलाव नहीं किया गया था लेकिन आज फिर से इसमें बढोतरी की गयी जिससे राजधानी दिल्ली में इनकी कीमतें अब तक के रिकार्ड स्तर पर पहुंच गयी।
इस वृद्धि के बाद राजधानी दिल्ली में पेट्रोल अब तक के रिकार्ड उच्चतम स्तर 102.64 रुपये प्रति लीटर पर और डीजल भी सर्वकालिक उच्चतम स्तर 91.07 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गया। पिछले एक सप्ताह में पेट्रोल 1.24 पैसे महंगा हो चुका है। डीजल भी 10 दिनोें में से 2.45 रुपये प्रति लीटर चढ़ चुका है। ओपेक देशों की कल बैठक हुयी जिसमें प्रतिदिन चार लाख बैरल तेल उत्पादन बढ़ाने का निर्णय लिया गया जबकि कोरोना के बाद अब वैश्विक स्तर पर इसकी मांग में जबरदस्त तेजी दिख रही है।
इस निर्णय के बाद अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल में जबरदस्त तेजी दिखी। कल अमेरिकी बाजार में कारोबार बंद होने पर ब्रेंट क्रूड 2.28 डॉलर प्रति बैरल की तेजी लेकर 81.26 डॉलर प्रति बैरल और अमेरिकी क्रूड 2.07 डॉलर की बढ़त के साथ 77.62 डॉलर प्रति बैरल पर रहा।

यूके: 72.90 लाख रूपये की स्वीकृति प्रदान की

पंकज कपूर        
देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने विधानसभा क्षेत्र बद्रीनाथ के नगर पंचायत पोखरी में खण्डजा एवं सी.सी. मार्ग हेतु 97.06 लाख, नालियों के निर्माण हेतु 49.20 लाख रूपये, विधानसभा क्षेत्र डोईवाला के अन्तर्गत वार्ड न. 14 में अम्बेडकर पार्क के निकट उपलब्ध भूमि पर पार्क के निर्माण हेतु 72.90 लाख रूपये की स्वीकृति प्रदान की है। मुख्यमंत्री ने विधानसभा क्षेत्र रायपुर की डांडा खुदानेवाला पेयजल योजना के प्रथम चरण हेतु 1.70 करोड़ रूपये, विधानसभा क्षेत्र मसूरी की कालीदास रोड पुनर्गठन सीवरेज योजना हेतु 4.89 करोड़, नगर निगम देहरादून के वार्ड नं. 01 में कुठालगांव पेयजल योजना के सुदृढ़ीकरण कार्य हेतु 3.95 करोड़ रूपये, विधानसभा धर्मपुर की वार्ड नं. 70 लक्खीबाग को ओ.डी.एफ. मुक्त बनाने हेतु दरभंगा बस्ती में नई सीवर लाईन का कार्य एवं वार्ड के अन्य क्षेत्रों में सीवर लाईन/चैम्बर्स की मरम्मत एवं पुनर्निर्माण कार्य हेतु 97 लाख 89 हजार रुपये, गैरसैंण में आधुनिक शौचालय निर्माण हेतु 41.36 लाख, सुशीला तिवारी हास्पिटल चौराहे से आई.टी.आई. नीम के पेड़ (रौला गधेरा तक) पुरानी ए.सी. एवं पी.वी.सी पाईप लाईन के स्थान पर नई एम.एस. एवं जी.आई. पाईप लाईन बिछाने हेतु 1 करोड़ 95 लाख रूपये, विधानसभा क्षेत्र लालकुंआ बिन्दुखत्ता क्षेत्र में 200 शौचालय स्थापित किये जाने हेतु 50.00 लाख रूपये की वित्तीय एवं प्रशासनिक स्वीकृति प्रदान की है।
मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने जनपद नैनीताल के गांधी ग्राम ताकुला का गांधी स्टडी सेंटर एवं आरकाइव के रूप में विकास किये जाने हेतु 77.89 लाख रुपये, मुनस्यारी को पर्यटन डेस्टिनेशन के रूप में विकसित किये जाने हेतु अवशेष धनराशि 27.95 लाख रुपये की वित्तीय एवं प्रशासनिक स्वीकृति प्रदान की है। इस सम्बन्ध में शासनादेश भी निर्गत कर दिया गया है।

