मंगलवार, 12 मार्च 2024

डीएम द्वारा कार्यों की विस्तृत समीक्षा की गई

डीएम द्वारा कार्यों की विस्तृत समीक्षा की गई 

जिलाधिकारी ने की “हर-घर नल से जल” के तहत करायें जा रहें कार्यों की विस्तृत समीक्षा

कार्यों को तेजी से पूर्ण कराने के दिये निर्देश

कौशाम्बी। जिलाधिकारी राजेश कुमार राय द्वारा जल-जीवन मिशन के अन्तर्गत “हर-घर नल से जल” के तहत कराये जा रहें कार्यों की विस्तृत समीक्षा की गई। बैठक में अधिशासी अभियंता जल निगम ने बताया कि हर-घर नल योजना के तहत कुल 299 योजनाओं के अन्तर्गत 675 ग्रामों को संतृप्त किया जाना हैं तथा 244481 घरों को कनेक्शन दिये जानें है, जिसके सापेक्ष 202936 घरां को कनेक्शन दिया जा चुका है। इस योजना के तहत 152 ग्रामों को संतृप्त किया जा चुका है।
जिलाधिकारी ने विस्तृत समीक्षा के दौरान जेएमसी एजेन्सी द्वारा 92607 कनेक्शन के सापेक्ष अभी तक 75330 कनेक्शन तथा बाबा एजेन्सी द्वारा 121428 कनेक्शन के सापेक्ष 97226 कनेक्शन दिए जाने की धीमी प्रगति पर नाराजगी प्रकट करते हुए कार्यों में तेजी लाने के निर्देश दिए। इसके साथ ही उन्हांने प्रमाणीकरण के कार्यों में भी तेजी से प्रगति लाने के निर्देश दियें। उन्हांने अधिशासी अभियंता जल निगम जयपाल सिंह को एजेन्सी द्वारा कराये जा रहें कार्यों का आकस्मिक निरीक्षण कर आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी डॉ. रवि किशोर त्रिवेदी सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारीगण उपस्थित रहें।
सुशील केसरवानी

सीएम ने लाभार्थियों को चेक वितरण किए

सीएम ने लाभार्थियों को चेक वितरण किए 

पंकज कपूर 
देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने मंगलवार को सर्वे ऑफ इण्डिया स्टेडियम, हाथीबड़कला में आयोजित कार्यक्रम में प्रतिभाग करते हुए राज्य पशुधन मिशन योजनान्तर्गत लाभार्थियों को चेक वितरण किए। उन्होंने आंचल ब्राण्ड के तहत आंचल शहद एवं आंचल इनामी योजना का भी शुभारम्भ किया।
मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर भराड़ीसैंण में बद्री गाय ट्रेनिंग सेण्टर खोले जाने एवं दुग्ध उत्पादको हेतु दुग्ध दरों में एक रूपये प्रति लीटर की बढ़ोत्तरी करने की घोषणा की।
मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि किसान और पशुपालक देश, राज्य के विकास की नींव होते हैं। राज्य सरकार पशुपालकों के कल्याण और उत्थान के लिए प्रतिबद्ध होकर काम कर रही है। किसानों और पशुपालकों की आय में बढ़ोतरी करने और स्वरोजगार के अवसर सृजित करने के उद्देश्य से राज्य पशुधन मिशन योजना शुरु की है। उन्होंने कहा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन में राज्य सरकार अंत्योदय के सिद्धांत पर कार्य कर रही है साथ ही अंतिम छोर पर बैठे व्यक्ति तक पहुंचकर उनका उत्थान एवं सशक्तिकरण सुनिश्चित करने को संकल्पित हैं।
मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने अगले दो वर्ष में दुधारू पशुओं, खच्चर, भेड़-बकरी, सूकर और मुर्गी पालन की लगभग 4500 इकाईयों की स्थापना हेतु ऋण उपलब्ध कराने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। यह योजना सुदूर पर्वतीय क्षेत्रों में पारिवारिक पोषण और आजीविका को सुरक्षित बनाने के साथ ही पलायन को रोकने में भी मील का पत्थर साबित हुई है। छोटे स्तर पर पशुपालन करने वाले किसानो की समृद्धि सुनिश्चित करने के लिए सरकार ने कई अभूतपूर्व योजनाएं शुरु की हैं।

