सोमवार, 22 जुलाई 2019

बारिश की संभावना: मौसम विभाग

 नई दिल्ली ! 23 जुलाई का मौसम पूर्वानुमान ! मॉनसून जल्द पकड़ेगा ज़ोर, देश के अधिकांश इलाकों में बारिश बढ़ने की संभावना ! मॉनसून पूरे देश में सक्रिय होता दिखाई दे रहा है। जल्द ही देश के ज़्यादातर भागों को अच्छी बारिश भिगोने वाली है।
लेकिन 23 जुलाई को मॉनसून का सबसे व्यापक प्रदर्शन पिछले दिनों की तरह पश्चिमी तटों पर दिखेगा। अनुमान है कि केरल और तटीय कर्नाटक में मूसलाधार बारिश होगी। दक्षिणी आंतरिक कर्नाटक में भी अच्छी मॉनसूनी बौछारें गिर सकती हैं।
तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश और तेलंगाना पर भी मॉनसून सक्रिय रहेगा और हल्की से मध्यम बारिश रुक-रुक कर होती रहेगी।
मध्य भारत पर भी कई मौसमी सिस्टम बन गए हैं। इससे मॉनसून सक्रिय हो जाएगा।
यहाँ रत्नागिरी से नीचे दक्षिणी कोंकण गोवा क्षेत्र में मध्यम से भारी बारिश जारी रहेगी। जबकि मुंबई, ठाणे समेत उत्तरी कोंकण, गुजरात के पूर्वी भागों, दक्षिण-पूर्वी राजस्थान, इससे सटे दक्षिण-पश्चिमी मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ के कुछ भागों में हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है।
महाराष्ट्र के विदर्भ और मराठवाड़ा क्षेत्र तथा पूर्वी मध्य प्रदेश के भागों में फिलहाल हल्की बारिश होगी। लेकिन 24 जुलाई से इन भागों में भी बारिश के तेज़ होने के आसार हैं।
पूर्वी भारत पर भी मॉनसून की हलचल बढ़ने की संभावना है। एक सर्कुलेशन बन गया है। उम्मीद है कि बिहार के उत्तरी हिस्सों और पूर्वी उत्तर प्रदेश के तराई वाले इलाकों में मध्यम से भारी मॉनसूनी बौछारें गिर सकती हैं।
सिल्लीगुडी, जलपाईगुड़ी, दार्जिलिंग, कलिमपोंग सहित असम के कुछ जिलों में अच्छी मॉनसून वर्षा पहले की तरह जारी रह सकती है।
पूर्वोत्तर भारत के शेष भागों और झारखंड में कुछ स्थानों पर बारिश का अनुमान है जबकि ओड़ीशा और गंगीय पश्चिम बंगाल में मौसम लगभग सभी जगहों पर शुष्क रहेगा। कोलकाता और भुवनेश्वर सहित इन राज्यों में एक-दो स्थानों पर बारिश हो सकती है।
उत्तर भारत में पहाड़ों पर हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है। जबकि पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, पश्चिमी उत्तर प्रदेश और उत्तरी राजस्थान में 23 जुलाई को एक-दो जगहों पर बादलों की गर्जना के साथ हल्की वर्षा हो सकती है।
अच्छी खबर यह है कि राजधानी दिल्ली सहित इन भागों 24 से 26 जुलाई के बीच भारी मॉनसूनी वर्षा हो सकती है।


पुलिस से मारपीट,रिवाल्वर छीनी,वर्दी फाड़ी

अलीगढ़ में पुलिसवाले से मारपीट, रिवॉल्वर छीनी और वर्दी फाड़ी


अलीगढ़ ! उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ के थाना छर्रा क्षेत्र में एक पुलिसवाले से मारपीट और सर्विस रिवॉल्वर छीने जाने का मामला सामने आया है। मारपीट संबंधी एक महिला की शिकायत की जांच सिपाही को ही भारी पड़ गई। मारपीट के आरोपियों ने पुलिसकर्मी के साथ हाथापाई की और वर्दी फाड़ दी। मौके पर मौजूद लोगों ने घटना का वीडियो बनाया जो वायरल हो रहा है।


दरअसल, एक महिला ने दो युवकों पर मारपीट, छेड़छाड़ और गाली-गलौज का केस दर्ज कराया था। अलीगढ़ के लोधी नगर इलाके में सिपाही मोहन सिंह दो अन्य पुलिसवालों के साथ शुक्रवार की रात इस केस की जांच के सिलसिले में पहुंचा था। तभी वहां भीड़ ने पुलिसवालों को घेरकर हमला बोल दिया। कुछ आरोपियों ने मोहन सिंह के साथ हाथापाई और कॉलर पकड़कर धक्का मुक्की की।


मोहन सिंह हमलावरों से लड़ता रहा, लेकिन तभी एक आरोपी ने उसकी रिवॉल्वर छीन ली और भागने लगा। किसी तरह सिपाही ने उसका पीछा किया और अपनी सर्विस रिवॉल्वर वापस छीनी। पुलिसवाले के साथ हुई मारपीट और सर्विस रिवॉल्वर छीनने की वारदात के मामले में 7 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया।


आसमान से बरसी आग ,35 खत्म

लखनऊ ! उत्तर प्रदेश में कई जगहों पर भारी बारिश के दौरान बिजली गिरने से 35 लोगों की मौत हो गई है। वहीं, राज्यभर में रविवार देर शाम तक बिजली गिरने से 13 अन्य लोग घायल भी हो गए। एक आधिकारिक रिपोर्ट के अनुसार, कानपुर और फतेहपुर में सात-सात, झांसी में पांच, जालौन में चार, हमीरपुर में तीन, गाजीपुर में दो और जौनपुर में एक तथा प्रतापगढ़, कानपुर देहात और चित्रकूट में एक-एक व्यक्ति मारे गए।


वहीं देवरिया, अंबेडकरनगर और कुशीनगर में सर्पदंश से तीन लोगों की मौत हो गई। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राज्य में जन हानि पर दुख व्यक्त किया है और संबंधित जिला मजिस्ट्रेटों को प्रत्येक पीड़ित के परिवार को 4-4 लाख रुपए का मुआवजा देने के आदेश जारी किए हैं।उन्होंने अधिकारियों को यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है कि घायल व्यक्तियों को पर्याप्त उपचार मिले और राहत कार्यों में कोई लापरवाही न हो।


सदस्यता-अभियान को आगे बढ़ाया

 गाजियाबाद,लोनी! भारतीय जनता पार्टी के पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष मनोज धामा ने भारतीय जनता पार्टी के सदस्यता अभियान को आगे बढ़ाते हुये बूथ संख्या 201 व 200 पर प्राइमरी स्कूल बहेटा हाजीपुर मे मौलाना आजाद कालोनी की मुस्लिम बस्तियों मे जाकर भाजपा परिवार मे 100 सदस्य बनाये ।
इस अवसर पर सभी को संबोधित करते हुये मनोज धामा ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के दुारा पुन:एक बार विश्व


का  सबसे बडे संगठन बनने की तरफ कदम बढा रही है! जिसके लिये सभी पदाधिकारीयों को जिम्मेदारी दी गयी है! तथा बूथों को A, B, C श्रेणी मे बाँटा गया है! उसी के तहत आज हम लोग C श्रेणी के बूथों पर कार्यकर्ता जोडने के लिये आये हैं! आज अाप सभी को मुझे भाजपा परिवार का सदस्य बनाते हुये बेहद हर्ष का अनुभव हो रहा है ।

इस तरह का सकारात्मक माहौल पार्टी की "सबका साथ सबका विकास सबका विश्वास "की नीति से बन रहा है । केन्द्र पर प्रदेश सरकार की जो कल्याणकारी योजनाओं का लाभ समाज के सभी वर्गों को मिल रहा है वो बिना भेदभाव की नीति के कारण हो रहा है ।
इस अवसर पर संगम विहार मंडल के सेक्टर 2 के सेक्टर संयोजक कपिल शर्मा, मुनव्वर, हाजी शाहिद, इमरान, हाजी एजाज, नौशाद अली, सादिक मौ°,खलील, इरफान, शादिक, सलीम, अकबर, सहित सैकड़ों की संख्या मे कालोनी के लोग उपस्थित रहे।


खाकी का निजी प्रयोग बढ़ रहा है

लगता है उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ का विभूतिखंड थाना सुप्रीम कोर्ट से भी ऊपर हो गया है!!! 


 संजय आजाद की कलम से 


जहां का उप निरीक्षक अपने पद का खुलेआम दुरूपयोग करने लगे उसके खिलाफ कौन सी धारा में मुकदमा दर्ज होगा डीजीपी साहब??? 


दलाल आतंकी सरीखे करोड़ों-अरबों के सरकारी घोटालों और घोटालेबाजों की पैरवी करने वाले को बचाने के चक्कर में खाकी को बदनाम करने पर आमादा होता बेलगाम उपनिरीक्षक!!! 