कई घंटों तक बंद रहने के बाद बहाल हुईं सेवाएं

वाशिंगटन डीसी। फेसबुक, इंस्टाग्राम, व्हाट्सएप की सेवाएं कई घंटे तक बंद रहने के बाद आखिरकार बहाल हुईं। इस दौरान विश्वभर में लाखों लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ा। इन तीनों सोशल मीडिया मंच के उपयोगकर्ता काफी समय तक परेशान रहे, क्योंकि उन्हें बार-बार ‘एरर’ (त्रुटि) के संदेश आ रहे थे। इसके परिणामस्वरूप सिलिकॉन वैली स्थित फर्म फेसबुक के शेयरों में लगभग पांच प्रतिशत की गिरावट भी आई।
फेसबुक ने ट्विटर पर कहा, ” दुनिया भर के लोगों और व्यवसायों के विशाल समुदाय जो हम पर निर्भर हैं। उनके लिए हमें खेद है। हम अपनी ऐप और सेवाओं तक पहुंच बहाल करने के लिए कड़ी मशक्कत कर रहे हैं और यह जानकारी देकर खुशी हो रही है कि वे अब ऑनलाइन वापस आ रही हैं।
संयम रखने के लिए आप सभी का शुक्रिया।” फोटो साझा करने की ऐप ‘इंस्टाग्राम’ और संदेशों का आदान-प्रदान करने का मंच ‘व्हाट्सएप’ भी फेसबुक का है। फेसबुक के मुख्य प्रौद्योगिकी अधिकारी माइक श्रोफर ने ट्वीट किया, ”फेसबुक संचालित सेवाओं के बंद होने से प्रभावित सभी लोगों से माफी मांगता हूं।

हम नेटवर्किंग समस्याओं का सामना कर रहे हैं और टीमें इसे जल्द से जल्द ठीक करने और पुन: स्थापित करने के लिए काम कर रही हैं।” माइक श्रोफर ने एक अन्य ट्वीट में कहा, ”फेसबुक सेवाएं अब बहाल हो गई हैं। पूरी तरह ठीक होने में थोड़ा समय लग सकता है। हम पर निर्भर हर छोटे और बड़े व्यवसाय, परिवार और हरके व्यक्ति से। मैं माफी चाहता हूं। व्हाट्सएप और इंस्टाग्राम ने भी अपने उपयोगकर्ताओं को सेवाएं बंद होने की जानकारी ट्विटर पर ही दी थी। ‘द वॉल स्ट्रीट’ पत्रिका के अनुसार, सेवाएं बंद होने के कारण फेसबुक के आंतरिक संचार उपकरणों में भी व्यापक व्यवधान पैदा हुआ, जिसमें कुछ ‘वॉयस कॉल’ और ‘कैलेंडर अपॉइंटमेंट’ तथा अन्य कार्यों के लिए उपयोग किए जाने वाली ऐप शामिल हैं।

फ्लाईओवर से नीचे गिरीं बस, 7 लोगों की मौंत

इस्लामाबाद। पाकिस्तान में पूर्वी पंजाब प्रांत के खानेवाल जिले में एक यात्री बस के फ्लाईओवर से नीचे गिर जाने से सात लोगों की मौत हो गई है और 28 अन्य घायल हो गए हैं।
पुलिस ने सोमवार को यह जानकारी दी। उन्होंने कहा यह हादसा रविवार देर रात उस समय हुआ जब बस का टायर फटने से ड्राइवर ने गाड़ी पर से नियंत्रण खो दिया था। पुलिस ने कहा कि इस हादसे में पांच लोगाें की मौके पर ही मौत हो गयी, जबकि आज सुबह दो और लोगों ने उपचार के दौरान अस्पताल में दम तोड़ दिया है।
उन्होंने बताया कि जिस समय यह हादसा हुआ उस समय बस पूर्वी चकवाल जिले से कराची की ओर जा रही थी। बाकी घायलों का अस्पताल में इलाज चल रहा है, जबकि कुछ की हालत अभी काफी गंभीर बनी हुई है।
उन्होंने कहा कि वाहनों की खराब हालत और बेतरतीब चलाने की वजह से अक्सर इस क्षेत्र में सड़क दुर्घटनाएं होती रहती हैं।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

1. अंक-416 (साल-02)
2. बुधवार, अक्टूबर 6, 2021
3. शक-1984,सावन, कृष्ण-पक्ष, तिथि-अमावस्या, विक्रमी सवंत-2078।
4. सूर्योदय प्रातः 06:11, सूर्यास्त 06:13।
5. न्‍यूनतम तापमान -25 डी.सै., अधिकतम-33+ डी.सै.। बरसात की संभावना बनी रहेंगी।
6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110
http://www.universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745  
                     (सर्वाधिकार सुरक्षित)

एसडीएम ने किसानों का धरना समाप्त कराया

एसडीएम ने किसानों का धरना समाप्त कराया आदर्श श्रीवास्तव लखीमपुर खीरी। अपनी बदहाली सेे लडता किसान गणतंत्र की गहरी खाई में जा पहुंचा हैं। मध-म...