मंडलायुक्त ने विभिन्न कार्यों का निरीक्षण किया

मंडलायुक्त ने विभिन्न कार्यों का निरीक्षण किया 

बृजेश केसरवानी 
प्रयागराज। महाकुंभ 2025 के दृष्टिगत कराए जा रहे विभिन्न कार्यों का निरीक्षण मंगलवार को मंडलायुक्त श्री विजय विश्वास पंत ने सभी संबंधित अधिकारियों की उपस्थिति में किया। सर्वप्रथम उ०प्र० जल निगम (नगरीय) द्वारा अलोपीबाग इण्टरमीडिएट पम्पिंग स्टेशन से ममफोर्डगंज सीवेज पम्पिंग स्टेशन तक सीवर पाइप लाइन बिछाने के कार्यों का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान पाइप लाइन बिछाने हेतु खोदी गयी ट्रेंच की चौड़ाई मानक के अनुरूप कम पाई गई। साइट पर सम्बन्धित अभियन्ता भी अनुपस्थित थे जिससे यह प्रतीत होता है की गुणवत्ता सुनिश्चित करने हेतु अधिकारियों द्वारा निरंतर अनुश्रवण नहीं किया जा रहा है। 
तत्पश्चात उन्होंने प्रयागराज विकास प्राधिकरण द्वारा कराए जा रहे कार्यों का भी निरीक्षण किया जिसके अंतर्गत लोट्स हॉस्पिटल से कटका रोड़ तक, ओल्ड यमुना ब्रिज क्रॉस करते ही बाएं तरफ महेवा की ओर जाने वाली रोड तथा ओल्ड यमुना ब्रिज (नैनी साइड) महेवा की ओर जाने वाली रोड की दूसरी तरफ लैप्रोसी चौराहा की ओर के मार्ग के चौड़ीकरण, सुदृढीकरण एवं सौंदरीकरण के कार्यों को देखा।
लोट्स हॉस्पिटल से कटका रोड एवं ओल्ड यमुना ब्रिज(नैनी साइड) के कार्यों के निरीक्षण के दौरान जल निकासी हेतु बनायी जा रही ड्रेन की कंक्रीट की गुणवत्ता असंतोषजनक पायी गयी।ओल्ड यमुना ब्रिज से लेप्रोसी चौराहा तक के मार्ग के कार्यों में बिना यूटीलिटी शिफिटिंग (मार्ग में बिजली के पोलो) ही जी०एस०बी० बिछाने का कार्य कर दिया गया है, जो मानक के अनुरूप नहीं है।निर्माण कार्यों में शिथिलता एवं लापरवाही पाये जाने पर सम्बन्धित अवर अभियन्ता के विरूद्ध तत्काल कठोर कार्यवाही करते हुए उसकी जिम्मेदारी तय करने के निर्देश मुख्य अभियंता विकास प्राधिकरण को दिए गए। इसी क्रम में मण्डलायुक्त ने उत्तर प्रदेश पावर कॉरपोरेशन द्वारा हेता पट्टी में बनाए जा रहे 132 केवी उपखंड की सिक्योरिटी वॉल के कार्यों का भी निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान निर्माणाधन वाल के कालम और बीम की वर्टिकल एवं होरिजेंटल एलाइनमेंट में कमियां पाई गई। इसके अतिरिक्त प्लास्टर की थिकनेस भी ज्यादा पाई गई जो की मानक के अनुरूप नहीं थी। उपस्थित अधिशासी अभियंता को फटकार लगाते हुए उन्होंने थर्ड पार्टी से इस संबंध में रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए हैं। मण्डलायुक्त ने बाढ़ कार्य खंड द्वारा किला घाट के समीप बनाए जा रहे स्थाई घाट के कार्यों का भी निरीक्षण किया तथा सभी कार्यों को पर्ट के अनुसार, गुणवत्ता पूर्वक पूर्ण करने के निर्देश दिए।