जी हां, इस थाने में तैनात उपनिरीक्षक शिवेंद्र कुमार द्वारा दलाल सरीखों से मिलकर जमीनी समाजसेवियों पत्रकारों ,आरटीआई कार्यकर्ताओं को फर्जी मुकदमोंं में फंसाने की साजिश रची जा रही है।


वहीं दूसरी तरफ जान से मार डालने और शरीर के 75 टुकड़े करके गर्दन काट लेने की धमकी देने वाले आतंकी सरीखे व्यक्ति की पैरोकारी में उक्त उपनिरीक्षक जी-जान से जुटा!!! 


बताते चलें कि उत्तर प्रदेश राज्य सूचना आयोग में फैले भ्रष्टाचार और भ्रष्टाचारियों की पोल बराबर खोली जा रही है जिससे उक्त लोगों की कारगुजारियों का राजफाश होना लगभग तय है और इसी के चलते इन देशद्रोही सरीखे लोगों को संजय आजाद जैसे पत्रकारों सहित आरटीआई कार्यकर्ताओं समाजसेवियों की कलम व कैमरे का फोकस इनके आंड़े हाथों आता दिखाई पड़ रहा है। 


विदित कराना है कि पीड़ितों की पीड़ा को उजागर करने में उपनिरीक्षक शिवेंद्र कुमार बाधक बन रहे हैं और सूचना मांगने वालों को खाकी के बल पर फर्जी के मुकदमों में जेल में ठूसने के वास्ते तैयारी में जुटे हुए हैं। ये महाशय दिन-प्रतिदिन पद का बेजा इस्तेमाल करते नजर आ रहे हैं। हालात देखकर ऐसा लगता है कि नगर निगम ,बिजली जैसे मलाईदार विभागों इत्यादि की विधि-विरूद्ध पैरवी करने वाले एक दलाल आतंकी सरीखे का गठजोड़ उपनिरीक्षक से हो चुका है जिसके हमराही की भूमिका में शिवेंद्र कुमार जैसे वर्दीधारी कभी भी देखे जा सकते हैं। जानकारी में आया है कि करोड़ों-अरबों के घोटालों और उनके घोटालेबाजों को बचाने के लिए महज सरकार का ध्यान भटकाने के नजरिये से फर्जी की मनगढंत रिपोर्ट नाटकीय ढंग से भ्रष्टाचारियों को बचाते हुए अपने उच्चाधिकारियों की सेवा में उपनिरीक्षक शिवेंद्र कुमार आये दिन प्रेषित करने में लगे हुए हैं। 


सूत्रों के हवाले से पता चला है कि शिवेंद्र कुमार की सत्ता के गलियारे में अच्छी पकड़ है, जिसके चलते इस शख्स की पुलिस - प्रशासन में तूती बोलती है यानि " सईयां भय कोतवाल तो डर काहे का " वाली कहावत चरितार्थ करते नजर आ रहे हैं। 


विश्वस्त सूत्रों के हवाले से एक अहम जानकारी दी गई है कि शिवेन्द्र कुमार और एक काले कोटधारी द्वारा हमारी जानमाल को कभी भी क्षति पहुंचाई जा सकती है , ऐसी साजिश शिवेन्द्र कुमार जैसे साजिशकर्ता मिलकर रच रहे हैं।  


वहीं दूसरी ओर उत्तर प्रदेश राज्य सूचना आयोग में अपीलार्थियों - शिकायतकर्ताओं को खाकी का भय दिखाकर लोगों में आयोग की चौखट पर सोंच समझकर पांव रखने का संदेश भी दिया जा रहा है।आतंक का साम्राज्य स्थापित करवाने में ऐसे संदिग्ध उपनिरीक्षक के खिलाफ तत्काल कानूनी कार्यवाही किये जाने की मांग यहां के तमाम जागरूक वरिष्ठ समाजसेवियों व आरटीआई कार्यकर्ताओं ने राष्ट्रहित में उत्तर प्रदेश के महामहिम राज्यपाल से की है।


लोगों ने आरोप लगाया है कि यहां तैनात उपनिरीक्षक शिवेंद्र कुमार भ्रष्टाचार और भ्रष्टाचारियों को बचा रहा है और खाकी का रौब दिखाकर नाजायज परेशान करता रहता है।  वरिष्ठ आरटीआई कार्यकर्ता अशोक कुमार गोयल , हरपाल सिंह, तनवीर अहमद सिद्दीकी, आनन्द प्रसाद, परवेज आलम, वी०एन० यादव इत्यादि का मानना है कि हो न हो करोड़ों-अरबों के घोटालेबाजों को छुपाने के वास्ते ही उपनिरीक्षक शिवेंद्र कुमार की पोस्टिंग एक कालेकोटधारी ने सत्ता में अपनी अच्छी पकड़ के चलते करवाई है। इन लोगों ने इनकी संदिग्ध भूमिका की जांच राष्ट्रहित में किसी उच्च स्तरीय जांच एजेंसी से कराने की मांग को दोहराया है। 


श्री गोयल ने आरोप लगाया है कि देश की सर्वोच्च अदालत द्वारा आईटी एक्ट की धारा 66ए खत्म कर दिए जाने के बावजूद एक दलाल सरीखे वकील से सांठगांठ करके थाना विभूतिखंड ने सुप्रीम कोर्ट के आदेशों की जानबूझकर अवहेलना की है। उन्होंने डीजीपी से दोषी जनों के खिलाफ संगीन धाराओं में मामले को दर्ज किये जाने की भी मांग की है!


शताब्दी एक्सप्रेस के पहिए हुए जाम

दौसा में शताब्दी एक्सप्रेस के पहिए हुए जाम, धुंआ निकला तो रेलवे प्रशासन में मचा हड़कंप


दौसा ! रविवार को बांदीकुई स्टेशन पर शताब्दी एक्सप्रेस के पहिए जाम हो जाने से रेलवे प्रशासन में हड़कंप मच गया! पहिए जाम होने से टायरों से धुंआ निकलने लगा! बाद में तत्काल तकनीकी कर्मचारियों ने मौके पर पहुंचकर उसे ठीक किया और ट्रेन को वहां से रवाना किया! इससे ट्रेन करीब 15 मिनट देरी से रवाना हो पाई!


कोच नंबर C-12 के पहियों के नीचे से उठा धुंआ


जानकारी के अनुसार शताब्दी एक्सप्रेस सोमवार को सुबह दिल्ली से अजमेर जा रही थी! बीच में दौसा के बांदीकुई स्टेशन पर रुकने के बाद करीब 10.50 बजे ट्रेन जैसे ही रवाना होने लगी तो उसके ब्रेक जाम हो गए! ट्रेन के कोच नंबर C-12 के पहियों के नीचे से धुंआ उठने लग गया! यह देखकर रेलवे प्रशासन में एकबारगी हड़कंप मच गया! रेलवे कर्मचारी भागकर कोच के पास पहुंचे!


शामली पुलिस ने किया शिविर का आयोजन

 


शामली पुलिस ने किया कांवड़ शिविर का आयोजन


शामली ! थाना आदर्श मंडी क्षेत्र के सहारनपुर तिराहे पर आदर्श मंडी के थानाध्यक्ष कर्म वीर सिंह द्वारा कांवड़ शिविर का  का आयोजन किया गया भोले शिव के भक्तों सेवार्थ खीर, पानी,, जूस आदि शिव भक्तों में वितरित की गई! साइबर सेल प्रभारी कर्मवीर सिंह द्वारा कांवरियों की सेवा की गई !जो भी  सेवा भाव को देखता दंग रह जाता ! क्योंकि पुलिस की छवि आज भी लोगों की नजरों में कुछ सही नहीं है! लेकिन ऐसा नहीं है शामली पुलिस हमेशा ही उत्तर प्रदेश में पहला स्थान रखती है!


