शुक्रवार, 18 नवंबर 2022

लोनी: वर्किंग जर्नलिस्ट वेलफेयर एसोसिएशन का गठन

लोनी: वर्किंग जर्नलिस्ट वेलफेयर एसोसिएशन का गठन


लोनी: वर्किंग जर्नलिस्ट वेलफेयर एसोसिएशन का गठन 

दीपक राणा 

गाजियाबाद। जनपद गाजियाबाद की विधानसभा लोनी में पत्रकारों द्वारा टीम का गठन किया गया। जिसमें वर्किंग जर्नलिस्ट वेलफेयर एसोसिएशन का रजिस्ट्रेशन मेरठ रजिस्टार ऑफिस के द्वारा कराया गया। जिसमें आम सहमति से अध्यक्ष वरिष्ठ पत्रकार जयवीर मावी (मान्यता प्राप्त, उत्तर प्रदेश सरकार),उपाध्यक्ष  पत्रकार बिमलेश यादव, सचिव पत्रकार यशपाल कसाना, उपसचिव पत्रकार प्रदीप बंसल, कोषाध्यक्ष पत्रकार संतोष चौहान, लीगल एडवाइजर अधिवक्ता सतेंद्र धामा, कार्यकारणी सदस्य पत्रकार संदीप गुप्ता, पत्रकार सुधाकर चौहान, पत्रकार अंकित गोस्वामी, पत्रकार अरूण पांचाल, पत्रकार सुनील शर्मा को मनोनीत किया गया और हमारे माननीय अध्यक्ष जयवीर मावी ने अपने पहले संबोधन में कहा कि हम सभी को एकता के साथ रहना है और सभी पत्रकारों के साथ मिलकर एकता का प्रयास करना है और लोकतंत्र देश और समाज के लिए तन मन आत्मा से समर्पित होकर हम सभी को एक टीम के रूप में कार्य करना है।

भारत के पहले निजी रॉकेट 'विक्रम-एस' का प्रक्षेपण

भारत के पहले निजी रॉकेट 'विक्रम-एस' का प्रक्षेपण

अकांशु उपाध्याय/इकबाल अंसारी 

नई दिल्ली/श्रीहरिकोटा। आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा में शुक्रवार को भारत के पहले निजी रॉकेट 'विक्रम-एस' का प्रक्षेपण हुआ। यह स्काईरूट एयरोस्पेस द्वारा बनाया गया है, जिसके मिशन का नाम 'प्रारंभ' रखा गया है। विक्रम-एस रॉकेट ने श्रीहरिकोटा में (आईएसआरओ) के सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से उड़ान भरी।

इन स्पेस के अध्यक्ष पवन कुमार गोयनका ने कहा कि मुझे मिशन प्रारंभ-स्काईरूट एयरोस्पेस की शुरुआत के सफल समापन की घोषणा करते हुए खुशी हो रही है। यह भारत के निजी क्षेत्र के लिए नई शुरूआत है, जो अंतरिक्ष के क्षेत्र में कदम रखने जा रहे हैं और एक ऐतिहासिक क्षण हैं। छह मीटर लंबे प्रक्षेपण यान विक्रम-एस का नाम अंतरिक्ष कार्यक्रम के जनक विक्रम साराभाई के नाम पर रखा गया है। यह शुक्रवार दोपहर साढ़े 11 बजे रवाना हुआ। विक्रम-एस ने, चेन्नई के स्टार्ट-अप स्पेस किड्ज, आंध्र प्रदेश के स्टार्ट-अप एन-स्पेस टेक और आर्मेनियाई स्टार्ट-अप बाजूमक्यू स्पेस रिसर्च लैब उपग्रहों को लेकर अंतरिक्ष में उड़ान भरी। 

केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने कहा कि यह भारत के स्पेस इकोसिस्टम को विकसित करने के लिए एक बड़ा कदम है और विश्व समूह के समुदाय में एक सीमावर्ती राष्ट्र के रूप में भी उभर रहा है। यह भारत के स्टार्टअप इकोसिस्टम के लिए भी एक महत्वपूर्ण मोड़ है।

48.91 अंक टूटकर 61,701.69 पर आया 'सेंसेक्स'

48.91 अंक टूटकर 61,701.69 पर आया 'सेंसेक्स'

