राजस्थान लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
राजस्थान लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

शनिवार, 2 जुलाई 2022

तालिबानी अंदाज में हत्या, अलवर के बाजार बंद

तालिबानी अंदाज में हत्या, अलवर के बाजार बंद 
नरेश राघानी 
अलवर। राजस्थान के उदयपुर में टेलर कन्हैया लाल की तालिबानी अंदाज में की गई हत्या के विरोध में सर्व समाज और व्यापारियों की ओर से शनिवार को अलवर बंद किया गया। अलवर बंद को सफल बनाने के लिए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के कार्यकर्ताओं ने शहर में शांतिपूर्ण बाजार बंद आह्वान किया। बंद को देखते हुए पुलिस और जिला प्रशासन ने पूरी तैयारी की है। पुलिस और जिला प्रशासन ने इससे पहले अलवर शहर में फ्लैग मार्च निकालकर शांति और सद्भाव बनाए रखने का संदेश दिया।
भाजपा के जिला अध्यक्ष संजय नरूका ने बताया कि जिस तरह उदयपुर में टेलर कन्हैयालाल की बर्बरता पूर्वक हत्या की गई है उसे पूरा राजस्थान ही नहीं पूरा देश उद्धेलित है। उन्होंने आरोप लगाया कि गंगा जमुना संस्कृति की दुहाई देने वाले वह लोग कौन हैं और बाहर निकालने का काम भाजपा कर रही है। उन लोगों को चिन्हित करने का प्रयास किया जा रहा है जो ऐसे अपराधों को बढ़ावा देते हैं। उन्होंने सरकार से मांग की कि जिस तरह कन्हैया पर वार किया गया है उसी तरह अपराधियों को चौराहे पर हलाली कर ऐसी मानसिकता पर प्रहार करना होगा।
पूर्व मंत्री हेमसिंह भड़ाना ने बताया कि सर्व समाज एवं व्यापारियों ने विरोध स्वरूप अलवर बंद किया है और अलवर बंद की पूरी तरह शांतिपूर्ण तरीके से मॉनिटरिंग की जा रही है और यह बंद इस घटना के विरोध स्वरूप किया गया है। इधर पुलिस प्रशासन अलवर बंद के दौरान अभय कमांड सेंटर के 350 सीसी टीवी कैमरों के माध्यम से सुरक्षा व्यवस्था पर विशेष निगरानी रखी जा रही है बंद को देखते हुए अलवर शहर में 500 पुलिसकर्मी तैनात किए गए हैं और सभी थाना क्षेत्रों की गश्त व्यवस्था को भी मजबूत किया गया है।
इस बंद को देखते हुए बिजली विभाग के अधिकारियों को भी निर्देशित किया गया है कि बंद के दौरान बिजली सप्लाई को बंद नहीं किया जाए जिससे अभय कमांड सेंटर के सीसीटीवी कैमरों से ऑनलाइन सुरक्षा व्यवस्था की मॉनिटरिंग की जा सके।

गुरुवार, 16 जून 2022

24 घंटे के दौरान बारिश दर्ज, सामान्य से नीचे तापमान

24 घंटे के दौरान बारिश दर्ज, सामान्य से नीचे तापमान

नरेश राघानी 
जयपुर। राजस्थान के कुछ हिस्सों में पिछले 24 घंटे के दौरान हल्की से मध्यम की बारिश दर्ज की गई। वहीं राज्य के अधिकांश स्थानों में दिन और रात का तापमान सामान्य से नीचे दर्ज किया गया। मौसम विभाग के प्रवक्ता के अनुसार बुधवार सुबह 8.30 बजे तक अजमेर के मांगलियावास में सर्वाधिक 51 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई। प्रवक्ता ने अनुसार कोटा के लाडपुरा में 41 मिलीमीटर, अजमेर में 29 मिलीमीटर, उदयपुर के वल्लभनगर में 27 मिलीमीटर, राजसमंद के देवगढ़ में 23 मिलीमीटर, अजमेर तहसील में 17 मिलीमीटर, अजमेर के नयानगर/ब्यावर में 7 मिलीमीटर, अजमेर के राशमी, चित्तौड़गढ़ के मसूदा और पाली के रायपुर में 6-6 मिलीमीटर, अजमेर के पिंसागन, कोटडा में 5-5 मिलीमीटर और अन्य कई स्थानों पर 4 मिलीमीटर से एक मिलीमीटर तक बारिश दर्ज की गई।
उन्होंने बताया कि गुरुवार को शाम 5.30 बजे तक अलवर में 14.6 मिलीमीटर बारिश, जयपुर में 0.1 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई। राजधानी जयपुर में शाम को मौसम सुहावना बन गया और कुछ इलाकों में हल्की बारिश दर्ज की गई।
विभाग के अनुसार श्रीगंगानगर में अधिकतम तापमान 45.7 डिग्री सेल्सियस, चूरू में 43 डिग्री सेल्सियस, पिलानी में 42.8 डिग्री, धौलपुर में 42.4 डिग्री, अलवर में 42.2 डिग्री,बीकानेर में 41.3 डिग्री, कोटा में 40.8डिग्री, वनस्थली में 40.6 डिग्री और अन्य प्रमुख स्थानों पर 39.9 डिग्री सेल्सियस से लेकर 37.5 डिग्री सेल्सियस के बीच दर्ज किया गया।
विभाग के अनुसार वहीं राज्य के अधिकांश हिस्सों में मंगलवार रात का तापमान 22 डिग्री सेल्सियस से लेकर 33.2 डिग्री सेल्सियस के बीच दर्ज किया गया। विभाग ने आगामी 24 घंटे के दौरान अलवर, भरतपुर, झुंझुनूं, सीकर, गंगानगर, हनुमानगढ, चूरू जिलों में मेघ गर्जन के साथ तेज हवाएं चलने की संभावना जतायी है।