     


मोहसिन अली,


समिति चेयरमैन के पद पुनः आवंटन

चंडीगढ़ ! हरियाणा सरकार ने जिला करनाल, फतेहाबाद, कुरुक्षेत्र और सिरसा के लिए जिला जन सम्पर्क एवं कष्ट निवारण समिति के चेयरमैन हेतु पुन: आबंटन किया है। करनाल और फतेहाबाद जिलों के लिए सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री  कृष्ण बेदी जिला जन सम्पर्क एवं कष्ट निवारण समिति के चेयरमैन होंगे।


इसी प्रकार, कुरुक्षेत्र और सिरसा के लिए खाद्य, नागरिक आपूर्ति और उपभोक्ता मामले मंत्री करण देव कम्बोज को जिला जन सम्पर्क एवं कष्ट निवारण समिति का चेयरमैन लगाया गया है। उन्होंने बताया कि ये दोनों मंत्री आबंटित किए गये अपने-अपने जिलों में मासिक बैठकों की अध्यक्षता करेंगे।


सांप जंगल में छुड़वाए,सपेरे खदेडे

ट्रेनों में यात्रियों को सांप दिखाकर कमाई करने वाले चार सपेरे चढ़े आरपीएफ के हत्थे


सांप दिखाकर ट्रेनों में वसूली करने वाले चार सपेरों को दबोचा


आधा दर्जन कोबरा सांपों को जंगल में छोड़वाया गया


प्रतापगढ़। रेलवे पुलिस ने ट्रेनों में यात्रियों को सांप दिखाकर डराने के बाद वसूली करने वाले चार सपेरों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। उनके पास से करीब आधा दर्जन कोबरा सांप मिले हैं। उन्हें जंगल में छोड़वाने के बाद सपेरों को जेल भेज दिया गया।


15 जुलाई को देहरादून जा रही जनता एक्सप्रेस के एक कोच में चढ़ा सपेरा पैसा न देने वाले यात्रियों के गले में जबरन कोबरा सांप डाल दे रहा था। इसे लेकर हंगामा हुआ था। रेल प्रशासन ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए आरपीएफ को सपेरों के खिलाफ कार्रवाई करने का आदेश दिया। इस पर आरपीएफ इंस्पेक्टर हमराहियों के साथ रविवार को ट्रेनों में छापेमारी शुरू कर दी।


पुलिस-अधीक्षक के नेतृत्व में कसी कमर


 एसपी अभिषेक सिंह की कप्तानी में आक्रामक हुई प्रतापगढ़ पुलिस टीम ,नए कप्तान के आते ही टीम में दिख रहा दम


एसपी साहब के दिशा निर्देश से जनपद में ताबड़तोड़ छापेमारी से अवैध कारोबार व नशा खोरी का गोरखधंधा करने वालो की टूटी कमर


प्रतापगढ़ ! पुलिस अधीक्षक अभिषेक सिंह ने जिस दिन से प्रतापगढ़ शहर का चार्ज संभाला है आम आदमी से लेकर पुलिस प्रशासन में अपराध मुक्त जिला बनाने की जुटी हिम्मत। काला कारोबार हो या नशा खोरी का बाजार सभी का तिलिस्म ढहा दे रहे एसपी अभिषेक कुमार।लूट,डकैती,हत्या हो या जुए की फड़ से लेकर सभी अवैध धंधे को तोड़ी कमर। लगातार सभी गोरखधंधे का वीडियो हो रहा वायरल। वीडियो वायरल होते ही पुलिस आ रही हरकत में तुरंत दोषियो की हो रही गिरफ्तारी भेजा जा रहा जेल। लापरवाह पुलिस व अपराधियो से गठजोड़ करने वाले सिपाही व दरोगा पर एसपी हुए सख्त तुरंत निलंबन हो रहा जारी। तेज तर्राक पुलिस अधीक्षक से जिले की जनता को है काफी उम्मीद।अब लग रहा अपराध जगत से थर्रा रहे अपराध गढ़ को फिर बना देंगे शहर प्रतापगढ़।


दीपक मिश्रा


नगर-निगम की वास्तविकता: स्मार्ट-सिटी

मधुकर कहिन
 स्मार्ट सिटी के लिए निगम हेतु ध्यान देने लायक कुछ आवश्यक बातें 


 मेयर साहब के ही वार्ड 56 में, अना सागर पाल की हालत बहुत खस्ता है । ना साफ सफाई है न ही पाल पूरी तरह से बनी हुई है। बीच-बीच में टूटी हुई है।
एक नाव उस तरफ पानी में औंधी पड़ी हुई है। जो की बुरी तरह सड़न फैला रही है। जिससे संभवत जल प्रदूषण भी हो रहा है । उस तरफ पैदल घूमने वाले लोग उस सड़ांध भरी बदबू को बखूबी महसूस कर सकते हैं।


 मित्तल अस्पताल के बाहर लगभग आधी सड़क मित्तल अस्पताल का पार्किंग स्थल बनी हुई है। जिसमें कि उसके बाहर लगाई गई आने जाने वाले लोगों के बैठने के लिए बनी बेंच तक, उस पार्किंग के अंदर ही समा जाती है। *क्या निगम मित्तल अस्पताल से सड़क को पार्किंग स्थल की तरह इस्तेमाल करने हेतु कोई शुल्क ले रहा है ? या बस यूं ही मित्तल अस्पताल प्रशासन सरकारी सड़क पर पार्किंग के मजे फोकट में ले रहा है।


शहर भर में निगम द्वारा पार्किंग की व्यवस्था को सुचारू करने के लिए, नालों को ढकने का कदम उठाया गया है। जबकि पृथ्वीराज मार्ग की वह सड़क जो आगरा गेट से बस स्टैंड की तरफ जाती है। उस सड़क पर विशेष तौर से पूरी तरह से नाला ढकने वाली जगह का जमकर अतिक्रमणकारियों द्वारा दुरुपयोग हो रहा है। इसी प्रकार से क्षेत्रपाल अस्पताल के सामने जो नाला ढककर पार्किंग व्यवस्था की गई है उस पार्किंग व्यवस्था में अक्सर खाद्य सामग्री के ठेले खड़े हुए हैं। जो की पार्किंग की जगह फिर रोक कर खड़े हैं।


शहर भर में 'आवारा पशुओं' का जमावड़ा। जिसकी वजह से आए दिन किसी न किसी को दुर्घटना का शिकार होना पड़ता है। विशेष तौर पर गायों को पकड़कर कांजी हाउस में जमा करने वाला दल शायद थोड़ा कम सक्रिय है। आवारा कुत्तों की धरपकड़ तो लगभग न के बराबर है।गौरव पथ पर खड़ी कई विशाल इमारतें विक्रम के कायदे कानून को ठेंगा दिखा रही है। जिसकी वजह से गौरव पथ का गौरव घट रहा है।


नरेश राघानी


मौसेरे भाई का हत्यारा,बुआ के घर दबोचा

दोस्त के भाई का डंडे से पीट पीटकर हत्या करने वाले हत्यारोपी को बुआ के घर से दबोचा पुलिस ने


कोरबा,पाली ! अपने दोस्त के मौसेरे भाई की हत्या वारदात में शामिल होने के बाद मौके से भागकर बुआ के घर छिपे आरोपी अशोक अघरिया को गत रात्रि घेराबंदी कर पाली टीआई राजेश पटेल ने हमराह स्टाफ के साथ लहंगाबहार तुमान में धर दबोचा।जिसे रिमाण्ड में न्यायालय पेश किया गया।


मिली जानकारी के अनुसार विगत 20 जुलाई की सायं 6 बजे के लगभग पाली थानांतर्गत वन्यग्राम पहाड़गांव निवासी इतवार सिंह स्रोते उम्र 40 पिता तारण सिंह की शराब के नशे में विवाद होने पर उसके मौसेरे भाई मोहन सिंह उम्र 29 पिता सेवा सिंह ने अपने दोस्त अशोक अघरिया के साथ मिलकर लाठी डण्डे से पीट-पीटकर हत्या कर दिया था।हत्या के बाद एक ओर जहां मोहन सिंह को पाली पुलिस ने कल गिरफ्तार कर लिया था।वहीं पुलिस के पहुंचने पर चकमा देकर अशोक अघरिया भाग निकला था।इस मामले में पाली पुलिस ने अपराध क्रमांक 130/19 धारा 302, 34 एक राय होकर हत्या किए जाने का जुर्म आरोपियों के विरूद्ध दर्ज कर लिया।विवेचना के दौरान फरार आरोपी अशोक की सरगर्मी से तलाश की जा रही थी।बताया जाता है कि मुखबीर से मिली सूचना पर पाली टीआई राजेश पटेल अपने हमराह एवं चैतमा चौकी प्रभारी मंगतुराम मरकाम एवं आरक्षक हेमंत कुर्रे, रामकुमार पाटले तथा रामधन पटेल के साथ घेराबंदी कर, अशोक अघरिया को उसकी बुआ के घर वन्यग्राम लहंगा बहार तुमान से गत रात्रि धर दबोचा।आरोपी को रातो-रातो पाली थाना लाया गया। जिसे रिमाण्ड पर न्यायालय पेश किए जाने की वैधानिक कार्रवाई की गई है।


एमटीएनएल बिल्डिंग में लगी आग : सुरक्षित


मुंबई की MTNL बिल्डिंग में आग, 35 लोग सुरक्षित निकाले गए


मुंबई ! सोमवार को बांद्रा स्थित महानगर टेलीफोन निगम लिमिटेड (MTNL) की बिल्डिंग में भीषण आग लग गई !बचाव कार्य के लिए मौके पर फायरब्रिगेड डिपार्टमेंट की 14 गाड़ियां पहुंची हैं! फायरब्रिगेड के बचावकर्मी आग बुझाने की कोशिश में लगे हैं!