कविता गर्ग 

मुंबई। एशियाई बाजारों में तेजी के बीच घरेलू शेयर बाजार में दोनों ही मानक सूचकांकों ने शुक्रवार को सकारात्मक शुरुआत की। लेकिन शुरुआती लाभ जल्द ही गवां भी दिया। इस दौरान 30 शेयरों वाला बीएसई सेंसेक्स शुरुआती कारोबार में 179.28 अंक चढ़कर 61,929.88 पर था। दूसरी ओर व्यापक एनएसई निफ्टी 50.7 अंक की बढ़त के साथ 18,394.60 पर आ गया। हालांकि बाद में दोनों ही मानक सूचकांकों ने शुरुआती लाभ गवां दिया और नुकसान में कारोबार करने लगे। इस दौरान बीएसई सेंसेक्स 48.91 अंक टूटकर 61,701.69 पर आ गया। वहीं निफ्टी 20.25 अंक की गिरावट के साथ 18,323.65 अंक पर था। 

सेंसेक्स में एशियन पेंट्स, एक्सिस बैंक, कोटक महिंद्रा बैंक, इंफोसिस, लार्सन एंड टूब्रो और भारतीय स्टेट बैंक लाभ पाने वाले प्रमुख शेयरों में शामिल थे। दूसरी ओर, महिंद्रा एंड महिंद्रा, मारुति, टाइटन, टेक महिंद्रा और भारती एयरटेल नुकसान में रहे। अन्य एशियाई बाजारों में सियोल, तोक्यो और हांगकांग के बाजार लाभ में कारोबार कर रहे थे जबकि शंघाई के बाजार नुकसान में रहे। अमेरिकी बाजार भी बृहस्पतिवार को गिरावट के साथ बंद हुए। पिछले सत्र में, तीस शेयरों वाला बीएसई सेंसेक्स 230.12 अंक या 0.37 प्रतिशत टूटकर 61,750.60 पर बंद हुआ था। 

दूसरी ओर नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 65.75 अंक या 0.36 प्रतिशत की गिरावट के साथ 18,343.90 पर बंद हुआ था। इसबीच अंतरराष्ट्रीय तेल सूचकांक ब्रेंट क्रूड 0.71 फीसदी की तेजी के साथ 90.42 डॉलर प्रति बैरल पर था। शेयर बाजार के अस्थाई आंकड़ों के मुताबिक विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) ने बृहस्पतिवार को शुद्ध रूप से 618.37 करोड़ रुपये के शेयर खरीदे। 

शुरुआती कारोबार में रुपया 10 पैसे मजबूत 
विदेशी बाजारों में अमेरिकी डॉलर के कमजोर होने और भारतीय बाजारों में विदेशी पूंजी की आवक के बीच रुपया शुक्रवार को अमेरिकी डॉलर के मुकाबले शुरुआती कारोबार में 10 पैसे मजबूत होकर 81.54 के भाव पर पहुंच गया। अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में रुपया डॉलर के मुकाबले 81.59 के भाव पर खुला और थोड़ी ही देर में यह और तेजी के साथ 81.54 के स्तर तक भी पहुंच गया। 

इस तरह पिछले बंद भाव के मुकाबले रुपये में 10 पैसे की मजबूती दर्ज की गई। पिछले कारोबारी दिवस पर रुपया 38 पैसे टूटकर 81.64 प्रति डॉलर पर बंद हुआ था। इस बीच छह प्रमुख मुद्राओं की तुलना में अमेरिकी डॉलर की मजबूती को परखने वाला डॉलर सूचकांक 0.17 प्रतिशत गिरकर 106.51 पर पहुंच गया। 

अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड वायदा 0.61 प्रतिशत की बढ़त के साथ 90.33 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया। उपलब्ध आंकड़ों के मुताबिक विदेशी निवेशकों ने बृहस्पतिवार को भारतीय बाजारों में 618.37 करोड़ रुपये मूल्य के शेयरों की शुद्ध खरीदारी की थी। 

