गुरुवार, 10 जून 2021

डीएम की अध्यक्षता में समीक्षा बैठक आयोजित की

कौशाम्बी। जिलाधिकारी सुजीत कुमार की अध्यक्षता में गुरूवार को कलेक्ट्रेट स्थित सम्राट उदयन सभागार में विकास कार्यो की समीक्षा बैठक आयोजित की गयी। बैठक में जिलाधिकारी ने कार्यो को समयबद्धता एवं गुणवत्ता के साथ पूर्ण करने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिये है। साथ ही साथ उन्होने कार्यो में लापरवाही या उदाशीनता बरतने वाले अधिकारियों के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई करने के भी निर्देश दिये है। बैठक में विद्युत विभाग के कार्यां की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने सम्बन्धित विभागों के अधिकारियों को अपने-अपने विभागों के बकाया विद्युत बिल का भुगतान कराने का निर्देश दिया है। उन्होंने खराब ट्रान्सफार्मरों को तत्काल ठीक कराये जाने के भी निर्देश दिये है। वन विभाग की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने सरांय आकिल मार्ग सहित अन्य मार्गों के चौड़ीकरण के कार्य हेतु रोड में पड़ने वाले पेड़ों को कटवाये जाने का निर्देश दिया है। 
जिलाधिकारी ने गोवंशसंरक्षण केन्द्रों की समीक्षा करते हुए निराश्रित पशुओं को गोसंरक्षण केन्द्रों में संरक्षित करने एवं उनकी जियो टैगिंग भी कराये जाने का निर्देश दिया है। उन्होंने गोसंरक्षण केन्द्रों में पशुओं के लिए पर्याप्त मात्रा में चारा, पानी की व्यवस्था सुनिश्चित बनाये रखने का निर्देश दिया है। श्रम विभाग की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने गांव-गांव में कैम्प लागाकर सभी श्रमिकों का पंजीकरण कराये जाने का निर्देश श्रम प्रवर्तन अधिकारी को दिया है। कृषि विभाग की समीक्षा करते हुए उन्होंने प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के अन्तर्गत छूटे हुए पात्र लाभार्थियों का पंजीकरण कराये जाने एवं आधार फीडिंग कराये जाने का निर्देश दिया है। साथ ही साथ प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अन्तर्गत बीमित किसानों की क्षतिग्रस्त फसल की भरपाई करने का निर्देश बीमा कंपनी को दिया है। कन्या सुमंगला योजना की समीक्षा करते हुए उन्होने स्कूलों में पढ़ने वाली छात्राओं को कन्या सुमंगला योजना से लाभान्वित कराये जाने का निर्देश जिला बेसिक शिक्षाधिकारी को दिया है।
आपरेशन कायाकल्प की समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी ने शेष बचे हुए विद्यालयों में सौन्दर्यीकरण, शौचालय, टाइल्स, दिब्यांग शौचालय, रंगाई एवं पोताई सहित अन्य कार्यों को पूर्ण कराये जाने का निर्देश जिला पंचायत राज अधिकारी को दिया है। स्वास्थ्य विभाग के कार्यो की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने डॉक्टरों की उपलब्धता, आशाओं के मानदेय का भुगतान,आयुष्मान गोल्डेन कार्ड एवं प्रसूता महिलाओं को मिलने वालो इन्सेन्टिव सहित अन्य जानकारियां प्राप्त की। उन्होने आशाओं एवं प्रसूता महिलाओं को मिलने वाले इन्सेन्टिव का भुगतान तत्काल कराये जाने का निर्देश मुख्य चिकित्साधिकारी को दिया है। उन्होंने जननी सुरक्षा, टीकाकरण एवं संस्थागत प्रसव सुनिश्चित कराये जाने का भी निर्देश दिया है। उन्होंने वृद्धा, विधवा, विकलांग पेंशन, सामूहिक विवाह की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने सभी संबंधित अधिकारियों को लंबित आवेदन पत्रों को जांच कर उनको तत्काल फीड कराये जाने का निर्देश दिया है। सहकारिता विभाग के कार्यो की समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी ने बकायेदारों से वसूली कराये जाने का निर्देश दिया है। 
आईजीआरएस की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने प्राप्त शिकायतों का निस्तारण समय से कराये जाने का निर्देश दिया है। एनआरएलएम की समीक्षा के दौरान उन्होंने महिलाओं के समूह गठित कराये जाने का निर्देश जिला विकास अधिकारी को दिया है। सिंचाई विभाग के कार्यों की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने 16 जून तक नहरों में टेल तक पानी पहुंचाये जाने का निर्देश दिया है। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी शशिकान्त त्रिपाठी, जिला विकास अधिकारी विजय कुमार, अर्थ एवं संख्याधिकारी श्रवण कुमार सिंह, मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. पीएन चतुर्वेदी, परियोजना निर्देशक सहित अन्य सम्बन्धित विभागों के अधिकारीगण उपस्थित रहे।
सुशील केशरवानी 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

जेडीयू को भी मंत्रिमंडल में हिस्सेदारी मिलनी चाहिए

अविनाश श्रीवास्तव    पटना। केंद्रीय मंत्रिमंडल के विस्तार और उसमें जनता दल यूनाइटेड के शामिल होने की अटकलों के बीच जेडीयू अध्यक्ष आरसीपी सिं...