बिल्डिंग में 100 लोगों के फंसे थे, जिनमें से 35 लोगों को सुरक्षित बाहर निकाला गया है! हालांकि किसी के हताहत होने की जानकारी नहीं मिली है! लोगों सुरक्षित बाहर निकालने के लिए बचाव कार्य जारी है!


मिली जानकारी के मुताबिक MTNL बिल्डिंग की तीसरी और चौथी मंजील पर आग लगी है! ये बिल्डिंग कुल 9 मंजिल की है! आग किस वजह से लगी फिलहाल ये बात अभी साफ नहीं है!इससे पहले मुंबई के ताजमहल होटल के पास चर्चिल चैंबर की बिल्डिंग में भी आग लगी थी! फायरब्रिगेड के कर्मचारियों ने 14 लोगों बचाया था! हादसे में एक व्यक्ति की मौत भी हो गई थी! वहीं, पांच लोग जख्मी हो गए थे!


भ्रष्टाचार की जड़ें मजबूत: लखनऊ

लखनऊ। प्रदेश की राजधानी और मंत्रीयों,प्रमुख सचिवों की नाक के नीचे लखनऊ नगर-निगम के अधिशासी अभियंता मनीष अवस्थी लगभग दस वर्षों से अधिक समय से जमे हुए हैं! जो जोन-3 और जोन -7 लम्बे समय से देख रहे हैं। जानकारों का मानना है कि यह 18 वर्षों से जमे हुए हैं और कई सरकारें आयीं और चली गयीं परन्तु एक्स.ई.एन.मनीष अवस्थी को हिला नहीं पायी! क्योंकि यह ठेकेदारों से कमीशन लेकर सम्बन्धित अधिकारी,बिधायक,मंत्री तक पहुँचाते हैं! इसीलिए किसी भी सरकार में कोई हटा नहीं पाता है! यह करते भी कुछ नहीं सिर्फ नगर-निगम पर बोझ बने हुए हैं। यह किसी भी साइड पर जाते नहीं हैं! बल्कि आफिस में ही बैठकर फाइलों पर साइन कर निकल जाते हैं, कार्यालय में बहुत ही कम पाये जाते हैं।यहाँ तक की विधायक,मंत्री शासन में इनकी पैरबी भी करते हैं।


मंदिर में फेसबुक पर लाइव सुसाइड

प्रेम में धोखा खाए प्रेमी ने मंदिर में की आत्महत्या, फेसबुक पर लाइव


आगरा ! रैभा गांव में प्रेम में ठुकराए, एक प्रेमी ने एक मंदिर में आत्महत्या कर ली और इस घटना को फेसबुक पर लाईव-स्ट्रीम कर दिया। व्यक्ति (22) की प्रेमिका की सगाई किसी अन्य व्यक्ति के साथ हो गई थी, जिसे वह सहन नहीं कर पाया।इसके अलावा व्यक्ति ने आत्महत्या से पहले चार पन्नों का पत्र भी लिखा था, जिसमें उसने ऐसा कदम उठाने को लेकर अपने परिवार वालों से माफी मांगी है और मरने के बाद अपने शरीर के अंगों को दान करने की ईच्छा जाहिर की है।


चौंकाने वाली बात तो यह है कि इस आत्महत्या की घटना को उसके कुछ फेसबुक के दोस्तों ने लाईव देखा भी है, क्योंकि इस कदम के बारे में उसने अपने कुछ दोस्तों और परिवार वालों को जानकारी भी दी थी। पुलिस रिपोर्ट के अनुसार, यह घटना शनिवार की है। मृतक की पहचान श्याम शिकरवार के तौर पर हुई है और स्थानीय लोगों ने उसे मंदिर परिसर के भीतर फांसी से झूलते देखा।


शिवालयों में नहीं,पैर रखने की जगह


सावन माह में भगवान शिव की पूजा अर्चना करने वाले युवा श्रद्धालु थोड़ा समय माता-पिता की सेवा में भी लगाएं। हाथों हाथ मिलेगा फल।


उज्जैन ! सावन माह का पहला सोमवार रहा। सोमवार को भगवान शिव का दिन माना जाता है। यही वजह रही कि सावन के पहले सोमवार को देश भर के शिवालयों में श्रद्धालुओं की भीड़ लगी रही। उज्जैन के महाकाल जैसे मंदिरों में तो पैर रखने की जगह भी नहीं थी। सावन माह में शिव मंदिरों में पूजा अर्चना करने का अब फैशन हो गया है। धनाढ्य और मध्यमवर्गीय परिवार के युवा आपस में मिलकर रोजाना पूजा-अर्चना करते हैं। इन दिनों ऐसे कई युवा मिल जाएंगे जिनके माथे पर चंदन का बड़ा तिलक लगा होगा और हाथ में लच्छे  बांधे होंगे। वर्ष में 11 माह सुबह देर से उठने वाले युवा भी सावन माह में पूजा के लिए सुबह जल्दी उठ रहे हैं। इसे भगवान शिव का प्रताप ही कहा जाएगा कि सावन में अनेक लोग शराब आदि का सेवा भी नहीं करते हैं। यानि भगवान के प्रति श्रद्धा प्रकट करने में कोई कसर नहीं छोड़ी जा रही है। घर-दुकान सारा कामकाज छोड़ कर पूजा में लगे हुए हैं। मेहनती युवा तो आसपास के सरोवर या नदी से अपने मंदिर तक कावर्ड यात्रा निकाल रहे हैं। कावड़ यात्रा और पूजा अर्चना के साथ ही सहस्त्र धाराओं का दौर शुरू हो गया है। राजस्थान जैसे प्रदेश में अभी भले ही मानसून की बरसात नहीं हुई हो, लेकिन भगवान शिव की प्रतिमा पर हजारों लीटर पानी बहाया जा रहा है। मेरा भी मानना है कि पूजा अर्चना से मन की शांति मिलती है तथा कठिन कार्य करने के लिए आत्मबल मिलता है। हम भगवान के भरोसे विपरीत परिस्थितियों में भी संघर्ष करते हैं। हर श्रद्धालुओं को लगता है कि भगवान उनके साथ है। इसलिए जो युवा सावन माह में रोजाना शिव मंदिरों में पूजा अर्चना कर रहे हैं, उन पर मेरा कोई ऐतराज नहीं है, लेकिन अच्छा हो कि ऐसे युवा कुछ समय निकाल कर अपने माता-पिता की सेवा भी कर लें। भगवान शिव के प्रतिफल के लिए तो थोड़ा इंतजार भी करना पड़ सकता है। लेकिन माता-पिता की सेवा का फल तो हाथों हाथ मिल जाएगा। यदि मंदिर में पूजा में दो घंटे लगते हैं तो माता-पिता की 15 मिनट की सेवा से ही काम चल जाएगा। जिन परिवारों में माता-पिता हैं वे तो पहले ही पवित्र बने हुए हैं। कई माता-पिता अपने बेटों से संवाद करने के लिए लालायित रहते हैं, लेकिन बेटों की व्यस्तता की वजह से बात नहीं होती है। जिन माता-पिता का एक ही बेटा है और वह भी किसी महानगर या विदेश में नौकरी करता है तो भी ऐसे माता-पिता को अपने बेटे पर गर्व होता है। कभी किसी से शिकायत नहीं करते। भारत की सामाजिक और पारिवारिक व्यवस्थाओं पर कभी अलग से लिखा जाएगा, फिलहाल सावन माह में पूजा अर्चना करने वाले युवा श्रद्धालु थोड़ा समय अपने माता-पिता की सेवा में भी लगाएं और भी कुछ नहीं तो मधुरता के साथ बात ही कर लें। मेरी भगवान शिव से प्रार्थना है कि जो युवा सावन में पूजा अर्चना कर रहे हैं उन्हें माता-पिता की सेवा करने की सद्बुद्धि प्रदान करें। यदि परिवार में माता-पिता का सम्मान नहीं है तो फिर पूजा-अर्चना का कोई फायदा नहीं है।
एस.पी.मित्तल


वीडियो बनाने वाले,काश आग बुझाते

 


काश! मोबाइल पर वीडियो बनाने वाले अजमेर में आग बुझाने का काम करते।
आखिर क्या हो गया है समाज को।