प्रमोशन: 1249 हेड कांस्टेबल बनें अपर उपनिरीक्षक 

प्रमोशन: 1249 हेड कांस्टेबल बनें अपर उपनिरीक्षक 

पंकज कपूर 

देहरादून। उत्तराखंड पुलिस के जवानों के लिए खुशखबरी है। 1249 हेड कांस्टेबल प्रमोशन पाकर अपर उपनिरीक्षक बन गए हैं। पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार ने ने सभी पदोन्नत पुलिस कर्मियों को बधाई दी। उन्होंने कहा कि पुलिस जवानों की ग्रेड-पे की समस्या का समाधान करते हुए मुख्यमंत्री जी द्वारा अपर उपनिरीक्षक का नया पद सृजित करते हुए 1750 पद स्वीकृत किये गये थे।

इसके बाद विभागीय चयन समिति द्वारा प्रमोशन के लिए 1249 हेड कांस्टेबल उपयुक्त पाए गए, जिन्हें अपर उपनिरीक्षक पद पर पदोन्नति प्रदान कर दी गयी है। अपर उपनिरीक्षक पद पर पदोन्नति मिलने से पुलिस जवानों का मनोबल बढ़ा है। नए विवेचक मिलने से विवेचना की गुणवत्ता में भी सुधार आएगा। साथ ही सभी कांस्टेबल कम से कम अपर उपनिरीक्षक के पद से सेवानिवृत्त होंगे।

उत्तराखण्ड पुलिस की विभिन्न शाखा/इकाईयों से कुल 1249 हेड कांस्टेबल प्रमोशन पाकर अपर उपनिरीक्षक (नागरिक पुलिस पुरूष- 328, नागरिक पुलिस महिला- 32, अभिसूचना- 58, सशस्त्र पुलिस- 377, पी0ए0सी0- 422, एम0टी0- 23, आरमोरर- 07, घुड़सवार- 02) बने हैं। विभागीय कार्यवाही के चलते 19 कर्मियों का प्रमोशन रुका है। पदोन्नति हेतु हेड कांस्टेबल पद पर दो वर्ष की सेवा की आर्हता होने के कारण 482 हेड कांस्टेबल अपर उपनिरीक्षक के पद हेतु आर्ह नहीं हो पाए, जिस कारण यह पद रिक्त रह गए हैं।

नेकां के अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने का फैसला

नेकां के अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने का फैसला

इकबाल अंसारी 

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला ने एक आश्चर्यजनक घटनाक्रम में नेशनल कांफ्रेंस (नेकां) के अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने का फैसला किया। नेकां दिसंबर के पहले सप्ताह में अगले प्रमुख के लिए चुनाव करेगी। तब तक 85 वर्षीय अब्दुल्ला पार्टी का नेतृत्व करते रहेंगे। अब्दुल्ला के पद छोड़ने की घोषणा के बाद, पार्टी ने शुक्रवार को नेकां के संस्थापक शेख मोहम्मद अब्दुल्ला की जयंती पांच दिसंबर को अध्यक्ष पद का चुनाव कराने के लिए अधिसूचना जारी की। चुनाव की अधिसूचना पार्टी महासचिव अली मोहम्मद सागर ने जारी की। नेकां के एक प्रवक्ता ने कहा कि अब्दुल्ला ने पद छोड़ने के अपने फैसले के बारे में अपने सहयोगियों जानकारी दी।

प्रवक्ता ने शुक्रवार को कहा, “ वरिष्ठ सहयोगियों के सर्वोत्तम प्रयासों के बावजूद, डॉ अब्दुल्ला इस बात पर अड़े थे कि वे अपने निर्णय की समीक्षा नहीं करेंगे। अचानक की गई इस घोषणा के आलोक में, जिसने सभी को आश्चर्यचकित कर दिया, पार्टी संविधान के अनुसार, पार्टी महासचिव को पार्टी अध्यक्ष के लिए चुनाव कराने का काम सौंपा गया है, जो पांच दिसंबर को पूरा होगा। उस समय तक डॉ साहब अध्यक्ष के रूप में बने रहेंगे। ” पार्टी सूत्रों ने कहा कि अब्दुल्ला ने गुरुवार को यहां क्षेत्रों के प्रभारी, जिलाध्यक्षों और अन्य प्रांतीय पदाधिकारियों की पार्टी की बैठक के दौरान यह घोषणा की। अपने भाषण में उन्होंने पार्टी नेताओं से पार्टी का नियंत्रण अपने हाथ में लेने को कहा क्योंकि उनका स्वास्थ्य उन्हें पार्टी का नेतृत्व करने की अनुमति नहीं देता है।