फर्जी शस्त्र लाइसेंस मामलें में अंसारी को दोषी पाया

फर्जी शस्त्र लाइसेंस मामलें में अंसारी को दोषी पाया 

संदीप मिश्र 
वाराणसी। फर्जी शस्त्र लाइसेंस मामलें में माफिया सरगना मुख्तार अंसारी को दोषी पाया गया है। एमपी एमएलए कोर्ट द्वारा आर्म्स एक्ट के तहत दोषी करार दिए गए मुख्तार अंसारी को अब बुधवार को सजा सुनाई जाएगी। 
मंगलवार को माफिया सरगना मुख्तार अंसारी की टेंशन में इजाफा करते हुए अदालत द्वारा माफिया सरगना को फर्जी शस्त्र लाइसेंस मामले में दोषी पाया गया है। वाराणसी की एमपी एमएलए कोर्ट में हुई सुनवाई के दौरान अदालत ने मुख्तार अंसारी को आर्म्स एक्ट के अंतर्गत दोषी करार दिया है। अदालत आर्म्स एक्ट के मामले में दोषी करार दिए गए मुख्तार अंसारी को अब बुधवार को दोपहर 12:00 बजे इस मामले को लेकर सजा सुनाई जाएगी। अदालत ने इस मामले में भ्रष्टाचार के आरोपों से मुख्तार अंसारी को दोष मुक्त करार दिया है। मुख्तार अंसारी की तरफ से वरिष्ठ वकील श्रीनाथ त्रिपाठी ने लिखित बहस के साथ सुप्रीम कोर्ट एवं हाई कोर्ट की रुलिंग दाखिल की थी। उधर बहस के दौरान अभियोजन अधिकारी उदय शुक्ला एवं एडीजीसी विनय सिंह की ओर से भी अदालत में रुलिंग दाखिल की गई। अदालत ने दोनों पक्षों की बहस और तर्क सुनने के बाद अपने फैसले को सुरक्षित रख लिया है।

नायब सिंह ने प्रदेश के नए सीएम की शपथ ली

नायब सिंह ने प्रदेश के नए सीएम की शपथ ली

राणा ओबरॉय 
चंडीगढ़। हरियाणा में नायब सिंह सैनी ने प्रदेश के नए मुख्यमंत्री की शपथ ले ली है। राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय ने उन्हें पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई। नायब सैनी के साथ किसी डिप्टी सीएम ने शपथ नहीं ली है। नायब कैबिनेट में कंवरपाल गुर्जर, मूलचंद शर्मा, रणजीत सिंह, जय प्रकाश दलाल और डॉ. बनवारी लाल ने मंत्री पद की शपथ ली।
इससे पहले मनोहर लाल खट्टर और उनकी कैबिनेट में शामिल मंत्रियों ने मंगलवार को राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय को अपना इस्तीफा सौंप दिया। बाद में सर्वसम्मति से बीजेपी विधायक दल का नेता चुना गया। सैनी ने राज्यपाल से मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश किया था। सैनी को खट्टर का करीबी माना जाता है। लोकसभा चुनाव से पहले सीट बंटवारे को लेकर राज्य में सत्तारूढ़ भाजपा और जननायक जनता पार्टी (जजपा) के गठबंधन में दरारें उभरने की अटकलों के बीच यह घटनाक्रम सामने आया है। कैबिनेट में खट्टर और डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला के नेतृत्व वाली जेजेपी के तीन मंत्रियों समेत 14 मंत्री शामिल थे।

ओबीसी वर्ग से आते हैं नायब सैनी 

अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) से ताल्लुक रखने वाले सैनी कुरुक्षेत्र से सांसद हैं और पिछले साल अक्टूबर में ओम प्रकाश धनखड़ को हटाकर उन्हें प्रदेश अध्यक्ष नियुक्त किया गया था। इस बदलाव को ओबीसी समुदाय पर अपनी पकड़ मजबूत करने के भाजपा के प्रयास के तौर पर देखा गया था। राज्य में सबसे अधिक आबादी जाट समुदाय की है। माना जाता है कि इस समुदाय का वोट कांग्रेस, जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) और इंडियन नेशनल लोकदल के बीच बंट जाता है। सैनी ने प्रदेश संगठन में कई पदों पर जिम्मेदारी संभाली है। वह भाजपा की युवा इकाई भारतीय जनता युवा मोर्चा में भी कई दायित्वों का निर्वहन कर चुके हैं। साल 2012 में उन्हें भाजपा ने अंबाला इकाई का जिला अध्यक्ष बनाया था और फिर साल 2014 में वह नारायणगढ़ विधानसभा क्षेत्र से जीतकर पहली बार विधानसभा पहुंचे। वह हरियाणा सरकार में राज्य मंत्री भी रहे हैं। साल 2019 में वह कुरुक्षेत्र से सांसद चुने गए।