अजमेर ! कलरात को अजमेर के नया बाजार चैपड़ के निकट मुरारीलाल बंसल की सर्राफा दुकान पर भीषण आग लग गई। आग लगते ही सैकड़ों लोग दुकान के बाहर जमा हो गए और अपने मोबाइल फोन से वीडियो बनाने का काम करने लगे। इधर बंसल की दुकान से आग के गोले निकल रहे थे और उधर अनेक लोग अपने मोबाइल पर वीडियो बनाकर मजा ले रहे थे। सवाल उठता है कि जो लोग वीडियो बनाने का काम  कर रहे थे, क्या वे आग बुझाने में सहयोग नहीं कर सकते थे? यदि वीडियो बनाने के बजाए आग बुझाने का काम किया जाता तो शायद आग पर नियंत्रण पाया जा सकता था। दुकान मालिक बंसल का कहना है कि 21 जुलाई की रात को वह दुकान बंद कर अपने घर पहुंचा ही था कि दुकान में आग लगने की सूचना आ गई। आग इतनी तेज थी कि थोड़ी ही देर में दुकान में रखा सारा सामान और फर्नीचर जल कर राख हो गया। फर्नीचर के चलने से भारी नुकसान हुआ है। हालांकि दुकान में सोना चांदी का सामान कम ही रखा गया था, लेकिन ग्राहकों के हिसाब के कागजात जल कर राख हो गए। नुकसान का आंकलन किया जा रहा है। आम तौर पर यही देखा जाता है कि कोई भी घटना घटने पर लोग अपने मोबाइल से वीडियो बनाने में लगे रहते हैं। यदि घटना पर नियंत्रण पाने का काम किया जाए तो नुकसान होने से बजाया जा सकता है।  
  एस.पी.मित्तल


इसरो ने कीर्तिमान स्थापित किया (संपादकीय)


अब 6 सितम्बर को भारत की मुट्ठी में होगा चन्दा मामा
2022 में भारतीय भी उतरेंगे चन्द्रमा की सतह पर।
अमरीका का यान मात्र चार दिन में पहुंच गया था।


दोपहर 2ः43 मिनट पर तमिलनाडु के श्रीहरिकोटा से चन्द्रयान-2 की सफल लाॅचिंग हो गई। लाॅचिंग के 16 मिनट बाद यान को पृथ्वी की कक्षा में स्थापित कर दिया गया। इससे इसरो के सभी वैज्ञानिक खुश हैं। देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सफल लाॅचिंग के लिए वैज्ञानिकों की पीठ थपथपाई है। चन्द्रयान-2 आगामी 6 सितम्बर को चन्द्रमा की सतह पर उतर जाएगा और निर्धारित प्रोग्राम के मुताबिक रोवर प्रज्ञान साउथ पोल पर उपस्थित मिनरल और वातावरण की जांच करेंगे। चन्द्रयान-2 को चन्द्रमा की सतह पर पहुंचने में करीब 48 दिन लगेंगे। यहां यह खासतौर से उल्लेखनीय है कि अमरीका ने मात्र चार दिन में चन्द्रयान को सतह पर उतार दिया था, असल में अमरीका ने ऐसी तकनीक विकसित की है जिसके अंतर्गत पृथ्वी से सीधे चन्द्रमा पर पहुंचा जा सकता है। जबकि भारत के पास अभी ऐसी तकनीक नहीं है। वैज्ञानिकों के अनुसार हमारा चन्द्रयान चन्द्रमा के अनेक चक्कर लगाएगा और फिर साउथ पोल की खिड़की से सतह पर उतरेगा। लेकिन भारत के वैज्ञानिक इस बात से खुश है कि चन्द्रयान-2 दो की सफलता के बाद 2022 चन्द्रयान-3 चन्द्रमा पर भेजा जाएगा। इस यान में दो भारतीय नागरिक भी होंगे। भारत के लिए यह बहुत बड़ी उपलब्धि है कि चन्द्रयान-2 चन्द्रमा की सतह पर पहुंच रहा है। यानि 6 सितम्बर को चन्दामामा भारत की मुट्ठी में होगा। अब तक बुजुर्ग महिलाएं चन्द्रमा को लेकर बच्चों को कहानियां सुनाती रही हैं। लेकिन अब हमारे यान को चन्द्रमा पर उतरने का अवसर मिल रहा है। अब तक अमरीका, रूस और चीन ही चन्द्रमा की सतह पर पहुंच हैं। भारत चैथा ऐसा देश है जो अब चन्द्रमा की सतह पर पहुंच रहा है। 3.8 टन वजन वाले चन्द्रयान पर करीब एक हजार करोड़ रुपए की राशि खर्च हुई है। 15 जुलाई को तकनीकी कारणों से चन्द्रयान की लाॅचिंग टाल दी गई थी, लेकिन 22 जुलाई को लाॅचिंग पूरी तरह सफल रही।
एस.पी.मित्तल


भाजपा जिला अध्यक्ष ने थाने से ली जानकारी

 


भाजपा जिलाध्यक्ष ने ली कार्रवाही की जानकारी


 बागपत,बिनौली ! भाजपा जिलाध्यक्ष वेदपाल उपाध्याय रविवार को बिनौली थाने पहुंचे। जहां उन्होंने बुढेडा में हुई गौकशी की घटना में आरोपितों के खिलाफ कार्यवाही की जानकारी ली। इस दौरान उन्होंने गौतस्करों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही करने पर इंस्पेक्टर की पीठ भी थपथपाई।


इस दौरान भाजपा जिलाध्यक्ष ने पत्रकारों से वार्ता के दौरान कहा कि जनपद में गौवंश कटान किसी भी सूरत में नही होने दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि कुछ असामाजिक तत्व जनपद का माहौल खराब करना चाहते हैं। लेकिन उनके मंसूबे पूरे नही होंगे। उन्होंने इंस्पेक्टर बिनौली रवेंद्र सिंह द्वारा बुढेडा की घटना का कम समय मे राजफाश कर आरोपितों की गिरफ्तारी करने पर सराहना की। इस दौरान उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं को भी ऐसी घटनाओं के प्रति सतर्क रहने का आहवान किया तथा असामाजिक तत्वों व अपराधियों की पुलिस से सिफारिश न करने की भी अपील की।



छात्रा की गोली मारकर हत्या, गिरफ्तार

गोली मारकर छात्रा की हत्या, होटल मालिक गिरफ्तार



वाराणसी। शहर के सिगरा थानान्तर्गत सिगरा स्पोर्ट्स स्टेडियम के ठीक सामने स्थित होटल अशोक में सोमवार को सुबह काशी विद्यापीठ की छात्रा की गोली मारकर हत्या कर दी गयी। इस घटना से क्षेत्र में सनसनी फ़ैल गयी। फिलहाल घटना की सूचना पर मौके पर पहुंची सिगरा पुलिस ने होटल मालिक को गिरफ्तार कर लिया है। घटनास्थल पर पहुँचे एसएसपी आनंद कुलकर्णी ने भी निरिक्षण कर घटना की जानकारी ली।
जानकारी के अनुसार मंडुआडीह थानाक्षेत्र की निवासी युवती श्वेता सिंह उर्फ लव्लिका सिंह महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ की छात्रा थी ! उसकी होटल मालिक से दोस्ती थी। होटल मालिक अमित सिंह से पुलिस पूछताछ कर रही है। मौके पर फोरेंसिक टीम साक्ष्य इकठ्ठा कर रही है। फिलहाल घटना के कारणों की अभी पुष्टि नहीं हो सकी है।
इस सम्बन्ध में सीओ चेतगंज अंकिता सिंह ने बताया कि घटना की सूचना हमें कंट्रोल रूम से साढ़े पांच बजे मिली थी कि होटल अशोका में गोली चली है। इसपर हम यहां आये तो देखा कि श्वेता उर्फ लव्लिका सिंह नाम की लड़की को होटल के मालिक अमित सिंह ने गोली मारकर हत्या कर दी है। अभियुक्त को मौके से गिरफ्तार किया गया है। सीओ ने बताया कि अभियुक्त की पहले से इनसे मित्रता थी।


3 कांवड़ियों की मृत्यु:सड़क हादसा

 


रोडवेज बस की टक्कर से तीन कांवरियों की दर्दनाक मौत, परिवार में मचा कोहराम


 हरदोई, संडीला! थाना क्षेत्र कासिमपुर के संडीला गौसगंज मार्ग पर ग्राम निरहुआ के पास रोडवेज यूपी 30 टी 8403 की जोरदार टक्कर से बाइक सवार तीन कांवरियों की दर्दनाक मृत्युु, जिनकी पहचान सुभाष चंद्र पुत्र रामकुमार निवासी छावन थाना अतरौली व सर्वेश पुत्र राजकुमार ग्राम मोहदीनपुर थाना मल्लावां व विनोद पुत्र रामचंद्र निवासी महामन थाना संडीला की हुई है। इस जोरदार टक्कर से दो की मौके पर ही मृत्यु हो गई, तीसरे युवक की ट्रामा सेंटर ले जाते समय रास्ते में मृत्यु हो गई। इस घटना से परिवार में कोहराम मच गया है। पुलिस मौके पर  मौजूद है!


