गुरुवार, 13 जुलाई 2023

वर्षा: पानी में डूबी दिल्ली, बाढ़ के हालात बनें 

वर्षा: पानी में डूबी दिल्ली, बाढ़ के हालात बनें 

इकबाल अंसारी 

नई दिल्ली। इन दिनों उत्तर भारत में हो रही भारी बारिश ने कहर बरपा रखा है। वहीं, राजधानी दिल्ली में भी बारिश से हालात खराब होते जा रहे हैं। दिल्ली में बारिश और हथिनी कुंड बैराज से पानी छोड़े जाने की वजह से यमुना नदी का जलस्तर काफी बढ़ गया है।

बता दें, कि यमुना नदी का जलस्तर खतरे के निशान से ऊपर पहुंचने के कारण ओल्ड यमुना ब्रिज, लोहा पुल के आसपास के इलाकों में पानी भर गया है।

इसके अलावा कश्मीरी गेट इलाके में भी यमुना का पानी घुस गया है। वहीं यमुना नदी से सटे निचले इलाकों में रहने वालों को सुरक्षित स्थानों पर जाने को कहा गया है। साथ ही दिल्ली के निगम बोध घाट, जैतपुर, रिंग रोड आईटीओ, लोहा पुल’ और सिविल लाइन्स इलाके में बाढ़ का पानी घुसना शुरू हो गया है। 

वहीं यमुना बैंक मेट्रो स्टेशन पर प्रवेश और निकास क अस्थायी रूप से बंद कर दिया गया है। इसके अलावा कई वॉटर ट्रीटमेंट प्लांट बंद करने पड़े हैं। बता दें राजधानी में बाढ़ के हालत होने के बीच प्रगति मैदान टनल खुल गई है। इस टनल का रिंग रोड और मथुरा रोड, इंडिया गेट आने-जाने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है। दरअसल 3 दिन पहले प्रगति मैदान का पानी आने के कारण टनल को बंद कर दिया था इसके बाद टनल में आने वाले पानी को रोकने के लिए एलजी ने दौरा किया था टनल बनाने वाली कंपनी ने इसमें पानी छोड़ने वाली एक अन्य कंपनी खिलाफ पुलिस में शिकायत की थी। आइए राजधानी दिल्ली के कुछ इलाकों का हाल आपको बताते हैं। 

लाल किले के पास बाढ़ जैसे हालात 

दिल्ली के लाल किले के पास बाढ़ जैसे हालात बनते जा रहे हैं। यहां एक रिक्शा चालक सीने तक गहरे पानी में रिक्शा चलाता दिखाई दिया।

बाढ़ के हालात को देखते हुए दिल्ली मेट्रो का फैसला

बाढ़ के हालात के चलते यमुना नदी के ऊपर से गुजरते समय मेट्रो की स्पीड लिमिट 30km/घंटा से अधिक नहीं होगी। DMRC ने ट्वीट किया कि यमुना के बढ़ते जल स्तर की वजह से एहतियात के तौर पर ट्रेनें नदी पर बने सभी चार मेट्रो पुलों से 30 किमी प्रति घंटे की प्रतिबंधित गति से गुजर रही हैं।

चंदगीराम अखाड़ा के निचले इलाके में बाढ़

बता दें दिल्ली में यमुना नदी का जलस्तर बढ़ने के बाद चंदगीराम अखाड़ा के निचले इलाके में बाढ़ के हालात बन गए हैं। 

घर छोड़ने पर लोगों ने ली फ्लाइओवर ने नीचे शरण

दिल्ली में यमुना के बढ़ते जलस्तर के चलते मयूर विहार फेज 1 के निचले इलाकों में बाढ़ का पानी घुसने की वजह से कई लोगों को अपना घर छोड़ना पड़ा है। बता दे लोगों ने फ्लाइओवर के नीचे शरण ली है। जहां लोगों को खाना बांटा जा रहा है।

वजीराबाद के निचले इलाकों में बाढ़ जैसे हालात

बता दें दिल्ली में रिंग रोड पर बाढ़ का पानी आने से आईएसबीटी कश्मीरी गेट में हिमाचल, पंजाब, चंडीगढ़, हरियाणा और उत्तराखंड से आने-जाने वाली बसों का परिचालन प्रभावित हो गया है। यहां यात्रियों को बस अड्डे तक पहुंचने में काफी दिक्कत हो रही है। बता दें यमुना नदी का जलस्तर बढ़ने के बाद वज़ीराबाद के निचले इलाकों में बाढ़ जैसी स्थिति उत्पन्न हो गई है, जिसकी वजह से यातायात प्रभावित हुआ है।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Thank you, for a message universal express.

'भाजपा' ने दस साल में महंगाई, बेरोजगारी बढ़ाई

'भाजपा' ने दस साल में महंगाई, बेरोजगारी बढ़ाई संदीप मिश्र  लखनऊ। समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि भाजपा सरकार न...