बैठक में अब्दुल्ला के पुत्र और पार्टी उपाध्यक्ष उमर अब्दुल्ला भी मौजूद थे। पार्टी सूत्रों ने कहा कि अब्दुल्ला फिर से चुनाव लड़ने के इच्छुक नहीं हैं और इस बात की पूरी संभावना है कि उमर पार्टी के नए अध्यक्ष के रूप में चुने जा सकते हैं। वर्ष 2002 से 2009 तक की अवधि को छाेड़ कर 1981 से लगातार फारूक अब्दुल्ला ने पार्टी अध्यक्ष के रूप में नेकां की सेवा की। इस बीच वर्ष 2002 में उनके बेटे उमर भी नेकां प्रमुख बने। फारूक अब्दुल्ला पीपुल्स एलायंस फॉर गुप्कार डिक्लेरेशन (पीएजीडी) के अध्यक्ष भी हैं, जो जम्मू-कश्मीर के विशेष दर्जे को रद्द करने की मांग करने वाली मुख्यधारा की पार्टियों का एक समूह है।

हमर क्लिनिक की विधिवत पूजा कर भूमिपूजन किया 

हमर क्लिनिक की विधिवत पूजा कर भूमिपूजन किया 


नगर पंचायत कुरा में धरसीवां विधायक अनिता योगेन्द्र शर्मा ने किया हमर क्लिनिक का भूमिपूजन

नगर पंचायत कुरा को विधायक अनिता योगेन्द्र शर्मा ने दी हमर क्लिनिक की सौगात

दुष्यंत टीकम 

रायपुर। धरसीवां विधायक अनिता योगेंद्र शर्मा के द्वारा शुक्रवार को नगर पंचायत कुरा में लगभग 20 लाख रुपए की लागत से हमर क्लिनिक की विधिवत पूजा कर भूमिपूजन किया। आज इस अवसर पर विधायक अनिता योगेंद्र शर्मा ने कहा यहां पर हमर क्लिनिक बनने से निश्चित ही यहां के रहवासियो का लाभ होगा। साथ ही हमारी सरकार के द्वारा स्वास्थ्य के क्षेत्र में कई योजनाएं चल रही है।

जिससे प्रदेश भर में स्वास्थ्य का नया इतिहास लिखा जा रहा है। साथ ही सरकार की प्रमुख योजना खूबचंद्र बघेल स्वास्थ योजना के माध्यम से आज लाखों लोग लाभांवित हो रहें हैं। साथ ही हॉट बाजार क्लिनिक योजना के माध्यम से आज जो महिलाएं अपना ईलाज नही करवा पाती थीं। आज इस योजना से इलाज स्वास्थ लाभ ले रहीं हैं। साथ अनेक योजना के माध्यम से आमजनों को स्वास्थ लाभ मिल रहा है।

साथ हमारी सरकार के द्वारा विभिन्न योजनाएं चल रही हैं। जिससे लगातार प्रदेश नई ऊंचाइयां छू रहा है। प्रदेश सरकार की कई योजनाएं आज देश भर में मॉडल बन चुकी हैं।शुक्रवार को इस अवसर में प्रमुख ब्लाक कांग्रेस अध्यक्ष दुर्गेश वर्मा, नगर पंचायत अध्यक्ष ढालेंद्र वर्मा, उपाध्यक्ष अनिल बघेल, साहिल खान, रोशन पुरी गोस्वामी, पार्षद ढालचंद्र पाल, मीना चौहान ,सुरेश साहू, गोलू , सहित अधिकारी कर्मचारी और अन्य लोग भारी संख्या में उपस्थित रहे।

बैंक के अध्यक्ष शर्मा के नेतृत्व में 'भारत जोड़ो यात्रा'

बैंक के अध्यक्ष शर्मा के नेतृत्व में 'भारत जोड़ो यात्रा'