मानक के विरुद्ध सड़क की चौड़ाई,किए आदेश

मानक के विपरीत पाया गया सीसी सड़क का निर्माण
 जेई ने निरीक्षण कर कार्यवाही करने का आश्वासन दिया


 विजय द्विवेदी


 जगम्मनपुर, जालौन। प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत निर्मित हो रहे सीसी रोड की मोटाई मानक से आधी पाए जाने पर जेई ने कार्यवाही करने को कहा है।
 ग्राम जगम्मनपुर में मुख्य बाजार तिराहे से हुसेपुरा जागीर तक प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत डेढ़ किलोमीटर सीसी रोड का निर्माण किया जा रहा है जिसमें ठेकेदार द्वारा बेईमानी करने के प्रयास लगातार किए जा रहे हैं । पहले तो इस सड़क निर्माण के लिए स्थानीय नदियों की मिट्टी युक्त घटिया बालू का उपयोग करने का प्रयास किया गया लेकिन गांव वालों की जागरूकता से बालू की गुणवत्ता में सुधार कराया गया किंतु ठेकेदार के नुमाइंदों ने जैसे इस सड़क पर बेईमानी करने की सौगंध ही उठा रखी हो और उन्होंने जगम्मनपुर के किनारे चिकवा मोहल्ला में सीसी रोड की मोटाई 20 सेमी की तुलना में मात्र 10 सेंटीमीटर से 15 सेंटीमीटर के बीच थी । बीच-बीच में कई स्थानों पर सरिया का प्रयोग किए बिना ही रोड डाल दी गई । इस रोड पर सर्वाधिक लोड युक्त ट्रैक्टर जिनमें 4-5 हजार ईट लदी होती है प्रतिदिन सैकड़ों की संख्या में निकलते हैं । जिसमें रोड एक-दो माह में ही नष्ट हो जाने की आशंका है। स्थानीय ग्रामीणों ने सड़क निर्माण का कार्य देख रहे ठेकेदार के सुपरवाइजरों से कहा कि रोड की मोटाई 20 सेंटीमीटर पूरी करो तो उन्होंने हडक कर चुप रहने को कह दिया और कहा कि इस रोड की हमारी 5 साल की गारंटी है। सुपरवाइजर के कार्य व व्यवहार से क्षुब्ध ग्रामीणों ने अधिकारियों से इसकी शिकायत की तो मौके पर आकर जे ई के एल पोरवाल ने कई जगह सड़क खोदवा कर जांच की तो शिकायत सही पाई गई और उन्होंने लोगों की मौजूदगी में कहा कि ठेकेदार के इस कृत्य की जानकारी उच्चाधिकारियों को दी जाएगी व विभागीय कार्यवाही कर उनका भुगतान रोका जाएगा।


पूर्व विधायक के घर चोरी,कुछ नहीं छोड़ा

सोनीपत ! सोनीपत के पूर्व विधायक देवराज दीवान के घर में घुसकर चोर 10 लाख रुपए से अधिक के सोने-चांदी के जेवर व नकदी चुराकर ले गए। चोरों ने दिनदहाड़े सेक्टर-14 स्थित घर में इस वारदात को अंजाम दिया। पकड़े जाने से बचने के लिए वे वहां लगे सीसीटीवी की डीवीआर भी साथ ले गए। घटना के समय विधायक का बेटा फार्म हाउस पर गया था और बहू अपने बेटे को लेकर डॉक्टर के पास गई थी। इसी दौरान पीछे के दरवाजे का ताला तोड़कर वारदात को अंजाम दिया गया। सिविल लाइन थाना पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।
पूर्व विधायक एवं कांग्रेसी नेता देवराज दीवान के बेटे ललित दीवान सेक्टर-14 में रहते हैं। ललित दोपहर बाद फार्म हाउस पर चले गए थे। उनकी पत्नी गीतांजलि ने साढ़े तीन बजे बड़े बेटे को ट्यूशन के लिए भेज दिया और वह छोटे बेटे को लेकर दांतोंं के डॉक्टर के पास चैकअप के लिए चली गई। गीतांजलि करीब साढ़े पांच बजे लौटी तो मकान में सामान बिखरा पाया। जांच करने पर पता चला कि अलमारी के अंदर रखे सोने-चांदी के आभूषण व नकदी गायब थे। उन्होंने मामले की सूचना परिवार के अन्य सदस्यों को दी, जिसके बाद परिवार के सदस्य व पुलिसकर्मी मौके पर पहुंचे। बताया जा रहा है कि चोर घर से 10 लाख रुपए से अधिक के आभूषण व नकदी ले गए हैं। इस मामले की जांच कर रहे असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर जसबीर सिंह ने बताया कि सेक्टर 14 स्थित देवराज दीवान के मकान में चोरी हुई है। अलग-अलग धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है। चोरों को जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।


बेजुबानों की शामत,बदजुबानों पर रहमत

 बेजुबानों पर शामत,बदजुबानो पर रहमत,यही है सरकार की शियासत
लगातार विवादित रहने के बाद भी क्यों जमे हैं भृष्ट अधिकारी।


ललित श्रीवास्तव


नरसिंहपुर ! मध्यप्रदेश की कमलनाथ सरकार जब से सत्ता में आई है,तबसे ताबड़तोड़ तबादलों का दौर जारी है,विपक्ष द्वारा इस प्रक्रिया को तबादला उधोग का नाम दिया गया है,इन तबादलों की गति और कार्यशैली ऐंसी रही कि कई स्थानों पर तो खोजी कुत्तों के भी तबादले कर दिए गए और कहीं तो एक ही अधिकारी के चार चार बार तबादलों की खबरें भी सामने आईं,यह चमत्कारिक तबादला कार्यक्रम यहीं नही रुका एक स्थान पर तो सचिव की जगह सरपंच का भी ट्रांसफर कर दिया गया, लेकिन नरसिंहपुर में मामला बिल्कुल उलट है,यहाँ बीते दिनों नगर पालिका के बाबुओं के भी ट्रांसफर कर दिए गए,और ट्रांसफर कर दूर दराज के जिलों में फेंक दिया गया,अब इसे तबादला नीति कहें या बदला नीति यह विचार करने का विषय है,लेकिन इतने भीषण तबादलों के बाबजूद भी वर्षों से विवादित अधिकारियों पर सरकार और जिले के जनप्रतिनिधियों की कौन सी कृपा या लगाव है यह शासन प्रशासन पर प्रश्नचिन्ह है...
आखिर क्यों डटे हैं,बदजुबान अधिकारी
जिले के लोक निर्माण विभाग अधिकारी आदित्य सोनी की कार्यशैली से अब पूरा जिला वाकिफ हो चुका है,अपनी विवादित एवं लापरवाह कार्यशैली के चलते चारों ओर यह अधिकारी निंदा के पात्र भी बने हुए हैं,लोक निर्माण विभाग अधिकारी के कार्यकाल में कराए गए निर्माण कार्यों की बात करें तो गुणवत्ता के नाम पर अधिकांश निर्माण कार्य ठप्प ही साबित होंगे,फिर चाहे वह शहर में बनी सड़कें हों,दशहरा मैदान का स्टेडियम ग्राउंड हो या फिर अन्य कार्य,अनेक स्थानों पर तो पिछले पांच वर्षों में कई बार निर्माण कार्यों को उधेड़कर नवीन निर्माण कार्य कर दिए गए,अपने चहेते ठेकेदारों को लाभ पहुंचाने के लिए बागौर टेंडर के निर्माण कार्यों के ठेके दे दिए गए,ऐंसे अनेक कारनामों से सोनी का विरोध होता रहा है,विगत दिवस कांग्रेस के युवा कार्यकर्ताओं से भी बदजुबानी से बात करने के चलते केलेंक्टर महोदय एवं स्थानीय लोगों द्वारा ई ओ सोनी पर आक्रोश व्यक्त किया गया था,कार्यकर्ताओं से बदसलूकी करते हुए उन्होंने कहा कि भाड़ में जाये आपका नरसिंहपुर और यहाँ के भाजपा-कांग्रेस के नेता, मेरा कुछ नही बिगाड़ सकते! इस प्रकार खुलेआम यह अधिकारी जिलेवासियों एवं जनप्रतिनिधियों को खुली चेतावनी देता रहा,लेकिन किसी की आंखे नही खुली! जनप्रतिनिधियों एवं अधिकारियों के संरक्षण से ही सम्भव है! जो इतनी बदजुबानी के बाद भी ऐंसे लापरवाह अधिकारी कुर्सी से चिपके हुए हैं।
सोचने बाली बात तो यह है कि जिस प्रदेश में बेजुबान कुत्तों समेत छोटे-छोटे बाबुओं के भी तबादले किये जा रहे हैं,उसी प्रदेश में एक बदजुबान अधिकारी आखिर किसके संरक्षण में जिले को चुनौती दे रहा है।


उप प्रमुख समेत 20 पर मामले दर्ज

उपप्रमुख समेत 20 पर तोड़फोड़ मामले में केस



मोतिहारी ! ढाका में बाढ़ प्रभावितों द्वारा कार्यालयों में की गयी तोड़फोड़, रोड़ेबाजी, अधिकारियों व कर्मियों के साथ धक्का मुक्की करने आदि मामले में उप प्रमुख आदित्य नारायण झा, बड़हरवा सीवन पंचायत के मुखिया इन्दल साह, पंसस पन्नालाल राय, वार्ड सदस्य रीतेश रंजन उर्फ ज्ञानी, जसवंत सिंह सहित बीस व्यक्तियों को नामजद किया गया है। वहीं करीब एक हजार अज्ञात को अभियुक्त बनाया गया है।