बुधवार, 1 जून 2022

12वीं साइंस-कॉमर्स स्ट्रीम का रिजल्ट जारी करेगा, बोर्ड

12वीं साइंस-कॉमर्स स्ट्रीम का रिजल्ट जारी करेगा, बोर्ड

नरेश राघानी
जयपुर। राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड, बुधवार को 12वीं साइंस और कॉमर्स स्ट्रीम का रिजल्ट जारी करेगा। छात्र rajresults.nic.in पर जाकर रिजल्ट चेक कर सकेंगे।
राजस्थान बोर्ड के 12वीं के कार्पस में 97.53 फीसदी और साइंस में 96.58 फीसदी छात्र पास हुए हैं। राजस्थान बोर्ड साइंस में करीब 2.32 लाख और कॉमर्स में करीब 27 हजार छात्र थे। बोर्ड प्रशासक एलएन मंत्री ने परीक्षा परिणाम जारी किया। छात्र अपना परीक्षा परिणाम लाइव हिंदुस्तान वेबसाइट पर भी देख सकेंगे।
परीक्षा में शामिल हुए छात्रों की सुविधा के लिए इस साल बोर्ड के नतीजे पर भी जारी किए गए हैं। छात्रों को रिजल्ट पेज पर जाकर अपने रोल नंबर की मदद से लॉग इन करना होगा और अपनी मार्कशीट डाउनलोड करनी होगी। परिणाम की घोषणा के साथ, परिणाम डाउनलोड करने का सीधा लिंक आज तक शिक्षा पृष्ठ पर लाइव हो गया है।

रविवार, 15 मई 2022

सड़क हादसे में 6 की मौंत, आधा दर्जन लोग घायल

सड़क हादसे में 6 की मौंत, आधा दर्जन लोग घायल  

नरेश राघानी

जयपुर। राजस्थान के सिरोही जिले के पालड़ी थाना क्षेत्र में रविवार सुबह सड़क हादसे में एक दो साल की बच्ची एवं चार महिलाओं सहित छ: लोगों की मौत हो गई जबकि लगभग आधा दर्जन लोग घायल हो गए। पुलिस के अनुसार यह हादसा सुबह करीब सवा आठ बजे उस समय हुआ जब क्षेत्र के उथमण टोल प्लाजा के पास ट्रक एवं ट्रोला टकरा गये। इस दौरान ट्रक के पीछे चल रही दो कारे भी ट्रक से टकरा गई। इससे एक कार के आगे का हिस्सा पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया।

हादसे के मृतकों की पहचान सिरोही जिले के उन्नाराम, सुगना देवी, बवनी देवी एवं दो साल की एक बच्ची के रुप में की गई जबकि दो महिलाओं की अभी शिनाख्त नहीं हो पाई है। हादसे में घायलों को शिवगंज के सरकारी अस्पताल पहुंचाया गया। जहां उन्हें सिरोही अस्पताल भेज दिया गया। हादसे के बाद पुलिस एवं प्रशासन के अधिकारी मौके पर पहुंचे।

गुरुवार, 12 मई 2022

गोशाला की चार-दीवारी तोड़े जाने से संगठन लामबंद

गोशाला की चार-दीवारी तोड़े जाने से संगठन लामबंद   

नरेश राघानी  

बीकानेर। अतिक्रमण हटाओ दस्ते की ओर से श्रीतुलसी गोशाला की चार-दीवारी तोड़े जाने से हिन्दू संगठन लामबंद हो गए और बृहस्पतिवार को उन्होंने अपनी मांगों का ज्ञापन महापौर को सौंपा। महापौर ने ज्ञापन देने गए प्रतिनिधिमण्डल को आश्वस्त किया कि उनकी समस्या का समाधान जल्द किया जाएगा। बीकानेर गोशाला संघ के अध्यक्ष सूरजमाल सिंह नीमराणा ने न्यूजफास्ट वेब को बताया कि श्रीतुलसी गोशाला की मामले में न्यायालय से स्टे ले रखा है, जिसके बावजूद नगर निगम आयुक्त ने गोशाला की दीवार तोड़ दी और न्यायालय के आदेश का उल्लंघन किया। आज दिए गए ज्ञापन में नगर निगम से गोशाला की दीवार दोबारा बनाने की और गोशाला का पट्टा जारी करने की मांग की गई है।

प्रतिनिधिमण्डल में शामिल बजरंग दल के विभाग संयोजक दुर्गासिंह शेखावत, विश्व हिन्दू परिषद के शहर अध्यक्ष अनिल शर्मा, गो ग्राम सेवा संघ के महेन्द्रसिंह लखासर ने कहा कि कांग्रेस सरकार प्रदेश में तुष्टिकरण की राजनीति कर रही है। हिन्दू आस्थाओं के खिलाफ कार्य कर रही है। जानबूझ कर हिन्दू मानबिन्दुओं को नुकसान पहुंचाया जा रहा है। इस तरह की गतिविधियों से प्रदेश में शांति भंग करने की कोशिशें की जा रही हैं। सरकार को जल्दी इस प्रकार की गतिविधियों पर अंकुश लगाना चाहिए। अन्यथा प्रदेश में आन्दोलन किया जाएगा।
इस प्रदर्शन में भाजपा पार्षद, पार्टी कार्यकर्ता, सामाजिक संगठनों के पदाधिकारी, गौ भक्त, गो सेवी, गोशाला संचालक शामिल रहेे।