बीरगांव में पंकज शर्मा के नेतृत्व में निकाली गई भारत जोड़ो यात्रा

यूवा कांग्रेस,एनएसयूआई,इटंक के कार्यकर्ता सैकड़ों की संख्या में शामिल हुए

दुष्यंत टीकम 

रायपुर। 'भारत जोड़ो यात्रा' रायपुर ग्रामीण विधानसभा में पिछले एक पखवाड़े से चल रही है। वही, यात्रा को लोगों का अच्छा समर्थन मिलता नजर आ रहा है‌। शुक्रवार को यात्रा नगर निगम बीरगांव के सरोरा में जिला सहकारी बैंक के अध्यक्ष पंकज शर्मा के नेतृत्व में निकाली गई। जिसमें सैकड़ों की संख्या में युवा कांग्रेस ,एनएसयूआई , इंटक, पार्षदगण, ज्ञएल्डरमेन,सेवादल, महिला कांग्रेस के कार्यकर्ता शामिल हुए वही बड़ी संख्या में आम नागरिक भी इस यात्रा के सहभागी बने श्री पंकज शर्मा ने कहां की भारत जोड़ो यात्रा जो कि राहुल गांधी के नेतृत्व में चल रही है।

उसे जनता का अपार समर्थन मिल रहा है। यह यात्रा देश को एक सूत्र में पिरोने के लिए निकाली गई है। आज देश में अराजकता फैलाने की कोशिश की जा रही है। श्री राहुल गांधी इस यात्रा के माध्यम से लोगों के बीच में एक संदेश लेकर जा रहे हैं।

जिसमें सभी को भाईचारा के साथ रहने की बात कही जा रही है। छत्तीसगढ़ में भी सभी विधानसभा में भारत जोड़ो यात्रा निकाली जा रही है। वही ग्रामीण विधानसभा में पिछले एक पखवाड़े से यह जारी है। यात्रा को लेकर युवाओं में उत्साह का माहौल देखा जा रहा है और बड़ी संख्या में वह इससे जुड़ रहे हैं।

कार्यरत चालक को जासूसी के आरोप में गिरफ्तार किया 

कार्यरत चालक को जासूसी के आरोप में गिरफ्तार किया 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा की टीम ने विदेश मंत्रालय में कार्यरत एक चालक को जासूसी के आरोप में गिरफ्तार किया है। सूत्रों ने शुक्रवार को यह जानकारी दी।  आरोपी चालक पाकिस्तान से संबंध रखने वाले एक व्यक्ति को गोपनीय दस्तावेज कथित तौर पर मुहैया कराता था।

सूत्रों के अनुसार आरोपी चालक को शुक्रवार को यहां जवाहरलाल नेहरू भवन से गिरफ्तार किया गया। सूत्रों ने बताया कि आरोपी चालक पाकिस्तान में स्थित एक व्यक्ति को राष्ट्रीय सुरक्षा से संबंधित ‘‘गोपनीय और संवेदनशील’’ जानकारी कथित तौर पर देता था।

सूत्रों ने बताया कि चालक को पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी इंटर-सर्विसेस इंटेलिजेंस (आईएसआई) के एक व्यक्ति ने फंसाया था, जिसने चालक के साथ बात करते समय खुद को एक महिला बताया था। हालांकि, पुलिस ने राष्ट्रीय सुरक्षा को लेकर चिंता का हवाला देते हुए मामले की जानकारी साझा करने से इनकार कर दिया।

भागवत ने पदाधिकारियों के साथ विचार-विमर्श किया

भागवत ने पदाधिकारियों के साथ विचार-विमर्श किया

प्रकाश चौबे 

जबलपुर। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के प्रमुख मोहन भागवत ने शुक्रवार को यहां महाकौशल क्षेत्र के पदाधिकारियों के साथ विचार-विमर्श किया। संगठन के एक पदाधिकारी ने इसकी जानकारी दी। पदाधिकारी ने बताया कि वर्ष 2025 में संघ अपना शताब्दी वर्ष मनाएगा और उससे पहले देश के प्रत्येक घर तक पहुंचने और संघ के आधार को दोगुना करने का लक्ष्य रखा गया है।

संघ के एक पदाधिकारी ने कहा कि संघ स्वदेशी सामान अभियान को बढ़ावा देने की इच्छा रखता है, ताकि घरों में विदेशी वस्तुओं के उपयोग को हतोत्साहित किया जा सके। पदाधिकारी ने कहा, ‘‘सर संघचालक डॉ मोहन भागवत ने संघ पदाधिकारियों के साथ-साथ संघ के मंडल कार्यालय केशव कुटी में समूहों के साथ बात की।’’

