बुधवार, 8 दिसंबर 2021

11 वर्षीय नाबालिग ने बच्ची को जन्म दिया, दुष्कर्म

11 वर्षीय नाबालिग ने बच्ची को जन्म दिया, दुष्कर्म

       

नरेश राघानी      उदयपुर। राजस्थान के डूंगरपुर जिले के सरकारी अस्पताल में 11 साल की नाबालिग ने एक बच्ची को जन्म दिया। पुलिस ने इस मामले में एक युवक के खिलाफ दुष्कर्म का मामला दर्ज किया है। पुलिस ने बुधवार को बताया कि अस्पताल से मिली सूचना के आधार पर लड़की के परिजनों से संपर्क किया गया, जिसके बाद उदयपुर के खेरवाड़ा थाने में 19 वर्षीय युवक के खिलाफ दुष्कर्म का मामला दर्ज किया गया है।

ऋषभदेव (उदयपुर) के क्षेत्राधिकारी विक्रम सिंह ने कहा, ‘‘लड़की को पिछले हफ्ते बृहस्पतिवार को अस्पताल में भर्ती कराया गया था। दो दिन बाद शनिवार को उसने एक बच्ची को जन्म दिया। सूचना पर, हमने परिवार से संपर्क किया जिसके बाद उसके पिता ने रविवार को एक युवक के खिलाफ बलात्कार का मामला दर्ज कराया है।’ अधिकारी ने कहा कि आरोपी फरार है और उसकी तलाश की जा रही है।

10वीं कक्षा की छात्रा के साथ गैंगरेप किया: अपराध

अकांशु उपाध्याय      नई दिल्ली। स्कूल के प्रिंसिपल और शिक्षकों ने शिक्षा के मंदिर को शर्मसार करते हुए दसवीं कक्षा की छात्रा के साथ गैंगरेप कर दिया। स्कूल की शिक्षिकाओं ने भी आरोपी प्रिंसिपल व शिक्षकों की इस घिनौनी करतूत में अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया। इतना ही नहीं कक्षा तीन, चार और छह में पढ़ने वाली छात्राओं के साथ भी शिक्षकों द्वारा अश्लील हरकतें व छेड़छाड़ की गई। पीड़ित चार नाबालिग छात्राओं ने तीन अलग-अलग मुकदमे जब आरोपी प्रिंसिपल एवं शिक्षक- शिक्षिकाओं के खिलाफ दर्ज कराएं तो हरकत में आई पुलिस ने मामले में कार्यवाही शुरू कर दी है। 

बुधवार को अलवर के भिवाड़ी के मांढन थाना अधिकारी मुकेश यादव ने बताया कि पीड़ित छात्रा के पिता ने रिपोर्ट दी है कि वह ट्रक चलाता है। जिस कारण वे अधिकतर बाहर रहता है। उसकी पत्नी गूंगी बहरी है उसकी बेटी गांव के सरकारी स्कूल में कक्षा दसवीं में पढ़ती है। वह घर आया तो बेटी कई दिनों से स्कूल नहीं जा रही थी। जब उसने बेटी से स्कूल नहीं जाने का कारण पूछा तो बेटी ने बताया कि स्कूल के अध्यापक उसके साथ पिछले एक साल से गलत काम करते आ रहे हैं। बेटी ने बताया कि स्कूल की महिला शिक्षकों द्वारा इस काम में शिक्षकों का सहयोग किया गया है। पीड़िता के पिता के रिपोर्ट के आधार पर पुलिस ने आरोपित शिक्षकों और शिक्षिकाओं के खिलाफ सामूहिक यौन शोषण और पोक्सो एक्ट की धाराओं के तहत मामला दर्ज कर अनुसंधान शुरू कर दिया। इसके अलावा तीन छात्राओं के परिजनों ने भी अलग-अलग तीन मामले और शिक्षकों के खिलाफ दर्ज कराएं।

पीड़िता के पिता ने पुलिस को दी रिपोर्ट में बताया कि दोनों शिक्षिकाओं ने उसकी बेटी से कहा कि वह गरीब है। वह स्कूल में उसकी फीस माफ कर देंगे। साथ ही ड्रेस, कॉपी, किताब सब दिला देंगे, लेकिन इसके लिए उसे स्कूल के शिक्षकों को खुश करना होगा। यह झांसा देकर दोनों शिक्षिका उसे पड़ोस में किराए का कमरा ले कर रहने वाले शिक्षक के यहां ले गई। जहां उसकी बेटी के साथ शिक्षकों ने गैंगरेप किया। गैंगरेप की पीडिता के अलावा स्कूल में कक्षा छह, चार और तीन में पढने वाली छात्राओं ने भी शिक्षकों के खिलाफ उनके साथ अश्लील हरकत व छेड़छाड़ करने का मामला दर्ज कराया है।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Thank you, for a message universal express.

अरक पंचायत में वार्षिक आम सभा का आयोजन

अरक पंचायत में वार्षिक आम सभा का आयोजन  अविनाश श्रीवास्तव  चक्की। प्रखंड की अरक पंचायत में वार्षिक आम सभा का आयोजन किया गया। जि...