सीओ अशोक कुमार द्वारा दर्ज करायी प्राथमिकी में इनलोगों के अतिरिक्त जटवलिया के विक्की कुमार, गवन्द्री के सरपंच पति मोनाजीर, शेख खैरातु, रक्सा के वलीउल्लाह, मो. सगीर, बुधिया खातून, जमीला खातून, बालकेसी देवी, रबिया खातून, मुड़ली गांव के निजामुदीन, शब्बीर आलम, सोनेलाल साह, रविन्द्र साह, सजीम अंसारी, जब्बार अंसारी को नामजद किया गया है। डीएसपी आलोक कुमार सिंह ने बताया कि सीसीटीवी फुटेज व वीडियो से व्यक्तियों की पहचान की जा रही है। थानाध्यक्ष अजय कुमार ने बताया कि नामजद अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए कार्रवाई हो रही है।


सीलिंग के बाद फैक्ट्रियो का संचालन क्यों

गाजियाबाद ! थाना लोनी बॉर्डर क्षेत्र स्‍थित आर्य नगर में आज  दोपहर प्रशासनिक टीम ने एनजीटी का उल्लंघन कर रही पानी में जहर घोलने वाली एवं अंधाधुंध जल दोहन कर रही लगभग आधा दर्जन  जींस रंगाई की इकाइयों पर सीलिंग की कार्रवाई की !जब एक प्रशासनिक अधिकारी से इस बाबत पूछा गया! सर आज कोई आर्य नगर में सीलिंग की कार्रवाई हुई है! तो उनका कहना था कि आज कोई सीलिंग की कार्रवाई नहीं हुई है! बेहटा हाजीपुर नहर रोड पर अतिक्रमण हटाया गया है, एवं  रोड़ी डस्ट का कार्य करने वालों पर जुर्माना लगाया गया है !सूत्रों के अनुसार जींस रंगाई फैक्ट्री मालिकों को नगर पालिका मिलने के लिए बुलाया गया है !इसी प्रकार एक महीना पहले रूपनगर में भी सीलिंग की कार्रवाई करने के बाद अगले दिन खोल दी गई थी! अब देखना यह है कि क्या कार्रवाई होती है या पहले की तरह सील खोल दी जाएगी !


प्रमोद गर्ग


प्रेम -प्रसंग में अनुकूलता रहेगी :कुंभ

राशिफल 



मेष--- वाणी में हल्के शब्दों के प्रयोग से बचें। बेरोजगारी दूर करने के प्रयास सफल रहेंगे। व्यावसायिक यात्रा सफल रहेगी। अचानक किसी बड़े लाभ के योग हैं। नौकरी में प्रमोशन मिल सकता है। स्वास्थ्य अच्‍छा रहेगा। निवेश से लाभ होगा।



वृष----- लेन-देन में धोखा खा सकते हैं। स्वास्थ्य का पाया कमजोर रहेगा। दुष्टजनों से सावधान रहें। बकाया वसूली के प्रयास सफल रहेंगे। किसी लंबी यात्रा का कार्यक्रम बन सकता है। नए काम प्राप्त होंगे। कारोबार में वृद्धि होगी।


मिथुन----- किसी अनहोनी के होने की आशंका रहेगी। कोई अप्रत्याशित खर्च हो सकता है। आर्थिक स्थिति बिगड़ सकती है। कीमती वस्तुएं संभालकर रखें। चिंता तथा तनाव रहेंगे। जल्दबाजी में कोई निर्णय न लें। आय में निश्चितता रहेगी।


कर्क----- हित शत्रुओं से सावधान रहें। आर्थिक उन्नति के लिए नई योजना बनेगी। तत्काल लाभ नहीं मिलेगा। सामाजिक कार्य करने की प्रेरणा प्राप्त होगी। मान-सम्मान बढ़ेगा। नौकरी में उच्चाधिकारी प्रसन्न रहेंगे। व्यापार अच्छा चलेगा।


सिंह----- वाहन, मशीनरी व अग्नि आदि के प्रयोग में सावधानी रखें। किसी भी तरह की उलझन में न पड़ें। भावना में बहकर कोई निर्णय न लें। विवाद की आशंका है। कीमती वस्तुएं संभालकर रखें। स्वास्थ्य का ध्यान रखें। लाभ होगा।



कन्या -----लाभ के अवसर हाथ आएंगे। बाहर जाने का मन बनेगा। दांपत्य जीवन सुखमय व्यतीत होगा। कानूनी अड़चन दूर होगी। प्रसन्नता का माहौल रहेगा। चोट व रोग से बचें। व्यापार-व्यवसाय अच्‍छा चलेगा। मित्रों का सहयोग मिलेगा।


तुला---- किसी आनंदोत्सव में भाग लेने का अवसर प्राप्त होगा। मनपसंद भोजन का आनंद प्राप्त होगा। विद्यार्थी वर्ग अपना कार्य लगन व उत्साह से कर पाएगा। संगीत इत्यादि में रुचि रहेगी। धन प्राप्ति सुगम होगी। थकान रह सकती है।



वृश्चिक---- किसी पुराने रोग से परेशानी हो सकती है। छोटी-मोटी यात्रा हो सकती है। किसी विवाद में विजय प्राप्त होगी। पूजा-पाठ में मन लगेगा। पारिवारिक सहयोग प्राप्त होगा। घर-बाहर प्रसन्नता का वातावरण रहेगा। धनार्जन होगा।


धनु -----शत्रु नतमस्तक होंगे। विवाद न करें। भूमि व भवन संबंधी कार्य लाभदायक रहेंगे। रोजगार प्राप्ति के प्रयास सफल रहेंगे। कारोबार में वृद्धि होगी। पार्टनरों का सहयोग प्राप्त होगा। जीवन सुखमय व्यतीत होगा। जल्दबाजी न करें।


मकर----- सुख के साधन जुटेंगे। प्रयास सफल रहेंगे। रिश्तेदारों तथा मित्रों का सहयोग कर पाएंगे। पराक्रम व प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी। किसी बड़े कार्य को करने की इच्छा जागृत होगी। व्यस्तता रहेगी। जीवन सुखद व्यतीत होगा। प्रमाद न करें।


कुंभ ----प्रेम-प्रसंग में अनुकूलता रहेगी। दूर से शुभ समाचार की प्राप्ति होगी। आत्मविश्वास में वृद्धि होगी। किसी बड़े कार्य को करने की प्रेरणा प्राप्त होगी। घर में अतिथियों का आगमन होगा। व्यापार-व्यवसाय ठीक चलेगा। नौकरी में सहकर्मी सहयोग करेंगे।


मीन--- किसी पुराने रोग के उभरने की आशंका है। किसी भी तरह की बहस में हिस्सा न लें। कोई दु:खद समाचार की प्राप्ति संभव है। अपेक्षित कार्य में अड़चन आ सकती है। भागदौड़ रहेगी। बेचैनी रहेगी। व्यापार ठीक चलेगा। जोखिम न लें।


नाशपाती के औषधीय गुण

नाशपाती (अंग्रेजी: Pear ; वानस्पतिक नाम :) एक फल है। नाशपाती भी सेब से जुड़ा एक उप-अम्लीय फल है, लेकिन इसमें शर्करा अधिक तथा अम्ल कम पाया जाता है। यह मूल रूप से उत्तरी अफ्रीका, पश्चिमी यूरोप का निवासी था और पूर्वी जंबुद्वीप तक इसका विस्तार हुआ करता था। यह एक मध्यम ऊंचाई का पेड़ होता है जो 10–17 मीटर (33–56 फीट) तक पहुंचता है, प्रायः ऊपर ऊंचा, संकरा किरीट आकार होता है। इसकी कुछ प्रजातियां झाड़ रूपी भी होती हैं, जिनकी ऊंचाई अधिक नहीं होती।


नाश्पाती
Pears.jpg
दो यूरोपियाई नाश्पाती की शाखा
Pear DS.jpg
नाश्पाती का अनुप्रस्थ काट
वैज्ञानिक वर्गीकरण
जगत:
पादप
अश्रेणीत:
सपुष्पक पौधा
अश्रेणीत:
एकबीजपत्री
अश्रेणीत:
रोज़िड
गण:
रोज़ेल्स
कुल:
रोज़ेशी
उपकुल:
ऍमिग्डालोडी[1]
गणजाति:
मालेई
उपगणजाति:
[:w:[Malinae
वंश:
पायरस
ली.
प्रजाति
लगभग ३० प्रजातियाँ; पाठ देखें।