भागवत चार दिवसीय दौरे पर बृहस्पतिवार को यहां पहुंचे। संघ प्रमुख का यह दौरा महत्वपूर्ण है। क्योंकि संघ के शताब्दी वर्ष समारोह के लिए केवल दो वर्ष ही शेष है। संघ के महाकौशल प्रांत सह प्रचार प्रमुख प्रशांत वाजपेयी ने कहा कि शताब्दी समारोह को भव्य तरीके से मनाने की योजना है।वाजपेयी ने कहा, ‘‘ भागवत शनिवार को राष्ट्र निर्माण, ग्राम विकास, कृषि, श्रमिक कल्याण, पर्यावरण और जीवन के क्षेत्र में महिलाओं की भागीदारी विषय पर बोलेंगे।’’ उन्होंने कहा कि रविवार को भागवत आरएसएस के स्वयंसेवकों के परिवार के सदस्यों से मिलेंगे और देश के विकास में परिवार की भूमिका पर बात करेंगे।

एक अनुमान के अनुसार, आरएसएस के पास लगभग तीन हजार प्रचारक (पूर्णकालिक कार्यकर्ता) हैं जो रक्षा, शिक्षा, श्रमिक संघों और जनजातीय जैसे क्षेत्रों में संगठन की विभिन्न शाखाओं में ड्यूटी निभा रहे है। संघ के अंदरूनी सूत्रों ने कहा कि संघ अंशकालिक स्वयं सेवकों या विस्तारकों को शामिल करके अपने शताब्दी वर्ष से पहले अपनी संगठन शक्ति को दो गुना करना चाहता है।

सीएम धामी ने शरीर पर मिट्टी का लेप लगाया, शुभारंभ 

सीएम धामी ने शरीर पर मिट्टी का लेप लगाया, शुभारंभ 

पंकज कपूर 

देहरादून। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने प्राकृतिक चिकित्सा पद्धति को बढ़ावा देने के लिए बड़ा कदम उठाया है। सीएम ने आज खुद शरीर में मिट्टी का लेप लगाकर टनकपुर में मड़ बाथ का शुभारंभ किया है। इस दौरान सीएम ने रिपोर्टस के अनुसार प्राकृतिक चिकित्सा दिवस के अवसर पर सीएम धामी चम्पावत जिले के टनकपुर स्थित नवयोग ग्राम में पहुंचे। यहां उन्होंने प्राकृतिक चिकित्सा पद्धति को बढ़ावा दिए जाने हेतु मिट्टी का लेप लगाकर मड बाथ का शुभारंभ किया।

बताया जा रहा है कि  नवयोग सूर्योदय सेवा समिति द्वारा आयोजित नेचुरोपैथी (प्राकृतिक चिकित्सा) एवम् नवयोग कार्यक्रम में मुख्यमंत्री धामी ने अपने शरीर में मिट्टी का लेप लगाया। उन्होंने प्राकृतिक चिकित्सा पद्धति को प्रदेश के कोने-कोने तक पहुंचाने के लिए आज ये लेप लगाया है।

गन्ने का भाव जल्द घोषित करने की मांग, चिट्ठी 

गन्ने का भाव जल्द घोषित करने की मांग, चिट्ठी 

भानु प्रताप उपाध्याय 

मुजफ्फरनगर। भारतीय किसान यूनियन अराजनैतिक ने सीएम योगी को चिट्ठी लिखकर गन्ने का भाव जल्द घोषित किए जाने की मांग की है। संगठन की ओर से गन्ने का भाव 400 रुपये प्रति क्विंटल से अधिक किए जाने की मांग की गई है। संगठन के प्रवक्ता धर्मेन्द्र मलिक की ओर से सीएम योगी के नाम भेजी गई चिट्ठी में कहा गया है कि केंद्र सरकार ने विपणन वर्ष 2022-23 के लिए गन्ना उत्पादकों को चीनी मिलों द्वारा दिये जाने वाले उचित एवं लाभकारी मूल्य (एफआरपी) को 15 रुपये बढ़ाकर 305 रुपये प्रति क्विंटल कर दिया है। लेकिन उत्तर प्रदेश में नये पेराई सत्र के लिए गन्ने का राज्य परामर्शी मूल्य (एसएपी) तय नहीं किया है। प्रदेश के किसान 400 रूपये प्रति कुंतल से अधिक की मांग कर रहे है।