सोमवार, 9 मई 2022

राजस्थान: रोजाना 30 से ज्यादा नए मामलें

राजस्थान: रोजाना 30 से ज्यादा नए मामलें

नरेश राघानी
जयपुर। राजस्थान में कोरोना की चौथी लहर की आहट शुरू हो गई है। जयपुर में रोजाना 30 से ज्यादा केस सामने आ रहे है। लेकिन डर इस बात का है कि बच्चों की संख्या पॉजिटिव लिस्ट में बढ़ रही है। अप्रैल में मिले 492 संक्रमितों में 70 बच्चे थे। हालांकि, इनमें 99 फीसदी केस में लक्षण सामान्य मिले हैं। अब भी उन बच्चों को ज्यादा खतरा है, जिनका वैक्सीनेशन शुरू भी नहीं हुआ है। अगर चौथी लहर आती है तो इन बच्चे के सबसे ज्यादा चपेट में आने की आशंका है। पिछली 2 लहरों का ट्रेंड देखे तो डेल्टा वैरिएंट के समय जितने बच्चे संक्रमित हुए थे, ऑमिक्रॉन में संख्या अधिक थी।।
दूसरी लहर के दौरान जयपुर में मिले पॉजिटिव केस और ओमिक्रॉन से दिसंबर 2021 से फरवरी 2022 तक रही तीसरी लहर में केसों की तुलना करें तो तीसरी लहर में बच्चे ज्यादा संक्रमित हुए। पिछले साल जनवरी से मई तक मिले कुल संक्रमितों में औसतन 8 से 11 फीसदी 20 साल तक की एजग्रुप के बच्चे थे, लेकिन तीसरी लहर के दौरान दिसंबर 2021 से लेकर अप्रैल 2022 तक की रिपोर्ट देखें तो संक्रमित 14 से 19 फीसदी के बीच थे।
गंभीरता कम होने के कारण लोगों में डर कम
विशेषज्ञ की मानें तो कोविड की दूसरी लहर में संक्रमित मरीजों में गंभीर बीमार बड़ी संख्या में थे। इससे हॉस्पिटल में एडमिशन बढ़ने के साथ ही बहुत संख्या में डेथ भी हुई थी। उस समय डेल्टा वैरिएंट से इंसान के फेंफड़ें सबसे ज्यादा खराब हो रहे थे, जिसके कारण लोगों के सांस लेने में तकलीफ होने और ऑक्सीजन की मांग बढ़ गई थी। तीसरी लहर में ऐसा कुछ देखने को नहीं मिला तो लोगों में कोरोना को लेकर डर कम रहा।
जयपुर सीएमएचओ डॉ.नरोत्तम शर्मा का कहना है कि जिस तरह दिल्ली, हरियाणा समेत दूसरे राज्यों में केस बढ़ रहे हैं, उसी तरह जयपुर में भी मरीज बढ़ने लगे हैं। इसके लिए हमारी टीम ने टेस्टिंग और ट्रेसिंग बढ़ा दी है। उन्होंने कहा कि अब हमें बच्चों पर विशेष ध्यान रखने की जरूरत है, क्योंकि ओमिक्रॉन वैरिएंट जब आया था बड़ी संख्या में बच्चे संक्रमित हुए थे। वर्तमान में 12 साल से छोटे बच्चों का वैक्सीनेशन नहीं हो रहा है।

शुक्रवार, 22 अप्रैल 2022

300 साल पुराने शिव मंदिर को जमींदोज किया

300 साल पुराने शिव मंदिर को जमींदोज किया   

नरेश राघानी             
अलवर। राजस्थान में अलवर जिले के राजगढ़ में 300 साल पुराने शिव मंदिर को बुलडोजर से जमींदोज कर दिया गया। शिवालय पर जूते पहनकर चढ़ने और मूर्तियों पर कटर मशीन चलाने से हिंदूवादी संगठन भड़क गए हैं। इसके विरोध में नगर पालिका के ईओ, एसडीएम और राजगढ़ विधायक के खिलाफ थाने में मुकदमा दर्ज करवाने के लिए तहरीर दी गई है। लेकिन अभी तक मुकदमा दर्ज नहीं किया गया है।

इसको लेकर बीजेपी भी कांग्रेस की गहलोत सरकार पर हमलावर है। बीजेपी नेशनल आईटी सेल के चीफ अमित मालवीय ने कहा है कि हिंदुओं की आस्था को ठेस पहुंचाना ही कांग्रेस का सेक्युलरिज्म है। मालवीय ने अपने ट्वीट में लिखा, ''राजस्थान के अलवर में विकास के नाम पर तोड़ा गया 300 साल पुराना शिव मंदिर करौली और जहांगीरपुरी पर आंसू बहाना और हिंदुओं की आस्था को ठेस पहुंचाना- यही है कांग्रेस का सेक्युलरिज्म।'' इसके बाद एक और ट्वीट में मालवीय ने कहा, ''18 अप्रैल को राजस्थान के राजगढ़ कस्बे में बिना नोटिस प्रशासन ने 85 हिंदुओं के पक्के मकानों और दुकानों पर बुलडोजर चला दिया।''

मंगलवार, 19 अप्रैल 2022

पिकअप पलटने से 2 महिला सहित 10 की मौंत

पिकअप पलटने से 2 महिला सहित 10 की मौंत   

नरेश राघानी            
झुंझुनूं। राजस्थान में झुंझुनूं जिले में गुढ़ागौड़जी थाना क्षेत्र में पिकअप पलट जाने से मंगलवार को दो महिलाओं सहित दस लोगों की मौत हो गई‌। जबकि अन्य आठ घायल हो गए।
पुलिस के अनुसार गुढ़ागौड़जी कस्बे से दो किलोमीटर दूर झुंझुनूं जाने वाली रोड़ पर लीलो की ढाणी के पास यह पिकअप अचानक अनियंत्रित होकर पलट गई। पिकअप पलटने से उसमें सवार एक महिला समेत आठ लोगों की मौके पर ही मृत्यु हो गई।
घायलों को झुंझुनूं जिला मुख्यालय के राजकीय बीडीके अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां दो लोगों ने और दम तोड़ दिया।
ये लोग अहीरो की ढाणी बड़ाऊ के बताए जा रहे है। अहीरों की ढाणी (कृष्ण नगर) के ये लोग सभी पिकअप गाड़ी में बैठक कर लोहार्गल नहाने गए थे। पिकअप में करीब 18 लोग सवार थे। परिवार में एक वृद्ध की मौत होने पर लोहार्गल में मृतक की भस्मी प्रवाहित कर वहां के कुंड में स्नान कर ये लोग वापिस लौट रहे थे।
पुलिस ने बताया कि हादसे के मृतकों कैलाश (35), भंवरलाल, (35), सुमेर, (50), राजबाला (35) अर्पित(15), मनोहर (50) नरेश (16) और कर्मवीर (20) , बलवीर एवं सावित्री शामिल हैं।