सोमवार को खट्टर की हुई तारीफ, आज चली गई कुर्सी 

बता दें कि बीजेपी ने लोकसभा चुनाव से कुछ सप्ताह पहले यह आश्चर्यजनक कदम उठाया है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सोमवार को हरियाणा में ही थे। गुरुग्राम में एक सरकारी कार्यक्रम में उन्होंने खट्टर की जमकर तारीफ की थी। तब किसी को यह अंदाजा नहीं था कि अगले ही दिन खट्टर को इस्तीफा देना पड़ जाएगा। फिलहाल 90 सदस्यीय राज्य विधानसभा में भाजपा के 41, जबकि जजपा के 10 विधायक हैं। सत्तारूढ़ गठबंधन को सात में से छह निर्दलीय विधायकों का भी समर्थन प्राप्त है। बहुमत के लिए 46 विधायकों की आवश्यकता है। जजपा का समर्थन न होने पर भी भाजपा सहज स्थिति में है। मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस के 30 विधायक हैं और इंडियन नेशनल लोकदल तथा हरियाणा लोकहित पार्टी का एक-एक विधायक है।

दस बस स्टेशनों के कार्य का शिलान्यास किया

दस बस स्टेशनों के कार्य का शिलान्यास किया

संदीप मिश्र 
लखनऊ। परिवहन निगम ने मंगलवार को 3067 करोड़ रुपए की लागत से दस बस स्टेशनों के नव निर्माण और पुनर्निर्माण के कार्य का शिलान्यास किया। अब यात्रियों को और सुरक्षित व सुलभ रोडवेज की बसें मिल सकेंगी।
उत्तर प्रदेश के प्रत्येक नागरिक को परिवहन की सुविधा उपलब्ध कराने के लिए प्रयासरत योगी सरकार ने उत्तर प्रदेश परिवहन निगम द्वारा संचालित बसों को और सुलभ व सुरक्षित बना दिया है। इसके तहत योगी सरकार ने मंगलवार को निगम मुख्यालय स्थित कमांड कंट्रोल सेंटर का उद्घाटन किया।
इस कमांड कंट्रोल सेंटर के माध्यम से बसों की लाइव ट्रैकिंग, आपात स्थिति में रियलटाइम लोकेशन पर तत्काल सहायता समेत पैनिक बटन के अलर्ट जैसी सुविधाएं मिलेंगी। इससे निगम की बसों को और अधिक सुरक्षित बनाने में मदद मिलेगी। मंगलवार को निगम द्वारा 3067 करोड़ रुपए की लागत से दस बस स्टेशनों के नव निर्माण और पुनर्निर्माण के कार्य का शिलान्यास किया गया, जबकि 1048 करोड़ की लागत से बने कमांड एंड कंट्रोल सेंटर और तीन अन्य बस स्टेशन का लोकार्पण भी किया गया।
परिवहन राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) दयाशंकर सिंह ने निगम मुख्यालय के सभागार कक्ष में इन सभी परियोजनाओं का शिलान्यास व लोकार्पण किया। उन्होंने बताया कि कंट्रोल एंड कमांड सेंटर की स्थापना से मुख्यालय में परिवहन निगम की बसों की लाइव ट्रैकिंग उपलब्ध रहेगी। किसी आकस्मिक स्थिति में वास्तविक लोकेशन उपलब्ध रहने से तत्काल सहायता पहुंचाना संभव हो सकेगा। यात्रा के दौरान किसी अप्रिय स्थिति में यात्री द्वारा वाहन में स्थापित पैनिक बटन प्रेस करने पर निगम मुख्यालय स्थित कमांड कंट्रोल सेंटर एवं संबंधित क्षेत्रीय कंट्रोल रूम में पैनिक अलर्ट प्रदर्शित होगा।