किसानो का कहना है कि सरकार के स्तर पर जब समस्या विकराल रूप ले लेती है तब वह कहीं जाकर निर्णय करती है और किसान बकाया भुगतान पाने के लिए सालों इंतजार करते हैं। हमे उम्मीद है कि प्रदेश व् केंद्र सरकार इस मसले के समाधान के लिए कदम उठाएगी, जिससे किसानो को चीनी मिलों पर पिछले वर्ष का बकाया भुगतान अविलम्ब मिलें और यह भी सुनिश्चित होना चाहिए कि इस पिराई सत्र का भुगतान समय से मिलेगा।

पत्र में सीएम योगी से अनुरोध किया गया है कि किसानों की मांग के अनुसार प्रदेश में गन्ने का राज्य परामर्शी मूल्य (एसएपी) घोषित करने के सम्बन्ध में समुचित कार्यवाही करें।

राज्यपाल आरिफ ने आरोपों का खंडन किया: राजनीति 

राज्यपाल आरिफ ने आरोपों का खंडन किया: राजनीति 

अकांशु उपाध्याय/इकबाल अंसारी 

नई दिल्ली/तिरुवनंतपुरम। केरल के राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान ने अपने संवैधानिक पद का राजनीति के लिए इस्तेमाल करने के आरोपों का खंडन करते हुए कहा कि वह किसी संगठन से जुड़े व्यक्ति की नियुक्ति के सबूत मिलने पर इस्तीफा देने तक को तैयार हैं, जिन्हें राज्य सरकार ‘‘राजनीतिक रूप से पेरशानी खड़ा करने वाला’’ मानती है। राज्य में उनके और सत्तारूढ़ वाम लोकतान्त्रिक मोर्चा (एलडीएफ) के बीच काफी समय से गतिरोध जारी है। दोनों के बीच टकराव का सबसे बड़ा मुद्दा विश्वविद्यालयों में कुलपतियों की नियुक्ति से जुड़ा है। खान ने कहा कि उनका काम यह देखना है कि सरकार कानून के तहत काम करे। खान ने ‘पीटीआई-भाषा’ को दिए एक साक्षात्मकार में अपने पद का इस्तेमाल राजनीति के लिए करने के आरोपों को खारिज कर दिया।

उन्होंने कहा, ‘‘ राजनीतिकरण कहां हो रहा है? मैं पिछले तीन साल से यह कह रहा हूं, आप कह रहे हैं कि मैं आरएसएस (राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ) का एजेंडा लागू कर रहा हूं। मुझे एक नाम बताएं, सिर्फ एक उदाहरण दें, जहां मैंने उन संगठनों से संबंधित किसी को भी नियुक्त किया हो, जिसे आप लोग राजनीतिक रूप से परेशानी खड़े करने वाला बताते हैं...जैसे आरएसएस, भाजपा....एक नाम दें जिसकी नियुक्ति मेरे नाम पर की गई हो .. मैं इस्तीफा दे दूंगा।’’

उन्होंने कहा कि अगर कोई ऐसा करे तो यह पद का राजनीतिक इस्तेमाल हो सकता है। ‘‘ मैंने ऐसा कुछ नहीं किया है और ना ही मुझ पर ऐसा कुछ करने का दबाव है।’’ वाम दलों ने मंगलवार को राज्य की राजधानी तिरुवनंतपुरम में राजभवन तक विरोध मार्च निकाला था।

मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) के महासचिव सीताराम येचुरी ने कहा था कि शिक्षा एवं युवाओं की चेतना पर नियंत्रण कायम कर भारत को ‘‘फासीवादी हिंदुत्व राष्ट्र’’ के रूप में तब्दील करने के भाजपा-आरएसएस के एजेंडे को लागू करने के लिए विश्वविद्यालयों से जुड़े मामलों में गैर भाजपा शासित राज्यों में राज्यपाल को ‘‘सरकारों के विरूद्ध खड़ा किया जा रहा है।’’ 