सोमवार, 18 अप्रैल 2022

तेज रफ्तार कार ने बाइक सवारों को मारीं टक्कर

तेज रफ्तार कार ने बाइक सवारों को मारीं टक्कर  

नरेश राघानी           
उदयपुर। सड़क पर फर्राटा भर रही तेज रफ्तार कार ने बाइक पर सवार होकर जा रहे परिवार के लोगों को टक्कर मार दी। इस हादसे में कार के बुरी तरह से परखच्चे उड़ गए और बाइक सवार चार लोग उछलकर सड़क से तकरीबन 20 फीट नीचे गिरे, जिससे चारों की मौके पर ही मौत हो गई है। सूचना पर दौड़ी पुलिस ने चारों के शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिए हैं।
सोमवार को राजस्थान के उदयपुर के कुराबड में बाबूलाल अपनी पत्नी डाई देवी, मां प्रेमी बाई और 5 साल के बेटे छोटू के साथ बाइक पर सवार होकर जा रहा था। बाइक सवार चारों लोग जब बंबोरा की ओर जा रहे थे तो सड़क पर फर्राटा भर्ती हुई आ रही तेज रफ्तार कार ने उनकी बाइक में जोरदार टक्कर मार दी, जिससे बाइक पर बैठे चारों लोग बाइक से उछलकर करीब 20 फीट आसमान की तरफ उछले और जमीन पर जा गिरे। जिससे चारों की मौके पर ही मौत हो गई। जिस स्थान पर यह हादसा हुआ है वहां पर सुनसान इलाका होने की वजह से तकरीबन 1 घंटे तक किसी को भी इस हादसे की जानकारी नहीं हुई। तकरीबन 1 घंटे बाद जब लोग उक्त सड़क मार्ग से होकर गुजरे तो उन्होंने पुलिस को मामले की जानकारी दी। सूचना पाते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने चारों के शव कब्जे में लिये और पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिए हैं। हादसे में कार की हालत बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई है।
कुरावड थाना प्रभारी अमित कुमार ने बताया है कि पुलिस ने चारों शव पोस्टमार्टम के लिए हॉस्पिटल की मोर्चरी में रखवा दिए हैं। पुलिस हादसे की जिम्मेदार कार के चालक की तलाश कर रही है।

बुधवार, 13 अप्रैल 2022

जूनियर इंस्ट्रक्टर रिक्रूटमेंट के पदों पर वैकेंसी

जूनियर इंस्ट्रक्टर रिक्रूटमेंट के पदों पर वैकेंसी  

नरेश राघानी           

जयपुर। सरकारी नौकरी की तलाश कर रहे युवाओं के लिए एक अच्छी खबर है। दरअसल राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड (RSMSSB) ने जूनियर इंस्ट्रक्टर रिक्रूटमेंट (RSMSSB, Junior Instructor Recruitment 2022) के पदों पर वैकेंसी निकाली हैं। वो उम्मीदवार जो इन पदों के लिए आवेदन करने के योग्य हों, वो बताए गए प्रारूप में अप्लाई कर सकते हैं।

बता दें इस रिक्रूटमेंट ड्राइव के माध्यम से कुल 43 पद भरे जाएंगे। विस्तार से जानने और अप्लाई करने के लिए आरएसएमएसएसबी की ऑफिशियल वेबसाइट पर जा सकते हैं आरएसएमएसएसबी के इन पदों पर भर्ती प्रक्रिया 12 अप्रैल से शुरू हो गई है और इनके लिए अप्लाई करने की अंतिम तारीख 27 अप्रैल 2022 है। आवेदन केवल ऑनलाइन होंगे। जिसके लिए इस वेबसाइट पर जाना होगा।

बता दें राजस्थान के इन जूनियर इंस्ट्रक्टर पदों के लिए वो कैंडिडेट्स अप्लाई कर सकते हैं जिन्होंने फिजिक्स, केमिस्ट्री या मैथ्स से 12वीं पास की हो। साथ ही उनके पास स्टेट बोर्ड के मान्यता प्राप्त तकनीकी संस्थान से इंजीनियरिंग में डिप्लोमा हो। इसके अलावा दो साल का वर्क एक्सपीरियंस भी जरूरी है। वहीं इन पदों पर आवेदन करने के लिए आयु सीमा 18 से 40 वर्ष रखी गई है। आरक्षित श्रेणी को ऊपरी आयु सीमा में छूट दी जाएगी। आरएसएमएसएसबी के इन पदों पर कैंडिडेट्स का सेलेक्शन लिखित परीक्षा और इंटरव्यू के माध्यम से होगा। परीक्षा की तारीखें कुछ समय में घोषित की जाएंगी। वहीं आवेदन शुल्क की बात करें तो  इन पदों के लिए आवेदन शुल्क इस प्रकार है। जनरल कैटेगरी, बीसी और ईबीसी के लिए शुल्क 450 रुपए है। जबकि एससी एससटी श्रेणी के लिए शुल्क 250 रुपए तय किया गया है।