इसकी पत्तियां एक एक करके दायें बाएं व्यवस्थित होती हैं व सीधी 2–12 सेन्टीमीटर (0.79–4.72 इंच) लम्बी, कुछ प्रजातियों में चमकदार हरी, तो कुछ अन्य प्रजातियों में घने रजतवर्णी रोयें से ढंकी हरी होती हैं। इनका आकार चौड़ा ओवल से लेकर संकरा भालानुमा भी होता है। अधिकतर नाश्पाती की प्रजातियाँ पर्णपाती होती हैं, किन्तु दक्षिण-पूर्वी एशिया में एक-दो प्रजातियां सदाबहार भी पायी जाती हैं। अधिकतर ठंड सहने वाली कुछ सख्त होती हैं, जिनमें शीत ऋतु में शून्य के नीचे 25 °से. (77 °फ़ै) से शून्य के नीचे 40 °से. (100 °फ़ै) तापमान सहने की क्षमता होती है। जो सदाबहार प्रजातियाँ होती हैं, उनकी क्षमता मात्र शून्य के नीचे 15 °से. (59 °फ़ै) ही होती है।


नाशपाती के औषधीय गुण :
नाशपाती में बहुत से विटामिन्स और खनिज होते हैं इसलिए इसको खाने से हमारे शरीर को विटामिन्स और आहारीय खनिजों की पूर्ति हो जाती है। नाशपाती में आहारीय रेशे की अच्छी मात्रा होती है, जोकि पाचन तन्त्र को मजबूत बनाता है। नाशपाती खाने से कब्ज ठीक हो जाती है|[2] [3]


 


शीर्ष दस उत्पादक
देश उत्पादन (टन मे) टिप्पणी
Flag of the People's Republic of China.svg चीनी जनवादी गणराज्य 12,625,000 F
Flag of Italy.svg इटली 840,516 
Flag of the United States.svg संयुक्त राज्य 799,180 
Flag of Spain.svg स्पेन 537,400 
Flag of Argentina.svg अर्जेण्टीना 520,000 F
Flag of South Korea (bordered).svg दक्षिण कोरिया 425,000 F
Flag of Turkey.svg तुर्की 349,420 
Flag of Japan.svg जापान 325,000 F
Flag of South Africa.svg दक्षिण अफ़्रीका 325,000 F
Flag of the Netherlands.svg नीदरलैंड 224,000 F
पुरे दुनिया मे 20,105,683 A


श्रावण मास के सोमवार की महिमा (व्रत)

एक समय श्री भूतनाथ महादेव जी मृत्युलोक में विहार की इच्छा करके माता पार्वती के साथ पधारे। विदर्भ देश की अमरावती नगरी जो कि सभी सुखों से परिपूर्ण थी, वहां पधारे! वहां के राजा द्वारा एक अत्यंत सुन्दर शिव मंदिर था, जहां वे रहने लगे। एक बार पार्वती जी ने चौसर खेलने की इच्छा की। तभी मंदिर में पुजारी के प्रवेश करने पर माताजी ने पूछा कि इस बाज़ी में किसकी जीत होगी? तो ब्राह्मण ने कहा कि महादेव जी की। लेकिन पार्वती जी जीत गयीं। तब ब्राह्मण को उन्होंने झूठ बोलने के अपराध में कोढ़ी होने का श्राप दिया। कई दिनों के पश्चात देवलोक की अपसराएं, उस मंदिर में पधारीं और उसे देखकर कारण पूछा. पुजारी ने निःसंकोच सब बताया। तब अप्सराओं ने ढाढस बंधाया और सोलह सोमवार के व्रत्र रखने को बताया। विधि पूछने पर उन्होंने विधि भी उपरोक्तानुसार बतायी! इससे शिवजी की कृपा से सारे मनोरथ पूर्ण हो जाते हैं। फ़िर अप्सराएं स्वर्ग को चलीं गयीं। ब्राह्मण ने सोमवारों का व्रत कर के रोगमुक्त होकर जीवन व्यतीत किया। कुछ दिन उपरांत शिव पार्वती जी के पधारने पर, पार्वती जी ने उसके रोगमुक्त होने का करण पूछा. तब ब्राह्मण ने सारी कथा बतायी! तब पार्वती जी ने भी यही व्रत किया और उनकी मनोकामना पूर्ण हुई। उनके रूठे पुत्र कार्तिकेय जी माता के आज्ञाकारी हुए! परन्तु कार्तिकेय जी ने अपने विचार परिवर्तन का कारण पूछा! तब पार्वती जी ने वही कथा उन्हें भी बतायी! तब स्वामी कार्तिकेय जी ने भी यही व्रत किया। उनकी भी इच्छा पूर्ण हुई। उनसे उनके मित्र ब्राह्मण ने पूछ कर यही व्रत किया। फ़िर वह ब्राह्मण विदेश गया और एक राज के यहां स्वयंवर में गया। वहां राजा ने प्रण किया था, कि एक हथिनी एक माला, जिस के गले में डालेगी, वह अपनी पुत्री उसी से विवाह करेगा। वहां शिव कृपा से हथिनी ने माला उस ब्राह्मण के गले में डाल दी। राजा ने उससे अपनी पुत्री का विवाह कर दिया। उस कन्या के पूछने पर ब्राह्मण ने उसे कथा बतायी! तब उस कन्या ने भी वही व्रत कर एक सुंदर पुत्र पाया। बाद में उस पुत्र ने भी यही व्रत किया और एक वृद्ध राजा का राज्य पाया। जब वह नया राजा सोमवार की पूजा करने गया, तो उसकी पत्नी अश्रद्धा होने से नहीं गयी। पूजा पूर्ण होने पर आकाश वाणी हुई, कि राजन इस कन्या को छोड़ दे, अन्यथा तेरा सर्वनाश हो जाये गा.अंत में उसने रानी को राज्य से निकाल दिया। वह रानी भूखी प्यासी रोती हुई दूसरे नगर में पहुंची! वहां एक बुढ़िया उसे मिली!


उसे एक बुढी औरत मिली जो धागे बनाती थी। उसी के साथ काम करने लगी पर दुसरे दिन जब वो धागा बेचने निकली तो अचानक तेज हवा चली और सारे धागे उड गए तो मालकिन ने गुस्से में आकर उसे कामसे निकाल दिया। फिर रोते फिरते वह एक तेली के घर पहुँची तेली ने उसे रख लिया पर भन्डार घर मे जाते हि तेल के बर्तन गिरगए और तेल बह गया तो उस तेली ने उसे घर से निकाल दिया। इस प्रकार सभी जगह से निकाले जाने के बाद वह एक सुन्दर वन मे पहुँची वहाँ के तलाब से पानी पीने के लिए जब बढी तो तालाब सुख गया थोडा पानी बचा जो कि कीटो से युक्त था। उसी पानी को पीकर वो एक वृक्ष के नीचे बैठ गई पर तुरंत उस वृक्ष के पत्ते झड़ गए। इस तरह वो जिस वृक्ष के नीचे से गुज़रती वह वृक्ष पत्तो से विहीन हो जाता ऐसे ही सारा वन ही सुखने को आया। यह देखकर कुछ चरवाह उस रानी को लेकर एक शिव मंदिर के पुजारी के पास ले गए। वहाँ रानीने पुजारी के आग्रह से सारी बात बतायी और सुन कर पुजारी ने कहा की तुम्हे शिव का श्राप लगा है। रानी ने विनती करके पुछा तो पुजारीने इसके निदान का उपाय बताया और सोमवार व्रत की बिधि बताई। रानी ने तन मन से व्रत पूरा किया और शिव की क्रिपा से सत्रहवे सोमवार को राजा का मन परिवर्तन हुआ। राजा ने रानी को ढुढने दूत भेजे। पता लगने के बाद राजा ने बुलावा भेजा पर पुजारी ने कहा राजा को स्वयं भेजो। इसपर राजा ने विचार किया और स्वयं पहुचे। रानी को लेकर दरवार पहुचे और उनका स्थान दिया। सम्पूर्ण शहर मे खुशियां मनायी गई राजा ने गरीबो को काफि दान दक्षिणा किया और शिव के परमभक्त होकर नियमपूर्वक 16 सोमवार का व्रत करने लगे और संसार के सारे सुख को भोगकर अंतमे शिवधाम गए। इस प्रकार जो भी मन लगाकर श्रद्धा पूर्वक नियमसे 16 सोमवार का ब्रत करेगा वह इस लोकमे परम सुख को प्राप्त कर अंत मे परलोक मे मुक्ति को प्राप्त होगा ।


एमपी: परिजन ने मिट्टी का तेल डालकर लगाईं आग

मनोज सिंह ठाकुर       भोपाल। मध्य प्रदेश के सागर जिले के एक गांव में 25 वर्षीय युवक पर कथित तौर पर प्रेम प्रसंग के चलते युवती के परिजन ने मि...