कर्नाटक: मतदाताओं के नाम सूची से हटाने का आरोप

कर्नाटक: मतदाताओं के नाम सूची से हटाने का आरोप

इकबाल अंसारी 

बेंगलुरु। कर्नाटक के बृहत बेंगलुरु महानगर पालिका (बीबीएमपी) की मतदाता सूची पुनरीक्षण में चिलूम संस्थान पर छ: लाख से ज्यादा मतदाताओं के नाम सूची से हटाने का आरोप के बाद यह संस्थान संदेह के दायरे आ गया है। बीबीएमपी के विशेष आयुक्त रंगप्पा ने चिलूम संस्थान के बारे में बताते हुए आज कहा कि पहचान पत्र कार्ड का दुरुपयोग केवल बीबीएमपी महादेवपुर निर्वाचन क्षेत्र में होता है। किसी अन्य क्षेत्र में कोई दुरुपयोग नहीं पाया गया। चिलूम संस्था द्वारा उपलब्ध कराई गई जानकारी के आधार पर ऑडिशन और विलोपन प्रक्रिया नहीं की गई है। मतदाता सूची को लेकर कोई गड़बड़ी नहीं पाई गई है। यह सच है कि लिखित सूचना कल चुनाव अधिकारी से प्राप्त हुई थी। उन्होंने कहा कि बीबीएमपी के मुख्य आयुक्त द्वारा चुनाव आयोग को एक रिपोर्ट दी जाएगी।

बीबीएमपी ने 243 वार्डों के चुनाव के लिए मतदाता सूची में संशोधन किया था। चिलूम संस्था के कर्मचारी पहले ही ब्लॉक स्तर के अधिकारी (बीएलओ) के रूप में पहचान पत्र बना चुके हैं और घर-घर जाकर जानकारी एकत्र कर रहे हैं। बीबीएमपी ने बीएलओ द्वारा उपलब्ध कराई गई जानकारी के आधार पर मतदाता सूची में संशोधन किया है। जिसमें कुल 6,69,652 मतदाताओं के नाम सूची से हटा दिए गए हैं। ऐसा माना जा रहा है कि जिन लोगों के नाम हटाया गया है, उनमें जीवित लोगों के नाम भी शामिल हैं। ऐसा संदेह जताया गया है कि मतदाता सूची पुनरीक्षण के पीछे चिलूम संगठन का हाथ है। हर विधानसभा क्षेत्र से हजारों नाम काटे जा चुके हैं।

यलहंका विधानसभा क्षेत्र के 21,968 मतदाताओं के नाम, केआरपुरम निर्वाचन क्षेत्र के 39,763 मतदाताओं, बत्रायनपुरा निर्वाचन क्षेत्र के 30,757 मतदाताओं के नाम हटाये गये हैं | इसके अलावा यशवंतपुर 35,829, आर.आर.नगर 33,009, दासराहल्ली 35,086, महालक्ष्मी लेआउट 20,404, मल्लेश्वरम 11,788, हेबब्बाल 20,039, पुलकेशी नगर 22,196, सर्वज्ञा नगर 28,699, सी वी रामन नगर 21,457, शांतिनगर 14,679, गांधीनगर 16,386 , चिक्कपेटे 16,231, बसवनगुडी 18,388, पद्मनाभ नगर 17,435, बीटीएम लेआउट 16,141, जयनगर 13,061, महादेवपुर 33,376, बोम्मनहल्ली 31,157, बेंगलुरु दक्षिण 45,927, अनेकल 24,279 मतदाताओं के नाम हटाए गए।

कुछ लोगों ने अपना नाम मतदाता सूची से हटाये जाने की बात कही है। एक मतदाता ने कहा कि मेरा नाम छह महीने पहले मतदाता सूची में था। अब नाम हटा दिया गया है और हमारे परिवार के चार सदस्यों के नाम भी इस सूची से छूट गए हैं।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण


1. अंक-38, (वर्ष-06)

2. शनिवार, नवंबर 19, 2022

3. शक-1944, मार्गशीर्ष, कृष्ण-पक्ष, तिथि-एकादशी, विक्रमी सवंत-2079‌‌।

4. सूर्योदय प्रातः 06:43, सूर्यास्त: 05:26। 

5. न्‍यूनतम तापमान- 21 डी.सै., अधिकतम-32+ डी.सै.।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है। 

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु, (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसैन पवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102। 

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

(सर्वाधिकार सुरक्षित)

बैठक: महाप्रबंधक ने निरंजन पुल का निरीक्षण किया

बैठक: महाप्रबंधक ने निरंजन पुल का निरीक्षण किया महाप्रबन्धक श्री सतीश कुमार ने किया निरंजन पुल का निरीक्षण अधिकारियों के ...