शुक्रवार, 11 मार्च 2022

कंप्यूटर अनुदेशक के 10,157 पदों पर भर्ती, मौका

कंप्यूटर अनुदेशक के 10,157 पदों पर भर्ती, मौका  

नरेश राघानी         

जयपुर। सरकारी नौकरी की तैयारी कर रहे युवाओं के लिए अच्छी खबर है। राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड ने कंप्यूटर अनुदेशक के 10,157 पदों पर बंपर भर्ती निकली है। इसके तहत बेसिक कंप्यूटर अनुदेशक के 9862 और वरिष्ठ कंप्यूटर अनुदेशक के 295 पदों पर भर्ती की जाएगी। इसके लिए 18 से 40 साल की उम्र तक के अभ्यर्थी आज शुक्रवार को रात 12 बजे तक ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। अभ्यर्थियों का सिलेक्शन जून के में होने वाले रिटर्न टेस्ट के आधार पर किया जाएगा।

कंप्यूटर अनुदेशक के पद पर आवेदन करने के लिए अभ्यर्थियों को ई-मित्र कियोस्क या जन सुविधा पोर्टल का उपयोग करना होगा। अभ्यर्थियों को राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड की अधिकृत वेबसाइट www.rsmssb.rajasthan.gov.in खोलकर रिक्रूटमेंट पर क्लिक करना होगा। इसके बाद SSO ID के जरिए लॉगइन करके आवेदन भरना होगा। ऐसे में अगर किसी अभ्यर्थी की SSO ID नहीं है, तो आवेदन से पहले उन्हें SSO ID बनानी होगी। साइंस, आईटी, इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्युनिकेशन इंजीनियरिंग, इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग, इलेक्ट्रिकल इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग, इलेक्ट्रॉनिक्स इंस्ट्रूमेंटेशन एंड कंट्रोल, टेली कम्युनिकेशन एंड इंस्ट्रूमेंटेशन में मास्टर डिग्री के साथ ही कंप्यूटर साइंस, आईटी में एमएससी, एमसीए, बी लेवल, सी लेवल करने वाले अभ्यर्थी आवेदन कर सकते हैं।

ग्रेजुएट और ए लेवल / PGDCA ( कम से कम एक साल का ) इसके साथ ही कंप्यूटर साइंस, आईटी, इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्युनिकेशन इंजीनियरिंग, इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग, इलेक्ट्रिकल इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग, इलेक्ट्रॉनिक्स इंस्ट्रूमेंटेशन एंड कंट्रोल, टेली कम्युनिकेशन एंड इंस्ट्रूमेंटेशन में बीई/बीटेक के साथ ही कंप्यूटर साइंस, आईटी में बीएससी, बीसीए करने वाले अभ्यर्थी आवेदन कर सकते हैं।
परीक्षा शुल्क।

सामान्य वर्ग और क्रीमीलेयर श्रेणी के अन्य पिछड़ा वर्ग/अति पिछड़ा वर्ग के अभ्यर्थी लिए 450 रुपए।

राजस्थान के नॉन क्रीमीलेयर श्रेणी के पिछड़ा वर्ग/अति पिछड़ा वर्ग और आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के अभ्यर्थी के लिए 350 रुपए।
समस्त विशेष योग्यजन और राजस्थान के अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति के अभ्यर्थी के लिए 250 रुपए।

राजस्थान सरकार द्वारा लागू सातवें वेतनमान के अनुसार कंप्यूटर अनुदेशक वरिष्ठ को पे-मैट्रिक्स लेवल 10 (33,800) के आधार पर सैलरी दी जाएगी। जबकि बेसिक कंप्यूटर अनुदेशक को पे-मैट्रिक्स लेवल 8 के अनुसार सैलरी दी जाएगी। हालांकि प्रोबेशन पीरियड के दौरान सरकार की गाइडलाइन के अनुसार सैलरी दी जाएगी।

ला एवं संस्कृति, इतिहास, भूगोल, सामान्य विज्ञान और राजस्थान के समसामयिक मामले।
सामान्य योग्यता में निम्नलिखित बिन्दु सम्मिलित होंगे।
लॉजिकल रीजनिंग एंड एनालिटिकल एबीलिटी।
डिसीजन मेकिंग एंड प्रॉब्लम सोल्विंग। सामान्य बौद्धिक योग्यता।
बेसिक न्यूमरेसी नंबर एंड देयर रिलेशन, आर्डर ऑफ मैग्निट्यूड, इत्यादि (कक्षा- X स्तर )
डाटा इन्टरप्रिटेशन-चार्ट्स, ग्राफ्स, टेबल्स डाटा सफिशियन्सी, इत्यादि (कक्षा X स्तर)
उत्तर के मूल्यांकन में नकारात्मक अंकन लागू होगा। प्रत्येक गलत उत्तर के लिए, उस विशिष्ट प्रश्न के लिए विहित अंकों का एक तिहाई भाग काटा जाएगा।
बेसिक कंप्यूटर अनुदेशक का सिलेबस (प्रश्न पत्र-2)

प्रश्न पत्र अधिकतम 100 अंकों का होगा। 

प्रश्न पत्र की अवधि 2 घंटे की होगी।

प्रश्न पत्र में 100 प्रश्न बहु विकल्पीय होंगे।

उत्तर के मूल्यांकन में निगेटिव मार्किंग लागू होगी। प्रत्येक गलत उत्तर के लिए, उस विशिष्ट प्रश्न के लिए विहित अंकों का एक तिहाई भाग काटा जाएगा।