लोनी में भ्रष्ट नेता और अधिकारियों का जलवा है

लोनी में भ्रष्ट नेता और अधिकारियों का जलवा है

अश्वनी उपाध्याय 
आखिरकार कौन-सी रिस्तेदारी निभा रहें हैं अधिकारी और नेता ?
अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है क्योंकि सब बिकाऊ है।
इसीलिए सीएम योगी जी लोनी को खास महत्व देते हैं। यहां अव्वल दर्जे के नेता रहते हैं जिनके द्वारा इस प्रकार के अपराधों को संरक्षण दिया जा रहा है।
उपजिलाधिकारी लोनी निखिल चक्रवर्ती के द्वारा तत्काल प्रभाव से वैधानिक कार्यवाही करने का आश्वासन दिया गया है। उन्होंने कहा कि भूमाफियाओं के विरुद्ध सरकार की नीति के अनुसार करवाई की जायेगी।

गाजियाबाद। जनपद के लोनी क्षेत्र में लगातार भूमाफियाओं का प्रभाव बढता जा रहा है। लगातार विभिन्न समाचार पत्रों व सोशल मिडिया पर कुछ समय से गाजियाबाद क्षेत्र के सबसे बडे भूमाफिया आबिद पुत्र रमजान निवासी रीषि मार्किट लोनी तिराहा से सम्बन्धित खबरे प्रकाशित हो रही है। और जिस पर दर्जनो मुकदमे भी पंजीकृत है, जिला बदर भी रहा है। 
प्राप्त जानकारी के अनुसार शासन-प्रशासन में पर्याप्त अप्रत्याशित भ्रष्टाचार से यह भूमाफिया गरीब जनता को लूट रहा है। कल नए अधिकारी होंगे और उन गरीब लोगों के उन मकानों को तोड़ दिया जाएगा। जिनको आज प्रशासन-शासन की मेहरबानी से उन्हें बेचा जा रहा है। आजीवन भरकश प्रयास और मेहनत परिश्रम के बाद भी वह लोग आखिर में खाली हाथ ही होंगे। इसका जिम्मेदार आज का शासन-प्रशासन है। स्पष्ट शब्दों में कहा जाए तो घटिया किस्म के बिकाऊ प्रशासनिक अधिकारी और जनप्रतिनिधियों के कारण यह विकट समस्या उत्पन्न हो गई है।
खसरा नं0-850, लोनी चकबन्दी क्षेत्र स्थित पर सुप्रीम कॉर्ट द्वारा क्रय-विक्रय पर रोक लगा दी गयी थी, जिसका रकवा 16,000 वर्ग गज है, जिस पर सन् 2017 मे प्लस ग्रुप कम्पनी के द्वारा सुप्रीम कॉर्ट के माध्य से आदेश पारित करवाया गया था। इसके बावजूद हारुन पहलवान नाम के व्यक्ति के द्वारा प्लॉटिंग कर जमीन का विक्रय किया गया है। जिस पर कई लोगों ने अपने घर बनाकर, रहना शुरू कर दिया है। इस प्रकरण में कई लोग सम्मिलित है, यह एक सामूहिक रूप से एवं योजनाबद्ध ढंग से किया गया अपराध है।

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

1. अंक-144, (वर्ष-11)

पंजीकरण:- UPHIN/2014/57254

2. बुधवार, मार्च 13, 2024

3. शक-1945, पौष, शुक्ल-पक्ष, तिथि-चतुर्थी, विक्रमी सवंत-2079‌‌। 

4. सूर्योदय प्रातः 07:13, सूर्यास्त: 06:52।

5. न्‍यूनतम तापमान- 16 डी.सै., अधिकतम- 25+ डी.सै.।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

(सर्वाधिकार सुरक्षित)

अगले 4-5 दिनों तक तेज 'हीटवेव' की संभावना

अगले 4-5 दिनों तक तेज 'हीटवेव' की संभावना  अकांशु उपाध्याय  नई दिल्ली। इस समय देश में सभी देशवासियों का गर्मी से हाल बेहाल है और अभी...