शनिवार, 5 मार्च 2022

विवाह: वैदिक मंत्रों के साथ भगवान गणेश का आह्वान

विवाह: वैदिक मंत्रों के साथ भगवान गणेश का आह्वान  

नरेश राघानी        
उदयपुर। नारायण सेवा संस्थान में शनिवार को गणपति स्थापना व हल्दी की पारम्परिक रस्म अदायगी के साथ 37वें दिव्यांग एवं निर्धन सामूहिक विवाह की धूम शुरू हुई। संस्थापक कैलाश ‘मानव’, कमला देवी अग्रवाल, अध्यक्ष प्रशांत अग्रवाल, वंदना अग्रवाल, देवेन्द्र चौबीसा, पलक अग्रवाल ने वैदिक मंत्रों के साथ भगवान गणेश का आह्वान व पूजन किया।
संस्थान अध्यक्ष प्रशांत अग्रवाल ने बताया कि वैदिक संस्कृति के रीति-रिवाजों में विवाह संस्कार से पूर्व विनायक स्थापना, हल्दी, मेहन्दी एवं महिला संगीत जैसी रस्में निभाना शुभ एवं सगुनभरी मानी गई है। जिसके चलते पीले परिधानों में सजे-धजे दिव्यांग एवं निर्धन जोड़ों की सुखमयी गृह-गृहस्थी बसानें के लिए उनके हाथों से गणपति पूजन करवाकर उन्हें हल्दी का उबटन लगाया गया। 
हल्दी समारोह में 21 जोड़ों की हल्दी रस्म अदायगी की गयी। ऐसा कहा जाता है कि गणेश जी को चढ़ने वाली दूर्वा से झुक-नम कर जीवन जीना तथा हल्दी से सौदर्यवान बनें रहने का आशीर्वाद-प्रेरणा मिलती है।
हल्दी की रस्म में आकर्षण का केन्द्र रहा नीमच निवासी मोहन ओर नागौर निवासी पूजा नाम का जोड़ा। जो नेत्रहीन है। पिछले तीन वर्ष से निर्धनता एवं दिव्यांगता के ग्रहण के चलते विवाह नहीं कर पा रहे थे। शादी के बंधन में बंधने से पूर्व खुशी जाहिर करते हुए कहा हमारी हमसफर बन मन की आंखों से दुनिया देखने की जिद थी जो नारायण सेवा संस्थान के प्रयास से पूरी हो रही है।

रविवार, 20 फ़रवरी 2022

हादसा: चंबल नदी में गिरीं कार, 8 लोगों की मौंत

हादसा: चंबल नदी में गिरीं कार, 8 लोगों की मौंत      

नरेश राघानी      

जयपुर। राजस्थान में कोटा में नयापुरा पुलिया से कार के चंबल नदी में गिर जाने से रविवार को आठ लोगों की मौत हो गई। पुलिस ने बताया कि सुबह करीब साढ़े आठ बजे पुलिस को एक कार के नदी में गिर जाने की सूचना मिली और प्रशासन एवं पुलिस के अधिकारी मौके पर पहुंचे। 

पुलिस ने बताया कि कार से सात शव बरामद किए गए और एक शव बाद में बचाव कार्य के दौरान बरामद किया गया। यह बारात के लोग बताते जा रहे हैं और मृतकों में दूल्हा भी हो शामिल होने की आंशका जताई जा रही है। बारात चौथ का बरवाड़ा से उज्जैन जा रही थी।

शनिवार, 19 फ़रवरी 2022

बालिका से रेप, मां ने की मामला दबाने की कोशिश

बालिका से रेप, मां की मामला दबाने की कोशिश    

नरेश राघानी  

जोधपुर। शहर के रातानाडा थाना क्षेत्र में एक नाबालिग बालिका के साथ रेप का पेचीदा मामले सामने आया है। एक नामी ठेकेदार ने अपने घर काम करने वाली एक महिला के सहयोग से उसकी पंद्रह वर्षीय बेटी को अपनी हवस का शिकार बना डाला। ठेकेदार से उधार लिए गए चंद हजार रुपए के अहसान के बोझ तले दबी मां ने रेप के बाद मामले को दबाने का भरसक प्रयास किया। पीड़िता ने आखिरकार सच उगल दिया। अब पुलिस ने ठेकेदार को गिरफ्तार कर लिया है जबकि उसकी मां से पूछताछ की जा रही है।पुलिस ने बताया कि डिफेंस लैब के समीप रहने वाली एक महिला ने जनवरी में अपनी पंद्रह वर्षीय बेटी की गुमशुदगी दर्ज कराई थी। महिला का कहना था कि कोई बहला-फुसला कर उसकी बेटी को भगा ले गया। पुलिस ने इस मामले में जांच की तो पता चला कि बालिका गुजरात में रहने वाली अपनी बहन के पास है। पुलिस टीम गुजरात पहुंची और शुक्रवार शाम को बालिका को वहां से लेकर यहां आई। बालिका से पूछताछ में अलग ही कहानी सामने आई।

लड़की ने बताई अपने साथ हुए रेप की दास्तान-

पंद्रह वर्षीय पीड़िता ने पुलिस को बताया कि सितम्बर या अक्टूबर माह में उसकी मां ने डिफेंस लैब के निकट एक मकान, जहां उसकी मां काम करती थी, में खुद के स्थान पर काम करने भेजा। वहां जीके गुप्ता नाम के शख्स ने उसके साथ रेप किया। घर लौटने पर बालिका ने अपनी मां को इसकी जानकारी दी। इस पर मां ने उसे कहा कि वह स्नान कर ले और किसी के सामने इसका जिक्र नहीं करे। साथ ही बेटी के बोलने की आशंका से मां ने उसे घर में नजरबंद कर दिया। जनवरी माह में एक दिन मौका मिलने पर वह घर से भाग निकली और गुजरात में रहने वाली अपनी बहन के यहां पहुंच गई। बहन के विश्वास दिलाए जाने पर उसने अपने साथ हुए हादसे की जानकारी दी। पुलिस का कहना है कि बालिका की ओर से दी गई जानकारी की बेहद सावधानी से तस्दीक की गई। इसके बाद उसके बयान दर्ज कराए गए। साथ ही उसका मेडिकल कराया गया। रेप की पुष्टि होने के बाद आज पुलिस ने जीके गुप्ता को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस के अनुसार 58 वर्षीय गुप्ता एमईएस में नामी ठेकेदार है। उसके दो मकान है। एक डिफेंस लैब के पास और दूसरा उम्मेद हेरिटेज में। उसका परिवार उम्मेद हेरिटेज में रहता है। अभी बालिका सही बता नहीं पा रही है कि रेप कब हुआ। ऐसा माना जा रहा है कि यह सितम्बर या अक्टूबर की घटना है।

मां की भूमिका संदिग्ध- पुलिस इस मामले में पीड़िता की मां की भूमिका को संदिग्ध मान रही है। रेप होने के बाद पीड़िता ने अपनी मां को पूरी घटना बता दी, लेकिन उसने जानबूझ कर मामले को दबा दिया। साथ ही पीड़िता को घर में नजरबंद कर दिया। पूछताछ में सामने आया है कि पीड़िता की मां ने ठेकेदार से कुछ हजार रुपए उधार ले रखे है। मां ने ही बालिका को ठेकेदार के घर भेजा। उसे योजनाबद्ध तरीके से भेजा गया या असावधानीवश। इसकी जांच की जा रही है। मां से पूछताछ के बाद स्थिति स्पष्ट हो पाएगी।

गुरुवार, 14 अक्तूबर 2021

39 'आईपीएस' अधिकारियों के तबादले किए गए

नरेश राघानी         

जयपुर। राजस्थान में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के निर्देश पर बुधवार देर रात को 39 भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) अधिकारियों के तबादले किए गए हैं। कार्मिक विभाग द्वारा जारी आदेश के अनुसार प्रदेश में एक दर्जन से अधिक जिलों के पुलिस अधीक्षक को बदला गया है। सौरभ श्रीवास्तव को अतिरिक्त महानिदेशक मुख्यालय जयपुर, श्रीमती स्मिता श्रीवास्तव को अतिरिक्त महानिदेशक पुलिस सिविल राइट्स जयपुर, डॉक्टर हवा सिंह घुमरिया को महानिरीक्षक पुलिस कानून व्यवस्था पुलिस मुख्यालय जयपुर, यू एल छानवाल को महानिदेशक जेल जयपुर, संजय कुमार क्षेत्रीय को महानिरीक्षक जयपुर रेंज जयपुर, गौरव श्रीवास्तव को डीआईजी कानून व्यवस्था मुख्यालय जयपुर, शरत कविराज को डीआईजी पुलिस एससीआरबी जयपुर, रविंद्र सिंह को डीआईजी सीआईडी क्राइम ब्रांच जयपुर, डॉक्टर विष्णु कांत को डीआईजी भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो मुख्यालय जयपुर, राहुल प्रकाश को डीआईजी एसओजी जयपुर, हैदर अली जैदी को अतिरिक्त पुलिस आयुक्त सेकेंड पुलिस आयुक्तालय जयपुर, डॉ रवि को डीआईजी पुलिस कार्मिक जयपुर और कैलाश चंद विश्नोई को उपमहानिरीक्षक पुलिस भ्रष्टाचार निरोधक विभाग जोधपुर के पद पर लगाया है।

शासनकाल में हुई भर्तियों की जांच करवाने की मांग

नरेश राघानी          
जयपुर। राजस्थान में भारतीय जनता पार्टी ने राज्य की मौजूदा कांग्रेस सरकार के शासनकाल में हुई सभी भर्तियों की जांच करवाने की मांग की है। भाजपा प्रदेश प्रवक्ता रामलाल शर्मा ने बृहस्पतिवार को एक बयान में कहा कि राजस्थान में जब से कांग्रेस पार्टी की सरकार आई है तब से लेकर अब तक जितनी भी भर्तियां हुई है, वह सभी अब संदेह के घेरे में आती दिखाई दे रही हैं।
शर्मा के अनुसार, हाल ही में हुई राजस्थान अध्यापक पात्रता परीक्षा (रीट) में कथित गड़बड़ियों की जांच विशेष कार्यबल एसओजी द्वारा की जा रही है। शर्मा के अनुसार, इस जांच के बाद अब एक-एक कर पर्तें खुलती दिखाई दे रही हैं। उन्होंने कहा, ” भारतीय जनता पार्टी चाहती है कि राजस्थान में कांग्रेस के शासनकाल के दौरान जो भर्तियां हुई है उन सारी भर्तियों की जांच हो। इसके साथ ही भाजपा चाहती है कि मुख्यमंत्री लाखों युवाओं से माफी मांगें और शिक्षा मंत्री अपनी नैतिक जिम्मेदारी मानते हुए तत्काल इस्तीफा दें।”
उल्लेखनीय है कि राजस्थान सरकार ने 26 सितंबर को आयोजित रीट परीक्षा के दौरान संदिग्ध गतिविधियों और अनियमितताओं में शामिल एक आरएएस और दो आरपीएस अधिकारियों, शिक्षा विभाग के 14 कर्मियों और तीन अन्य पुलिस कर्मियों को निलंबित किया है। इस परीक्षा के पेपर लीक होने के मामले में गिरफ्तारियां भी हुई हैं।

बुधवार, 13 अक्तूबर 2021

सशक्तीकरण पर आयोजित कार्यक्रम में बयान दिया

नरेश राघानी          
जयपुर। राजस्थान के शिक्षा विभाग के मंत्री जीएस डोटासरा महिला सशक्तीकरण पर आयोजित एक कार्यक्रम में एक विवादित बयान दिया है।
काबीना मंत्री ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि सरकार ने महिलाओं के लिए नीति पेश की। उन्होंने कहा कि उन्हें प्राथमिकता दी जाती है, लेकिन महिला कर्मचारियों का आपस में विवाद रहता है। मंत्री ने कहा है कि महिला कर्मचारी आपस में बहुत लड़ती हैं। जहां महिला कर्मचारी हैं, वहां प्रधानाचार्य या शिक्षक सेरिडोन लेते हैं। काबीना मंत्री ने कहा है कि वह इससे आगे निकल गईं तो पुरुषों से आगे निकल जाएंगी।

गुरुवार, 7 अक्तूबर 2021

सीटों के उपचुनाव के लिए उम्मीदवार घोषित किया

नरेश राघानी        
जयपुर। राजस्थान में भारतीय जनता पार्टी ने तीस अक्टूबर को होने वाले उदयपुर जिले में वल्लभनगर एवं प्रतापगढ़ जिले की धरियावद विधानसभा सीटों के उपचुनाव के लिए आज अपने उम्मीदवार घोषित कर दिए।
मिली जानकारी अनुसार पार्टी ने वल्लभनगर से हिम्मत सिंह झाला और धरियावद से खेत सिंह मीणा को अपना प्रत्याशी बनाया है। भाजपा ने वल्लभनगर से झाला को उपचुनाव के मैदान में उतारकर नया दांव खेला है। कांग्रेस का गढ़ रहे वल्लभनगर में इस बार सेंध लगाने के प्रयास में झाला को मौका दिया है।
भाजपा से विधायक रह चुके जनता सेना के रणधीर सिंह भीण्डर पिछले विधानसभा चुनाव में यहां से दूसरे स्थान पर रहे थे और इस बार भी उनके या उनकी पत्नी के चुनाव मैदान में उतरने पर मुकाबला त्रिकोणीय बना सकता है।
भाजपा ने पिछले राजस्थान विधानसभा उपचुनाव की तरह इस बार धरियावद से पूर्व विधायक गौतम लाल मीणा के परिवार के किसी सदस्य को उम्मीदवार नहीं बनाकर सहानुभूति कार्ड नहीं खेला। गत 17 अप्रैल को हुए राजसमंद उपचुनाव में पूर्व मंत्री किरण माहेश्वरी की पुत्री दीप्ति माहेश्वरी को टिकट दिया और विधायक चुनी गई थी।

बुधवार, 6 अक्तूबर 2021

सरकार द्वारा उठाये गए कदमों का नतीजा मिला

नरेश राघानी        
जयपुर। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा है कि उनकी सरकार हर दुष्कर्मी को जल्द से जल्द कठोरतम सजा दिलाकर पीड़िता को न्याय दिलायेगी और हाल में एक अपराधी को सुनाई गई बीस साल की सजा के फैसले में सरकार द्वारा उठाये गए कदमों का नतीजा भी नजर आ रहा है।
गहलोत ने जयपुर के कोटखावदा में नौ साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म मामले में दुष्कर्मी को बीस साल की सजा सुनाये जाने के बाद अपनी प्रतिक्रिया में सोशल मीडिया के जरिए यह बात कही। उन्होंने कहा कि यह राजस्थान सरकार की पीड़िता को न्याय दिलाने की प्रतिबद्धता का उदाहरण है।
राज्य सरकार हर दुष्कर्मी को जल्द से जल्द कठोरतम सजा सुनिश्चित कर हर पीड़िता को इंसाफ दिलाएगी। इसके लिए हमारी सरकार द्वारा उठाए गए कदमों का नतीजा ऐसे फैसलों में दिखता है। उन्होंने कहा कि 26 सितंबर को कोटखावदा में हुए नौ साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म के मामले में पुलिस ने तेरह घंटे में आरोपी को गिरफ्तार कर अगले पांच घंटे में अदालत में चालान पेश कर दिया था। चार कार्य दिवस में एफएसएल रिपोर्ट तैयार हुई और पांच कार्य दिवस में पॉक्सो कोर्ट ने अपराधी को बीस साल जेल की सजा सुनाई है।

सोमवार, 4 अक्तूबर 2021

पटाखे फोड़ने और बेचने पर पूर्ण प्रतिबंध लगाया

नरेश राघानी             
जयपुर। गहलोत सरकार ने राजस्थान में 1 अक्टूबर से 31 जनवरी 2022 तक सभी तरह के पटाखे फोड़ने और बेचने पर पूर्ण प्रतिबंध लगा दिया है। गृह विभाग ने गुरुवार को इस संबंध में आदेश जारी किया। सरकार ने कोरोना महामारी  के चलते मरीजों को होने वाली दिक्कत के चलते यह फैसला लिया गया है।
आदेश में कहा गया है कि कई विशेषज्ञों ने कोविड -19 के मामलों में बढ़ोतरी और तीसरी लहर का संकेत दिया है। अब त्यौहारी सीजन के चलते पटाखों को फोड़कर बड़े पैमाने पर समारोहों के परिणामस्वरूप न केवल सोशल डिस्टेंसिंग की गाइडलाइन का उल्लंघन होगा, बल्कि उच्च स्तर का वायु प्रदूषण भी दिल्ली में गंभीर स्वास्थ्य मुद्दों को जन्म देगा।
आगे कहा गया, वायु प्रदूषण और श्वसन संक्रमण के बीच महत्वपूर्ण संबंध को देखते हुए, कोविड-19 संकट के तहत पटाखे फोड़ना बड़े सामुदायिक स्वास्थ्य के लिए अनुकूल नहीं है। पिछले साल भी कोरोना से संकमित व्यक्तियों को आतिशबाजी से होने वाले वायु प्रदूषण से श्वसन तंत्र में होने वाली संभावित खराबी के कारण आतिशबाजी पर प्रतिबंध लगाया गया था।

 

अखिलेश पांडेय  विक्टोरिया। हांगकांग की इंटरनेट सेलिब्रिटी और योग प्रशिक्षक चाउ वाई-यिन मर्डर केस में बड़ी खबर है। चाउ वाई-यिन की मौत के कुछ ...